GLIBS
13-05-2020
Video: कोरबा में फंसे 63 छात्र लौटे गरियाबंद, ब्लॉक मुख्यालय में रखा जाएगा क्वारेंटाइन में

गरियाबंद। जिले के 63 छात्र-छात्राएं कोरोना वायरस के रेड जोन में आने वाले कोरबा जिले में फंस कर रह गए थे। दरअसल ये छात्र छात्राएं गए तो थे जैविक खाद बनाने की पढ़ाई करने मगर लॉक डाउन के चलते उनकी पढ़ाई भी अधूरी रह गई और वह अपने गांव अपने घर मैनपुर तथा देवभोग इलाके में वापस पहुंच भी नहीं पा रहे थे। कोरबा जिला रेड जोन में आने के चलते छात्र-छात्राएं खुद डरे हुए थे,जिसके बाद अब कोरबा में एक भी कोरोना पाजिटिव नहीं रहने के चलते इन छात्र-छात्राओं ने हिम्मत दिखाई कलेक्टर से वापस भिजवाने की अपील की। इस पर कोरबा कलेक्टर ने उन्हें वापस गरियाबंद भेजने वाहन की व्यवस्था की किंतु जिला मुख्यालय पहुंचते ही इन छात्रों को रोक लिया गया। बाद में फैसला यह हुआ कि इन्हें इनके ब्लॉक मुख्यालय में क्वॉरेंटाइन किया जाएगा। सुबह से निकले बच्चों के भोजन तथा अन्य व्यवस्थाओं के लिए अभी इन्हें गरियाबंद में रोका गया,जहां नगर पालिका प्रशासन ने इनके भोजन तथा रुकने की व्यवस्था की। बच्चों को शाम तक इन्हें इनके ब्लॉक मुख्यालय मैनपुर तथा देवभोग भेजा जाएगा।

06-05-2020
कुएं से पानी खींच कर पीते नजर आए कलेक्टर, एसपी

गरियाबंद। विभिन्न निरीक्षण के लिए देवभोग गए कलेक्टर और एसपी और जिला पंचायत सीईओ ने वापसी के दौरान तौरेंगा के कुएं से पानी निकालकर अपनी प्यास बुझाई। कलेक्टर ने स्वयं बाल्टी से पानी खींचते नजर आए और हाथ में लेकर पानी पिया भी। इसी तरह एसपी ने भी पानी पिया। कहा जाता है कि यह कुंआ ब्रिटिश काल में बनाया गया था। आज भी इस पानी में औषधीय गुण पाये जाते हैं। गांव के लोगों ने बताया कि इस कुंआ का पानी का स्वाद दूर-दूर तक फैला हुआ है। वैसे तो इस कुएं का पानी आज भी काफी मीठा है और औषधीय गुणों वाला बताया जाता है। साथ ही ऐसी मान्यता भी है कि ब्रिटिश शासन काल में तत्कालीन अधिकारी इस कुएं का पानी मंगवा कर पिया करते थे,जिसकी चर्चा आज भी है। यही कारण है कि कलेक्टर,एसपी तथा जिला पंचायत सीईओ उन्हें रुक कर यहां का पानी का स्वाद लिया।

02-05-2020
मुख्य सचिव ने लिखा पत्र, कहा-दुग्ध महासंघ की उत्पादित सामग्रियों का उपयोग किया जाए

