GLIBS
08-09-2020
तू-तू, मैं-मैं के कारण प्रेम कहानी का दुखद अंत, प्रेमी ने प्रेमिका को उतारा मौत के घाट

जांजगीर चांपा। प्रेमी और प्रेमिका में कहा-सुनी हुई और रोष में आकर प्रेमी ने अपनी प्रेमिका का गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार थाना गौरेला पेंड्रा ग्राम कुडकाई निवासी संदीप चौधरी चांपा में निजी फाइनेंस कंपनी कार्यरत था। एक दिन पहले ही वह अपनी प्रेमिका को गांव से साथ लेकर चांपा आया था। यहां दोनों में कहासुनी हो गई, जिस पर आरोपी संदीप चौधरी ने अपनी प्रेमिका की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी ने स्वयं 112 को बुलाया और चांपा थाने में सरेंडर कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार गौरेला पेंड्रा निवासी संदीप चौधरी और मृतिका का लंबे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। मृतिका आरोपी के घर गौरेला पेंड्रा में रहती थी। वहां कुछ कहासुनी होने के कारण आरोपी ने लड़की को अपने साथ चांपा लेकर आ गया था। मामले की जांच में चांपा पुलिस जुटी है।

 

14-07-2020
क्वॉरेंटाइन सेंटर में प्रवासी मजदूर की सर्पदंश से मौत

कोरबा। जिला मुख्यालय कोरबा से 96 किलोमीटर दूर लहंगी के क्वॉरेंटाइन सेंटर में सर्प के काटने से 25 वर्षीय धनसिंह की स्थिति बिगड़ गई। पसान के टीआई राणा ने बताया कि बीती देर रात पीड़ित को पेंड्रा के सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। यह व्यक्ति 1 जुलाई को उत्तर प्रदेश के झांसी से यहां लौटा था। इसके बाद गांव के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। 

 

25-04-2020
लॉक डाउन का उल्लंघन करने पर ट्रेलर जब्त, चालक और खलासी पर जुर्म दर्ज

पेंड्रा। कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए जीपीएम जिले से कोरबा जिले की सभी सीमा सील कर दी गई है। अतिआवश्यक होने पर ही आने जाने दिया जाता है पर शनिवार को पेण्ड्रा थाना के स्टाफ चेकिंग पॉइंट पर उपस्थित होने पर मातिन दाई बेरियर पर कोटमी की ओर से एक ट्रेलर सीजी 22 जे 1604 बैरियर पर पहुंचा। चेकिंग करने पर ट्रेलर के डाला में 12 मजदूर बैठे पाए जाने पर पूछताछ की गई। चालक के पास मजदूरों की परमिशन चालक के पास मौजूद नहीं थी।  चालक और खलासी द्वारा मज़दूरों का अवैध परिवहन करना पाया गया,जो शासन के दिशानिर्देशों का उल्लंघन है। इसकी सूचना बैरियर प्रभारी के द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। ट्रेलर के ड्राइवर व खलासी द्वारा धारा 144 के उलंघन किया जाना पाए जाने पर थाना पेंड्रा में अपराध क्रमांक 39/20 धारा 188, 269 आरोपी ट्रेलर चालक पर अपराध दर्ज किया गया।

21-04-2020
पेंड्रा से सब्जी लेकर मध्यप्रदेश पहुंचा बालक निकला कोरोना पॉजिटिव, 4 दिनों तक रुका था गौरेला में

पेंड्रा। मध्यप्रदेश के डिंडोरी जिले में कोरोना वायरस से पीड़ित मामला सामने आया है। जिले के करंजिया विकासखंड मुख्यालय के इंदिरा कॉलोनी निवासी सब्जी व्यवसाई बालक की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने से प्रशासन सक्रिय हो गया है। यह बालक बीते दिनों पेंड्रा जिले के गौरेला ब्लॉक से सब्जी लेकर डिंडौरी पहुंचा था। बताया गया कि 3 दिन पहले ही 14 वर्ष के बालक को करंजिया में बनाए गए छात्रावास क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। 18 अप्रैल को सैंपल जांच के लिए जबलपुर भेजा गया था। सोमवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आने से कलेक्टर, एसपी सहित प्रशासनिक अमला स्वास्थ्य कर्मियों के साथ करंजिया पहुंच गया। आसपास की 3 किलोमीटर की सीमा को पूरी तरह से सील कर दिया गया है।

