GLIBS
17-10-2018
Chagan Mundra: राजीव भवन में राज्य निर्माता अटल जी की मूर्ति स्थापित करे कांग्रेस-छगन मूंदड़ा

रायपुर। भाजपा के वरिष्ठ नेता छगन मूंदड़ा ने कहा है कांग्रेस अपनी ओछी राजनीति से बाज आये। मूंदड़ा ने कहा कि कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है, इसलिए ऐसी हरकत कर रही है। यदि कांग्रेस के मन में अटल जी को लेकर इतना सम्मान है तो वो राजीव भवन में अटल जी की प्रतिमा स्थापित कर उनके प्रति सम्मान प्रदर्शित करे। छगन मूंदड़ा आज कांग्रेस नेताओं द्वारा भाजपा कार्यालय में किये हंगामे पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर कहा कि ये कांग्रेस का विधवा विलाप है, उससे ज्यादा कुछ नहीं।

मूंदड़ा ने कहा कि करुणा शुक्ला, भूपेश बघेल अटल जी की अस्थि के नाम पर झूठी नौटंकी कर रहे थे, जबकि सच्चाई ये है कि कलश में अटल जी का स्मारक बनवाने के लिए हर घर से मिट्टी इकट्ठी की जा रही है।

16-10-2018
Doordarshan: राष्ट्रीय एवं मान्यता प्राप्त प्रादेशिक दलों को प्रचार के लिए दूरदर्शन-आकाशवाणी पर मिलेगा निःशुल्क समय 

रायपुर। 16 अक्टूबर को भारत निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रीय और मान्यता प्राप्त प्रादेशिक राजनीतिक दलों को प्रचार के लिए दूरदर्शन और आकाशवाणी पर निःशुल्क प्रसारण समय उपलब्ध कराने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जनप्रतिनिधित्व अधिनियम-1951 के संशोधित प्रावधानों के अनुसार सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को केन्द्र सरकार के इलेक्ट्रॉनिक प्रसारण माध्यमों (दूरदर्शन एवं आकाशवाणी) पर प्रचार के लिए समान समय उपलब्ध कराए जाने का प्रावधान है। इस अधिनियम के तहत छत्तीसगढ़ में भी आगामी विधानसभा निर्वाचन के दौरान राष्ट्रीय और मान्यता प्राप्त प्रादेशिक दलों को सार्वजनिक (शासकीय) क्षेत्र के प्रसारणकर्ता प्रसार भारती निगम द्वारा प्रचार के लिए निःशुल्क समय उपलब्ध कराया जाएगा। प्रदेश में राजनीतिक दलों को प्रचार की यह सुविधा दूरदर्शन और आकाशवाणी के क्षेत्रीय प्रसारण केन्द्रों तथा राजधानी स्थित प्रसारण केन्द्र से दी जाएगी। इसे छत्तीसगढ़ में स्थित दूरदर्शन और आकाशवाणी के अन्य रिले केन्द्र भी प्रसारित करेंगे। 

प्रसारण की तिथि एवं समय

सभी राष्ट्रीय दलों और छत्तीसगढ़ में मान्यता प्राप्त प्रादेशिक दलों को दूरदर्शन और आकाशवाणी के क्षेत्रीय नेटवर्क पर प्रचार के लिए प्रारंभिक तौर पर 45 मिनट की एक समान अवधि उपलब्ध करायी जाएगी। राजनीतिक दलों द्वारा पिछले विधानसभा निर्वाचन में किए गए प्रदर्शन के आधार पर उन्हें अतिरिक्त समय आबंटित की जाएगी। प्रसारण के लिए एक बार में 15 मिनट से अधिक का समय नहीं दिया जाएगा। राजनीतिक दलों को दूरदर्शन और आकाशवाणी पर प्रचार के लिए समय पहले चरण के मतदान के लिए नामांकन भरने के अंतिम दिन से लेकर प्रत्येक चरण के मतदान के दो दिन पहले तक दिया जाएगा। प्रसार भारती निगम भारत निर्वाचन आयोग के परामर्श से प्रचार के लिए वास्तविक तिथि एवं समय का निर्धारण करेगा। प्रसारण की तिथि और समय दूरदर्शन एवं आकाशवाणी के संचालन की तकनीकी सीमाओं तथा वहां उपलब्ध प्रसारण समय के आधार पर तय होगा।

