GLIBS
01-04-2020
शराब बेचते युवक गिरफ्तार

रायपुर। शहर के तेलीबांधा थाना पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर वीआइपी रोड में शराब बेचते एक युवक को गिरफ्तार किया है। मिली जानकारी के अनुसार आरोपी दुर्नेश लिन्हारे मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले के रामपाली थाना क्षेत्र का रहने वाला है। पुलिस ने आरोपी के झोले में तीन बोतल अंग्रेजी शराब और पांच सौ रुपये जब्त किए हैं।

28-03-2020
पहले की मासूम की हत्या, फिर थाने पहुंच दर्ज करवाई गुमशुदगी की रिपोर्ट, पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार

भिलाई। खुर्सीपार के वार्ड 31में दो साल के मासूम का शव मिलने से सनसनी फैल गई। पता चला कि मासूम हत्या गला घोंटकर की गई है। आरोपी ने बड़ी ही क्रूरता से बच्चे की हत्या की थी और शव को छुपा दिया था। फिलहाल आरोपी पुलिस हिरासत में है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक का नाम आमीर (2 वर्ष) है। मृतक का पिता शाह पेशे ट्रक चालक है और पिछले 10 दिनों से घर से बाहर है। मृतक बच्चे की मां शबाना अपने दो बच्चों के साथ कबीर मंदिर के पीछे किराए के मकान में रहती है। यहां पर सैय्यद शमसीर नाम के युवक का आना जाना लगा रहता है। इसी वजह से शमसीर ने मासूम की हत्या कर दी। हत्या के बाद बड़ी चालाकी से स्वयं बच्चे की मां के साथ बच्चे की गुमसुदगी की शिकायत करने खुर्सीपार पुलिस थाने पहुंचा था। दिनभर की तलाश के बाद पुलिस ने बच्चे का शव शमसीर के कमरे से बरामद किया। आरोपी शमसीर ने मासूम आमीर की हत्या करने से पहले गुरवार को सुबह उससे काफी मारपीट भी की। गुरुवार शाम को भी मासूम के साथ मारपीट की और बड़ी बेरहमी से मासूम का गला घोंटकर मार दिया। बच्चे के शव को अपने कमरे में लाकर कपड़े में लपेटकर लोहे के पलंग पर एक किनारे पर रख दिया था। शुक्रवार की सुबह वह स्वयं मासूम बच्चे की माँ शबाना के साथ पुलिस थाने पहुंचा और बच्चे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने बच्चे की तलाश छावनी से लेकर हथखोज तक की। कुछ पता नहीं चलने पर स्नीफर डॉग का सहारा लिया। डॉग आरोपी के किराए के मकान के आसपास तक पहुंची। पुलिस को शक हुआ तो आरोपी के कमरे की तलाशी गई तो शव बरामद हुआ फिलहाल पुलिस ने मामले को मर्ग कायम कर अपनी विवेचना में लेकर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

22-03-2020
2 लाख की अफीम के साथ युवक गि​रफ्तार

रायपुर। शहर के बीरनगरक थाना पुलिस ने वीरसावरकर नगर हीरापुर में एक युवक 310 ग्राम अफीम के साथ पकड़ा है। कबीरनगर थाना प्रभारी एलपी जायसवाल के अनुसार मुखबिर से मिली सूचना पर वीरसावरकर नगर, हीरापुर निवासी आरोपी हरप्रीत सिंह उर्फ बब्बू को बाइक सीजी 04 एमजेड 1086 में जाते हुए पकड़ा गया है। उसकी तलाशी करने पर प्लास्टिक में बंधा हुआ 310 ग्राम अफीम बरामद हुआ जो कि दो लाख रुपए का बताया जा रहा है। आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की धारा 18 के तहत कार्रवाई की गई।

21-03-2020
पत्नी को आत्महत्या के लिए उकसाने वाले आरोपी पति को पुलिस ने 2 साल बाद किया गिरफ्तार

भिलाई। शराब पीकर अपनी पत्नी के साथ मारपीट कर उसको आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाले पति को पुलिस ने दो साल बाद गिरफ्तार किया। आरोपी पति के खिलाफ पुलिस ने धारा 306 के तहत जुर्म दर्ज किया है। छावनी पुलिस ने बताया कि आदर्श नगर कैम्प 1 निवासी रेशम चौधरी उर्फ रष्मि का विवाह सन 2012 में हरिशंकर चौधरी के साथ हुआ था। 26 जून 2018 को हरिशंकर शराब पीकर अपने घर पहुंचा और रश्मि के साथ मारपीट करने लगा। पति पत्नी का विवाद इतना बढ़ गया कि घटना की रात 2 बजे रश्मि ने अपने शरीर पर मिट्टी तेल उडेलकर आग लगा ली। जिसे गंभीर अवस्था में उपचार के लिए जिला अस्पताल में भेजा गया। जहां उपचार के बाद 30 जून को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को विवेचना में लिया और घटना के बाद से पति हरिशंकर फरार हो गया।

