GLIBS
04-07-2020
सट्टा-पट्टी लिखते रंगे हाथ 5 आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

धमतरी। कुरूद पुलिस टीम ने सट्टा पट्टी लिखते 5 आरोपियों को गिरफ्तार  किया है। पुलिस टीम ने अलग-अलग स्थानों में दबिश देकर अंकों के आधार पर रुपए पैसों का दांव लगाकर सट्टा नामक जुआ खिलाते हुए गेंद लाल सेन, मुन्ना पाल, महेश कुमार कोसरे, संतोष चंद्राकर , प्रीतम सेन को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से कुल 21640 रुपए नगद, लाखों रुपए की सट्टा-पट्टी एवं 04 नग मोबाइल जप्त किया गया है। कुरूद पुलिस द्वारा  प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की जा रही है।

02-07-2020
शादी का झांसा देकर नाबालिग से दुष्कर्म करने वाला आरोपी गिरफ्तार

धमतरी। शादी करने का प्रलोभन देकर दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार थाना मगरलोड चौकी करेली बड़ी क्षेत्रांतर्गत 26 जून को एक नाबालिग के घर से बिना बताए कहीं चले जाने की रिपोर्ट परिवार वालों ने दर्ज कराई थी। परिजनों नाबालिग पुत्री को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बहला-फुसलाकर अपहरण करने की भी शिकायत दर्ज कराई थी। इसी दौरान सूचना मिली कि अपहृत नाबालिग को ग्राम चंद्रसुर निवासी यशवंत निषाद बहला-फुसलाकर अपने साथ भगाकर घर में रखा है। इस पर पुलिस ने संदेही यशवंत निषाद के घर में दबिश देकर अपहृत नाबालिग बालिका एवं संदेही यशवंत निषाद को पकड़ा। इसे अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई। यशवंत निषाद ने उक्त नाबालिग को अपने साथ भगाकर लाना तथा उसे अपने पास रखना बताया, जिस पर अपहृत नाबालिग बालिका को उसके कब्जे से बरामद कर नाबालिग से पूछताछ की गई। बालिका ने बताया कि शादी कर पत्नि बनाकर रखने का झांसा देकर बहला-फुसलाकर अपने साथ भगा कर लाया और दैहिक शोषण किया। पीड़िता के कथन एवं उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर मामले में धारा 366, 376 भादवि एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की धारा 6 जोड़ते हुए आरोपी यशवंत निषाद उम्र 21 वर्ष थाना मगरलोड को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर ज्युडिशियल रिमांड प्राप्त की गई। नाबालिग बालिका को उसके परिजनों को सुपुर्द किया गया है। मामले की जांच जारी है।

02-07-2020
युवक पर जानलेवा हमला, चार के खिलाफ जुर्म दर्ज

रायपुर। पूर्व में हुए विवाद को लेकर चार युवकों ने एक युवक पर जानलेवा हमला कर दिया, जिसकी रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 147, 148, 149 व 307 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है। घटना बुधवार रात करीब 9.30 बजे न्यू राजेन्द्रनगर के सब्जी मार्केट के पास की है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार घटना स्थल पर आरोपी रितेश साहू, आकाश, सागर एवं अन्य एक ने मिलकर संजू गोस्वामी से पूर्व में हुए विवाद की बात को लेकर उससे झगड़ा करते हुए लाठी-डंडा, स्टीक व चाकू से मारकर प्राण घातक चोट पहुंचाई, जिसे उपचार के लिए अस्पताल में दाखिल किया गया है। घटना के बाद घायल युवक की बहन संध्या गोस्वामी ने घटना की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर उनकी तलाश कर रही है।

01-07-2020
ब्याज नहीं देने के कारण की बुजुर्ग महिला की पिटाई, आत्महत्या कर दी जान

रायपुर। शहर के राजेन्द्र नगर थाना क्षेत्र में एक सप्ताह पहले एक बुजुर्ग महिला ने आत्महत्या कर अपनी जान दे दी थी। गौरतलब है कि लॉक डाउन में सब्जी बेचने वाली महिला का काम 2 महीने से बंद था। उसने कमल बंशीवाल से 60 हज़ार रुपए उधार लिया था। ब्याज के साथ प्रतिदिन महिला कमल बंशीवाल को 800 रुपए देती थी। लेकिन लॉक डाउन में जन-जीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त होने के कारण वह पैसे नहीं दे पा रही थी जिसके कारण आक्रोश में आकर कमल बंशीवाल ने महिला को अपने घर बुलाकर उसके साथ मारपीट की। मारपीट के घटना के 5 दिन बाद महिला ने आत्महत्या कर लिया था। महिला के पति ने ये बताया कि महिला को आत्महत्या किए एक सप्ताह हो गए लेकिन मामले में आरोपी की अब तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। मामले में पूर्व पार्षद गोविंद मिश्रा ने एसपी को ज्ञापन सौंपकर आरोपी के गिरफ्तारी की मांग की है।

