GLIBS
18-09-2020
78 किलो गांजा सहित दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर/जगदलपुर। जिले की कोतवाली पुलिस ने कार से 78 किलो गांजा सहित 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से बरामद गांजे की अनुमानित बाजार मूल्य 3 लाख 90 हजार रुपये आंकी गई है। एसआई अमित सिदार ने बताया कि गुरुवार को मुखबिर से मिली सूचना पर एक सिल्वर रंग की कार क्रमांक सीजी 12 वाय 1200 में 2 युवक आंनद राम सारथी व महेश केवट ने कार की डिक्की में सफेद रंग के 3 बोरी में 78 किलो गांजा परिवहन कर रहे थे। एनएमडीसी चौक के पास पुलिस ने आरोपी को घेराबंदी कर गिरफ्तार किया है। आरोपियों के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। विदित हो कि कोतवाली पुलिस ने एक दिन पहले 21 किलो गांजा पकड़ा गया था। गांजे की घरपकड़ की कार्यवाही में एसआई अमित सिदार, एसआई होरीलाल नाविक, एसआई पीयूष बघेल, एएसआई सतीश वास्तव, वेद प्रकाश देशमुख, तरुण पटेल, शंकर चांदले शामिल थे।

12-09-2020
शक पर पुलिस ने की पूछताछ, 67 लाख रुपए की चोरी की गु्त्थी सुलझी

रायपुर। शहर के मौदहापारा थाना क्षेत्र स्थित शहीद स्मारक कॉम्प्लेक्स स्थित शॉप में 67 लाख की चोरी मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक तीनों आरोपी बादल उर्फ (झनक), गोपाल और रमेश महानंद पहले से ही चोरी की घटना को अंजाम देने की फिराक में थे। घटना का मास्टर माइंड बादल है। साथ ही गोपाल के खिलाफ कोतवाली थाने में पहले से ही कई अपराध दर्ज है।

बता दें कि तीनों आरोपी को यह जानकारी नहीं था कि पैसा कौन से दुकान में है। यहीं कारण था कि आरोपियों ने आसपास की दो दुकानों का भी ताला तोड़ा था। जहां एक दुकान से करीब 3 हजार और कुछ इलेक्ट्रॉनिक सामान ले गए। वहीं दूसरे दुकान से 1500 रुपए चुरा लिए। जबकि तंबाखू गुटखा डिस्ट्रीब्यूटर पुनीत काबरा के हरिओम एजेंसी की शटर का सेंट्रल लॉक तोड़कर नगदी 67 लाख रुपए उड़ा ले गए। घटना के 12 घंटे बाद तक पुलिस टीम ने एक आरोपी गोपाल को शक के अंदेशा में उठाया। तीनों आरोपी पहले मौदाहपारा इलाके में रहते थे। बस्ती हटने के बाद वे तीनों कबीरनगर चले गए थे।

10-09-2020
घर में घुसकर युवती से छेड़छाड़, आरोपी गिरफ्तार

राजनांदगांव। घर में घुसकर छेड़खानी का मामला सामने आया है। मामला जिले के गंडाई थाना क्षेत्र  का है। ग्राम घोघा की युवती अपने घर में सोई थी। रात को गांव के ज्ञानेन्द्र राजपूत ने घर में घुसकर युवती से छेड़छाड़ किया। युवती के शोर मचाने पर आरोपी भाग गया। युवती ने ग्रामीणों को सूचित किया। घटना के संबंध में युवती ने थाना में लिखित शिकायत की। इस पर आरोपी के विरूद्ध विभिन्न धाराओं में मामला पंजीबद्ध किया गया। थाना प्रभारी गंडई सुषमा सिंह ने आरोपी ज्ञानेन्द्र सिंह राजपूत उम्र 26 साल को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया व जेल दाखिल किया गया।

08-09-2020
ट्रस्ट की जमीन को अपना बताकर फर्जी तरीके से बेचने वाला एक आरोपी गिरफ्तार,दूसरे आरोपी को लेने टीम रवाना

