Business

RBI ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर लगाई रोक, ग्राहकों पर इससे क्या होगा असर?

Share

RBI Paytm Action: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने Paytm की बैंकिंग शाखा पेटीएम पेमेंट्स बैंक (PPBL) में नए ग्राहक जोड़ने पर रोक लगा दी है. RBI ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर नियमों का पालन नहीं करने के चलते बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट के तहत यह कार्रवाई की है.

इसके साथ ही 29 फरवरी के बाद मौजूदा ग्राहकों के अकाउंट में अमाउंट ऐड करने पर रोक लगाई है. इस आदेश के बाद पेटीएम पेमेंट बैंक में नया क्रेडिट/डिपॉजिट ट्रांजेक्शन नहीं होगा. वहीं 29 फरवरी के बाद पेटीएम पेमेंट बैंक बैंकिंग सर्विस भी नहीं दे पाएगा. पेटीएम बैंक बंद होने से इसके ग्राहकों के अकाउंट और बैलेंस पर क्या असर होगा? आइए जानते हैं.

अगर आपके पेटीएम वॉलेट, पेमेंट्स बैंक अकाउंट, फास्टैग आदि में कोई बैलेंस है, तो आप उस राशि को बिना किसी प्रतिबंध के निकाल या उपयोग कर पाएंगे जो आपके पास बैलेंस के रूप में है.

29 फरवरी के बाद, आप अपने पेटीएम वॉलेट, पेमेंट्स बैंक अकाउंट, FASTags, नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (NCMC) में पैसे नहीं जोड़ पाएंगे या टॉप अप नहीं कर पाएंगे.

हालाँकि, ब्याज, कैशबैक या रिफंड किसी भी समय आपके खातों, वॉलेट में जमा किया जा सकता है.

29 फरवरी के बाद आप पेटीएम पेमेंट्स बैंक से बैंकिंग संबंधी किसी भी सेवा का लाभ नहीं उठा पाएंगे. इसमें फंड ट्रांसफर और यूपीआई सुविधा शामिल है.

29 फरवरी 2024 के बाद पेटीएम लोन सेवा बंद हो जाएगी. इसका मतलब है कि आप पेटीएम ऐप का इस्तेमाल करके लोन नहीं ले पाएंगे.

बता दें कि आरबीआई के रोक लगाने के बाद पेटीएम की तरफ से बयान जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि सबसे खराब स्थिति में इस फैसले से उसके वार्षिक EBITDA पर 300-500 करोड़ रुपये का असर पड़ेगा, लेकिन पेटीएम अपनी प्रॉफिटेबिलिटी में सुधार के लिए कोशिश जारी रखेगा.

इस बीच, ब्रोकरेज फर्म जेफ़रीज़ ने पेटीएम पर अपनी रेटिंग को “buy” की पिछली रेटिंग से घटाकर “underperform” कर दिया है. ब्रोकरेज ने स्टॉक पर अपना प्राइस टारगेट भी पहले के 1,050 रुपये से घटाकर 500 रुपये कर दिया है.

GLIBS WhatsApp Group
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button