GLIBS

27-01-2020
विश्वास, विकास, एवं सुरक्षा सरकार का मूल मंत्र : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि राजनीति का उद्देश्य आम जनता की तकलीफों को दूर करने, उनके सुख-दुख में सहभागी बनने एवं सेवा माध्यम होना चाहिए। उन्होंने कहा कि विश्वास, विकास एवं सुरक्षा छत्तीसगढ़ सरकार का मूल मंत्र है। हमारी सरकार इस दिशा में निरतंर कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री बघेल अपने जगदलपुर के प्रवास के दौरान 25 जनवरी को रात्रि में पुलिस कोआर्डिनेशन सेन्टर लालबाग का लोकार्पण किया और ’मावा बस्तर बेरसिंता बस्तर’ कार्यक्रम में विद्यार्थियों से रू-ब-रू हुए और उनके प्रश्नों का जवाब भी दिए।

कार्यक्रम के दौरान नारायणपुर जिले के बुधराम के प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि नेता बनने के लिए व्यक्ति को आम जनता से सतत एवं जीवंत संपर्क स्थापित कर उनके समस्याओं के निराकरण के लिए सदैव प्रयत्नशील रहना चाहिए। बीजापुर जिले की कुमारी सरीता के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि विद्यार्थी जीवन के दौरान वे भी अपने शिक्षकों से खूब डांट खाई है। ऐसा कोई भी विद्यार्थी नहीं होगा जो अपने शिक्षकों से डांट न खाया हो। विद्यार्थियों के साथ हुए सवाल-जवाब के कार्यक्रम में उन्होंने पूरी संजिदगी देते हुए विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं का समाधान किया और छत्तीसगढ़ सरकार के विजन को भी स्पष्ट किया। इस दौरान उन्होंने अपने विद्यार्थी जीवन के रोचक संस्मरण भी सुनाएं।
विद्यार्थियों से सवाल-जवाब के दौरान मुख्यमंत्री ने आदिवासी बच्चों को शिक्षा पूरी होने के बाद उनके लिए रोजगार तथा स्वरोजगार की पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए गए कदमों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा कनष्ठि चयन बोर्ड के माध्यम से तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के पदों पर बस्तर एवं सरगुजा संभाग में स्थानीय लोगों की भर्ती की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। इसके अलावा युवाओं को स्थानीय परिवेश एवं आवश्यकताओं के अनुसार स्वरोजगार उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। 

भूपेश बघेल ने कहा कि संविधान निर्माता डॉ.बाबा सहाब अम्बेडकर के अथक प्रयासों से हमें दुनिया का सर्वश्रेष्ठ एवं लिखित संविधान प्राप्त हुआ है। दुनिया के बहुत कम देशों के पास लिखित संविधान है। उन्होंने कहा कि स्कूली बच्चों को संविधान की जानकारी देने के लिए सभी स्कूलों में भारतीय संविधान के प्रस्तावनों को अनिवार्य रूप से पढ़ाया जाएगा। हम सभी को संविधान की जानकारी अनिवार्य रूप से होनी चाहिए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्कूली बच्चों के साथ भोजन भी किया और देशभक्तिपूर्ण गीतों की प्रस्तुति पर बच्चों के साथ शामिल हुए। इस अवसर पर विधायक जगदलपुर रेखचंद जैन, विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम भी उपस्थित थे।

 

