GLIBS
16-09-2020
हाइवा की चपेट में आने से पिता,पुत्र की मौके पर मौत, पत्नी गंभीर

कोरबा। उरगा थाना क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम भैसमा के पास एक अनियंत्रित हाइवा ने बाइक सवार को अपनी चपेेट में ले लिया। इससे बाइक में सवार पिता और पुत्र की मौके पर ही मौत हो गई। वही पत्नी को गंभीर अवस्था में अस्पताल भेजा गया। पुलिस मौके पर पहुंच कार्यवाही कर रही है। जैजैपुर निवासी दीपक कुमार उरांव 35 साल अपने 4 वर्षीय पुत्र और पत्नी के साथ कोरबा से सक्ति की ओर जा रहा था। बुधवार शाम 4 बजे भैसमा के पास अज्ञात वाहन ने बाइक को ठोकर मार दी। इससे दीपक और उनके पुत्र की मौत मौके पर ही हो गई जबकि पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गई, जिन्हें जिला अस्पताल दाखिल कराया गया। घटना को अंजाम देकर अज्ञात वाहन चालक मौके से फरार हो गया। पुलिस मामले की विवेचना कर रही है ।

 

13-09-2020
दो बच्चे का पिता पड़ोसी की बच्ची से करता था दुष्कर्म, बीमार होने पर पता चला गर्भ ठहरा

रायपुर। जान से मारने की धमकी देकर एक अधेड़ व्यक्ति कई महीनों से किशोरी के साथ दुष्कर्म कर रहा था। गर्भ ठहर जाने पर परिजनों ने घटना की रिपोर्ट पण्डरी थाने में दर्ज करायी है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पण्डरी क्षेत्र में अधेड़ संतोष साहू ने पड़ोस में रहने वाली 14 वर्षीय किशोरी को चाकलेट का लालच देकर अपने घर बुलाया था। उसके बाद से ही आरोपी बच्ची को डरा-धमकाकर उसके साथ दुष्कर्म कर रहा था। आरोपी के दो बच्चे है। इसी का बहाना बनाकर बच्ची को अपने घर खेलने बुलाया करता था और फिर उसे डरा-धमका कर दुष्कर्म करने लगा। पिछले एक वर्ष से नाबालिग से दुष्कर्म किये जाने के कारण वह गर्भवती हो गई। किशोरी की तबियत खराब होने पर परिजनों ने जब डॉक्टर से चेक कराया तब उसके गर्भवती होने की जानकारी मिली। इसके बाद पीड़िता ने घटना की सच्चाई घर वालों से बताई। परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी को देर रात गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि आरोपी के खिलाफ पॉस्को एक्ट सहित बलात्कार का मामला दर्ज कर लिया है।

06-09-2020
28 साल बाद सौतेली बेटी ने पिता पर दर्ज कराई दिल्ली में एफआईआर, रायपुर पुलिस करेगी मामले की जांच

रायपुर। शहर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में  पिता पर सौतेली बेटी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। बेटी ने सौलेते पिता पर 28 साल बाद दिल्ली में एफआईआर दर्ज कराई है। दिल्ली पुलिस मामले को रायपुर भेज दिया है। शिकायतकर्ता बेटी के खिलाफ भाइयों ने पहले ही ब्लैकमेलिंग की शिकायत दर्ज कराई थी।बता दें कि 40 साल पहले पिता की पहली पत्नी से तलाक होने के बाद एक तलाकशुदा महिला से पिता ने दूसरी शादी की। पहले से ही महिला के 2 बच्चे थे। लेकिन अभी चार साल पहले दूसरी पत्नी का निधन हो गया। शिकायतकर्ता सौलेती बेटी शादी के बाद परिवार के साथ दिल्ली में रहती है, जबकि 72 वर्षीय पिता अपने 2 बेटों के साथ रायपुर में रहता है।

42 वर्षीय बेटी ने सौतेले पिता पर दिल्ली पुलिस में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। रिपोर्ट में कहा है कि पिता ने आज से 28 साल पहले 1992 में 'तब उसकी उम्र 14 वर्ष थी' उसके साथ यौन उत्पीड़न किया था। दिल्ली पुलिस ने पिता के खिलाफ धारा 354, 506 के तहत एफआईआर दर्ज कर केस को रायपुर पुलिस को सौंप दिया है। शिकायत मिलने के बाद इस मामले में जांच की जा रही है।

 

25-08-2020
पिता का साया सिर से उठा,छात्र के सामने आया आर्थिक संकट,कलेक्टर ने कराया स्कूल फीस माफ

