GLIBS
25-09-2020
Breaking: प्रदेश में आज 5835 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 2942 मिले नए केस, 11 की मौत

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच राहत की जानकारी आई है। प्रदेश में शुक्रवार को 5835 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए हैं। इनमें 710 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है और 5125 मरीजों ने होम आइसोलेशन कम्पलीट किया है। इसी के साथ कोरोना की रफ्तार भी बढ़ी है। 2942 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। 11 मरीजों की मौत हुई है। रायपुर जिले से 580 मरीजों की पहचान हुई है। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग की ओर से रात 8 बजे की स्थिति में जारी मेडिकल बुलेटिन में मिली है। अब तक 98565 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इनमें 66860 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। 777 मरीजों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में 30928 एक्टिव केस हैं। बताया गया है कि बिलासपुर, दुर्ग, दंतेवाड़ा, सूरजपुर और रायपुर जिले में पूर्व में हुई 14 मौत की जानकारी आज मिली है। 14 में 7 मौत  कोविड और 7 अन्य बीमारियों से भी ग्रसित होने के कारण हुई है। इन 14 मौत की जानकारी को प्रदेश में हुई कुल मृत्यु की संख्या में शामिल किया गया है।

25-09-2020
कांग्रेस अपने फैलाए झूठ का रायते से खुद बार-बार फिसलकर औंधे मुंह गिर रही : विष्णुदेव साय

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की ओर से पारित कृषि सुधार से संबंधित तीन विधेयकों को लेकर कांग्रेस के दुष्प्रचार की निंदा की है। उन्होंने इसे निंदनीय बताते हुए कहा है कि, कांग्रेस को हर उस सुधार से तकलीफ हो रही है,जिससे उसकी कमीशनखोरी और भ्रष्टाचार से होने वाली काली कमाई पर नकेल कसती हो। मध्यप्रदेश में मंडी टैक्स खत्म करने के लिए चलाए जा रहे बिचौलियों-दलालों के आंदोलन का समर्थन किए जाने और छत्तीसगढ़ में मंडी टैक्स खत्म करने पर मौन साधे जाने पर साय ने कटाक्ष किया है। साय ने कहा है कि एक ही बार में कांग्रेस अपनी राजनीतिक सुविधा के मुताबिक किसी मुद्दे पर दोहरे चरित्र का प्रदर्शन करके अपनी ही जगहंसाई करा रही है। आज भाजपा की केंद्र सरकार किसानों को लाभकारी मूल्य दिलाने और मंडी टैक्स से राहत दिलाने की क्रांतिकारी पहल कर रही है तो कांग्रेस किसानों को गुमराह करने पर उतारू है। कांग्रेस झूठ की राजनीति करके ही किसानों को बरगला रही है। इस बार कांग्रेस अपने झूठ का रायता इतना फैला चुकी है कि अब खुद इस पर बार-बार फिसलकर औंधे मुंह गिर रही है।

25-09-2020
नक्सल मोर्चे पर सरकार की कोई कारगर नीति नहीं : बृजमोहन अग्रवाल  

रायपुर। भाजपा विधायक व पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने प्रदेश सरकार पर नक्सली मोर्चे पर पूरी तरह असफल होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि यह सरकार आदिवासी जनता की रक्षा करने में पूरी तरह असफल रही है। पूरे प्रदेश में जब नक्सलवाद चरम में था, तब भी बस्तर की आदिवासी जनता की इतनी बड़ी संख्या में हत्या नहीं हुई,जो अब हो रही है। नक्सल मोर्चे को लेकर इस सरकार की कोई नीति नहीं है। सरकार को दो साल होने को हैं और यह तय नहीं कर पाई है कि उन्हें नक्सली मोर्चे पर मैदान में लड़ाई लड़नी है या बातचीत करनी है। सरकार के नक्सल मोर्चे पर कोई योजना नहीं होने व इसी नकारा रवैये के चलते ही पूरे बस्तर में नक्सली एक बार फिर सक्रिय हो गए हैं। अब बस्तर के निरीह आदिवासी जनता की लगातार हत्या कर रहे हैं। पिछले 6 माह में ही 75 से अधिक आदिवासी  ग्रामीणों की हत्या नक्सलियों ने की है।

