GLIBS
11-10-2020
वामनराव लाखे की जयंती पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रतिभाओं का किया गया सम्मान

रायपुर। वामनराव लाखे जयंती पर शिक्षा, साहित्य, पत्रकारिता और न्यायालीन क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। रविवार को कालीबाड़ी स्थित  महंत लक्ष्मीनारायण दास महाविद्यालय सभा भवन में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विधायक सत्यनारायण शर्मा ने 21 प्रतिभाओं का सम्मान किया। इसमें रविशंकर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.केसरीलाल वर्मा, साहित्यकार व आईएएस डॉ. सुशील त्रिवेदी, पत्रकार सुभाष मिश्रा, संजय शुक्ला, मोहन तिवारी, हेमचंद विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अरुणा पलटा का सम्मान किया गया। इसके साथ ही कृषक कल्याण परिषद अध्यक्ष सुरेंद्र शर्मा, साहित्यकार डॉ. सुधीर शर्मा, जयप्रकाश शर्मा, आरके गांधी, साहित्यकार गीता शर्मा, डॉ. दीपक वेडेकर, चंद्रभूषण मिश्रा, नवीन शर्मा, शंकर शुक्ला, जयप्रकाश रथ, दिलीप षडंगी, प्रो. लक्ष्मीनारायण, डॉ. एम श्रीराम मूर्ति, ब्रिजेश चौबे, बैजनाथ चंद्राकर, झुनमुन गुप्ता को सम्मानित किया गया। 

 

09-10-2020
एजाज ढेबर और प्रमोद दुबे ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पंडित कमलनारायण शर्मा को किया नमन

रायपुर। नगर निगम संस्कृति विभाग के जीई रोड स्थित शहीद स्मारक परिसर में शुक्रवार को हुए कार्यक्रम में महापौर एजाज ढेबर और सभापति प्रमोद दुबे शामिल हुए। महापौर ढेबर ने समस्त राजधानीवासियों की ओर से स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पंडित कमलनारायण शर्मा को उनकी जयंती पर नमन कर आदरांजलि दी। सभापति प्रमोद दुबे, संस्कृति विभाग अध्यक्ष आकाश तिवारी ने भी नगर निगम रायपुर की ओर से पुष्पांजलि अर्पित की। महापौर और सभापति ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं अधिवक्ता के रूप में पंडित कमलनारायण शर्मा के अद्भुत योगदान को आने वाली पीढ़ियां सदैव ससम्मान स्मरण करती रहेंगी। नगर निगम रायपुर के संस्कृति विभाग के इस संक्षिप्त आयोजन में नगर निगम के मुख्य अभियंता जल आरके चौबे, कार्यपालन अभियंता योजना राजेश शर्मा सहित स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पंडित कमल नारायण शर्मा के परिवारजनों ने शहीद स्मारक परिसर में उनकी मूर्ति के समक्ष उन्हें जयंती पर पुष्पांजलि अर्पित की।

02-10-2020
रायपुर रेल मंडल के सभी स्टेशनों पर हुआ स्वच्छता कार्यक्रम, श्रमदान कर लोगों को किया गया जागरूक

रायपुर। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर रेल मंडल में शुक्रवार को महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती मनाई गई। रायपुर स्टेशन में महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया गया। इसके बाद सभी को स्वच्छता की शपथ दिलाई गई। पीपी यार्ड भिलाई सहित सभी स्टेशनों,यूनिटों पर महात्मा गांधी की जयंती मनाई गई। सभी स्टेशनों पर स्वच्छता कार्यक्रम हुए। रेलवे अधिकारियों व कर्मचारियों ने श्रमदान किया। स्टेशन परिसर में लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया गया। अपने आस-पास साफ-सफाई रखने,सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने की शपथ दिलाई गई। साथ ही लोगों को जागरूक किया गया कि सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब हम हमारे परिसर, हमारे समाज, हमारी कॉलोनियों ,हमारे कार्यालय परिसरों, सार्वजनिक स्थलों पर सफाई को महत्व देंगे। गंदगी मिटाने का सबसे आसान तरीका है कि गंदगी को होने नहीं दिया जाए और अपने-अपने कचरे के प्रति स्वयं जिम्मेदार बने। स्टेशन डायरेक्टर रायपुर की ओर से प्लेटफार्म,स्टेशनों परिसरों में अन्य स्वच्छता कार्यक्रम आयोजित भी किए गए। पार्किंग स्टैंड परिसरों को विशेष रूप से साफ किया गया।