 कोंडागांव। जिला कार्यालय के कलेक्टर कक्ष में आयोजित कलेक्टर जनदर्शन कार्यक्रम में जिले भर से आये आवेदकों ने अपनी मांग एवं आवेदनों के संबंध में कलेक्टर के समक्ष गुहार लगाई। इन आवेदनों में सार्वजनिक हैंडपंप का अतिक्रमण, केन्द्रीय विद्यालय कोण्डागांव में प्रवेश, पैतृक भूमि कब्जा हटाने, शाला भवन निर्माण में विलम्ब, वनाधिकार प्रमाण पत्र प्रदाय करने, पीओआर राशि की रसीद प्रदान नहीं करने, शालेय शुल्क माफ करने संबंधी आवेदन प्रमुख थे। जनदर्शन में तहसील कोण्डागांव के सरगीपाल पारा निवासी मनीषा देवांगन ने अपने पुत्र का शालेय शुल्क माफ करने का आवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि पति के स्वर्गवास होने के पश्चात् उसके चावरा हायर सेकेण्डरी स्कूल में अध्ययनरत् पुत्र का स्कूल फीस भुगतान करने में कठिनाई हो रही है। अतः उक्त शालेय संस्था के माध्यम से शिक्षण शुल्क को माफ किया जाये।

इसी प्रकार ग्राम किबईबालेंगा निवासी जगन्नाथ मानिकपुरी ने आवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि ग्राम के वार्ड क्रमांक 11 में स्थापित एक मात्र हैंडपंप पर उसी वार्ड के निवासी द्वारा अधिग्रहित कर अपने जमीन पर निजी रूप से सिंचाई में लाया जा रहा है। जबकि उक्त हैंडपंप वार्डवासियों के प्रयासों द्वारा ही स्वीकृत कराया गया था। ताकि घर-घर में नल-जल सुविधा पहुंच सके। इस पर कलेक्टर ने तत्काल संबंधित विभाग को वस्तुस्थिति प्राप्त करने के निर्देश दिये। ग्राम टेंवसा की सरपंच वनिता सोरी ने ग्राम में स्वीकृत शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के भवन निर्माण में अनावश्यक रूप से विलम्ब का आवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि वर्ष 2016-17 में भवन स्वीकृति के बावजूद अभी तक भवन निर्माण नहीं किया जा सका है। इससे छात्रों को अध्ययन में समस्याएं आ रही है। कलेक्टर ने सभी आवेदनों में टीप करते हुए विभागीय अधिकारियों को त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

 

11-08-2020
सुप्रीम कोर्ट का फैसला,कहा-पैतृक संपत्ति पर बेटी का समान अधिकार

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि हिंदू उत्तराधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2005 के लागू होने से पहले हिस्सेदार की मौत होने पर भी बेटियों का पैतृक संपत्ति पर अधिकार होगा। कोर्ट ने कहा, बेटियां हमेशा बेटियां रहती है। बेटे तो बस विवाह तक ही बेटे रहते हैं। यानी 2005 में संशोधन किए जाने से पहले भी किसी पिता की मृत्यु हो गई हो तब भी बेटियों को पिता की संपत्ति में बेटे या बेटों के बराबर ही हिस्सा मिलेगा। सुप्रीम कोर्ट ने अपने इस फैसले के जरिए यह साफ कर दिया है कि 5 सितंबर 2005 को संसद ने अविभाजित हिंदू परिवार के उत्तराधिकार अधिनियम में संशोधन किया था। इसके ज़रिए बेटियों को पैतृक संपत्ति में बराबर का हिस्सेदार माना था। ऐसे में नौ सितंबर 2005 को ये संशोधन लागू होने से पहले भी अगर किसी व्यक्ति की मृत्यु हो गई हो और संपत्ति का बंटवारा बाद में हो रहा हो तब भी हिस्सेदारी बेटियों को देनी होगी। इस मामले कर इतिहास में जाएं तो 1985 में जब एनटी रामाराव आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री थे। उस समय उन्होंने पैतृक संपत्ति में बेटियों को बराबर की हिस्सेदारी का कानून पास किया था। इसके ठीक 20 साल बाद संसद ने 2005 में उसी का अनुसरण करते हुए पूरे देश भर के लिए पैतृक संपत्ति में बेटियों को बराबर बेटों के बराबर हिस्सेदार मानने का कानून पास किया है।

 

28-07-2020
कांग्रेस नेता सुबोध हरितवाल कोरोना पॉजिटिव, पिता और पत्नी भी हैं संक्रमित

