GLIBS
29-05-2020
पारिवारिक विवाद में बड़े भाई को उतारा मौत के घाट, थाना पहुंचकर किया सरेंडर

रायपुर। गोबरा नवापारा में पारिवारिक विवाद पर युवक ने अपने बड़े भाई की धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी थाने पहुंचकर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गोबरा नवापारा के वार्ड क्रमांक 21 निवासी सलीम रिजवी का गुरूवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात में अपने बड़े भाई शमीम से विवाद हो गया। विवाद इतना अधिक बढ़ गया कि सलीम ने शमीम को पहले सीढिय़ों से धक्का दिया और फिर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर उसकी हत्या कर दी। हत्या करने के बाद आरोपी खुद से थाना पहुंचा और घटना की जानकारी देते हुए आत्मसमर्पण किया।

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि मृतक शराब के नशे में अक्सर घरवालों के साथ गाली-गलौज और मारपीट किया करता था। कुछ दिन पहले ही उसने अपने बीवी-बच्चों के साथ मारपीट कर घर से भगा दिया था। आरोपी के आत्मसमर्पण के बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर शव का पंचनामा कार्यवाही कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले की जांच कर रही है।

21-05-2020
क्वारेंटाइन तो किया गया पर व्यवस्था पर नहीं दिया जा रहा ध्यान, चटाई बिछाकर सोने को मजबूर है युवक

कांकेर। कोरोना वैश्विक महामारी को लेकर जहाँ पूरा देश गम्भीर है वहीं कांकेर जिले के कुछ स्थानों में इसको लेकर ग्राम पंचायत के जिम्मेदारो की लापरवाही देखते ही बन रही है। बता दें कि ग्राम पंचायत पोटगाँव व ग्राम पंचायत कोकड़ी में बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है। जहाँ पर बच्चों को क्वारेंटाइन में रखा गया है। वहाँ न तो किसी की ड्यूटी लगाई गई है और न ही किसी प्रकार की समुचित व्यवस्था की गई है, जिससे क्वारेंटाइन में रह रहे बच्चे बेहद परेशान है। इस सम्बन्ध में ग्राम पंचायत पोटगाँव में आंध्रप्रदेश के नैलूर जिला मैनकुर से लौटी युवती व उसके परिजनों ने बताया कि मैं प्रशासन की मदद से जैसे भी करके कांकेर तक पहुँची लेकन कांकेर से ग्राम पंचायत पोटगाँव 20 से 25 किमी पहुँचने के लिए जद्दोजहद करनी पड़ी जिससे जो ग्राम पंचायत से सहयोग मिलना था वह नहीं मिल पाया न ही कोई जिम्मेदार व्यक्ति मुझे लेने पहुँचा।

इसके बाद घर से ही अपने भाई को बुलवाकर मुझे गांव पहुँचना पड़ा। इसके कारण मेरे भाई को भी क्वारेंटाइन में रखा गया है। यहाँ न तो सोने के किये बिस्तर दिया गया है और न कोई पूछ परख है। अन्य स्थानों से जो मेरे साथ आये थे उन्हें लेने के लिए ग्राम पंचायत के द्वारा व्यवस्था की गई थी। लेकिन ऐसी कोई भी व्यवस्था ग्राम पंचायत द्वारा नहीं की गई  जिसके कारण मुझे परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस सबंध में पोटगाँव ग्राम पंचायत के सरपंच मानेश कुलहरिया से पूछने पर बताया की मुझे इसकी जानकारी शाम 6 बजे मिली पर मैं कांकेर में था जिसके कारण मैं कुछ नहीं कर पाया।