प्रसारण से पहले जमा कराना होगा ट्रांस्क्रिप्ट

राजनीतिक दलों को दूरदर्शन और आकाशकाणी पर प्रचार के लिए आयोग द्वारा निर्धारित मापदंडों का कड़ाई से पालन करना होगा। प्रसारण के लिए रिकॉर्डिंग एवं उसकी ट्रांसक्रिप्ट (अनुलिपि) पहले ही जमा कराना होगा। दल प्रसारण सामग्री (विषयवस्तु) की रिकॉर्डिंग स्वयं के व्यय पर प्रसार भारती निगम या दूरदर्शन/आकाशवाणी द्वारा निर्धारित तकनीकी गुणवत्ता के साथ किसी स्टूडियो में करा सकते हैं। वैकल्पिक रूप से वे इसकी रिकॉर्डिंग दूरदर्शन एवं आकाशवाणी से निवेदन कर राजधानी में स्थित उनके स्टूडियो में भी करा सकते हैं।

परिचर्चा एवं वाद-विवाद का आयोजन

प्रसार भारती निगम प्रचार के लिए समय देने के साथ ही दूरदर्शन और आकाशकाणी पर अधिकतम दो परिचर्चाओं एवं/या वाद-विवाद (Panel Discussion and Debate) का आयोजन भी करेगा। सभी पात्र राजनीतिक दल इन कार्यक्रमों के लिए अपना एक प्रतिनिधि नामांकित कर सकते हैं। भारत निर्वाचन आयोग प्रसार भारती निगम से परामर्श कर इन परिचर्चाओं एवं वाद-विवाद के लिए समन्वयकों (Coordinators) के नाम निर्धारित करेगा।

प्रसारण के लिए अनिवार्य दिशा-निर्देश

आयोग ने प्रसारण की विषयवस्तु के लिए राजनीतिक दलों को कड़े दिशा-निर्देश दिए हैं। प्रचार के दौरान दूसरे देशों की आलोचना, धर्म या समुदाय पर हमला, भद्दा या मानहानिकारक, हिंसा को उकसाने वाले, अदालत की अवमाननाकारक, राष्ट्रपति एवं न्यायपालिका की निष्ठा के प्रति आक्षेप, राष्ट्र की एकता, संप्रभुता एवं अखंडता को प्रभावित करने वाले तथा किसी की व्यक्तिगत आलोचना वाली सामग्री की अनुमति नहीं होगी।

दलों को प्रचार हेतु प्रसारण के लिए आबंटित समय

दूरदर्शन और आकाशवाणी पर सभी राष्ट्रीय राजनीतिक दलों को प्रचार के लिए न्यूनतम 45-45 मिनट का प्रसारण समय देने के साथ ही पिछले विधानसभा निर्वाचन में उनके प्रदर्शन के आधार पर समय आबंटित किया गया है। राजधानी स्थित केन्द्र और क्षेत्रीय केन्द्रों से प्रसारण के लिए छत्तीसगढ़ में अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस को कुल 45 मिनट, बहुजन समाज पार्टी को 61 मिनट, भारतीय जनता पार्टी को 194 मिनट, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी को 47 मिनट, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) को 45 मिनट, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को 191 मिनट और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को 46 मिनट का समय आबंटित किया गया है।

16-10-2018
CH / NEWS
09:12pm

नवरात्र प्रारंभ होते ही रास गरबा का आयोजन राजधानी में जगह- जगह चल रहा है। परंपरागत गुजराती गानों पर युवाओं से लेकर बड़ो ने सोमवार को देर रात राजधानी के  विभिन्न स्थानों पर रास गरबा किया । 
 

16-10-2018
CH / NEWS
09:08pm

उडिसा की साफ्ट इंजीनियर महिला के पति ने राजधानी में करीब आधा दर्जन मकानों में चोरी के वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने शातिर आरोपी सहित 6 को उडिघ्सा से गिरफ्तार किया है। 
पुलिस ने आरोपियों के पास से नगदी 14 हजार सहित 17 लाख के सोने के जेवर जब्त किया है।

16-10-2018
Environment Protection: छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने ज्यादा ध्वनि प्रदूषण वाले पटाखों पर लगाया प्रतिबंध

रायपुर। 16 अक्टूबर छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों को आगामी दीपावली को ध्यान में रखते हुए निर्धारित मानकों से ज्यादा ध्वनि प्रदूषण वाले पटाखों के उत्पादन और उनकी बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए हैं, ताकि दीपावली पर्व के दौरान राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण के आदेश की अवमानना की स्थिति निर्मित न होने पाए।

