GLIBS
27-02-2021
एमआईसी की अहम बैठक आज, आगामी बजट पर होगी चर्चा

रायपुर। एमआईसी की अहम बैठक शनिवार को होगी। बैठक में महापौर एजाज ढेबर सदस्यों से कई अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे। बता दें कि सुबह से शाम तक तुंहर सरकार-तुंहर द्वार शिविर आयोजित हो रहे हैं। इस कारण एमआईसी की बैठक पहली बार शाम 6 बजे बुलाई गई। महापौर एजाज ढेबर ने बताया कि एमआईसी की बैठक में मुख्य रूप से निगम के आने वाले बजट की समीक्षा की जाएगी। इसके अलावा काफी समय से लंबित पेंशन प्रकरण, निगम कर्मचारियों के लंबित मेडिकल बिल, गर्मी के पूर्व पेय जल व्यवस्था और टैंकर का खर्च कम करने पर चर्चा की जाएगी।

28-01-2021
मोहल्ला क्लीनिकों के लिए होगी मेडिकल स्टाफ की भर्ती

कोरबा। छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना (मोहल्ला क्लीनिक) के समुचित संचालन के लिए मेडिकल अधिकारी सहित नर्सिंग स्टाफ और अन्य जरूरी कर्मचारियों की नियुक्ति संविदा आधार पर की जाएगी। मोहल्ला क्लीनिकों के संचालन के लिए कुल 48 मेडिकल स्टाफ की संविदा भर्ती करने सीएमएचओ कार्यालय ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। संविदा आधार पर आठ आयुष मेडिकल अधिकारियों, सात आरएमए, 30 नर्सिंग आफिसर और तीन सेक्रेटेरियल सहायकों की भर्ती की जानी है। इन भर्तियों में छत्तीसगढ़ शासन द्वारा स्वीकृत आरक्षण प्रणाली भी लागू रहेगी। सभी भर्तियां वॉक इन इन्टरव्यू आधार पर होंगी। आयुष मेडिकल अधिकारियों और आरएमए की भर्ती के लिए एक फरवरी को सुबह 10 बजे से वॉक इन इन्टरव्यू शुरू होगा। नर्सिंग आफिसर के लिए दो फरवरी को तथा सेक्रेटेरियल सहायक के लिए चार फरवरी को वॉक इन इन्टरव्यू लिया जाएगा। इस संबंध में विस्तृत जानकारी नियम-शर्तें और आवेदन प्रारूप आदि जिले की वेबसाइट पर उपलब्ध है। 

16-01-2021
Video: रायपुर मेडिकल कॉलेज में पहला टीका स्वास्थ्य कर्मी तुलसा तांडी को लगाया गया, मुख्यमंत्री ने दी शुभकामनाएं

रायपुर। देश व्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत के साथ ही शनिवार को रायपुर में पंडित जवाहर लाल नेहरू स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय में भी टीकाकरण शुरू हो गया है। मेडिकल कॉलेज ऑपरेशन थिएटर में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मी तुलसा तांडी को कोविशील्ड वैक्सीन का पहला टीका लगाया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा है कि बहन तुलसा तांडी सहित सभी को शुभकामनाएं। बता दें कि पंडरी जिला चिकित्सालय में हेमंत दुबे को पहला टीका लगाया गया। इसी तरह एम्स रायपुर के डायरेक्टर डॉ. नितिन नागरकर को  पहला टीका लगाया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा है कि संकट के समय मानवता की सेवा के लिए डटे रहे हमारे ये फ्रंटलाइन योद्धा न केवल प्रथम चरण वैक्सीन के हकदार बन रहे हैं बल्कि आज भी वैक्सीन पर आमजन के विश्वास को बनाने के लिए स्वयं टीका लेकर मानव सेवा का एक और दायित्व पूरा कर रहे हैं।

 टीकाकरण अभियान शुरू होने से पहले दिल्ली से भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़े। उन्होंने विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान भारत में शुरुआत की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कोविड टीकाकरण प्रारंभ होने पर हर प्रदेशवासियों सहित मेडिकल वर्कर्स को शुभकामनाएं दी। आज शुरू  हुए टीकाकरण में मेडिकल कॉलेज रायपुर में करीब सौ मेडिकल वर्कर्स को टीका लगाया जा रहा है। टीकाकरण अभियान के दौरान आज मेडिकल कॉलेज रायपुर में कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, एनयूएचएम की एमडी डॉ. प्रियंका शुक्ला, मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. विष्णु दत्ता, अधीक्षक डॉ. विनीत जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मीरा बघेल, राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. अमर सिंह ठाकुर, जिला में टीकाकरण की नोडल अधिकारी शिम्मी नाहिद सहित अन्य जिला प्रशासन के अधिकारी, चिकित्सा अधिकारी तथा स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।

