GLIBS
02-04-2020
एम्स में टेलीमेडिसिन ओपीडी का शुभारंभ,कई रोगियों ने लॉक डाउन के बीच लिया चिकित्सा परामर्श
10:20pm

रायपुर। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में गुरुवार से दस विभागों की टेलीमेडिसिन सेवाएं प्रारंभ हो गई। इस दौरान इन विभागों के नंबरों पर लगातार कॉल आते रहे,जिनके माध्यम से रोगी और उनके परिजन उपचार के बारे में जानकारी ले रहे थे। दो घंटे की दो पालियों में चिकित्सकों ने दस विभागों से संबंधित 92 कॉल का जवाब दिया। इसके साथ ही लॉकडाउन के बीच अध्यापन की चुनौती का हल ढूंढते हुए एम्स के चिकित्सा शिक्षकों ने अब ई-लर्निंग के माध्यम से छात्रों के साथ सीधा संवाद शुरू कर दिया है,जिसमें स्काइप और जूम के माध्यम से शिक्षक छात्रों की क्लास ले रहे हैं। टेलीमेडिसिन सेवाओं का प्रातः प्रथम पाली में निदेशक प्रो.(डॉ.) नितिन एम. नागरकर ने उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने चिकित्सकों को इस पहल के लिए बधाई दी। उनका कहना था कि इस सेवा के माध्यम से लॉक डाउन के दौरान हजारों मरीजों को राहत दी जा सकेगी। इस अवसर पर डीन प्रो.एसपी धनेरिया, उप-निदेशक (प्रशासन) नीरेश शर्मा और डॉ.एकता खंडेलवाल भी उपस्थित थी।

दूसरी ओर लॉक डाउन के बीच एमबीबीएस छात्रों को अध्यापन में सहायता देने के उद्देश्य से एम्स मेडिकल कॉलेज की ओर से ई-क्लासेज की व्यवस्था की गई है। इसमें शिक्षक ब्रॉडबैंड के माध्यम से छात्रों के साथ जुड़कर उन्हें ऑनलाइन लेक्चर दे रहे हैं। ई-लर्निंग का शुभारंभ प्रो. नागरकर ने गुरुवार को किया। नई अध्यापन व्यवस्था लॉकडाउन तक जारी रहेगी। इस दौरान सभी शिक्षक अपने लेक्चर स्काइप या जूम के माध्यम से लेंगे। इस अवसर पर ईएनटी की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ.रूपा मेहता ने लेक्चर लिया। प्रो.धनेरिया का कहना है कि इसके माध्यम से छात्रों को निरंतर अध्ययन में शिक्षकों का मार्गदर्शन मिलता रहेगा।

02-04-2020
तय दर से अधिक पर बेच रहा था शक्कर, दुकान संचालक को निलंबित कर दर्ज कराई गई एफआईआर
08:59pm

रायपुर। ग्राम मनौद के शासकीय उचित मूल्य की दुकान में अधिक दर पर शक्कर बेचने वाले संचालक को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। साथ ही उसके खिलाफ संबंधित थाना में प्राथमिक रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। बालोद जिले की कलेक्टर रानू साहू को अनियमितता की शिकायत मिली थी। ग्राम मनौद की राशन दुकान में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत शक्कर को निर्धारित दर से अधिक पर बेचा जा रहा था। शिकायत को कलेक्टर ने तत्काल संज्ञान में लेकर खाद्य विभाग के अधिकारियों को जांच के निर्देश दिए। कलेक्टर के निर्देश पर खाद्य निरीक्षक ने मौके पर जाकर जांच की। खाद्य अधिकारी विजय किरण ने कहा कि जागृति महिला स्व सहायता समूह मनौद के विक्रेता यशवंत साहू को तय दर से अधिक पर शक्कर बेचते पकड़ा गया। खाद्य निरीक्षक ने 1 अप्रैल को मौके पर उपस्थित होकर जांच की थी। जांच प्रतिवेदन के अनुसार विक्रेता ने दुकान में संलग्न हितग्राहियों में से 184 हितग्राहियों को शक्कर का निर्धारित दर 17 रुपए प्रति किलोग्राम से अधिक दर 20 रुपए की दर से विक्रय किया था। राशन सामग्री वितरण करते समय हितग्राहियों से बारदाना का 20 रुपए प्रति बोरा की दर से अतिरिक्त राशि लिया था।