इसी कड़ी में दुर्ग स्टेशन के कोचिंग डिपो में कोचों में यात्रियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए पोस्टर लगाए गए।  दुर्ग स्टेशन पर स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों,मुख्य स्टेशन प्रबंधक ने श्रमदान किया। इसके साथ ही कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए एडिशनल कलेक्टर के उपस्थिती में सिटी हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने आयुर्वेदिक औषधियां स्टेशन परिसर में वितरित की। कोरोना से बचने के लिए हेल्थ टिप्स भी दिया। मास्क लगाने, दो गज की दूरी का पालन करने, बार- बार साबुन से हाथ धोने, बिना हाथ धोए बार-बार चेहरे, नाक, आंख को न छुने की समझाइश दी गई। कहा गया कि जागरुकता से ही कोरोना से बचा जा सकता है। कार्यालयों, यूनिटों,वर्कशॉप में अधिकारियों, कर्मचारियों ने श्रमदान किया। पीपी यार्ड भिलाई में स्वच्छता कार्यक्रम चलाया गया। लोगों को जागरूक करने के लिए पेंटिंग,रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

 

25-09-2020
गांधी जयंती पर सभी त्रिस्तरीय पंचायतीराज संस्थाओं में होंगे कार्यक्रम,प्रमुख सचिव ने दिए अहम निर्देश

रायपुर। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जन्म शताब्दी वर्ष के समापन पर छत्तीसगढ़ राज्य के सभी ग्राम पंचायतों, जनपद पंचायतों और जिला पंचायतों में कार्यक्रम होंगे। कोरोना संक्रमण से बचने के उपायों और प्रोटोकॉल के पालन के साथ आगामी 2 अक्टूबर को सभी त्रिस्तरीय पंचायतीराज संस्थाओं के कार्यालय में ये आयोजन होंगे। राज्य शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने इस संबंध में सभी जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को आज परिपत्र जारी किया है।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव ने जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को भेजे परिपत्र में कहा है कि, 2 अक्टूबर 2019 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जन्म की 150वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में छत्तीसगढ़ शासन ने वर्ष भर विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन का निर्णय लिया था। 2 अक्टूबर को साल भर तक चले इस समारोह का समापन होगा। ग्रामीण स्थानीय निकायों के प्रतिनिधियों की ओर से ग्राम पंचायतों, जनपद पंचायतों और जिला पंचायतों में गांधी शताब्दी वर्ष के समापन के मौके पर आगामी 2 अक्टूबर को कार्यक्रम होंगे। इन कार्यक्रमों में राष्ट्रपिता की मूर्ति या फोटो पर फूल माला अर्पण कर उनके प्रिय भजनों का गान और उनके विचारों पर चर्चा की जाए। परिपत्र में इन आयोजनों के दौरान कोविड-19 से बचने के सभी उपायों और प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

 

22-09-2020
रायपुर रेल मंडल में सातवें दिन स्वच्छ पटरी थीम पर हुए कार्यक्रम,यात्रियों को किया जा रहा जागरुक