 

 

 

13-01-2021
हज यात्रियों की चिकित्सा सहायता के लिए मेडिकल टीम होगी तैयार, आवेदन करने की अंतिम तिथि 5 फरवरी

रायपुर। हज-2021 के लिए अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार की ओर से हिन्दुस्तान से जाने वाले हज यात्रियों की चिकित्सा सहायता के लिए मेडिकल टीम की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष मोहम्मद असलम खान ने बताया मेडिकल टीम के लिए प्रतिनियुक्ति पर राज्यों में कार्यरत शासकीय मुस्लिम एैलोपैथिक डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टॉफ से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इच्छुक आवेदक अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की वेबसाइट  www.haj.nic.in/deputation में उपलब्ध ऑनलाइन आवेदन भर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन पूर्ण करने के बाद उसकी मूल प्रति संबंधित विभाग के माध्यम से अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार को सहपत्र के साथ भेजा जाए। प्रतिनियुक्ति की अवधि 2 से 3 माह की होगी। ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित करने की अंतिम तिथि 5 फरवरी निर्धारित है। अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार ने मेडिकल टीम के साथ-साथ प्रतिवर्ष काउंसल जनरल ऑफ इंडिया के अधीन कोऑर्डिनेटर, हज ऑफिसर और हज असिस्टेंट के पदों पर कार्य करने के लिए प्रतिनियुक्ति पर शासकीय मुस्लिम अधिकारियों और कर्मचारियों से भी आवेदन आमंत्रित किए हैं। इन पदों के लिए भी ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 5 फरवरी निर्धारित की गई है। प्रतिनियुक्ति पर डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टॉफ, कोऑर्डिनेटर, हज ऑफिसर और हज असिस्टेंट के पदों के लिए इच्छुक आवेदक वांछित दिशा-निर्देश, चयन के लिए निर्धारित अर्हताएं, अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की वेबसाइट  www.haj.nic.in/deputation  से और कार्यालय छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी से संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए कार्यालय छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी, मुखर्जी बाड़ा बैरन बाजार रायपुर के दूरभाष क्रमांक 0771-4266646 पर संपर्क किया जा सकता है।

05-01-2021
Breaking : मुख्यमंत्री ने जांजगीर में मेडिकल कॉलेज खोलने किया ऐलान,डेयरी विकास के होंगे कार्य

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को जांजगीर के हाईस्कूल मैदान में आयोजित किसान सम्मेलन में जांजगीर-चांपा जिले के लिए अनेक महत्वपूर्ण घोषणाएं की। उन्होंने कहा कि अगला मेडिकल कॉलेज जांजगीर-चांपा जिले में खुलेगा। विधानसभा चंद्रपुर क्षेत्र की हसदेव परियोजना की तीन नहरों के संवर्धन और संधारण के कार्य कराए जाएंगे। गांव-गांव में किए जाएंगे डेयरी विकास के कार्य। राजीव गांधी किसान न्याय योजना निरंतर जारी रहेगी।

25-11-2020
मोबाइल मेडिकल यूनिट का लोगों ने लिया लाभ,कराया स्वास्थ्य परीक्षण,निगम आयुक्त ने देखी व्यवस्था

भिलाई। निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी निरीक्षण के लिए अचानक जोन क्रमांक 3 अंतर्गत बैकुंठ धाम के पास मोबाइल मेडिकल यूनिट के द्वारा लगाए गए स्वास्थ्य शिविर पहुंचे। रघुवंशी ने शिविर का निरीक्षण करते हुए आए हुए मरीजों की संख्या, चिकित्सकों से दवाई की उपलब्धता, मरीजों को प्राप्त होने वाली दवाई एवं पर्ची, संगठित असंगठित, भवन व अन्य संनिर्माण कर्मकारो की पंजीयन की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने जोन आयुक्त प्रीति सिंह को बैठक की उचित व्यवस्था तथा सोशल डिस्टेंस को लेकर निर्देश दिए। निगम क्षेत्र के तीन स्थानों पर आज स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया था। तीनों स्वास्थ्य शिविर में 157 लोगों ने स्वास्थ्य लाभ लिया। बैकुंठ धाम दुर्गा सांस्कृतिक मंच के पास लगाए गए स्वास्थ्य शिविर में 88 लोगों ने अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराया, जिसमें से 80 लोगों को दवाई वितरण किया गया तथा 8 लोगों का लैब टेस्ट किया गया।

