GLIBS
02-08-2020
 बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर गांजा तस्करी करने वाली अंतर्राज्यीय महिला तस्कर गिरफ्तार, 5 क्विंटल गांजा जब्त

महासमुन्द। सपनों की नगरी मुम्बई की अंतर्राज्यीय गांजा महिला तस्कर सहित दो अन्य आरोपियों को महासमुंद पुलिस ने 5 क्विंटल गांजा के साथ गिरफ्तार किया है। कोखामान थाना प्रभारी तिलेश्वर यादव ने पूरे जिले में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है। 5 क्विंटल गांजा के साथ अंतरराज्यीय गिरोह के 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पूरे जिले में अब तक पुरूष और नाबालिग आरोपी गांजा तस्करी में पकड़े जा रहे थे, लेकिन इस कार्रवाई में महिला गांजा तस्कर सामने आई है। गिरफ्तार महिला ही इस तस्करी की मास्टर माइंड बताई जा रही है। गिरफ्तार तीनों आरोपी मुम्बई महाराष्ट्र की है। कोमाखान पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि कल मुखबीर से थाना प्रभारी को सूचना मिली कि एक महाराष्ट्र पासिंग की ट्रक में एक महिला समेत दो पुरूष उड़ीसा से गांजा भरकर ले जा रहे हैं। थाना प्रभारी ने मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को पहुंचा कर एक टीम बनाकर मुखबीर के बताये हुलिये के अनुसार वाहन का इंतजार टेमरी नाका खरियारोड़ बार्डर पर करने लगे।

इस दौरान महाराष्ट्र पासिंग की एक ट्रक एमएच 02 ईआर 7437 पहुंची। जिसे पुलिस ने रोककर वाहन में सवार दो व्यक्ति और एक महिला से पूछताछ की तो सुल्ताना माजिद शेख पिता बालू खान उम्र 32 वर्ष निवासी 101 आयशा सोसायटी अल्कापुरी रोड नालासोपारा इस्ट मुम्बर्ई, शोयब अहमद मलीक पिता तुफेल अहमद मलीक उम्र 35 वर्ष साकिन महबुब आलम चाल रूम नंबर 9 मुम्बई, अब्दुल रसीद अली पिता आशिक अली उम्र 56 वर्ष साकिन सांई सागर बिल्डींग न्यू मिल रोड ग्रेटर मुंबई सुबरबन थाना कुर्ला मुम्बई बताया। पुलिस ने उक्त वाहन की तलाशी ली तो पीछे ट्रक में प्लास्टिक के कुछ कार्टून के पीछे 5 क्विंटल गांजा बोरियों में छिपा कर रखा था। कोमाखान थाना प्रभारी तिलेश्वर यादव ने बताया कि उक्त मामले में महिला की दोनों युवकों को विशाखापट्नम घुमाने और गांजा की तस्करी करने के लेकर आई हुई थी। दोनों आरोपियों से एक आरोपी शेख अहमद महिला का प्रेमी है जिसे उनसे गांजे की इस तस्करी में लगा रखा था। गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस ने 5 क्विंटल 25 किलो गांजा, दो मोबाईल और एक ट्रक जप्त कर तीनों आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 20 (ख) एनडीपीएस के एक्ट के तहत कार्रवाई कर जेल भेजा जा रहा है।

18-03-2020
गरीबों का राशन डकारने वाले गिरफ्तार, ट्रक और क्रूजर जब्त

गरियाबंद। गरीबों के पीडीएस का राशन डकारने वाले दो लोगों को गरियाबंद पुलिस ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। सरकारी गोदाम से राशन भरा ट्रक निकला तो था राशन दुकान के लिए मगर रास्ते में देर रात को राशन दुकान की बजाए एक व्यक्ति को राशन का चावल बेचते कुछ लोगों ने देखा। मौके पर से ही लोगों देर रात ग्रामीणों ने एक्सपी गरियाबंद एमआर आहिरे को फोन लगा दिया कि यहां राशन की चोरी कर हेरा फेरी की जा रही है। इस पर तत्काल थाना प्रभारी को एसपी ने घटनास्थल पर रवाना किया और रंगे हाथों राशन सार्वजनिक वितरण प्रणाली के लिए निकले ट्रक से चोरी करते समय चालक और राशन खरीदने वाले को गिरफ्तार किया गया। घटना में ट्रक और राशन खरीदने वाली की क्रूजर वाहन दोनों जब्त कर ली गई है।