पर्यावरण संरक्षण मंडल के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि इस सिलसिले में मंडल की ओर से  जिला कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों को परिपत्र जारी किया गया है। परिपत्र में कहा गया है कि रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे पटाखे न फोड़े जाएं। पटाखों अथवा आतिशबाजी का समय सवेरे 6 बजे से रात 10 बजे निर्धारित किया गया है। अस्पताल, स्कूल, अदालत और धार्मिक स्थल जैसे अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में इन संस्थाओं से कम से कम 100 मीटर की दूरी तक पटाखे न फोड़े जाए। सभी शिक्षण संस्थाओं में विद्यार्थियों को ध्वनि और वायु प्रदूषण तथा पटाखों के दुष्प्रभावों की भी जानकारी दी जाए। इसके साथ ही स्कूली बच्चों को शामिल करते हुए जनजागरण का भी अभियान चलाया जाए। पर्यावरण संरक्षण मंडल ने वायु प्रदूषण पर नियंत्रण रखने और ध्वनि मानकों का भी ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं।

परिपत्र में यह भी बताया गया है कि यह कार्य पर्यावरण संरक्षण मंडल के अंतर्गत स्कूलों में गठित इकोक्लबों के माध्यम से भी किया जा सकता है। परिपत्र में कहा गया है कि दीपावली के पहले, दीपावली के दौरान और इस त्यौहार के बाद ध्वनि तथा वायु प्रदूषण का आंकलन करवाया जाए। परिपत्र में यह भी कहा गया है कि राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण की भोपाल स्थित मध्य क्षेत्रीय बेंच द्वारा 18 अप्रैल 2016 को इस आशय का निर्णय पारित किया गया है। इस सिलसिले में माननीय न्यायालय और ध्वनि प्रदूषण (विनियम और नियंत्रण) नियम 2000 के तहत जिला मजिस्ट्रेट, पुलिस अधीक्षक या ऐसा कोई अन्य अधिकारी, जो कम से कम डिप्टी कलेक्टर अथवा उप पुलिस अधीक्षक श्रेणी का हो, उसे ध्वनि के संबंध में परिवेशी वायु गुणवत्ता के मानकों की मॉनिटरिंग के लिए जिम्मेदार माना गया है।

16-10-2018
CH / NEWS
08:56pm

भाजपा कार्यालय में अटल जी की अस्थि कलश को लेकर आज हुए हंगामे के बाद प्रदेश के भाजपाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि कांग्रेस जिले अटल का अस्थि कलश समझ रही है वह 
दरअसल में अटल दूत द्वारा लाया गया मिट्टी है। अस्थि  

16-10-2018
CH / NEWS
08:36pm

विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण में 18 सीटों पर मतदान के लिए आज से अधिसूचना जारी करदी है। जिसके साथ प्रथम चरण के चुनाव के लिए उम्मीदवार नामांकन पत्र भरना शुरू कर दिए है।
 

16-10-2018
Election Department: निर्वाचन विभाग की कार्यवाही, शिक्षक से 10 लाख बरामद

गरियांबद। विधानसभा चुनाव के मद्दे नजर निर्वाचन विभाग पूरी तरह से सक्रिय नजर आ रहा है लगातार नेशनल हाइवे में वाहनों की चेकिंग किया जा रहा है। इसी दौरान जिले के देवभोग थाना क्षेत्र में ग्राम खूंटगांव में एक शिक्षक के पास से 10 लाख रुपए नगद बरामद किया गया है।

रुपए मिलने से हड़कप मंचा गया है। बताया जा रहा है। एक शिक्षक बाईक में सवार बैग लेकर कही जा रहा था जब मौके पर मौजूद अधिकारी शिक्षक को रोक कर पूछ ताछ की और तलासी ली तो बैग में 10 लाख रुपए मिला। जब शिक्षक से रुपए के बारे में पूछा गया तो जमीन बेचने का हवाला दे रहा है । बहरहाल निर्वाचन विभाग की टीम शिक्षक के बयानों को लेकर जांच में जुटी है । वही शिक्षक के गोल मोल जवाब से आशंका व्यक्त किया जा रहा है की मोटी रकम चुनाव के लिए किसी नेता पास पहुंचाया जा रहा होगा। बाहरहाल मामले लेकर जांच जारी है।

16-10-2018
Raman Singh: CM रमन सिंह के जन्मदिन पर दिए गए विज्ञापनों पर कांग्रेस ने जताया विरोध

