GLIBS
21-05-2022
कोर्ट ने कहा सांसद कार्ति को गिरफ्तारी से तीन दिन पहले दें नोटिस
नई दिल्ली/रायपुर। दिल्ली की एक कोर्ट ने सीबीआई को कथित वीजा घोटाला मामले में कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम को गिरफ्तार करने की जरूरत पड़ने पर उन्हें तीन दिन पहले नोटिस देने का निर्देश दिया। विशेष न्यायाधीश एमके. नागपाल ने कार्ति चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज करते हुए यह आदेश जारी किया।
21-05-2022
उड़ान भरते ही विमान का इंजन बंद, करनी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंग
मुंबई/रायपुर। मुंबई से बेंगलुरू जा रहा एक विमान तब बड़े हादसे का शिकार होते होते बच गया जब उड़ान भरते ही उसका इंजन बंद हो गया। पायलट ने सूझबूझ दिखाते हुए विमान को वापस हवाई अड्डे पर लैंड कराया। टाटा समूह द्वारा संचालित एअर इंडिया का ए320नियो विमान उड़ान भरने के महज 27 मिनट बाद मुंबई हवाई अड्डे पर वापस लौट आया।
21-05-2022
भाजपा सांसद के विरोध के कारण राज ठाकरे का अयोध्या दौरा स्थगित
मुंबई/रायपुर। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना - प्रमुख राज ठाकरे ने पांच जून का अपना अयोध्या का दौरा रद्द कर दिया। उत्तर प्रदेश से भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने ठाकरे के अयोध्या दौरे का विरोध किया था और कहा था कि वह पूर्व में उत्तर भारतीयों का अपमान करने के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांग लेते उन्हें यहां घुसने नहीं दिया जाएगा।
21-05-2022
जलप्रपात की धार में महिला ने लगाई छलांग, नीचे खड़े पर्यटकों ने मौत के मंजर को कैमरे मे किया कैद
रायपुर। बीते दिन दोपहर लगभग एक बजे चित्रकोट जलप्रपात से एक युवती ने छलांग लगा दी। हालाकिं मौके पर मौजूद लोगों ने उसे आवाज लगाकर वाटरफॉल की ओर जाने से मना किया लेकिन वह लगातार आगे बढ़ती रही और छलांग लगा दी। जलप्रपात से कूदे महिला का 7 घंटे बाद भी सुराग नहीं लग सका है। चित्रकोट पुलिस व एसडीआरएफ की टीम रात में भी रेस्क्यू आपरेशन चला रखा है लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली है। जानकारी के मुताबिक घटना लगभग 1 बजे की है उस दौरान चित्रकोट जलप्रपात में पर्यटकों की अधिक भीड़ भी नहीं थी। बाहर से आए दर्जन भर पर्यटक उपर में थे और लगभग इतने ही वाटरफाल के नीचे में थे। इसी दौरान लगभग 30-40 वर्षीया महिला वहां पहुंची और अपने पास रखा पीले रंग का साड़ी ब्लाउज व पेटीकोट को वहां रखा और धारा की ओर बढ़ने लगी। उस दौरान भी उसने पीले रंग की साड़ी व ब्लाउज पहन रखा था। महिला को आगे बढ़ता देख उपर मौजूद लोगों को संदेह होने पर उन्होंने उसे पानी की ओर जाने से मना किया लेकिन वह लगातार आगे बढ़ती रही। पानी की धारा के करीब पहुंचने पर भी लोग उसे वापस आने के लिए चिल्ला रहे थे उपर के पर्यटकों की आवाज सुनकर नीचे खड़े पर्यटक जो फोटो खींचवा रहे थे। वे विडियो बनाने लगे। इसी दौरान महिला ने उपर से छलांग लगा दी। मौत के इस मंजर का नीचे खड़े पर्यटकों ने लाईव विडियो बना डाला जो कुछ ही देर में सोशल मिडिया में वायरल होता चला गया। महिला के कूदने की जानकारी लगते ही चित्रकोट चौकी में तैनात पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच स्थानीय ग्रामीणों की मदद से महिला की तलाश शुरू कर दी। वहीं इसकी जानकारी एसडी आएफ की टीम को भी दी गई जिसके बाद मोटरबोट की मदद से महिला की तलाश शुरू कर दी गई। घटना के सात घंटे बाद भी रात लगभग 8 बजे तक महिला का सुराग नहीं लग सका। हालाकिंएसडीआरएफ की टीम सर्च लाइट की रोशनी में भी महिला की खोज करने में जुटी हुई है।
21-05-2022
हृदय रोग से जूझ रही मुस्कान और स्वीटी के चेहरे पर लौटेगी मुस्कुराहट, सीएम ने मुफ्त इलाज करने का आदेश
