GLIBS
24-08-2020
नरेन्द्र मोदी कांग्रेस से नहीं बल्कि गांधी परिवार के मजबूत नेतृत्व क्षमता से डरते हैं : विकास उपाध्याय

रायपुर। दिल्ली में कांग्रेस के नए अध्यक्ष चुने जाने की अटकलों और जारी के बीच संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस ली। विकास ने गांधी परिवार के हाथों ही नेतृत्व सौंपे जाने की वकालत करते हुए कहा है कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सार्वजनिक जगहों से लेकर कई मौकों पर कहते हैं कि, वो कांग्रेस मुक्त भारत चाहते हैं, दरअसल ऐसा नहीं, वे असल में गांधी परिवार मुक्त कांग्रेस की बात करते हैं। इस बात को कांग्रेस के एक-एक कार्यकर्ता व पार्टी के नेताओं को समझ जाना चाहिए। मोदी कांग्रेस से नहीं बल्कि ज्यादा गांधी परिवार के मजबूत नेतृत्व क्षमता से डरते हैं।

विकास उपाध्याय ने कहा कि, कांग्रेस पार्टी को राहुल गांधी में उम्मीद नजर आती है ,क्योंकि वो वास्तव में नरेंद्र मोदी का एक विकल्प पेश करते हैं। मोदी की हर नीति को राहुल गांधी चुनौती देते नजर आते हैं। पिछले कुछ वर्षो में यदि विभिन्न राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव कि स्थति के बारे में भी यदि ध्यान दिया जाए तो, गुजरात समेत मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, कर्नाटक, मणिपुर, पांडिचेरी और छत्तीसगढ़ में पार्टी ने मजबूत स्थति कायम की। इसमें गुजरात में तो राहुल गांधी के ताबड़तोड़ प्रचार के चलते लगभग कांग्रेस पार्टी का बराबरी का मुकाबला रहा है। इन चुनावों में भी मतदाताओं ने राहुल गांधी के चेहरे को सामने में रख मतदान किया था, इससे इनकार नहीं किया जा सकता।

विकास उपाध्याय ने कहा कि, बीजेपी एक चुनौती है कहना गलत है। ये भी हमें नहीं भूलना चाहिए कि, पिछले विधानसभा चुनाव में दिल्ली और झारखंड में बीजेपी की हार भी हुई। इसलिए यह बात नहीं है कि, कांग्रेस या फिर विपक्ष बीजेपी को टक्कर नहीं दे सकते। या फिर उसका विकल्प नहीं बन सकते। राहुल गांधी एक मात्र नेता हैं, जो इसके वास्तविकता का लगातार खुलासा कर सामने आ रहे हैं। इसीलिए मोदी को भय है तो बस इस गांधी परिवार से, जिसे कांग्रेस को भी असली ताकत के रूप में अख्तियार करना चाहिए।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804