GLIBS

06-07-2020
6 संदिग्ध असामाजिक तत्वों के विरुद्ध की गई प्रतिबंधक कार्यवाही

कोरबा। पुलिस अधीक्षक कोरबा अभिषेक मीना ने अपराध की रोकथाम,अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। इस तारतम्य में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उदय किरण के नेतृत्व एवं नगर पुलिस अधीक्षक राहुलदेव शर्मा के पर्यवेक्षण में कोतवाली पुलिस कोरबा अभियान चलाकर कार्यवाही कर रही है। विश्वस्त सूत्रों से जानकारी मिल रही थी कि अनावेदक दाऊ उर्फ चंद्रशेखर सिदार,रामकुमार मरावी,जय कुमार साकाल,फिरोज खान, हरिशंकर चौहान एवं प्रकाश श्रीवास रात्रि में संदिग्ध अवस्था मे घूमते रहते हैं। शहर में हो रही छिटपुट चोरी की घटनाओं में भी इनका हाथ रहता है। उपरोक्त सूचना पर चौकी प्रभारी सीइसईबी उप निरिक्षक कृष्णा साहू द्वारा अनावेदक गण को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर सभी को असामाजिक गतिविधियों में लिप्त होने का संदेह होना पाया गया। अनावेदक गण को धारा 151 दंड प्रक्रिया संहिता के अंतर्गत गिरफ्तार कर सिटी मजिस्ट्रेट न्यायालय कोरबा में पेश किया जा रहा है। कोरबा पुलिस ने आम जनता से अपील की है कि रात्रि में अनावश्यक रूप से न घूमें, संदिग्ध अवस्था में घूमते पाए जाने पर सख्त कार्यवाही की जाएगी।

 

06-07-2020
प्रज्ञागिरी पहाड़ी पर मिले कंकाल का राज खुला, प्रेमी ही निकला हत्यारा

कवर्धा। डोंगरगढ़ की प्रज्ञागिरी पहाड़ी पर एक कंकाल मिलने का मामला सामने आया था। कंकाल 6 से 7 महीने पुराना था। इसकी सूचना मिलते ही डोंगरगढ़ थाना व सीएसपी मणिशंकर चन्द्रा सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। मामले की जांच पड़ताल के बाद पता चला कि कवर्धा निवासी युवती राजनांदगांव में नर्सिंग की ट्रेनिंग करने के लिए आई थी। इसके बाद अचानक अक्टूबर 2019 में लापता हो गई। इसके बाद से युवती का कुछ पता नहीं था। इसी बीच पुलिस ने गुमशुदा लोगों की तलाश के लिए अभियान शुरू किया, तो डोंगरगढ़ की प्रज्ञापुरी पहाड़ियों में एक कंकाल मिला। इसकी शिनाख्त पुलिस ने उस युवती के रूप में की।
 
पुलिस जांच में पता चला कि युवती का कवर्धा में रहने वाला मनोज वार्ष्णेय से प्रेम प्रसंग था। मनोज 6 अक्टूबर को युवती को घुमाने के लिए डोंगरगढ़ ले गया था। वहां अगले दिन 7 अक्टूबर को किसी बात पर दोनों के बीच विवाद हो गया। झगड़ा इतना बढ़ा कि युवक ने युवती की हत्या कर दी और शव को वहीं पहाड़ियों के बीच छिपा दिया। कॉल डिटेल के जरिए पुलिस आरोपी तक पहुंची और उसे गिरफ्तार कर लिया।

06-07-2020
Video : चिट फंड कंपनी के 4 डारेक्टर गिरफ्तार, खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष भी शामिल

