GLIBS
देह व्यापार मामला: अपर सत्र न्यायालय ने खारिज की आरोपी की जमानत याचिका

भोपाल। नीमच के अपर सत्र न्यायालय ने नाबालिग लड़कियों से देह व्यापार के मामले में आरोपी की जमानत याचिका खारिज कर दी गई है। जिला लोक अभियोजन अधिकारी आरआर चौधरी द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि गत 8 नवंबर को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि जैतपुरा बांछड़ा डेरा में महिलाएं स्वंय और 3 लड़कियों से जबरन देह व्यापार करा रही है। सूचना मिलते ही नीमच पुलिस जैतपुरा बांछडा डेरा पहुंचकर मामले की जांच में जुट गई। वहीं पुलिस द्वारा जांच पड़ताल के बाद मामला सहीं पाया गया था। जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 9 पुरुष और महिलाओं को गिरफ्तार किया और आरोपियों के कब्जे से 3 नाबालिग लड़कियों को मुक्त कराया था। सभी आरोपियों के खिलाफ नीमच पुलिस ने अनैतिक देह व्यापार और पॉस्को एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज किए गए थे। देह व्यापार में शामिल आरोपी राजकुमारी (25 वर्ष) ने जमानत के लिए अपर सत्र न्यायालय आवेदन दाखिल किया था।

मर्दापाल में 12 नक्सली सहयोगी गिरफ्तार
फोर्स को देख पटाखा फोड़ कर नक्सलियों को कर रहे थे सचेत
सर्व क्षत्रिय महासभा ने फिल्म पद्मावत को लेकर दी चेतावनी, पढ़े पूरी खबर

रायपुर। सर्व क्षत्रिय महासभा छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष राकेश सिंह बैस ने प्रदेश थियेटर मालिकों और मल्टीप्लेक्स मालिकों को फिल्म पद्मावत नहीं लगाने की चेतावनी दी है। उन्होंने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा है कि इस फिल्म को लेकर माल और थियेटर मालिकों को ज्ञापन दिया गया है और फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग की गई है। इस पर सभी ने सहमति जताई है। बावजूद इसके फिल्म लगाने पर दुरगामी परिणाम भुगतना पड़ सकता है। राकेश बैस ने कहा कि क्षत्रिय एवं हिन्दुओं की मान मर्यादा को फिल्म पद्मावत की तरह दिखाकर कोई भी खंडित करने कुत्सित प्रयास ना करें अन्यथा जौहर की आग में सब कुछ जलकर खाक हो जाएगा।

उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर छत्तीसगढ़ में किसी भी सिनेमा घर में फिल्म पद्मावत को दिखाया गया तो इसका अंजाम भोगने को भी राज्य के सभी सिनेमा घर तैयार रहे, यह मां पद्मावती का ही नहीं बल्कि सभी सनातन धर्म का अपमान है। कोई भी क्षत्रिय और हिन्दु पुत्र इपने इतिहास सहित स्वाभिमान के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं करेगा। विरोध में बनाएं मानव श्रृंखला राकेश सिंह बैस ने कहा कि फिल्म पद्मावत पर रोक लगाने की मांग की है। वहीं इसके विरोध में 24 जनवरी को महाराणा प्रताप चौक टाटीबंध में मानव श्रृंखला बनाकर दो बजे प्रदर्शन किया जाएगा।

सम्मानित हुए राज्य वीरता पुरस्कार जीतने वाले बच्चे

रायपुर। राज्य वीरता पुरस्कार वाले बच्चों का रायपुर प्रेस क्लब में सम्मानित किया गया। इसमें कृष्ण सेठिया, झगेन्द्र साहू, रितिक साहू, खेमलता साहू, खुशी साहू, प्रशांत साहू शामिल हैं। इन बच्चों को 26 जनवरी को राज्यपाल पुलिस परेड ग्राउंड में सम्मानित करेंगे। वहीं बच्चे परेड में भी शामिल होंगे। सभी बच्चों को 15 हजार रुपए दिए जाएंगे।

मप्र के खंडवा में इनकम टैक्स ने मारी रेड, 50 से अधिक लोगों को दबोचा

भोपाल। मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में इनकम टैक्स के तहत होने वाली रेड में इतिहास की सबसे बड़ी रेड आज जिले में पड़ी। सुबह-सुबह खंडवा जिले के अलग-अलग प्रतिष्ठानों पर 50 से अधिक इनकम टैक्स की गाड़ियां खड़ी हो गई एवं जैसे ही प्रतिष्ठान खुले इनकम टैक्स के अधिकारियों ने धावा बोल दिया जानकारी के अनुसार 50 से अधिक अलग-अलग प्रतिष्ठानों के ठिकानों पर इनकम टैक्स के अधिकारियों द्वारा रेड मारी गई। खबर लिखे जाने तक पर इनकम टैक्स के अधिकारी अलग-अलग स्थानों पर दस्तावेज की जांच कर रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ की इनकम टैक्स अधिकारियों की टीम द्वारा यह रेड मारी गई है। जिन प्रतिष्ठानों पर रेड मारी गई है उनमें कृषि से जुड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर इनकम टैक्स के अधिकारियों ने धावा बोला।

इनकम टैक्स के अधिकारियों ने किन स्थानों पर एवं कहां कहां की टीम है बताने से मना कर दिया। इनकम टैक्स की रेड पड़ने से जिले के कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है। भाटिया ट्रांसपोर्ट, एमजीएम ऑयल, अजीत एग्रो सहित अन्य प्रतिष्ठानों पर इनकम टैक्स की टीम मौजूद है। गाड़ी में मौजूद कर्मचारी सोते हुए दिखाई दिए जिससे प्रतीत होता है कि इनकम टैक्स की इस कार्यवाही के लिये कल रात से ही टीम निकल गई थी। भोपाल,इंदौर, रायपुर सहित अन्य जगह की टीम मौके पर मौजूद है। कई व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर ताला लगा होने की वजह से इनकम टैक्स की टीम बाहर बैठकर उंघती नजर आई। वहीं दूसरी ओर इस कार्रवाई से व्यापारियों में रोष है। दबी जुबान में कुछ व्यापारियों का कहना है कि पहले ही नोटबंदी के बाद से व्यापारी की हालत खराब है ऊपर से इनकम टैक्स के छापे व्यापारियों को समय-समय पर परेशान करते रहते हैं।

मध्यप्रदेश की 27वीं गवर्नर के तौर पर शपथ ली। हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हेमंत गुप्ता ने उन्हें शपथ दिलाई। 

Please Wait... News Loading
GLIBS Ads
Visitor No.