GLIBS
19-06-2021
दक्षिण राजस्थान में 24 घंटे में पहुंचेगा मानसून, इन राज्यों में होगी बारिश

नई दिल्ली/रायपुर। अगले 24 घंटों के भीतर मानसून के दक्षिण राजस्थान के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बन गई हैं। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक शनिवार को पश्चिम बंगाल, झारखंड, पूर्वी और मध्य उत्तर प्रदेश, दक्षिण गुजरात के कुछ हिस्सों, गोवा, तटीय कर्नाटक में कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। वहीं पश्चिमी यूपी के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश का अनुमान लगाया गया है।

17-06-2021
Breaking : छत्तीसगढ़ के कई जिलों में अंधड़ और बिजली गिरने के आसार, मौसम विभाग ने दी चेतावनी 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में मानसून की दस्तक के बाद सभी को अच्छी बारिश की उम्मीद हैं। खेती-किसानी के कार्य शुरू हो चुके हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश के 16 जिलों सहित इनसे लगे जिलों में अगले 4 घंटे के लिए त्वरित पूवार्नुमान जारी किया है। मौसम विज्ञान एचपी चंद्रा नेगरज-चमक के साथ अंधड़ चलने और आकाशीय बिजली गिरने की संभावना जताई है। उन्होंने रात 8 बजे तक के लिए यह त्वरित पूवार्नुमान जारी किया है। मौसम विज्ञानी चंद्रा के मुताबिक सरगुजा,जशपुर, बिलासपुर, मुंगेली, कवर्धा,बेमेतरा, जांजगीर, कोरबा, रायगढ़, राजनांदगांव, दुर्ग, रायपुर, बलौदाबाजार, महासमुंद, नारायणपुर, बीजापुर और इनसे लगे जिलों में मौसम बदलने के आसार हैं। अगले 4 घंटों में गरज-चमक के साथ अंधड़ और अकाशीय बिजली गिरने की संभावना है।

14-06-2021
मुंबई में भारी बारिश के अलर्ट के बीच राजधानी दिल्ली में दस्तक दे सकता है मानसून

रायपुर। मौसम विभाग ने मुंबई में भारी बारिश के अलर्ट जारी किए हैं। साथ ही राजधानी दिल्ली में भी जल्द ही मानसून के दस्तक देने की संभावना जताई है। जबकि दिल्ली से सटे पंजाब और हरियाण में दक्षिण पश्चिम मानसून रविवार को समय से पहले पहुंच गया है और मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में और बारिश होने का अनुमान जताया है। इसके अलावा मानसून ने रविवार को हिमाचल प्रदेश में भी बारिश के साथ अपनी दस्तक दी है।

13-06-2021
Breaking : अगले 4 घंटों में बादल दिखाएंगे तेवर, तेज बारिश और बिजली गिरने के प्रबल आसार

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में मानसून के पहुंचते ही मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने आगामी 4 घंटों के लिए मौसम का हाल बताया है। उन्होंने कहा है कि सरगुजा संभाग के सभी जिले, बिलासपुर संभाग के पेंड्रा, मुंगेली, बिलासपुर, जांजगीर, रायगढ़ एवं  दुर्ग और रायपुर संभाग के सभी जिले प्रभावित हैं। इन जिलों में अगले 4 घंटे में तेज वर्षा और बिजली गिरने की प्रबल संभावना है। दो घंटे बाद बस्तर संभाग के सभी जिलों में,इसके अगले चार घंटे में तेज वर्षा और बिजली गिरने की प्रबल संभावना है।

13-06-2021
छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में पहुंचा मानसून, राजधानी में गरज-चमक के साथ हो रही झमाझम बारिश