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश के परिपालन में मुख्य सचिव ने कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी दुग्ध महासंघ देवभोग के उत्पाद को बाजार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इसका अधिक से अधिक उपयोग शासकीय कार्यालयों और संस्थाओं में किया जाए। इसके मद्देनजर मुख्य सचिव आरपी मंडल ने विस्तृत दिशा निर्देश किए हैं। मुख्य सचिव मंडल ने सभी विभागध्यक्षों, संभागायुक्तों, कलेक्टरों को जारी अपने पत्र में लिखा है कि सहकारी दुग्ध महासंघ की ओर से देवभोग ब्रांड से दूध, मिल्क पाउडर, दही, लस्सी, छाछ, पेड़ा, श्रीखण्ड, रबड़ी, घी और दुग्ध कुकीज का निर्माण किया जाता है, जो सहजता से बहुतायत रूप से उपलब्ध है। इसका उपयोग शासकीय आयोजनों, कार्यक्रमों, जेल, उपजेल, आश्रम, बटालियन आदि में किया जाना चाहिए ताकि दुग्ध महासंघ से जुड़े राज्य के दुग्ध उत्पादक किसानों को इसका लाभ मिल सके।
मुख्य सचिव ने अपने पत्र में इस बात का भी उल्लेख किया है कि देवभोग ब्रांड के उत्पाद की गुणवत्ता का परीक्षण कई स्तरों पर किया जाता है। इसमें किसी भी तरह की मिलावट नहीं होती है। इसके विक्रय से शासन को जीएसटी औरअन्य कर भी प्राप्त होते हैं। उन्होंने कहा है कि जिन विभागों के आयोजनों में बाह्य केटरिंग की जाती है, वहां आउटसोर्सिंग एजेंसी दुग्ध महासंघ के उत्पाद का उपयोग तय किया जाए। मुख्य सचिव ने इस संबंध में पूर्व में जारी आदेश का हवाला देते हुए कहा है कि मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम, आईसीडीएस के अंतर्गत आंगनबाड़ियों, आदिम जाति कल्याण विभाग के छात्रावासों में भी आवश्यकतानुसार दुग्ध महासंघ की उत्पादित सामग्रियों का उपयोग किया जाना है।

13-03-2020
Video : बेमौसम बारिश और आंधी से मार्गो में गिरे पेड़, आवागमन अवरुद्ध, यात्री परेशान

गरियाबंद। बीते सप्ताह से बेमौसम वर्षा के चलते जहां जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा वहीं होली को लेकर भी लोग अपने गंतव्य की ओर आते और जाते भी इस वर्षा के चलते परेशान रहे। गुरुवार संध्या एकाएक तेज आंधी और तूफान के साथ जो बारिश ने अपना कहर ढाया, जिसके चलते देवभोग से लेकर राजिम तक जगह-जगह नेशनल हाईवे और ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों के ऊपर पेड़ गिर जाने से लोगों को आवागमन में काफी दिक्कत व परेशानियों का सामना करना पड़ा। इसके चलते बसों व अन्य वाहनों में सवार यात्रियों में बच्चे और बुजुर्ग लोगों को सबसे अधिक खाने पीने की परेशानी हुई।

देवभोग से रायपुर और रायपुर से देवभोग आने जाने वाले यात्री को बिन मौसम के हुए वर्षा के चलते बिन मौसम के आंधी तूफान और वर्षा के चलते जगह-जगह पेड़ गिर जाने से नेशनल हाईवे व ग्रामीण सड़कें के आवागमन अवरुद्ध रहा। नेशनल हाईवे पर लगातार पेड़ गिरने के कारण वाहनों में सवार यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। लगातार पेड़ों को काटे जाने के बाद यात्री वाहन आगे बढ़ पाए कुछ ऐसा ही दृश्य गरियाबंद से लगभग 7-8 किलोमीटर आगे पंडोरा के समीप पेड़ गिर जाने से वाहनों में सवार यात्रियों को काफी दिक्कत व परेशानियों का सामना करना पड़ा। किसी तरह ग्रामीण जन एवं यात्रियों ने पेड़ों को काट काट कर अपनी वाहनों को आगे बढ़ाया। लगातार तीन से 4 घंटे तक आवागमन अवरुद्ध रहा,जिसके चलते जंगलों में पेड़ गिरने पर यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। तीन-चार घंटे के प्रयास के बाद यातायात दुरुस्त हो पाया।

 

03-03-2020
कर्मचारियों को नहीं मिला 8 माह से वेतन, जनचौपाल में की शिकायत

गरियाबंद। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के दैनिक वेतन भोगियों को विगत 8 माह से वेतन नही मिला है। कर्मचारियों ने जपचौपाल में आवेदन देकर जल्द से जल्द वेतन देने की मांग की है। कर्मचारियों ने आवेदन में कहा कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग खण्ड गरियाबंद के अंतर्गत उपखण्ड गरियाबंद, राजिम एवं देवभोग के अधीनस्थ कार्यरत 41 दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को विगत 8 माह से वेतन भुगतान नहीं हुआ है। लंबे समय से वेतन भुगतान नहीं होने के कारण सभी कर्मचारियों की आर्थिक स्थिति खराब हो गयी है। उन्होंने 8 माह से लंबित वेतन भुगतान की समस्या का निराकरण करने की मांग की है। 