कांग्रेस की सरकार आते ही नक्सली प्रदेश में हावी हो गए हैं। अग्रवाल ने कहा है कि सरकार के ढुलमुल रवैये के चलते पूरे बस्तर में नक्सलियों ने आतंक व दहशत का साम्राज्य स्थापित कर लिया है। ग्रामीणों की लगातार हत्या हो रही है। अकेले बीजापुर जिले में इसी महीने 15 से अधिक आम लोगों की नक्सलियों ने हत्या कर दी है और यही स्थिति बस्तर के अन्य जिले में है। रोज नक्सली चुन चुन कर ग्रामीणों की शासकीय कर्मचारियों की हत्या कर जनता के मन में भय व दहशत का राज कायम कर रहे हैं। सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है। सरकार निरीह आदिवासियों की जान बचा पाने में पूरी तरह असफल है। अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने पहले दिन से ही अपने बयानों में यह स्पष्ट कर दिया था कि वे नक्सली साफ करने व लड़ने नहीं बातचीत से हल निकालने के पक्षधर है, सरकार का नक्सलियों के प्रति साफ्ट रवैय्या रहा है। नक्सली इसी को देखकर समझ गए कि सरकार ने तो लड़ने से पहले ही उनके सामने सरेंडर करने की नीति पर है। नक्सली बस्तर के गांवोें में जहां आम जनता की व शासकीय कर्मचारी की खुलेआम हत्या कर रहे है। बस्तर से बाहर धमतरी, गरियाबंद, कवर्धा, राजनांदगांव के अंदरूनी इलाकों, जहां उनके पैर उखड़ गए थे। बल्कि पूरी तरह इनका सफाया हो गया था अब वहां पर भी फिर अपनी सक्रियता लगातार बढ़ा रहे हैं।

25-09-2020
भाजपा नेताओं ने पं.दीनदयाल उपाध्याय को किया याद, साय ने कहा-सादगी, शुचिता और सरलता के थे प्रतीक 

रायपुर। पं.दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने निवास पर तैलचित्र पर माल्यार्पण कर उनकी सेवा भावना को याद किया। उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान भाजपा के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का संबोधन सुना। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने भी अपने राजधानी स्थित निवास पर पं. दीनदयाल उपाध्याय के तैलचित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय का पूरा जीवन राष्ट्र को समर्पित था। वे शुचिता और सरलता के प्रतीक थे। राष्ट्रवाद और अंतयोदय की जो अलख पं. दीनदयाल उपाध्याय ने जगायी, आज भाजपा उसी के आलोक में श्रेष्ठ भारत के निर्माण में लगी है। उनके इन्हीं विचार पर पार्टी की सरकारें काम कर रही है। राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने अपने दिल्ली स्थित निवास पर पं.उपाध्याय के तैलचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें याद किया। सांसद पाण्डेय ने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय हमारे आदर्श हैं, वो बेहद साधारण जीवन जीने वाले नेता थे। उन्हीं के पदचिन्हों पर चलते हुए भाजपा के कार्यकर्ता तन-मन और समर्पण भाव से देश के विकास के लिए काम कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे।
संगठन महामंत्री पवन साय ने भाजपा प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में पुष्पांजलि अर्पित कर पं. उपाध्याय का पुण्य स्मरण किया और श्रद्धांजलि दी। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का उद्बोधन भी भाजपा प्रदेश कार्यालय में सुना।

