GLIBS
19-08-2019
मध्यप्रदेश में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के लिए नई दिल्ली में हुआ एमओयू

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल और इंदौर में मेट्रो रेल परियोजना के लिए सोमवार को करार हुआ। यह एमओयू नई दिल्ली में भारत सरकार, मध्यप्रदेश सरकार और मध्यप्रदेश मेट्रो रेल कार्पोरेशन के बीच हुआ। एमओयू केन्द्रीय शहरी और आवास मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी और प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह की उपस्थिति में हुआ। बता दें कि इस परियोजना को केन्द्रीय मंत्रिमंडल की ओर से अनुमोदित किया जा चुका है।
नगरीय विकास जयवर्धन सिंह ने बताया कि भोपाल मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में 27.87 किलोमीटर में दो कॉरिडोर बनेंगे। एक कॉरिडोर करोंद सर्कल से एम्स तक 14.99 किलोमीटर और दूसरा भदभदा चौराहे से रत्नागिरि चौराहा तक 12.88 किलोमीटर का होगा। इसकी कुल लागत रूपये 6941 करोड़ 40 लाख होगी। इस परियोजना के पूरे होने प्रदेश की दोनों बड़े नगर में यातायात समस्या से राहत मिलेगी। दोनों शहरों के लोगों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट का लाभ मिलेगा। 

 

13-08-2019
प्रियंका गांधी सोनभद्र कांड पीड़ितों से मिलने पहुंचीं , वाराणसी में हुआ जोरदार स्वागत 

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के सोनभद्र नरसंहार कांड पीड़ितों से मंगलवार को मिलने जा रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रॉ के वाराणसी पहुंचने पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया।
श्रीमती वाड्रॉ अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बाबतपुर के लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा पहुंचने पर पूर्व स्थानीय विधायक अजय राय समेत बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता ने उनका जोरदार स्वागत किया। उनके पहुंचते ही उत्साहित कार्यकर्ताओं ने स्वागत में नारे लगाये। पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत किया। 
राष्ट्रीय नेता की गाड़ी के काफिले के साथ अनेक स्थानीय नेता एवं कार्यकर्ता उनके साथ सोनभद्र के उभ्भा गांव की ओर रवाना हो गए, जहां जमीन विवाद को लेकर दस आदिवासियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अनेक लोग घायल हो गए थे, जिनका इलाज करीब एक माह बाद भी चल रहा है। हवाई अड्डे से सोनभद्र के रास्ते में जगह-जगह सड़क किनारे खड़े कार्यकर्ताओं ने हाथ हिलाकर एवं नारे लगाकर अभिनंदन किया। 
श्री राय ने बताया कि राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार ने 19 जुलाई को श्रीमती वाड्रॉ को सोनभद्र नरसंहार पीड़ितों से जाने जबरन रोक दिया था। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस की राष्ट्रीय नेता को करीब 26 घंटे तक मिर्जापुर के चुनार गेस्ट हाउस में हिरासत में रखा गया था। प्रशासन ने श्रीमती वाड्रॉ को सोनभद्र के उभ्भा गांव में घटना स्थल पर जाने से रोक दिया था। अगले दिन 20 जुलाई को कुछ पीड़ित परिवार के सदस्यों ने गेस्ट हाउस में कांग्रेस नेता ने मुलाकत की थी। इसी दौरान उन्होंने पीड़ित परिवार के लोगों से गांव आकर मुलाकात का वादा किया था। अपने वादे को निभाने श्रीमती वाड्रॉ आयी हैं। 
श्रीमती वाड्रा ने 19 जुलाई को यहां काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती सोनभद्र नरसंहार कांड में घायल लोगों से मुलाकात की थी। घायलों की हालचाल जानने के बाद वह घटना स्थल जा रही थीं। रास्ते में वाराणसी-सोनभद्र सीमा के पास नारायणपुर में पुलिस ने उन्होंने रोक दिया था। प्रशासन ने उन्हें सोनभद्र में निषेधाज्ञा लागू होने के कारण रोका था, जिससे नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपनी नेता के साथ चुनार गेस्ट हाउस पर करीब 26 घंटे तक धरना-प्रदर्शन किया था।
गौरतलब है कि सोनभद्र में जमीन विवाद को लेकर तीन महिलाओं समेत दस आदिवासियों की अंधाधुंध गोलीबारी कर हत्या कर दी गई थी। इस निर्मम घटना में 24 से अधिक लोग घायल हो गए थे। पुलिस ने इस मामले में वहां के ग्राम प्रधान प्रज्ञदत्त समेत अनेक लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। मुख्य आरोपी प्रज्ञदत्त समेत अनेक आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जो न्यायिक हिरासत में जेल में बंद हैं।

