GLIBS

ठेकेदार से एक करोड़ की मांग करने वाले 4 फर्जी नक्सली गिरफ्तार

जगदलपुर। छतीसगढ़ के कांकेर जिले में रेलवे ठेकेदार से एक करोड़ की मांग करने वाले चार पूर्व सहायक आरक्षकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ठेकेदार ने योजनानुशार फोन कर पैसा देने के लिए स्वयं को नक्सली बता रहे चारों युवकों को अंतागढ़ मार्ग पर शाहकट्टा के जंगल मे बुलाया था। यहां ठेकेदार के साथ पुलिस भी बताई जगह पर पहले से पहुंची हुई थी,जहां पहले से तैयार पुलिस घेरेबंदी कर चारों को धर दबोच लिया। कांकेर एसपी केएल ध्रुव के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच ने ठेकेदार की शिकायत पर पूरी तत्परता के साथ कार्रवाई करते दुवारु राम सलाम निवासी शंकर नगर मुल्ला,धनेश उईके निवासी मरदेल,भुवन भुआर्य निवासी कर्मचारी कालोनी भानुप्रतापपुर और रविन्द्र दुग्गा डोंगरी पारा भानुप्रतापपुर को गिरफ्तार कर न्यायालय मे पेश किया जहां से नकली नक्सलियों को जेल भेज दिया गया है। मामले के खुलासे मे जो बात सामने आई है उसके मुताबिक चारों नकली नक्सली पहले सहायक आरक्षक के रूप में पुलिस विभाग में काम कर चुके हैं। विभाग ने उनकी ऐसी ही गड़बड़ियों के चलते चारों को बर्खास्त कर दिया था। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार लोगों में खड़का के रहने वाले दुवारु सलाम की नक्सली भी तलाश कर रहे थे। नक्सलियों तक यह बात पहुंच गई थी कि दुवारु नक्सलियों के नाम पर पैसों की उगाही करता है। इसी वजह से नक्सलियों ने कुछ समय पूर्व इसके पिता की भी हत्या कर दी थी।

धोखाधड़ी के आरोप में एक आरोपी गिरफ्तार

बालोद।  ग्राम गोरकापर किसानों का धान धोखाधड़ी से रखने के मामले पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार 20 जनवरी के आसपास अपने क्षेत्र के एक किसान को धोखे में रखकर उनके धान को तौलकर  उन्हें पैसा देने का वादा कर गुमराह में रखा,  जब किसानों को पैसा उन्हें निर्धारित तारीख को नहीं मिला तो किसानों ने इसकी शिकायत पुलिस प्रशासन की जनता दरबार में किया । वहीं किसानों की शिकायत  को गंभीरता से लेते हुए एसपी  दीपक झा व एएसपी जेआर ठाकुर,  डीएसपी  दिनेश सिन्हा के मार्गदर्शन पर थाना रनचिरई  द्वारा आरोपी को गिरफ्तार कर धारा 420,406 लगाकर विवेचना में लिया। वहीं आरोपी छत्रपाल चंद्राकर द्वारा क्षेत्र के 18 किसानों के  478791 कुल  राशि की हेराफेरी की गई।

