GLIBS
24-05-2020
कुर्रा में मनरेगा श्रमिक की मौत

खरोरा। जनपद पंचायत तिल्दा के अंतर्गत ग्राम पंचायत कुर्रा में मनरेगा महिला श्रमिक की मौत का मामला समाने आया है। दरअसल मनरेगा के तहत नया तालाब निर्माण का कार्य किया जा रहा है। यहां महिला श्रमिक पानी पिलाने का कार्य कर रही थी, इसी दौरान अचानक महिला  मालती यादव को चक्कर आने लगा, कुछ समय बाद उसको मजदूरों ने घर पहुंचाया। घर पहुंचने पर परिजनों द्वारा डॉक्टर को दिखाया गया। डॉक्टर ने मालती यादव की मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना ग्राम पंचायत कुर्रा के सरपंच को दी गई। घटना की सूचना सरपंच रविवर्मा द्वारा पुलिस थाना खरोरा को दी गई। खरोरा पुलिस द्वारा घटना की जांच के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए खरोरा भेज कर शव परिजनों को सौंप दिया गया।  घटना की जानकारी जनपद पंचायत तिल्दा को भी दी गई।  

 

10-05-2020
आवंटित खसरा नंबर से हटकर किया जा रहा उत्खनन, सरपंच व ग्रामीणों ने जताया विरोध

कांकेर। ग्राम पंचायत पिपरौद के ग्राम बोदेली रेत खदान में एक नया मामला सामने आया है। जहाँ पर बाड़ाटोला के ग्रामीणों ने नायब तहसीलदार से लिखित शिकायत की है कि रेत खदान के ठेकेदार 707 एवं 708 से चैन माउण्टेन मशीन से रेत निकाल रहे हैं जो कि अवैध है। साथ ही इसकी सीमांकन एवं जांच की मांग की है। ग्राम पंचायत बाड़ाटोला के सरपंच ने बताया कि ग्राम बोदेली के जिस खसरा को रेत उत्खनन के लिए चिन्हाकित किया गया है वहाँ से रेत न निकाल बाड़ाटोला के खसरा नंबर 707 एवं 708 भी रेत निकाली जा रही है जो कि अवैध है इसका विरोध करने पर भी जिला प्रशासन व खनिज विभाग किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं करती,जिसको लेकर ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। इस सबंध में नायब तहसीलदार से फोन पर संर्पक किया गया पर उन्होंने फोन नहीं उठाया।

 

26-04-2020
अमेरी सरपंच आत्महत्या मामले में भाजपा का जांच दल गठित, रिपोर्ट 7 दिन में

रायपुर। दुर्ग के अमेरी ग्राम पंचायत के सरपंच के आत्महत्या की घटना की जांच के लिए भारतीय जनता पार्टी ने तीन सदस्यीय जांच दल का गठन किया है। दल में विधायक विद्यारतन भसीन, पूर्व विधायक लाभचंद बाफना और ऊषा टावरी को शामिल किया गया है। यह जांच दल अमेरी का प्रवास कर आत्महत्या मामले के तथ्यों की पड़ताल करेगा। इस सिलसिले में जांच दल मृतक सरपंच के परिजनों और ग्रामवासियों से मिलकर सभी पहलुओं को खंगालकर एक सप्ताह में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा।

 

 

24-04-2020
ग्राम पंचायत अमेरी के सरपंच की आत्महत्या की न्यायिक जांच हो : विक्रम उसेंडी

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने पाटन से लगी ग्राम पंचायत अमेरी के सरपंच द्वारा आत्महत्या करने की घटना को कलंकपूर्ण बताया है। उन्होंने इस घटना की न्यायिक जाँच की मांग की है। उसेंडी ने कहा कि भाजपा का एक त्रि-सदस्यीय जाँच दल राम पंचायत अमेरी का प्रवास करेगा और सरपंच के परिजनों व ग्रामवासियों से चर्चा कर इस गंभीर मामले के तथ्यों की पड़ताल कर अपनी रिपोर्ट पार्टी को प्रस्तुत करेगा।उसेंडी ने कहा कि शुक्रवार को जब देश सरपंच दिवस मना रहा था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशभर के सरपंचों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात कर रहे थे, तब सरपंच की खुदकुशी का मामला सामने आया। उसेंडी ने कहा कि सरपंच की आत्महत्या की इस घटना ने कई सवाल खड़े किए हैं और इस मामले के सभी पहलुओं की बारीकी से जाँच की जानी चाहिए। उसेंडी ने दिवंगत सरपंच को श्रद्धांजलि दी और कहा कि इस अपार कष्ट को सहने की शक्ति परिजनों को मिले, ईश्वर से यह कामना की है।

