GLIBS
21-05-2019
कल ऐसा क्या खास है कि शिमला में लगेगा सुंदरियों का जमावड़ा

 

शिमला। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में बुधवार को मिस्टर और मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता के लिए ऑडिशंस लिए जाएंगे। इसके लिए पूरे प्रदेशभर से युवतियां शामिल हो सकती हैं। जानकारी के अनुसार वीएनएन एंटरटेनमेंट की ओर से इस ईवेंट का आयोजन करवाया जा रहा है, ताकि हिमाचल की युवतियों को मौका मिल सके। छोटा शिमला के क्यू कैफे में इस प्रतियोगिता के लिए ऑडिशंस होंगे और सुबह दस बजे से एक बजे तक ये ऑडिशंस होंगे। शिमला की डॉक्टर वंदना ठाकुर ने बताया कि हिमाचल की युवतियों के लिए अपने टैलेंट दिखाने का यह बहतरीन मौका है। बता दें कि वह हिमाचल से पहली महिला है, जिसने इस खिताब पर कब्जा किया था। वंदना ने बताया कि वह इस प्रतियोगिता के लिए होने वाले ऑडिशंस में जज होंगी। 

21-05-2019
फसल अवशेष जलाने वाले 255 किसानों से वसूला जाएगा जुर्माना

फतेहाबाद। फतेहाबाद में गेंहू के अवशेष जलाने वाले 255 किसानों  से जुर्माना वसूला जाएगा। फतेहाबाद के उपायुक्त धीरेंद्र खडग़टा ने बताया कि जिले में गेहूं के अवशेष जलाने वाले 255 किसानों की पहचान की गई है। किसानों का राजस्व विभाग द्वारा वैरिफिकेशन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एनजीटी के आदेशों के अनुसार ऐसे किसानों को नोटिस जारी कर जुर्माना किया जाएगा, अगर कोई किसान जुर्माना अदा नहीं करता है तो उसके खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा। उपायुक्त ने बताया कि जिले में कोई फसल के अवशेष न जलाएं, इसके लिए अधिकारी गांव-गांव जाकर जनता को फसल अवशेषों के जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में जानकारी देकर उन्हें जागरूक किया गया है। उन्होंने कहा कि जिले के किसान समझदार जरूर है, पर आधुनिक तकनीक के प्रयोग और उसकी आमदनी के अनुपात में बुआई का कम समय होने के कारण वे पाप के भागीदार बनते हैं। किसानों को यह भी अवगत करवाया गया है कि फसल अवशेषों को आग के हवाले करने से कीट, खरगोश, सांप, गिलहरी इत्यादि विभिन्न प्रकार के पक्षियों के बच्चे एवं बेकसूर वन्यप्राणी मारे जाते हैं, जिससे आग जलाने वाला किसान पाप का भागी बनता है। जहां आग लगाते हैं, वहां भूमि की उर्वरा शक्ति नष्ट हो जाती है। उपायुक्त ने कहा कि फसल अवशेषों को जलाना कानूनी अपराध तो है ही साथ ही सामाजिक बुराई भी है। उन्होंने कहा कि आग के धुंए के कारण विभिन्न प्रकार की दुर्घटनाएं हो जाती हैं। हर व्यक्ति को सांस लेने में दिक्कत आती है। पर्यावरण को खतरा पैदा होता है। विभिन्न प्रकार की बीमारियों के नागरिक शिकार हो जाते हैं।

 