रायपुर। भारतीय रेलवे की ओर से स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत के तहत स्वच्छता-पखवाड़ा का आयोजन किया जा रहा है। 16 से 30 सितंबर तक इस स्वच्छता ही सेवा-पखवाड़ा में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर मंडल के सभी स्टेशनों और गाड़ियों में प्रत्येक दिन थीम के अनुसार विभिन्न कार्यक्रम हो रहे हैं। इसी क्रम में मंगलवार को सातवें दिन स्वच्छ  पटरी (ट्रैक) के थीम पर रायपुर मंडल के प्रमुख स्टेशनों रायपुर, भिलाई पॉवर हाउस, तिल्दा-नेवरा, दुर्ग स्टेशन के वाशिंग लाइन,कोच डिपो,स्टेशन परिसर के प्लेटफार्म पटरियों के बेहतर सफाई व्यवस्था के लिए जागरूक किया गया। स्वच्छ पटरी(ट्रैक) में रायपुर मंडल के प्रमुख स्टेशनों,यार्ड के पटरियों पर स्वच्छता की एक मुहिम छेड़ी गई। इसमें पटरी के किनारे उगे घास - झाड़ियों,प्लास्टिक कचरे,नालियों की साफ-सफाई की गई। जीरो वेस्ट कचरा मुक्त प्लेटफार्म और पटरी को लेकर अभियान चलाया गया। स्टेशनों से वेस्टेज के रूप में निकलने वाले पानी के ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त किया गया। नालियों को साफ किया गया, ताकि गंदा पानी आसानी से निकल जाए। यात्रियों और अन्य कर्मचारियों को स्टेशनों पर लगी बोटल, क्रेशर मशीन की उपयोगिता के बारे में समझाया गया।

यात्रियों को बताया गया कि, पानी की खाली बोतल पटरी पर न फेंके, पानी की खाली बोतलों को बोतल क्रेशर मशीन में डालें, ताकि वह रीसाइक्लिंग कर उन्हें दूसरे उपयोग में लाया जा सके। प्लास्टिक बोटल क्रेशर मशीन का उपयोग कर स्वच्छता में अपना सहयोग करें। इसके साथ ही दैनिक जीवन में प्लास्टिक का उपयोग ना करें,इसके लिए जागरूक किया गया। इसके साथ ही बैनरों, पोस्टरों, फ्लेक्स के माध्यम से स्टेशन परिसरों मे यात्रियों के बीच जागरुकता अभियान चलाया गया। इसमें किसी भी तरह का कचरा प्लेटफार्म,पानी निकासी जगह पर और पटरियों पर न फेकने और डस्टबीन में ही डालने जागरुक किया गया। स्टेशनों के परिसरों में स्वच्छ वातावरण बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने और स्वच्छ रेल- स्वच्छ भारत बनने में अहम भूमिका अदा करने और रेलवे को सहयोग प्रदान करने अपील की गई।

छठवें दिन थीम पर हुए कार्यक्रम :
स्वच्छता पखवाड़ा के छठवें दिन 21 सितंबर को स्वच्छ रेलगाड़ी थीम पर रायपुर रेल मंडल के स्टेशनों के वाशिंग लाइन, रेलवे यार्ड, कोच डिपो में सफाई व्यवस्था के संबंध में जागरुक किया गया । इसके साथ ही ट्रेन में हैंड वाश, टॉयलेट पेपर, फ्रेशनर,साथ ही गाड़ी के टॉयलेट की साफ-सफाई की बेहतर गुणवत्ता की गई । स्वच्छ रेलगाड़ी के अंर्तगत यात्रियों को चलित गाडियों में साफ सुथरी और आरामदायक यात्रा के लिए गाड़ियों में आन बोर्ड हाउस कीपिंग प्रणाली की सुविधा प्रदान की गई है । स्वच्छ  रेलगाड़ी अभियान में आन बोर्ड हाउस कीपिंग प्रणाली स्टाफ को उनके उत्तरदायित्व के प्रति समर्पित भाव से काम करने के लिए रेलवे अधिकारियों ने कॉउंसिल किया ।



 