 

01-03-2020
काम के दौरान मजदूर का हाथ बुरी तरह घायल, मामला दर्ज

रायपुर। शहर के धरसींवा थाना क्षेत्र में हड्डी गोदाम में काम करते समय मजदूर का हाथ मशीन के बेल्ट में आ जाने के कारण बुरी तरह से घायल हो गया। घटना की रिपोर्ट पर धरसींवा थाने में हड्डी गोदाम के ठेकेदार के खिलाफ मजदूर से काम कराने के दौरान सुरक्षा व्यवस्था की ध्यान नहीं रखने के जुर्म में अपराध कायम कर मामला दर्ज किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार ग्राम मुंडा देवभोग गरियाबंद निवासी पुनीत राम नेताम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि परमानंद सोनवानी मजदूर हैं। 28 फरवरी को गोदाम में काम करने के दौरान मशीन के बेल्ट में हाथ फंस जाने के कारण बुरी तरह घायल हो गया। इलाज के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हड्डी गोदाम के ठेकेदार के खिलाफ धारा 287,304 ए के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है।

20-02-2020
गौरव पथ पर साफ-सफाई,लाइट की व्यवस्था का पालिका अध्यक्ष और पार्षदों ने किया निरीक्षण

गरियाबंद। महाशिवरात्रि के अवसर पर हजारों श्रद्धालु गरियाबंद गौरव पथ से होकर भुकुरराम महादेव शिवलिंग स्थल पर पूजा अर्चना करने पहुंचते हैं।  गुरुवार को नगर पालिका अध्यक्ष गफ्फू मेमन के नेतृत्व में पार्षदों का दल गौरव पथ में साफ सफाई का निरीक्षण करने पहुंचे। नगरपालिका के सफाई कर्मचारियों को लेकर साफ सफाई का दिशा निर्देश देते रहे।

दरसल शुक्रवार को महाशिवरात्रि पर गरियाबंद जिला के साथ ही महासमुंद, धमतरी, रायपुर, मैनपुर, देवभोग से हजारों की संख्या में विश्व के विशालत्म प्राकृतिक शिवलिंग भूतेश्वरनाथ के दर्शन करने पहुंचते हैं। इस अवसर पर लोगों का गौरव पथ के रास्ते ही आना जाना होता है। ऐसे में उक्त गौरव पथ की साफ-सफाई व कमियों को दूर करने के लिए आज नगर पालिका की ओर से अध्यक्ष एवं पार्षद दौरा कर समुचित व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने का निर्देश दिया। इस अवसर पर विशेष रूप से सफाई कर्मचारी एवं बिजली कर्मचारियों को निर्देशित किया गया कि स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था समुचित तथा सड़क के दोनों ओर वाहनों के आवागमन व पैदल आवागमन में दिक्कत ना हो आने जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए पेयजल की समुचित पूर्ति हेतु दो नल कनेक्शन की भी व्यवस्था तत्काल कराई गई। अध्यक्ष सहित पार्षदों ने निर्देशित किया कि श्रद्धालुओं का विशेष ध्यान रखा जाए क्योंकि लोग दूर-दूर से पहुंचते हैं,जिससे गरियाबंद नगर पालिका की छवि खराब न हो। नगरपालिका की इस पहल का जहां शिवभक्त प्रशसाँ कर रहे हैं। वहीं  गरियाबंद के निवासी भी उनकी तत्परता और धार्मिक कार्यों में सजगता के लिए प्रशंसा कर रहे हैं।

इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष गफ्फू मेमन से चर्चा करने पर वह कहते हैं कि गरियाबंद जिले के लिए सौभाग्य की बात है कि यहां भगवान भूतेश्वर महादेव प्राकृतिक रूप से विराजे हुए हैं। इसलिए हमें चाहिए कि हम इस रास्ते से होकर जो श्रद्धालु गुजरते हैं उनके दिक्कत व परेशानियों को ध्यान में रखने के लिए आज हम सब पार्षद दौरा कर निरीक्षण कर साफ सफाई व पेयजल की व्यवस्था के साथ ही विद्युत व्यवस्था समुचित रहे इसलिए निरीक्षण कर रहे हैं।  किसी भी श्रद्धालुओं को दिक्कत ना हो यह हम गरियाबंद निवासियों का पहला दायित्व बनता है।