30-06-2020
Video: मध्यप्रदेश के 102 पेटी शराब के साथ एक आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

महासमुन्द। सिटी कोतवाली पुलिस ने अंतरराज्यीय मध्यप्रदेश की शराब की खेप पहुंचाने वाले दो वाहनों में 102 पेटी शराब के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। रात का समय होने की वजह से एक आरोपी मौके का फायदा उठाते हुए वाहन छोड़ कर फरार हो गया है, जिसकी तलाश सिटी कोतवाली पुलिस कर रही है। आज स्थानीय कंट्रोलरूम में पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि महासमुन्द पुलिस को सूचना मिली कि दीगर प्रान्त के अवैध शराब की बहुत बड़ी खेप जिले में खपाये जाने के लिये आने वाली है। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) नारद कुमार सूर्यवंशी के मार्गदर्शन में थाना सिटी कोतवाली प्रभारी शेर सिंह बन्दे के नेतृत्व में टीम गठित कर इस पर कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया गया। 29 जून को मुखबीर से सूचना मिली। रात को अवैध शराब की बड़ी मात्रा महासमुन्द जिले में आने वाली है।

उक्त सूचना पर थाना कोतवाली की टीम ने रात 9 बजे से महासमुन्द आने वाले और जाने वाले सभी रास्तों पर नाकेबंदी कर अवैध शराब के वाहन का इन्तजार करने लगी। लगभग रात 10 बजे घोडारी पुल पर लगे टीम ने सूचना दी की दो वाहन तेज रफ्तार से निकल रही है। सम्भवतः यह वह संदिग्ध वाहन हो सकती है, जिसमें अवैध शराब भरा हो। कोतवाली पुलिस की टीम ने उक्त वाहन को रोकने के लिए बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग को नाकेबंदी का स्थल बनाया क्योंकि पूर्व में भी अवैध शराब से भरी हुई वाहन को चलाने वाले पुलिस पार्टी पर वाहन को चढाने से नहीं हिचकते बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग के पहले व बाद में तीक्ष्ण मोड है जहां पर वाहनों को धीमा करना पड़ता है, जिससे वाहनों को रोकवाना असान होता है, संदिग्ध वाहन जैसे ही बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग के मोड में पहुंचती है वैसी कोतवाली पुलिस की टीम रेलवे क्राॅसिंग के पास एक वाहन को रोक लिया। फाॅर्चुनर वाहन क्रमांक सीजी 04 एच ई 0003 के चालक से पूछताछ करने लगी। उसी समय एक और वाहन पिछले से पहुंची जिसका चालक घुमाकर भागने का प्रयास करता है लेकिन पुलिस की नाकेबंदी देखकर उसका वाहन चालक वाहन को छोडकर अंधेरे का फयादा उठाकर भाग निकला।

फाॅर्चुनर वाहन पे सवार ने अपना नाम जयंत बंजारे निवासी कैम्प 1 मेहमान कोलाडीपों के सामने शास्त्रीनगर भिलाई जिला दुर्ग बताया। पुलिस को उक्त वाहन से 62 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्राड, दूसरे वाहन एम एच 14 बी सी 1151 से 40 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्राड शराब बरामद किया गया। पुलिस को दोनों वाहन और एक आरोपी सहित 102 पेटी शराब को जब्त कर पूछताछ की तो पुलिस को शराब भिलाई के एक व्यक्ति से लाना बताया गया है। उक्त मामले में महासमुन्द पुलिस भिलाई पुलिस से संपर्क कर मामले की जांच कर रही है। आरोपी से बरामद की कीमत 5 लाख, 2 वाहन कीमत 15 लाख और गिरफ्तार आरोपी से 10 हजार नगद जब्त कर धारा 34(2) आबकारी अधिनियम के तहत सिटी कोतवाली कार्रवाई कर रही है। उक्त कार्रवाई में  पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्भुरकर साहू एवं अनु.अधिकारी नारद सूर्यवंशी के निर्देशन में थाना सिटी कोतवाली प्रभारी शेर सिंह बन्दे, सायबर सेल प्रभारी उप निरीक्षक संजय सिंह राजपूत, उप निरीक्षक हर्ष कुमार धूरंधर, सउनि. विकास शर्मा, नवधाराम खाण्डेकर, प्रआर. प्रकाश नंद, मिनेश ध्रुव, आर. रवि यादव, अजय जांगडे, दिनेश साहू, विरेन्द्र नेताम, शैलेन्द्र ठाकुर, चम्पलेश ठाकुर, शुभम पाण्डेय, छत्रपाल सिन्हा, कामता आवडे, लालाराम कुर्रे शामिल थे।