 

24-04-2020
धरमलाल कौशिक ने सरपंच की आत्महत्या को बताया दुर्भाग्यपूर्ण, परिवार के लिए मांगी सहायता राशि

रायपुर। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने दुर्ग जिले की अमेरी ग्राम पंचायत के सरपंच की आत्महत्या को अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने सरपंच की आत्महत्या पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है। कौशिक ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री और गृहमंत्री के जिले में यह घटना प्रदेश सरकार के लिए आत्म मूल्यांकन करने की जरूरत पर बल देती है। कौशिक ने कहा कि प्रथमदृष्टया यह मामला प्रताड़ना को इंगित करने वाला है। मुख्यमंत्री को इस मामले के सभी पहलुओं को खंगाल कर तथ्यों की पड़ताल कराना चाहिए। कौशिक ने मृतक पीड़ित परिवार के लिए सहायता राशि की मांग की है।

21-04-2020
सरपंच और समूह की महिलाओं ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में किया 15 हजार दान

कांकेर। नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं नियंत्रण के लिए ग्राम कोदागांव के सरपंच पंचुराम नायक एवं बिहान योजना के महिला स्व-सहायता समूहों के सदस्यों ने 15 हजार रूपये मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान किया। इसके लिए उन्होंने कलेक्टर केएल चौहान को चेक सौंपे। इस अवसर पर बिहान योजना के महिला समूह के सदस्य गीता ठाकुर, पुष्पा देवांगन और ललिता नायक उपस्थित थीं।

13-04-2020
छिंदनार में सरपंच, वार्ड पंच एवं युवाओं ने मिलकर किया आने जाने का रास्ता बंद

गीदम। देश में चल रहे कोरोना वायरस के महामारी के चलते इसके बचाव के लिए संपूर्ण देश में लॉक डाउन किया गया है एवं लोग इसका सख्ती से पालन भी कर रहे हैं। सोमवार को लॉक डाउन का 20वाँ दिन है। दंतेवाड़ा जिले के गीदम में स्थित ग्राम पंचायत छिंदनार में बाजार लगा था लेकिन यहां भी लोग लॉक डाउन का पालन करते हुए बाजार में नहीं आए। पूरा छिंदनार बाजार सूना पड़ा था। वही ग्राम पंचायत छिंदनार के सरपंच,पंच एवं युवाओं ने मिलकर छिंदनार को आने जाने वाले रास्ते को पूरी तरह से बंद कर दिए हैं। ग्राम पंचायत छिंदनार के सरपंच,वार्ड पंच एवं युवाओं द्वारा गांव में नाकाबंदी की गई है।गीदम तुमनार रोड बन्द कर दिया गया है। छिंदनार में सिर्फ एंबुलेंस आने जाने के लिए रास्ता खुला है।

13-04-2020
कलेक्टर ने कटघोरा सीमा के धनपुर में सरपंच, सचिवों की ली बैठक, गांव के सभी रास्तों पर 24 घंटे निगरानी के दिए निर्देश

कोरिया। कलेक्टर डोमन सिंह कोरबा जिला के कटघोरा की सीमा से लगे विकासखंड खड़गवां के ग्राम धनपुर पहुंचे। यहां उन्होंने 16 ग्राम पंचायतों के सरपंच सचिवों की बैठक ली। उन्होंने कटघोरा में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या पर गहरी चिंता व्यक्त की एवं कोरोना वायरस के संक्रमण एवं फैलाव से बचाव के लिए राज्य शासन द्वारा दिए गए सभी निर्देशों का कड़ाई से पालन करने कहा। बैठक में उन्होंने सरपंच सचिव सहित सभी संबंधितों को पगडंडी सहित गांव के सभी रास्तों पर 24 घंटे निगरानी करने के निर्देश दिए। उन्होंने दिल्ली या कोरोना वायरस के अन्य हॉटस्पॉट से आए लोगों की जानकारी तत्काल देने को कहा। बैठक में उपस्थित पंच-सरपंचों ने बाहर से आए व्यक्तियों की जानकारी कलेक्टर को दी। इस पर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारी को तत्काल कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया है।