 

 

15-02-2020
रविन्द्र चौबे ने देवभोग के नवीन उत्पादों को किया लॉन्च

रायपुर। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे और राष्ट्रीय कामधेनू आयोग के अध्यक्ष वल्लभ कथीरिया ने शनिवार को छत्तीसगढ़ राज्य बीज एवं कृषि विकास निगम के कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में देवभोग के तीन नवीन उत्पादों डेयरी व्हाइटनर, प्रोटीन ड्रिंक और कुकीज को लॉन्च किया। छत्तीसगढ़ में डेयरी प्रोडक्ट की दिनों दिन लोकप्रियता बढ़ते जा रही है। दुग्ध महासंघ ने इसी श्रृखला में विश्वस्तरीय उत्पाद डेयरी व्हाइटनर, कुकीज और व्हे-प्रोटीन ड्रिंक के नाम से तीन नए डेयरी प्रोडक्ट बिक्री के लिए बाजार में उपलब्ध कराया है।

डेयरी व्हाइटनर को आम उपभोक्ताओं के बीच लोकप्रिय बनाने के लिए 12 ग्राम और 200 ग्राम के पाउच में बाजार में लांच किया गया है। इसका उपयोग चाय काफी के अलावा खीर और घी बनाने के लिए भी किया जा सकता है। डेयरी व्हाइटनर की सेल्फ लाइफ ज्यादा होने तथा गुणवत्तायुक्त होने के कारण इस अधिक समय तक उपयोग के लिए रखा जा सकता है। व्हे-प्रोटीन ड्रिंक (गटपट) प्रोटीन और ऊर्जा से भरपूर है। यह ड्रिंक पौष्टिकता से भरपूर तथा स्वास्थ्य के लिए अत्यन्त लाभप्रद है। कुकीज (बिस्किट) घी और दूध पाउडर से बना है। यह स्वसहायता समूह की महिलाओं द्वारा तैयार किया जा रहा है। यह कुकीज 4 वेराइटी रागी, ज्वार, रेड राईस और नारियल के स्वाद में उपलब्ध है। कार्यक्रम में कृषि विभाग के सचिव धनंजय देवांगन, छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी दुग्ध महासंघ के प्रबंध संचालक नरेन्द्र दुग्गा, दुग्ध महासंघ के अध्यक्ष रसिक परमार सहित अनेक जनप्रतिधि और बड़ी संख्या में दुग्ध उत्पादक किसान मौजूद थे।

10-02-2020
नगर पालिका अध्यक्ष ने किया नए निर्माण कार्यों का भूमि पूजन

गरियाबंद। गरियाबंद नगरपालिका के नवगठित अध्यक्ष,उपाध्यक्ष एवं पार्षदों ने लगभग 18 कार्यो का भूमि पूजन व शिलान्यास किया। इसमें लगभग डेढ़ करोड़ रुपये का कार्य होगा। इसके अंतर्गत भवन निर्माण, सड़क निर्माण के काम होने हैं। इस अवसर पर विशेष करके वार्ड नंबर 1-3-8-15 में प्रमुख कार्य होने हैं। कार्यक्रम में अध्यक्ष गफ्फू मेमन,उपाध्यक्ष सुरेंद्र सोनटके,वरिष्ठ पार्षद आसिफ मेमन,संदीप सरकार के साथ ही सीएमओ संध्या वर्मा सब इंजीनियर अश्वनी वर्मा के साथ ही विभिन्न वरिष्ठ नागरिक उपस्थित थे। इसमें वार्ड क्रमांक एक में सीसी रोड, हनुमान मंदिर तक सीसी रोड, वार्ड क्रमांक एक में सीसी रोड,वार्ड नंबर 3 में सीसी नाली और सीसी रोड निर्माण,वार्ड नंबर 8 में शासकीय प्राथमिक स्कूल से देवभोग रोड तक सीसी निर्माण किया जाएगा।

17-01-2020
Breaking: अतिक्रमण हटाने पहुंचे सरकारी अमले को ग्रामीणों ने बनाया बंधक