28-06-2020
जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में महिला से छेड़छाड़, आरोपी वार्ड बॉय गिरफ्तार

कोरबा। जिले में एक शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। जानकारी के अनुसार ओडिशा से कोरबा लौटी महिला अपने 2 बच्चों के साथ कटघोरा विकासखंड के क्वारंटाइन सेंटर में रह रही थी। क्वारंटाइन सेंटर से इलाज के लिए उसे जिला अस्पताल लाया गया था। यहां वार्ड बॉय से महिला को अकेला पाकर उससे छेड़छाड़ शुरू कर दी। बाद में महिला के शोर मचाने पर वो भाग गया। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि महिला को सेंटर में रहते हुए 11 दिन बीत चुके थे। 26 जून की रात को महिला की अचानक तबीयत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल रिफर किया गया। महिला का आरोप है कि इलाज के दौरान अस्पताल के वार्ड बॉय शुभम गिरी गोस्वामी ने उससे दुष्कर्म का प्रयास किया। महिला ने चिल्लाकर किसी तरह अपनी लाज बचाई। अस्पताल में शोर मचते ही आरोपी शुभम अस्पताल से फरार हो गया।

पीड़ित महिला के दो छोटे बच्चे हैं। वह बच्चों के साथ ही जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हुई थी। महिला के परिजनों ने बताया कि महिला ने वार्ड बॉय से गर्म पानी मांगा तब, वह महिला को रूम में आने की बात कहने लगा जिसके बाद आरोपी ने महिला से बच्चों को जल्दी सुला देने को कहा, इसके बाद रात करीब 11 बजे वार्ड बॉय शुभम गोस्वामी इंजेक्शन लेकर महिला के वार्ड में प्रवेश किया, महिला को इंजेक्शन लगाने के बाद उससे छेड़छाड़ करने लगा और दुष्कर्म करने का प्रयास किया। महिला ने बाहर बैठे सुरक्षा कर्मियों को चिल्लाते हुए आवाज लगाई, तब तक वार्ड बॉय मौके से फरार हो गया था। महिला ने इसकी शिकायत रामपुर चौकी में की है। घटना को गंभीरता से लेते हुए रामपुर चौकी प्रभारी और उनकी टीम ने आरोपी को रात में ही खोज निकाला और गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी युवक शुभम गोस्वामी जिला अस्पताल में वार्ड बॉय का काम करता है, जो कि रामपुर चौकी क्षेत्र अंतर्गत पोड़ी बाहर का रहने वाला है।

28-06-2020
जेल प्रहरी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज

कोरबा। कटघोरा उप जेल के रिश्वत कांड में निलंबित चल रहे पूर्व जेल प्रहरी पर कटघोरा थाना क्षेत्र की एक युवती ने दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। युवती ने अपनी रिपोर्ट में बयान दिया है कि उक्त आरोपी अक्सर उसके घर घुस जाया करता था और एक दिन मौका पाकर आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। युवती की रिपोर्ट पर कटघोरा पुलिस ने आरोपी जेल प्रहरी धीरेंद्र सिंह परिहार के खिलाफ अपराध कायम कर लिया है। मामला कटघोरा उप जेल में निलंबित चल रहे जेल प्रहरी धीरेंद्र सिंह परिहार से जुड़ा हुआ है। यह निलंबित जेल प्रहरी पूर्व में रिश्वत कांड के कारण चर्चा में आया था।

