GLIBS
25-11-2020
कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा, धान खरीदी केन्द्रों पर सभी व्यवस्था करें पूरी

बीजापुर। राज्य शासन की मंशानुरूप खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के तहत् समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन के लिए जिले में सभी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित किया जाये। इस दिशा में जिले के धान खरीदी केन्द्रों पर बारदाना, डनेज, विद्युत व्यवस्था, जनरेटर, कम्प्यूटर-प्रिंटर, इंटरनेट, कम्प्यूटर ऑपरेटर, कैप कव्हर पाॅलीथिन इत्यादि की व्यवस्था 27 नवम्बर तक कर लिया जाये। इन सभी धान खरीदी केन्द्रों का 28 से 30 नवम्बर तक जिला स्तरीय अधिकारियों के द्वारा निरीक्षण कर धान खरीदी तैयारी का जायजा लिया जायेगा और 1 दिसम्बर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू की जायेगी। यह निर्देश कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने कलेक्टोरेट में आयोजित समर्थन मूल्य पर धान खरीदी तैयारी की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिले में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी एवं उठाव व्यवस्थित ढंग से हो, इस हेतु सभी सम्बन्धित अधिकारियों के द्वारा समन्वय कर बेहतर व्यवस्था किया जाये। जिले के पंजीकृत वास्तविक किसानों से धान खरीदी सुनिश्चित किया जाये। इस दिशा में डेढ़ हेक्टेयर तक रकबा वाले लघु-सीमांत कृषकों को वरीयता दी जाये और इन किसानों को पहले टोकन प्रदान किया जाये। इससे अधिक रकबा वाले किसानों को बाद में टोकन उपलब्ध कराया जाये। सभी टोकन ऑनलाइन किये जायेंगे और टोकन जारी करने के लिए पंजी संधारित किया जाये। कलेक्टर अग्रवाल ने सीमावर्ती राज्यों से अवैध धान के आवक को रोकने के लिए सघन जांच करने कहा और अधिकारियों को चेक पोस्ट पर सतत् निगरानी रखे जाने के निर्देश दिये। बैठक के दौरान जिले में पदस्थ एसडीएम सहित खाद्य,मार्कफेड,सहकारिता विभागों के अधिकारियों सहित जिले के आदिम जाति सेवा सहकारी समितियों के लैम्पस प्रबन्धक मौजूद थे।

22-11-2020
राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष ने नवा रायपुर पहुंचकर हज हाऊस स्थल का लिया जायजा

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य हल कमेटी के अध्यक्ष मोहम्मद असलम खान ने रविवार को नवा रायपुर में बनने वाले हज हाऊस स्थल का निरीक्षण किया। मौके पर उपस्थित लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से हज हाऊस निर्माण के संबंध में विस्तार से चर्चा करते हुए उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस अवसर पर राज्य हज कमेटी के सचिव  साजिद मेमन, लोक निर्माण विभाग के अधिकारी और अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। 

 

21-11-2020
Breaking: छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन की बैठक में चरणबद्ध आंदोलन की रूपरेखा तय

रायपुर। छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन की बैठक शनिवार को हुई। बैठक में पदाधिकारियों ने आगामी दिसंबर माह में होने वाले चरणबद्ध आंदोलन की रूपरेखा तय की। फेडरेशन के संयोजक कमल वर्मा ने बताया है कि कलम रख,मशाल उठा आंदोलन का शंखनाद किया जा रहा है। चरणबद्ध आंदोलन के क्रम में 1 दिसंबर को प्रथम चरण में मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा। मशाल जुलूस निकाला जाएगा। दूसरे चरण में 11 दिसंबर को सभी जिलों में वादा निभाओ रैली निकाली जाएगी। तीसरे चरण में 19 दिसंबर को रायपुर में वादा निभाओ रैली निकाली जाएगी।

18-11-2020
नीति आयोग के अधिकारियों ने की गोधन न्याय योजना की सराहना,नई दिल्ली से आए अधिकारियों ने गौठानों का किया अवलोकन