21-05-2019
मुनाफावसूली के दबाव में लुढ़का शेयर बाजार

मुम्बई । विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच टाटा मोटर्स और मारुति सुजुकी में हुई भारी बिकवाली तथा मुनाफावसूली के दबाव में मंगलवार को बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 382.87 अंक की गिरावट में 39,000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे लुढ़ककर 38,969.80 अंक पर बंद हुआ। इस दौरान नेशनल स्टाॅक एक्सचेंज का निफ्टी भी 119.15 अंक की गिरावट में 11,709.10 अंक पर रहा।
सेंसेक्स बढ़त के साथ 39,449.45 अंक पर खुला। यह कारोबार के शुरुआती पहर में 39,571.73 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। इसके बाद बाजार में मुनाफावसूली हावी हो गयी। टाटा मोटर्स के कमजोर वित्तीय परिणाम तथा मारुति सुजुकी के भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग के जांच के दायरे में आने की खबरों से दोनों कंपनियों में तेज बिकवाली शुरू हो गयी। इन सबके बीच सेंसेक्स 38,884.8 5अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.97 प्रतिशत की गिरावट में 38,969.80 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 27 कंपनियां लाल निशान में रहीं और मात्र तीन कंपनियां हरे निशान में रहीं।
निफ्टी भी छलांग लगाकर 11,863.65 अंक पर खुला । कारोबार के दौरान 11,883.55 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,682.80 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 1.01 प्रतिशत की गिरावट में 11,709.10 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 43 कंपनियां गिरावट में और मात्र सात तेजी में रहीं।
दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मँझाेली कंपनियाें में भी बिकवाली हावी रही। बीएसई का मिडकैप 0.84 प्रतिशत यानी 124.02 अंक की गिरावट में 14,695.42 अंक पर और स्मॉलकैप 0.61 प्रतिशत यानी 87.96 अंक की गिरावट में 14,292.55 अंक पर बंद हुआ।
बीएसई में कुल 2,712 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 975 में तेजी और 1,583 में गिरावट रही जबकि 154 कंपनियों के शेयरों के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ।

21-05-2019
CH / NEWS
04:50pm

रायपुर 23 मई को हिंदुस्तान के कौन बनेगा प्रधान सेवक, क्या भूमिका अदा कर लोगो के बीच सत्ता में फिर आएगा मोदी सरकार? एक नया मोड़ एक्जिट पोल को लेकर राजधानी के लोगो ने अपना राय रखते हुए कहा कि इस बार मोदी सरकार फिर से लेकिन फैसला आने में अभी देर है। जिसको लेकर राजधानी के जनता की मुह जुबानी, क्या कहते है रायपुर वासी....

21-05-2019
 फायर कर लूट की वारदात को अंजाम देने वाला फरार आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी के न्यू राजेंद्र नगर, डीडी नगर थाना व दुर्ग जिले में लूट के वारदात को अंजाम देने वाले फरार आरोपी को पुलिस टीम ने उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है।
मामले का खुलासा करते हुए एडिशनल एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि डीडीनगर थाना क्षेत्र में लूट के वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपी देवी प्रसाद बसोर एवं मनीष बसोर को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया है। वही मामले में शामिल आरोपी जावेद अहमद (27) निवासी मन्धाता प्रतापगढ़ से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से 1 नग कट्टा और 2 नग राउंड जब्त किया है। बताया जाता है कि आरोपी जावेद अहमद शहर के न्यू राजेंद्र नगर और डीडी नगर थाना क्षेत्र में लूट के वारदात में शामिल था। वही जावेद अहमद ने भिलाई दुर्ग में भी पिस्टल से फायर कर कैशियर से लूटपाट किया था। पुलिस ने आरोपी देवीप्रसाद और मनीष से पूछताछ करने के बाद टीम का गठन कर प्रतापगढ़ गए थे। जहाँ से पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस मामले में आरोपी को रिमांड में लेकर पूछताछ करेगी। इससे और भी मामले का खुलासा हो सकता है।

21-05-2019
महिला अधिकारी के घर लोकायुक्त ने मारा छापा, मिली करोड़ों की संपत्ति और लग्जरी वाहन