09-08-2019
सीएम भूपेश बघेल 10 अगस्त को जाएंगे नई दिल्ली 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का 10 अगस्त को सुकमा का दौरा अपरिहार्य कारणों से स्थगित हो गया है। वे 10 अगस्त को नई दिल्ली जाएंगे। निर्धारित दौरा कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री 10 अगस्त को सुबह 8.55 बजे स्वामी विवेकानंद विमानतल से रवाना होकर 10.55 बजे नई दिल्ली पहुंचेंगे। सीएम भूपेश बघेल नई दिल्ली में रात्रि विश्राम करेंगे।  

 

14-07-2019
नई दिल्ली से चलने वाली 80 ट्रेनें 18 से 21 जुलाई तक रहेगी रद्द, यह है कारण.... 

नई दिल्ली। नई दिल्ली स्टेशन आने-जाने वाली 80 ट्रेनों को 18 से 21 जुलाई तक रद्द किया गया है। यही नहीं 57 ट्रेनों के मार्ग बदले जाने की भी सूचना है। रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे ने नई दिल्ली आने या नई दिल्ली से जाने वाली 80 ट्रेनें रद्द ही नहीं की हैं, यहां से गुजरने वाली 57 दूसरी ट्रेनों का रूट भी बदल दिया है। रेलवे को इतना बड़ा कदम इसलिए उठाना पड़ा है, क्योंकि नई दिल्ली से तिलक ब्रिज स्टेशनों के बीच पांचवीं एवं छठी लाइन शुरू करने के लिए  नॉन इंटरलॉकिंग का काम होना है। यात्रियों को सबसे ज्यादा दिक्कत 18 जुलाई से 21 जुलाई के बीच पेश आएगी, जब सबसे ज्यादा ट्रेनें रद्द की गई हैं। रेलवे का दावा है कि इन दोनों नई लाइनों के शुरू हो जाने के बाद नई दिल्ली से ट्रेनों का परिचालन आसान होगा और गाड़ियों को समय पर चलाने में मदद मिलेगी। जानकारी के अनुसार अभी नई दिल्ली से तिलक ब्रिज स्टेशनों के बीच सिर्फ चार लाइनें हैं, जिससे ट्रैफिक का भारी दबाव रहता है और ये संख्या ट्रेनों के नंबर के हिसाब से पर्याप्त नहीं है। इसलिए अक्सर ट्रेनें लेट हो जाती हैं और ट्रेनों के पहुंचने के बावजूद उन्हें प्लेटफॉर्म पर लेने में कई बार काफी इंतजार करना पड़ जाता है। 

 

09-07-2019
छत्तीसगढ़ भवन में लगी हैंडलूम प्रदर्शनी में खरीदारों को भा रही शान्तिरानी साड़ी