राजनांदगांव/खैरागढ़। पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ ने पूरे प्रदेश में आदेश जारी कर चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिये थे। जिसके तहत खैरागढ़ थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी ने कार्रवाई करते हुए सर्वोदय चिटफंड कंपनी के 7 डायरेक्टर में से 4 को गिरफ्तार किया। थाना प्रभारी इसमें खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष कमलेश कोठले ,राजकुमार साहू, सत्यपाल वर्मा व छम्मन साहू शामिल हैं। जबकि 3 आरोपी तरुण साहू, रंजीत सोनेकर, आवेली माइंस बालाघाट व राजेश स्वासी रांची झारखण्ड फरार हैं। 3 फरार आरोपियों की भी पतासाजी की जा रही है।  इन सभी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, चिटफंड अधिनियम 1982 की धारा 3,4,5 के तहत अपराध कायम कर गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों को विशेष न्यायाधीश राजनांदगांव के समक्ष पेश किया गया, जहां से इन्हें जेल भेज दिया गया।

06-07-2020
डोंगरगढ में प्रज्ञागिरी पहाड़ी पर मिला कंकाल, पुलिस जांच में जुटी

राजनांदगांव। डोंगरगढ़ की प्रज्ञागिरी पहाड़ी पर नर कंकाल मिलने का मामला सामने आया है। कंकाल 6 से 7 महीने पुराना बताया जा रहा है। सूचना मिलते ही डोंगरगढ़ थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। इसके बाद सीएसपी मणिशंकर चन्द्रा सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। अक्टूबर माह में बसंतपुर थाने में गुम इंसान की दर्ज रिपोर्ट पर जांच की जा रही है। डोंगरगढ़ पुलिस हथकड़ी लगाकर एक युवक को स्पॉट पर लायी है। मामला प्रेम प्रसंग का हो सकता है।

06-07-2020
एनजीओ संचालिका को धमकी, मामला दर्ज

रायपुर। शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र की 30 वर्षीय एनजीओ संचालिका को कई दिनों से धमकी भरे फोन आ रहे हैं। महिला की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी जा रही है। बता दें कि महिला ने दो-तीन दफा पैसे भी दिए है। पुलिस ने मोबाइल नंबर के आधार पर आईटी एक्ट और जान से मारने की धमकी देने का अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार महिला का सोशल मीडिया पर कुछ महीने पहले दिल्ली के एक लड़के से दोस्ती हुआ था और दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई। महिला एनजीओ संचालिका है।

06-07-2020
एएसपी की पत्नी का भाई बताकर डॉक्टर्स से मारपीट, सिंहदेव के ट्वीट पर आईजी ने किया ट्वीट....

रायपुर। अंबिकापुर अस्पताल में एक युवक ने खुद को एडिश्नल एसपी का साला बताकर डाक्टर से बदसलूकी और मारपीट की है। मामला तूल पकड़ता जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने मामले में गृहमंत्री से कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि मामले में पुलिसिया कार्रवाई नहीं होने पर सिंहदेव ने गृहमंत्री से फोन कर कार्रवाई की मांग की। वहीं मामले में आईजी दीपांशु काबरा ने ट्वीट कर कहा है कि 'सर इसमें अपराध पंजीबद्ध हुआ है पर किसी एएसपी का भाई होना अभी तक साबित नहीं हो पाया है। उन्होंने लिखा है कि डॉ पुकेश्वर वर्मा ने मणिपुर चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराई है। जिस पर पुलिस ने धारा 186,353,332,294,506 के तहत अपराध दर्ज किया है। 
क्या है पूरा मामला : 
सुप्रिया दुबे नामक महिला को जहर सेवन के बाद अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के फ़िमेल वार्ड में भर्ती किया गया था। शुक्रवार की रात तकरीबन 8 बजे अंकित दुबे पहुंचकर महिला के साथ विवाद करने लगा। आरोप है कि अंकित दुबे को जब रोका गया तो गुस्से में अंकित ने बीच-बचाव करने वाले डॉक्टर पुकेश्वर वर्मा व डॉ.दीपक चंद्रवंशी के साथ मारपीट की। डॉक्टरों ने आरोप लगाया है कि चिकित्सकों से मारपीट करते हुए उसने धौंस दी कि वह एडिशनल एसपी की पत्नी का भाई है।