27-01-2020
पेंशन कर्मचारी कल्याण संघ मिला विधायक से, बताई अपनी समस्या

कोटा। पेंड्रा क्षेत्र में कोटा विधायक रेणु जोगी का आगमन गणतंत्र दिवस के उपलक्ष में हुआ। यहां छत्तीसगढ़ अंशदायी पेंशन कर्मचारी कल्याण संघ के जिला सदस्यां ने पीयूष कुमार गुप्ता की अध्यक्षता में विधायक से भेंट की। उन्हें पुरानी पेंशन बहाल करने एवं अन्य समस्याओं से अवगत कराया तथा साथ ही विधानसभा सत्र में इस प्रश्न को प्रमुखता से उठाने के लिए गुहार भी लगाई। इस दौरान प्रमुख रूप से स्वास्थ्य विभाग,शिक्षा विभाग एवं वन विभाग के कर्मचारी  उपस्थित थे। कर्मचारियों की दल के द्वारा अपनी समस्त समस्याओं को विधायक से अवगत कराया गया। रेणु जोगी के द्वारा कर्मचारी दल को आश्वस्त कराया गया कि यह मांग विधानसभा से लेकर संसद तक उठाने में हम आपके साथ हैं। विधायक रेणु जोगी से भेंट करने वालों में राहुल जायसवाल,हनीफ खान,राजकुमार साहू,ओमप्रकाश सोनवानी,अजय चौधरी,विनय तिवारी,सत्यनारायण जायसवाल,जितेंद्र शुक्ला,संजय नामदेव,मनीष गुप्ता,रश्मि नामदेव,अदिति, जरीना खान,उर्मिला गुप्ता शर्मा, निशा पांडे, विभा सोलंकी, राजेश सोनी, वासुदेव,संजय सोनी,कृपाशंकर परिहार,राजेश चौधरी सहित तीनों विभाग के कर्मचारी उपस्थित थे।

 

 

27-01-2020
मध्‍य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक 28 जनवरी को, अमित शाह करेंगे अध्यक्षता

रायपुर। मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22 वीं बैठक 28 जनवरी को अटल नगर नया रायपुर में आयोजित की जा रही है। इस बैठक की अध्‍यक्षता केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करेंगे और बतौर मेजबान छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल उपाध्‍यक्ष होंगे। बैठक में मध्य क्षेत्रीय परिषद में शामिल छत्तीसगढ़ सहित उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री, इन राज्यों के दो-दो मंत्री, मुख्य सचिव तथा केन्‍द्र और राज्‍य सरकारों के वरिष्ठ विभागीय अधिकारी शामिल होंगे। मध्य क्षेत्रीय परिषद की अंतिम बैठक 24 सितंबर 2018 को लखनऊ (उत्‍तर प्रदेश) में आयोजित की गई थी। वर्ष 1957 में राज्य पुर्नगठन अधिनियम,1956 की धारा 15-22 के तहत पांच क्षेत्रीय परिषदों की स्थापना की गई थी। केंद्रीय गृह मंत्री इन पांचों क्षेत्रीय परिषदों के अध्यक्ष और मेजबान राज्य के मुख्यमंत्री (हर साल बारी-बारी से चुना जाता है) उपाध्यक्ष होते हैं। प्रत्येक राज्य के दो और मंत्रियों को राज्यपाल द्वारा सदस्य के रूप में नामित किया जाता है। परिषद, केंद्र और सदस्य राज्यों से संबंधित मुद्दों को उठाती है। क्षेत्रीय परिषद, केंद्र और राज्यों के बीच और क्षेत्र के कई राज्यों के बीच विवादों और समस्‍याओं को हल करने के लिए एक मंच प्रदान करता है। क्षेत्रीय परिषद में व्यापक मुद्दों पर चर्चा की जाती है,जिसमें राज्‍यों की सीमा से संबंधित विवाद, सुरक्षा, बुनियादी ढांचा से संबंधित मामले जैसे सड़क,परिवहन,उद्योग,जल और बिजली, वन और पर्यावरण से संबंधित मामले, आवास, शिक्षा, खाद्य सुरक्षा, पर्यटन, परिवहन आदि शामिल हैं। 

 

27-01-2020
भाजपा आरएसएस का मुखौटा मात्र : त्रिवेदी

रायपुर। भाजपा की मदद के लिए आरएसएस को आगे आने के लिए कहे जाने पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा,आरएसएस का मुखौटा मात्र है। आरएसएस स्वयं को गैर राजनैतिक संगठन कहता है लेकिन वास्तव में भाजपा, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जैसी संस्थाएं आरएसएस की अनुषांगिक संगठन ही हैं।भाजपा के माध्यम से आरएसएस लगातार राजनीति में सक्रिय रहता है और सांप्रदायिक सदभाव को नुकसान पहुंचाने में लगा रहता है। विपरीत और विस्फोट परिस्थितियों में भी छत्तीसगढ़ हमेशा पूरे देश में सद्भावना का टापू रहा है और आरएसएस की सक्रिय होने से सरकार को और ज्यादा सचेत रहने की आवश्यकता है। त्रिवेदी ने कहा कि आरएसएस हमेशा चुनाव में सक्रिय होता है। भाजपा की मदद करता है। लेकिन अभी तो कोई और चुनाव नहीं है और ऐसे समय में यदि आरएसएस को सक्रिय होने के लिये भाजपा कह रही है तो स्वाभाविक रूप से राज्य के भाजपा नेतृत्व और राज्य के भाजपा नेताओं की विफलता के परिणाम स्वरूप आरएसएस को मैदान में उतारना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि हम लोग पहले भी भाजपा और आरएसएस से लड़ते रहे हैं। हम इस लड़ाई को जारी रखेंगे और ज्यादा सावधानी से और ज्यादा तत्परता से हम कांग्रेस के लोग, हम छत्तीसगढ़ के लोग सांप्रदायिक ताकतों से लड़ेंगे।