रायपुर। नीति आयोग नई दिल्ली के अधिकारियों ने छत्तीसगढ़ सरकार की सुराजी ग्राम योजना के तहत रोजगार सृजन एवं गांवों के विकास के लिए किए जा रहे कार्याें की सराहना की है। नीति आयोग की सलाहकार संयुक्ता समद्दर व उनके सहयोगी ने सरकार की इस अनूठी योजना के सफल क्रियान्वयन और रोजगार सृजन के कार्याें को देखकर प्रसन्नता जाहिर की है। उन्हें यह जानकार खुशी हुई कि गांववासियों द्वारा सुंदर, आकर्षक और उपयोगी वस्तुएं बनाई जा रही है।
नीति आयोग भारत सरकार की सलाहकार संयुक्ता समद्दर ने अपने सहयोगियों के साथ रायपुर जिले के ग्राम सेरीखेड़ी और बैहार स्थित गौठानों का अवलोकन किया और स्व सहायता समूह की महिलाओं से बातचीत की। महिलाओं ने बताया कि सेरीखेड़ी के आजीविका केन्द्र में समूहों की महिलाओं द्वारा साबुन, सैनिटाइजर, अगरबत्ती निर्माण, मशरूम उत्पादन एवं सिलाई-कडाई का कार्य किया जा रहा है।

इस केन्द्र के माध्यम से लगभग 200 से अधिक महिलाओं को रोजगार मिला है। ग्रामीण केन्द्रों में उत्पादित सामग्री के प्रभावी मार्केटिंग के लिए राज्य शासन द्वारा कार्ययोजना बनाई गई है। जिससे इन केन्द्रों में निर्मित सामग्रियों की बिक्री यथा शीघ्र हो जाती है। राज्य शासन द्वारा इन केन्द्रों को मुख्यमंत्री समग्र विकास योजना और मनरेगा आदि योजनाओं के समन्वय से विकसित किया गया है। राज्य सरकार का यह योजना महिला सशक्तिकरण की दिशा में प्रभावी कदम है। नीति आयोग के अधिकारियों ने आरंग स्थित बैहार के गौठान का भी अवलोकन किया और नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी व गोधन न्याय योजना की जानकारी प्राप्त की।मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा ने नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी एवं गोधन न्याय योजना के संबंध में नीति आयोग के अधिकारियों को बताया कि गौठानों में पशुओं का संरक्षण, संवर्धन हो रहा है। गौठानों में गोबर से बड़ी मात्रा में वर्मी कम्पोस्ट खाद का निर्माण किया जा रहा है। स्व सहायता समूह के माध्यम से गमला, दीया, अगरबत्ती, मास्क आदि सामग्रियों का निर्माण किया जा रहा है। इससे कोविड-19 के कठिन दौर में भी गांव वासियों को अतिरिक्त आय हुई है। भ्रमण के दौरान नीति आयोग के अधिकारी डॉ.नीतू गोरडि़या, मुक्तेश्वर सिंह मौजूद थे।

17-11-2020
धर्मेंद्र प्रधान से मिले भूपेश बघेल,केन्द्रीय मंत्री ने तत्काल मिट्टी तेल का कोटा बढ़ाने अधिकारियों को दिए निर्देश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नई दिल्ली प्रवास पर है। उन्होंने मंगलवार को केंद्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से भी मुलाकात की। मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय मंत्री से कहा कि वनांचल क्षेत्रों में वनवासियों को मिट्टी के तेल की अत्यंत आवश्यकता होती है। मुख्यमंत्री बघेल ने मिट्टी तेल का कोटा बढ़ाने की मांग की। केंद्रीय मंत्री प्रधान ने मुख्यमंत्री बघेल के आग्रह को गंभीरता से लेते हुए तत्काल कार्रवाई के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल ने एफसीआई के अतिरिक्त राज्य के किसानों से खरीदे गए अधिशेष धान से बायो एथेनॉल उत्पादन के लिए अनुमति प्रदान करने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में खरीफ विपरण वर्ष 2018-19 में 80.38 लाख मीट्रिक टन और 2019-20 में 83.94 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई। इससे उत्पन्न होने वाले परिणामी चावल की केंद्रीय पूल और राज्य पूल में राज्य की सार्वजनिक वितरण प्रणाली में आवश्यक मात्रा के बाद भी धान अधिशेष रहा। अधिशेष धान की मिलिंग कराकर राज्य को अतिरिक्त चावल की मात्रा लेने के लिए बाध्य होना पड़ा। खाद्यान्न से एथेनॉल बनाने वाले प्लांटों की स्थापना के संबंध में राज्य की औद्योगिक नीति 2019-24 में इस संबंध में आवश्यक प्रावधान किए गए हैं। छत्तीसगढ़ राज्य के लगभग 6 लाख मेट्रिक टन धान से एथेनॉल उत्पादन करने की अनुमति प्रदान करने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री बघेल ने एफसीआई के अतिरिक्त राज्य के किसानों से खरीदे गए अधिशेष धान से बायो एथेनॉल उत्पादन के लिए अनुमति देने की मांग की। मुख्यमंत्री ने बताया कि इस कार्य के लिए राज्य शासन की ओर से अधिशेष धान अनुमानित 6 लाख मीट्रिक टन धान को एथेनॉल संयंत्रों को उपलब्ध कराया जाएगा।