धमतरी। थाना अर्जुनी में प्रार्थी गोविंद देवांगन ग्राम खोरपा ने लिखित आवेदन दिया कि सुकृत दास एवं संजय साहू ने षड्यंत्र कर दूसरे की भूमि को अपना होना बताकर फर्जी इकरारनामा तैयार कर धोखा देकर उससे 75000 रुपए लिए हैं। इनके विरुद्ध थाना अर्जुनी द्वारा अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं विवेचना में लिया गया एवं धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया। गोविंद देवांगन ने बताया कि धमतरी कुरूद मार्ग पर सरसोपुरी के पास स्थित भूमि को सुकृत दास और उसके पुत्र संजय साहू ने अपना बताकर उक्त भूमि को 28 अक्टूबर 2019 को मौके पर दिखा कर अपना होना बताया।

खसरे की भूमि जो 19 एकड़ 50 डिसमिल,कीमत 25200000/- लिखित रूप में सौदा तय कर मुझसे 75000/- नगद बयाना के रूप में लिया गया। गोविंद देवांगन ने बताया कि जब उक्त भूमि का पता किया गया तो पता चला कि वो जमीन आज की तारीख में कबीर निर्णय मंदिर बुरहानपुर नागझिरी( मध्यप्रदेश) ट्रस्ट के नाम में राजस्व रिकार्ड में दर्ज है। यह सुकृत दास के नाम पर नहीं है। उसके बाद भी सुकृत दास ने 13 नवंबर 2019 को लिखित में फर्जी इकरारनामा तैयार कर मुझसे 75000/- बयाना लेकर धोखाधड़ी की। धोखाधड़ी करने वाले आरोपी संजय साहू पिता सुकृत को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया। वहीं दूसरे आरोपी के गिरफ्तारी के लिए टीम रवाना की गई है।

 

07-09-2020
 महिला को ब्लैकमेल करने वाला आरोपी गिरफ्तार, खींचा था मोबाइल से फोटो

कोरबा। रक्षाबंधन के मौके पर मायके आई नवविवाहिता के साथ सेल्फी लेकर ब्लेकमेलिंग करनेवाला आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा गया। 18 जुलाई को पीड़िता अपने मायके में रक्षाबंधन मनाने आई थी और वही रह रही है। पीड़िता के जन्मदिन पर आरोपी ने पीड़िता के साथ जबरदस्ती सेल्फी ले लिया था। आरोपी पीड़िता को अकेली पाकर छेड़छाड़ किया करता था। मना करने पर आरोपी खींचा गया फोटो को उसके पति को भेजने की एवं पीड़िता के माता पिता को जान से मारने धमकी देता था। पीड़िता ने इसकी रिपोर्ट दर्री थाना में दर्ज कराई। आरोपी के खिलाफ धारा 354, 509 (ख) भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया। जांच के दौरान आरोपी रिजवान खान उम्र 25 वर्ष के खिलाफ अपराध सिद्ध पाये जाने पर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेज दिया गया है।

 

07-09-2020
निकाय चुनाव में नाम वापस लेने के लिए बनाया था दबाव, जांच के बाद हत्या के लिए प्रेरित करने वाला आरोपी गिरफ्तार

कोरबा। दर्री में 19 दिसंबर 2019 को राखड डेम नदियाँ खार में 1 साल पुराने मामले में जांच पूरी होने के बाद पुलिस ने आरोपी राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया है। दर्री सीएसपी खोमन लाल सिन्हा ने पत्रकारवार्ता में बताया कि वर्ष 2019 में नगरीय निकाय चुनाव हुए थे। उस समय दर्री क्षेत्र के एक वार्ड से रामबाई पटेल निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में थी। उनके मुकाबले में एक अन्य प्रत्याशी सामने थी। उसके पति के द्वारा राजकुमारी को नाम वापस लेने के लिए कोमल पटेल पर लगातार दबाव बनाया जा रहा था, जिसके बाद 19 दिसंबर को कोमल पटेल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। सीएसपी ने बताया कि मौके से एक सुसाइड नोट प्राप्त हुआ था जिसमें धमकी देने की बात लिखी हुई थी। फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के माध्यम से इसकी जांच कराई गई। इसमें राइटिंग मृतिका की पाई गई। सीएसपी ने बताया कि इस मामले में परिजनों के बयान लिए जा चुके हैं और आगे की कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल पुलिस ने आत्महत्या के लिए उत्पीड़ित करने वाले आरोपी को धारा 306 आईपीसी के अंतर्गत गिरफ्तार कर लिया है।

07-09-2020
पुलिस थानों में ऑपरेटर की नौकरी लगाने का चल रहा था खेल, फर्जी ज्वाइनिंग लेटर भी थमाया...