राशन की हेरा फेरी कि वैसे तो कई घटनाएं होती रहती है मगर अब लोग जागरूक हो गए हैं।  इस हेराफेरी को रोकने के लिए प्रयास भी कर रहे हैं। यही कारण है कि बीती देर एक ग्रामीण ने सीधे जिले के एसपी एमआर आहिरे को फोन लगाया कि यहां सरकारी राशन निजी व्यक्ति के वाहन में खाली किया जा रहा है। एसपी ने तत्काल एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर तथा सिटी कोतवाली थाना प्रभारी आरके साहू को घटना की जानकारी देते हुए थाना प्रभारी को तत्काल रवाना होने को कहा,जिसके बाद थाना प्रभारी नागा बूढ़ा पहुंचे और रंगे हाथों सार्वजनिक वितरण प्रणाली परिवहन के लिए ठेके पर लिए गए ट्रक के चालक को ट्रक खाली करते पकड़ा। राशन एक क्रूजर वाहन में खाली किया जा रहा था,जिसके चालक को भी चोरी का माल खरीदने के आरोप में गरियाबंद पुलिस ने गिरफ्तार किया। साथ ही ट्रक और क्रूजर दोनों वाहन को जब्त कर थाने में खड़ा कराया गया। जब घटना की सूचना राशन दुकान संचालकों को लगी तब वे लोग भी थाने पहुंचे और बताया कि इसी तरह की चपत हम लोगों को भी लगाई जाती है। ट्रक वाले राशन कुछ कम दिया करते हैं वहीं कई बोरों में निर्धारित मात्रा से कम राशन निकलता है। शासकीय गोदाम से आने के चलते हम ज्यादा कुछ कह और कर नहीं पाते मगर हमें ऐसा लगता है कि बहुत से बोरों में छेद कर बोरों से 2 से 3 किलो तक राशन ट्रक चालक ही निकाल लेते हैं। इस घटना में भी उक्त क्रूजर वाहन से खाली बोरे बरामद हुए हैं,जिससे इस बात की आशंका और बढ़ जाती है कि इन बोरों का इस्तेमाल भी राशन निकालने के लिए किया जाना था।

एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर ने बताया कि उक्त ट्रक सरकारी वेयरहाउस से निकल कर राशन दुकान में खाली होना था मगर बड़े पैमाने पर हेरा फेरी की शिकायत मिलने पर कार्यवाही करते हुए ट्रक चालक और राशन खरीदने वाले को गिरफ्तार किया गया। ट्रक में 400 कट्टा चावल लेख था लेकिन ट्रक में 397 कट्टा चावल होना पाया गया। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के चावल को अन्यत्र बेच देने की नियत पर से थाना सिटी कोतवाली गरियाबंद में अपराध क्रमांक 58/2020  धारा 3,7 ई0सी0 एक्ट 407 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपियों के कब्जे से उक्त चावल, चावल, नमक, शक्कर, ट्रक, क्रुजर कीमती 25 लाख 37 हजार रूपये को जब्ती की गई। प्रकरण के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। 

 

16-12-2019
अंधे मोड़ पर ट्रक से टकराई मोटरसाइकिल, चालक की हुई मौत

गरियाबंद। रायपुर देवभोग नेशनल हाईवे 130 सी को दुर्घटनाओं की सड़क कहें तो गलत नहीं होगा। आए दिन हो रही दुर्घटनाएं लोगों की जान ले रही हैं और मौतों का आंकड़ा कम नहीं हो पा रहा। सड़क में कई कमियों की बात पहले भी सामने आ चुकी है, लेकिन सुधार नहीं हो पा रहा कई अंधे मोड़ एक-दो नहीं कई जाने ले चुके हैं और मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा। सोमवार दोपहर एक बार फिर बारूका के पहले पड़ने वाले अंधे मोड़ पर सामने से आ रहे हैं ट्रक के दिखाई नहीं देने के चलते एक मोटरसाइकिल सवार की भिड़ंत ट्रक से हो गई और घटनास्थल पर ही मोटरसाइकिल सवार की मौत हो गई घटना के बाद ट्रक चालक फरार हो गया और लोगों ने ट्रक के शीशे भी तोड़ दिए। इसके बाद लोगों ने घटना की सूचना गरियाबंद पुलिस को दी पुलिस ने ट्रैक्टर बुलवाकर मृतक के मोटरसाइकिल तथा लाश को गरियाबंद बुलवाया। जहां शव का पोस्टमार्टम किया जा रहा है।