इंदौर। लोकायुक्त ने इंदौर मंगलवार को एक सरकारी कर्मचारी के घर छापामार कार्यवाही की। लोकायुक्त की टीम ने उषागंज छावनी में सहायक वाणिज्यिककर अधिकारी कोमल बाली के घर छापा मारा कर महत्वपूर्ण दस्तावेज, नगद, सोना, कई लक्जरी वाहन औऱ बैक लॉकर्स बरामद किए। छापे में करोड़ों की संपत्ति का खुलासा होने की संभावना है। आरोपी पक्ष से अपने निवास के पास ही मकान क्रय करने की जानकारी भी मिली है, जिस के संबंध में आवश्यक जानकारी एकत्र की जा रही है। सर्च के दौरान टीम को उक्त भवन के अलावा और कई भवन, प्रॉपर्टी तथा फार्म हाउस होने की पुख्ता जानकारी मिली है। 
मिली जानकारी के अनुसार अब तक टीम को संयोगितागंज क्षेत्र में दो मकान, देव गुराडिया क्षेत्र में एक फॉर्म हाउस, घर पर 49 हजार कैश, लगभग 2 किलो सोना, कई लग्जरी गाड़ियां और बैंक लॉकर्स मिले हैं। छापे की कार्रवाई में लोकायुक्त के 35 अधिकारियों की ओर से तीन स्थानों पर कार्यवाही की गई। सूत्रों के अनुसार आगामी जांच में करोड़ों की सम्पत्ति मिलने की सम्भावना है। 
बताया जा रहा है कि ये महिला अफसर 2006 से इंदौर में पदस्थ हैं। 2006 से अगर उनकी तनख्वाह जोड़ी जाए तो तकरीबन 35 लाख रुपए आय निकालती है। लेकिन उनके पास करोड़ों की संपत्ति मिली है। महिला अफसर के पति भाजपा की शहर कार्यकारिणी के सदस्य हैं। उन्होंने छापे की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए इसे राजनीतिक करार दिया है।

21-05-2019
सुनील जोशी हत्याकांड की फिर खुलेगी फाइल, प्रज्ञा ठाकुर की बढ़ेंगी मुश्किलें 

 

भोपाल। मध्यप्रदेश जनसंपर्क एवं विधि मंत्री पीसी शर्मा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया है कि सुनील जोशी हत्याकांड में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की भूमिका की जांच के लिए बंद हो चुकी फाइल दोबारा खोली जाएगी। बता दें कि इससे भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। पीसी शर्मा ने कहा कि मैं प्रज्ञा को साध्वी कभी नहीं कहूंगा क्योंकि उन्होंने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे और शहीद हेमंत करकरे को देशद्रोही कहा है। इन बयानों से लगता है कि उस हत्याकांड में उनका हाथ था। बता दें कि 29 दिसंबर 2007 को मध्यप्रदेश के देवास में सुनील जोशी की हत्या हुई थी। प्रज्ञा सहित सभी आठ आरोपियों को एक फरवरी 2017 को एनआईए की अदालत ने बरी कर दिया था। कमलनाथ सरकार ने देवास के जिला कलेक्टर से सुनील जोशी मामले की रिपोर्ट मांगी है। रिपार्ट में पूछा गया है कि आरएसएस के प्रचारक जोशी की हत्या में प्रज्ञा के खिलाफ  मामला दर्ज क्यों नहीं किया गया है? जबकि पीडि़ता इसकी शिकायत कर चुकी है। शर्मा  ने कहा कि हम  प्रज्ञा के बरी किए जाने के खिलाफ  उच्च अदालत में जाने पर विचार कर रहे हैं। बता दें कि यह मामला 2011 में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंपा गया था ताकि देश में उस वक्त कथित 'भगवा आतंकवाद' के आरोपों की जांच की जा सकें। इस मामलें में प्रज्ञा ठाकुर सहित हर्षद सोलंकी, रामचरण पटेल, वासुदेव परमार, आनंदराज कटारिया, लोकेश शर्मा, राजेंद्र चौधरी और जितेंद्र शर्मा को आरोपी बनाया गया था। इन पर हत्या, साक्ष्य छुपाने और आम्र्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। सुनील जोशी की हत्या साल 2007 में देवास में हुई थी। उनका नाम मक्का मस्जिद, समझौता धमाके और मालेगांव धमाके में आया था। 23 अक्तूबर 2008 को देवास पुलिस ने प्रज्ञा ठाकुर और अन्य आरोपियों को इस मामले में गिरफ्तार किया था। हालांकि बाद में एसपी के आदेश पर 25 मार्च 2009 को यह मामला बंद कर दिया गया था।