रायपुर | प्रदेश कांग्रेस कमेटी में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के जन्मदिन पर अख़बारों में दिए गए विज्ञापनों पर अपना विरोध प्रदर्शन किया है | पीसीसी की ओर से पूर्व महापौर किरणमयी नायक के नेतृत्व में कांग्रेस के कार्यकर्ता अपनी शिकायत ले कर निर्वाचन अधिकारी सुब्रत साहू पास पहुंचे | किरणमयी नायक ने कहा कि हम ने यहां पर सभी विज्ञापनों का प्रति निर्वाचन अधिकारी सुब्रत साहू को दिखाया है उन्होंने भी कहा कि हम पहले से ही इसकी निगरानी कर रहे हैं | इन सभी विज्ञापनों में भाजपा का चुनाव चिन्ह मौजूद है जो कि खुले तौर पर आचार संहिता का उलघ्घन है | 

किरणमयी नायक ने आगे कहा कि हमने अपनी शिकायत में यह बात भी रखी है कि जो भी नेता और मंत्रियों ने अख़बारों में चुनाव चिन्ह समेत विज्ञापन  हैं उनको भी सज्ञान में लेकर उन पर भी करवाई की जाए | किरणमयी नायक ने बताया कि सुब्रत साहू ने हमें आश्वाशन दिया है और कहा है कि इन पर जांच के बाद कार्यवाही हुई है | 

16-10-2018
CH / NEWS
08:19pm

नवरात्रि का शुभ पर्व चल रहा है आइए आज आप को लेकर चलते है जिला गरियांबद और दर्शन करवाते है घने जंगलों और पहाड़ियों के बीच स्थापित माँ रमईपाठ - गादी माँ का दर्शन और बताएंगे यहां के अद्धभुत रहस्य.. देखिये संवाददाता शेख इमरान की खास रिपोर्ट । 

16-10-2018
Bhupesh Baghel: पीसीसी चीफ भूपेश बघेल जाएंगे बस्तर, करेंगे मां दंतेश्वरी के दर्शन

रायपुर | प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष भूपेश बघेल मंगलवार रात को बस्तर दौरे पर जा रहे हैं | भूपेश दंतेवाड़ा में माँ दंतेश्वरी के दर्शन करेंगे |  मंगलवार की रात आठ बजे पाटन से कांकेर के लिए रवाना होंगे |  वे रात को ही वहां कांग्रेसजनों से मुलाकात करेंगे | 17 अक्टूबर को वो कोंडागांव, जगदलपुर और दंतेवाड़ा जायेंगे | इस दौरान वे सभी कार्यकर्ताओं से मुलाकात भी करेंगे |

इससे पहले भी भूपेश बघेल बस्तर दौरे पर गए थे, लेकिन अचानक उनकी तबियत खबर हो जाने के कारण वे बीच में ही लौट आए थे | इन दिनों कांग्रेस के नेता मंदिरों के दर्शन लगातार कर रहे हैं | इससे पहले प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया, भूपेश बघेल और चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष चरणदास महंत भी डोंगरगढ़ मां बम्लेश्वरी के दर्शन करने गए थे |

16-10-2018
BJP: उम्मीदवार चयन के लिए मुख्यमंत्री निवास में बैठक, उम्रदराज मंत्रियों को भी चुनावी मैदान में उतारेगी बीजेपी

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी टिकटों के मंथन को लेकर मुख्यमंत्री निवास में हुई अहम बैठक में मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में उम्र के क्राइटेरिया को दरकिनार कर उम्रदराज मंत्रियों को चुनावी मैदान में फिर से उतारने फैसला लिया गया।

बैठक के दौरान चुनाव अभियान समिति के संयोजक नरेंद्र सिंह तोमर और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बीच लंबी चर्चा हुई। इस दौरान उम्रदराज मंत्रियों को चुनाव लड़ाने पर सहमति बनी। बीजेपी मंत्रियों के बेटे-बेटियों के बजाय मंत्रियों को ही चुनावी मैदान में उतारेगी। बैठक में वित्त मंत्री जयंत मलैया से हुई भी हुई चर्चा। सीएम हाउस में ये बैठक एक घंटे तक चली।

बता दें कि पहले ये कहा जा रहा था कि भाजपा चुनाव में उम्रदराज नेता-मंत्रियों को टिकट नहीं देगी, लेकिन आज की बैठक में लिए गए फैसले को देखकर माना जा रहा है कि चुनाव जीतने के लिए पार्टी ने पूर्व में तय किए गए क्राइटेरिया को दरकिनार कर दिया है। मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को मतदान होना है।

Please Wait... News Loading
GLIBS Ads
Visitor No.