GLIBS
04-06-2020
गजराजों ने किया धमतरी का रुख, ग्रामीणों को सचेत रहने वन विभाग ने कराई मुनादी

धमतरी। जिले के मगरलोड क्षेत्र के उत्तर सिंगपुर वन परिक्षेत्र में 21 हाथियों का दल ग्राम मोहेरा, जलकुंभी, हतबंद, अमलीडीह परसाबुड़ा, रेंगाडीह, राजाडेरा के आसपास देखा गया है। ज्ञात हो कि हाथियों ने गरियाबंद क्षेत्र में उत्पात मचाने के बाद मगरलोड क्षेत्र के जंगल में प्रवेश कर चुके हैं। मगरलोड विकासखंड के ग्रामीण दहशत में हैं। वन विभाग के उच्च अधिकारी गांव में पहुंचकर ग्रामीणों को सचेत कर रहे हैं कि हाथियों का दल गांव में धावा ना बोल दे। डीएफओ अमिताभ बाजपेई ने बताया कि हर गांव में मुनादी कर दी गई है और लोगों को सचेत किया जा रहा है। 21 जंगली हाथियों के झुंड कर्मचारियों द्वारा देखा गया है और लगातार सतर्कता बरती जा रही है। वन अधिकारी कर्मचारी दिन-रात इन हाथियों की जाने की दिशा को चौबीसों घंटे नजर में रख रहे हैं।

01-06-2020
भूमि का मुआवजा दिलवाने के लिए ग्रामीणों ने की कलेक्टर से भेंट

अंबिकापुर। कलेक्टर सरगुजा के उदयपुर प्रवास के दौरान झिरमिटी एवम् डोकेननारा के ग्रामीणों ने कलेक्टर से मुलाकात कर निर्माणाधीन राष्ट्रीय राजमार्ग मे प्रभावित निजी भूमि के मुआवजा के देरी के संबंध मे चर्चा की। इसपर कलेक्टर सरगुजा द्वारा पहल कर संबंधित अधिकारियों को तत्काल मुआवजा भुगतान के निर्देश दिये गये।ग्रामीणों से प्राप्त जानकरी के अनुसार मई 2016 में ही अधिग्रहित की जाने वाली भूमि के संबंध मे इश्तहार प्रकाशित कर अधिग्रहण की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गइ थी। इस बीच मई 2019 के मध्य इश्तहारों का प्रकाशन किया जाकर भू अर्जन अधिकारी अम्बिकापुर द्वारा मई 2019 में अवार्ड भी पारित कर दिया गया। बिना मुआवजा भुगतान किये सड़क निर्माण का कार्य लगभग पुर्णता की ओर है। परंतु लोगों को अभी तक मुआवजा नहीं मिला है। इससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। 

 

31-05-2020
कोरोना से बचाव के लिए चंपादेवी पावले ने की ग्रामीणों से सतर्कता बरतने की अपील

कोरिया। सोनहत मंडल के भैसवार और बदरा का रविवार को पूर्व संसदीय सचिव चंपादेवी पावले ने दौरा किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों और कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर उनका हालचाल जाने। चंपादेवी पावले ने ग्रामीणों से कोरोना से बचाव के लिए सतर्कता बरतने की अपील की। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और भीड़ वाले स्थानों में जाने से बचने का सुझाव ग्रामीणों को दिया। दौरे में उनके साथ हरिश्चन्द्र,भुवनेश्वर सिंह,चंद्रिका,अनिल जायसवाल, महिपाल सिंह उपस्थित थे।

31-05-2020
छत्तीसगढ़ के धोरधरा में पहुंचा टिड्डी दल, ग्रामीणों को सता रही फसल की चिंता

रायपुर/कोरिया। मध्यप्रदेश की सीमा के दक्षिण से निकली टिड्डियां कोरिया में घुस चुकी है। जानकारी के अनुसार वनांचल क्षेत्र भरतपुर के ग्राम पंचायत चरखर के ग्राम धोरधरा के ज्वारीटोला में टिड्डी पहुंच गई है। इधर कृषि विभाग ने ग्रामीणों को अलर्ट किया है लेकिन टिड्डियां कहीं उनकी फसल चौपट न कर दे इसकी चिंता ग्रामीणों को सता रही है। टिड्डे से फसलों के बचाव के लिए उचित सलाह, मार्गदर्शन और नियंत्रण के लिए कृषि विभाग के उप संचालक के कार्यालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है। उपसंचालक ने बताया कि कंट्रोल रूम का दूरभाष क्रमांक 07836-232214 है और यह 24 घंटे संचालित होगा। इसके लिए अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी गई है।