गाड़ियों में किया गया स्वच्छता का निरीक्षण :
दक्षिण पूर्व मध्य रेल के नामित अधिकारियों ने रायपुर रेल मंडल से होकर गुजरने वाली गाड़ियों  में स्वच्छता का निरीक्षण किया। साथ ही यात्रियों को कोविड -19 के नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित यात्रा करने जागरूक किया गया। यात्रियों से आग्रह किया गया कि, अपने साथ सैनेटाइजर,मास्क,सह यात्रियों से दो गज दूरी का पालन करें। बीच-बीच में हैंड वाश,अपने नाक,मुंह,चेहरे को बार - बार  छुने से बचें। यदि यात्रा के दौरान किसी तरह की पेरशानी होने पर चालित स्टाफ या 139 पर कॉल करके मदद ली जा सकती है। इस प्रकार अधिकारियों ने यात्रियो से कोविड -19 पर सुरक्षा और सुरक्षित यात्रा को लेकर काउंसलिंग की। रायपुर मंडल से गुजरने वाली स्पेशल गाडियों मे स्वच्छता और कोविड -19 के नियमों का पालन करने पोस्टर, बैनर, फ्लेक्स के माध्यम से लोगों को जागरुक भी  किया गया।

 

22-09-2020
स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने किया राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस से राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम का राज्य स्तरीय शुभारंभ किया। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुड़े सभी जिलों के स्वास्थ्य अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण के बावजूद प्रदेश में विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों को गंभीरतापूर्वक संचालित किया जा रहा है। इसके लिए मैं स्वास्थ्य विभाग के पूरे अमले को बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम के तहत 23 से 30 सितंबर तक प्रदेश के करीब एक करोड़ 14 लाख बच्चों और किशोरों को कृमिनाशक दवा खिलाई जाएगी। विगत फरवरी माह में भी इस कार्यक्रम के अंतर्गत 94 लाख बच्चों को कृमिमुक्त किया गया था। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने रायपुर के सिविल लाइन स्थित चिप्स कार्यालय में बच्चों को कृमिनाशक दवा खिलाकर राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम की शुरुआत की। इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणु जी.पिल्ले, स्वास्थ्य सेवाओं के संचालक नीरज बंसोड़, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ.प्रियंका शुक्ला और नोडल अधिकारी डॉ.अमर सिंह ठाकुर भी मौजूद थे।

सिंहदेव ने कार्यक्रम में बताया कि कोरोना संक्रमण के खतरों को देखते हुए पूरी सावधानी बरतते हुए मितानिनें एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर एक से 19 वर्ष तक के बच्चों व किशोरों को कृमिनाशक दवा खिलाएंगी। मितानिनों और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को इसके लिए कोविड-19 के उपायों से बचने और निर्धारित प्रोटोकॉल के पालन के संबंध में प्रशिक्षित किया गया है। स्वास्थ्य मंत्री ने सभी पालकों से अपील की है कि वे अपनी संतानों के उत्तम स्वास्थ्य के लिए बच्चों को दवाई का सेवन अवश्य करवाएं। डिवर्मिंग कार्यक्रम के दौरान टीम को अपना पूरा सहयोग और समर्थन प्रदान करें। नियमित डिवर्मिंग बच्चों और किशोरों में कृमि के संक्रमण को समाप्त कर उनके बेहतर शारीरिक और संज्ञानात्मक विकास में सहायक है। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम हर वर्ष दो बार विश्व स्वास्थ्य संगठन, राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र और एविडेंस एक्शन के तकनीकी सहयोग से संचालित किया जाता है।

 

16-09-2020
स्पंदन कार्यक्रम के जरिये पुलिस के सीनियर अफसर जवानों से कर रहे है संपर्क

