GLIBS
06-04-2020
मुख्यमंत्री सहायता कोष में प्रदेशवासी कर रहे आर्थिक सहयोग, सामाजिक संगठनों ने दी राशि

रायपुर। वैश्विक महामारी कोविड-19 को पराजित करने और जरूरूत मंदों की मदद के लिए प्रदेश के अनेक सामाजिक संगठन व सामान्य नागरिक भी अपना अमूल्य योगदान दे रहे हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री सहायता कोष में आनन्द इंटरप्राइजेज महाराष्ट्रीयन तेली समाज ने एक लाख रूपए और शक्ति छत्तीसगढ़ विप्र महिला मण्डल ने 51 हजार रूपए की राशि जमा करायी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इन संगठनों द्वारा दिए गए योगदान की सराहना करते हुए इसे कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के प्रयासों को मजबूती प्रदान करने वाला बताया है।

 

29-03-2020
लॉकडाउन : मदद के लिए कई सामाजिक संगठन बढ़ा रहे हाथ, कोई भूखा ना रहे रख रहे ध्यान

रायपुर। कोरोना रोकथाम के लिए घरों में रहकर प्रशासन की मदद करने जरुरतमंद निर्धन परिवारों का सहयोग करने के लिए कई स्वयं सेवी संस्थाएं आगे आ रही हैं। ये संस्थाएं जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में जरुरतमंद गरीब परिवारों तक भोजन पहुंचा रही हैं। ऐसे समय में गरीब परिवारों को अनाज सुलभ कराने के लिए कई संस्थाओं ने अपने स्तर पर प्रशासन को सहयोग के तौर पर चावल-दाल, नमक, हल्दी समेत आदि जरूरी खाद्य सामग्री प्रदान की हैं। शनिवार को यूनियन क्लब व आशा किरण संस्था के सदस्यों ने 1 हजार राशन के पैकेट जिला प्रशासन को प्रदान किया है।

यूनियन क्लब के सचिव गुरुचरण सिंह होरा ने बताया कि नगर निगम सभापति प्रमोद दुबे, किशोर खेतपाल और निर्मल खेत्रपाल समेत उनके क्लब के कई सदस्यों के सहयोग से ये पैकेट्स तैयार कराए गए हैं। इसी तरह एसोसिएशन ऑफ  डेमोक्रेटिक ह्यूमन राईट्स संस्था ने भी 5 हजार किलोग्राम चावल, 300 किलोग्राम दाल और हल्दी व नमक के पैकेट जिला प्रशासन को प्रदान किए गए हैं। इस दौरान एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक ह्यूमन राईट्स संस्था के प्रदेश अध्यक्ष पंकज चोपड़ा, सचिव शिल्पा नाहर, पंकज कुकरेजा, विवेक साहू, अतुल अग्रवाल, विकास पटवा समेत अन्य मौजूद थे।

 

13-01-2020
सीएए के समर्थन में निकाली गई तिरंगा यात्रा

छिंदवाड़ा। जिले में नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में डेढ़ किलोमीटर लंबी तिरंगा यात्रा निकाली गई,जिसमें हजारों कि संख्या में लोग शामिल हुए। इसमें सभी सामाजिक संगठन एवं आमजन ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। तिरंगा यात्रा स्थानीय दशहरा मैदान से प्रारंभ हुई और शहर के मुख्य मार्गो से होते हुए वापस दशहरा मैदान पहुंची। यहां  भारत माता की आरती की गई और कार्यक्रम की समाप्ति की गई।

छिंदवाड़ा से समीर सोनी की रिपोर्ट

 

08-11-2019
युवा संकल्प संगठन ने सभी समुदाय के लोगों के साथ मिलकर नजरुल्लाह शाह बाबा को चढ़ाई चादर

रायगढ़। युवा संकल्प संगठन रायगढ़, यह नाम वह नाम है जिसका जन्म मात्र 3 साल की अवधि है इस संगठन की उम्र मात्र 3 साल हुई है और इतनी कम उम्र मे संकल्प के पदाधिकारी और ऊर्जावान साथियों ने अपने एक से बढ़कर एक बेहतरीन कार्यों और सोच के बदौलत जिले के लोगों के दिलों मे बेहतरीन जगह बना ली है। जैसा कि हमारा देश विभिन्न समुदायों मे बटने के बाद भी एकता का प्रतिक रहा है,  युवा संकल्प संगठन ने शहर के मध्य स्थित सबके चहिते व मुस्लिम समुदाय के नज़रुल्लाह शाह बाबा के मजार मे चादर चढ़ा कर अपनी धर्मनिरपेक्षता और निष्पक्ष भाई चारे का बेहतरीन प्रमाण दिया है। इससे पूरे शहर को इस सामाजिक संगठन पर नाज है रायगढ़ के इतिहास में यह पहला मौका है जहां किसी भी सामाजिक एवं राजनीतिक संगठन द्वारा इस प्रकार से शोभायात्रा निकाल आपस मे भाईचारा, मेल -जोल बढ़ा दोनों धर्मों को आपस मे जोड़ने और मानव मानव एक समान के सांचे मे ढ़ालने का प्रयास किया गया।

