Chhattisgarh

नई तकनीकों के जरिए किसान पैदावार बढ़ा सकते हैं: बृजमोहन अग्रवाल

Share

रायपुर : हम अपने भौतिक साधनों के लिए धीरे-धीरे प्रकृति का विनाश कर रहे हैं। ऐसे में अपने घरों और उसके आस-पास, फल-फूल के पौधे लगा कर न केवल हम अपनें पर्यावरण को अच्छा बना सकते है बल्कि आर्थिक तरक्की भी कर सकते हैं। ये बात वरिष्ठ मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने सोमवार को

रायपुर के नेहरू गांधी उद्यान में चल रही 3 दिवसीय प्रदेश स्तरीय वृहत फल-फूल सब्जी प्रदर्शनी एवं प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर कहीं।
बृजमोहन अग्रवाल समापन समारोह के मुख्य अतिथि थे। उन्होंने प्रदर्शनी में प्रदर्शित विभिन्न किस्म के फलों, फूलों और सब्जियों के साथ ही बागवानी से संबंधित स्टॉल्स का निरीक्षण किया उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसानों ने कृषि के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति की है। उन्होंने किसानों से नई तकनीकों को अपनाने और अधिक उत्पादन करने का आह्वान किया।
उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के खाद्यान्न, फलों, फूलों और सब्जियों की मांग देशभर में बढ़ रही है। जिसको देखते हुए सरकार किसानों को कृषि और बागवानी के क्षेत्र में प्रोत्साहित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

शहरों में बढ़ते प्रदूषण और के कारण साफ हवा तक मिलने में परेशानी होती है ऐसे में हम अपने घर और आस पास पेड़ पौधे लगाकर। अपने आने वाली पीढ़ी के लिए साफ पर्यावरण और हवा की व्यवस्था कर सकते है। क्योंकि कोरोना काल के बाद से लोगों को ऑक्सीजन की महत्ता और उपयोगिता का अहसास हो चुका है कि उसके लिए प्रकृति से अच्छा कुछ नही हो सकता।
प्रदूषित पर्यावरण के कारण लोग चिड़चिड़े होते जा रहे है ऐसे में प्रकृति के माध्यम से ही लोगों के चेहरे पर मुस्कान और जिंदगी में सुकून, खुशहाली लाई जा सकती है। हम पौधे लगाकर ही अपने आसपास के पर्यावरण और वातावरण को अच्छा बना सकते हैं।

बृजमोहन अग्रवाल ने इस अवसर पर फूलों की हांडी प्रतियोगिता की विजेता बालाजी नर्सिंग कॉलेज, सलाद प्रतियोगिता की विजेता रूबी शुक्ला, फ्लावर डेकोरेशन में राजहंस कौर को प्रथम पुरुस्कार प्रदान किए।

प्रदर्शनी में इंद्र गांधी कृषि विश्वविद्यालय, उद्यानिकी विभाग समेत विभिन्न संगठनों ने अपने स्टॉल लगाए और विभिन्न प्रकार के फलों, फूलों, सब्जियों और उनसे संबंधित उत्पाद प्रदर्शित किया। प्रदर्शनी में सलाद मेकिंग, फ्लावर डेकोरेशन समेत कई प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गईं, जिनके विजेताओं को श्री बृजमोहन अग्रवाल ने पुरुस्कृत किया।

इस अवसर पर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय कुलपति डॉ गिरीश चंदेल, वाइस प्रेसिडेंट जिंदल स्टील एंड पावर श्री यू पी सिंह, उपसंचालक उद्यानिकी विभाग श्री भूपेंद्र पांडे, मोहन वलरियानी, निर्भय धाडीवाल, जितेंद्र त्रिवेदी, प्रदीप टंडन, के एस पैकरा, नीरज शुक्ला, दलजीत बग्गा, मोहन बंजारे, समेत बड़ी संख्या में अधिकारी और स्थानीय लोग उपाथित रहे।
प्रदर्शनी का आयोजन प्रकृति की ओर सोसाइटी, उद्यानिकी विभाग, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, नगर निगम रायपुर और जिन्दल स्टील व पॉवर लिमिटेड के सहयोग से किया गया था।

GLIBS WhatsApp Group
Website | + posts
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button