कलेक्टर ने गांव की सभी सीमाओं में 8 घंटे की तीन शिफ्ट में लगातार ड्यूटी करने के निर्देश दिए ताकि गांव में किसी प्रकार का अनावश्यक प्रवेश ना हो सके। उन्होंने कहा है कि स्वसहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाए गए मास्क का वितरण सभी ग्रामीणों को किया जाए। मास्क के संबंध में राज्य शासन द्वारा जारी निर्देशों की जानकारी देते हुए कलेक्टर ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा सार्वजनिक स्थानों में जाने पर मास्क या फेस कवर पहनना अनिवार्य कर दिया है। आदेश के उल्लंघन पर कानूनी कार्यवाही भी की जाएगी। इसलिए मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकलें। यदि घर मे या पड़ोस में कोई बीमार हो एवं कोरोना के लक्षण दिखे तो इसकी सूचना तत्काल स्वास्थ्य विभाग की टीम को दें। कलेक्टर सिंह ने सभी जरूरतमंदों को राशन आदि का वितरण सुनिश्चित कराने के  निर्देश दिए। साथ ही सभी प्रकार के रजिस्टर को संधारित रखने को कहा। इस अवसर पर ग्राम पंचायत धनपुर, बोडेमुड़ा, पेंड्री, मुगुम, बारी, सागरपुर, गेजी, बड़े कलुआ, मंगोरा, बेलकामार, कटकोना, जरौंधा, सकड़ा, नेवरी, गिधमुड़ी एवं कोटेमा के सरपंच सचिव सहित सभी संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

11-04-2020
दावत परोस रहा था सरपंच, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

रायपुर/महासमुंद। सरंपच गांव का प्रथम नागरिक और जिम्मेदार जनप्रतिनिधि होते हुए भी जब कानून का उल्लंघन करे तो आम आदमी से क्या उम्मीद करे। कानून के उल्लंघन को गंभीरता से लेते हुए सरपंच को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। महासमुंद जिले के ग्राम पंचायत अर्जुण्डा का सरपंच चित्रसेन बिसी 3 अप्रैल को अपने घर में बेटे की शादी निमंत्रण में बुलाकर लोगों को दावत दे रहा था। तभी इसकी सूचना किसी ने पुलिस को दे दी। सूचना पर पुलिस ने दबिश दी तो देखा कि चित्रसेन बिसी के घर में शादी निमंत्रण में पहुंचे 30-35 लोगो एक साथ बैठे हुए है। सरपंच को सरायपाली एसडीएम कुणाल दुतावात द्वारा समझाइशा दिया गया कि शादी समारोह में अनावश्यक भीड़ नहीं बढ़ाएं। बावजूद सरपंच ने ग्रामीणों को अपने घर बुलाकर दावत दिया। धारा 144 के उल्लंघन मामले में पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध किया। पुलिस ने सरपंच को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। जहां से जेल भेज दिया गया है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस के वैश्विक महामारी से निपटने भारत में लॉक डाउन है। लेकिन अनेक स्थानों पर लोग इसका उल्लंघन कर रहे हैं।

11-04-2020
भूख से तड़प रहे परिवार ने 112 को दी सूचना, मौके पर पहुंच कर आरक्षक ने उपलब्ध कराई राशन समाग्री

कोरबा। जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर छाता पटना गांव स्थित है और उस गांव में कुछ ऐसे परिवार हैं, जिनके पास खाने-पीने का कुछ नहीं था और भूख के मारे तड़प रहे थे। उन्होंने सहायता के लिए डायल 112 में फोन किया। ड्यूटी में पदस्थ आरक्षक उमेश कुमार, चालक ओम प्रताप जायसवाल सूचना पर उस परिवार के पास पहुंचे, जिसमें साधराम यादव, पत्नी रजनी बाई और 1 साल बच्चा जिनके पास खाने के लिए कुछ भी नहीं था। तो उन्होंने अपनी पीड़ा आरक्षक और चालक को बताई। आरक्षक ने तत्काल सरपंच को फोन किया और उस परिवार के पास बुला कर उचित मूल्य की दुकान जाकर चावल दाल और राशन उपलब्ध कराया गया। आरक्षक की तरफ से साबुन, सर्फ, तेल, हल्दी, नमक, मिर्च, उस परिवार को दिया गया। वहीं सब्जी भाजी लेने के लिए कुछ रुपए भी आरक्षक उमेश कुमार के द्वारा इस परिवार को दिए गए। इस तरह डायल 112 की आरक्षक ने दरियादिली दिखाई और उनको राशन उपलब्ध कराया और यह भी कहा गया कि कुछ भी खाने पीने की वस्तु की आवश्यकता हो तो तत्काल 112 में कॉल कर देना ताकि हमें सूचना मिले और हम आप लोगों को राशन सामग्री खाने पीने की वस्तु उपलब्ध कराने की कोशिश करेंगे। इसके बाद लोगों इस आरक्षक और चालक को धन्यवाद कहा और उस गांव के सभी लोग डायल 112 एवं आरक्षक उमेश कुमार की प्रशंसा की।