ये छत्तीसगढ़ सार्वजनिक वितरण प्रणाली नियंत्रण आदेश 2016 की कंडिका 5(14), 5(24),11(11) एवं 15 का स्पष्ट उल्लंघन है। खाद्य अधिकारी ने कहा कि इस अनियमितता की पुष्टि पर अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) बालोद की ओर से दुकानदार को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया। दुकान के समस्त राशन कार्डधारियों को समीपस्थ उचित मूल्य दुकान में संलग्न कर बगैर बाधा नियमानुसार खाद्यान्न वितरण करने आदेश जारी किया गया। शासकीय उचित मूल्य की दुकान मनौद के संचालनकर्ता एजेंसी की ओर से उपरोक्त अनियमितता किए जाने के कारण खाद्य निरीक्षक बालोद ने दुकान संचालक के खिलाफ पुलिस थाना बालोद में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई है।

 

02-04-2020
जमीन विवाद को लेकर भाई ने की भाई की हत्या
08:54pm

कोंडागांव। माकड़ी थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत मगेदा में पिलसाय नेताम और उसके चचेरे भाई फूल सिंह नेताम के मध्य जमीन विवाद चल रहा था। उसी विवाद के चलते गुरुवार को आरोपी फूलसिंह नेताम ने पिलसाय की डंडे से मार कर हत्या कर दी। इस बात की सूचना मगेदा पंचायत के सरपंच के माध्यम से पुलिस को प्राप्त हुई। सूचना मिलते ही पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर पूछताछ और जांच तस्दीक की गई। इसमें फूल सिंह द्वारा पिलसाय की डंडे से हत्या करना पाया गया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 15/2020 धारा 302 के तहत अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर न्यायालय कोंडागांव भेजा  गया।

 

02-04-2020
 युवक ने फांसी लागकर की आत्महत्या,जांच मे जुटी पुलिस
08:50pm

रायपुर। शहर के तेलीबांधा थाना क्षेत्र में सुरक्षा गार्ड की ड्यूटी करने वाले 19 वर्षीय युवक जयप्रकाश मिश्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। फिलहाल फांसी के कारण का अब तक पता नहीं चल पाया है। पुलिस मौके पर पहुँचकर पूरे मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचना दी है।

 

02-04-2020
जिला प्रशासन ने 25 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे, 24 की जांच रिपोर्ट निगेटिव
08:46pm

कोरबा। लंदन रिटर्न छात्र के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की रिपोर्ट आने के बाद से ही जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर है। छात्र को दो दिन पहले ही ईलाज के लिए रायपुर के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में दाखिल कराया जा चुका है। कलेक्टर किरण कौशल ने संक्रमित छात्र के सम्पर्क में आने वाले लोगों की जल्द से जल्द पहचान के लिए स्वयं मोर्चा संभाल लिया है। कलेक्टर द्वारा बनाई गई टीमों ने पिछले दो दिनों में ही संक्रमित छात्र के संपर्क में आने वाले 28 लोगों की पहचान कर ली है। इसमें छात्र के चार पारिवारिक सदस्य और घर में काम करने वाले सात कामगार भी शामिल हैं। इसके साथ ही छात्र के तीन दोस्तों को भी ट्रेस किया गया है। अकलतरा से लेकर कोरबा तक आने वाले ड्राईवर के साथ-साथ छात्र के रायपुर स्थित रिश्तेदारों और रायपुर के आफिस में काम करने वाले 14 लोगों की पहचान भी कर ली गई है। इन सभी को एतिहातन तत्काल आइसोलेशन में रखा गया है। इनमें से अब तक 25 लोगों के सैंपल लेकर एम्स रायपुर जांच के लिए भेजे गये हैं और 24 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। अकलतरा से कोरबा तक संक्रमित छात्र को लेकर आने वाले वाहन चालक की जांच रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। चौबीस लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी सभी अगले 14 दिनों तक होम आईसोलेशन में रखने के निर्देश दिए गये हैं। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार इनके स्वास्थ्य की जांच कर रही है। संक्रमित छात्र के संपर्क मेें आने वाले उसके तीन दोस्तों को भी कोरबा में होम आईसोलेशन में रखा गया है। इन सभी को घर से किसी भी स्थिति में बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी गई है। 