पुलिस आरोपी पति की गिरफ्तारी के लिए खोजबीन करती रही, लेकिन उसके नहीं पकड़े जाने के बाद तत्कालीन पुलिस अधीक्षक ने 29 सितंबर 2018 को पकड़ने के लिए 3000 रूपए का इनाम रखा था। आरोपी हरिशंकर चौधरी को पकडने के लिए सीएसपी छावनी विश्वास चंद्राकर ने टीम बनाई थी। टीम मे उप निरीक्षक केपी सिदार, सउनि राजेश पाण्डेय, अजय सिंह, प्रधान आरक्षक पारस सिन्हा, चेतन साहू, आरक्षक अरविंद मिश्रा, अखिलेश मिश्रा, अजीत यादव, सत्येन्द्र मढरिया, अनिल सिंह को शामिल किया गया। मुखबिर से टीम कोे सूचना मिली थी कि आरोपी हरिशंकर चौधरी अपने निवास एक दो घंटे के लिए आत है। जिस पर पुलिस ने रायपुर इण्डस्ट्रीयल एरिया मे पतासाजी की, जहां से पता चला कि आरोपी कुम्हारी स्थित केडिया  डिस्टलरी में प्राइवेट काम करता है। पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार किया और पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि वह अपनी पत्नी को प्रताड़ित करता था और आत्महत्या करने के लिए अपनी पत्नी को उकसाया था।

21-03-2020
गैंगरेप के 8 दिन बाद अपराध दर्ज, एक गिरफ्तार, दुष्कर्म के बाद जंगल में छोड़कर भागे आरोपी

रायपुर। शादी समारोह में शामिल होने पहुंची किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने वारदात के 8 दिन बाद आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। यहीं नहीं गांव में पंचायत का आयोजन कर मामले को रफादफा करने की कोशिश का आरोप भी लगाया जा रहा है। हालांकि ग्रामीणों के आरोप की अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। मिली जानकारी के मुताबिक वारदात पंडरापाठ चौकी क्षेत्र की है। एक गांव में 12 मार्च को एक विवाह समारोह का आयोजन किया गया था। विवाह के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए परिवार समेत पहुंची किशोरी के साथ रात को कार्यक्रम के दौरान मौका मिलते ही अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। वारदात के बाद आरोपियों ने किशोरी को विवाह स्थल से कुछ दूर जंगल में छोड़ कर फरार हो गए। पीड़िता की शिकायत पर पंडरापाठ चौकी ने छह आरोपियों के खिलाफ अपराध कायम कर लिया है, वहीं पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।  

20-03-2020
डेढ़ साल बाद आरोपी आरक्षक के खिलाफ जुर्म हुआ दर्ज, अपनी पत्नी का जबरिया कराया था गर्भपात

दुर्ग। पुलिस आरक्षक द्वारा अपनी पत्नी का गर्भपात कराने के मामले में पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध किया है। इस मामले के आरोपी पुलिस में आरक्षक के पद पर पदस्थ है। इसके कारण पुलिस आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने में हिचकिचा रही थी। आला अधिकारियों से शिकायत पर लगभग डेढ़ साल बाद पुलिस ने आरोपी पति के खिलाफ जुर्म दर्ज किया है। मामला कातुलबोर्ड निवासी युवती से संबंधित है। युवती का विवाह ग्राम मतवारी निवासी कृष्णा बंजारे के साथ हुआ था। विवाह के बाद कृष्णा अपनी पत्नी के साथ ग्राम कोलिहापुरी स्थित हाउसिंग बोर्ड की कालोनी में निवास करता था। इस दौरान उसके अन्य युवती से संबंधों को लेकर हमेशा उसका पत्नी के साथ विवाद होता रहता था। इसी दरम्यान विवाहिता गर्भवती हो गई। इसकी जानकारी पति को दिए जाने पर वह नाराज हो गया और उसे गर्भपात कराने के लिए दबाव बनाने लगा। जिससे इंकार किए जाने पर कृष्णा गर्भपात की दवा मेडिकल स्टोर्स से ले आया। इसके बाद अपनी दोस्त युवती की मदद से अपनी पत्नी को 22 अगस्त 2018 को जबरिया दवाई खिला दी। इससे विवाहिता का गर्भपात हो गया था। इस मामले की शिकायत पुलगांव थाना में की गई थी। आरोपी कृष्णा भी पुलगांव थाना में आरक्षक के पद पर पदस्थ है। विवाहिता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत पर कार्रवाई नहीं होने पर मामले की शिकायत विभाग के आला अधिकारियों से की गई थी। आला अधिकारियों के निर्देश के बाद पुलिस ने आरोपी आरक्षक कृष्णा बंजारे के खिलाफ दफा 313, 506 के तहत जुर्म दर्ज विवेचना में ले लिया है।

