GLIBS
25-05-2020
लखनपुर कांग्रेस कार्यालय में झीरम घाटी के शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

लखनपुर। 25 मई 2013 को बस्तर के झीरम घाटी में नक्सलियों ने कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर ताबड़तोड़ हमला कर 35 नेताओं एंव सुरक्षा बलों के जवान और कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार दिया था। इस हमले में कांग्रेस के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल,पूर्व मंत्री महेंद्र कर्मा,पूर्व विधायक उदय मुदलियार को नक्सलियों ने अपना निशाना बनाया था। लखनपुर कांग्रेस कार्यालय में झीरम घाटी के शहीद वरिष्ठ कांग्रेसजनों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस मौके पर पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंहदेव,कृपा शंकर गुप्ता रणविजय सिंहदेव,विरेन्द्र सिंहदेव, शराफत अली,दिनेश तायल, शैलेंद्र गुप्ता,शशि पांडे, नरेंद्र पांडे, इरशाद खान, मुजीब खान,संजय गुप्ता,प्रकाश ठाकुर,रमजान खान, अमित सहित कांग्रेस के कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

23-05-2020
नक्सलियों तक मदद पहुँचाने वालों पर सख्त कार्रवाई करें : डीएम अवस्थी

रायपुर। डीजीपी डीएम अवस्थी ने पुलिस मुख्यालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नक्सल प्रभावित जिलों के पुलिस अधिकारियों के साथ नक्सल अभियान की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने साफ कहा कि नक्सलियों की मदद करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करें। डीजीपी ने निर्देश दिए कि नक्सल आपरेशन के साथ ही नक्सलियों की सप्लाई लिंक को भी तोड़ें। नक्सलियों तक हथियार, रसद और अन्य सामग्री पहुँचाने वालों पर सख्ती से पेश आएं।डीजीपी ने कहा कि इंटेलीजेंस इनपुट के आधार पर ऐसे लोगों पर लगातार नजर बनी हुई है, नक्सलियों तक मदद पहुँचाने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने सभी एसपी को कांकेर के सिकसोड़ थाना इलाके का उदाहरण देते हुए नक्सली मददगारों पर यूएपीए एक्ट के तहत कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि कांकेर पुलिस ने हाल ही में नक्सलियों की सहायता करने वालों को रणनीति बनाकर ट्रेस किया और गिरफ्तार किया है।डीजीपी ने बस्तर और सरगुजा संभाग के एसपी को निर्देश दिए कि इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर रणनीति बनाकर नक्सल विरोधी अभियान को तेज करें। आपरेशन में वक्त इस बात का भी ध्यान रखें कि हमारे बल का नुकसान कम से कम हो। अवस्थी ने कवर्धा और राजनांदगांव जिले के एसपी को मध्य प्रदेश सीमा पर अधिक सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि दोनों जिलों द्वारा प्रभावी कार्रवाई के लिए संयुक्त आपरेशन चलाया जाए।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में एडीजी नक्सल आपरेशन अशोक जुनेजा, आईजी रायपुर डॉ. आंनद छावड़ा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

 

17-05-2020
सर्चिंग के दौरान हुई पुलिस और नक्सलियों में मुठभेड़, 2 जवान शहीद, 4 घायल

कांकेर। गढ़चिरौली सीमा में नक्सलियों ने बड़ी नक्सल घटना को अंजाम दिया है। पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 2 जवान शहीद हो गए हैं। साथ ही 4 जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार धुर नक्सल क्षेत्र माने जाने वाले गढ़चिरौली के भारमगढ़ तहसील के कोपरशी होडरी जंगल मे पुलिस के जवान सर्चिंग पर निकले थे इसी दौरान घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने जवानों पर अचानक हमला कर दिया। इसमें गढ़चिरोली के भामरागड़ तहसील में हुई मुठभेड़ में 4 जवान घायल हुए है। गुडूरवाही के जंगल में हुई मुठभेड़ घायलों को हॅलीकॅप्टर से गढ़चिरोली ले जाया गया है। मुठभेड़ में सी सिक्स्टी कमांडो टीम के इंचार्ज सब इन्सपेक्टर  धनाजी और जवान किशोर आत्राम की मृत्यु हो गई है। जहां घटना हुई वह क्षेत्र बीजापुर और नारायणपुर दोनों जिलों की सीमा से सटा हुआ है।