वहीं घटना कि जानकारी मृतक के परिजनों को देने पर वह भी जिला चिकित्सालय पहुंच चुके हैं। बताया जा रहा है कि मृतक का नाम तुकाराम जगत था जिसका ससुराल गरियाबंद में और घर बॉर्डरबांधा में था। अपने ससुराल से अपने गांव वापस लौटते समय वह इस दुर्घटना का शिकार हो गया जिसमें उसकी मौत हो गई। बता दें कि साल भर पहले जिले के कई वरिष्ठ अधिकारियों ने लगातार हो रही दुर्घटनाओं के बाद इस दुर्घटना वाले स्थल पर खड़े होकर नेशनल हाईवे तथा पीडब्ल्यूडी के कर्मचारी अधिकारियों को सड़क की कमियां दुरुस्त करने के निर्देश दिया था। सड़क के अगल-बगल पटरी ऊपर नीचे अर्थात गड्ढे वाली होने के चलते दुर्घटना की आशंका के चलते उसे भरने का निर्देश दिया गया था। इसके अलावा अगल-बगल की झाड़ियों को साफ करने के निर्देश इसलिए दिए गए थे। ताकि मोड़ पर सामने से आ रहे हैं वाहन की जानकारी मिल सके लेकिन ज्यादातर कार्य नहीं हुए जिसके बाद आज फिर दुर्घटना ने एक जान ले ली।

 

28-11-2019
गरियाबंद पुलिस को मिली बड़ी सफलता, छह फर्जी नक्सली गिरफ्तार

गरियाबंद। गरियाबंद में 6 फर्जी नक्सली पकड़े गए हैं। गिरफ्तार युवक स्थानीय गरियाबंद के ही  हैं। इन्होंने 10 से अधिक सरपंचों से 17 लाख रुपए वसूले थे और अंत में जडज़ड़ा सरपंच से 2 लाख में से 1.5 लाख फिरौती लेने के बाद 50000 की अंतिम किस्त लेते पकड़ में आए। नक्सल ऑपरेशन की टीम ने बीच जंगल में घेराबंदी कर पैसे लेते इन्हें पकड़ा। इनमें से एक नाबालिग भी शामिल हैं। पकड़े गए नक्सलियों से सघन पूछताछ जारी है। संध्या 4 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एसपी एमआर आहिरे तथा एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर ने पत्रकार वार्ता में कई बड़े खुलासे किए। उन्होंने बताया कि इन फर्जी नक्सलियों ने पुलिस पर नकली बंदूक से फायरिंग भी की थी। असली नक्सलियों से मुठभेड़ की तैयारी में गए हुए पुलिस बल इनके साथ मुठभेड़ करने ही वाले थे कि अनुभवी दल को इनके नकली बंदूकों की आवाज समझ आ गई और फायरिंग रोक दी।   एसपी एमआर आहिरे ने बताया कि फिरौती के रूप में 17 लाख रुपए ये लोग वसूल कर चुके थे। सबसे बड़ी बात यह कि इन फर्जी नक्सलियों के साथ शामिल एक आरोपी पूर्व में असली नक्सलियों का सहयोगी भी रहा है जो इलाके के बड़े-बड़े नक्सलियों को पहचानता था। इनके पास से आधा दर्जन से अधिक असली जैसे नकली हथियार बरामद हुए हैं जिनमें एक भरमार बंदूक असली निकली और दो एके-47 तथा कई एयरगन नकली निकली। ये लोग बकायदा गैंग बनाकर फर्जी नक्सली का काम करते थे। ये नकली हथियार फर्जी नक्सली ऑनलाइन मंगाया करते थे। एसपी ने बताया कि ज्यादातर युवक अपने शौक पूरा करने के लिए फर्जी नक्सली बने थे।