 

02-04-2020
मध्याह्न भोजन के राशन का बच्चों के घर में होगा वितरण
08:42pm

दुर्ग। लॉक डाउन अवधि के दौरान मध्याह्न भोजन की व्यवस्था के लिए राशन बच्चों के घरों में वितरित किया जाएगा। कलेक्टर अंकित आनंद ने यह कार्य शीघ्रता शीघ्र पूरा कर लेने के निर्देश शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए है। साथ ही उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को हितग्राहियों को जिनमें बच्चे तथा गर्भवती एवं शिशुवती माताएं शामिल है। उन्हें सूखा राशन प्रदान करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि लॉक डाउन की अवधि के दौरान का राशन उन्हें उपलब्ध करा दिया जाए। कलेक्टर ने कहा कि यह सारा कार्य दोपहर 3 बजे की अवधि के भीतर हो। उल्लेखनीय है कि सुपोषण अभियान सुपोषण अभियान सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके अंतर्गत बच्चों को कुपोषण के दायरे से बाहर लाने के लिए कार्य किया जा रहा है। लॉक डाउन की अवधि के दौरान यह कार्य किसी तरह से बाधित ना हो इसके लिए विभाग द्वारा यह पहल की जा रही है। कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग एवं निगम के अधिकारियों से आइसोलेटेड किए हुए नागरिकों की सतत मानीटरिंग के निर्देश दिए। साथ ही यह भी कहा कि यदि इन्हें भोजन आदि जुटाने में किसी तरह की दिक्कत होती है तो इसके लिए वालंटियर के माध्यम से भोजन भेजा जाए। बैठक में नगर निगम भिलाई कमिश्नर  ऋतुराज रघुवंशी, जिला पंचायत सीईओ कुंदन कुमार,अपर कलेक्टर गजेंद्र ठाकुर, बीबी पंचभाई सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

 

02-04-2020
निर्माणाधीन नाली में दवा छिड़काव के लिए महापौर को ज्ञापन
08:37pm

धमतरी। नगर निगम महापौर विजय देवांगन को शहर के कांग्रेस जन समस्या निवारण प्रकोष्ठ के शहर अध्यक्ष सुमित जैन ने ज्ञापन सौंप कर कुछ मांग की है। इसमें रिसाइपारा पूर्व वार्ड क्र.30 में विमल टॉकीज, शिवचौक मार्ग पर नाली निर्माण कार्य चल रहा था,जो कि लॉक डाउन के चलते अभी रुका हुआ है। उक्त नाली को ठेकेदार द्वारा खोद कर खुला छोड़ दिया गया है। इससे कभी भी कोई अकस्मात दुर्घटना की पूरी संभावना बनी हुई है साथ ही नाली पूरी तरह से खुली होने से मच्छर का प्रकोप काफी बढ़ गया है और इससे क्षेत्र में महामारी फैलने की पूरी संभावना बनी हुई है। इसपर सुमित जैन ने महापौर से निवेदन किया है कि निगम अमले के द्वारा उक्त नाली में सैनिटाइजर व ब्लीच पावडर आदि का नियमित छिड़काव करवाया जाए, जिससे कि वार्ड में किसी किस्म की महामारी फैलने का अंदेशा न रहे।

 

02-04-2020
धमधा में बना अनाज बैंक, अपनी बचत के पैसों से महिलाओं ने की जरूरतमंदों की मदद
08:32pm