 

 

15-05-2020
नक्सलियों के मंसूबों पर जवानों ने फेरा पानी, 4 आईईडी बम किए डिफ्यूज

दंतेवाड़ा। जिले के घोटिया चौक के पास मालवाहे और बोदली के बीच नक्सलियों ने बम लगा रखे थे, जिसको डिफ्यूज कर दिया गया गया है। मालवाहे और बोदली के बीच नक्सलियों ने 4 रिमोट कंट्रोल आईईडी बम तथा तीन कॉकटेल पेट्रोल बम लगाए थे, जिसको सही समय पर दंतेवाड़ा एसटीएफ, डीआरजी एवं सीएफ के द्वारा डिफ्यूज किया गया। सड़क निर्माण सुरक्षा के लिए नक्सली सड़क खोलने वाले दल को निशाना बनाना चाहते थे।

12-05-2020
अपने वाहन से नक्सलियों को सामाग्री पहुंचाने वाला एक और आरोपी गिरफ्तार

कांकेर। नक्सलियों को सामाग्री पहुंचाकर सहयोग करने के मामले में एक और आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस मामले में अब तक 11 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। प्राप्त जानकारी अनुसार आरोपी अरुण ठाकुर नक्सलप्रभावित क्षेत्र कोयलीबेड़ा में अपने स्कार्पियों वाहन से नक्सलियों को वर्दी कपड़ा, जूता, राशन सामाग्री, स्टेशनरी, वायर सहित अन्य सामान विगत 2-3 वर्षों से ठेकेदार के माध्यम से नक्सलियों के पास पहुँचा रहा था। जिसे गिरफ्तार किया गया है। नक्सलियों के शहरी नेटवर्क का पर्दाफाश करने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर के नेतृत्व में 6 सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया है, जिसके कारण लगातार इस मामले में शामिल आरोपियों को पकड़ा जा रहा है।

11-05-2020
सुरक्षा बलों ने किया नक्सलियों के अस्थाई कैम्प को ध्वस्त

कोंडागांव। पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, सुन्दरराज पी. एवं पुलिस उप महानिरीक्षक उत्तर बस्तर रेंज, कांकेर डाॅ. संजीव शुक्ला के मार्ग दर्शन में 9 मई एवं 10 मई के दरम्यानी रात जिला कोण्डागांव एवं जिला कांकेर के सुरक्षा बलों ने नक्सल विरोधी अभियान के तहत जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में सयुंक्त गस्त एवं सर्चिंग अभियान चलाया गया। जिला पुलिस अधीक्षक बालाजी राव के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू एवं दीपक मिश्रा उप पुलिस अधीक्षक (नक्सल ऑपरेशन) द्वारा निर्देशों का परिपालन करते हुए जिला बल, डीआरजी, बी.एस.एफ. की सयुंक्त टीम ईरागांव एवं आमाबेडा थाना क्षेत्र के नक्सल प्रभावित ग्राम दर्रोखलारी, तुसकाल, मानकोट, धौंसा के दुर्गम एवं पहाड़ी वन्य क्षेत्रों में गस्त सर्चिगं के लिए रवाना किया गया था।

सर्चिंग के दौरान ग्राम दर्रोखलारी के पहाड़ी क्षेत्रों में संघन चेकिंग के दौरान नक्सलियों के गुप्त हाइड आउट एवं डंप का पता चला जिसमें उक्त स्थान पर छोटा पानी का ड्रम, टेंट, मच्छरदानी, बिजली स्वीच, सोल्डर, नक्सली दस्तावेज, कुकर, एवं अन्य दैनिक उपयोग का सामान इत्यादि बरामद किया गया। इससे यह प्रतीत होता है कि उक्त स्थान नक्सलियों का अस्थाई कैंप होगा तथा वर्षा ऋतु के पहले नक्सलियों के इस हाइड आउट को ध्वस्त कर सुरक्षा बलों ने नक्सलियों की गतिविधियों पर अकुंश लगाने का अच्छा प्रयास किया है। इस अभियान में थाना प्रभारी धनोरा रमेश सोरी, एवं थाना प्रभारी ईरागांव ओंकार दीवान की सक्रिय भूमिका रही।

