GLIBS
01-11-2019
पांच चरणों में होगा झारखंड विधानसभा का चुनाव, मतगणना 23 दिसंबर को
रा
08:46pm

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव का ऐलान हो गया है। पांच चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे। पहले फेज के लिए 30 नवंबर को वोटिंग होगी, जबकि दूसरे चरण के लिए 7 दिसंबर, तीसरे फेज के लिए 12 दिसंबर, चौथे फेज के लिए 16 दिसंबर और पांचवें फेज के लिए 20 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे। 23 दिसंबर को मतगणना होगी और चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे। विधानसभा चुनावों के ऐलान के साथ ही राज्य में आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गयी है। पहले चरण में 13, दूसरे चरण में 20, तीसरे चरण में 17, चौथे चरण में 15 और पांचवें चरण में 16 सीटों पर मतदान होगा। जिसमें पहले चरण के लिए 6 से 13 नवंबर तक नामांकन होगा। दूसरे चरण के लिए 11 से 18 नवंबर तक, तीसरे फेज के लिए 16 से 25 नवंबर, चौथे फेज के लिए 22 से 29 नवम्बर और पांचवें चरण के लिए 26 नवम्बर से 3 दिसम्बर तक नामांकन होगा। वर्तमान झारखंड विधानसभा का टर्म 5 जनवरी 2020 को खत्म हो रहा है। कुल 81 सीटें हैं, जिसमें 9 एससी के लिए सुरक्षित सीटें हैं। राज्य में 2.65 करोड़ मतदाता हैं। चुनाव आयोग की टीम 17 और 18 अक्टूबर को रांची आई थी और तैयारियों का जायजा लिया था। इस दौरान राज्य के आला अधिकारियों के साथ बैठक भी की थी। फोर्स की उपलब्धता और हेलीकॉप्टर पर बातचीत हुई थी। सूबे के 24 में से 19 जिले नक्सल प्रभावित हैं। 13 अतिनक्सल प्रभावित जिले हैं।   

26-10-2019
खट्टर चुने गए भाजपा विधायक दल के नेता, रविवार को ले सकते है मुख्यमंत्री पद की शपथ
रा
01:17pm

नई दिल्ली। हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी मिलकर सरकार बनाएंगे। चंडीगढ़ में शनिवार को बीजेपी विधायक दल की बैठक हुई, विधायक दल की बैठक के बाद खट्टर राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मनोहर लाल खट्टर रविवार दोपहर दो बजे शपथ भी ले सकते हैं। दिल्ली से पर्यवेक्षक बनकर गए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जानकारी दी कि मनोहर लाल खट्टर सर्वसम्मति से बीजेपी विधायक दल के नेता चुने गए। उन्होंने बताया कि बैठक में अनिल जैन ने खट्टर के नाम का प्रस्ताव रखा। इस फैसले के बाद रविशंकर प्रसाद ने खट्टर को लड्डू भी खिलाया। पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पर्यवेक्षक बनकर हरियाणा जाना लेकिन फिर उनकी जगह रविशंकर प्रसाद पहुंचे। अनिल जैन भी इस बैठक में मौजूद रहे। बता दें कि अभी भी जेजेपी की तरफ से डिप्टी सीएम कौन होगा इसका फैसला नहीं हुआ है। विधायक दल के नेता चुने जाने के बाद मनोहर लाल खट्टर ने कहा, ''विधायकों ने सर्वसम्मति से मुझे नेता चुना है, मैं इसके लिए सभी का धन्यवाद देता हूं। जिस तरह से हमने पिछले पांच साल में सरकार चलाई है उसी तरह अगले पांच साल भी साफ सुथरी सरकार चलाने का प्रयास करेंगे। मैं प्रदेश की जनता को भी धन्यवाद देता हूं।''


हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी की सरकार बनने का फॉर्मूला कल रात ही तय हुआ है। जेजेपी अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला से मुलाकात के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कल रात करीब नौ बजे एलान किया। दुष्यंत चौटाला के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए अमित शाह ने कहा कि हरियाणा में बीजेपी जेजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाएगी। अमित शाह ने कहा, ''हरियाणा बीजेपी के सभी वरिष्ठ और जेजेपी के नेताओं की आज बैठक हुई। हरियाणा की जनता ने जो जनादेश दिया है उसे मद्देनजर रखते हुए, उसे स्वीकार करते हुए दोनों पार्टियों के नेताओं ने तय किया है कि हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी मिलकर सरकार बनाएंगी। इस सरकार में मुख्यमंत्री बेजीपी का होगा और उप मुख्यमंत्री जेजेपी से होगा।'' बहुमत से चूकने के बाद हरियाणा में बीजेपी को गठबंधन की लाठी लेनी पड़ी है और उसकी लाठी बनी है। चौटाला परिवार की ही पार्टी जननायक जनता पार्टी यानी जेजेपी चाबी निशान वाले ओमप्रकाश चौटाला के पोते दुष्यंत चौटाला बीजेपी को सत्ता की चाबी सौंपी है। 10 विधायकों का समर्थन देकर जेजेपी ने बीजेपी के हाथ से हरियाणा फिसलने नहीं दिया। कल रात अमित शाह के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में दुष्यंत चौटाला बैठे और हरियाणा का सस्पेंस खत्म हो गया।