प्रशासन अब संबंधित किशोर की संपर्क में आए लोगों की भी तलाश करने के साथ उनकी सैंपल लेने की तैयारी में है। बताया गया कि जहां पर किशोर को रखा गया था, वहां 23 और लोग है। ऐसे में उन लोगों में भी कोरोना वायरस फैलने का खतरा बताया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार 16 अप्रैल को संबंधित किशोर पेंड्रा जिले के गौरेला ब्लॉक से सब्जी लेकर आया था। यह बालक अपने रिस्तेदार के यहां रुका हुआ था। किशोर की रिपोर्ट पॉज़िटिव आने के बाद जिला प्रशासन सख्ते में आ गया है। इसके बाद गोरखपुर इलाके को पूर्ण रूप से सील कर दिया है और बालक के संपर्क में आये हुए लोगो की भी जांच व सभी को क्वॉरेंटाइन और आइसोलेशन कर दिया गया है। जिस संबंधित वाहन से वह आया गया था उसे भी जब्त कर लिया गया है।

12-04-2020
पुलिस विभाग ने वीडियो जारी कर लोगों से की अपील, कहा- जान है तो जहान है 

पेंड्रा। पुलिस टीम की मेहनत और 24 घण्टे जिले के हर नागरिकों की सुरक्षा में लगे रखने के प्रयास पर पुलिस विभाग का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें पुलिस विभाग द्वारा संदेश दिया जा रहा है कि कोरोना वायरस से बचने के लिए आप घर में रहिए, लॉकडाउन का पालन कीजिए आपकी हर संभव मदद के लिए पुलिस मौजूद हैं। सोशल मीडिया में पुलिस विभाग द्वारा जारी किया गया वीडियो पूरे जिले में बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। लोग वीडियो को देखकर पुलिस विभाग की अपील का पालन करने की बात कह रहे हैं। साथ ही वीडियो को एक दूसरे से शेयर कर अपने स्टेटस में भी लगा रहे हैं और पुलिस विभाग की बहुत तारीफ कर रहे हैं, कि हम और हमारा परिवार घर में सुरक्षित रहे जिसके लिए पुलिस और सारा प्रशासन जी जान से 24 घंटे मेहनत कर रहे है।

11-04-2020
जनधन खाताधारकों को मिली राहत, कियोस्क के माध्यम से राशि आहरण का समय बढ़ाया

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। राज्य में प्रधानमंत्री जनधन योजना अंतर्गत महिला हितग्राहियों के सभी बैंकों में स्थित खातों में पांच सौ रुपये जमा हो चुके हैं। इसको ध्यान में रखते हुए कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने जनधन खातों के महिला हितग्राहियों से अनुरोध किया है कि वे आवश्यक होने पर ही अपने खाते से राशि निकालें। उन्होंने कहा है कि आपके खाते में जमा राशि आपके द्वारा कभी भी निकाली जा सकती है। अपने खाते में जमा राशि निकालने के लिए गांव में कार्यरत बैंक मित्र एवं बैंक द्वारा नियुक्त निकटतम ग्राहक सेवा केंद्र अथवा एटीएम से प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा है कि अति आवश्यक होने पर ही बैंक शाखा में आएं। जिनको बैंक मित्र अथवा एटीएम से राशि निकालने में असुविधा हो रही है, वे अपने बैंक शाखा में जा कर भी पैसा प्राप्त कर सकते हैं।कलेक्टर ने कहा है कि कियोस्क के माध्यम से ग्रामीण प्रातः 7 बजे से शाम 7 बजे तक सोशल डिस्टेंसिन्ग का ध्यान रखकर एक दूसरे से सुरक्षित दूरी रखते हुए राशि निकाल सकते हैं।कलेक्टर ने सभी बैंक शाखाओं में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिन्ग के संबंध में शासन द्वारा जारी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए हैं।