जोन क्रमांक 1 के नेहरू नगर क्षेत्र में मॉडल टाउन हनुमान मंदिर के पास स्वास्थ शिविर का आयोजन किया गया था,जिसमें 25 लोगों ने स्वास्थ्य परीक्षण कराया, 5 लोगों का लैब टेस्ट किया गया 18 लोगों को नि:शुल्क दवाई वितरण किया गया। दाई दीदी क्लीनिक में महिलाओं का काफी उत्साह देखने मिल रहा है जोन क्रमांक 4 के वार्ड 30 बालाजी नगर में दाई-दीदी क्लीनिक के माध्यम से महिलाओं को स्वास्थ्य लाभ दिया गया। इस शिविर में 44 महिलाओं ने अपना इलाज कराया 10 महिलाओं का लैब टेस्ट किया गया तथा 30 महिलाओं को नि:शुल्क दवा वितरण किया गया। डायग्नोसिस सेंटर के लिए स्थल का निरीक्षण निगम क्षेत्र में डायग्नोस्टिक सेंटर खोले जाने को लेकर आज निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने जोन क्रमांक 4 के अंडा चौक के समीप, जोन क्रमांक 3 के बैकुंठधाम के पास स्थित भवन, तथा जोन क्रमांक 1 के प्रियदर्शनी परिसर आश्रय स्थल स्थित भवन का निरीक्षण किया। उपायुक्त तरुण पाल लहरें ने बताया कि डायग्नोसिस सेंटर भिलाई निगम क्षेत्र में खोला जाना है,जिसके लिए भवन का चयन किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त अशोक द्विवेदी, जोन आयुक्त अमिताभ शर्मा एवं सुनील अग्रहरि मौजूद रहे।

 

02-11-2020
पूर्व मौत के लगातार खुलासों पर अधिकारियों ने कहा-स्वास्थ्य विभाग नहीं छुपा रहा मृत्यु के आंकड़े

रायपुर। प्रदेश में पूर्व में हुई कोरोना मरीजों की मौत की जानकारी रोजाना सामने आ रही है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी मेडिकल में प्रतिदिन यह जानकारी दी जा है। यह सिलसिला सितंबर माह के अंतिम सप्ताह से शुरू हुआ था। अक्टूबर के शुरुआत में मौत के कुल आंकड़े हजार से कम थे। 1 नवंबर की स्थिति में आंकड़े 2150 पहुंच चुके हैं। विभाग पर मौत के आंकड़ों को छुपाने का गंभीर आरोप लगाया जा रहा है। सोमवार शाम स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बयान जारी किया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि विभाग की ओर से मृत्यु के आंकड़े छुपाए नहीं जा रहे हैं। जानकारी प्राप्त होने के बाद आंकड़ों को दैनिक मीडिया बुलेटिन में शामिल किया जाता है। अधिकारियों ने सोमवार को यह बात कही। उन्होंने कहा है कि दैनिक मीडिया बुलेटिन में मृत्यु की जानकारी,जिलों से प्राप्त जानकारी और संबंधित दस्तावेजों से पुष्टि के बाद प्रकाशित की जाती है। जैसे-जैसे संबंधित जिलों से मृत्यु की जानकारी मिलती है,उसे मीडिया बुलेटिन में शामिल किया जाता है। राज्य के सभी अस्पतालों और स्वास्थ्य अधिकारियों को कोरोना संक्रमण से हुई मृत्यु के आंकड़े शासन स्तर पर तत्काल भेजने के निर्देश समय पर दिए जाते हैं। किंतु अस्पतालों की ओर से समय पर दस्तावेज उपलब्ध न कराए जाने के कारण भी जानकारी मिलने और पुष्टि करने में विलंब होता है।

 

17-10-2020
नक्सल प्रभावित क्षेत्र के बच्चों ने नीट में मारी बाजी,कलेक्टर ने दी शुभकामनाएं