03-04-2020
सरपंच ने किया गांव की महिला से दुष्कर्म, मामला दर्ज

कांकेर। एक महिला ने सरपंच पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है और इसकी शिकायत कोतवाली थाना में दर्ज कराई है। घटना आमाबेड़ा क्षेत्र के ग्राम खड़का की है। यहां विवाहिता ने कोतवाली थाना पहुंच कर रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह 31 दिसम्बर 2019 को अपने गांव से मोबाइल खरीदने के लिए कांकेर आ रही थी। उसी दौरान आरोपी ग्राम खड़का का सरपंच नंदलाल कवाची मिला। उसने महिला को अपनी गाड़ी में बैठाकर कांकेर लाकर मोबाइल दिलवाया। इसके बाद आरोपी सरपंच ने महिला से किराए के मकान में जबरदस्ती दुष्कर्म किया। घटना की जानकारी किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दिया। इससे डरी सहमी महिला चुप रही। सरपंच डरा धमका कर लगातार महिला से दुष्कर्म करता रहा। इससे तंग आकर महिला ने घटना की जानकरी थाना पहुंच कर दी। वहीं पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए तत्काल आरोपी सरपंच के खिलाफ भादवि की धारा 376, 506 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

 

27-03-2020
कोरोना वायरस के चलते दुर्ग जनपद पंचायतों में आपात सेल शुरू

दुर्ग। जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए जिला और जनपद स्तर पर ‘कोविड-19 आपात सेल‘ का गठन किया गया है। जिले में विदेशों एवं अन्य प्रदेशों से ग्राम पंचायतों में आने वाले व्यक्तियों की जानकारी एकत्र की जा रही है। बाहर से आने वाले व्यक्तियों को होम आईसोलेशन में रखकर प्रतिदिन उनके स्वास्थ्य संबंधी अपडेपट जिला एवं जनपद स्तर पर कोविड -19 आपता सेल के अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा लिये जा रहे। ग्राम पंचायत स्तर पर प्रतिदिन स्वास्थ्य कार्यकर्ता, मितानीन, आंगनबाड़ी कार्यकता, सहायिका, ग्राम पंचायत सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक एवं ग्राम पंचायत क्षेत्र के समस्त पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा कोरोना वायरस के लक्षण वाले व्यक्तियों का चिन्हांकन किया जा रहा है। लक्षण पाये जाने पर इसकी सूचना चिकित्सा विभाग को दी जावेगी है।‘कोविड-19 आपात सेल‘ में कार्यतर अधिकारी/कर्मचारियों को भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए आवश्यक सावधानियां बरतने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी,जिला पंचायत दुर्ग द्वारा निर्देश दिये गये है। जिला स्तरीय ‘कोविड -19 आपात सेल‘ में अजय कुमार मिश्रा, जिला प्रभारी अधिकारी, स्व्प्निल ध्रुव,(हेल्प लाईन. नं. 96854-80085) एवं जनपद पंचायत स्तरीय ‘कोविड-19 आपात सेल‘ पर जनपद पंचायत दुर्ग में देवीसिंह ध्रुव (हेल्प लाईन.नं. 98279-92263), जनपद पंचायत धमधा में मुकेश तहकार (मो.नं. 91741-28659), एवं जनपद पंचायत पाटन में जस्सु वर्मा (हेल्प लाईन. नं. 88272-78009) को प्रभार दिया गया है। जो व्यक्ति बाहर नहीं गये हैं किन्तु बाहर से आने वाले व्यक्तियों के सम्पर्क में रहे हैं, उन सभी व्यक्तियों पर निगरानी रखी जाये। बीमारी से संबंधित कोई भी लक्षण दिखने पर तत्काल इसकी सूचना स्वास्थ्य केन्द्र एवं ‘कोविड -19 आपात सेल‘ को उपलब्ध कराया जायेगा।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804