रायपुर लोकसभा सांसद सुनील सोनी ने पं. दीनदयाल उपाध्याय को नमन कर श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि एकात्म मानववाद और अंत्योदय के प्रणेता पंडितजी का जीवन एक संदेश है। प्रत्येक कार्यकर्ता उनके जीवन से बहुत कुछ सीख सकता है। उनके विचारों में मुझे क्या मिला नहीं बल्कि मैने राष्ट्र के प्रति क्या समर्पित किया मुख्य है।  विधायक व पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने पं.दीनदयाल उपाध्याय को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि पंडित उपाध्याय एक प्रखर राष्ट्रवादी विचारक थे। उन्होंने अपने विचारों व कर्तव्य निष्ठा से भारतीय राजनीति में अद्वितीय आदर्श स्थापित किया। उन्होंने देश को अंत्योदय व एकात्म मानववाद जैसी प्रगतिशील विचारधारा देने का काम किया है। उनका संपूर्ण जीवन देश की संस्कृति और देश की अखंडता के लिए समर्पित रहा है। देश को अंत्योदय का मंत्र देते हुए उन्होंने पंक्ति में अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को पंक्ति में खड़े प्रथम व्यक्ति तक लाने की परिकल्पना की,जिसके लिए उनका संपूर्ण जीवन समर्पित रहा। पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने कहा कि पं. उपाध्याय एक ऐसे युगद्रष्टा थे,जिनके बोये गए विचारों व सिद्धांतों के बीज ने देश को एक वैकल्पिक विचारधारा दी। उनकी विचारधारा सत्ता प्राप्ति के लिए नहीं बल्कि राष्ट्र पुनर्निर्माण के लिए थी। भाजपा नेता सच्चिदानंद उपासने, सुभाष राव, शिवरतन शर्मा, संजय श्रीवास्तव, नलिनीश ठोकने, नरेश गुप्ता, संदीप शर्मा, राजीव कुमार अग्रवाल, प्रफुल्ल विश्वकर्मा, सत्यम दुवा, गौरीशंकर श्रीवास, संजुनारायन सिंह ठाकुर, अनुराग अग्रवाल, राजीव चक्रवर्ती, उमेश घोरमोड़े, अमित चिमनानी, सहित भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

25-09-2020
ईडी ने किया यस बैंक के पूर्व चेयरमैन राणा कपूर का लंदन स्थिति फ्लैट ज़ब्त, कीमत आंकी गई 127 करोड़

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यस बैंक घोटाला मामले में बैंक के पूर्व चेयरमैन राणा कपूर के लंदन में स्थित एक फ्लैट को आरंभिक तौर पर जब्त किया है। यह फ्लैट राणा कपूर ने साल 2017 में 93 करोड़ रुपये में खरीदा था और अब इसकी कीमत 127 करोड़ रुपये बताई गई है। ईडी को यह भी पता चला कि राणा कपूर लंदन की अपनी इस जायदाद को बेचने की फिराक में था और उसने इसके लिए लंदन में कई प्रतिष्ठित डीलरों से भी संपर्क किया हुआ था।
अब तक की जांच से पता चला है कि संपत्ति को बिक्री के लिए लंदन की कई वेबसाइटों पर भी दिखाया गया था। ईडी के एक आला अधिकारी के मुताबिक यह फ्लैट डीओआईटी क्रिएशन्स जर्सी लिमिटेड के नाम से खरीदा गया था, जिसमें आरोपी राणा कपूर भी शामिल बताया गया है।
ईडी के आला अधिकारी के मुताबिक यह मामला सीबीआई की एफआईआर के आधार पर ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत दर्ज किया था। इस मामले में आरोप है कि तमाम नियम कानूनों को ताक पर रखकर राना कपूर यस बैंक के चेयरमैन के तौर पर वधावन बंधुओं समेत अनेक प्राइवेट कंपनियों को हजारों करोड़ का लोन दिया और बैंक को नुकसान पहुंचाया। यह भी आरोप है कि इस लोन देने के पीछे राणा कपूर को रिश्वत के तौर पर सैकड़ों करोड़ रुपये की रकम दी गई। आरोप के मुताबिक जिन लोगों को लोन के सैकड़ों करोड़ रुपये दिए गए उन लोगों ने लोन की धनराशि उस काम में खर्च नहीं कि जिस काम के लिए लोन लिया गया था, बल्कि सेल कंपनियों के जरिए बैंक से लोन के तौर पर ली गई रकम को कहीं और भेज दिया गया।ईडी ने इस मामले में राणा कपूर समेत वधावन बंधुओं को गिरफ्तार भी किया था। ईडी इस मामले में अब तक 2000 करोड़ रुपये से ज्यादा की चल अचल संपत्ति जब्त कर चुका है, जो राणा कपूर के अलावा डीएचएफएल के मालिकों वधावन बंधुओं की बताई गई है। ईडी ने मामले में अनेक आरोप पत्र कोर्ट के सामने भी पेश किए हैं और मामले की जांच अभी भी जारी है।