कवर्धा। जिले में पुलिस थानों में फर्जी कम्प्यूटर ऑपरेटर की नौकरी लगाने का बड़ा खेल चल रहा था जिसका भांडा फूटने के बाद 4 आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा है। मिली जानकारी के अनुसार शहर में बेरोजगार युवकों को एक एजेंसी के माध्यम से पुलिस विभाग में नौकरी लगाने युवाओं से 20 हजार से अधिक रुपए ले लिए थे। इसके बाद एक हॉल में उन्हें ट्रेनिंग देते थे। एक दिन के प्रशिक्षण के लिए करीब 16 युवकों को दुर्ग ट्रेनिंग के नाम पर ले गए। फर्जी कंपनी ने ट्रेनिंग पूरी हो गई करके उन्हें अलग-अलग थानों में ज्वाइनिंग लेटर भी थमा दिया। इसके बाद युवक थाना पहुंचे तो पता चला उनका ज्वाइनिंग लेटर ही फर्जी है। इसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ। आरोपियों के पास से कम्प्यूटर, टेबल, प्रिंटर्स, फोन व फर्नीचर्स जब्त किए गए है। साथ ही 4 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है।

07-09-2020
सरपंच से लाखों रुपये की ठगी, नौकरी लगाने के नाम पर फर्जी अपर कलेक्टर बनकर लगाया चूना

रायपुर। प्रदेश में ठग ने अपर कलेक्टर के नाम से एक सरपंच को अपने झांसे में लेकर 23 लाख रुपये से ज्यादा का चूना लगा दिया। कथित अपर कलेक्टर निर्मल तिग्गा ने पूरा पैसा देने पर 10 जुलाई को नियुक्ति पत्र देने के लिए कहा। दोनों एटीएम कार्ड से आरोपी ने 5,14,207 रुपये निकाल लिये। 7 जुलाई को आरोपी के कथित भतीजे को रायपुर में 9 लाख 31 हजार रुपये और दे दिया। पीड़ित सरपंच के मुताबिक आरोपी ने नियुक्ति पत्र मंत्रालय में देने के लिए कहा लेकिन वहां पहुंचने पर आरोपी नहीं आया। इसके बाद उसका मोबाइल लगातार बंद आते रहा जिसके बाद जब सरपंच को ठगी का एहसास हुआ तो उसने एसएसपी रायपुर को अपने साथ ठगी होने की लिखित शिकायत सौंपी। ठगी का शिकार होने वाला सरपंच जशपुर जिले के फरसाबहार थाना क्षेत्र स्थित ग्राम सिकिरमा का रहने वाला है।

सरपंच के मुताबिक अप्रैल में उसके मोबाइल में फोन आया और सामने वाले व्यक्ति ने अपना परिचय अंबिकापुर के अपर कलेक्टर निर्मल तिग्गा के रूप में दिया। उसने कहा कि अंबिकापुर, बलरामपुर और जशपुर में डाटा एंट्री ऑपरेटर, क्लर्क, भृत्य एवं वाहन चालकों के पदों 1380 पर सीधी भर्ती करना है। सरपंच का कहना है कि अपना परिचय अपर कलेक्टर बताने पर उसकी बातों पर विश्वास करते हुए तकरीबन डेढ़ दर्जन रिश्तेदारों की नौकरी के लिए 25 लाख रुपए में बात तय हुई। आरोपी ने पैसा रायपुर में देने के लिए कहा और रायपुर आने के लिए एक गाड़ी भी बुक करके दी। 14 जून को रायपुर पहुंचने पर उसके बताए हुए व्यक्ति को 9 लाख 20 हजार रुपये नगद और बहनों के दो एटीएम कार्ड पिन नंबर सहित उसके हवाले कर दिया। नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी किये जाने का मामला सामने आया है। मामले में पुलिस द्वारा जांच की जा रही है।

06-09-2020
खुद को सीएम का भतीजा बताकर महिला से 50 हजार की ठगी, आरोपी गिरफ्तार...