 

 

27-01-2020
सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे लोगों से बातचीत शुरू करें केन्द्र सरकार : कांग्रेस

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि केन्द्रीय गृहमंत्री का छत्तीसगढ़ आगमन एक बहुत ही महत्वपूर्ण घटना बन सकती है अगर अमित शाह यहां आकर सीएए और एनआरसी पर पुनर्विचार की घोषणा करें। एक बड़े वर्ग में भाजपा सरकार के नागरिकता कानून को लेकर गुस्सा उबल रहा है। अगर देश में भी सीएए और एनआरसी को लेकर आशंकाएं है तो इन आशंकाओं को दूर किया जाना चाहिये। हठधर्मिता से देश नहीं चलाया जा सकता है। किसी भी लोकतांत्रिक सरकार को देश हित में जनभावना को और सबके हितों को दृष्टिगत रखकर ही काम सकती है। आज समय की आवश्यकता है कि केन्द्र सरकार सीएए और एनआरसी के विरोधियों से बातचीत शुरू करें। नागरिकता कानून को लेकर पूरे देशों में हर वर्ग, हर क्षेत्र, हर प्रांत में सबकी आशंकाओं को दूर किया जाना चाहिये। केन्द्र सरकार को भाजपा के राजनैतिक हितों को साधने के अलावा और कुछ भी नहीं सूझ रहा है, जबकि देश हित को सबसे ऊपर रखा जाना चाहिये। केन्द्र सरकार का नागरिकता कानून संविधान के खिलाफ है। केन्द्र सरकार हठधर्मिता छोड़े नागरिकता कानून को लेकर आंदोलनरत लोगों का दमन बंद करें। शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि देश में बेरोजगारी आज चरम पर है। अर्थव्यवस्था मंदी का शिकार है। महंगाई आसमान छू रही है। इन मूल मुद्दों से देश का ध्यान हटाने के लिए मोदी सरकार ने नागरिकता कानून का शिगूफा छोड़कर पूरे देश में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करने की साजिश रची है। अपना हथकंडा सफल ना होते देख भाजपा अब जनसंपर्क अभियान के नाम पर भाई से भाई को लड़ाने, धर्म से धर्म को लड़ाने का अभियान व्यापक रूप में चला रही है।

 

27-01-2020
एनआरसी और सीएए के खिलाफ किया गया विरोध प्रदर्शन

गुना। जिले में पुरुष और महिलाओं ने एनआरसी और सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। लक्ष्मीगंज स्थित संजय स्टेडियम गेट के सामने महिलाओं ने बच्चों को साथ लेकर एनआसी और सीएए का विरोध किया। पोस्टर बैनर लेकर महिलाएं ने इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने पोस्टर पर लिखा कि एनआरसी रद्द करो, सीएए रद्द करो। महिलाओं ने एनआरसी के खिलाफ के नारे लगाए। महिलाओं ने गणतंत्र दिवस के दिन देर रात तक एनआरसी और सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

गुना से राकेश किरार की रिपोर्ट

 

27-01-2020
भाजपा ने की निर्वाचन अधिकारी से शिकायत, लगाया मतदानकर्मियों पर प्रचार का आरोप

बीजापुर। भाजपा ने जिले के मतदानकर्मियों पर कांग्रेस समर्थित प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार करने का आरोप लगाया है। वहीं एक मतदानकर्मी का कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने का ऑडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। पूर्व मंत्री महेश गागड़ा और भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने जिला निर्वाचन अधिकारी से इसकी लिखित शिकायत की है। ज़िला निर्वाचन अधिकारी ने कार्रवाई का आश्वासन दिया।

 

