GLIBS
07-03-2020
धमतरी में आरटीओ और आडिटोरियम के लिए मिलेगी राशि, बजट में मिली सौगात  
07:36pm

धमतरी। धमतरी क्षेत्र के विकास के लिए विधायक रंजना साहू लगातार प्रयासरत है। बजट में उन्होंने विकास के कार्यो को शामिल करवाया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रस्तुत बजट में अनेक जनहित के लंबति मांगो को सम्मिलित कराने में सफल रही है,जिनमें लगभग 3500.00 लाख रूपये का कार्य है उनमें खरेंगा,कोलियार,दोनर मार्ग के चौडीकरण,मजबूतीकरण,जिसकी लम्बाई 33 किमी के लिए 1280.00 लाख, जिसमें पुल पुलिया भी सम्मिलित है। वही गौरव गांव कण्डेल से गागरा मार्ग में पुल निर्माण के लिए 130.00 लाख रूपये कुरूद,चर्रा छाती बोड़रा, सम्बलपुर मार्ग के चौड़ीकरण उन्नयन के लिए 530.00 लाख धमतरी भंवरमरा मार्ग के महानदी पर उच्चस्तरीय पूल निर्माण के लिए 500.00 लाख पीपरछेड़ी तरसीवा मार्ग कुरिया नाला में पुल निर्माण 200.00 लाख देवरी दोनर मार्ग पर पड़ने वाले पुल में निर्माण के लिए 200.00 लाख पीपरछेड़ी गागरा कण्डेल मार्ग उच्चस्तरीय पुल निर्माण के लिए 290.00 लाख एवं आरटीओ कार्यालय धमतरी के 172.17 लाख,आडीटोरियम भवन, पुलिया, सड़क के लिए विधानसभा के बजट में शामिल किया गया है।

06-03-2020
50 लाख का स्वीकृत कार्य नहीं हुआ शुरु, विनोद चंद्राकर के सवाल पर शिव डहरिया ने दिया जवाब
रा
06:35pm

महासमुंद। नगर पंचायत तुमगांव में अधोसंरचना मद से स्वीकृत पचास लाख रूपए की राशि से 14 कार्य दर स्वीकृति की कार्रवाई निकाय स्तर पर प्रचलित होने के कारण अब तक शुरू नहीं हो सके है। यह जानकारी नगरीय प्रशासन मंत्री डाॅ शिवकुमार डहरिया ने विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर के सवाल पर दी। बजट सत्र के दौरान गुरूवार को विधायक चंद्राकर के सवाल पर जानकारी देते हुए नगरीय प्रशासन मंत्री डहरिया ने बताया कि 16 अक्टूबर 2019 को अधोसंरचना मद से पचास लाख रूपए की स्वीकृति मिली थी। इसमें वार्ड क्रं 11 बंशी निर्मलकर के घर से गोविंद निर्मलकर के घर तक आरसीसी नाली निर्माण, वार्ड 7 में नेहरू के खेत से कांजी हाउस तक आरसीसी नाली निर्माण, वार्ड नं 1 उमाकांत साहू के घर से द्वारिका साहू के घर तक आरसीसी नाली निर्माण, वार्ड नं 5 अजूक पटेल घर से नहर क्रासिंग तक आरसीसी नाली निर्माण, वार्ड 11 दयाराम निर्मलकर घर से गोकूल दुकान तक आरसीसी नाली निर्माण, वार्ड नं 11 दयाराम निर्मलकर घर से गोकूल दुकान तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड नं 14 के पुलिया से यादव भवन तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड नं 12 मौली माता मंदिर से चेतन दुबे के घर तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड नं 13 घसिया बढ़ई घर से पुलिया तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड नं 11 लालाराम घर से टांडेकर घर तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड नं 2 श्रवण घर से शफीक मोहम्मद के घर तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड तीन जैतखांब से दाउ निर्मलकर के घर तक सीसी रोड निर्माण, वार्ड नं 7 धन्नू महराज के घर से बाल अमृत घर तक सीसी रोड निर्माण व वार्ड नं 7 सुरेश शर्मा घर से राकु दुकान तक सीसी रोड निर्माण कार्य शामिल हैं। ये सभी काम दर स्वीकृति की कार्रवाई निकाय स्तर पर प्रचलित होने के कारण अप्रारंभ है। इसी तरह वर्ष 2018-19 में अधोसंरचना मद से एक करोड़ 70 लाख 90 हजार की स्वीकृति मिली थी। जिसमें सभी 24 कार्य पूरे करा लिए गए हैं।