भिलाई। मुख्यमंत्री का भतीजा बनकर सरकारी नौकरी लगाने के नाम पर 50 हजार की ठगी करने वाले आरोपी को भिलाई-3 पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी के खिलाफ ठगी का अपराध पंजीबद्ध किया गया है। भिलाई 3 थाना प्रभारी संजीव मिश्रा ने बताया कि प्रार्थी प्रशांत शुक्ला पुराना बाजार चौक पाटन थाना पाटन का रहने वाला है। उसकी पत्नी द्वारा व्यायाम टीचर के लिए जुलाई सन् 2020 में आवेदन जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में दिया गया था। गुलशन बघेल निवासी दीपक नगर दुर्ग का 20 जुलाई 2020 को सिरसा गेट भिलाई 3 में बुलाया। तब प्रशांत अपने दोस्त लवजीत सिंह बैकुण्ठ नगर केम्प 2 भिलाई एवं आदित्य तिवारी पाटन के साथ पहुंचा। उसी समय गुलशन आया और बोला की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी मेरे चाचा है किसी की नौकरी लगाना है तो बताओं तब मैं गुलशन बघेल को बोला मेरी पत्नि व्यायाम टीचर में फार्म भरी है।

उसकी नौकरी लगवा दो तब गुलशन बघेल बोला दो लाख रुपये लगेगा नौकरी लग जाएगी। तब मैं उसे बोला अभी 50,000 रुपये नगद ले लो बाकी डेढ लाख रुपये नौकरी लग जाने पर दूंगा। गुलशन बघेल तैयार हो गया। 50,000 रुपये नगदी अपने दोस्त लवजीत सिंह एवं आदित्य तिवारी के समक्ष दिया। 4-5 दिन बाद पता चला कि गुलशन बघेल मुख्यमंत्री का भतीजा नहीं है। फर्जी व्यक्ति है फर्जी तरीके से ठगी कर अवैध लाभ प्राप्त करने की गरज से उक्त कृत्य किया है। अपने पैसे गुलशन बघेल से वापस मांगा तो पैसा वापस करने की वजह धमकाने लगा। तब प्रशांत के द्वारा विलायती थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत की। इस शिकायत पर अपराध धारा 420 भादवि का घटित करना पाये जाने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपी को भिलाई 3 पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया।

04-09-2020
फेसबुक पर आश्रम और डायरेक्टर के खिलाफ अनर्गल पोस्ट करने वाला युवक गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी के संत कबीर आश्रम और उसके डायरेक्टर के खिलाफ फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में पुलिस ने गुजरात से आरोपी चिरंजीव दास को गिरफ्तार किेया है। आरोपी के खिलाफ मुजगहन पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया था। बताया जा रहा है कि आरोपी पहले आश्रम में ही कार्य करता था लेकिन उसके द्वारा वित्तीय गड़बड़ी करने के पश्चात उसे आश्रम से निकाल दिया गया था। जानकारी के अनुसार मुजगहन इलाके में कबीर पंथ सतगुरु मानव सेवा असंग नाम से एक आश्रम है। वहां के डायरेक्टर ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके आश्रम और उनके बारे में कोई व्यक्ति फेसबुक में आपत्तिजनक टिप्पणियां कर रहा है और उनके फ़ोटो मॉफ करके पबिल्श कर रहा है। जिस पर थाना मुजगहन में आईटी एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया गया था। मामले में पुलिस ने जांच के बाद गुजरात के वडोदरा से आरोपी चिरंजीव दास की गिरफ्तारी की है जिसे गुरूवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। बताया जाता है कि आरोपी पहले आश्रम में ही काम करता था इस दौरान उसने कुछ वित्तीय गड़बड़िया की थी जिसके बाद उसे आश्रम से निकाल दिया गया था। इससे चिढ़कर आरोपी द्वारा आश्रम के खिलाफ फेसबुक में अनर्गल टिप्पणियां कर रहा था।

04-09-2020
गांजा तस्करी करते दो आरोपी गिरफ्तार, 360 किलो गांजा जब्त

रायपुर/कसडोल। बलौदाबाजार पुलिस ने गांजा तस्करी के मामले में महाराष्ट्र के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 360 किलो गांजा बरामद किया है। गिरफ्तार किये गए आरोपियों का नाम प्रफुल्ल और कृष्णा है। जानकारी के अनुसार पुलिस को सूचना मिली थी कि दो लोग स्वराज माजदा गाड़ी में गांजा लेकर ओडिशा से गोंदिया महाराष्ट्र की ओर जा रहे हैं। सूचना पर गिधौरी थाना पुलिस ने पुलिनी मोड़ के पास घेराबंदी कर गाड़ी को पकड़ा। गाड़ी की तलाशी लेने पर उसके अंदर 360 किलो गांजा बरामद किया। इसकी कीमत 18 लाख रुपये बताई जा रही है। आरोपियों के खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804