रायपुर। नारायणपुर विधानसभा के ग्राम मर्दापाल में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गंभीर हृदय रोग से जूझ रही मुस्कान बघेल और स्वीटी से मुलाकात की। 9 वर्षीय बालिका स्वीटी की माता केवली ने मुख्यमंत्री को बताया कि स्वीटी गंभीर हृदय रोग से पीड़ित है। 8 वर्षीय बालिका मुस्कान बघेल की माता ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनकी बच्ची को भी हृदय की बीमारी है। दोनों बच्चियां कंजेनाइटल हार्ट डिसीज से जूझ रही हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बच्चियों की तकलीफ सुनकर तुरन्त उनके बेहतर से बेहतर इलाज के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री बघेल ने बच्चियों की माताओं को खूबचंद बघेल योजना और विशेष स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के बारे में भी जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि चिरायु कार्यक्रम के तहत दूरस्थ क्षेत्रों के आंगनवाड़ी केंद्र और स्कूलों में बच्चों की गम्भीर बीमारियों और अन्य स्वास्थ्य सम्बंधित दिक्कतों के निदान के लिए स्वास्थ्य कर्मियों की ओर से स्क्रीनिंग की जा रही है, ताकि ग्रामीण बच्चों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं समय पर उपलब्ध हो सकें। इसी कार्यक्रम के तहत मुस्कान और स्वीटी की स्क्रीनिंग की गई, जिसमें जांच के बाद इन्हें कंजेनाइटल हार्ट डिसीज का पता चला।
21-05-2022
हृदय रोग से जूझ रही मुस्कान और स्वीटी के चेहरे पर लौटेगी मुस्कुराहट, सीएम ने मुफ्त इलाज करने का आदेश
रायपुर। नारायणपुर विधानसभा के ग्राम मर्दापाल में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गंभीर हृदय रोग से जूझ रही मुस्कान बघेल और स्वीटी से मुलाकात की। 9 वर्षीय बालिका स्वीटी की माता केवली ने मुख्यमंत्री को बताया कि स्वीटी गंभीर हृदय रोग से पीड़ित है। 8 वर्षीय बालिका मुस्कान बघेल की माता ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनकी बच्ची को भी हृदय की बीमारी है। दोनों बच्चियां कंजेनाइटल हार्ट डिसीज से जूझ रही हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बच्चियों की तकलीफ सुनकर तुरन्त उनके बेहतर से बेहतर इलाज के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री बघेल ने बच्चियों की माताओं को खूबचंद बघेल योजना और विशेष स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के बारे में भी जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि चिरायु कार्यक्रम के तहत दूरस्थ क्षेत्रों के आंगनवाड़ी केंद्र और स्कूलों में बच्चों की गम्भीर बीमारियों और अन्य स्वास्थ्य सम्बंधित दिक्कतों के निदान के लिए स्वास्थ्य कर्मियों की ओर से स्क्रीनिंग की जा रही है, ताकि ग्रामीण बच्चों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं समय पर उपलब्ध हो सकें। इसी कार्यक्रम के तहत मुस्कान और स्वीटी की स्क्रीनिंग की गई, जिसमें जांच के बाद इन्हें कंजेनाइटल हार्ट डिसीज का पता चला।
20-05-2022
राजधानी रायपुर की कानून व्यवस्था ध्वस्त, खुलेआम चौक चौराहों में लूट, चाकूबाजी व गोलियां चल रही है - बृजमोहन अग्रवाल