 

 

09-11-2020
खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने अम्बिकापुर सीतापुर मार्ग का निरीक्षण किया और हर हाल में 2021 तक पूरा करने कहा

रायपुर/अम्बिकापुर। अम्बिकापुर-सीतापुर एनएच नवनिर्माण कार्य का खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने निरीक्षण कर अधिकारियों को निर्देश दिया। उन्होंने एनएच के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि सड़क का पूरा निर्माण कार्य अप्रैल 2021 तक हर हाल में पूरा करें।खाद्य मंत्री ने एनएच के अधिकारियों के टीम को साथ लेकर जहां-जहां काम चल रहा है उन स्थानों का निरीक्षण किया। उन्होंने पुलियों के निर्माण में भी गति लाने के निर्देश दिए। भगत ने कहा कि जिन स्थानों पर खुदाई हो गई है वहां तेजी से निर्माण पूरा करें तथा जहां खुदाई नही हुई है वहां गड्ढे की मरम्मत कराएं।

इन्होंने कहा कि सड़क गुणवत्तापूर्ण बने और शीघ्रता से बने। मेरी पहली प्राथमिकता सरगुजा के सड़कों को लेकर है। अच्छी सड़क से जहां आवागमन में सहूलियत होती है वही धूल से निजात मिलती है और दुर्घटना में भी कमी होती है।उल्लेखनीय है कि अम्बिकापुर से शिवनगर व अम्बिकापुर से सीतापुर एनएच का नवनिर्माण किया जा रहा है। चौड़ीकरण के साथ सीसी रोड बनाया जा रहा है। समय पर काम पूरा करने समय समय पर खाद्य मंत्री द्वारा निरीक्षण कर गुणवत्तापूर्ण एवं तय समय मे पूरा करने के निर्देश दिए जाते रहे है।

 

08-11-2020
बूढ़ातालाब संचालन के संबंध में कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन ने ली अधिकारियों की बैठक, दिए निर्देश

 रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन ने रविवार को महापौर एजाज ढेबर के साथ बूढ़ातालाब- विवेकानंद सरोवर के संचालन के संबंध में आला अधिकारियों की बैठक में ली। बैठक में उन्होंने निर्देशित किया है कि बूढ़ातालाब परिसर को प्रातः 6 से 10 बजे तक एवं शाम 5 से 9:30 बजे तक ही खुला रखा जाए। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, नगर पालिक निगम के कमिश्नर सौरभ कुमार, रायपुर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गौरव कुमार सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लखन पाटले सहित नगर निगम व स्मार्ट सिटी के अधिकारी सम्मिलित हुए। कलेक्टर डॉ. भारतीदासन ने निर्देशित किया है कि सुबह और शाम बूढ़ा तालाब भ्रमण के लिए आने वालों के वाहनों की पार्किंग व्यवस्था इनडोर स्टेडियम मैदान में की जाए एवं वहां से परिवहन के लिए नगर निगम ई-रिक्शा की व्यवस्था करे। उन्होंने वोट एवं फ्लोटिंग-डेक क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ाने के लिए भी निर्देशित किया है।  बैठक में उन्होंने बूढ़ा तालाब क्षेत्र में शासकीय परिसंपत्तियों की सुरक्षा एवं आम लोगों की सुविधा के लिए सुरक्षा गार्ड की संख्या भी बढ़ाने के निर्देश दिए है। दीपावली के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण के संबंध में लोगों को जागरूक करने के साथ परंपरागत व्यवसाय से जुड़े  कुम्हारों द्वारा निर्मित मिट्टी के दीये व अन्य   सामाग्रियों को प्रोत्साहित करने के निर्देश भी उन्होंने दिए हैं। भ्रमण के लिए बूढ़ातालाब पहुँचने वालों की सुरक्षा की दृष्टि से बैठक में उन्होंने रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड को पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम का नेटवर्क तैयार करने के लिये निर्देशित किया है। बैठक में  सीएसपी मनोज ध्रुव,रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के महाप्रबंधक तकनीकी एसके सुंदरानी, जोन-4 कमिश्नर विनय मिश्रा, रायपुर स्मार्ट सिटी के मैनेजर सिविल संजय शर्मा, असिस्टेंट मैनेजर राजेश राठौर भी उपस्थित थे।