25-09-2020
जिले में आज मिले 89 कोरोना संक्रमित, 3 की मौत, 106 हुए डिस्चार्ज

धमतरी। कोरोना वायरस संक्रमण ने शुक्रवार को जिले से 3 लोगों की मौत हो गई है। शुक्रवार को मिले संक्रमितों में से गुजरा से 13, कुरूद ब्लाक से 42, नगरी से 10, धमतरी शहर से 24 और मगरलोड से कोई भी संक्रमित नहीं मिले है। जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डीके तुर्रे ने बताया कि आज 3 लोगों की मौत हो गई है। इसमें से गंगरेल का एक 27 साल का युवक,जो कि एक्सीडेंट होने के कारण रायपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था, उनके कोरोना टेस्ट करने पर रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। दूसरी मौत बनियापारा के 57 वर्षीय महिला की हुई है। इनका उपचार कोविड 19हॉस्पिटल चल रहा था। वहीं तीसरी मौत कुरुद के संजय नगर की 68 वर्षीय बुजुर्ग महिला की है। इनका उपचार रायपुर के एक निजी हॉस्पिटल में चल रहा था। दोनों महिला मृतक अन्य बीमारियों से ग्रसित थी। वहीं आज धमतरी शहर से 24 मरीज की पहचान हुई है,जिसमें महिमा सागर वार्ड से 1, मैत्री विहार कॉलोनी से 1, गुजराती कॉलोनी से 3, अमलतास पुरम से 3, टिकरापारा से 1,सोरीद से 3,गोकुलपुर वार्ड से 1, महंत घासीदास वार्ड से 1, शीतलापारा वार्ड से 1, अरिहंत कॉलोनी से 1, दानी टोला वार्ड से 1, हाउसिंग बोर्ड से 1, जालमपुरा वार्ड से 1, सुभाष नगर से 1, मराठापारा से 1, जेल लाइन बठेना पारा से 1, मैत्री विहार कॉलोनी से 1, जोधापुर वार्ड से 1 संक्रमित मरीज मिले हैं।


कुरुद
बीएमओ यू.एस नवरत्न ने बताया कि आज 42 नए संक्रमित मरीज की पहचान हुई है। इसमें कुरुद से 12, अटनग से 1, नारी से 1, गुदगुदा से 3, रखी से 3,करगा से 1, गातापर से 2, चरोटा से 8, भेंडरा से 2, बांगोली से 1, पचपेड़ी से 2, भेंडरवानी से 3, ईर्रा से 1, सेमरा बी से 2 संक्रमित मरीज मिले हैं। सभी संक्रमित मरीजों की होम आइसोलेशन और भर्ती प्रक्रिया जा रही है।
जिले में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 2017 हो चुकी है,जिसमें एक्टिव केस की संख्या 825 है। धमतरी कोविड-19 अस्पताल में 29 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। वही 106 लोगों को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। अब तक कुल 1160 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

 

25-09-2020
कांकेर जिले में मिले 75 नए कोरोना पॉजिटिव

कांकेर। जिले में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 75 नए मामले सामने आए हैं। जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार कांकेर में 19, अंतागढ़ 14, भानुप्रतापपुर 6, चारामा 10, दुर्गूकोंदल 13, नरहरपुर 5 तथा कोयलीबेड़ा से 8 नए मामले सामने आये हैं। जिले में बीएसएफ के 11, एसएसबी के 3 साथ ही जंगलवार कॉलेज से भी 1 जवान की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। शहर के सुभाषवार्ड निवासी दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, दोनों थाना के पुलिसकर्मी हैं। इसी तरह अलबेलापारा 2, संजयनगर 1, एमजीवार्ड 1 इमलीपारा 1, उदयनगर 1, राजापारा1, एकतानगर 1, आदर्शनगर 1 तथा 2 ग्रामीण भी शामिल हैं। 

 

25-09-2020
रेत तस्करी करते हाइवा को खनिज विभाग ने पकड़ा, जब्ती बनाकर किया थाने में खड़ा