25-05-2020
छाँन्दनपुर सड़क की हालत ख़राब, ग्रामीणों को हो रही आवागमन में परेशानी

बसना। विकासखंड बसना के छाँन्दनपुर रोड की सड़क की हालत विगत पाँच वर्षों से ख़राब है । इसकी शिकायत क्षेत्रवासियों द्वारा कई बार की जा चुकी है परंतु आज पर्यन्त इस पर कोई ध्यान नहीं देने से ग्रामीणजनो में निराशा के साथ आक्रोश पैदा होता नजर आने लगा हैं ।बता दें कि उक्त सड़क पीडब्लूडी की है,जिसकी लम्बाई महज़ पाँच किमी है,जो बसना नगर से होते हुए खेमड़ा,छाँन्दनपुर,रेमड़ा होते हुए तिलांजनपुर को जोड़ती है। इस सड़क का निर्माण विगत पंद्रह वर्षों पूर्व शासन द्वारा करवाया गया था। इसके बाद से आज पर्यन्त इस सड़क नवीनीकरण तो दूर मरम्मत तक नहीं हुई। यह सड़क दूर नक्सल प्रभावित क्षेत्र की सड़कों सी दिखाई देने लगी है। उक्त मार्ग की स्थिति इतनी भयावह है कि इस पर पैदल चलना तक दूभर हो चुका है। यह सड़क विकासखंड बसना और पिथौरा को जोड़ती है,जिससे ग्रामीण अपने रोज़मर्रा के कार्य के लिए ब्लाक मुख्यालय व अन्य कार्यालय अपने कार्यों के लिए जाने में विवश है ।पिथौरा विकासखंड के जनपद सदस्य एवं रेमड़ा निवासी सोहन पटेल से इस सम्बंध मे चर्चा कि गई तो उन्होंने बताया की भाजपा के शासन काल में तत्कालीन मुख्यमंत्री को सड़क निर्माण के लिए ज्ञापन सौंपा गया था परंतु कुछ नहीं हुआ। अब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है राज्य मुखिया सहित प्रमुख कार्यालयों में सड़क निर्माण के संबंध में आवेदन दिया गया परंतु निर्माण तो दूर इसकी मरम्मत पर भी कोई ध्यान नही दे रहा है ।


बता दें कि उक्त सड़क पर छाँन्दनपुर गाँव के पास बने पुल के टूट जाने से आगामी बारिश के समय क्षेत्र के लोगों को आवगमन भारी समस्या का सामना करना पड़ेगा। क्योंकि पुल के टूट जाने से अभी रपटें का निर्माण कर आवगमन जारी है परंतु बारिश होते ही पानी के बहाव से उक्त रपटा भी बह जाएगा,जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। ग्रामीणों का कहना है कि इसे समय रहते ना ठीक किया गया तो वे आंदोलन तक कर सकते हैं ।नीता रामटेके (एसडीओ/पीडब्लूडी) ने कहा, पुल निर्माण के लिए टेंडर रीकाल किया गया है और सड़क निर्माण के लिए इसटीमेट बना कर दे दिया गया। शासन से इसकी अभी स्वीकृति नहीं मिली है। 
संजय अग्रवाल की रिपोर्ट

 

 

21-05-2020
जिला प्रशासन की टीम पहुंची ग्राम ईरा, ग्रामीणों से कि सतर्कता बरतने की अपील

राजनांदगांव। कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने ग्राम ईरा में कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद ग्राम का निरीक्षण किया और सभी ग्रामवासियों को सावधानी एवं सजगता रखने के लिए कहा। पहले यह सूचना पीआरओ ने कन्फ़र्म की थी कि जिलाधीश होम आइसोलेशन में हैं। लेकिन बाद में यह खबर मिली कि कलेक्टर मौर्य, सीएमएचओ डॉ.मिथिलेश चौधरी, एसडीएम मुकेश रावटे व अन्य अधिकारी ग्राम इरा पहुंचे तथा ग्रामीणों को सतर्कता बरतने कहा।

 

19-05-2020
ग्रामीणों ने लगाया रोजगार सहायक के उपर भ्रष्टाचार का आरोप,कुरूद जनपद सीईओ को निष्पक्ष जांच के लिए सौंपा ज्ञापन...