05-07-2020
हत्या और आईडी ब्लास्ट करने वाले 3 माओवादी गिरफ्तार

बीजापुर। बस्तर रेंज में चलाये जा रहे माओवादी उन्मूलन अभियान के तहत् जिला बीजापुर में थाना बासागुड़ा क्षेत्रांतर्गत जिला बल एवं केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने शनिवार को सर्चिग के दौरान कोरसागड़ा के जंगल से 3 माओवादियों को गिरफ्तार किया। तीनो संदिग्धों से पूछताछ करने पर अपना नाम सेमला गुण्डा उर्फ हेमला गुण्डा उम्र 47 वर्ष, पदम रामा उम्र 27 वर्ष व पदम विज्जा उम्र 28 वर्ष ग्राम कोरसागुड़ा थाना बासागुड़ा जिला बीजापुर का होना बताया। इन्होंने भाकपा माओवादी संगठन में पिछले कई वर्षो से सक्रिय रूप से कार्य करना बताया है।उन्होंने बताया कि 5 मार्च 2006 को ग्राम बासागुड़ा में सलवा जुडूम शिविर में घुस कर ग्रामीणों से मारपीट में शामिल होना बताया। 6 जुलाई 2006 को सर्चिंग के दौरान पुलिस पार्टी पर आईडी ब्लास्ट करने की घटना में, 3 अगस्त 2006 को मल्लेपल्ली में पुलिस पार्टी की हत्या करने की नीयत से गोलीबारी करने की घटना में, 18 अगस्त 2006 को सारकेगुड़ा में सर्चिंग के दौरान आईडी ब्लास्ट करने से 1 सहायक आरक्षक घायल एवं एक सहायक आरक्षक हत्या की घटना में, 12 नंवबर 2006 को ग्राम गगनपल्ली में सर्चिंग के दौरान पुलिस पार्टी पर आईडी ब्लास्ट करने की घटना में, 3 अगस्त 2018 को बासागुड़ा साप्ताहिक बाजार ड्यूटी के दौरान हमला कर 2 सहायक आरक्षकों को घायल करने की घटना में, 3 अक्टूबर 2013 को ग्राम पुसबाका में सर्चिग के दौरान पुलिस पार्टी की हत्या करने की नीयत से गोली बारी करने की घटना में तथा 30 सितंबर 2016 कोेेे ग्राम बुड़गीचेरू में पुलिस पार्टी को जान से मारने की नीयत से आईडी ब्लास्ट करने के घटना में शामिल था।उक्त तीनों माओवादियों के विरूद्ध न्यायालय द्वारा स्थायी वारण्ट भी जारी किया गया था। इसे तामील कर 5 जुलाई 2020 को न्यायालय बीजापुर के समक्ष पेश किया गया।

05-07-2020
प्लांट से एलुमिनियम प्लेट की चोरी करने वाला युवक गिरफ्तार

कोरबा। बालको प्लांट के सिक्योरिटी ऑफिसर ने प्लांट में चोरी की रिपोर्ट बालको थाना में पेश  दर्ज कराई थी। इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बालको प्लांट का पेटी कांट्रेक्टर का एक ठेका कर्मचारी को प्लांट से एलमुनियम प्लेट चोरी करके ले जाते समय गेट के पास पकड़ा।  आरोपी का नाम भीमा कसेर उम्र 28 वर्ष है। इसके विरुद्ध थाना बालको नगर पुलिस द्वारा अपराध क्रमांक 305/2020, धारा 379 भादवि पंजीबद्ध कर लिया गया है। आरोपी भीमा कसेर के पास पर्याप्त अपराध सबूत पाए जाने पर उसे गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जिला न्यायालय में पेश कर कोरबा जेल भेजा गया।

05-07-2020
जांजगीर में रेत का अवैध उत्खनन कर रहे 12 ट्रैक्टर जब्त, पुलिस और खनिज विभाग की संयुक्त कार्रवाई

