Chhattisgarh

CG Budget Session : बजट सत्र के चौथे दिन सदन में गूंजा महादेव सट्टा एप का मामला

Share

CG Budget Session : छत्तीसगढ़ विधानसभा में बजट सत्र के चौथे दिन प्रश्नकाल के दौरान महादेव सट्टा ऐप घोटाले का मामला लंबे वक्त गूंजता रहा। वरिष्ठ BJP विधायक राजेश मूणत ने पूछा- महादेव सट्टा ऐप के संबंध में किसके द्वारा कब शिकायत की गई। शिकायतों पर क्या कार्रवाई की गई, यदि नहीं की गई तो क्यों। राजेश मूणत ने इस मामले में FIR के संबंध में भी जानकारी मांगी।

अपनी ही पार्टी के विधायक के सवाल का जवाब देते हुए गृहमंत्री और डिप्टी सीएम विजय शर्मा ने कहा कि, जनवरी 2020 से नवंबर 2023 तक प्रदेश में महादेव सट्टा ऐप की 28 शिकायतें मिलीं। इस मामले में कुल 90 अपराध पंजीबद्ध किए गए। इस पर राजेश मूणत ने कहा- यह सरकार के संज्ञान में कब आया? पूर्ववर्ती सरकार ने नौजवानों को गलत काम में लगाने का काम किया। पूरे प्रदेश में युवाओं को ठगने का काम किया।

जवाब देते हुए उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा ने बताया कि, महादेव सट्टा ऐप को लेकर 90 मामले दर्ज किए गए हैं। प्रदेश के अलग-अलग शहरों में ये मामले दर्ज किए गए हैं।
महादेव ऐप के संबंध में 54 मामलों में चालान प्रस्तुत किए जा चुके हैं। श्री शर्मा ने बताया कि, दुबई में छत्तीसगढ़ के कुछ लोग हैं जो इसे संचालित कर रहे हैं। सरकार ने लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया है। रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया गया है। दुबई से उनके प्रत्यर्पण की कार्रवाई चल रही है। श्री शर्मा ने बताया कि, 507 बैंक अकाउंट चिन्हित किए गए हैं, इसमें 221 फ्रिज किया जा चुके हैं। 216 करोड़ की राशि भी फ्रीज की जा चुकी है। इनमें से
दुर्ग में 436 बैंक अकाउंट, सूरजपुर में 38 बैंक अकाउंट, जांजगीर में 5 बैंक अकाउंट फ्रीज किए गए हैं।

शर्मा ने बताया – इस मामले में सरकारी महकमें के लोगों पर भी कार्रवाई की गई है।
मामले में किसी के भी दबाव में आए बगैर सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने सदन को आश्वस्त किया कि, कोई भी जानकारी सामने आएगी तो एक घंटे में फैसला लेंगे। कुछ बाराती चार्टर प्लेन से दुबई गए थे उनके संबंध में भी जानकारी जुटाई जा रही है। हर किसी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

GLIBS WhatsApp Group
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button