27-01-2020
रविशंकर प्रसाद के बयान पर केजरीवाल का पलटवार, कहा गंदी राजनीति कर रही है भाजपा 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी एक दूसरे पर निशाना साध रही है। शाहीन बाग का मुद्दा विधानसभा चुनाव से पहले हर रोज़ तेज़ी से गर्म हो रहा है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने सोमवार को दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन कर विपक्ष पर जमकर निशाना साधा है, वहीं केजरीवाल ने इसका जवाब देते हुए कहा कि भाजपा शाहीन बाग पर गंदी राजनीति कर रही है और चाहती ही नहीं कि रास्ता खुले। रवि शंकर ने शाहीन बाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर कहा कि यह विरोध नागरिकता कानून का विरोध नहीं है, ये नरेंद्र मोदी का विरोध है। हमने बार-बार बताया कि नागरिकता संशोधन विधेयक किसी की नागरिकता नहीं छिनता। इस देश का हर मुस्लिम नागरिक इज्जत के साथ इस देश में रहता है और रहेगा। लोगों के शांतिपूर्ण बहुमत को दबाने के लिए कुछ लोग शाहीन बाग में यह सब कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह शाहीन बाग का असली चेहरा है और देश के सामने इसे उजागर करना बहुत महत्वपूर्ण है, वहीं कांग्रेस और आप पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले में राहुल गांधी और केजरीवाल, दोनों चुप हैं, लेकिन उनके लोग खूब बोल रहे हैं। मनीष सिसोदिया बोलते हैं कि हम शाहीन बाग के साथ हैं। कांग्रेस के दिग्विजय सिंह और मणिशंकर अय्यर वहां जाकर क्या-क्या बोले हैं वो आप जानते हैं


बता दें कि शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन को लेकर केजरीवाल ने पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा गंदी राजनीति कर रही है। भाजपा नहीं चाहती कि रास्ते खुलें। शाहीन बाग में बंद रास्ते की वजह से लोगों को भारी परेशानी हो रही है। भाजपा के नेताओं को तुरंत शाहीन बाग जाकर बात करनी चाहिए और रास्ता खुलवाना चाहिए।

27-01-2020
छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की मजबूत सरकार, शाह के आने से फर्क नही : मोहम्मद अकबर

रायपुर। गृहमंत्री अमित शाह के रायपुर दौरे पर मंत्री मोहम्मद अकबर ने निशाना साधा है। मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह आ रहे हैं। छत्तीसगढ़ में 69 सीटों वाली कांग्रेस की मजबूत सरकार है भाजपा के किसी भी नेता के आने से प्रदेश में कोई फर्क नही पड़ेगा। भाजपा के साथ अमित शाह 2 घंटे रहें या 4 घंटे कुछ होना नहीं है। शाह के साथ मुख्यमंत्री की चर्चा पर मंत्री अकबर ने कहा कि मीटिंग होगी अलग अलग मुद्दों पर चर्चा होनी है। गौरतलब है कि मध्य क्षेत्रीय परिषद की बैठक 28 जनवरी को रायपुर में होने वाली है। जिसमे शामिल होने अमित शाह के साथ अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री आ रहे हैं। 

27-01-2020
'शाहीन बाग एक विचार बना, यहां रहता है टुकड़े-टुकड़े गैंग’ : रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली। सियासी बयानबाज़ी का अखाड़ा बना राजधानी दिल्ली का शाहीन बाग, नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को लेकर बीजेपी के साथ ही मोदी सरकार के मंत्री भी इस प्रदर्शन पर सवाल उठा रहे हैं। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि शाहीन बाग एक विचार बन गया है और यहां टुकड़े-टुकड़े गैंग रह रहा है। बीजेपी ने सीएए और एनआरसी के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर भी निशाना साधा।


मुस्लिम इज्जत के साथ इस देश में रहते हैं और रहेंगे- बीजेपी


केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ''ये विरोध सीएए का विरोध नहीं है, ये नरेन्द्र मोदी जी का विरोध है। हमने बार-बार बताया कि नागरिकता संशोधन विधेयक किसी कि नागरिकता नहीं छिनता. इस देश का हर मुस्लिम नागरिक इज्जत के साथ इस देश में रहता है और रहेगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘’राहुल गांधी, केजरीवाल खामोश हैं, लेकिन उनके लोग खूब बोल रहे हैं। मनीष सिसोदिया बोलते हैं हम शाहीन बाग के साथ हैं। कांग्रेस के दिग्विजय सिंह और मणिशंकर अय्यर वहां जाकर क्या-क्या बोले हैं वो आप जानते हैं।’’ ये विरोध सीएए का विरोध नहीं है, ये नरेन्द्र मोदी जी का विरोध है। हमने बार-बार बताया कि नागरिकता संशोधन विधेयक किसी कि नागरिकता नहीं छिनता।
 