रायपुर। भाजपा विधायकों पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पिछले साढ़े तीन साल में रायपुर शहर का विकास कार्य पूरी तरह अवरुद्ध हो गया है। विकास काम बंद पड़े है, विकास की एक ईंट रायपुर में नही रखी गई है। भाजपा सरकार में स्वीकृत कार्यो का ही फीता काटकर व फोटो लगाकर मुख्यमंत्री, मंत्री वाहवाही लूट रहे है। धरातल में कोई काम नही हो रहा है। स्मार्ट सिटी व केंद्र सरकार की योजनाओं व कार्यो को छोड़ दे तो नगर निगम में कोई काम नही है। उक्त विचार भाजपा विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने सुंदरनगर में भूमिपूजन समारोह को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किया। अग्रवाल ने पंडित सुंदरनगर लाल शर्मा वार्ड में 41 लाख 96 हजार की लागत से पहाड़ी तालाब का स्मार्ट सिटी योजना से टो वाल, घाट निर्माण, पाथवे निर्माण, पचरियो का पुनर्विकास, प्रकाश व्यवस्था, सामने वाल का कार्य व 16.12 लाख रुपये के नाली, आर सी सी चेयर, नाली कव्हर चेम्बर मरम्मत का कार्य का भूमिपूजन किया। अग्रवाल ने कहा कि सत्ता के लिए प्रदेश की जनता के साथ छल किया गया, शराबबंदी की घोषणा की गई बंद होने के बजाय शराब की घर पहुच डिलवरी हो रही है, आपको अस्पताल में दवाई नही मिलेगी पर एक फोन पर आपके घर शराब पहुँच जाएगी। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के कर्जमाफी का क्या हुआ? 10 लाख रोजगार का क्या हुआ? बेरोजगारी भत्ता का क्या हुआ? बुजुर्गों के सामाजिक सुरक्षा पेंशन का क्या हुआ? निराश्रित पेंशन का क्या हुआ किसानों को दिए जाने वाले पेंशन का क्या हुआ? कांग्रेस की घोषणा सिर्फ और सिर्फ घोषणा ही रह गई वोट लेकर सत्ता में आने के बाद जनता से इन्हें कोई लेना-देना नहीं। रायपुर शहर के विकास को इस सरकार ने अपने अनिर्णय की भेट में चढ़ा दिया है। स्काई वॉक, अटल एक्सप्रेस वे, शारदा चौक-तात्यापारा सड़क चौड़ीकरण पर साढ़े तीन साल में कोई निर्णय नही हो पाया आखिर क्यों? कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मृत्युंजय दुबे, महेश शर्मा, रामकिंकर सिंह, राकेश सिंह, मनीषा चन्द्राकर, पायल अम्बवानी, रंभा चौधरी, पद्मनी वर्मा, ललिता वर्मा, प्रताप यादव, सुमित शर्मा, अमित शर्मा, जितेंद्र शर्मा, सचिन सिंघल, रति राम साहू, भूषण साहू, राजकुमार अग्रवाल, अन्नू रागाघाटे, सपना अवधिया, शैलेश गढ़ेवाल सहित सैकड़ो की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।
20-05-2022
जानलेवा होता जा रहा है शोरगुल: ध्वनि प्रदूषण से बढ़ रहा है हाइपरटेंशन, डिप्रेशन, टायर्डनेस, हियरिंग लॉस, हेडेक
रायपुर। ध्वनि प्रदूषण जनता के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डाल रहा है इससे लोगों में अवसाद सहित अन्य स्वास्थ्यगत दिक्कतें आ रही है, इसे ध्यान में रखते हुए रायपुर शहर के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने छत्तीसगढ़ राज्य में ध्वनि प्रदूषण पर सख्ती से रोक लगाने की मांग की है। मुख्य सचिव के नाम कलेक्टर रायपुर को सौंपे गए ज्ञापन में कहा गया है कि ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए पूर्व में जारी किए गए निर्देश का शतप्रतिशत पालन सुनिश्चित कराने के लिये जिला कलेक्टरों को जवाबदेह बनाया जाए तथा पुलिस अधीक्षकों से इन निर्देशों का उल्लंघन करने वालों पर कार्यवाही का आग्रह किया गया है, जिससे कि सर्वोच्च न्यायालय, उच्च न्यायालय, एनजीटी के आदेशों का पालन सुनिश्चित हो सके। ध्वनि प्रदूषण पर रोक लगाने मुख्य सचिव के नाम ज्ञापन सौंपने वाले सामाजिक कार्यकर्ताओं में डॉ. राकेश गुप्ता, विश्वजीत मित्रा, नितिन सिंघवी, हरजीत जुनेजा, डॉ. नवेन्दू पाठक, डॉ. ज्योतिर्मय चंद्राकर, जसमीत कौर, पुष्पलता वैष्णव, उमाप्रकाश ओझा, पवन चंद्राकर, हरीश मारदीकर, संदीप कुमार, मनजीत बल, विनयशील शामिल हैं। ज्ञापन के साथ पूर्व में जारी ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए नियमों की जानकारी भी प्रेषित की है। साथ ही जनता की परेशानी को देखते हुए ध्वनि प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए तत्काल आवश्यक कदम उठाने का आग्रह किया गया है। सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा चलाए जा रहे संयुक्त ध्वनि प्रदूषण विरोधी मुहिम की जानकारी देते हुए ज्ञापन में कहा है कि ध्वनि प्रदूषण का प्रभाव छोटे बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों पर अधिक देखने को मिलता है साथ ही गर्भवती माताओं, रोगियों पर भी बहुत नकारात्मक प्रभाव पड़ता है, जबकि ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय, उच्च न्यायालय बिलासपुर, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल, छ.