रायपुर/जांजगीर चांपा। जिले की तहसील बलौदा के अन्तर्गत ग्राम नवगवां मे रविवार अलसुबह हसदेव नदी पर अवैध उत्खनन करते पाए जाने पर 12 ट्रैक्टरों को जब्त किया गया है। जांजगीर एसडीएम मेनका प्रधान, खनिज और पुलिस की संयुक्त टीम ने उत्खनन करने वालों के खिलाफ बलौदा क्षेत्र के हसदेव नदी के तटों पर स्थित रेत घाटों का सघन निरीक्षण किया। रेत के अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई के लिए सुबह 4.30 बजे से गश्त की गई। इस दौरान ग्राम नवगवां के रेत घाट में 12 ट्रैक्टर अवैध परिवहन करते पाए गए। इन सभी ट्रैक्टरों को तत्काल जब्त किया गया। सभी ट्रैक्टरों को बलौदा थाने मे खड़ा कर थाना प्रभारी को सुपुर्द किया गया है।इस कार्रवाई मे जांजगीर एसडीएम मेनका प्रधान के अलावा एसडीओपी दिनेशवरी नंद, नायब तहसीलदार बलौदा किशन मिश्रा, सहायक उपनिरीक्षक बलौदा लम्बोदर और पुलिस कर्मी, खनिज विभाग सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।

05-07-2020
खदान में कार्य के दौरान मिक्सर मशीन में फंसने से श्रमिक महिला की मौत

कोरबा। दीपका माइंस में एमटीके नम्बर 02 में काम के दौरान एक महिला कामगार की मिक्सर मशीन में फंसने से मौत हो गई। गांव के लोग घटना की जानकारी मिलने पर यहां आ पहुंचे।मुआवजा लेने के बाद ही मौके से शव हटाने को लेकर गांव वाले अड़ गए।दीपका परियोजना में रविवार को सुबह यह घटना हुई। यहाँ एमटीके-2 के पास नाला का निर्माण किया जा रहा है। खबर के अनुसार रेकी गांव की रहने वाली 45 वर्षीय कृष्णाबाई पटेल इस काम में नियोजित थी। वह मिक्सर मशीन में गिट्टी डाल रही थी। उसने सुरक्षा के लिहाज से स्कार्फ अपने चेहरे पर डाल रखा था। कामकाज के दौरान स्कार्फ का एक हिस्सा मिक्सचर मशीन में फंस गया। एकाएक हुए इस घटनाक्रम मशीन बंद हो गई, स्कार्फ के फंसने से बाल समेत उसका सिर फंस गया,जिससे महिला की मौत हो गई। मृतका का एक ही बेटा था और पति खेल सिंह पटेल सब्जी भाजी भेज कर अपना जीवकोपार्जन करता है। जानकारी मिलने के साथ यहां अफरा-तफरा की स्थिति निर्मित हो गई। यहां काम कर रहे मजदूरों ने ठेकेदार और अन्य संबंधितों को इसकी जानकारी दी।

खबर आम होने पर रैकी के सरपंच पति सुंदर सिंह सरोते व अन्य लोग भी यहां आ पहुंचे। पुलिस व सीआईएसएफ के जवान भी यहां उपस्थित थी।  पुलिस की मौजूदगी में मृतका के परिजनों को प्रारंभिक सहायता राशि 1 लाख रूपए ठेकेदार के द्वारा दिया गया, इसके साथ यहां से शव का पंचनामा कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है। इस मामले में 15 लाख रुपए ठेकेदार के द्वारा मृतिका के परिजनों को बाद में दिलाया जाएगा ऐसा अग्रीमेंट प्रबंधन पुलिस की उपस्थिति में ग्रामीणों ने किया। दीपका पुलिस ने घटनाक्रम में मर्ग कायम कर लिया है। घटना स्थल पर दीपका थाना प्रभारी हरीश टांडेकर,कुसमुंडा थाना प्रभारी सनत सोनवानी, दीपका के सेफ्टी ऑफिसर एरिया पर्सनल मैनेजर, खान प्रबंधक सभी मौके पर उपस्थित थे।घटना की जानकारी विधायक पुरुषोत्तम कँवर को मिली पर वे बाहर होने के कारण उनके प्रतिनिधि के रूप में तनवीर अहमद मौके पर उपस्थित होकर ग्रामीणों और प्रबंधन के बीच में समझौता कराया।

Please Wait... News Loading