डकैती का खुलासा, दो बोलेरो सहित देशी कट्टा बरामद

वाड्रफनगर/बलरामपुर। बलरामपुर पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। जिले में सिलसिले वार तरीके से हो रही डकैती से लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ था। खास तौर पर व्यापारियों में भय देख जा रहा था। वाड्रफनगर चौकी में 28 नवंबर को स्टेशनरी व्यापारी गौरव अग्रवाल ने बताया कि उसी अपहरण कर लूट लिया गया। वहीं चौकी में जब घटना की कहानी सुनाई गई तो लूट मध्य प्रदेश के बैढ़न थाना क्षेत्र के बराहपान में लूट गया था। वहीं मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की पुलिस सिमा विवाद में उलझी रही। वहीं बरियो चौकी में 29 नवंबर को अजय अग्रवाल किराना व्यवसाई को भी इसी गैंग ने उसके वेन से उतार रात्रि 8 बजे गढ़वा ले गए। जहां एटीएम से 20 हजार रुपए निकलवा लिए और रहल रेलवे स्टेशन पर ले जा कर छोड़ दिए। इन वारदात से पहले भी ए गैंग पस्त थाना के सेमरसोत जंगल में हाइवा चालक नसीर अंसारी के हाइवा को रोक कर उसे और उसके खलासी को जबरन बंधक बना कर बरियो के पास ले गए, जहां पर उनसे 30 हजार लूट लिए। इन वारदातों में मास्टर माइंड सुदाम उर्फ बाबूलाल जो बरियो का है। वहीं अशोक सिंह, विजय उर्फ वीगन फरार है।  गोविंद और विक्की, हत्या के मामले में लातेहार जिला में है। लक्ष्मण उर्फ रजनीश, दीपक सिन्हा, संजय कुमार , शनि, बटेश्वर, श्याम कन्हैया ए सभी लातेहार क्षेत्र के रहने वाले हैं। इनका अपहरण कर लोगों को लूटना एक शातिर अंदाज में गौरव अग्रवाल की घटना में सुनने को मिला। गौरव और उसके ड्राइवर को एक्सीडेंट किए हो कि धमकी दे कर सही ले जाकर लुटा था। इन लुटेरों के पास से घटना में प्रयुक्त 2 बोलेरो,1 देशी कट्टा, 9एमएम पिस्टल, 315 देशी कट्टा लातेहार थाना जब्त किया गया है।

राशन वितरण में कई गड़बड़ी, पढ़िए पूरी खबर

कोरबा। गांव में अब राशन वितरण में कई विसंगतियां सामने आ रही है, जिसका सच कोरबा जिले के करतला विकासखंड के ग्राम सरगबुंदिया में देखने को मिल रहा है। ग्लिब्स टीम  को राशन जेठूराम ने बताया कि पहले 35 किलो  चावल मिलता था, कुछ समय से सिर्फ 10किलो चावल ही  दिया जा रहा है। आनलाइन होने के बाद ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सुविधा नहीं मिल पा रही है। उसमें भी कुछ लोग सॉफ्टवेयर के चक्कर में फंस चुके है और जिस राशन कार्ड पर कभी 35 किलो चावल मिला करते थे, अब मात्र 10 किलो ही चावल  मिल रहा है। बता दें कि सरगबुंदिया के ही सरपंच लगनराम राशन दुकान संचालन कर रहे है। एक जनप्रतिनिधि होकर भी इस सॉफ्टवेयर की परेशानियों से निजात नहीं दिला पा रहे हैं। 

नाना को नाती ने बनाया पेटीएम के माध्यम से ठगी का शिकार,लगाई 2 लाख की चपत

भोपाल। एक और जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुरे देश को केश लेश बनाने में लगे हैं वही इस बात का फायदा उठाकर आज कल के युवा गेरो की तो बात दूर हैं अपने सगे रिश्तेदारो को भी चपत लगाने में कोई कसर नही छोड़ रहे हैं कुछ ऐसे ही मामले में राजधानी की साइबर क्राइम पुलिस भोपाल ने एक ऐसे प्रकरण का खुलासा किया है जिसमें आरोपी ने अपने नाना के एसबीआई खाते की गोपनीय जानकारी अवैध तरीके से निकाल कर, पेटीएम एप्लिकेशन के माध्यम से दो लाख रूपये की ठगी कर ली है थी,आरोपी को साइबर क्राइम भोपाल ने गिरफ्तार कर लिया है। फरियादी गोटूलाल दामडे निवासी बागमुगलिया भोपाल ने साइबर पुलिस को एक लिखित शिकायती आवेदन पत्र में बताया कि उनका एसबीआई बैंक में खाता है जिसका एटीएम उनके पास रहता है परन्तु पासबुक कि एन्ट्री कराने पर फरियादी को पता चला कि खाते से कुछ अनाधिकृत ट्रान्सफर राषि रूपये दो लाख रूपये का ट्रान्सफर हुआ है जो फरियादी के द्वारा नहीं निकाला गया है यह पैसे किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा किया गया है जिसकी जानकारी फरियादी को नहीं थी। साइबर क्राइम पुलिस भोपाल ने फरियादी की षिकायत पर से अपराध क्रमांक 69/17 का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। प्रकरण में पुलिस ने पाया कि फरियादी का पैसा पेटीएम एप्लिकेषन के माध्यम से निकाला गया है। पेटीएम एप्लिकेषन और प्रकरण से संबंधित अन्य साक्ष्यों के आधार पर पुलिस ने पाया कि अज्ञात आरोपी द्वारा यह पैसा पेटीएम के जरिये बैंक खातों में ट्रान्सफर किया गया है। उक्त बैंक खातों से संबंधित जानकारी के आधार पर साइबर पुलिस ने पाया कि उक्त प्रकरण में उपयोग किया गया बैंक खाता आयुष चौधरी पिता अनिल चौधरी उम्र 20 वर्ष का है। प्रकरण में आयुष चौधरी निवासी होषंगाबाद रोड भोपाल से पूछताछ की गई जिसमें सामने आया कि फरियादी से आयुष चौधरी का रिश्ता नाना और नाती का है, आयुष ने यह भी बताया की अपने नाना के एसबीआई बैंक एटीएम की जानकारी गोपनीय रूप से निकालकर उक्त पैसा पेटीएम एप्लिकेषन के माध्यम से अपने एसबीआई खाते में ट्रान्सफर कर लिया था। साइबर पुलिस द्वारा प्रकरण में आरोपी को गिरफतार कर जेल भेज दिया है।