रायपुर। आम जानो के साथ-साथ जवानों का भी पूरा ध्यान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार रख रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर जवानों में तनाव खत्म करने स्पंदन कार्यक्रम की शुरुआत की गयी है। स्पंदन कार्यक्रम के तहत पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी जवानों से लगातार संवाद स्थापित कर रहे हैं। इसी क्रम में डीजीपी डीएम अवस्थी ने 19 अगस्त को वीडियो कॉल के माध्यम से पुलिसकर्मियों की समस्याओं को सुना और तत्काल निराकरण भी किया। इसी दौरान दंतेवाड़ा के पोटली कैम्प में पदस्थ छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के जवान केशव कुमार ने बताया कि उनकी दोनों किडनी खराब हैं, गठियावात और मोतियाबिंद भी है। मेरा परिवार दुर्ग में रहता है। घर से दूर रहकर स्वास्थ्य लगातार खराब होता जा रहा है। डीजीपी  अवस्थी ने केशव कुमार के खराब स्वास्थ्य को देखते हुए तत्काल पोटली से कैंप से दुर्ग पुलिस लाईन स्थानांतरित करने का आदेश जारी करने के निर्देश दिये थे।

छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के जवान केशव कुमार ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा मैं जीवनभर ऋणी रहूंगा। मुख्यमंत्री के शुरू किये गये स्पंदन कार्यक्रम की वजह से मेरी जान बच पायी है।  जिनकी दोनों किडनी खराब हैं और उन्हें इलाज की सख्त जरूरत थी। लेकिन दंतेवाड़ा के पोटली कैंप में पदस्थ  होने की वजह से इलाज नहीं करा पा रहे थे। वीडियो जारी करते हुये उन्होंने कहा कि वे डीजीपी डीएम अवस्थी का भी आभार व्यक्त करते हैं। उन्होंने मुझे वीडियो कॉल किया, पूरी संवेदनशीलता के साथ मेरी समस्या सुनी और तत्काल स्थानांतरण आदेश जारी कर दिया।   मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर शुरू किये गये स्पंदन कार्यक्रम से पुलिसकर्मियों और उनके परिजनों में खुशी की लहर है। स्पंदन कार्यक्रम में पुलिसकर्मियों की परेशानियों का पूरी संवेदनशीलता के साथ निराकरण किया जा रहा है।

 

15-09-2020
महिला कांग्रेस ने मनाया 37वां स्थापना दिवस,रायपुर सहित सभी जिलों में हुए विविध कार्यक्रम 

रायपुर। महिला कांग्रेस ने मंगलवार को 37वां स्थापना दिवस मनाया। गांधी मैदान कांग्रेस भवन में महिला कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव के निर्देशानुसार प्रत्येक जिले के कार्यालयों में महिला कांग्रेस का झंडा फहराया गया। प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम ने कहा है कि, महिला कांग्रेस को झंडा देकर राहुल गांधी व महिला कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव ने अलग पहचान दी है। जिस तरह देश में राहुल गांधी ने महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए देशव्यापी मुहिम छेड़ी है। उससे महिलाओं का कांग्रेस के प्रति विश्वास बढ़ा है। महिला कांग्रेस का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन बंगलोर में 15 से 16 सितंबर 1983 में हुआ था। इसका उद्घाटन स्व.इंदिरा गांधी ने किया था। समापन स्व.राजीव गांधी के उद्बोधन से हुआ था। इसमें एक नए संविधान को अपनाते हुए महिला कांग्रेस सेल को स्वायत्ता दे कर आल इंडिया महिला कांग्रेस नाम दिया गया। आल इंडिया महिला कांग्रेस,एआईसीसी के अंतर्गत एआईसीसी अध्यक्ष की अनुमति से 15 सितंबर 1983 से स्वतंत्र कार्य करने लगी। रायपुर में प्रभारी शकुन्तला डहरिया के उपस्थिति में शहर जिला अध्यक्ष आशा चौहान महिला कांग्रेस ने  मुख्यालय कांग्रेस भवन गांधी मैदान में महिला कांग्रेस का झंडा फहराया। महिला कांग्रेस के 37वें स्थापना दिवस के मौंके पर 1 हजार मास्क का वितरण किया गया। कार्यक्रम में  शकुंतला डेहरिया पीसीसी कार्यकारिणी सदस्य प्रभारी छत्तीसगढ़ महिला कांग्रेस, आशा चौहान अध्यक्ष शहर जिला महिला कांग्रेस, ममता राय, कल्पना सागर, गंगा यादव, कविता बघेल, सायरा खान,अपर्णा फ्रांसिस,राहत परवीन,शेरीन बेगम, नंदा मानिकपुरी, सुषमा यादव,
सुषमा ध्रुव, शिल्पी राय, हेमलता साहू  आदि महिलाएं उपस्थित थीं।