गरियाबंद।  जिले से इस वक्त बड़ी खबर आ रही है। अतिक्रमण हटाने गए वन और पुलिस विभाग के कर्मचारियों को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया है। सरकारी वाहन पर तोड़- फोड़ कर रेंजर से भी धक्का मुक्की की गई है।  मामला देवभोग वन परिक्षेत्र के छैला गांव  के 1288 कक्ष क्रमांक का है, जहां 10 कर्मचारियों को बंधक बनाया गया है। अतिरिक्त पुलिस फोर्स गरियाबंद मैनपुर और देवभोग से भेजी गई है।

30-12-2019
पंचायत चुनाव के लिए फार्म खरीदने पहले दिन ही उमड़ी जनप्रतिनिधियों की भीड़

गरियाबन्द। नगरों की सरकार चुने जाने के बाद अब गांवों की सरकार चुनना प्रारंभ हो गया है। सोमवार पहले दिन गरियाबंद में बनाए गए प्रत्याशी फार्म वितरण केंद्र में पंचों के लिए जहां 16 आवेदन फार्म खरीदे गए तो वहीं सरपंच के लिए 10 आवेदन फार्म खरीदे गए इसके अलावा जनपद सदस्य के लिए 8 लोगों ने नामांकन फार्म खरीदा। वहीं जिला पंचायत सदस्य के लिए जिला कलेक्ट्रेट से आवेदन फार्म दिए जा रहे हैं जिसमें  6 लोगों ने नामांकन फार्म खरीदा  इनमें से कई चर्चित चेहरे आज पहले दिन ही नामांकन फार्म खरीदते नजर आए देवभोग की जनपद अध्यक्ष नेहा सिंघल जिला पंचायत सदस्य हेतु फार्म खरीदती नजर आई। वहीं गरियाबंद सरपंच संघ अध्यक्ष यशवंत सोरी ने भी नामांकन फार्म खरीदा है इस तरह आज पहले दिन इस तरह सोमवार को पहले दिन ही त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जनप्रतिनिधि बनने इच्छुक उम्मीदवार उमड़ पड़े। पहला दिन होने और लंबी चौड़ी कागजी कार्यवाही के चलते कोई भी फार्म जमा नहीं हो पाया मगर फार्म खरीदने वालों की भीड़ देखी गई। बाकायदा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रिटर्निंग ऑफिसर, सहायक रिटर्निंग ऑफिसर अलग-अलग स्थानों पर आवेदन फॉर्म लेने बैठे। गरियाबंद जिले में ब्लॉक मुख्यालय के अलावा बड़े ग्राम पंचायतों में 15-15 गांव को मिलाकर लगभग 50 अधिक क्लस्टर भी बनाए गए हैं। जहां पर सोमवार को पहले दिन ही सैकड़ों नामांकन फार्म खरीदे गए अर्थात पंच, सरपंच बनने बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि उमड पड़े हैं। नए बने ग्राम पंचायत के ग्रामीणों में भी पंच सरपंच बनने खाता उत्साह देखा जा रजहा है।

19-12-2019
उड़ीसा के धान के खिलाफ आईजी छाबड़ा ने छेड़ी मुहिम, 2 दिन में 5000 बोरा अवैध धान जब्त

गरियाबंद। बुधवार शाम देवभोग क्षेत्र में पहुंचे रायपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक डॉ आनंद छाबड़ा ने 24 घंटे के भीतर 5000 बोरे उड़ीसा के अवैध धन पकड़ चुके हैं और कार्यवाही लगातार जारी है आईजी के पहुंचने से पुलिस अमला और अधिक सक्रियता से अवैध धान तस्करी रोकने में जुट गया है। वहीं कलेक्टर श्याम धावड़े और एसपी एम आर आहिरे भी देवभोग इलाके में पहुंच कर अवैध धन के खिलाफ मुहिम चला रहे हैं। एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर कल से ही आईजी छाबड़ा के साथ दौरे पर हैं। आईजी ने अवैध धन के खिलाफ चल रही मुहिम में और अधिक जवानों को लगाने के निर्देश दिए हैं। वहीं आज देर शाम तक आईजी उड़ीसा सीमा से लगे बॉर्डर इलाकों में कार्यवाही करेंगे और बॉर्डर के नाकों पर निगरानी के निर्देश भी पुलिस को दिए हैं। गुरूवार सुबह से 12:00 बजे तक पुलिस महा निरीक्षक डॉ आनंद छाबड़ा की छापामार कार्यवाही में 3000 बोरा से अधिक धान जब्त किया गया यह धान उड़ीसा से लाकर छत्तीसगढ़ में खपाने का प्रयास चल रहा था, इस छापामार कार्यवाही से हड़कंप मचा हुआ है। तितल खूंटी, चिचिया, बरबाहली से ज्यादातर धान जप्त किया गया है। बीते कल भी 2000 बोरा धान जब्त किया गया था, आईजी ने कार्यवाही और तेज करने की बात कही है और आगामी दिनों में एसपी एमआर आहिरे और एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर द्वारा कमान संभालने की बात कही है।