 

06-03-2020
कांग्रेस सांसदों के निलंबन मामले पर, लोकसभा स्पीकर की अध्यक्षता में बनी जांच कमेटी
रा
01:34pm

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण का शुक्रवार को पांचवां दिन है। दिल्ली हिंसा के मुद्दे को लेकर संसद में हर दिन हंगामा हो रहा है। बता दें कि गुरुवार को लोकसभा में कांग्रेस के 7 सांसदों को स्पीकर ओम बिरला ने खराब आचरण के आरोप में सस्पेंड कर दिया था। इसी कड़ी में शुक्रवार को सांसदों के निलंबन के मामले में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा है कि इसको लेकर एक जांच कमेटी बनाई जाएगी। इस कमेटी में सभी दलों के सदस्य होंगे। जांच के दौरान देखा जाएगा कि सदन में 2 से 5 मार्च के दौरान क्या कुछ हुआ। लोकसभा के अपने सात सदस्यों के निलंबन के खिलाफ और दिल्ली हिंसा पर जल्द चर्चा की मांग को लेकर कांग्रेस के सांसदों ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में शुक्रवार को संसद परिसर में प्रदर्शन किया। संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने हुए इस विरोध प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस नेताओं ने अपनी बांह पर काली पट्टी बांध रखी थी। राहुल गांधी और कई अन्य सदस्य बाद में काली पट्टी बांधकर ही लोकसभा की कार्यवाही में शामिल हुए।

 

05-03-2020
शराब बिक्री की रकम गटक गए प्लेसमेंट एजेंसी के कर्मचारी, विधायक के सवाल पर आबकारी मंत्री ने दी जानकारी
रा
08:28pm

महासमुंद। वित्तीय वर्ष 2019-20 में महासमुंद जिले की शराब दुकानों में शराब बिक्री के बाद पांच करोड़ आठ लाख 18 हजार 218 रूपए की राशि कम पाई गई। इसमें देशी शराब दुकान में तीन करोड़ 82 लाख 9 हजार 508 रूपए बिक्री राशि कम पाई गई। जबकि विदेशी शराब दुकान में एक करोड़ 26 लाख आठ हजार 710 रूपए बिक्री राशि कम मिली। यह जानकारी आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर के सवाल पर दी।
बजट सत्र के दौरान विधायक चंद्राकर ने महासमुंद जिले में शराब दुकानों में बिक्री राशि को लेकर सवाल उठाया। जिस पर जवाब देते हुए आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने बताया कि छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कार्पोरेशन लिमिटेड द्वारा महासमुंद जिले में संचालित देशी मदिरा दुकानों में वर्ष 2019-20 में देशी मदिरा दुकान अछोला में 25549270 रूपए, देशी मदिरा दुकान बागबाहरा में 445050 रूपए, देशी मदिरा दुकान बसना में 1014090 रूपए, देशी मदिरा दुकान बेमचा रोड में 268870 रूपए, देशी शराब दुकान भंवरपुर में 1428390 रूपए, देशी दुकान भुरकोनी में 495730 रूपए, देशी मदिरा दुकान गढ़फुलझर में 172100 रूपए, देशी मदिरा दुकान झलप में 479950 रूपए, देशी मदिरा दुकान झिलमिला में 135960 रूपए, देशी शराब दुकान कोल्दा में 374220 रूपए, देशी शराब दुकान कोमाखान में 346648 रूपए, देशी शराब दुकान नर्रा में 24540 रूपए, देशी शराब दुकान पिरदा में 2053510 रूपए, देशी शराब दुकान पिथौरा में 2053510 रूपए, देशी शराब दुकान सल्डीह में 447060 रूपए, देशी शराब दुकान सरायपाली में 875950 रूपए, देशी शराब दुकान स्टेशन रोड महासमुंद 2429140 रूपए, देशी शराब दुकान तोरेसिंहा में 137480 रूपए व देशी शराब दुकान तुमगांव में 655190 रूपए बिक्री राशि से कम पाई गई। इसी तरह विदेशी शराब दुकानों में से बागबाहरा दुकान से 685550 रूपए, बसना दुकान से 2376680 रूपए, भंवरपुर दुकान से 1037120 रूपए, छुईपाली दुकान से 1256240 रूपए, एकता चैक महासमुंद से 1396600 रूपए, गढ़फुलझर दुकान से 186300 रूपए, झलप दुकान से 91780, कोमाखान दुकान से 149630 रूपए, लक्ष्मीपुर दुकान से 378500 रूपए, पिरदा दुकान से 194780 रूपए, पिथौरा दुकान से 369460 रूपए, सरायपाली दुकान से 1878830 रूपए, सिरपुर दुकान से 1427020 रूपए, सितलीनाला महासमुंद दुकान से 617180 रूपए व विदेशी शराब दुकान तुमगांव से 563040 रूपए बिक्री की राशि कम पाई गई।