31-10-2020
चार खण्डों में 30 नवंबर तक पूरा होगा पाली-कटघोरा सड़क की मरम्मत का काम,अधिकारियों ने किया मौका-मुआयना

कोरबा। पाली से कटघोरा की खराब सड़क की मरम्मत का काम अगले एक महीने मे पूरा हो जायेगा। सड़क के खराब भागों को चार खण्डों में बांटकर समय-सीमा निर्धारित कर ठीक करने का काम शुरू कर दिया गया है। कोरबा जिले में सड़को की मरम्मत के काम को लेकर संजीदा कलेक्टर किरण कौशल के निर्देश पर एसडीएम कटघोरा अभिषेक शर्मा के साथ एनएचएआई और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने सड़क का मौका-मुआयना किया। अधिकारियों ने वर्तमान में सड़क की मरम्मत के कामो की गुणवत्ता भी परखी और ठेकेेदारों को श्रमिकों की संख्या बढ़ाकर तेजी से 30 नवम्बर तक काम पूरा करने के निर्देश दिये।तीन दिन पहले ही कलेक्टर किरण कौशल ने सड़कों की मरम्मत को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की थी। उन्होंने बैठक में एनएचएआई और पीडब्ल्यूडी के वरिष्ठ अधिकारियों को सड़कों को मरम्मत कर 30 नवम्बर तक किसी भी परिस्थिति में आवागमन योग्य बनाने के सख्त निर्देश दिये थे। कलेक्टर के निर्देश पर ही कटघोरा एसडीएम ने अधिकारियों के साथ मिलकर मरम्मत कार्याें का कल मौका-मुआयना किया। एसडीएम शर्मा ने बताया कि अगले एक महीने में पाली-कटघोरा सड़क को चार स्टेज में बांटकर मरम्मत काम की समयावधि तय कर दी गयी है। अगले पांच दिनों में पहले चरण में डूमरकछार से पाली तक लगभग 700 मीटर की सड़क पर गड्ढों को हैवी मैटल से भरकर काॅम्पैक्शन कर पैचवर्क किया जायेगा।

दूसरे चरण में चटुआभउना से माखनपुर तक 2.63 किलोमीटर की खराब सड़क की मरम्मत का काम अगले 15 दिनों में पूरा कर लिया जायेगा। तीसरे चरण में गुईचुंआ से चटुआभउना तक 425 मीटर की सड़क की मरम्मत होगी। एसडीएम शर्मा ने बताया कि एनएचएआई के अधिकारियों ने सड़क मरम्मत के पहले तीन चरण के इन कामों को दीवाली के पहले पूरा करने पर सहमति जताई है। उन्होंने बताया कि चौथे चरण में माखनपुर से डुमरकछार तक 1.83 किलोमीटर की सड़क पर गड्ढों को भरकर काॅम्पैक्शन और बीटी पैचवर्क दीपावली त्यौहार के बाद दस दिनों के भीतर कर लिया जायेगा। एनएचएआई के अधिकारियों ने इस सड़क पर सभी जर्जर खण्डों में गिट्टी, मेटल आदि भरकर समुचित पानी डाल कम्पेक्शन का काम शुरू करा दिया है। अधिकारियों ने मौके पर यह भी आश्वासन दिया कि अगले 15 दिनों में इस सड़क के सभी गड्ढे पूरी तरह से पाट कर निर्धारित समयसीमा में डामरीकरण पैचवर्क पूरा कर लोगों के आवागमन के लायक बना दिया जायेगा। मौके पर मुआयने के दौरान गुईंचुंआ, माखनपुर, डुमरकछार, चैतमा और सुतर्रा खण्डों में लोक निर्माण विभाग द्वारा किये जा रहे मरम्मत कामों का भी जायजा अधिकारियों के दल ने लिया और काम करने वाले ठेकेदारों को काम की रफ्तार बढ़ाने के निर्देश दिये। अधिकारियों ने मुनगाडीह में गाजरनाले पर बन रहे नये पुल और उसकी एप्रोच रोड के काम का भी निरीक्षण किया। एसडीएम शर्मा ने पुल के दोनो तरफ एप्रोच रोड का काम तेज करने के निर्देश एनएचएआई के अधिकारियों को दिये।  