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में रविवार को मानसूम ने दस्तक दे दी है। अब प्रदेशभर में अच्छी बारिश के आसार बन रहे हैं। राजधानी में सुबह से ही बादल मेहरबान हैं। रायपुर में गरज-चमक के साथ झमाझम बारिश हो रही है। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने कहा है कि आज पूरे प्रदेश में मानसून पहुंच गया है। मौसम विज्ञानी चंद्रा ने बताया है कि दक्षिण-पश्चिम मानसून मध्यप्रदेश के कुछ  और हिस्सों में आगे बढ़ गया है। संपूर्ण छत्तीसगढ़,ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश के अधिकांश भाग,पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्से, संपूर्ण उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद,उत्तरी हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तरी पंजाब के कुछ हिस्सों में मानसून पहुंच गया है।  मानसून की उत्तरी सीमा दीव, सूरत, नंदुरबार, भोपाल, नौगांव, हमीरपुर, बाराबंकी, बरेली, सहारनपुर, अंबाला और अमृतसर है। दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल है।

उन्होंने कहा है कि निम्न दबाव का क्षेत्र बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी और पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के आसपास के तटीय क्षेत्रों पर बना हुआ है। संबंधित चक्रवाती परिसंचरण मध्य ट्रोपोस्फेरिक स्तर तक फैला हुआ है और ऊंचाई के साथ दक्षिण-पश्चिम की ओर झुका हुआ है। इसके अगले 2-3 दिनों के दौरान ओडिशा, झारखंड और उत्तरी छत्तीसगढ़ में पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। एक द्रोणिका मध्य पाकिस्तान से बंगाल की उत्तर-पश्चिम खाड़ी और पश्चिम बंगाल के आसपास के तटीय क्षेत्रों और दक्षिण हरियाणा, दक्षिण उत्तर प्रदेश में उत्तर ओडिशा के बीच कम दबाव के क्षेत्र तक, पूर्वोत्तर मध्य प्रदेश, उत्तरी छत्तीसगढ़ और झारखंड होते हुए समुद्र तल से 1.5 किमी ऊंचाई तक स्थित है।   एक पूर्व-पश्चिम  द्रोणिका 4.5 से 5.8 किमी तक उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी से पश्चिम मध्य अरब सागर तक दक्षिण छत्तीसगढ़, उत्तरी तेलंगाना, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक और दक्षिण कोंकण होते हुए स्थित है। 14 जून को प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने या गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में कुछ  स्थानों पर भारी वर्षा होने या एक-दो स्थानों पर अति भारी वर्षा होने की भी संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना है।

 

12-06-2021
देश के कई राज्यों में मानसून ने समय से पहले दी दस्तक, मुंबई में भारी बारिश का अलर्ट जारी

नई दिल्ली/रायपुर। मानसून ने देश के कुछ राज्यों में समय से पहले दस्तक दे दी है। जबकि कई राज्यों 14 या 15 जून तक मानसून के आने की संभावना है। भारतीय मौसम विभाग ने इसे लेकर भारी बारिश का अलर्ट भी जारी किया है। मौसम विभाग की माने तो मुंबई में शनिवार सुबह तक पिछले 24 घंटे में भारी बारिश हुई। बारिश की वजह से सेंट्रल रेलवे ने दादर-कुर्ला के बीच लोकल ट्रेनों को सस्पेंड कर दिया है। यहां ट्रैक पर पानी भर जाने के कारण ट्रेन सेवा सस्पेंड की गई है। हालांकि बाकी रूट्स की ट्रेन सेवा बाधित नहीं हुई है। बता दें कि उत्तर भारत में पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में दक्षिण पश्चिमी मानसून 14 या 15 जून तक दस्तक देगा। वहीं ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार में मानसून आज आ सकता है। कल से उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में भी मानसून के आने की संभावना है। जबकि छत्तीसगढ़ में मानसून ने समय 5 दिन पहले ही दस्तक दे दी है।

 