यह शोभायात्रा शाम के वक्त स्थानीय मिनीमाता चौक से प्रारंभ होकर गोपी टॉकिज रोड, रामनिवास चौक, सुभाष चौक,गद्दी चौक, हंडी चौक, महात्मा गांधी प्रतिमा, स्टेशन चौक से शहर के मुख्य मार्गों से गुजरते हुए नटवर स्कूल स्थित नजरुल्लाह शाह बाबा मजार में समाप्त हुई। युवा संकल्प के इस शोभायात्रा मे युवा संकल्प पदाधिकारी गण व हिंदु, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई व अन्य समुदाय का लोगों का सराहनिय साथ रहा। युवा संकल्प संगठन जिला अध्यक्ष बानू ने कहा आगे भी युवा संकल्प देशहीत, जनहित, समुदाय एकता के विषय मे नई नई पहल हेतु सदैव जागरुकता का परिचय देकर लोगों मे इंसानियत को जगाने का प्रयत्न सदैव करती रहेगी।

 

24-10-2019
तेलीबांधा तालाब के किनारे हर वर्ग के लोग पंहुचे दीया लेने

 रायपुर। दीपावली पर छत्तीसगढ़ के कुम्हारों के मिट्टी के दीए के इस्तेमाल को लेकर 5 साल पहले शुरू की गई मुहिम अब रंग दिखा रही है। प्रदेशभर में अलग-अलग संगठन मिट्टी के दीए के इस्तेमाल को लेकर जागरुकता फैला रहे हैं। आज गैलेक्टिक सिंक्रोनाइजर की ओर से एक लाख दीए का नि:शुल्क वितरण किया। कार्यक्रम संयोजक डॉ सत्येंद्र पांडे और सैयद अकील ने बताया कि तेलीबांधा तालाब के किनारे हर वर्ग के लोग दीया लेने पहुंचे। लायंस क्लब रायपुर मेंस ग्रेटर के सैयद शकील ने बताया कि यह कार्यक्रम स्थानीय कुम्हारों के रोजगार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से किया जा रहा है। सच्चिदानंद उपासने ने बताया कि सामाजिक संगठन, जनप्रतिनिधियों, पुलिस और युवाओं के सहयोग से मिट्टी के दीए का नि:शुल्क वितरण किया गया। इस अवसर पर कुटुंब न्यायालय के न्यायाधीश अगर लाल जोशी,  गुलजेब अहमद, प्रियंका बिस्सा, अनुराग अग्रवाल, उमेश घोरमोड़े, अमरजीत छाबड़ा, विशाल शुक्ला, विपिन अग्रवाल, कुतुब कपासी, हर्षिता, विनोद पाहवा, किशोर महानंद सहित अन्य मौजूद थे।

23-10-2019
मिट्टी के दीये का नि:शुल्क वितरण 24 को, जानिए कहा... 

रायपुर। दीपावली पर छत्तीसगढ़ के कुम्हारों के मिट्टी के दीये के इस्तेमाल को लेकर 5 साल पहले शुरू की गई मुहिम अब रंग दिखा रही है। प्रदेश भर में अलग-अलग संगठन मिट्टी के दीये के इस्तेमाल को लेकर जागरुकता फैला रहे हैं। गैलेक्टिक सिंक्रोनाइजर ने लगातार एक लाख दीये का नि:शुल्क वितरण किया। कार्यक्रम संयोजक डॉ. सत्येंद्र पांडे, सैयद अकील, यज्ञदत्त मिश्रा ने बताया कि तेलीबांधा तालाब के किनारे 24 अक्टूबर गुरुवार शाम 5 से 7 बजे तक मिट्टी के दीये का वितरण होगा। यह कार्यक्रम स्थानीय कुम्हारों के रोजगार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से किया जा रहा है। सामाजिक संगठन, जनप्रतिनिधियों और युवाओं के सहयोग से मिट्टी के दीये का निशुल्क वितरण किया जाता है। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804