यह कहकर पल्ला झाड़ने लगा। अब जब गांव के मुखिया ऐसे गैरजिम्मेदाराना जवाब दे तो इसे क्या कहें? कोकड़ी ग्राम पंचायत में भी युवक को क्वारेंटाइन में किसी भी प्रकार की सुविधा नहीं मिल पा रही है। जिस पर युवक ने उसका तो भोजन पानी भी घर से ही जा रहा है। गौर करने की बात यह है कि वह अकेले ही क्वारेंटाइन सेंटर में है, जिसके कारण वह परेशान है उसके सोने के लिए मात्र चटाई ही दी गई है। इस सबंध में जनपद सीईओ यूके पामभोई ने बताया कि ग्राम पंचायत में क्वारेंटाइन सेंटर में  सभी के रुकने खाने की व्यवस्था ग्राम पंचायत को करनी है। यदि ऐसा है तो यह गलत है। इस पर जांच होगी।

21-05-2020
सरगुजा में मिला एक और कोरोना पॉजिटिव, प्रयागराज से लौटा था युवक

अम्बिकापुर। जिले में एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से जिला प्रशासन अस्पताल प्रबंधन हरकत में आ गया है। इसके साथ ही अब सरगुजा में 3 मरीज हो चुके हैं। जानकारी के मुताबिक, नया मिला संक्रमित प्रयागराज से वापस लौटा था। इसके बाद इसे होम क्वारंटाइन किया गया था। मरीज़ का रैपिड टेस्ट कराया गया था जिसमें रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। इसके बाद आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए भी भेजा गया था जिसमें रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

21-05-2020
अब इस जिले में मिला कोरोना पॉजिटिव, मुंबई से लौटा था युवक, प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या हुई 57

कांकेर। छत्तीसगढ़ में लगातार कोरोना विस्फोट बरकरार है अब बस्तर के कांकेर जिले में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज पाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार कांकेर के कलंनकपुरी गाँव से एक और कोरोना पॉजेटिव मिला है, जो 14 मई को मुंबई से लौटा था। कांकेर कलेक्टर केएल चौहान ने इसकी पुष्टि की है। प्रदेश में अब मरीजों का आँकड़ा 116 पहुँच गया है। वही एक्टिव केस की संख्या 57 हो गई है और 59 मरीज ठीक होकर घर चले गए है।

20-05-2020
सड़क हादसे में युवक की दर्दनाक मौत,दूसरा घायल, अस्पताल में इलाज जारी

धमतरी। जिले के कुरूद और भाटागांव के बीच नेशनल हाईवे के पास एक्सीडेंट हुआ। बता दें कि मुर्गी ले जा रहे मेटाडोर व बाइक के बीच जबरदस्त टक्कर हो गई। इसमें बाइक सवार युवक की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार अश्वनी कुमार सिन्हा और खोमन ध्रुव एक बाइक में सवार होकर कुरूद तरफ से अपने घर जा रहे थे। उसी दौरान रायपुर तरफ से तेज रफ्तार मुर्गी से भरा हुआ मेटाडोर बाइक सवार को चपेट में ले लिया। यह घटना दोपहर 2:30 बजे के आस-पास कुरूद और भाठागांव के बीच रायपुर नेशनल हाईवे पर मुर्गियों से भरी मेटाडोर क्रमांक CG19 BF 0158 व मोटर सायकिल क्रमांक CGO5 N 7356 के बीच जोरदार टक्कर हो गई। इससे बाइक सवार युवक अश्वनी कुमार सिन्हा की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। वहीं घायल खोमन ध्रुव को अस्पताल में भर्ती करवाया गया। मेटाडोर टकराने के बाद अनियंत्रित होकर पलट गया। फिलहाल कुरूद पुलिस घटना स्थल पर पहुँच गया और जांच में जुट गई है।

 

17-05-2020
दूसरे प्रदेश से लौटे थे कवर्धा के दो कोरोना पॉजिटिव

कवर्धा। जिले में एक बार फिर कोरोना पाॅजिटिव केस मिलने से हड़कंप मचा है। 20 साल के युवक को कोरोना पाॅजिटिव पाया गया। युवक मुम्बई से आया था,जिसे क्वारंटीन में रखा गया था। वहीं दूसरा केस में बुजुर्ग महिला कोरोना पाॅजिटिव पाई गई, जो महिला नागपुर से आईं थीं, जिन्हें क्वारेंटीन किया गया था। बता दें कि हाल ही में कोरोनो से संक्रमित जिले के 6 लोग स्वास्थ्य होकर आए हैं और आज फिर दो कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं।