24-10-2019
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: आदित्य ठाकरे ने वर्ली से दर्ज की शानदार जीत
रा
04:10pm

मुंबई। शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे ने वर्ली विधानसभा सीट पर जीत हासिल की है। आदित्य ने गुरुवार को घोषित नतीजों में एनसीपी के सुरेश माने को मात दी। आदित्य चुनाव लड़ने वाले ठाकरे परिवार के पहले सदस्य हैं और इस तरह ठाकरे परिवार को अपना पहला विधायक मिल गया है। इस सीट से एमएनस प्रमुख और आदित्य के चाचा राज ठाकरे ने उनके खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारा था। 29 वर्षीय आदित्य ठाकरे शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे के पोते और वर्तमान पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे और युवा सेना प्रमुख हैं। इन विधानसभा चुनावी समर में उतरते हुए उन्होंने चुनाव न लड़ने की ठाकरे परिवार की लगभग छह दशक पुरानी परंपरा को बदल दिया। इन चुनावों में बीजेपी ने जहां 150 सीटों पर चुनाव लड़ा था तो वहीं शिवसेना ने 124 सीटों पर चुनाव लड़ा था। 2014 के चुनावों में बीजेपी और शिवसेना ने अकेले चुनाव लड़ते हुए क्रमश: 122 और 63 सीटें जीती थीं और चुनाव बाद गठबंधन करते हुए सरकार बनाई थी। 

 

24-10-2019
हरियाणा विधानसभा चुनाव : हारे कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, प्रदेश भाजपाध्यक्ष ने दिया इस्तीफा
रा
03:27pm

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता व प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला की विधानसभा चुनाव में बड़ी हार हुई है। हरियाणा में कांग्रेस का गढ़ माने जाने वाली विधानसभा सीट कैथल से चुनाव लड़ रहे सुरजेवाला को हार का सामना करना पड़ा है। लगातार दो बार इसी सीट से जीत हासिल कर चुके रणदीप सिंह सुरजेवाला हैट्रिक लगाने से चूक गए। उनके सामने भारतीय जनता पार्टी के लीला राम मैदान में थे। इधर बरोदा विधानसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त इस सीट को जीतने में सफल नहीं हुए। योगेश्वर दत्त का मुकाबला मौजूदा विधायक कांग्रेस के श्रीकृष्ण हुड्डा के साथ था।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। टोहना विधानसभा सीट सुभाष बराला का हारना लगभग तय है क्योंकि यहां जेजेपी के देवेंद्र सिंह बबली ने काफी बड़ी बढ़त बना ली है। आदमपुर से कांग्रेस के उम्‍मीदवार कुलदीप बिश्‍नोई ने दोबारा जीत हासिल की है। उन्‍होंने यहां टिकटॉक स्‍टार भाजपा की उम्‍मीदवार सोनाली फोगाट को हराया है। किलोई सांपला से पूर्व सीएम और कांग्रेस उम्मीदवार भूपेंद्र सिंह हुड्डा 23 हजार से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं। 

24-10-2019
हरियाणा विधानसभा चुनाव : मतगणना के दौरान लाठीचार्ज, ये थी वजह
रा
03:27pm

कुरुक्षेत्र/कैथल। हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के मतों की गणना जारी है। इस बीच दो जगह विवाद की खबरें सामने आई हैं। खबर है कि कुरुक्षेत्र के पिहोवा में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा है। साथ ही निर्दलीय प्रत्याशी के एजेंट समेत 2 लोगों को हिरासत में भी लिया है। इसके अलावा कैथल जिले के पुंडरी में सुबह मतगणना शुरू होने के थोड़ी देर बाद कहासुनी हो गई थी। हालांकि यहां दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत कर दिया गया। खबर के मुताबिक पिहोवा विधानसभा क्षेत्र के वोटों की गिनती हो रही थी तब निर्दलीय प्रत्याशी स्वामी संदीप ओंकार एक गांव से एक ही वोट मिला। यहीं से विवाद शुरू हो गया। मतगणना स्थल पर मौजूद स्वामी संदीप के समर्थक भड़क गए और तर्क देने लगे कि जिस गांव में उनके सैकड़ों कार्यकर्ता हैं, उस गांव में सिर्फ 1 वोट कैसे मिल सकता है। मतगणना में जरूर कोई गड़बड़ी हो रही है।

समर्थकों ने गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए मतगणना स्थल पर नारेबाजी शुरू कर दी। इस पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया और उनको बाहर निकाल दिया। बाद में पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया। मतगणना के दौरान विवाद की दूसरी खबर हरियाणा के कैथल जिले के पुंडरी से है। यहां सुबह निर्दलीय प्रत्याशी रणधीर गोलन के समर्थकों ने आरोप लगाया कि पोस्टल बैलेट के कुछ वोट भाजपा उम्मीदवार लीला राम गुर्जर के खाते में लिखे जा रहे थे। कहासुनी के बारे में पता चलने के बाद एडीसी राहुल हुड्डा मौके पर पहुंचे। उन्होंने दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत किया और लगभग 20 मिनट के बाद मतगणना फिर से शुरू हो गई।