केवल सरपंचों से 2 लाख मांगते थे फिरौती
इन फर्जी नक्सलियों ने फिरौती वसूलने के रास्ते खोज निकाले थे। ये लोग केवल सरपंच, उपसरपंच और सचिव को ही निशाना बनाते थेे। ज्यादातर सरपंचों से 2 लाख रुपए वसूला करते थे। दिन में रेकी करने के बाद रात 12 से 3 बजे के बीच सरपंच को गांव से बाहर बुलाकर धमकाते थे। इस बीच वाकी टाकी पर कामरेड-कामरेड कहकर बात किया करते थे। गरियाबंद का एक युवक जो बड़े बाल वाला था वह मुंह ढंककर नक्सली दीदी अर्थात इनका मुखिया बनता था और बाकी सब बड़े-बड़े नकली हथियार दिखाकर डराया-धमकाया करते थे। अब तक 10 से अधिक सरपंचों से इन्होंने 1700000 रुपए वसूल भी लिए थे और जडज़ड़ा सरपंच शत्रुघ्न ध्रुव की होशियारी से ये लोग पुलिस की गिरफ्त में आ गए।

महिला नक्सली होने का दिखाते थे भय
उक्त गिरोह में आरोपी बादल सिंह ने महिलाओं की तरह लंबे बाल रखा है। जब वसूली के लिए किसी गांव जाते थे, तो उसे महिला बना दे देते थे और दीदी कामरेड, दीदी कामरेड चिल्लाते थे। इससे ग्रामीणजन महिला नक्सली समझकर उनके गिरोह को असली नक्सली समझकर डर जाते थे।
 

गिरफ्तार आरोपी:-
1. गौतम चक्रधारी पिता जनकराम (30) ग्राम करेली थाना शोभा हाल डाकबंगला गरियाबंद
2. बादल सिंह पिता स्व. वीरा सिंह  (32) ग्राम दरापारा गरियाबंद
3. रोशन निषाद पिता विजय निषाद (28) सुभाष चौक गरियाबंद
4. मुकेश कुमार भोई पिता महेन्द्र सिंह भोई (23) सुभाष चौक गरियाबंद
5. संतोष कुमार निषाद पिता स्व. रैनूराम निषाद (31) सुभाष चौक गरियाबंद
6. लेखराम निषाद पिता दयाराम (18) ग्राम मोचीडीह (चंपारण) हाल डाकबंगला गरियाबंद

गिरफ्तार आरोपियों से जब्त सामग्री
1 भरमार,  2 एयर पिस्टल (एके 47 जैसा), 1 एयर गन (एसएलआर जैसा), 1 स्माल पिस्टल (देशी कट्टा जैसा), 1 लायटर पिस्टल (रिवाल्वर जैसा), 1 गंडासा (कोयता), 1 बटनदार लाइट वाला चाकू, 2 मोटरसाइकिल (पल्सर), 2 नग वाकी-टाकी मय चार्जर के, झिल्ली में रखे सैकड़ों छर्र्रे, और  हरे रंग की 2 सेट वर्दी व बेल्ट।

26-11-2019
ट्रैक्टर पलटने से राष्ट्रीय राजमार्ग 130 पर यातायात हुआ बाधित

गरियाबंद। राष्ट्रीय राजमार्ग 130 पर मंगलवार को एक ट्रैक्टर के पलट जाने से आवागमन बाधित रहा। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ट्रैक्टर को उठाकर थाना पहुंचाया तब आवागमन प्रारंभ हुआ। दरअसल मजरकट्टा के टीकाराम ध्रुव अपने ट्रैक्टर क्रमांक सीजी 23-2342 से मजरकट्टा में छड़ गरियाबंद से खरीदकर ले जा रहा था। रास्ते पर एक गाड़ी को साइड देते समय एकाएक ट्रैक्टर के पलट जाने से आवागमन अवरुद्ध हुआ और लोगों की भीड़ जम गई। पुलिस ने पहुंचकर तत्काल मार्ग से ट्रैक्टर को हटवाकर थाना पहुंचाया। गरियाबंद पुलिस ने धारा 279 के तहत कार्रवाई प्रारंभ कर दी है। 

24-04-2019
दो इनामी नक्सलियों को पुलिस ने धरदबोचा

दंतेवाड़ा। दो इनामी नक्सलियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिली है। जानकारी के अनुसार दोनों नक्सलियों पर एक-एक लाख रुपए का इनाम पुलिस ने घोषित कर रखा था। नक्सलियों की गिरफ्तारी फरसपाल थाना क्षेत्र से हुई है। पुलिस ने बताया कि दोनों नक्सली जनताना सरकार अध्यक्ष और जनमलिशिया कमांडर है। आज ही गरियाबंद में पुलिस ने एक नक्सली को पकड़ा था। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804