 

17-05-2020
क्वारेंटाइन सेंटर में सो रहे युवक को सांप ने काटा, अस्पताल ले जाते समय हुई मौत 

मुंगेली। ग्रामपंचायत किरना में क्वारेंटाइन सेंटर में सो रहे योगेश कुमार वर्मा को जहरीले सांप ने काट लिया। इसकव बाद उसे सीधे जिला अस्पताल लाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद हालत बिगड़ते देख डाक्टरों ने उसे सिम्स रेफर कर दिया। सिम्स ले जाते वक्त लगभग तखतपुर के पास रास्ते में ही श्रमिक युवक की मृत्यु हो गई। ग्रामीणों के अनुसार मृतक युवक और उसकी पत्नी पुणे महाराष्ट्र काम गये हुए थे, जहाँ से दो दिन पूर्व ही लौटे थे। मूँगेली लौटने के बाद एक दिन पंडरभट्टा क्वारेंटाइन सेंटर में रुके हुए थे।

इसके बाद कल सुबह वह अपने गृह ग्राम किरना क्वारेंटाइन सेंटर गये। जहां रात में मृतक क्वारेंटाइन सेंटर के मैदान में जमीन पर सोया हुआ था। इस दौरान आज सुबह लगभग 4 बजे के आसपास उसे जहरीले सांप ने काट लिया। आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल लाया गया जहाँ से उसे सिम्स रेफर कर दिया गया। सिम्स ले जाते वक्त तखतपुर के पास ही उसकी मृत्यु हो गई। बता दें कि ग्रामीणों ने इस घटना पर ग्राम पंचायत के सचिव, रोजगार सहायक व वालिनटियरों पर ही लापरवाही का आरोप लगाया है और प्रशासन से इस पर कार्यवाई करने की मांग की है।

15-05-2020
बांकीमोंगरा जंगल के मैगजीन भाटा में युवक ने की खुदकुशी...

कोरबा। बांकीमोंगरा थाना क्षेत्र के मैगजीन भाटा में एक युवक ने अज्ञात कारणों से फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को इसकी जानकारी दी गई है। मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।मृतक का नाम रविकांत यादव बताया गया है। युवक अपने नाना नानी के पास रहता था। जानकारी के अनुसार भोजन करने के बाद परिवार के लोग सो गए। किसी काम से रात 11 बजे अभिभावक उठे तो उन्होंने रविकांत को फांसी के फंदे पर लटका पाया। इसके साथ ही पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। संबंधित क्षेत्र को सील करने के साथ पुलिस ने आज सुबह यहां आवश्यक कार्रवाई की। 174 सीआरपीसी के अंतर्गत मर्ग कायम करने के साथ मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। माना जा रहा है कि कामकाज ना होने और आर्थिक परेशानी के कारण युवक ने यह कदम उठाया होगा। लेकिन वास्तविक कारण क्या हो सकते हैं। इसका खुलासा आगे होने वाली जांच में स्पष्ट हो सकेंगे।

