GLIBS
13-09-2019
बैठक में अनुपस्थित डभरा व शिवरीनारायण सीएमओ को शोकाज नोटिस

जांजगीर-चाम्पा। जांजगीर-चाम्पा कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने विगत दिनों जिला कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में आयोजित दिशा समिति की बैठक में बिना किसी पूर्व सूचना के अनधिकृत रूप से अनुपस्थित रहने पर नगर पंचायत डभरा के मुख्य नगर पालिका अधिकारी जमुना प्रसाद सूर्यवंशी और नगर पंचायत शिवरीनारायण के मुख्य नगर पालिका अधिकारी अभिषेक मिश्रा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। कलेक्टर पाठक ने बताया कि उनके अनधिकृत रूप से अनुपस्थिति को कर्तव्य के प्रति लापरवाही और उदासीनता, स्वैच्छाचारिता एवं वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशों की अवहेलना माना है। उन्होंने  जमुना प्रसाद सूर्यवंशी और अभिषेक मिश्रा को तीन दिवस के भीतर कलेक्टर के समक्ष उपस्थित होकर कारण बताओ नोटिस का जवाब देने के निर्देश दिये हैं।

 

12-09-2019
आश्रम-छात्रावासों के अधीक्षक मुख्यालय में रहें, नहीं तो होंगे निलंबित

कवर्धा। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने आज आदिम जाति विकास विभाग द्वारां संचालित आश्रम-छात्रावास अधीक्षकों की मासिक बैठक लेकर उनके संस्था संचालन से लेकर अध्यापन और संधारण कार्यों की समीक्षा की। बैठक में नवपदस्थ सहायक आयुक्त आरएस टण्डन और समस्त अधीक्षक उपस्थित थे।  कलेक्टर ने जिले के आदिवासी बैगा बहुल बोडला, पंडरिया तथा कवर्धा सहसपुर लोहारा विकासखण्ड में संचालित आश्रम-छात्रावास के अधीक्षकों को मुख्यालयों में रहने के लिए कड़े निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार और नोडल अधिकारियों के औचक निरीक्षण के दौरान अधीक्षकों की अनुपस्थिति होने की सूचना मिली है, यह बहुत ही गभीर विषय हैं। उन्होंने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि मुख्यालयों में नहीं रखने वाले अधीक्षकों पर निलंबन जैसी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर शरण ने आश्रमों तथा छात्रावासों में पेयजल की समस्या दूर करते हुए कन्या आश्रम दलदली, पंडरिया आश्रम, विशेष पिछड़ी जनजाति संस्था पोलमी और प्री. मैट्रिक छात्रावास बोक्करखार में हैण्डपम्प खनन का प्रस्ताव बनाने के लिए सहायक आयुक्त को निर्देश दिए। उन्होंने बरसात के दिनों में होने वाली मौसमी तथा जलजनित बीमारियों की जानकारी लेते हुए सभी आश्रम-छात्रावासों में नियमित रूप से स्वास्थ्य परीक्षण कराने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने आश्रम-छात्रावासों में गुणवत्ताहीन सामग्री प्रदाय करने वाली एंजेसी को ब्लैक लिस्टेड करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने रामपुर, रवीणपुर में निर्माणाधीन आश्रम-छात्रावासों की प्रगति की जानकारी भी ली। उन्होंने सभी संस्थानों में किचन गार्डन विकसित करने और छोटी-छोटी मरम्मत के कार्य संधारित करने के लिए अधीक्षकों को निर्देशित किया। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने बैठक में एजेण्डेवार समीक्षा करते हुए अन्य महत्वपूर्ण निर्देश भी दिए। कलेक्टर ने छत्तीसगढ़ हरियर कार्यक्रम के तहत आश्रम और छात्रावासों में रोपे गए मुनगा और अन्य पौधों की जानकारी ली। 

12-09-2019
स्मार्ट कार्ड का अधिकाधिक उपयोग करने से आयुष्मान भारत योजना से मिलेगी ज्यादा राशि : मंत्री सिंहदेव