ग. पर्यावरण संरक्षण मंडल जैसी प्राधिकृत संस्थाओं ने समय-समय पर महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये हैं एवं मानक तय किये हैं, लेकिन इन मानकों पर पालन नहीं हो रहा है। ज्ञापन में यह उल्लेख किया गया है कि विगत दो-ढाई वर्षों में जब कोरोना के चलते विभिन्न प्रकार के सार्वजनिक आयोजनों पर प्रतिबंध था, उस समय में ये देखा गया कि इस दौरान होने वाले ध्वनि प्रदूषण पर एक प्रकार से रोक लगी हुई थी जिसका सीधा लाभ आम जनता की मानसिक शांति पर पड़ा। ध्वनि प्रदूषण अवसाद को बढ़ाता है। गत ढाई साल में ध्वनि विस्तारकों का प्रयोग कम होने से लोगों के अवसाद में कमी आयी है। विभिन्न शोध ये बताते हैं कि ध्वनि प्रदूषण के चलते लोगों को हृत्कंप, उच्च रक्तचाप, आकस्मिक उत्तेजना, मानसिक थकावट, श्रवण बाधा, स्मृति पर विपरीत प्रभाव आदि अनेक प्रकार के स्वास्थ्य जन्य कष्ट होते हैं। कोविड काल के प्रतिबंध शिथिल होने के बाद विभिन्न प्रकार के सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक, निजी संस्थानों, निकायों द्वारा कार्यक्रमों के आयोजन किये जा रहे हैं उनमें फिर से ध्वनि विस्तारकों का धड़ल्ले से उपयोग होने लगा है जिससे फिर से आम जनता को ध्वनि प्रदूषण से तकलीफें बढ़ गई हैं। ध्वनि प्रदूषण से संबंधित नियमों का पालन भी नहीं हो रहा है, जो कि कहीं न कही इन संवैधानिक शक्ति संपन्न संस्थाओं के आदेश निर्देश का उल्लंघन भी है और न्यायिक अवमानना की श्रेणी में आता है। साथ ही यह जनता के जीवन पर फिर से विपरीत प्रभाव डाल रहा है।
20-05-2022
आईआईटी मद्रास में 5जी कॉल का सफल परीक्षण
नई दिल्ली/रायपुर। आईआईटी मद्रास में 5जी कॉल का सफल परीक्षण किया गया है। केंद्रीय सूचना प्रोद्योगिकी और संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि नेटवर्क का सारा डिजाइन भारत में ही डेवलप किया गया है। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने 5जी नेटवर्क पर वीडियो कॉल भी की।
20-05-2022
मर्दापाल में पहली पीढ़ी के डेयरी उद्यमी हो रहे तैयार, अर्जुन बघेल ने सरकारी मदद से कुरुसनार में तैयार की डेयरी यूनिट
रायपुर। बस्तर का इलाका हमेशा से दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में पीछे रहा है क्योंकि यहां पर दूध के लिए गोपालन की परंपरा नहीं है। राज्य शासन ने डेयरी उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय किसानों को प्रोत्साहित किया। इसका परिणाम दिखना शुरू हुआ है और ग्रामीण क्षेत्रों में भी उद्यमी तैयार होने आरंभ हो गए हैं। कुरूसनार के अर्जुन बघेल ऐसे ही एक उद्यमी हैं। उन्होंने इंग्लैंड की सबसे चर्चित प्रजाति क्रॉस एचएफ गाय डेयरी उद्यमिता योजना के अंतर्गत ली है। उन्हें एक लाख 40 हजार रुपये में यह गाय मिली। इसके लिए शासन की ओर से उन्हें 92 हजार रुपये का अनुदान प्राप्त हुआ। अर्जुन बघेल अब डेयरी का दूध मर्दापाल में बेच रहे हैं। भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बताया कि खेती-किसानी के अतिरिक्त अब पशुपालन भी मेरे लिए आय का माध्यम साबित हुआ है। उन्होंने बताया कि डेयरी उद्यमिता योजना के माध्यम से उन्हें जो लाभ हुआ है, उससे प्राप्त आय से वे उद्यम का विस्तार करेंगे।