09-05-2020
शहीद एसआई का पार्थिव शरीर पहुंचा गृह ग्राम, पूरे सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई


अम्बिकापुर। राजनांदगांव जिले में नक्सलियों से हुए मुठभेड़ में शहीद एसआई श्यामकिशोर शर्मा पंचतत्व में विलीन हो गए। स्व.श्यामकिशोर शर्मा को सरगुजा जिले के उनके गृह ग्राम खाला स्थित पुरातन तालाब के किनारे उनके पिता बृज किशोर शर्मा ने मुखाग्नि दी। शहीद के अंतिम विदाई के समय भारी संख्या जनसमुदाय उपस्थित था। दाह संस्कार से पूर्व सरगुजा पुलिस द्वारा शहीद एसआई को बंदूकों की सलामी दी गई। अंतिम संस्कार के समय आईजी रतनलाल डांगी, कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर, एसपी आशुतोष सिंह,एएसपी ओम चंदेल,दिलबाग सिंह सहित अन्य पुलिस व प्रशासनिक अमला मौजूद रहा।इसके पूर्व लगभग 1 बजे शहीद एसआई के पार्थिव शरीर को सेना के हेलीकॉप्टर से दरिमा हवाई अड्डा लाया गया,जहां कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत सहित आईजी रतनलाल डांगी, कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर,पुलिस अधीक्षक आशुतोष सिंह,,एएसपी ओम सिह चंदेल सहित पुलिस व प्रशासनिक अमला उपस्थित था। दरिमा हवाई अड्डा पर मंत्री अमरजीत भगत द्वारा शहीदएसआई श्याम किशोर शर्मा को पुष्पांजलि अर्पित की गई। गौरतलब है कि शुक्रवार की रात नक्सलियों से मुठभेड़ के दौरान वीरता पूर्वक तीन नक्सलियों को मारने के बाद पेट में गोली लगने से राजनांदगांव जिले के मदनवाड़ा थाने में पदस्थ एसआई श्यामकिशोर शर्मा शहीद हो गए थे।

02-05-2020
सड़क निर्माण में लगे ठेकेदार को नक्सलियों ने दी जान से मारने की धमकी, लगाए पोस्टर

बीजापुर। माओवादियों ने सड़क निर्माण का कार्य कर रहे ठेकेदार को जान से मारने की धमकी दी है। नक्सलियों ने बड़े पैमाने पर चेरपाल नदी के समीप पदेडा मार्ग पर धमकी भरे पोस्टर चस्पा किए हैं। यह पोस्टर माओवादियों के गंगालूर एरिया कमेटी ने चस्पा किए हैं। मिली जानकारी के अनुसार एक सप्ताह पूर्व पदेडा से पेदाकोरमा तक सड़क निर्माण का काम शुरू हुआ था। सड़क निर्माण का कार्य पीएमजीएसवाई के तहत किया जा रहा है। 

 

29-04-2020
शहीद की पत्नी ने सीएम रिलीफ फंड में दिए 10 हजार, उनका जज्बा देखकर भूपेश ने कहा निशब्द हूं  

रायपुर। कोरोना वायरस  के नियंत्रण और रोकथाम के लिए सरकार के साथ सभी लोग कदम से कदम मिलाकर चल रहे है। इस संकट की घड़ी में सरकार के सभी नियमों का पालन भी कर रहे है। प्रधानमंत्री सहयता कोष और मुख्यमत्री सहायता कोष में लोग अपना योगदान भी दे रहें है। लेकिन छत्तीसगढ़ की राधिका साहू जो योगदान दिया है वह  सराहनीय है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इस योगदान से नि:शब्द हो गए।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर जानकारी दी कि बस्तर में एक महीने पहले जवान उपेंद्र साहू नक्सलियों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे। कल उनकी पत्नी राधिका साहू बस्तर एसपी के पास पहुंची और मुख्यमंत्री सहायता कोष में 10 हजार की सहायता की। कोरोना से लड़ने के लिए यह राशि प्रदान करते हुए राधिका साहू ने कहा कि ' मेरे पति होते तो वो भी यही करते'। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804