12-06-2021
2008 की तरह दिल्ली में मानसून इस साल भी 12 दिन पहले ही देगा दस्तक 

नई दिल्ली/रायपुर। दिल्ली में मानसून इस साल सामान्य तिथि से 12 दिन पहले यानी 15 जून को दस्तक दे सकता है। भारतीय मौसम विभाग की माने तो इससे पहले वर्ष 2008 में भी मानसून 15 जून को दिल्ली पहुंचा था। उन्होंने कहा, मानसून के समय से पहले आने की अनुकूल परिस्थितियां बनी हुई हैं। इस बार मानसून 15 जून को ही दिल्ली पहुंच सकता है।

11-06-2021
छत्तीसगढ़ में मानसून ने तय समय से पांच दिन पहले ही दी दस्तक, अगले 24 घंटे में जमकर बरसेंगे बादल

रायपुर। प्रदेश के कई जिलों में लगातार बारिश हो रही है। राजधानी समेत कई जिलों में तेज बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सड़कों पर जलजभराव हो गया है। मौसम विभाग ने चेतावनी देते हुए कहा है कि आगामी 2-3 दिनों तक लगातार बारिश की संभावना है। इसे लेकर विभाग ने अलर्ट जारी किया है। एक ओर केरल में मानसून लेट हो गया है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में मानसून ने तय समय से पांच दिन पहले ही दस्तक दे दी है। मानसून ने तेलंगाना के रास्ते कोंटा और सुकमा होते हुए छत्तीसगढ़ में एंट्री की है। उत्तर पश्चिम की ओर से आ रहे मानसून काफी तेज गति से आगे बढ़ रहा है। इसके कारण राजधानी रायपुर में भी इस बार मानसून अपने तय समय से 5 दिन पहले ही पहुंच गया है। मौसम विज्ञानी के मुताबिक अगले 24 घंटे के लिए येलो और 48 घंटे के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। दुर्ग में कई जगहों पर जलभराव की समस्या उत्पन्न हो गई। राजिम में महानदी एनीकट के ऊपर से पानी बह रहा है। वहीं खारून नदी का भी जलस्तर बढ़ा है।

10-06-2021
मानसून ने दी तय समय से पहले दस्तक, सात दिन पहले ही पूर्वी और मध्य भारत में बारिश की आहट

नई दिल्ली। इस वर्ष मानसून ने समय से पहले दस्तक दी है। दक्षिण पश्चिम मानसून अपने सामान्य समय से सात दिन पहले गुरुवार को मध्यप्रदेश में पहुंच गया। जबलपुर और शहडोल संभाग के जिलों के लिए आईएमडी ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। भोपाल के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि पिछले 24 घंटों में भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित राज्य के कई हिस्सों में बारिश हुई है। साहा ने कहा, 'मानसून की उत्तर सीमा मध्यप्रदेश के बैतूल और मंडला जिलों से होकर गुजरती है। इसके साथ ही राज्य के कुछ हिस्सों में मानसून पहुंच गया। आमतौर पर, मानसून का आगमन मध्यप्रदेश में 17 जून को होता है। यह शायद पहली बार है कि यह सात दिन पहले ही आ गया है।' ऑरेंज और यलो अलर्ट शुक्रवार सुबह तक के लिए प्रभावी रहेगा।  मौसम विभाग ने बताया कि मानसून गुरुवार को ओडिशा पहुंच गया है। राज्य में अगले दो दिन के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है और अगले पांच दिनों तक भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। आईएमडी के वैज्ञानिक आशीष कुमार ने कहा कि अनुमान है कि अगले 48 घंटे में मानसून बिहार में प्रवेश कर जाएगा। बिहार में येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के अनुमान के मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के 15 दलों को विभिन्न हिस्सों में तैनात किया गया है। एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान ने ट्वीट कर कहा कि चार दलों को रत्नागिरी, दो-दो दलों को मुंबई, सिंधुदुर्ग, पालघर, रायगढ़, ठाणे और एक दल कुर्ला (पूर्वी मुंबई उपनगर) में तैनात किया गया है। आईएमडी ने कहा, अगले 48 घंटों में मानसून पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों और बिहार में पहुंचेगा। अगले दो दिनों में यह पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ इलाकों तक पहुंच सकता है। इसलिए विभाग ने दिल्ली में मानसून उम्मीद से पहले पहुंचने का अनुमान जताया है। बता दें कि सामान्य तौर पर दिल्ली में मानसून का आगमन जून अंत तक होता है।