रायपुर। राजधानी के एक और कांग्रेस नेता की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। कांग्रेस नेता सुबोध हरितवाल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके पूर्व उनके पिता और पत्नी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद सुबोध ने भी जांच करवाई। सुबोध ने ट्वीट कर कहा कि, मेरे पिताजी और पत्नी के कोरोना पोसिटिव आने के बाद मैंने टेस्ट करवाया गया और आज मेरी भी रिपोर्ट  पोसिटिव आयी है। मैने पिछले 10-12 दिनों में किसी से मुलाकात नही की पर उसके पहले जो भी मुझसे मिले हो वो अपना ध्यान रखे और टेस्ट करवाये। मुझे एम्स रायपुर में भर्ती किया गया है।

24-07-2020
पिता ने बेटी की कब्र खुदवाकर क्यों करवाई पोस्टमार्टम, जानिए क्या है मामला

रायपुर/रायगढ़। मामा के घर में रह रही सात साल की बच्ची की संदिग्ध मौत के मामले में पिता ने उसके मामा और सगे छोटे साले के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए जांच की है। संवेदनशील मामले में पुलिस ने कोर्ट के आदेश सुबह 10 बजे डॉक्टर एवं न्यायिक अधिकारियों की मौजूदगी में कब्र से शव को निकालकर पोस्टमार्टम और जांच के बाद शव को मिट्टी डालकर दफन कर दिया। गौरतलब है कि पीड़ित पिता दुकालू दास महंत ग्राम सोनसरी तहसील अकलतरा थाना मुलमुला जिंदल के अंगुल में इलेक्ट्रिकल विभाग में कार्यरत है। होली से 4 दिन पहले दुकालू अपने परिवार व ससुराल के साथ अंगुल जा रहे थे। इसी बीच रायगढ़ स्टेशन में बच्ची के नानी व अन्य सदस्य उतरे तो बच्ची भी अपने नानी के साथ रायगढ़ स्टेशन में उतर गई थी।

10 जुलाई को बच्ची के मामा ने उसके पिता दुकालू को फोन कर बताया कि बेटी की तबियत खराब हो गई है। वह खून की उल्टी कर रही है, जल्दी आने के लिए कहा था। बदहवास पिता रायगढ़ साले के घर भरतपुर पहुंचा और बेटी की सुध लिया। दुकालू ने मौत के बारे में पूछताछ भी किया तब ससुराल वाले ने कहा कि तबियत खराब थी। इसके उपरांत सामाजिक रीति रिवाज से कफ़न दफन किया गया। इसी बीच उसे उड़ती खबर से ज्ञात हुआ कि मौत से पहले तक बच्ची ठीक थी। इस पर उसे मौत पर हत्या आशंका हुई। परिस्थितियों को देखते हुए दुकालू दास ने मामले की सच्चाई जानने के लिए कोतरारोड टीआई से निष्पक्ष जांच कर पता लगाने का निवेदन किया था। वही गुरुवार को नायब तहसीलदार की उपस्थिति में स्वास्थ्य विभाग एवं पुलिस टीम ने शव को कब्र खोद कर निकाला और शव का पोस्टमार्टम कराया गया। पुलिस पीएम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई करने की बात कह रही है।

27-06-2020
लखौली, सेठी नगर कंटेनमेंट जोन घोषित, प्रशासन अलर्ट

राजनांदगांव। शहर के लखोली वार्ड अंतर्गत सेठी नगर में एक युवक और उसके पिता की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूरे क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। वार्ड को सील किए जाने के बाद पुलिस का पहरा लगा दिया गया है। एहतियात के तौर पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा सेठी नगर के लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है। प्रशानिक अमले द्वारा सेठी नगर क्षेत्र का लगभग रोजाना दौरा किया जा रहा है। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा, एसपी जीतेन्द्र शुक्ला व मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी के निर्देश पर लखोली नाका स्कूल में पिछले चार दिनों से कंटेमेंट जोन के लोगों सहित गंजलाइन, मठपारा, लखोली क्षेत्र के लोगों की आइटीपीसीआर जांच कराई जा रही है।