मुंगेली। पंचायत एवं ग्रामीण विकास, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा एवं जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव की अध्यक्षता में  बुधवार को कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में जिला खनिज संस्थान न्यास एवं जीवनदीप समिति की साधारण सभा की बैठक आयोजित की गई। मंत्री ने सिविल सर्जन एवं चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्मार्ट कार्ड का अधिक से अधिक उपयोग हो, ताकि आयुष्मान भारत योजना से जिले को ज्यादा राशि प्राप्त हो सके। प्राप्त राशि से जिला अस्पताल के विकास कार्य कराये जा सकेंगे। बैठक में खनिज संस्थान न्यास निधि के अंतर्गत प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित 20 गांवों एवं अप्रत्यक्ष रूप से संपूर्ण जिले के ग्राम पंचायतों के लिए 3 करोड़ 4 लाख के प्रस्ताव प्रस्तुत किए गए। खनिज संस्थान न्यास की राशि पेयजल, स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि एवं महिला बाल विकास विभाग में संचालित सुपोषण के लिए प्राथमिकता से खर्च की जाएंगी। प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने उपसंचालक कृषि से कहा कि खनिज न्यास से मार्केट दर पर स्प्रेयर एवं अन्य उपकरण खरीदी की जानी चाहिए। उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों से कहा कि संस्थागत प्रसव को बढ़ाएं। डीएमएफ मद से जिला चिकित्सालय में सोनोलाजिस्ट रखे जाने, स्टाफ नर्स की भर्ती, सीआरएम मशीन एवं डिजिटल एक्स-रे के संबंध में चर्चा की गई।

 सिंहदेव ने कहा कि सांसद एवं विधायक मद से राशि प्राप्त कर जिला चिकित्सालय में धर्मशाला बना सकते हैं। बैठक में बताया गया कि आयुष्मान भारत योजना से प्राप्त राशि से जिला अस्पताल में पेयजल व्यवस्था की गई है साथ ही शेड निर्माण, सड़क एवं वृक्षारोपण कार्य भी कराया जा रहा है। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने बताया कि जिला खनिज संस्थान न्यास निधि के व्यय हेतु प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित 20 ग्राम पथरिया विकासखण्ड के मोहभ, भखुरीडीह, लमती, किरना, सरगांव, धमनी, पेण्ड्री, खम्हारडीह, बडिय़ाडीह, खजरी, बगबुड़वा, मुंगेली के रामगढ़, सुरदा, चिचेसरा, सुरेठा एवं लोरमी विकासखण्ड के लोरमी, जमुनाही, कोसमतरा एवं तुलसाघाट शामिल हैं। कलेक्टर डॉ. भुरे ने बताया कि जिला चिकित्सालय में 12 प्रकार की बीमारियों के इलाज हेतु सुविधाओं में विस्तार किया गया है। जिला अस्पताल में अब सिजेरियन ऑपरेशन भी किए जा रहे हैं। आईसीयू कक्ष एक माह के भीतर बनकर तैयार हो जाएगा। बेजा कब्जा हटाकर अस्पताल परिसर में वृक्षारोपण भी कराया गया है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि 150 आंगनबाड़ी केंद्रों के लिए गैस कनेक्शन देने हेतु प्रस्ताव तैयार किया गया है। जिले के प्रभावित गांवों के 3010 बच्चों के सुपोषण हेतु 21 लाख 67 हजार की कार्ययोजना बनाई गई है। बैठक में मुंगेली क्षेत्र के विधायक पुन्नूलाल मोहले, जिला पंचायत अध्यक्ष कृष्णा बघेल, नगर पालिका अध्यक्ष सावित्री सोनी, जिला पंचायत सदस्य जागेश्वरी वर्मा, सांसद प्रतिनिधि कन्हैया वैष्णव, लोरमी विधायक के प्रतिनिधि श्याम सुंदर शांडिल्य, बिल्हा विधायक के प्रतिनिधि निश्चल गुप्ता, आत्मा सिंह क्षत्रिय, पुलिस अधीक्षक सीडी टंडन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एचके शर्मा, अपर कलेक्टर राजेश नशीने सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

11-09-2019
नाॅनबजटेड कार्यो में होगा डीएमएफ का उपयोग : प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव

जांजगीर-चांपा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री एवं जिले के प्रभारी टीएस सिंहदेव ने कहा कि डीएमएफ मद का उपयोग केवल नाॅनबजटेड कार्यो के लिए किया जायेगा। शासकीय योजनाओं के गेप की फिलिंग के लिए इस फंड का उपयोग किया जायेगा। जिला खनिज न्यास मद के सदस्यों से चर्चा कर प्राथमिकता के आधार पर कार्य स्वीकृत किये जाएंगे। बड़े एवं दीर्घकालीन कार्यो के लिए तीन अथवा पांच साल की कार्ययोजना भी तैयार की जाएगी। प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने उक्त बाते बुधवार को कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित जिला खनिज न्यास मद के शासी परिषद की बैठक में कही। शासी परिषद के सदस्यों द्वारा कुल 140 करोड़ रूपये के कार्यो का अनुमोदन किया गया।