15-09-2020
सेवा सप्ताह कार्यक्रम में भाजपा मंडल भैरमगढ़ ने सौंपी रक्तदाताओं की सूची

बीजापुर। भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70वें जन्मदिन पर सेवा सप्ताह कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। सेवा सप्ताह के अन्तर्गत भाजपा मंडल भैरमगढ़ ने 70 रक्तदाताओं की सूची सौंपी। मंडल भैरमगढ़ ने मॉडल सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र भैरमगढ़ के स्वास्थ्य अधिकारी को रक्तदाताओं की सूची सौंपी। सूची सौंपने के दौरान पूर्व मंत्री महेश गागड़ा,जिला मंत्री हरीश निषाद, नगर पंचायत अध्यक्ष दसरथ प्रबूलिया,पूर्व जनपद सदस्य बलदेव उर्शा, चमन ठाकुर, हरिचंद मांझी, राजू नेगी, अजीत समरथ, भोलेनाथ कुंजाम, पूर्व पार्षद देवनाथ समरथ के साथ भैरमगढ़ भाजपा मंडल की टीम मौजूद थी।

 

15-09-2020
कलेक्टर ने जिला कार्यक्रम अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के दिए निर्देश

कोरबा। कलेक्टर किरण कौशल ने महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यक्रम अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश एडीएम को दिए। डीपीओ को कोविड-19 की रोकथाम के प्रयासों के लिये सौंपे गये दायित्वों के निर्वहन मे लापरवाही बरतने के कारण यह कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए। कलेक्टर ने बैठक मे कोरोना काल में सभी अधिकारी-कर्मचारी को संक्रमण की रोकथाम के लिये स्वयं के स्तर पर भी सभी संभव प्रयास करने को कहा। कर्मचारियों को गंभीर और सर्तक होकर जिले में कोरोना की चैन तोड़कर संक्रमण को फैलने से बचाने में विशेष पहल करने के निर्देश दिये गये हैं। कोरोना कोर समिति की बैठक में किरण कौशल ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को जिले के सभी ब्लाको में एक-एक कोविड केयर सेंटर तैयार करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को कोविड केयर सेंटर के लिये अपने-अपने ब्लाकों में भवन चिन्हित करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर ने हर ब्लाक में 100-100 बिस्तर का कोविड केयर सेंटर बनाने के लिये सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों के साथ जनपद पंचायत के सीईओ को जिम्मेदारियां सौंपी। नये बनने वाले सभी कोविड केयर सेंटर में स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ-साथ बिजली, पानी, सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। ब्लाॅक स्तरीय कोविड केयर सेंटर में पर्याप्त संख्या में मेडिकल टीम, पैरामेडिकल टीम, स्वास्थ्य उपकरण तथा दवाईयों का पर्याप्त भंडार सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने कहा कि डाॅक्टरों और नर्सिंग स्टाफ के लिये रहने की व्यवस्था भी कोविड केयर सेंटर में सुनिश्चित होना चाहिये। कोरोना मरीजों को इलाज की पूर्ण सुविधा मिल सके यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804