 

20-03-2020
मध्यप्रदेश की 7 पेटी अवैध शराब के साथ 1 आरोपी गिरफ्तार

जांजगीर चाम्पा। जिले के सभी थानों में अवैध शराब के खिलाफ लगातार कार्यवाही की जा रही है। इसी कड़ी में शुक्रवार को नवागढ़ थाना पुलिस ने मुखबिर की सुचना पर भरल लाल जाहिरे के पास से मध्यप्रदेश की सात पेटी अंग्रेजी शराब जब्त की और आरोपी के खिलाफ धारा 34 (2) के तहत कार्यवाही करते हुए जेल भेज दिया गया है। जब्त शराब की कीमत लगभग 32 हजार रुपए बताई जा रही है। 

 

18-03-2020
दुष्कर्म मामले में आरोपी को न्यायालय ने सुनाई 10 साल की सजा

कवर्धा। पंडरिया विकासखंड अंतर्गत ग्राम रांपा में घर में अकेली महिला को धारदार हथियार दिखाकर आरोपी ने दुष्कर्म किया था। आरोप सिद्ध होने पर अपर सत्र न्यायाधीश पीठासीन अधिकारी वेन्सेस्लास टोप्पो ने फैसला सुनाया। आरोपी को अलग अलग धाराओं में 10 वर्ष की सजा से दंडित किया है,साथ ही जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना अदा नहीं करने पर अतिरिक्त कारावास भी भुगतना पड़ेगा।

न्यायालय से मिली जानकारी के अनुसार कुण्डा थाना अंतर्गत ग्राम रांपा में 5 व 6 अप्रैल 2018 की दरमियानी रात महिला घर में अकेली थी। इस दौरान अजय ने धारदार हथियार से मारने की धमकी देते हुए उसके साथ दुष्कर्म किया। दुष्कर्मी के जाते ही डरी सहमी महिला रात में अन्य जगह छिपी रही। सुबह घटना की जानकारी अपने पिता व भाई को फोन से दी। इसके बाद 6 अप्रैल को थाना कुण्डा में रिपोर्ट दर्ज कराई। यहां अपराध क्रमांक 90/18 धारा 376, 506 के तहत मामला दर्ज किया गया और महिला का चिकित्सकीय परीक्षण भी किया गया। इसके बाद मामले की सुनवाई करते हुए न्यायालय ने आरोपी को दस वर्ष की सश्रम कारावास की सजा दी है।

 

18-03-2020
दो महीने पहले दुष्कर्म, गर्भ ठहरने पर युवती को मिली जानकारी, शिकायत के बाद आरोपी डॉक्टर गिरफ्तार

रायपुर। शहर के आरंग क्षेत्र में 19 वर्षीय पीड़िता के स्वास्थ्य खराब होने पर लोधीपारा आरंग स्थित डॉ. मुन्ना लाल तारक के क्लीनिक में इलाज करवाने पहुंची युवती को डॉक्टर ने इंजेक्शन देकर बेहोश कर दिया और उसके बाद दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। पीड़िता होश में आने के बाद क्लीनिक से चली गई। पीड़िता को घटना के 2 महीने बाद गर्भ ठहर जाने पर पता चला कि उसके साथ ऐसा दुष्कृत्य डॉक्टर ने किया था। पीड़िता ने घटना की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई है। फिलहाल आरंग थाना पुलिस धारा 376 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर डीडी नगर निवासी आरोपी डॉक्टर मुन्ना लाल तारक को गिरफ्तार कर मामले की जांच में जुटी है। 

15-03-2020
शराब पीने के लिए पैसे नहीं देने पर नुकीली चीज से वार, मामला दर्ज

रायपुर। शराब पीने के लिए पैसा नहीं देने पर नशेड़ियों द्वारा मारपीट और चाकूबाजी की घटनाएं आए दिन घटती है। लेकिन पुलिस अपना भय बनाने में नाकाम दिख रही है। इसी कड़ी में आजाद चौक थाने में प्रार्थी अमर सिंह ने रिपोर्ट दर्ज करायी है कि भोला निषाद ने शराब पीने के लिए पैसे मांगे नहीं देने पर आरोपी भोेला निषाद ने गाली-गलौच करते हुए नुकीली चीज से वार कर जान से मारने की धमकी दी। उक्त मामले में आजाद चौक थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 294, 506, 323 एवं 327 के तहत मामला कायम किया है।

 