21-05-2019
एनपीपी विधायक तिरोंग अबो समेत परिवार के सात लोगों का कत्ल

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश में एनपीपी विधायक तिरोंग अबो और परिवार के 6 अन्य लोगों की एक हमले में मौत हो गई है। घटना अरुणाचल प्रदेश में तिरप जिले के बोगापानी गांव में हुई। जहां हमलावरों ने विधायक तिरोंग अबो समेत सात लोगों की हत्या कर दी। मेघालय के सीएम कोनराड संगमा ने हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है। कोनराड संगमा ने कहा कि अरुणाचल के विधायक तिरोंग अबो और उनके परिवार की मौत की खबर से एनपीपी बेहद स्तब्ध और दुखी है। हम क्रूर हमले की निंदा करते हैं और गृह मंत्री राजनाथ सिंह और पीएम मोदी से ऐसे हमले के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ  कार्रवाई करने का आग्रह करते हैं। अंदाजा लगाया जा रहा है कि हमला संदिग्ध नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड के आतंकियों द्वारा किया गया है। बता दें कि नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ  नागालैंड एक नागा विद्रोही समूह है।

21-05-2019
पहली से लेकर आठवीं तक के रिजल्ट में गोलमोल जवाब देकर बच रहे अधिकारी

रायपुर। प्रदेश में इस वर्ष कक्षा पहली से लेकर आठवी तक बोर्ड कर दिया गया था। बोर्ड के तर्ज पर परीक्षा तो ले ली गई। लेकिन रिजल्ट घोषित करने के लिए शिक्षा अधिकारी गोल मोल जवाब दे और अपने को बचाने में लगे हुए है। वही स्कूल शिक्षा विभाग के बड़े अधिकारी नाम न बताने के शर्त में बताया कि दूसरे जिले के कॉपी चेक होने में देर हो रही है, जिसकी वजह से रिजल्ट घोषित करने में कुछ वक्त और लग सकता है। रायपुर के शिक्षा अधिकारी जीआर चन्द्राकर का कहना है छत्तीसगढ़ के सभी बच्चों का प्रश्न सहित आकंलन किया जा रहा है। उन बच्चों को प्रोत्साहित करने व आने वाले भविष्य में अच्छे अंकों से पास होने के लिए प्रोत्साहित करने को तैयारी की जा रही है।
आप को बता दें कि स्कूल शिक्षा विभाग 20 मई को पहली से लेकर आठवीं तक के बच्चों के रिजल्ट घोषित करने वाले थे लेकिन अभी तक कॉपी चेक नही होने के कारण रिजल्ट कुछ दिनों बाद घोषित किया जाएगा।

21-05-2019
भाजपा जीती तो जा सकती है कर्नाटक और एमपी सरकार!

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के एग्जिट पोल में एनडीए को मिल रहे पूर्ण बहुमत के बाद ही मध्यप्रदेश और कर्नाटक की सियासत में उठापटक का दौर शुरू हो गया है। 23 मई को आने वाले नतीजों में माना जा रहा है कि एनडीए की सरकार बनने जा रही है। नतीजों के ठीक पहले ही मध्यप्रदेश और कर्नाटक की गठबंधन सरकारों पर तलवारें लटकने लगी हैं। कर्नाटक में जनता दल सेक्युलर और कांग्रेस की सरकार पर खतरा मंडराने लगा है। बदलते सियासी समीकरण के बीच राज्य के सीएम एचडी कुमारस्वामी की दिल्ली की यात्रा रद्द हो गई। वहीं कांग्रेस नेता रोशन बेग ने बगावती तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। उन्होंने कर्नाटक कांग्रेस के प्रभारी केसी वेणुगोपाल को अपशब्द कह डाला। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि मुझे तो राहुल गांधी पर तरस आता है। एग्जिट पोल के नतीजों पर कहा कि ये वेणुगोपाल और सिद्धारमैया के घंमड का फ्लॉप शो है। बेग ने पूर्व सीएम सिद्धारमैया की आलोचना करते हुए् कहा कि वो खुद नहीं चाहते हैं कि सरकार ज्यादा दिन चले। वो कुमारस्वामी को सीएम की कुर्सी पर नहीं देखना चाहते हैं। कुमारस्वामी को काम तक करने नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसी ईसाई को कांग्रेस ने एक भी सीट नहीं दी, जबकि मुस्लिम को केवल एक सीट कर्नाटक में मिली है। मैं बेहद ही आहत हूं कि हमारा इस्तेमाल किया गया है। बता दें कि 225 विधानसभा वाले कर्नाटक में भाजपा के पास 104 सीट हैं, जबकि जेडीएस के पास 37 और कांग्रेस के पास 78 सीट हैं। एक बसपा का विधायक भी कांग्रेस जेडीएस के सरकार के साथ है। बहुमत के लिए 112 सीटों की जरूरत होती है। 