6 कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज

देशी मदिरा दुकान अछोला में दो करोड़ 54 लाख 64 हजार 480 रूपए शराब बिक्री राशि कम जमा करने पर कर्मचारी पीलूराम साहू,अश्वनी सोनकर, कामदेव धीवर, कौशल गजेंद्र, चंद्रप्रकाश पुष्पाकर व लेखराम बंजारे के खिलाफ तुमगांव पुलिस में धारा 406, 468 के तहत मामला दर्ज कराया गया है। 49352710 रूपए में से प्लेसमेंट एजेंसी मेसर्स ईगल हंटर सोल्यूशन लिमिटेड नईदिल्ली से 37272062 रूपए राशि वसूल की गई। जबकि शेष राशि वसूली की कार्रवाई की जा रही है। इसी तरह मेसर्स अलर्ट कमांडोस प्रा.लिमिटेड बैंगलोर से 1465508 रूपए की राशि वसूल की गई है। वहीं वर्तमान नियोजन एजेंसी की शिकायत पर जांच उपरांत छग स्टेट मार्केटिंग कार्पोरेशन लिमिटेड द्वारा एक लाख रूपए शास्ति अधिरोपित की गई है।

दस हजार 205 युवाओं को मिला प्रशिक्षण

वर्ष 2016-17 से प्रश्नावधि तक कौशल विकास योजना के तहत जिले में 10205 युवाओं को प्रशिक्षण दिया गया है। विधायक चंद्राकर के सवाल पर उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले के महासमुंद विधानसभा में 4789, खल्लारी में 3884, बसना में 345 व सरायपाली में 1187 युवाओं को प्रशिक्षण दिया गया है। वहीं प्रशिक्षण प्राप्त 18 युवाओं को स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध कराया गया है। जिसमें वर्ष 2017-18 में 11 व वर्ष 2018-19 में 7 युवा हितग्राही शामिल हैं।

 

03-03-2020
बजट में निराशाजनक और सकारात्मक दोनों बातें : अजीत जोगी
रा
10:52pm

रायपुर। विधानसभा में भूपेश सरकार के मंगलवार को पेश हुए वर्ष 2020-21 के बजट पर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के सुप्रीमो, पूर्व मुख्यमंत्री एवं मरवाही के विधायक अजीत जोगी ने कहा कि बजट में बेरोजगारों के लिए कुछ नहीं, उन्हें छला गया है। उन्होंने कहा कि इस बजट में निराशाजनक बात यह है कि बेरोजगारों के लिए ना तो रोजगार की बात की गई है और ना ही बेरोजगारी भत्ते की। सरकार ने शराबबंदी का वादा भी इस बजट में पूरा नहीं किया। प्रदेश में कर्ज के बोझ तले दबी हुई स्व सहायता समूह की महिलाओं को उम्मीद थी कि यह सरकार अपने वायदे के अनुसार उनके कर्ज माफी की घोषणा इस बजट में करेगी, परंतु इस सरकार ने स्व सहायता समूह की महिलाओं के साथ भी छल किया। दैनिक वेतन भोगी एवं संविदा कर्मियों के नियमितीकरण के वादे से भी यह सरकार मुकर गई। अजीत जोगी ने कहा कि इस बजट में सकारात्मक बात यह भी है कि उन्हें राजनीति में लाने वाले स्व.राजीव गांधी के नाम पर योजना बनाकर किसानों को धान खरीदी की अंतर राशि देने की "राजीव गांधी किसान न्याय योजना" यह सरकार शुरू करने जा रही है और इस सरकार ने आदिवासी बाहुल्य सरगुजा एवं बस्तर के लिए भी कई घोषणाएं की हैं। नए जिले गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में जिला कार्यालय एवं कंपोजिट बिल्डिंग के लिए 17 करोड़ रुपए का प्रावधान बजट में रखा गया है, बजट में इन प्रावधानों के लिए मैंने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया है।