09-04-2020
फरार आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पेंड्रा। ग्राम गिरवर की महिला ने 7 अप्रैल को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसका पति रज्जू राठौर को दिलीप कुमार राठौर ने पुरानी रंजिश को लेकर हत्या करने की गरज से हमला किया। इससे रज्जू राठौर को चोट आई,जिसे अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 23/2020 धारा 307 कायम कर विवेचना में लिया गया। आरोपी घटना घटित कर घर से फरार हो गया था। गुरुवार सुबह मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी बचरवार में छिपा है। गौरेला पुलिस की टीम बचरवार से आरोपी को गिरफ्त में लेकर लाई। आरोपी से घटना में प्रयुक्त फरसा जब्ती उपरांत गिरफ्तार किया जाकर न्यायिक रिमांड में लिया गया है।

30-03-2020
कोरोना से लड़ने सांसद ज्योत्सना महंत ने दिए 2 करोड़, पीएम-सीएम रिलीफ फंड और तीन जिलों को मदद  

रायपुर। कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए अपने सांसद  निधि से एक करोड़ रुपए पीएम रिलीफ फंड में जारी किया है। उन्होंने कोरबा लोकसभा के तीन जिले कोरबा, कोरिया, पेंड्रा गौरेला मरवाही के लिए  25-25-25 लाख रुपए कोरोना जांच उपकरण किट और अन्य बचाव सामाग्री के लिए दिया है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री सहायता कोष में 25 लाख रुपए देने की घोषणा की है। बता दें की इसके पूर्व भी कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने अपने एक माह का वेतन 1,85000 रुपए मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा कर चुकी हैं। कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने कोरबा लोकसभा के कोरबा, कोरिया, पेंड्रा गौरेला मरवाही के जिलाधीशों को अलग अलग पत्र लिखकर उनके द्वारा लिए गये निर्णयों से अवगत भी कराया है। डब्ल्यूएचओ की ओर से कोरोना को महामारी की संज्ञा देने बाद से ही वे लगातार अपने लोकसभा क्षेत्र जिलाधीश एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से सतत संपर्क में है। हरसंभव क्षेत्र की जनता, विशेषकर गरीब, मजदूर जनता को आवश्यक सामग्री की उपलब्धता कराने और अन्य मदद करने का प्रयास कर रही है।

29-03-2020
रायपुर से पैदल निकले मजदूर 3 दिन में पेंड्रा पहुँचे

पेंड्रा। यातायात की कमी के चलते मजदूरों को पैदल ही कई किलोमीटर चलकर अपने घरों की ओर जाने को मजबूर होना पड़ रहा है। कुछ मजदूर जहां सड़क और पगडंडियों का सहारा ले रहे है तो वहीं कुछ मजदूर रेल की पटरियों के किनारे किनारे चलकर अपनों तक पहुंचने की जद्दोजहद करने में लगे हुए हैं। ऐसा ही एक मामला पेंड्रा क्षेत्र में देखने को मिला जहाँ रायपुर में रहकर ट्रांसपोर्ट में काम करने वाले मध्यप्रदेश के सीधी जिले में रहने वाले कुछ मजदूर साधन न होने के कारण तीन दिन से पैदल चलते हुए पेंड्रारोड स्टेशन पहुंचे। उन्होंने बताया कि हम लोग रायपुर से पैदल ही घर जाने के लिए निकले है। कुछ लोग कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ के गाँव मे रहने वाले है जो पेंड्रा के रास्ते अपने घर जा रहे है। मजदूरों ने बताया कि हम लोग सीधी जिले के लिए निकले है रास्ते में पुलिस के कुछ लोग जरूर मिले जो हमें कुछ दूर तक वाहनों की व्यवस्था कर मदद की। लेकिन घर तक पहुंचने के लिए कोई सहायता नही मिल पा रही है। वही कुछ मजदूर पटरियों की बगल में चलकर अपने घर के लिए निकले हैं।