 

21-05-2019
शोपियां में आतंकियों से मुठभेड़ जारी, तीन आतंकी घेरे में

जम्मू। दक्षिण कश्मीर के शोपियां के यारवां के वन क्षेत्र में आतंकवादियों और सेना की संयुक्त टीम के बीच मुठभेड़ चल रही है। सुरक्षा बलों ने दो से तीन आतंकियों को घेर लिया है। सुरक्षा बलों ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रखा है। बताया जा रहा है कि दो से तीन आतंकवादी घिर गए हैं। फिलहाल आतंकियों की तलाश जारी है। इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के शोपियां पुलिस थाने पर सोमवार की रात आतंकियों ने ग्रेनेड हमला किया। ग्रेनेड थाने की बाउंड्री से गिरकर फट गया। इसमें किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ है। एसएसपी संदीप चौधरी ने बताया कि इसमें किसी प्रकार की जान माल का नुकसान नहीं हुआ है। हमले के तत्काल बाद इलाके की घेराबंदी कर सर्च आपरेशन शुरू कर दिया गया। वहीं, दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकियों द्वारा किए गए हमले में गंभीर रूप से घायल पीडीपी कार्यकर्ता मोहम्मद जमाल भट (65) ने श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस  में दम तोड़ दिया। जमाल पर रविवार शाम को आतंकियों ने कुलगाम के जंगलपोरा स्थित उसके घर में दाखिल होकर उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग की जिसमें उसे कई गोलियां लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। 

21-05-2019
इथियोपिया में डिनर के लिए हर शख्स को चुकाने पड़े 1 करोड़ साढ़े 21 लाख 

नई दिल्ली। इथियोपिया के प्रधानमंत्री अबी अहमद ने एक आलीशान फंड रेजर डिनर पार्टी का आयोजन किया। देश के कई धनकुबेरों ने इस पार्टी में शिरकत की। एक रिपोर्ट के मुताबिक इस डिनर पार्टी का हिस्सा बनने के लिए हर शख्स ने 1 करोड़ साढ़े 21 लाख के करीब रुपए दिए। इस डिनर पार्टी से इक_ा हुए फंंड का इस्तेमाल राजधानी अदिस अबाबा के सौंदर्यीकरण के लिए किया जाएगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस इवेंट में एक सीट की कीमत 1 करोड़ साढ़े 21 लाख रुपए थी। राजधानी के सौंदर्यीकरण और उसकी छवि सुधारने के लिए तीन साल का एक प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। डिनर पार्टी से इक_ा की गई राशि को इस प्रोजेक्ट में खर्च किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट के तहत शहर में पार्क, साइकिल पथ, नदी के किनारे पैदल पथ, पेड़-पौधे लगाने और शहर में खेती जैसी चीजें विकसित की जाएंगी। इस प्रोजेक्ट पर एक बिलियन डॉलर यानी 100 करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान है। हालांकि ये पता नहीं चला है कि कितने लोग इस डिनर में शामिल हुए थे। बता दें कि पिछले साल अप्रैल में प्रधानमंत्री बनने के बाद से अबी अहमद को उनके सुधारवादी एजेंडे के लिए काफी सराहना भी मिल रही है। इथियोपिया की आबादी 10 करोड़ है और नाइजीरिया के बाद अफ्रीका महाद्वीप का ये दूसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है। इस क्षेत्र में सबसे अधिक तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था इथियोपिया की ही है। हालांकि ये दुनिया के सबसे गरीब देशों में शामिल है। वल्र्ड बैंक के मुताबिक यहां की औसत सालाना आय 55 हजार रुपए के करीब है। 

Please Wait... News Loading
GLIBS Ads