GLIBS
25-04-2020
नकली सॉफ्ट ड्रिंक बनाने वाले के घर छापामारी, निर्माण सामग्री की गई सील, जांच के लिए भेजा सैंपल

कोण्डागांव। केशकाल में एक निजी उद्योग के अंतर्गत लॉक डाउन के बाद भी लगातार सॉफ्ट ड्रिंक निर्माण कार्य निरन्तर चलने की खबर जिला प्रशासन को प्राप्त हुई। इस पर कलेक्टर नीलकंठ टीकाम के मार्गदर्शन पर एसडीएम केशकाल दीनदयाल मंडावी, तहसीलदार राकेश साहू व जिला खाद्य अधिकारी डोमेंद्र ध्रुव, थाना प्रभारी देवेंद्र दर्रो, सीएमओ नामेश कावड़े के द्वारा संयुक्त टीम गठित कर निर्माता के यहां दबिश देकर उक्त निर्माण स्थल को सील कर दिया गया है। ज्ञातव्य है कि केशकाल में बीते दिनों में लगातार शासन प्रशासन के नियमों को अनदेखा कर विभिन्न प्रकार के प्रतिबंधित क्रियाकलाप किये जाने की जानकारी प्राप्त होती रही है, इसी बीच नगर के एक निजी व्यवसायी के द्वारा अपने घर में मशीनों से सॉफ्ट ड्रिंक निर्माण (स्प्रिंट एवं फेंटास) जो स्प्राइट और फेंटा का डुप्लीकेट नाम से बनाने का कार्य किया जा रहा था। ज्ञात हो कि इन नकली नामों वाले पेय पदार्थों को गांवों में खपाया जाता है। ऐसे में जानकारी प्राप्त होने पर जिला खाद्य अधिकारी ने शनिवार को स्थानीय प्रशासन, नगर पंचायत एवं पुलिस की टीम के साथ मौके पर दबिश दी। इस दौरान  निर्माण स्थल पर भारी मात्रा से डुप्लीकेट  सामानों को जब्ती किया गया एवं उन सभी सामानों में  उत्पादन का दिनांक एवं अवशान की तिथि अंकित नहीं की गई थी, जिसके बाद सभी सामग्री व मशीनों को सील कर सैंपल लिया गया। जिला खाद्य अधिकारी ने बताया कि सूचना प्राप्त होते ही स्थानीय प्रशासन की मदद से मौके पर टीम रवाना कर दी गई थी। उस स्थान पर अवैध रूप से सॉफ्ट ड्रिंक का नकली नामों से निर्माण किया जा रहा था। इस पर पूरी टीम, पुलिस बल एवं नगर पंचायत कर्मियों ने साथ मिलकर मौके पर पहुंची एवं सभी सामानों को सील कर उक्त उत्पादों का सैम्पल ले लिया गया है। जांच के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

 

25-04-2020
मुख्यालय में पटवारी के अनुपस्थित होने पर कलेक्टर ने किया ट्रांसफर

कोण्डागांव। जिले में विकास कार्यों की प्रगति का जायजा लेने कलेक्टर नीलकंठ टीकाम स्वयं पूरे जिले में दौरा कर रहे हैं। इसी क्रम में कलेक्टर विकासखण्ड बड़ेराजपुर के एफआरए क्लस्टर ग्राम गम्हरी पहुंचे। जहां उन्होंने क्लस्टर गम्हरी के अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा लिया साथ ही यहां मनरेगा के अंतर्गत कार्यों की समीक्षा की और कार्य में लगे श्रमिकों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि लाॅक डाउन में दी गई।कलेक्टर ने दौरे के दौरान मुख्यालय में पटवारी के अनुपस्थित पाए जाने पर कलेक्टर ने ग्राम गम्हरी में कार्यरत पटवारी के स्थानांतरण के निर्देश दिए। साथ ही तहसीलदार द्वारा जल्द से जल्द नए पटवारी की गम्हरी में पदस्थ किए जाने के आदेश दिए।इस दौरान उन्होंने माकड़ी एवं विश्रामपुरी के मध्य बन रही सड़कों का सर्वे किया साथ ही इस मार्ग पर बन रहे नालो एवं पुलों का निरीक्षण किया तथा निर्माण कार्यों की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया, तत्पश्चात कलेक्टर कांकेर एवं कोण्डागांव की सीमा पर बसे ग्रामों में निर्माणाधीन गौठानो का जायजा लिया एवं विश्रामपुरी में बन रहे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं शाला भवन का भी निरीक्षण किया।

 

01-11-2019
निर्माण कार्यों के गुणवत्ता को लेकर नहीं होगा कोई समझौता - नीलकंठ टीकाम

 

कोंडागांव। जिला कार्यालय के सभाकक्ष में शुक्रवार को कलेक्टर नीलकंठ टीकाम द्वारा जिले में कराए जा रहे डीएमएफ-एलडब्लूई-सीएसआर मद तथा आदिवासी विकास प्राधिकरण, सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना एवं विधायक निधि अंतर्गत निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा की गई। कलेक्टर ने इस मौके पर कहा कि इन योजनाओं के तहत कराये जा रहे कार्यो से ग्राम पंचायतो की स्थिति में लगातार परिवर्तन आया है इसलिए कार्यों की गुणवत्ता के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता है। अतः संबंधित अधिकारी सही कार्य सही समय पर करे और गुणवत्तायुक्त कार्यों को सदैव प्रोत्साहन मिलेगा। इसके लिए लगातार निर्माण स्थलों में स्थल परीक्षण किया जाना चाहिए और किसी भी निर्माण कार्यो की क्वालिटी दोषयुक्त होने पर संबंधित एजेंसियां ही जिम्मेदार मानी जाएगी। इसके साथ ही पूर्ण हो गए निर्माण कार्यो के कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र जिला कार्यालय में उपलब्ध कराए जाए। अधिकारियों को यह भी नसीहत दी गई कि अपने विभाग संबंधी निर्माण कार्यो हेतु प्रशासकीय स्वीकृति राशि जारी करने में बिल्कुल भी विलंब न किया जाए।