27-01-2020
पहले चरण की वोटिंग कल, मतदान दलों को किया गया रवाना

मुंगेली। कल होने वाले पंचायत चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिए मतदान दलों को रवाना किया गया। जिले में 3 चरणों मे मतदान किया जाना है, जिसमे पहले चरण में 28 जनवरी को मुंगेली ब्लाक में, दूसरे चरण में 31 जनवरी को पथरिया में और तीसरे चरण में 3 फरवरी लोरमी ब्लाक में मतदान किया जाना है।मुंगेली ब्लाक में होने वाले चुनावों के लिये सामग्रियों का वितरण स्थानीय बी आर साव स्कूल से किया गया। जहां सुबह से ही मतदान दल पंडालों में बैठे नजर आए। बता दें कि मुंगेली ब्लॉक के लगभग 124 पंचायतों में कुल 307 मतदान केंद्र बनाये गये है, जिसमे कुल 1लाख 75 हजार मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जिसके लिए लगभग 1800 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है, ताकि शांति पूर्ण मतदान कराया जा सके।

 

27-01-2020
बजट सत्र से पहले 30 जनवरी को सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

नई दिल्ली। 31 जनवरी से शुरू हो रहे बजट सत्र से पहले मोदी सरकार ने 30 जनवरी को संसद के पुस्तकालय भवन में सर्वदलीय बैठक बुलाई है। वहीं इसके एक दिन बाद यानी 31 जनवरी को एनडीए नेताओं की बैठक होगी। इसी दिन अपनी आगामी रणनीति बनाने के लिए भाजपा संसदीय कार्यकारिणी की बैठक भी होगी। उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने 31 जनवरी से संसद के बजट सत्र की बैठक बुलाई है। बजट सत्र के तीन अप्रैल 2020 तक जारी रहने की संभावना है।

एक फरवरी को पेश होगा बजट

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी को केन्द्र सरकार का बजट पेश करेगी और देश की खुशहाली का संकेत देते हुए एक हाथ से जनता को आर्थिक राहत देकर दूसरे हाथ से पैसे निकालेंगी। हालांकि देश के आर्थिक विशेषज्ञों का कहना है कि इस बजट से अभी बहुत उम्मीद न की जाए, क्योंकि सरकार के हाथ बहुत तंग हैं। वहीं भाजपा के नेताओं का कहना है कि मोदी सरकार-2 के सत्ता में आने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का यह बजट काफी अच्छी सौगातें लेकर आएगा।

राष्ट्रपति के अभिभाषण से होगी शुरुआत

परंपरा के अनुसार हर साल संसद का पहला सत्र राष्ट्रपति संबोधित करते हैं। संसद के केन्द्रीय कक्ष में राज्यसभा और लोकसभा के सदस्यों को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति अपनी सरकार के कामकाज, उसकी दशा-दिशा तथा भावी एजेंडे की रुपरेखा रखते हैं। इस बार भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 31 जनवरी को दिन में 11 बजे संसद के संयुक्त सदन को संबोधित करेंगे। राष्ट्रपति का यह अभिभाषण काफी अहम माना जा रहा है।

सीएए और एनपीआर के विरोध में अहम होगा राष्ट्रपति का अभिभाषण

31 जनवरी को राष्ट्रपति का अभिभाषण काफी अहम होगा। गौरतलब है कि केन्द्र सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून-2019 को देश भर में संसद और राष्ट्रपति की मंजूरी मिलने के बाद लागू किया है। इसके साथ-साथ केन्द्र सरकार राष्ट्रीय जनसंख्या पंजीकरण (एनपीआर) और जनसंख्या के सांख्यिकीय आंकड़े जुटाने को मंजूरी दे दी है। यह प्रक्रिया शुरू हो रही है।

 

Please Wait... News Loading