धमतरी। जिले के कुरूद विकास खण्ड में आने वाले ग्राम पंचायत सिर्वे के ग्रामीणों ने रोजगार सहायक के द्वारा फर्जी तरीके से हाजरी मस्टर रोल में भरने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। ग्रामीणों ने कुरूद जनपद सीईओ से मिलकर ग्रामीणों ने रोजगार सहायक के खिलाफ शिकायत की। सीईओ से शिकायत की सूचना मिलने पर बौखलाए रोजगार सहायक द्वारा दबंगई करते हुए कहा मेरा कुछ नहीं हो सकता। इसके बाद ग्रामीण ने मामले की शिकायत करते हुए रोजगार सहायक के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की मांग की है। बता दें की ग्राम पंचायत सिर्वे मे रोजगार सहायक हीरालाल सोनवानी विगत पंद्रह वर्षो से रोजगार गारंटी का काम सम्हाल रहा है। ग्रामीण ने रोजगार सहायक के ऊपर गांव के ही एक व्यक्ति का नाला बांधने और कुछ सीमेंट बोरी देने के एवज मे उनकी फर्जी हाजरी भरकर पैसो का हेराफेरी करने का गंभीर आरोप लगाया है।  ग्रामीणों ने कहा कि रोजगार गारंटी योजना के तहत काम किया जा रहा है, जिसमें कार्य करने एक भी दिन नहीं गया है उनका लगभग 14 से 15 दिन का नाम फर्जी तरीके से मस्टर रोल में डाल कर भ्रष्टाचार करने का गंभीर आरोप लगाया है।

इस मामले को लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। इस फर्जी हाजरी की जानकारी सरपंच सचिव किसी को नहीं,इस मामले में सरपंच सीमा यदु से जानकारी लेने पर जानकारी ग्रामीणों के द्वारा होने की बात कही है। वहीं सचिव से इस मामले की जानकारी लिया गया तो मुझे इसकी जानकारी नहीं होने की बात कही। वहीं रोजगार सहायक पल्ला झाड़ते हुए कहां की ग्रामीणों ने फर्जी तरीके से मास्टर रोल में नाम डालने की बात कह रहे है वह बेबुनियाद हैं, मेरे ऊपर जबरन आरोप लगाया जा रहा है। आए दिन इस तरह रोजगार गारंटी के कामों में भ्रष्टाचार की शिकायत आ रही है पंच सरपंच सहित ग्रामीणों ने बड़े पैमाने पर फर्जी हाजरी भरे जाने की आशंका व्यक्त कर जनपद सीईओ को दस रुपय वाले नोटरी में लिखित जांच कर दोषी के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है। ग्राम के शिव प्रसाद , पूरन, रूपचंद, चंद्र कुमार, दशरथ साहू, सरिता , उमेश्वरी पंच, चंद्र कुमार पंच, नीता पंच, इंदल राम, रुक्मणी साहू, हेमंत साहू, तारामती साहू, देवेश्वरी साहू, जितेशवरी, भारती ,मथुरा यदु ,परमेश्वरी, भारती यदु, लोकेश्वरी, पूर्णिमा ,लगनी, कंचन, हेमलता, भेनू, बलराम, बीसहत, महेंद्र, कुलेश्वरी, बिंदिया, लक्ष्मीनारायण , नारायण, गोपी पंच आदि ने नोटरी युक्त शिकायती पत्र में कार्यवाही की मांग की है, जिस पर जनपद पंचायत कुरूद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जांच करा कर कार्यवाही का भरोसा दिलाया है।

17-05-2020
Video: केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने सिविक एक्शन प्रोग्राम के तहत ग्रामीणों में वितरित की सामग्री