रायपुर। देश और विदेश में छत्तीसगढ़ की समृद्ध कारीगरी का उदाहरण बनी शान्तिरानी साड़ी नई दिल्ली के साड़ी प्रेेमियों के आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है। नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन में लगी हैंडलूम प्रदर्शनी में अब तक सैकड़ों खरीदारों ने छत्तीसगढ़ी बुनकरों से उनके उत्पाद खरीदे हैं। कोसा साडिय़ों की कारीगरी के लिए प्रसिद्ध छत्तीसगढ़ के बुनकरों ने एक विलुप्त हो चुकी साड़ी को पुनर्जीवन प्रदान किया है। शान्तिरानी के नाम से प्रसिद्ध यह विशिष्ट कारीगरी वाली साड़ी 1980 के पूर्व काफी चलन में थी और छत्तीसगढ़ तथा बाहर के प्रदेशों के लोग भी इसे काफी पसंद करते थे। परन्तु अपनी दुरूह शैली और अत्यधिक परिश्रम के चलते इसे कारीगरों ने बनाना बंद कर दिया था। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ के बुनकरों ने पुराने संदर्भ को जुटाकर परिश्रम से इसे पुन: नया जीवन प्रदान कर दिया है। यह साड़ी अब पुन: देश और विदेश में छत्तीसगढ़ की समृद्ध कारीगरी का उदाहरण बन गई है। इस विशिष्ट शैली को पुनर्जीवित करने वाले छत्तीसगढ़ के रायगढ़ के बुनकर कन्हैया देवांगन ने बताया कि इस साड़ी की खासियत यह है कि इसमें सूक्ष्म और महीन कार्य होता है तो बिन्दुओं को इस प्रकार मिलाना होता है कि वह एक निश्चित आकार ले सके। इसमें धागों को पहले विभिन्न रंगों में रंगा जाता है और फिर सावधानीपूर्वक ताना-बाना में सेट किया जाता है। इसके लिए काफी परिश्रम और पूर्णता से कार्य करना होता है और काफी अनुभवी कारीगर ही इसे अंजाम दे सकता है। उन्होंने बताया कि इस साड़ी में 7,  8 और 9 लाइनें होती हैं और वे जब आपस में मिलती हंै तो नियत आकार के चैक्स का रूप ले लेती हैं। उन्होंने बताया कि शान्तिरानी साड़ी छत्तीसगढ़ से विदेशों को भी निर्यात की जा रही है।

01-07-2019
सीएम बघेल ने नई दिल्ली में हथकरघा और हस्तशिल्प प्रदर्शनी का किया शुभारंभ

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन में लगे हस्तशिल्प ओर हथकरघा प्रदर्शनी का शुभारंभ कर छत्तीसगढ़ के विभिन्न हिस्सों से आए बुनकरों की कला ओर मेहनत की सराहना की। उन्होंने कहा कि देश की राजधानी दिल्ली में हस्तशिल्प ओर हथकरघा की प्रदर्शनी का आयोजन बुनकरों की कला को बढ़ावा देने के साथ-साथ उनकी आय बढ़ाने का भी काफी सार्थक प्रयास है। मुख्यमंत्री ने कहा कि  बुनकरों को हर सम्भव मदद सरकार के द्वार दी जाएगी। साथ की छत्तीसगढ़ की कला देश ओर दुनिया तक पहुंचे उसके भी ओर बेहतर प्रयास किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि यहां लगाई गई छत्तीसगढ़ के हाथकरघा ओर हस्तशिल्प प्रदर्शनी में सिल्क के कपड़े प्राकृतिक रंग से तैयार किए गए हैं। जैसे पीला रंग गेंदे के फूल से बनाया गया है। काला रंग मशरूम ओर प्याज के रंग से तैयार किया गया है। इस प्रकार कोसे के कपड़े जो थान में यहां उपलब्ध है। इस प्रदर्शनी मे छत्तीसगढ़ के रायगढ़, जांजगीर-चाम्पा सहित विभिन्न जिलों से आए बुनकरों ने कोसा, हथकरघा के वस्त्रों के अलावा छत्तीसगढ़ के क्राफ्ट को भी विक्रय हेतु प्रदर्शित किया है। 

 

 

16-06-2019
सीएम बघेल मिले केन्द्रीय राज्य मंत्री हरदीप पुरी से

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज नई दिल्ली में केन्द्रीय आवासीय एवं शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप पुरी ओर उत्तर पश्चिमी दिल्ली के सांसद हंस राज हंस से मुलाकात की।

11-05-2019
नई दिल्ली-भुवनेश्वर राजधानी एक्सप्रेस के पॉवर कार में लगी आग, कोई हताहत नहीं