बैठक में छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डाॅ.चरणदास महंत, जांजगीर-चांपा विधायक नारायण प्रसाद चंदेल, जैजैपुर विधायक केशव चन्द्रा, चन्द्रपुर विधायक रामकुमार यादव, पामगढ़ विधायक इन्दु बंजारे, जिला पंचायत अध्यक्ष नंदकिशोर हरबंश, नगर पालिका चांपा के अध्यक्ष राजेेश अग्रवाल, सक्ती नगर पालिका के अध्यक्ष श्यामसुंदर अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर जनकप्रसाद पाठक एवं जिला पंचायत के सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने डीएमएफ से संबंधित प्राप्त प्रस्तावों की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि डीएमएफ मद के लिए राज्य सरकार के नये निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जायेगा। न्यास द्वारा संपादित कार्यों की सोशल आडिट एवं महालेखाकार आडिट कराई जाएगी। जिले के 234 गांव खदानों से प्रत्यक्ष प्रभावित हैं एवं 648 गांवों को अप्रत्यक्ष प्रभावित गांव की श्रेणी में रखा गया है। कुल बजट का 50 प्रतिशत राशि प्रत्यक्ष प्रभावित गांवो में और 50 प्रतिशत राशि अप्रत्यक्ष प्रभावित गांवों में उपयोग किया जायेगा। विशेष परिस्थिति में शासी परिषद् के पूर्वानुमोदन से प्रत्यक्ष प्रभावित का 10 प्रतिशत राशि अप्रत्यक्ष क्षेत्र में व्यय किया जा सकेगा। प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार कुल बजट का 60 प्रतिशत उच्च प्राथमिकता क्षेत्र में एवं 40 प्रतिशत अन्य प्राथमिकता वाले कार्यों पर व्यय किया जाना है। प्रभारी मंत्री ने बड़ी संख्या में जिले के युवाओं का सेना में चयन होने पर प्रशंसा की। युवाओं के सेना में भर्ती के प्रति रूचि को प्रोत्साहित करने के लिए प्रशिक्षण के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। जिले के अन्य क्षेत्रों में भी परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केन्द्र प्रारंभ करने के लिए भी प्रस्ताव रखा गया।

कौशल विकास से प्रशिक्षित युवाओं को प्राथमिकता के साथ स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध कराने एवं अन्य रोजगार में नियोजित करने के लिए डीएमएफ मद का उपयोग करने पर भी चर्चा की गई। जिले के असिंचित क्षेत्रों में सिचाई सुविधा उपलब्ध कराने के लिए नये पम्प कनेक्शन, काडा नाली निर्माण आदि के भी प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया। इसके अलावा शासन की योजना से वंचित दिव्यांगों को प्राथमिकता के अनुसार कृत्रिम अंग उपलब्ध करवाने के लिए भी प्रस्ताव तैयार करने कहा गया। खिलाड़ियों की रूचि के अनुसार जिला मुख्यालय में खेल अकादमी गठन करने पर भी चर्चा की गई।

 

09-09-2019
भाजपा नगरीय निकाय चुनाव समिति की बैठक शुरू

रायपुर। प्रदेश में आगामी नगरीय निकाय चुनाव के लिए भाजपा ने तैयारी शुरू कर दी है। रायपुर स्थित भाजपा प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में नगरीय निकाय चुनाव समिति की बैठक हो रही है। बैठक में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय व पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल सहित प्रदेश पदाधिकारी शामिल हैं।

 

08-09-2019
आरक्षण वृद्धि पर कांग्रेस कमेटी करेंगी मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त, बैठक में प्रस्ताव पारित

दुर्ग। जिला कांग्रेस कमेटी दुर्ग ग्रामीण की बैठक जिला अध्यक्ष तुलसी साहू की अध्यक्षता में कांग्रेस भवन दुर्ग में संपन्न हुई। जिला अध्यक्ष ने छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा राज्य में विभिन्न वर्गों के आरक्षण में वृद्धि करने व अन्य कल्याणकारी योजना के क्रियान्वयन कर सभी वर्गों को समुचित अवसर प्रदान करने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का जिला कांग्रेस कमेटी दुर्ग ग्रामीण की ओर से आभार करने हेतु प्रस्ताव रखा। पूर्व विधायक भजन सिंह निरकारी ने प्रस्ताव का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। उपस्थित कांग्रेसजनों ने प्रस्ताव का समर्थन करते हुए आभार व्यक्त किये। जिले के सभी ब्लाक कांग्रेस कमेटी द्वारा अपने अपने ब्लाक में सम्मेलन कर मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करने का निर्णय लिया गया। इस बैठक में जिला स्तरीय सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित करने के संबंध में चर्चा की गई। संगठन की मजबूती पर बैठक में चर्चा कर उपस्थित पदाधिकारियों ने अपने अपने सुझाव रखे। जिला अध्यक्ष ने बूथ कमेटी को मजबूती प्रदान करने कार्यकर्ताओं को घर घर जाने जाकर कांग्रेस की रीति नीति के प्रचार पर बल दिया।