14-05-2020
मोहन नगर पुलिस कस्टडी में युवक ने किया खुदखुशी का प्रयास

दुर्ग। मोहन नगर पुलिस थाना कस्टडी में एक युवक ने अपने शरीर पर धारदार वस्तु से वार कर खुदकुशी करने का प्रयास किया। उसे गले व दोनों हाथों की कलाई में चोंटे आई है, जिसे जिला अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। जहां उसकी हालत अब खतरे में बाहर बताई गई है। उक्त युवक लक्ष्मीकांत ठाकुर 35 वर्ष बोरसी निवासी को पुलिस ने धारा 386 कर्जा एक्ट के एक पुराने मामले में बुधवार की शाम हिरासत में लेकर मोहन नगर पुलिस थाना के कस्टडी में रखा गया था। गुरुवार को पुलिस द्वारा न्यायालय में पेश करने की तैयारी थी। इसके पहले वह सुबह बाथरुम जाने के बहाने निकला और मोहन नगर पुलिस थाना के भीतर अपने शरीर पर धारदार वस्तु से वार कर खुद को जख्मी कर लिया। पुलिस कस्टडी में सामने आए इस घटना से पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। घटना की खबर पर दुर्ग सीएसपी विवेक शुक्ला, अजीत यादव, मोहन नगर थाना प्रभारी नरेश पटेल, कोतवाली थाना प्रभारी सुरेश बागड़े एवं अन्य अधिकारी जिला अस्पताल पहुंचे और घटना की वस्तुस्थिति से अवगत होकर अपने अधीनस्थ अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस घटना ने जहां पुलिस महकमें में हड़कंप मचा दिया है वहीं घायल युवक के परिजनों के आरोपों ने पुलिस के कार्यशैली पर भी बड़ा प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया ह
घायल युवक लक्ष्मीकांत ठाकुर के बड़े भाई संतोष सिंह ठाकुर ने इस घटना के लिए मोहन नगर पुलिस थाना के एक अधिकारी को जिम्मेदार बताया है। संतोष ने पुलिस के उच्च अधिकारियों को शिकायत करते बताया कि मेरे छोटे भाई लक्ष्मीकांत ठाकुर ने सन् 2018 में स्मृतिनगर निवासी राहुल जावडे को 10 लाख की राशि उधार दी थी, लेकिन राहुल राशि वापस लौटाने में आनाकानी कर रहा था, तब लक्ष्मीकांत ने रकम वापसी के लिए दबाव बनाया तो राहुल ने मोहन नगर पुलिस थाना में अपराध दर्ज करवा दिया था। संतोष सिंह ठाकुर ने आरोप लगाते हुए कहा कि इस मामले को रफा-दफा करने मोहन नगर पुलिस थाना में पदस्थ अधिकारी द्वारा लक्ष्मीकांत ठाकुर से 5 लाख की राशि की मांग की गई थी। राशि नहीं दिए जाने पर जानबूझकर केस को पेडिंग रखा गया था। इससे लक्ष्मीकांत ठाकुर मानसिक रुप से प्रताडि़त हो रहा था। बुधवार की शाम लक्ष्मीकांत ठाकुर को पुलिस ने हिरासत में लेकर मोहन नगर पुलिस थाना के कस्टडी में रखा गया था। जहां मानसिक रूप से परेशान चल रहे लक्ष्मीकांत ठाकुर आत्मघाती कदम उठाने विवश हुआ। बड़े भाई संतोष सिंह ठाकुर ने उच्च अधिकारियों से घटना की जांच कर दोषी पर कार्यवाही करने की मांग की है। 

 

14-05-2020
क्वारेंटाइन सेंटर में युवक ने किया आत्महत्या का प्रयास, घर जाने की जिद पर था अड़ा

दुर्ग। ग्राम पंचायत पतोरा में कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिये लॉक डाउन के दौरान अन्य जगह से वापस गांव आने वाले लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। इसके लिये शासकीय हाईस्कूल पतोरा को क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। ग्राम पतोरा के क्वारेंटाइन सेंटर में 5 लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। इसमे 4 महिला और एक पुरुष है। महिला और पुरुष दोनों के लिये अलग अलग व्यवस्था की गई है। युवक पिछले 9 दिनों से क्वारेंटाइन में था, वह अपने घर जाने की जिद पर अड़ा हुआ था। घर नहीं जाने देने पर आत्महत्या कर लेने की धमकी भी दिया था। उसकी बात नहीं माने जाने पर गुरुवार को युवक ने कमरे में लगे हुक में कपड़े का फंदा बनाकर झूल गया। युवक को फांसी के फंदे पर झूलते हुए ग्रामीणों द्वारा देखे जाने पर फंदे को काटकर तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उतई ले जाया गया। युवक की हालत सामान्य है। फांसी लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश किये जाने की खबर ग्राम पंचायत पतोरा द्वारा उतई पुलिस को दे दी गई थी। उतई पुलिस द्वारा युवक को समझाकर वापस क्वारेंटाइन में लाकर रखा गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804