पिछले साल ही दिसंबर में आरोपी ने एक कैदी के परिजन से दस हज़ार की घूस मांगी थी। तब उसे एसीबी की टीम द्वारा दस हज़ार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था और सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था। फिलहाल आरोपी धीरेंद्र सिंह परिहार जमानत पर बाहर हैं। युवती ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि आरोपी धीरेंद्र सिंह परिहार अक्सर जब वह घर पर अकेली रहा करती थी तो बुरी नियत से उसके घर घुस जाया करता था। एक दिन आरोपी ने सारी हदें पार कर दी और उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दे दिया। युवती ने हिम्मत कर अपने साथ हुई इस घटना की जानकारी कटघोरा थाने पहुंच कर दी और फिर कटघोरा पुलिस ने युवती की रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर भादवि की धारा 376,450 के तहत अपराध कायम कर लिया है। इसके साथ ही कटघोरा पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने अपना अभियान तेज कर दिया है।

27-06-2020
महाराष्ट्र की बनी 30 पाव शराब के साथ पकड़ाया आरोपी

राजनांदगांव। डोंगरगांव में पिछले लंबे समय से अवैध शराब का कारोबार चल रहा है। पुलिस द्वारा भी लगातार कार्यवाही की जा रही है। लेकिन लोग अपनी हरकतों को छोड़ नहीं रहे हैं। शनिवार को सूचना पर प्रभारी निरीक्षक शिवेन्द्र सिंह राजपूत ने एक व्यक्ति से 30 पाव देशी महाराष्ट्र की बनी शराब पकड़ी। आरोपी के पास से स्कूटी जब्त की गई। आरोपी पर धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही की गई।

27-06-2020
हाईटेक स्टाइल में चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 4 गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी में हाईटेक स्टाइल में आधा दर्जन चोरियों की वारदात को अंजाम देने वाले एक गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। गिरोह के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से चोरी के सात लाख के सामान बरामद किया गया है। आरोपी चोरी के दौरान वॉकी-टॉकी का इस्तेमाल किया करते थे। रायपुर में हो रहे लगातार चोरी की घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध पंकज चंद्रा एवं नगर पुलिस अधीक्षक उरला अभिषेक माहेश्वरी को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तारी के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिस पर उक्त राजपत्रित अधिकारियों द्वारा मौके पर जाकर घटना स्थल का निरीक्षण किया गया एवं कार्य योजना तैयार कर सायबर सेल एवं थानों से पृथक-पृथक टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया जाकर घटना के संबंध में विभिन्न थाना क्षेत्रों के प्रार्थीगण तथा आसपास के लोगों से घटना के संबंध में विस्तृत पूछताछ किया गया।

नकबजनी व चोरी के पुराने एवं हाल ही में जेल से रिहा हुए व्यक्तियों के संबंध में भी जानकारियां एकत्र की जाकर घटना स्थल के आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करने के साथ-साथ तकनीकी विश्लेषण कर अज्ञात आरोपियों को चिन्हांकित करने के प्रयास किये जा रहे थे। सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के अवलोकन से आरोपियों के आने जाने वाले रास्तों का पता चला जिस पर टीम ने उस स्थान के आसपास के इलाकों में रहने वाले पुराने नकबजन एवं अपने मुखबिरों से संपर्क स्थापित किया। इसी दौरान टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि शाहिल कौशालय जो हिमालयन हाईट्स में ही निवास करता है तथा रायपुर शहर में अपने दोस्तों के साथ मिलकर किराये का घर लिया हुआ है, जिसका हुलिया फूटेज से प्राप्त फोटो से मैच कर रहा था।  टीम द्वारा शाहिल कौशालय को पकड़ेर चोरी के संबंध में पूछताछ करने पर बार-बार अपना बयान बदल रहा था एवं किसी भी प्रकार की घटना में अपनी संलिप्तता नहीं होना बताकर लगातार टीम को गुमराह करने का प्रयास कर रहा था।

जिस पर टीम द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी ने अपने अन्य 3 साथियों के साथ मिलकर रायपुर शहर के विभिन्न थाना क्षेत्रों (राजेन्द्र नगर, पुरानी बस्ती, मुजगहन) में चोरी करना स्वीकार किया गया। टीम द्वारा आरोपियों की निशानदेही पर चोरी की सोने चांदी के जेवरात, 2 नग लेपटॉप, एलईडी टीव्ही, इलेक्ट्रानिक सामान, घरेलु सामाग्री, वॉकीटॉकी एवं घटना में प्रयुक्त 1 नग एक्टिवा एवं 1 नग बुलेट मोटर सायकल जुमला कीमती 7 लाख रुपये बरामद किया गया है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। गिरफ्तार आरोपियों में शाहिल कौशालय निवासी एच.आई.जी. 107 ब्लॉक नं.4 हिमालयन हाईट तेलीबांधा थाना, सचिन टण्डन निवासी कृष्णपुरी देवपुरी कुर्सी फैक्ट्री के पास देवपुरी थाना टिकरापारा, शुभम सेन निवासी गली नं.8 महात्मा गांधी नगर पेट्रोल पंप के पास अमलीडीह थाना न्यू राजेन्द्र नगर एवं रोहित मुखर्जी निवासी ढेबर सिटी भांठागांव थाना पुरानी बस्ती शामिल है।