भूसा लोड कर कोंडागांव जा रहा ट्रक पलटा, 6 घायल 2 गंभीर

कोंडागांव। कांकेर से भूसा लोड कर कोंडागांव जा रही ट्रक एनएच- 30 सिरपुर के पास अनियंत्रित होकर पलट गई। 

हादसे में  6 लोग घायल हुए हैं, जिनमें से 2 की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों को 108 संजीवनी की सहायता से उपचार के भेजा गया जिला अस्पताल भेजा गया है। जानकारी के मुताबिक ट्रक क्रमांक सीजी-05 डी1629 कांकेर से भूसा भर के कोण्डागांव जा रही थी तभी यह हादसा हुआ।

मुखिया समेत एक ही परिवार के चार लोगों की मिली लाश
कैम्प-1 में संग्राम चौक में का वाकया, जांच में जुटी पुलिस
ठेकेदार से 1 करोड़ की मांग करने वाले,4 आरोपी पुलिस गिरफ्तार

कांकेर। नक्सलियों के नाम पर ठेकेदार से 1 करोड़ की मांग करने वाले 4 आरोपी पुलिस को गिरफ्तार किया गया है। रावाघाट रेल्वे परियोजना के ठेकेदार को फोन करके आरोपी 1 करोड़ की मांग कर रहे थे। जिसकी शिकायत ठेकेदार ने भानुप्रतापपुर पुलिस से की। पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए जाल बिछाकर गिरफ्तार किया। मिली जानकारी के मुताबिक चारों आरोपी पहले एसपीओ के पद पर पदस्थ थे। आरोपियों के हरकतों के वजह से पुलिस विभाग ने इनको निलंबित कर दिया। नक्सली भी चार मास्टरमांइड आरोपियों के करतुत से परेशान थे। इनकी हरकतों के वजह से नक्सलियों ने एक आरोपी के पिता की हत्या भी कर चुके हैं।  

 

गरियाबंद । जिला गरियाबंद में अब कानून नाम की कोई चीज नहीं हैं , ये हम नही कह रहे हैं ये कह कहना हैं उस पीड़ित मां – बाप का जिनकी बेटी की आपत्तिजनक फोटो बना कर सोशल मीडिया में वायरल किया गया, रोते बिलखते परिजन अपनी मासूम बेटी की अस्मिता बचाने थाने पहुंचे लेकिन वहां भी एफआईआर  नहीं लिखी गयी, जिसके बाद पीड़ित परिजन आमरण अनशन में बैठ गये----ताकि FIR हो सके ------इसी बीच जब  पत्रकार मौके पर पहुंचे और एस.डी.ओ.पी. से सवाल दागे तो मौका देख एस.डी.ओ.पी. भी थाने से कही निकल गए। 

Please Wait... News Loading

Gujarat

BJP99
Congress80
Other3

HP

BJP44
Congress21
Others3
Visitor No.