घर छोड़कर न भागें कराएं टेस्ट और इलाज :
शहर के सेठीनगर मोहल्ले में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए 2-3 दिनों से लगातार पुलिस द्वारा मोहल्लेवासियों को इस महामारी से बचाव के उपाय बताने के साथ-साथ घर पर रहने, बाहर न निकलने, मास्क लगाने, भीड़ न लगाने आदि की समझाइश दी जा रही थी। लेकिन मोहल्लेवासियों की उदासीनता व लापरवाही बरतने के चलते महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ल के निर्देश पर नगर पुलिस अधीक्षक मणीशंकर चन्द्रा के नेतृत्व में पुलिस और मेडिकल टीम ने शनिवार को दल-बल के साथ सेठीनगर जाकर मोहल्लेवासियों को कोरोना का टेस्ट करवाने व क्वारेंटाइन सेन्टर ले जाने के लिए पहुंची। पुलिस ने लोगों को समझा कर कोविड-19 का टेस्ट करवाया और उन्हें क्वारेंटाइन सेन्टर पहुंचाया।

 

21-06-2020
आज है पिता के साथ रिश्ते का खास दिन, जानिए ‘फादर्स डे’ का इतिहास...इन संदेशों से पिता को दें बधाई

नई दिल्ली। पिता का प्यार और उसके त्याग का मोल इस दुनिया में सबसे अनमोल होता है। हर इंसान के जीवन में उसके माता-पिता का किरदार सबसे अहम होता है। एक पिता का प्यार निस्वार्थ होता है। ये सिर्फ जन्म देने या पालन-पोषण तक सीमित नहीं है, बल्कि जिंदगी संवारने, उसको हर मोड़ पर संभालने और मुश्किलों में सहारा देने वाला रिश्ता है। फादर्स डे हर बच्चे की जिंदगी में बेहद खास दिन होता है। साल का यह एक ऐसा दिन होता है जिस दिन पूरी दुनिया में बच्चे अपने जीवन में पिता के योगदान को याद कर उन्हें इसके लिए धन्यवाद देते हैं। साथ ही इस दिन विशेष आयोजन भी होते हैं। हालांकि, फादर्स डे या पिता दिवस को दुनिया में अलग-अलग तारीखों में इसे मनाया जाता है। लेकिन भारत की बात करें यहां पिता दिवस जून महीने के तीसरे रविवार को मनाया जाता है। इस बार यह रविवार 21 जून मतलब आज है। भारत समेत दुनिया के कई देशों में ‘फादर्स डे’ मनाया जा रहा है।

फादर्स डे का इतिहास :

फादर्स डे की शुरुआत सबसे पहले अमेरिका से हुई थी। पहली बार फादर्स डे 19 जून, 1909 को मनाया गया था। माना जाता है कि वॉशिंगटन के स्पोकेन शहर में सोनोरा डॉड ने अपने पिता की स्मृति में इस दिन की शुरुआत की थी। इसके बाद साल 1916 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने इस खास दिन को मनाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी। वहीं 1924 में राष्ट्रपति कैल्विन कूलिज ने फादर्स डे को राष्ट्रीय आयोजन घोषित किया। हालांकि, इसे जून के तीसरे रविवार को मनाने का फैसला 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने लिया था। 1972 में पहली बार यह दिन नियमित अवकाश के रूप में घोषित किया गया। पिता अपना पूरा जीवन अपने बच्चों के भविष्य को उज्जवल बनाने में लगा देते हैं। ऐसे में आज के आधुनिक युग में यदि आप अपने पिता से दूर हैं तो व्हाट्सअप मैसेज या किसी अन्य ऑनलाइन माध्यम से आप उन्हें इस दिन पर आभार प्रकट कर सकते हैं।

इन कोट्स के जरिए अपने पिता को कर सकते हैं विश :

1- पिता के बिना जिंदगी वीरान होती है, तनहा सफर में हर राह सुनसान होती है, जिंदगी में पिता का होना ज़रूरी है, पिता के साथ से हर राह आसान होती है।

2- है समाज का नियम भी ऐसा कि पिता सदा गम्भीर रहे, मन में भाव छुपे हो लाखों, लेकिन आंखो से न नीर बहे. करे बात भी रूखी-सूखी, बोले बस बोल हिदायत के, दिल मे प्यार है मां जैसा ही, लेकिन अलग तस्वीर रहे।

3- मंजिल दूर और सफ़र बहुत है, छोटी सी जिन्दगी की फिकर बहुत है, मार डालती ये दुनिया कब की हमें, लेकिन ‘पापा’ के प्यार में असर बहुत है।

4- धरती सा धीरज दिया और आसमान सी उंचाई है, जिन्दगी को तरस के खुदा ने ये तस्वीर बनाई है, हर दुख वो बच्चों का खुद पे सह लेतें है, उस खुदा की जीवित प्रतिमा को हम पिता कहते हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804