26-06-2020
Video: बुजुर्ग की हत्या की गुत्थी सुलझी, चंद घंटों में पकड़ा गया आरोपी

दुर्ग। शहर के जीवन प्लाजा में बुधवार को हुई बुजुर्ग की हत्या की गुत्थी को दुर्ग पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस ने महज कुछ घंटे के अंदर ही आरोपी को पकड़ने में सफलता हासिल की है। गौरतलब है कि घटनास्थल पर सीसीटीवी कैमरा नहीं होने से व मृतक का किसी अन्य लोगों से कोई लड़ाई झगड़ा वाद विवाद नहीं होने से पुलिस को कोई सुराग नहीं मिल पा रहा था। आरोपी को पकड़ने की बड़ी चुनौती पुलिस के सामने थी लेकिन पूरी टीम के प्रयास से कड़ी से कड़ी को जोड़कर सुराग मिल पाया और संदेह के आधार पर एक अपचारी बालक को पकड़कर पूछताछ की गई। पूछताछ में अपचारी बालक ने अपना जुर्म कुबूल किया। इस पूरे मामले में दुर्ग सीएसपी विवेक शुक्ला ने जानकारी दी है। 

 

 

24-06-2020
लाखों रूपए के जेवरात के साथ आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। शहर में लाखों रुपए के जेवरात के साथ आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मिली जानकारी के अनसुार टिकरापारा थाना क्षेत्र में 17 जून को अनिल जैन के घर से आरोपी चोर ने दबिश देकर डेढ़ लाख रुपए के सोने चांदी के सिक्कों के साथ नगदी रूपए पार कर दिए थे। पुलिस ने कार्रवाई कारते हुए आरोपी शंकर को मामले में गिरफ़्तार कर चोरी का सामान बरामद कर लिया है।

24-06-2020
महिला का अपहरण कर 3 दिन तक करता रहा दुष्कर्म, मुख्य आरोपी और सहयोगियों के खिलाफ जुर्म दर्ज

कोरबा। 19 जून की देर रात एक नवविवाहिता का अपहरण करने के बाद 3 दिनों तक उसके साथ जबरन दुष्कृत्य को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी सहित अपहरण में सहयोगकर्ता 2 लोगों के विरुद्ध अपराध दर्ज़ कर आरोपी की तलाश की जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार पसान थाना क्षेत्र में 21 वर्षीय पीड़िता 19 जून को देर रात लघुशंका के लिए घर से बाहर निकली थी। इस दौरान वहां गांव का भैयालाल पहुंचा और अपने साथी हरिदयाल पोर्ते की मदद से महिला का अपहरण कर लिया। साथ लाए गमछा से महिला का मुंह बांधकर उसे उठाकर जंगल की ओर ले जाकर भैयालाल ने दुष्कर्म किया। इसके बाद भैयालाल व हरिदयाल ने मिलकर महिला को गांव के मुख्य सड़क तक लाया, जहां उसके सहयोगी शिवशंकर मोटरसाइकिल लेकर मौजूद था।

मोटरसाइकिल पर महिला को जबरन बिठाया गया और वहां से ग्राम कारीछापर स्थित एक मकान में ले गए। मकान में भैयालाल ने जान से मारने की धमकी देकर व गाली-गलौज करते हुए महिला के साथ दुबारा दुष्कर्म किया व 20 और 21 जून को भी यह दरिंदगी दोहराई। पीड़िता के मुताबिक उसने किसी तरह अपने भाई और पिता से संपर्क किया और वे कारीछापर स्थित उक्त मकान में पहुंचे, जिन्हें देखकर तीनों आरोपी भाग निकले। पीड़िता ने अपने पिता व भाई के साथ थाना पहुंचकर घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। बताया गया कि दुष्कर्म की वारदात को भैयालाल ने 3 दिनों तक अंजाम दिया, जबकि हरिदयाल और शिवशंकर ने महिला का अपहरण और निगरानी करने में मुख्य आरोपी की पूरी मदद की। आरोपियों के विरुद्ध अपराध दर्ज कर आरोपी की तलाश की जा रही है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804