दुर्ग। कोरोना वायरस के संक्रमण के आपदा के इस दौर में दुर्ग जिले के नागरिकों का उज्ज्वल चरित्र सामने आया है। जरूरतमंदों की मदद के लिए अभिनव प्रयोग जिले के नागरिकों तथा प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। लोगों की सुरक्षा के लिए सैनिटाइजर तथा मास्क बांटे जा रहे हैं। अब तक 23000 से अधिक मास्क बांटे जा चुके हैं साथ ही लगभग 1300 लीटर सैनिटाइजर का वितरण भी किया जा चुका है। लोगों की अधिकाधिक मदद की जा सके, उन्हें राशन उपलब्ध किया जा सके। इसके लिए अनाज बैंक बनाए गए हैं। महिलाएं भी इस कार्य के लिए आगे आई हैं। वह अपनी बचत की राशि से जरूरतमंदों की मदद कर रही है। उन्हें राशन उपलब्ध करा रही हैं। विभिन्न स्वयंसेवी संगठन भी इसके लिए आगे आए हैं। वे कोविड रिलीफ फंड में भी दान कर रहे हैं। अनाज भी उपलब्ध करा रहे हैं तथा लंच पैकेट भी उपलब्ध करा रहे हैं। 
धमधा में बना अनाज बैंक 
जरूरतमंदों की मदद के लिए धमधा ब्लाक में अनाज बैंक के रूप में अभिनव प्रयोग किया गया है। यहां 1000 से अधिक ईंट भट्टे के मजदूर फंसे हुए हैं। इनके लिए राशन की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। इनके लिए राशन की व्यवस्था करने अनाज बैंक बनाया गया। एसडीएम दिव्या वैष्णव ने बताया कि तहसीलदार सोनकर के सुझाव पर अनाज बैंक बनाने का निर्णय लिया गया। इसके लिए सेवाभावी नागरिकों व्यवसायियों एवं विभिन्न संगठनों के लोगों की मदद ली गई। इसके लिए सबसे पहली सहयोग राशि प्रशासनिक अधिकारियों ने जुटाई एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं धमधा ब्लाक के अन्य अधिकारियों ने इसके लिए सहयोग दिया। साथ ही अन्य सेवाभावी नागरिक भी आगे आए और 6 क्विंटल से अधिक चावल तथा पर्याप्त राशन सामग्री सब्जियां आदि ईकट्ठा की गई। 
जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आईं महिलाएं 
आपदा के इस दौर में महिलाएं भी खुलकर जरूरतमंदों की मदद के लिए सामने आई है। इसके लिए उन्होंने अपनी पूरी बचत राशि आपदा कार्य में लगा दी है। इसका उदाहरण पेश किया है। आरोग्य सेवा समिति की महिलाओं ने भिलाई के वार्ड 12 की रहने वाली इन महिलाओं ने कॉन्ट्रैक्टर कॉलोनी की जरूरतमंद महिलाओं की मदद के लिए यह पहल की। इनमें से अनेक महिलाओं के पति लॉक डाउन के वजह से दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं। कई महिलाएं अपने घर में पति के ना होने से स्वयं घर का संचालन कर रही है। इस तरह की महिलाओं की सहायता करने के लिए आरोग्य समिति की महिलाएं संतोषी वर्मा एवं फूलबाई वर्मा आगे आई। उन्होंने जरूरतमंद महिलाओं के परिवारों के लिए 15 दिनों का राशन उपलब्ध कराया। 
रानी तराई में निशुल्क सब्जी का वितरण  ग्रामीण क्षेत्रों में भी सेवा का अच्छा कार्य हो रहा है। कुछ गांवों में सब्जियों का निशुल्क वितरण किया जा रहा है। रानीतराई में सरपंच निर्मल जैन की पहल से सब्जी विक्रेताओं ने निःशुल्क सब्जी का वितरण किया। उल्लेखनीय है कि ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायतों द्वारा जरूरतमंद लोगों का चित्रांकन किया गया है और उन्हें राशन एवं अन्य सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। 
एमएसएमई टेक्नोलॉजी ने भी उपलब्ध कराई मदद  एमएसएमई टेक्नोलॉजी सेंटर ने आपदा पीड़ित परिवारों के लिए 50 किलोग्राम आटा 50 किलोग्राम चावल एवं अन्य मदद उपलब्ध कराई। इसी प्रकार चेतना महिला पुलिस की स्वयं सेविकाओं ने भी राशन सामग्री उपलब्ध कराई। आपदा की इस घड़ी में सेवाभावी नागरिक खुलकर लोगों की मदद करने में लगे हुए हैं और इससे आपदा पीड़ित लोगों को बड़ी सहायता उपलब्ध हो रही है।

 

02-04-2020
कटघोरा में रूके तीस जमातियों के लिए गए सैंपल, होगी कोरोना की जांच
08:26pm