अंबिकापुर। बलरामपुर के नक्सल प्रभावित झारखंड छत्तीसगढ़ सीमावर्ती क्षेत्र में सिविक एक्शन प्रोग्राम का रविवार को आयोजन किया गया। यह प्रोग्राम मनीष कुमार मीणा कमांडेंट 62वी. वाहिनी के नेतृत्व व वीके रामाराव के सहयोग से किया गया। इस दौरान गौतमपुर, सोनबरसा, चारीडीपा, जोधपुर और आसपास के लगभग 500 ग्रामीणों को कंबल, मछरदानी,सोलर लैंप, स्प्रे पंप विभिन्न कृषि उपकरण, स्कूली छात्र-छात्राओं एवं युवाओं को स्कूल बैग, नोटबुक,पेंसिल,कैरम बोर्ड, फुटबॉल वॉलीबॉल, क्रिकेट बल्ला, गेंद जैसी खेलकूद सामग्री का वितरण किया गया। मनीष कुमार मीणा ने कहा कि इलाके में अमन व शांति के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल तथा स्थानीय प्रशासन आप सबकी सेवा के लिए सदैव तत्पर है। इसी कड़ी में कमांड द्वारा कोविड-19 मारी से बचाव एवं जागरूक किए जाने के लिए ग्रामीणों को विशेष रूप से जानकारी दी गई। सिविक एक्शन प्रोग्राम के दौरान सामाजिक दूरी बनाए रखने का पूर्ण रुप से ध्यान रखा गया।

15-05-2020
कोरोना के रोकथाम के लिए सीआरपीएफ ने निकाला रथ, ग्रामीणों को कर रहे जागरुक

बीजापुर। नक्सल प्रभावित जिले में तैनात सीआरपीएफ 170 बन द्वारा बीजापुर जिला मुख्यालय मैं जिला अस्पताल प्रांगण में ग्रामीणों को कोरोना वायरस महामारी से बचाव के लिए स्वास्थ्य एवं स्वच्छता संबंधीत समान का वितरण करने के लिए सिविक एक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डीआईजी कोमल सिंह,सीआरपीएफ 170बन के कमांडेंट आलोक भटाचार्य,सीआरपीएफ डॉ. एमएल गांगटे, सीएमओ नगरपालिका पॉवन मेरिया, मुख्य चिकित्सा अधिकारी .बीआर पुजारी,डॉ.विजय,डॉ. नागुलन,द्वितीय कमांडेंट अधिकारी जतिन किशोर,उप कमांडेंट अश्वनी कुमार एवं अधिकारी, कर्मचारी और बड़ी संख्या मे जवान उपस्थित थे।जिला अस्पताल प्रांगण में सीआरपीएफ 170बन द्वारा कोरोना वायरस संबंधी सिविक एक्शन कार्यक्रम मैं सीआरपीएफ 170बन द्वारा जिला मुख्यालय के सभी वार्डों मैं कोरोना से बचने सोडियम हाइड्रोक्लोराइड का घोल छिड़काव करने कोरोना संक्रमण रोधी रथ को डीआईजी कोमल सिंह ने हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। यह रथ के माध्यम से बटालियन के जवान नगर के सभी वार्डो मैं घूम घूम कर दवाई का छिड़काव करेंगे। 

 

15-05-2020
ग्रामीणों की सुविधा के लिए गांवों में बिछेगा सड़कों का जाल,सासंद ने किया भूमिपूजन

बीजापुर।  दीपक बैज ने शुक्रवार को बीजापुर जिले के एक दिवसीय प्रवास के दौरान जिले में लगभग 5 करोड 80 लाख की लागत के विभिन्न सड़कों का भूमिपूजन किया। इसमें पापनपाल से पटेलपारा तक डामरीकरण के लिए लगभग 80 लाख रूपये की लागत,कोतापाल स्कूलपारा से नागुलपारा 01.50 किमी डामरीकरण के लिए 80 लाख रूपये की लागत एवं रेडड़ी में किकलेर से रेड्डी 5 किमी तक सीसी सड़क निर्माण कार्य के लिए 4 करोड़ 20 लाख लागत का सड़क निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया। सांसद दीपक बैज ने नेलसनार से कोडोली पहुचकर ग्राम पंचायत अंतर्गत महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत जल संसाधन विभाग के नहर लाइनिंग कार्य का निरीक्षण किया। सांसद बैज ने कार्य करने वाले मजदूरों की भुगतान से संबंधी जानकारी ली।मजदूरों ने बताया कि इसका भुगतान नगद मिले ताकि बैंक में जाना न पड़े। दीपक बैज ने कोडोली में निर्मित होने वाली नहर लाइनिग कार्य को प्राथमिकता से कार्य करने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए। जिले में सिंचाई परियोजनाओं की जानकारी देते हुए विधायक विक्रम शाह मण्डावी ने बताया कि जिले में 24 सिंचाई तालाब है।