नई दिल्ली। गर्मी के सीजन में आग लगने की घटनाओं में इजाफा हो जाता है। शनिवार को राजधानी एक्सप्रेस आग की चपेट में आ गई। मिली जानकारी के अनुसार नई दिल्ली भुवनेश्वर राजधानी एक्सप्रेस के पावर कार में आग लग गई। हादसा ओडिशा के खांटापाड़ा क्षेत्र में हुआ। मिली जानकारी के अनुसार ट्रेन संख्‍या 22812 में यह हादसा उस वक्‍त हुआ जब यह खांटापाडा स्‍टेशन के नजदीक थी। आग ट्रेन के उस डिब्बे में लगी, जिसमें जनरेटर रखा रहता है। यह आग दूसरे डिब्‍बों को अपनी चपेट में लेती इससे पहले ही इस डिब्‍बे को सूझ बूझ से बाकी ट्रेन से अलग कर दिया गया। आग से कोई नुकसान नहींं हुआ है और न ही किसी की हताहत होने की खबर है। ओडिशा अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने आग पर काबू पाया। दुर्घटना का शिकार हुआ पॉवर कार डिब्‍बा ट्रेन की सबसे पिछली बोगी से जुड़ा हुआ था। अन्‍यथा, पूरी ट्रेन के आग की चपेट में आने का खतरा था। इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

इस हादसे के बाद ट्रेन खांटापाडा स्‍टेशन पर खड़ी कर दी गई। 

दक्षिण पूर्व रेलवे के खड़गपुर डिवीजन की एक टीम स्टेशन का दौरा करेगी और पूरी जांच के बाद इस ट्रेन की सेवा शुरू हो पाएगी। बता दें कि पॉवर कार कोच उस डिब्‍बे को कहते हैं जो बाकी डिब्‍बों में बिजली आपूर्ति का काम करता है।

05-02-2019
नई दिल्ली के कांग्रेस मुख्यालय में लगी नई महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की नेमप्लेट

नई दिल्ली। कांग्रेस के नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में पार्टी की नई महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के नाम की नेमप्लेट लगा दी गई है। अब प्रियंका गांधी पार्टी कार्यालय के इस कक्ष में बैठेंगीं और  पार्टी का कामकाज संभालेंगी। बता दें कि प्रियंका गांधी अमेरिका से लौट आई है और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी उनसे चर्चा करेंगे। कांग्रेस पार्टी ने प्रियंका गांधी वाड्रा को पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है। बता दें कि कांग्रेस मुख्यालय में जो कक्ष प्रियंका गांधी को दिया गया इस कमरे से ही राहुल गांधी ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की थी। प्रियंका गांधी वाड्रा का ये कक्ष कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बगल में हैं।

09-01-2019
Modi Government : मध्यम वर्ग को टैक्स में छूट का तोहफा दे सकती है मोदी सरकार
07-01-2019
Price hike :  नए साल में पहली बार बढ़ी पेट्रोल और डीजल की कीमतें
31-12-2018
new Delhi: रसोई गैस सिलेंडरों के दाम में कटौती, सब्सिडी वाली एलपीजी 5.91 रुपए सस्ती 

नई दिल्ली। वर्ष 2018 विदा होते हुए आम आदमी के लिए खुशी का पैगाम देते हुए जा रहा है। रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में कटौती कर दी गई है। इससे अब लोगों को एलपीजी सस्ती दर पर मिलेगा। देश की सबसे बड़ी कंपनी इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन ने सब्सिडी वाले रसोईं गैस सिलेंडर की कीमत में 5.91 रुपए की कटौती की है। बिना सब्सिडी वाले वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत में 120.50 रुपए की कटौती की गई। रसोई गैस पर यह कटौती दूसरी बार की गई है। कंपनी ने जारी बयान में बताया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल के दाम घटने और डॉलर के मुकाबले रुपए की मजबूती के चलते एलपीजी के दामों में कमी की गई। कंपनी ने बताया कि ये नई कीमतें सोमवार आधी रात से लागू होंगी। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804