 

 

28-10-2020
कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा, सड़क के काम दो दिनों में शुरू कराएं, बढ़ाए कार्य की रफ्तार

कोरबा। कलेक्टर किरण कौशल ने निगम आयुक्त एस.जयवर्धन सहित वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में कोरबा नगर निगम क्षेत्र में स्वीकृत एवं चल रही विभिन्न निर्माण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में कामों की वर्तमान स्थिति की जानकारी ली और तेज गति से काम पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। किरण कौशल ने राताखार-गेरवाघाट और दर्री से गोपालपुर तक सड़क मरम्मत तथा निर्माण कार्य को अगले दो-तीन दिनों में शुरू करने के निर्देश निगम के अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने यह भी निर्देशित किया कि नगर निगम सीमा क्षेत्र में स्वीकृत सभी प्रकार के कामों के लिये अगले एक सप्ताह में निविदायें जारी कर दी जाएं। उन्होंने आगे से हर सप्ताह नगर निगम के निर्माण कार्यों की समीक्षा करने के निर्देश भी निगम आयुक्त को दिये। बैठक में अपर आयुक्त अशोक शर्मा, निगम के कार्यपालन अभियंता ग्यास अहमद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

बैठक में किरण कौशल ने निगम क्षेत्र में स्वीकृत पुल-पुलिया निर्माण के कामों को जनसुविधा को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द शुरू कराने के निर्देश दिये। श्रीमती कौशल ने राताखार से गेरवाघाट सड़क को मुख्य शहर से दर्री के लिये अतिरिक्त कनेक्टिविटी की दृष्टि से महत्वपूर्ण बताते हुए इसका काम तत्काल शुरू करने के निर्देश दिये। श्रीमती कौशल ने बैठक में दर्री से गोपालपुर सड़क के मरम्मत काम की धीमी गति पर सख्त रूख भी दिखाया और इस सड़क की मरम्मत का काम भी तेज करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने सर्वमंगला-इमलीछापर मार्ग के जीर्णोद्धार काम के लिये सड़क के दोनों ओर बड़े पैमाने पर हुए अतिक्रमण का सर्वे करने के निर्देश भी निगम तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने सर्वे करने के लिये लोक निर्माण विभाग, राजस्व विभाग और नगर निगम के अधिकारियों का दल बनाने के भी निर्देश बैठक में दिये।

24-10-2020
मरवाही उपचुनाव: मतदान में न हो कोई गड़बड़ी, कलेक्टर ने कहा अधिकारियों से योजनाबद्ध हो तैयारी

रायपुर। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डोमन सिंह ने शनिवार को बैठक में  अधिकारियों-कर्मचारियों को मतदान दिवस की तैयारियां योजनाबद्ध तरीके से करने के निर्देश दिए। इससे निश्चित समयांतराल में मतदान प्रक्रिया से सम्बंधित विभिन्न कार्यो को सुव्यवस्थित तरीके से पूर्ण किया जा सके।जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी विकासखंडों के सीईओ को मतदान केंद्रों में दीवार लेखन, व्हील चेयर, पेयजल, शौचालय, विद्युत उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ ही अन्य आवश्यक सुधार कार्य कराने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी मतदान केंद्रों में जनरेटर, टेंट, लाइट, माइक इत्यादि व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए।

 जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि मतदान केंद्रों के बाहर और अंदर लाइट की पर्याप्त व्यवस्थाएं होनी चाहिए। उन्होंने मतदान दिवस के दिन तीनों ब्लाकों में मास्टर ट्रेनरों को पर्याप्त संख्या में उपलब्ध रहने के निर्देश दिए।   उन्होंने सभी एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार  को निर्वाचन के सम्बंध में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिये गए दिशानिर्देशों का अध्ययन करते हुए सभी आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर अजीत वसंत, एसडीएम अपूर्व टोप्पो सहित अन्य अधिकारी  उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804