 

03-03-2020
छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार का बजट भाजपाई लीक पर चलने वाला : माकपा
रा
05:03pm

रायपुर। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस सरकार द्वारा पेश बजट को भाजपाई लीक पर चलने वाला बजट करार दिया है। माकपा सचिव संजय पराते ने कहा कि भाजपा ने पिछले 15 सालों में जिन कॉपोर्रेटपरस्त नीतियों को लागू किया था, उससे हटने की कोई झलक इस बजट में नहीं दिखती। यही कारण है कि इसमें योजनाएं, घोषणाएं और वादे तो हैं, लेकिन इसे जमीन में उतारने के लिए पर्याप्त बजट प्रावधान तक नहीं है। पिछले वर्ष विभिन्न विभागों को आबंटित बजट का 20 प्रतिशत से 35 प्रतिशत तक खर्च नहीं हुआ है, इसलिए बजट का आकार भी कोई मायने नहीं रखता और इतने बड़े बजट में पूंजीगत व्यय को मात्र 14 प्रतिशत ही रखा जाना अर्थव्यवस्था की रफ्तार को कम करेगा। पराते ने कहा कि प्रदेश का आर्थिक सर्वेक्षण बताता है कि अर्थव्यवस्था से जुड़े तमाम संकेतकों में पिछले वर्ष की तुलना में गिरावट आई है। इससे स्पष्ट है कि देशव्यापी मंदी के प्रभाव से अब छत्तीसगढ़ भी अछूता नहीं है। इस तथ्य को छुपाने के लिए प्रदेश के आर्थिक संकेतकों की तुलना मंदी में फंसे देश के संकेतकों से की जा रही है, जो पूरी तरह से गलत है। आर्थिक संकेतकों में गिरावट और प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि का सीधा अर्थ है कि प्रदेश में आर्थिक असमानता बढ़ रही है और इस हकीकत को ढंकने के लिए बजट के जरिये आम जनता पर राहत के छींटें मारने की कोशिश की गई है।

 

03-03-2020
बजट में योजनाओं का झुनझुना थमाकर विकास कार्यों की अनदेखी हुई : उसेंडी
रा
04:28pm

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने राज्य सरकार के बजट को दिशाहीन और निराशाजनक बताया है। उसेंडी ने कहा कि आर्थिक प्रबंधन के मोर्चे पर प्रदेश सरकार का यह बजट वैचारिक दिशाहीनता और नेतृत्व की विफलता का श्वेत पत्र है,जिसमें प्रदेश को विभिन्न योजनाओं का झुनझुना थमाकर लोगों को जरूरतों और जरूरी विकास कार्यों की अनदेखी कर दी गई है। इस बजट में न औद्योगिक क्षेत्रों के लिए कुछ नया विजन है और न ही सबसे विकसित प्रदेश होने की तैयारी। राज्य सरकार के इस बजट में कांग्रेस के जनघोषणा पत्र की कोई झलक दिखाई ही नहीं दे रही है। नीति आयोग की रिपोर्ट बताती है कि पहले बजट से छत्तीसगढ़ देश में 15 से 21 स्थान पर फिसला अब दूसरे बजट से कहा पहुंचेगा पता नहीं?

