GLIBS
14-12-2018
RDA : आरडीए अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव समेत सदस्यों ने आयोग से दिया इस्तीफा

रायपुर। रायपुर विकास प्राधिकरण (आरडीए) के अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव समेत आयोग से सदस्यों ने अपने पद से सामूहिक रुप से इस्तीफा दे दिया है। क्योंकि अब कांग्रेस की सत्ता आ चुकी है और भाजपा के नेताओं आयोग से कार्यकाल खत्म हो चुका है। इसी वजह से भाजपा के नेताओं ने निगम मंडल आयोग से स्वेच्छा इस्तीफा देना शुरू कर दिए हैं। क्योंकि नई सरकार बनने के बाद आयोग भंग करने की तैयारी कर ली है। 

आरडीए के पूर्व अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव ने कहा कि भाजपा के कार्यकाल में लगातार सरकार की योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचाने में काम किया गया है। इस दौरान भाजपा ने विभिन्न प्रकार की योजनाएं लाई जिसका लाभ सीधे जनता को मिलते रहा है। आशा करता हूं कि इस प्रकार से आने वाली सरकार भी जनता के लिए अच्छी योजनाएं लाकर  छत्तीसगढ़ की जनता को ज्यादा से मकान फ्लैट समेत स्वतंत्र मकान बनाकर जनता को राहत दें। संजय श्रीवास्व ने यह भी कहा कि मेरे अध्यक्ष कार्यकाल के दौरान जन हित को ध्यान में रखते हुए विभिन्न कार्ययोजना को लागू कर नए स्कीमों के माध्यम से जनता को लाभ प्राप्त हो इस पर कार्य कर योजनाओं को गति प्रदान किया।

 

27-10-2018
BJP : जमानत के पैसे बचा रही कांग्रेस : भाजपा
कहा-कांग्रेस में जनाधार वाले उम्मीदवारों का अकाल 
23-10-2018
Sanjay Srivastava : प्रत्याशी चयन में कांग्रेस का छुटा पसीना : संजय श्रीवास्तव 

रायपुर। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न होने के बाद कांग्रेस की सूची आने के उम्मीद थी लेकिन सूची नहीं आई। जो आश्चर्य का विषय है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के 78 उम्मीदवारों की सूची आने के बाद भी आज तक कांग्रेस पार्टी अपने उम्मीदवारों का चयन नहीं कर पाई। भाजपा के प्रत्याशियों की सूची देखने के बाद अभी से कांग्रेस पार्टी के हाथ पैर फूलने लगे। नामांकन में कुछ ही दिन शेष हैं ऐसे में प्रत्याशियों का न मिलना कांग्रेस पार्टी की स्थिति को बखूबी उजागर करता है। यह सत्य है कांग्रेस के पास ढूंढने से भी प्रत्याशी नहीं मिल रहे और दूसरी तरफ सरकार बनाने की खोखली दावा करने वाली पार्टी की कलई पूरी तरह खुल गई है। बड़ी-बड़ी  बैठकों के बाद भी प्रत्याशियों का नाम नहीं आना कांग्रेस की बेबसी को दर्शाता है।

07-10-2018
BJP Workshop : भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया वर्कशॉप में छत्तीसगढ़ के नेता भी शामिल

नई दिल्ली। भाजपा का एक दिवसीय राष्ट्रीय मीडिया वर्कशॉप शुरू हो गया है। कार्यक्रम को सबसे पहले केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने संबोधित किया। उन्होंने मीडिया से संबंध समेत अन्य  विषयों पर अपने विचार रखे। नमो एप को लेकर भी उन्होंने मीडिया का काम संभाल रहे नेताओं को विस्तृत जानकारियां दी। वर्कशॉप में देशभर में  भाजपा के मीडिया प्रभारी, प्रवक्ता समेत राष्ट्रीय प्रवक्ता मौजूद हैं।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के रायपुर उत्तर विधायक एवं प्रदेश प्रवक्ता श्रीचंद्र सुंदरानी, प्रवक्ता व आरडीए संजय श्रीवास्तव व मीडिया प्रभारी नलिनीश ठोकने भी उपस्थित हैं।

28-09-2018
Video : AICC का मतलब ऑल इंडिया क्रिमिनल कांग्रेस हो गया है : संजय श्रीवास्तव

रायपुर। AICC का फूल फॉर्म ऑल इंडिया क्रिमिनल कांग्रेस हो गया है। भीमा कोरेगांव पर आया सुप्रीम कोर्ट का फैसला कांग्रेस के मुंह पर तमाचा है। यह बातें एनआरडीए के अध्यक्ष व भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने प्रेस वार्ता के दौरान कही।

भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय एकात्म परिसर में आयोजित पत्रकारवार्ता में उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी बड़े नेता पार्टी के बेल पर है। जब प्रदेश में नक्सल मोर्चे पर जवान शहीद होते हैं तो कांग्रेस मुठभेड़ पर सवाल उठाती है। कांग्रेस के पास जनता के लिए कोई मुद्दा बाकी नहीं रह गया है। बीजेपी हमेशा विकास के साथ राजनीति करती है।

26-09-2018
BJP : पुनिया पर भाजपा की तल्ख़ प्रहार, अब 'भीख' मांगते नहीं लजा रहे कांग्रेस नेता

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल की जमानत कराने के कांग्रेसी फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि भूपेश-पुनिया की नौटंकी पर दो रोज में ही परदा गिर गया। अश्लील सीडी जैसे निम्न हथकंडे अपनाने पर सीबीआई जांच में आरोपी पायेे गये कांग्रेस अध्यक्ष तथाकथित सत्याग्रह करने जेल गए थे।

अब यह स्पष्ट हो गया कि वे सत्ताग्रह की आस में ही यह ड्रामेबाजी कर रहे थे। कल तक जमानत की भीख जैसे शब्द इस्तेमाल करने वाले कांग्रेस प्रभारी पी.एल पुनिया अब ऐलान कर रहे हैं कि पार्टी का फैसला है कि भूपेश जमानत लेकर जनता के बीच आयें। उन्होंने कहा कि दरअसल पुनिया ने इस मामले में राहुल सोनिया को ही जमानत का भिखारी बता दिया था क्योंकि कांग्रेस के अधिकतर नेता जमानत मांगकर ही छुट्टा घूमकर देश भर में भ्रम का माहौल बना रहे हैं।

जब पुनिया को अपने आला कमान की स्थिति का आभास हुआ तो उन्होंने अपने कदम पीछे खींच लिये। श्रीवास्तव ने कहा कि यह साबित हो चुका है कि इस सारे राजनीतिक नाटक को पुनिया ही निर्देशित कर रहे थे। जब उन्हें किसी भी तरह जनता की सहानुभूति मिलती नजर नहीं आई तो भूपेश बघेल को 'भीख' मांगने पर राजी कर रहे हैं। ऐसी राजनीतिक निर्लज्जता ही कांग्रेस की संस्कृति है।

 

09-09-2018
Sanjay Shrivastav: पैसों के दम पर टिकट की बंदरबांट कांग्रेस की पुरानी प्रथा : संजय श्रीवास्तव

रायपुर। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने टिकट बंटवारे के जरिए कमाई गई रकम को चंदे के तौर पर खपाने का अंदेशा व्यक्त करते हुए कहा है कि कांग्रेसी ही आरोप लगाते रहे हैं कि कांग्रेस में टिकटों की बिक्री होती है। कांग्रेस टिकट विक्रय के कई स्तरीय काउंटर खुले हुए हैं। ब्लॉक से लेकर दिल्ली दरबार तक हर जगह टिकट के दलाल सक्रिय हैं। छत्तीसगढ़ में तो कांग्रेस टिकट के लिए उगाही के मामले भी सामने आ चुके हैं। भाजपा प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस में आम कार्यकर्ता के स्तर पर यह धारणा है कि मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं को आगे बढ़ने से रोक दिया जाता है और परिवारवाद, वंशवाद, पूंजीवाद के दम पर पैराशूट से उतरकर ऐसे लोग चुनावी टिकट ले आते हैं, जिनका कोई मैदानी आधार ही नहीं रहता। संजय श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस में पैसों के दम पर टिकट की बंदरबांट की प्रथा बहुत पुरानी है और अब भी बदस्तूर जारी है।

कांग्रेस में जिस तरह आये दिन पैसा फेंक कर टिकट हासिल करने तथा पैराशूट संस्कृति के प्रतीकों का विरोध हो रहा है, उससे जाहिर है कि कांग्रेस के आम कार्यकर्ता यह मान रहे हैं कि कांग्रेस टिकटें बेचनें की तैयारी में है और इस तरह से की गई कमाई का आपसी बंटवारे के बाद बेचने वाला हिस्सा चंदे की आय बताया जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी चयन प्रक्रिया में जिस तरह से पैसे वालों को अहमियत दी जा रही है, उससे पार्टी में व्यापक असंतोष के नजारे हर रोज सार्वजनिक हो रहे हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804