कांकेर। रेत की तस्करी करते हाइवा को खनिज विभाग ने लखनपुरी में पकड़ा और कार्यवाही के लिए चारामा थाना में जब्ती बनाया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत नारा क्षेत्र में रेत डम्प कर हाइवा से दूसरे जिले में चोरी की रेत बेचकर शासन को राजस्व की क्षति पहुंचाई जा रही है। इसकी कई दिनों से शिकायतें मिल रही थी। इस पर शुक्रवार को खनिज विभाग की टीम ने पीछा कर हाइवा वाहन क्रमांक सीजी 19 बीजे 4984 को पकड़ा। वाहन को चारामा थाना में खड़ा कर जब्ती की कार्रवाई की गई। माईनिंंग इंस्पेक्टर भरतलाल बंजारे ने बताया कि पिछले कई दिनों से नारा, मुड़पार, हाटकोंगेरा व आस-पास के नदियों से रेत की चोरी की खबर मिल रही थी। इसके तहत कार्रवाई करने निकले थे। सूचना मिली की नारा में हाइवा पीछा करते हुए पकड़ा व चारामा थाना में जब्ती बनाकर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

 

25-09-2020
ट्यूलिप इंटर्नशिप : सर्वाधिक युवाओं को मौका देकर रायपुर स्मार्ट सिटी लि. देश में अव्वल,आवेदन अब 30 सितंबर तक

रायपुर। आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार के ट्यूलिप इंटर्नशिप कार्यक्रम में शामिल होने युवा अब 30 सितंबर तक अपने आवेदन कर सकते हैं। इंजीनियरिंग, साइंस, मेडिकल, लॉ, कला, पत्रकारिता, समाज कल्याण और जनसंपर्क सहित विभिन्न संकायों के 300 रिक्तियों पर आवेदन किए गए हैं। इन युवाओं को इंटर्न कार्यक्रम पूरा करने पर भारत सरकार की ओर से प्रमाण पत्र भी दिए जाएंगे। रायपुर स्मार्ट सिटी लि. ट्यूलिप कार्यक्रम के जरिए सर्वाधिक युवाओं को अवसर प्रदान कर देश में प्रथम स्थान पर है।  ट्यूलिप इंटर्नशिप पोर्टल की लिंक http://internship.aicte-india.org पर जाकर अभ्यर्थी अपना आवेदन प्रेषित करें। ऑनलाइन आवेदन भरने में किसी भी तरह की सहायता के लिए मोबाइल नंबर-7970003285 पर संपर्क कर सकते हैं। इस कार्यक्रम के तहत बी.टेक, बी.प्लान, बी.टेक सिविल, बी.आर्किटेक, बी.टेक आईटी/सीएस/मैकेनिकल/कैमिकल/इलेक्ट्रिकल, बीएससी हार्टीकल्चर, बीए इकोनॉमिक/सोशलॉजी/एनवायरमेंटल स्टडी, बीएससी वेटरनरी साइंस, बीए, बीएससी, बीसीए, एमबीबीएस, बीएचएमएस, बीएएमएस और नर्सिंग एवं एमपीडब्ल्यू आदि संकाय के छात्र खुद को रजिस्टर करें।
 
इंटर्नशिप के लिए ऐसे करें आवेदन :
आवेदन करने के लिए युवाओं को  ‘ट्यूलिप’ पोर्टल की लिंक http://internship.aicte-india.org पर जाना है। लिंक पर जाकर युवाओं को ह्यरजिस्टरह्ण पर क्लिक करना है और उपलब्ध विकल्पों में अपनी श्रेणी का चयन करना है। इसके बाद संस्थान का नाम, नामांकन संख्या, नाम, ईमेल आईडी जैसे मूल विवरण भरकर खुद को पंजीकृत करना है। साथ ही सत्यापन लिंक के लिए अपने ईमेल की जांच कर सत्यापन के लिए क्लिक करना है। ईमेल आईडी का उपयोग करके लॉगिन कर और विवरण फॉर्म भरने व आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने के लिए पासवर्ड बनाना है। उपलब्ध विकल्पों की सूची से इंटर्नशिप कार्यक्रम का चयन कर आवेदन करें।

Please Wait... News Loading
GLIBS Ads