बीते 2 दिनों में आई जी डाक्टर आनंद छाबडा उड़ीसा सीमा पर स्थित विभिन्न धान खरीदी केंद्रों  के अंतर्गत आने वाले ग्रामों में स्थित बिचौलिए और कुछ चिन्हित व्यवसायियों के यहां छापा मारकर बड़ी मात्रा में धान को जप्त किया है। इस अवसर पर उनके साथ गरियाबंद के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनंदन सिंह राठौर के साथ देवभोग वा अमलीपदर क्षेत्र के विभिन्न थानेदार व अनेक कर्मचारी अधिकारी उपस्थित थे उन्होंने कहा कि उड़ीसा से किसी भी शर्त पर धान नहीं आने दिया जाएगा। साथ ही इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न उडिसा छत्तीसगढ़ सिमा पर बनाया गया चेक पोस्ट का भी निरीक्षण किया और वहां नियुक्त अधिकारी कर्मचारियों को निर्देशित किया कि किसी भी स्थिति में उड़ीसा से धान नहीं पहुंचना चाहिए अगर चेक पोस्टों में लापरवाही बरती जाएगी तो यहां नियुक्त अधिकारी कर्मचारियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।

दरअसल राज्य शासन द्वारा लगातार सीमावर्ती उड़ीसा से आ रहे धान को लेकर जिला प्रशासन पुलिस प्रशासन लंबे समय से सतर्क है। वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सीधे तौर पर निर्देशित किया है कि उड़ीसा सीमा से धान बिकने के लिए किसी भी स्थिति में छत्तीसगढ़ ना पहुंचे। इसे ही दृष्टिगत रखते हुए विभिन्न अधिकारियों का दल लगातार इन क्षेत्रों में भ्रमण कर रहा है और विशेष रूप से सीमाओं पर स्थित खरीदी केंद्रों पर निगाहें बनाए हुए हैं। जहां बीते दिनों राज्य के मुख्य सचिव आर पी मंडल में दौरा कर झाकर पारा समितियों की स्थिति को देखकर जमकर नाराजगी व्यक्त की थी। वहीं एमपी मार्कफेड शम्मी आबिदी भी अमलीपदर पहुंचकर विभिन्न धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण कर समुचित रखरखाव का निर्देश दिया था। इसी के साथ बीते कल एलेक्स पाल मेनन आईएएस अधिकारी भी यहां पहुंच विभिन्न धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण कर पाई गई कमियों को लेकर खरीदी केंद्र के अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त की है। इसी के साथ जिलाधीश श्याम धावडे एवं पुलिस अधीक्षक एमआर आहिरे भी लगातार सीमा से लगे धान खरीदी केंद्रों में सतत निगाहे बनाए हुए हैं और लगातार दौरा कर धान को उडिसा से आने से रोक लाये हूए हैं। वहीं धान खरीदी केंद्रों में समुचित खरीदी की व्यवस्था बनी रहे बिचौलियों पर भी ध्यान रखा गया है विशेष रूप से यहां हर धान खरीदी केंद्रों के लिए नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। वहीं विभिन्न क्षेत्रों में  दल बनाकर छापामार कार्यवाही भी जारी है। जिसमें शासन-प्रशासन को बड़ी सफलता मिल रही है। इसी कड़ी में राज्य अधिकारी  आई जी रायपुर रेंज डॉक्टर आनंद छाबड़ा उड़ीसा सीमा पर स्थित विभिन्न धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण करते हुए विभिन्न धन के आने जाने वाले रास्तो पर बनाई गई चौकियों का निरीक्षण कर समुचित दिशा निर्देश दे रहे हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804