उसेंडी ने कहा कि धान खरीदी के मोर्चे पर बुरी तरह विफल रही प्रदेश सरकार के पास कृषि के नवीनीकरण की कोई योजना तो है ही नहीं, किसानों के स्थायी कल्याण और उनकी खेती व अर्थतंत्र को मजबूत व लाभप्रद बनाने का कोई भी दृष्टिकोण नजर नहीं आ रहा है। खेती की सिंचाई के लिए भी जो घोषणाएं बजट में की गई हैं, आधे-अधूरे मन से की गई हैं। नरवा-गरवा-घुरवा-बारी जैसी अपनी ही योजना के प्रति प्रदेश सरकार कोई ठोस काम करने की इच्छाशक्ति नहीं दिखा पा रही है।

उन्होंने कहा कि शिक्षा जगत हो या सामाजिक कल्याण, युवा कल्याण, किसी भी मोर्चे पर सरकार काम करने की इच्छा-शक्ति से शून्य नजर आ रही है। शराबबंदी के वादे पर प्रदेश सरकार फिर मौन साधे बैठ गई है। सुपोषण का ढोल पीट रही सरकार ने कुपोषण से मुक्ति के लिए बजट में पर्याप्त प्रावधान नहीं किया है। स्वास्थ्य योजनाओं के नाम पर भी प्रदेश सरकार का यह बजट छत्तीसगढ़ को बेहतर स्वास्थ्य और मरीजों को राहत की गारंटी देता नहीं दिख रहा है। उसेंडी ने कहा कि कुल मिलाकर बजट के नाम पर प्रदेश सरकार ने केन्द्र सरकार से मिलने वाले राज्यांश को ही बजट प्रावधान बनाकर प्रदेश को भरमाने और बजट के नाम पर खानापूर्ति करने का काम किया है।

03-03-2020
कांग्रेस के घोषणा पत्र के विपरीत है भूपेश सरकार का बजट : कोमल हुपेंडी
रा
04:29pm

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में पेश बजट को आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस के घोषणा पत्र के विपरीत बताया है। प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने कहा कि जितने भी वादे अपनी चुनावी घोषणा पत्र में किये थे चाहे वह बेरोजगारी भत्ता, शराबबंदी, युवाओं के रोजगार, स्वरोजगार योजना सभी इनके घोषणा पत्र के विपरीत हैं। हुपेंडी ने कहा कि शिक्षाकर्मियों के संविलियन के अलावा बजट में कुछ नया नहीं है। यह एक रूटीन बजट की तरह है। हर बार लोकलुभावन बजट सरकार पेश करती है लेकिन इसे जमीनी हकीकत में तब तब्दील किया जा सकता है जब सरकार ईमानदारी से इस पर काम करे।

03-03-2020
बजट पर नेता प्रतिपक्ष का बयान कहा - न दीया न तेल केवल नाउम्मीदी का खेल
रा
03:52pm

रायपुर। प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कौशिक ने कहा कि इस पूरे बजट में कहीं भी छत्तीसगढ़ के आम जनों की चिंता नहीं की गई है। इस बजट को लेकर यही कहा जा सकता है कि दीया है न तेल, केवल नाउम्मीदी का खेल है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि कांग्रेस की सरकार अपने घोषणा पत्र में किये गये वादों को भी पूरा करने में नाकाम है। शराबबंदी को लेकर कुछ भी नहीं किया गया है। जिन वादों के साथ कांग्रेस सत्ता में आयी है उन्हीं वादों से मुकर रही है। उन्होंने कहा कि उद्योग को निराशा हाथ लगी है। उद्योग के लिये कुछ भी खास नहीं है। आधारभूत संरचना को मजबूत करने के दिशा में कोई काम नहीं हुआ है। निवेश की संभावनाएं शून्य हैं। उन्होंने कहा कि महिला सुरक्षा की कोई चिंता नहीं की गई है। कौशिक ने कहा कि गरीब, मजदूर, किसान, युवाओं को बजट में ठगा गया है। बजट पूरी तरह से कोरी कल्पनाओं पर केंद्रित है। विकास की सोच से कोसों दूर है। उन्होंने कहा कि ये छत्तीसगढ़ में वादाखिलाफी का सबसे बड़ा बजट है। कांग्रेस सरकार ने पूरी तरह से असफल बजट पेश किया है।

 

Please Wait... News Loading