इसका जीर्णोद्धार कर क्षेत्र के सिंचाई सुविधाओं को बढ़ावा दिया जाएगा। उसके पश्चात पापनपाल,कोतापाल व रेडडी में सड़क निर्माण का भूमिपूजन किया। साथ ही पापनपाल,कोतापाल एवं रेडडी के जनता को सम्बोधित करते हुए दीपक बैज ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा है कि प्रदेश सरकार की प्रत्येक योजना का लाभ गांव के सभी नागरिकों तक पहुंचे सके उसके लिए प्रदेश सरकार कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जिले के सभी ग्रामों में विकास होना है, जिसके लिए आप सभी लोगों को आगे आकर प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ लेने को कहा।

 

15-05-2020
लॉक डाउन में बिहान बना महिला समूह का आर्थिक सहारा, 3.63 करोड़ से अधिक राशि का हुआ भुगतान

रायपुर/जगदलपुर। लाॅक डाउन के समय काम काज बंद होने से बस्तर जिले के ग्रामीणों की ओर से जंगल और घरों की बाडी मे जहां लघु वनोेपज प्रर्याप्त मात्रा मे पाए जाते हैं। यही संग्रहित किए वनोपज से ग्रामीण परिवारों के आर्थिक स्थिति सुधारने में सहायक बना हुआ है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ’बिहान’ से बनाए गए महिला स्व सहायता समूह और एन.आर.एल.एम के समन्वय के 151 समूह आर्थिक गतिविधियों में संलग्न होकर जिले के विकास में सहयोग कर रहे हैं। सक्रिय समूह ने 10 वनधन विकास केन्द्र, 38 हाट बाजार खरीदी केन्द्र, 103 ग्राम पंचायत स्तर पर खरीदी केन्द्र से अब तक 10 हजार 267 क्विंटल वनोपज की खरीदी की है जिसकी कुल 3 करोड़ 63 लाख 66 हजार 816 रुपए का भुगतान समूह के माध्यम से प्रदाय किए। इससे गांव के वनोपज संग्रहित परिवारों को नगद राशि प्राप्त हुआ। प्राप्त यह राशि उनकी आजीविका का एक अहम हिस्सा बन गया है। समूह के माध्यम से वनोपज खरीदी की पहल की जाने से गांव मे ही वनोपज आसानी से खरीदी की जा रही है वर्तमान में निम्न वनोपज की खरीदी की जा रही है।

जैसे ईमली, चरौटा, हर्रा, बेहरा, कालमेघ, वनतुलसी, साल बीज, धवई फल, वनजीरा, गिलोय, भेलवां खरीदी की गई हैं। लाॅक डाउन के समय समूह के की ओर से उत्पादित सब्जी और अन्य उत्पाद को गांव में बेचने में समस्या आ रही थी लेकिन भूमगादी कंपनी से जुडे समूह परिवारों को अपने उत्पाद को बेचने में आसानी हुई जिसके कारण से सही समय में उनको राशि प्राप्त होने से उनकी आर्थिक स्थिति में और आजीविका में वृद्धि हुई। इससे समूह के लोग इसके लिए प्रशासन का आभार व्यक्त करते हैं। महिला कृषक उत्पादक कंपनी के माध्यम से जगदलपुर जिले मे लोगों के मांग अनुसार आवश्यक खाद्य सामाग्री जैसे- सब्जी, चावंल, दाल, तेल, बडी, पापड, आचार हल्दी मशाला का घर तक पहुंच सेवाएं दे रही है, जिससे शहर के लोगों को राहत मिल रही हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804