कोरबा। कलेक्टर किरण कौशल ने महाराष्ट्र और दिल्ली से आए सभी जमातियों को मस्जिदों में ही आईसोलोशन में रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। कटघोरा की मक्का मस्जिद में लगभग 35 दिन पहले 25 फरवरी को दिल्ली से आकर 14 जमाती रूके हैं। वहीं कामठी महाराष्ट्र से 16 लोग दो मार्च को पुरानी बस्ती की जामा मस्जिद कटघोरा पहुंचें हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावना को देखते हुए एतिहात के तौर पर आज इन सभी 30 जमातियों के सैंपल मेडिकल टीम द्वारा लिया गया। इन सैंपलों को अब रायपुर स्थिति अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान जांच के लिए भेजा जा रहा है।
 
कटघोरा की मक्का मस्जिद में रूके 14 लोगों में से 13 मुस्तफाबाद दिल्ली के रहवासी हैं,जबकि एक झारखंड के गढ़वा जिले के मखातू का निवासी है। लगभग एक माह से अधिक समय पहले आये इन लोगों को प्रशासन ने एतिहातन मस्जिदों में ही आइसोलेशन में रखा है। जिला प्रशासन की मेडिकल टीम ने 29 मार्च को इनका स्वास्थ्य परीक्षण किया है और यह सभी लोग पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं। इसी तरह कटघोरा की जामा मस्जिद में रूके कामठी महाराष्ट्र के 16 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण दो बार 24 एवं 26 मार्च को मेडिकल टीम द्वारा किया जा चुका है। जिला प्रशासन द्वारा इन सभी लोगों पर कड़ी निगाह रखी जा रही है। सभी को मस्जिद से बाहर नहीं निकलने, भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर नहीं जाने और मस्जिद में रहने के दौरान आपस में एक-एक मीटर की दूरी बनाये रखने की हिदायत भी दी गई है। सभी लोगों को सर्दी, खांसी, बुखार जैसी परेशानी होने पर तत्काल कटघोरा के स्वास्थ्य केंद्र और जिला प्रशासन को सूचित करने के निर्देश दिए गए हैं।

 

02-04-2020
खाद्य और परिवहन विभाग का राज्य स्तरीय संयुक्त कंट्रोल रूम गठित, दूरभाष नंबर जारी
08:21pm

कोरिया। वस्तुओं की निर्बाध उपलब्धता, परिवहन, भण्डारण एवं इनके सुचारू वितरण को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से खाद्य एवं परिवहन विभाग का राज्य स्तरीय संयुक्त कंट्रोल रूम जिला पंचायत रायपुर में बनाया गया है,जिसका दूरभाष क्रमांक 0771-2882113 है। यह कंट्रोल रूम आगामी आदेशपर्यन्त क्रियाशील रहेगा। राज्य शासन के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग एवं परिवहन विभाग के सचिव डॉ.कमलप्रीत सिंह के द्वारा जारी परिपत्र में यह जानकारी दी गई है। इस कंट्रोल रूम में संबंधित विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को तीन पृथक-पृथक पालियों में 3 से 10 अप्रैल तक कार्य करने के लिए आदेशित किया गया है। साथ ही संबंधित अधिकारी व कर्मचारी को नियत पालियों में अपनी अनिवार्य उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए निर्धारित दायित्वों का पालन करने के निर्देश दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम के लिए छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में आगामी 14 अप्रैल, 2020 तक लॉकडाउन घोषित किया गया है।

 

 

02-04-2020
बसन्तपुर मेडिकल(कॉलेज) अस्पताल पहुँचे महापौर ने जाना मरीजों के परिजनों व कर्मचारियों का हाल
08:15pm