27-02-2020
कलेक्टर की अध्यक्षता में हुई गौरेला-पेण्डा-मरवाही के सभी विभागों की बैठक  

पेंड्रा। कलेक्टर के अध्यक्षता में सभी विभागों को बुलाया गया और समीक्षा बैठक में कई फैसले लिए गए। जिसके लिए सभी अधिकारियों को निर्देश दिये गए हैं। नवीन जिले के मुख्य रूप से जल्द समस्याओं खत्म करने एवं क्षेत्र के विकास के लिए कई तरह के निर्देश दिए गये। जिला मुख्यालय के सभी कार्यालय जल्द से जल्द स्थापित किये जाने के संबंध में तथा सभी कार्यालय कार्यालयीन समय में खुलने हेतु एवं लोक सेवा गारंटी अधिनियम की जानकारी सभी विभागों को कम्पाइल करके कलेक्ट्रेट में भेजने के लिए तथा नरवा की व्यवस्था के लिए फॉरेस्ट विभाग को विशेष रूप से 6.68 लाख पौधे लगाये जाने का निर्देश दिया।

के.वी.के एग्रीकल्चर हेतु 50 एकड़ जमीन एवं एग्रो के लिए 03 एकड़ जमीन राजस्व विभाग को दिये जाने के लिए निर्देशित किया तथा जनमत पत्रिका में जिले के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों को प्रकाशित करने हेत तथा सभी विभागों को अनुपयोगी वस्तुओं का डिस्पोजल करने के लिए निर्देश दिया गया। वन अधिकार पट्टा के.सी.सी. एवं पी.एम.किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत आर ई.ओं एवं आर.आई.को बैठक में व गोठान से निर्मित खाद का विक्रय किये जाने के लिए  निर्देशित किया। शहरी पट्टा हेतु नगर पंचायत को निर्देशित किया। विशेष रूप से महिला बाल विकास विभाग की मुख्य मंत्री कन्या विभाग योजना के अंतर्गत 200 जोड़ों का सामुहिक विवाह कराये जाने के लिए निर्देशित किया।

 

20-02-2020
बलात्कार के आरोपी को 10 साल सश्रम कारावास की सजा

पेंड्रा। महिला के साथ दुष्कर्म और पिटाई करने वाले आरोपी को दस साल के सश्रम कारावास की सजा एडीजे कोर्ट ने सुनाई है। मामला मरवाही थाना क्षेत्र के सेमरदर्री गांव का 14 अप्रेल 2019 का है। यहां पीड़िता अपने मायके अपने पति और दो बच्चों के साथ सेमरदर्री गांव गई थी। रात को वह घर के बाहर बाड़ी तरफ दिशा मैदान के लिये निकली थी। वहां पहले से ही आरोपी राकेश बेक वहां छिपा हुआ था और उसने मुंह दबाकर पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया और इस बीच आवाज सुनकर पीड़िता का भाई वहां पहुंचा तो आरोपी ने उसकी भी पिटाई कर दिया। दूसरे दिन पीड़िता ने इस घटना की जानकारी पति और परिजनों को दी। इस पर मरवाही थाने में आरापी के खिलाफ भादवि की धारा 376 और 323 तके तहत अपराध दर्ज किया और आरोपी को गिरफ्तार किया था। इस मामले में फैसला सुनाते हुये अपर सत्र न्यायाधीश विनय कुमार प्रधान ने आरोपी राकेश बेक को भादवि की धारा 376 और 323(दो बार) के आरोप में दोषसिद्ध पाते हुए धारा 376 के तहत 10 साल के सश्रम कारावास और 5000 के अर्थदंड और 323(दो बार) के अंतर्गत 3-3 माह के सश्रम कारावास और 5-5 सौ रूपये के अर्थदंड से दंडित करने का आदेश सुनाया। अर्थदंड की अदायगी में चूक होने पर क्रमश 6 माह और 15-15 दिनों के अतिरिक्त सश्रम कारावास की सजा भुगतनी होगी। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804