बीजापुर। जिले के धुर नक्सली प्रभावित इलाके के सामान्य कृषक परिवारों के 5 बच्चों ने देश की सर्वोच्च मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट को क्वालीफाई कर अपनी मेहनत और लगन को साबित कर दिया है। वहीं ये सभी बच्चे साधनों की कमी और दूरस्थ इलाके से होने के वाबजूद इस सर्वोच्च मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफलता हासिल कर अन्य बच्चों के लिए प्रेरणास्त्रोत बन गये हैं। जिला प्रशासन बीजापुर द्वारा खनिज न्यास निधि से संचालित ’छूलो आसमान’ संस्था बीजापुर में अध्ययनरत् अजय कलमूम, सुरेश मड़कम, सीमा भगत, शुनू झाड़ी और हरीश एगड़े ने अपनी मेहनत और अथक लगन के बलबूते नीट प्रवेश परीक्षा में सफलता हासिल किए है। कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल जिले के सूदूर ग्रामीण क्षेत्रों के इन बच्चों की सफलता पर उन्हें शुभकामनाएं दी है। उन्होंने इन बच्चों की सफलता के लिए ’’छूलो आसमान’’ संस्था के शिक्षकों को भी बधाई देते हुए आगामी प्रवेश परीक्षाओं के लिए बच्चों को बेहतर कोचिंग एवं मार्गदर्शन प्रदान करने कहा है।
देश की सर्वोच्च मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट क्वालीफाई करने वाले इन बच्चों में उसूर ब्लाॅक अंतर्गत कोत्तागुडम निवासी सुरेश मड़कम के पिताजी का स्वर्गवास हो चुका है। सुरेश ने बताया कि माताजी सहित दो बड़े भाई संतोष और अर्जुन खेती-किसानी कर उसे पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित करते हैं। सुरेश भी 12वीं में 60 प्रतिशत अंक हासिल कर अपने भाईयों के सपने को साकार करने कृतसंकल्पित है। सुरेश ने नीट प्रवेश परीक्षा में 24115वां रैंक हासिल किया है। इसी तरह भैरमगढ़ ब्लाक के बेंचरम निवासी अजय कलमूम ने नीट में 23390वां रैंक हासिल किया है।अजय ने बताया कि उसके माता-पिता रामेश्वरी और सोमारू खेती-किसानी कर उसे पढ़ाई करवा रहे हैं,अजय को भरोसा है कि उसे मेडिकल काॅलेज में अवश्य प्रवेश मिलेगी। वहीं बीजापुर निवासी सीमा भगत ने बताया कि पिताजी का स्वर्गवास हो चुका है और बड़े भाई अर्जुन भगत उसकी पढ़ाई पर ध्यान दे रहे हैं एक छोटे भाई प्रीतम बीएससी द्वितीय वर्ष की पढ़ाई कर रहा है। सीमा ने बताया कि माता गृहणी हैं और उसकी पढ़ाई पर सतत् ध्यान देती हैं। सीमा को नीट में 26454वां रैंक मिला है। बीजापुर के ही रहने वाले हरीश एगड़े और बीजापुर ब्लाक के पापनपाल निवासी शीनू झाड़ी ने भी देश की सर्वोच्च मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट क्वालीफाई कर जिले का नाम रोशन किया है।

20-09-2020
नगरवासियों ने लिया छुरीकला में लॉक डाउन का निर्णय,बैठक में बनी सहमति

कोरबा। नगर पंचायत छुरीकला में रविवार को व्यापारियों,जनप्रतिनिधियों व नगरवासियों ने सांस्कृतिक मंच में बैठक हुई। इसमें नगर पंचायत में 1 सप्ताह का लाॅक डाउन करने का निर्णय लिया गया है। व्यापारियों,जनप्रतिनिधियों व नगरवासियों ने 24 से 30 सितंबर तक नगर में लॉक डाउन करने का निर्णय लिया। लॉक डाउन में मेडिकल, गैस, पेट्रोल पंप आदि आवश्यक  सुविधाओं को छूट रहेगी। बाकी सभी दुकानें पूरी तरह से बंद रहेंगी। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि नियम के उल्लंघन करने पर 21 हजार के जुर्माना लगाया जाएगा।

 

16-09-2020
स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश पर एमसीआई ने मेडिकल स्टूडेंट्स को दी राहत,दिसंबर तक विलंब शुल्क नहीं लेने का निर्णय

रायपुर। छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान परिषद (MCI-Chhattisgarh Medical Council)  में पंजीयन के लिए मार्च-2020 में परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले मेडिकल छात्र-छात्राओं से इस साल दिसम्बर तक विलंब शुल्क नहीं लिया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए एमसीआई को इस वर्ष छात्रों से विलंब शुल्क नहीं लेने के निर्देश दिए थे। एमसीआई ने इस संबंध में सूचना बुधवार को सूचना जारी कर दी है। एमसीआई की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि ,वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण प्रदेश में 22 मार्च से 31 मई तक लॉक-डाउन लागू किया गया था। इसकी वजह से इस साल मार्च में परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले डॉक्टरों को पंजीयन में देर हुई। पंजीयन के लिए विलंब शुल्क से राहत देते हुए उन्हें दो महीने का अतिरिक्त समय दिया गया था। स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश के बाद अब एमसीआई ने विलंब शुल्क नहीं लेने का फैसला दिसम्बर-2020 तक बढ़ा दिया है।

02-09-2020
Breaking : तीसरी मंजिल से कूदकर मेडिकल के छात्र ने की खुदकुशी, पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार

रायपुर। राजधानी के कोतवाली थाना क्षेत्र में मेडिकल के छात्र ने तीसरी मंजिल से कूदकर खुदकुशी कर ली। बता दें कि ऐसा माना जा रहा है कि छात्र की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद से वह बेहद परेशान था जिसके बाद उसने ऐसा कदम उठाया होगा। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पूरा मामला स्पष्ट हो पाएगा। छात्र को अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804