20-05-2022
16 गांवों में सर्वे का काम पूरा, अब तक अबूझमाड़ के लगभग 2600 किसानों को मिल चुका है मसाहती पट्टा
रायपुर। बीते कई सालों से तीन पीढ़ियों का एक ही दर्द। जमीन तो है लेकिन कितनी है, कहां है कोई रिकॉर्ड नहीं। खेती तो करते हैं लेकिन केसीसी ना होने से लोन नहीं मिल सकता। फसल है पर बिक्री की व्यवस्था नहीं। अबूझमाड़ के कोहकमेटा गांव के किसान मसियाराम कोड़े हों, पंडरूराम या मोहन धनेरिया.... परेशानी सबकी एक ही है। अबूझमाड़ क्षेत्र में सर्वे ना होने की वजह से इनकी जमीन का राजस्व रिकॉर्ड में कहीं कोई उल्लेख नहीं था। इस वजह से किसी भी शासकीय योजना का लाभ नहीं मिल पाता था। लेकिन आज अबूझमाड़ क्षेत्र के 1121 किसानों के चेहरे पर उस वक्त खुशियां बिखर गईं जब मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छोटेडोंगर में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में किसानों को मसाहती पट्टा का वितरण किया। अबूझमाड़ के किसान मसियाराम कोड़े बताते हैं कि बारिश हो जाये तो ठीक वरना भगवान भरोसे ही खेती थी अब तक। खेत में पंप ना होने की वजह से सिंचाई की सुविधा नहीं है। लेकिन अब पट्टा मिल गया है तो जल्द ही खेत मे सोलर पंप लग जायेगा। उनके साथ ही अन्य किसानों का भी केसीसी बन जाने से अब वे सभी खेती के लिए लोन ले पाएंगे। मसियाराम ने बताया कि अब तक खुले बाजार में 10 से 15 रुपये में धान बेच देते थे। लेकिन अब सोसायटी में पंजीयन हो जाएगा और समर्थन मूल्य पर धान बेच पाएंगे। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर अबूझमाड़ क्षेत्र के गांवों में राज्य सरकार द्वारा प्राथमिकता के साथ सर्वे का काम तेजी से किया जा रहा है। नारायणपुर के ओरछा विकासखंड में 16 गांव जहां राजस्व सर्वेक्षण का कार्य पूरा हो चुका है, वहां किसानों को मसाहती पट्टों का वितरण किया गया है। मसाहती पट्टा मिलने के बाद ऐसे किसानों को अब शासन की योजनाओं का लाभ भी मिलने लगेगा। किसानों को केसीसी का वितरण भी किया गया जिससे वे अब बैंक से लोन भी ले पाएंगे। अब मिलेगा शासकीय योजनाओं का लाभ -मसाहती पट्टा मिलने के बाद अबूझमाड़ के किसानों को शासकीय योजनाओं का लाभ मिलने लगेगा। सोसायटी में पंजीयन हो सकेगा और धान बेच पाएंगे। किसानों के खेत मे अब डबरी निर्माण, सिंचाई हेतु सोलर पंप की सुविधा, कृषि एवं उद्यानिकी विभाग की योजनाओं का लाभ मिल पायेगा। कृषि विभाग से अब किसानों को विभिन्न फसलों के बीज वितरण के साथ-साथ मार्गदर्शन भी दिया जा रहा है। किसानों के खेत में ड्रिप लाइन बिछायी जा रही है और पॉली हाउस बनाया गया है। ऐसे हो रहा सर्वे -गांवों का सर्वे करने के लिए जिला प्रशासन की टीम सबसे पहले गाँव की जीपीएस लोकेशन आईआईटी रुड़की को भेजती है। आईआईटी की टीम सैटेलाइट के माध्यम से बड़े एरिया का मैप बनाकर भेजती है। फिर यहां राजस्व विभाग द्वारा मैप में गांव और खेत की बाउन्ड्री का निर्धारण किया जाता है। फिर सॉफ्टवेयर के माध्यम से खेत को लोकेट करके एरिया निकाला जाता है। इसके बाद दावा-आपत्ति की प्रक्रिया के बाद पट्टे का निर्धारण होता है।
20-05-2022
सीबीआई ने लालू और उनकी बेटी से जुड़े 15 ठिकानों पर मारा छापा
नई दिल्ली/रायपुर। केंद्रीय जांच ब्यूरो ने बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान भर्ती में कथित अनियमितताओं को लेकर राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक नया मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने आज यादव और उनकी बेटी से जुड़े 15 ठिकानों पर छापेमारी शुरू की। चारा घोटाले के पांचवें मामले में यादव को जमानत मिलने के एक महीने बाद यह बात सामने आई है।
Please Wait... News Loading
GLIBS Ads