 

10-06-2021
मानसून ने दी अचानक दस्तक, खेत में भरे लबालब पानी

राजिम। अंचल में बुधवार रात हुई बारिश के कारण खेतों में पानी भर गया है। मानसून के आने से लोगों को गर्मी से निजात मिली है। बुधवार को ही उमस इतनी तेज थी कि लोग दिन भर परेशान हो गए और रात को वर्षा हो गई।

 

10-06-2021
Breaking : मानसून की पहली बारिश में गिरा आवासीय मकान, 11 की मौत, 8 घायल

महाराष्ट्र/रायपुर। मानसून की बारिश से देर रात एक बड़ा हादसा हो गया। दरअसल इमारत ढहने से 11 लोगों की मौत हो गई। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने सूचना दी कि बुधवार देर रात मुंबई के मलाड पश्चिम के न्यू कलेक्टर परिसर में एक आवासीय इमारत गिरने से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए। बीएमसी के अनुसार इस क्षतिग्रस्त बिल्डिंग ने पास की एक और आवासीय घर को भी अपनी चपेट में ले लिया। नगर निगम ने कहा कि इसने क्षेत्र में एक और आवासीय संरचना को भी प्रभावित किया जो अब खतरनाक स्थिति में है। प्रभावित इमारतों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित निकाला जा रहा है। बताया जा रहा है कि दुर्घटनाग्रस्त इमारत में फंसे लोगों को बचाने के लिए सर्च एंड रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। घायलों को बीडीबीए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। मुंबई में जोन 11 के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) विशाल ठाकुर ने कहा कि महिलाओं और बच्चों सहित 15 लोगों को बचा लिया गया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

10-06-2021
मानसून से पहले मौसम सुहाना, प्रदेश में आज भारी बारिश की चेतावनी

रायपुर। प्रदेश में मानसून के सक्रिय होने से पहले मौसमी तंत्र सक्रिय है। बीते दिन राज्य के अधिकांश जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। मौसम विभाग की माने तो अगले दो से तीन दिनों में मानसून भी छत्तीसगढ़ पहुंच जाएगा। रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के एचपी चंद्रा ने बताया, दक्षिण-पश्चिम मानसून अरब सागर और महाराष्ट्र के शेष हिस्सों, गुजरात के कुछ और हिस्सों, तेलंगाना के शेष हिस्सों, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों और पूर्वी ओडिशा, पश्चिम, पूरे हिस्से में आगे बढ़ने की संभावना है। अगले 2-3 दिनों के दौरान बंगाल, झारखंड, छत्तीसगढ़ और बिहार में पहुंचने की संभावना है। एचपी चंद्रा ने बताया कि एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा पूर्व मध्य और उससे लगे उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी में 4.5 किलोमीटर से 5.8 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। इसके प्रभाव से उत्तर बंगाल की खाड़ी में 11 जून को एक निम्न दाब का क्षेत्र बन रहा है। उसके और अधिक प्रबल होने की संभावना है। संभावना जताई जा रही है कि इसके आगे बढ़ने के पूर्व ही मध्य और पूर्व के राज्यों में मानसून सक्रिय हो जाएगा। मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक प्रदेश में 10 जून को अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश के एक-दो स्थानों में गरज चमक के साथ भारी बारिश होने, आकाशीय बिजली गिरने और अंधड़ चलने की संभावना है। प्रदेश में अधिकतम तापमान में भी गुरुवार को गिरावट होने की संभावना है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804