15-03-2020
अन्धे कत्ल की गुत्थी सुलझी 6 आरोपी गिरफ्तार, रूठी पत्नी को मनाने पहुंचे पति की थी हत्या

गरियाबंद। कामर भौदी में हुए अन्धे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में गरियाबंद जिला पुलिस को कामयाबी मिली है और घटना के 6 आरोपी गिरफ्तार किए गए है। दरअसल पति से अलग हुई पत्नी को जब पति मनाने उसके गांव पहुंचा तो पत्नी के रिश्तेदारों तथा गांव के लोगों ने पीट-पीटकर पति की जान ले ली। वहीं इस घटना से आहत होकर मृतक के पिता कि भी सदमे से मौत हो गई। घटना के बाद पीपर छड़ी थाना पुलिस ने एसपी एमआर आहिरे तथा एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर के मार्गदर्शन में कार्यवाही करते हुए 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। घटना गरियाबंद के कामर भोदी गांव की है। वहीं मृतक सुरंगपानी का रहने वाला था। इस हृदय विदारक घटना के बाद से एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर मामले में सतत निगरानी बनाए हुए थे। पीपर छड़ी पुलिस की टीम को इस मामले पर मार्गदर्शन दे रहे थे,जिसके बाद रविवार को कार्यवाही करते हुए 6 लोगों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

जिला पुलिस ने प्रेसवार्ता में बताया गया कि मृतक मंगल सोरी निवासी सुरंगपानी का शादी ग्राम भौदी निवासी खिरमति के साथ हुई थी,जिनका बच्चा नही होने पर से परिवारिक विवाद था। मृतक मंगल सोरी घर जमाई के रूप में ग्राम भौदी में अक्सर रहा करता था। विवाद ज्यादा होने से मृतक मंगल सोरी अपने गांव सुरंगपानी आ गया था। परिवार एवं समाज के लोग सुलह कराने के उद्देश्य से दिनांक 14 फरवरी को ग्राम भौदी में सामाजिक बैठक आयोजित किए थे। बैठक में मृतक की पत्नी अपने पति के साथ रहने से इंकार कर दी,जिससे दोनो अपने अपने गांव घर चले गए।

18 फरवरी को ग्राम भौदी में ठाकुर राम के घर शादी समारोह में मंगल सोरी भी पहुचा था,जिसे देखकर आरोपी गंभीर नागेश,जो मंगल सोरी का बडे साला लगता है को नागवार गुजरा। मंगल सोरी को गंभीर नागेश के गुस्से का आभास होने पर वहां से निकल गया। गंभीर नागेश ने उसका पीछा किया। गंभीर नागेश ने अन्य आरोपियान विष्णु, गोपाल, नलसिंह, गणेश के साथ मिलकर मंगल सोरी को मारपीट कर चोट पहुचाएं। मंगल सोरी के बेहोश हो जाने पर ही बेहोशी के हालात में गांव भौदी के ही घोटिया नाला के पास छोड कर चले गये। दूसरे दिन सूचना पर जांच कि गई। जांच के दौरान गवाहों के कथन के आधार पर थाना पीपरछेडी में मामले को विवेचना में लिया गया। गवाहों के कथन घटना स्थल के निरीक्षण,शव पंचनामा,पोस्टमार्टम रिपोर्ट, आरोपियो के मेमोरण्डम के आधार पर आरोपियों से लाठी डंडा जब्त किया गया। उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ अपराध धारा सदर 147,148,149,302 भादवि का साक्ष्य पाए जाने से गिरफ्तार किया गया।

15-03-2020
ताबीज देकर बाबा कर रहा था कोरोना का ईलाज, पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखनऊ। कोरोना वायरस संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच अंधविश्वास का धंधा करने वाले भी अपनी दुकान चमकाने लगे हैं। लखनऊ में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां एक शख्स 11 रुपये में तावीज़ देकर कोरोना वायरस का ईलाज कर रहा था,जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी शख्स ने जगह-जगह प्रचार के लिए पोस्टर्स भी लगावाए थे। पोस्टर्स में आरोपी ने अपने पते के साथ लिखा था,"कोरोना से बचने के लिए सिद्ध किया हुआ ताबीज यहां मिलता है।" पुलिस ने इसकी जानकारी मिलते ही कार्रवाई की। पुलिस को जानकारी मिली थी कि वजीरगंज थाना क्षेत्र में एक शख्स अंधविश्वास की दुकान चला रहा है और लोगों को ताबीज देकर कोरोना से बचाने का दावा कर रहा है, जिसके बाद पुलिस ने उसकी दुकान बंद करा दी और उसे गिरफ्तार कर लिया। दरअसल, कोरोना वायरस की अभी तक कोई वैक्सीन (टीका) नहीं है और यह देश-दुनिया में फैलता जा रहा है, इसीलिए लोगों में इसका काफी डर है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804