राजनांदगांव। विश्व मे फैली कोरोना की महामारी से देश व प्रदेश में लॉक डाउन की स्थिति निर्मित है,जहां एक ओर प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल प्रदेश के हर एक समूहों से चाहे वह किसान हो, चाहे गरीब तबके के लोग हर सम्भव एवं उचित सहयोग किया जा रहा है। हर वर्ग जिसमें व्यवसायिक, समाजसेवियों व जनप्रतिनिधियों के अहम सहयोग नकारा नहीं जा सकता। प्रदेश के मुखिया के मार्गदर्शन में संस्कारधानी कहे जाने वाले राजनांदगांव के व्यवसायी,नेता एवं प्रशासनिक अमला इस विपरीत परिस्थिति में असहाय लोगों की हरसम्भव मदद करने से पीछे नहीं हट रहे है। नगर की प्रथम नागरिक महापौर हेमा देशमुख के नेतृत्व में जहां एक ओर स्वास्थय विभाग,पुलिस विभाग व निगम प्रशासन अपनी एड़ी चोटी एक कर शत प्रतिशत राहत दे रहा है। वही महापौर जनता के बीच पहुंच कर उनकी परेशानियां दूर करने का भरसक प्रयास कर रहीं है। गुरुवार को महापौर ने कई जगहों का दौरा किया व सभी का हाल जाना। महापौर ने बसन्तपुर स्थित मेडिकल कॉलेज अस्पताल का भी जायजा लेते हुए विशेष रूप से मरीजों के परिजनों से मिलकर उनका हाल जाना। साथ ही विभाग के कर्मचारियों सहित मरीजों के परिजनों को स्वपाहर का वितरण स्वयं अपने हाथों से किया। 

 

02-04-2020
छत्तीसगढ़ में 1.85 लाख जरुरतमंदों को खिलाया जा रहा नि:शुल्क भोजन, 2 लाख से अधिक की मदद और जानें क्या
08:11pm

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशन पर राज्य भर में  करीब 1 लाख 85 हजार गरीबों, मजदूरों और निराश्रितों को नि:शुल्क भोजन का प्रबंध जिलों में स्थानीय प्रशासन और स्वयंसेवी संस्थाओं की सहयोग से किया जा रहा है। गौरतलब है कि कोरोन वायरस के संक्रमण से उत्पन्न लॉकडाउन की वजह से जरुरतमंद गरीबों, मजदूरों और निराश्रितों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट को देखते हुए शासन-प्रशासन की ओर से राज्य के सभी जिलों में नि:शुल्क भोजन और राशन उपलब्ध कराए जाने की व्यवस्था की गई है। इस कार्य में स्थानीय स्वयंसेवी संस्थाएं और दानदाता भी अपनी ओर से हरसंभव सहयोग कर रहे हैं। कैम्प में रह रहे लोगों के लिए,जिनमें छत्तीसगढ़ के अलावा दूसरे राज्यों के भी श्रमिक शामिल हैैं, उन्हें जिला प्रशासन की ओर से भोजन, चाय नाश्ता और चिकित्सा सुविधा नि:शुल्क मुहैया कराई जा रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज 2 अप्रैल को राज्य के 28 जिलों में 1 लाख 84 हजार 712 लोगों को नि:शुल्क भोजन और राशन का वितरण किया गया। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से अब तक 2 लाख एक हजार 298 लोगों को आवश्यक मदद और मास्क आदि का वितरण किया गया है। रायपुर जिले में सर्वाधिक 1 लाख 3 हजार 606 लोगों को नि:शुल्क भोजन और राशन देने के साथ ही उन्हें कोरोना संक्रामक बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए मास्क और अन्य सामाग्री का वितरण किया गया है। इसी तरह सुकमा जिले में 4077, राजनांदगांव में 98,893, रायगढ़ में 46,232, बस्तर में 13,648, कांकेर में 2749, बीजापुर में 570, जशपुर में 1720, कोरिया में 4908, सूरजपुर में 5146, बालोद में 13,557, कबीरधाम में 973, बलौदाबाजार में 7900, धमतरी में 5740, दुर्ग में 5530, महासमुंद में 2347, बलरामपुर में 2782, कोरबा में 14,803, सरगुजा में 1122, जांजगीरचांपा में 1052, बिलासपुर में 5395, कोण्डागांव में 2924, दंतेवाड़ा में 17,519, बेमेतरा में 2445, गरियाबंद में 5268, नारायणपुर में 636, मुंगेली में 11, 437 और गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 1529 जरुरतमंदों को नि:शुल्क भोजन, राशन और अन्य सहायता दी गई है।

 

Please Wait... News Loading