बैठक में जिला खनिज संस्थान न्यास निधि (डीएमएफ) अंतर्गत नवीन जिला अस्पताल कोण्डागांव पेवर ब्लाॅक कार्य, नरवा कार्यक्रम के तहत जिले के प्रमुख नदी-नालो में वाटर कंर्जवेशन डाइक निर्माण कार्य, जनपद पंचायत फरसगांव के अंतर्गत विभिन्न ग्राम पंचायतो में 100 हितग्राही को स्व-रोजगार हेतु हथकरघा मशीन एवं कपड़ा बुनाई कार्य एवं विशेष केन्द्रीय सहायता योजना (एलडब्लूई) अंतर्गत जिला अस्पताल में मूलभूत सुविधाऐं (कैंटीन, बाउण्ड्रीवाल, मरीजो के लिए शेड), विकासखण्ड कोण्डागांव में वन अधिकार मान्यता प्राप्त हितग्राहियों हेतु आर.सी.सी. पोल निर्माण कार्य एवं चैनलिंक स्टील वायर फैंसिंग कार्य, दुग्ध समिति जुगानी में 3 हजार लीटर की क्षमता का ब्लक मिल्क कुलर इकाई की स्थापना, नक्सल प्रभावित क्षेत्र के बेरोजगार युवक-युवतियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मधुमक्खी एवं लाख पालन, औषधि पौधा रोपण हेतु प्रशिक्षण और एनएमडीसी परिक्षेत्र विकास निधि अंतर्गत कोण्डागांव के नारायणपुर चैक में सामुदायिक शौचालय एवं बहुउद्देशीय जिम्नेजियम जैसे निर्माण कार्यो की अद्यतन प्रगति की समीक्षा हुई।

इसके अलावा सांसद एवं विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के अंतर्गत अपूर्ण कार्यो जैसे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-केशकाल अंतर्गत ग्राम बड़ेठेमली, सिदावण्ड, पीपरा और खालेमुरवेण्ड में रंगमंच निर्माण, ग्राम करमरी में चबूतरा निर्माण, ग्राम खालेमुरवेण्ड के डोण्डरेपाल में आर.सी.सी स्लेब पुलिया निर्माण, ग्राम मस्सुकोकोड़ा, पीपरा, कोहकामेटा, चिखलडीही, खुटपदर, ऐटेकोनाड़ी, डुमरपदर, सालेभाट, कुकाड़दाह, सवाला, तोड़ासी, कलेपाल, हलिया, आंवराभाटा, आंवरी, जामगांव में पेयजल उपलब्ध कराये जाने हेतु पानी टेंकर प्रदाय, ग्राम तेंदुभाटा में मुक्तिधाम निर्माण, ग्राम लंजोड़ा एवं मोदे बेड़मा में सांस्कृतिक भवन निर्माण तथा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-कोण्डागांव अंतर्गत कोसरिया, मरार, कलार एवं क्षत्रीय समाज हेतु सामुदायिक भवन निर्माण, डीएनके कालोनी स्थित सांस्कृतिक मंच निर्माण, सरस्वती शिशु मंदिर में अतिरिक्त कक्ष निर्माण, ग्राम रांधना में सामुदायिक भवन, शामपुर, माकड़ी एवं छिनारी में सांस्कृतिक भवन निर्माण जैसे कार्यो को कलेक्टर ने समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। बैठक में वनमण्डलाधिकारी बी.आर.ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत साहू, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जी.एस.सोरी, जिला सांख्यिकी अधिकारी सिप्रियानुस कुजूर सहित सभी जनपद पंचायत के सीईओ और संबंधित विभाग के अधिकारी, अभियंता एवं तकनीकी सहायक उपस्थित थे।

15-01-2019
Collectorate : 3 फरवरी को 79 हजार 147 बच्चों पिलाया जाएगा पोलियो ड्राॅप 

कोंडागांव। जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम की अध्यक्षता मे कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में 3 फरवरी को पल्स पोलियो कार्यक्रम के संबंध में बैठक हुई। बैठक में जिला कलेक्टर ने इस अभियान से संबधित विभागों को आपसी समन्वय एवं दायित्व के साथ सफल करने को निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जिले मे शत् प्रतिशत पोलियो ड्राप बच्चोंं को पिलाने का लक्ष्य पूरा होना चाहिए। इसके लिए सभी विभाग अभी से ही तैयारिया पूरी कर ले। ज्ञात हो कि पल्स पोलियो कार्यक्रम की कार्ययोजना के तहत् जिले मे 5 वर्ष से कम आयु के 79147 बच्चे लक्षित किए गए है। इसे देखते हुए टीकाकरण बूथों की संख्या 671 बूथ टीम सदस्यों की संख्या 1611 और क्षेत्र में अनुमानित घरों की संख्या 112604 निर्धारित की गई है। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804