सभी ब्लाक कांग्रेस कमेटी आपने ब्लाक में हर माह के 15 तारीख तक बैठक लेकर जिला कांग्रेस कमेटी में अपना प्रतिवेदन प्रस्तूत करने के निर्देश दिए। महामंत्री नीलेश चौबे ने आगामी नगरीय निकाय व पंचायती राज चुनाव के सम्बंध में निर्वाचक नामावली पुनरीक्षण अभियान की जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि मतदाता सत्यापन के बारे में जनता को जागरूक करे ताकि आगामी चुनाव में हर मतदाता वोट डाल सके। आगामी नगरीय निकाय चुनाव के लिए हर बूथ से कांग्रेस के बूथ लेवल एजेंट की नियुक्ति हेतु ब्लाक अध्यक्ष को निर्देशित किया गया। बैठक में शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष आरएन वर्मा, सयुंक्त महामंत्री राजेन्द्र साहू, पूर्व महापौर नीता लोधी, प्रदेश सचिव इरफान खान, वाईके सिंह, संदीप निरंकारी, नीलेश चौबे, हेमलता साहू, ताजुद्दीन, जयंत देशमुख, नंदकुमार सेन, केशव चौबे, प्रभाकर जनबन्धु, डी कामराजू, जोगीराम साहू, जानकी साहू, लालचंद वर्मा, चंद्रशेखर गवई, अयूब खान, निरंजन बिसाई, विष्णु बारले, पी.राजा, अविनाश चन्द्राकर, चुरामन साहू, कन्हैया साहू, महेंद्र साहू, के.जग्गा राव सहित जिला कांग्रेस कमेटी दुर्ग के पदाधिकारीगण एवं कांग्रेसजन उपस्थित थे।

08-09-2019
गृह मंत्री अमित शाह का दो दिवसीय असम दौरा, एनईसी की बैठक में लेंगे हिस्सा

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज दो दिन के दौरे पर असम जा रहे हैं। 31 अगस्त को राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की रिपोर्ट जारी होने के बाद अमित शाह का यह पहला अस  दौरा होगा। साथ ही यह अमित शाह का गृहमंत्री बनने के बाद नार्थ ईस्ट का पहला दौरा होगा। असम में एनआरसी में जिन लोगों के नाम नहीं आए हैं, उसे लेकर लोगों के बीच खासी बेचैनी का माहौल है। एनआरसी में तकरीबन 19 लाख लोगों के नाम नहीं हैं। गृह मंत्री अमित शाह आठ सितंबर को गुवाहाटी में नॉर्थ ईस्ट काउंसिल (एनईसी) की बैठक में हिस्सा लेंगे। जहां इस दौरान वे आठ राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों से मुलाकात करेंगे। गौरतलब है कि एनआरसी की सूची आने के बाद, असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और राज्य भाजपा प्रमुख रंजीत कुमार दास ने कहा था कि वे एनआरसी से नाखुश हैं क्योंकि कई वास्तविक भारतीय नागरिकों के नाम शामिल नहीं थे। सरमा और दास दोनों ने कहा था कि वास्तविक भारतीयों के अधिकारों की रक्षा के लिए सरकार द्वारा कुछ विधायी विकल्प लेने की संभावना है। इससे पहले अमित शाह तीन और चार अगस्त को एनईसी की बैठक में भाग लेने वाले थे, लेकिन बैठक को स्थगित कर दिया गया था। गौरतलब है कि पांच अगस्त को सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का प्रावधान देने वाले अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया जिसके व्यस्तता के कारण शाह का यह दौरा स्थगित किया गया था। 

08-09-2019
नेत्रदान पखवाड़ा कार्यक्रम का हुआ आयोजन, 11 से 18 सितंबर तक होगा नेत्र सुरक्षा कार्यक्रम

कोंडागांव। पुरे देश में नेत्रदान पखवाड़ा कार्यक्रम दिनांक 25 अगस्त से 8 सितंबर तक मनाया जा रहा है। इस कार्यक्रम में नेत्र सहायक अधिकारियों द्वारा सभी विकासखंड के विभिन्न स्कूलों में छात्र-छात्राओं का नेत्र परीक्षण कर नेत्रदान करने हेतु जन जागरूकता फैलाई जा रही है। उसी तारतम्य में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कोंडागांव के निर्देशानुसार विकासखंड केशकाल के समस्त मैदानी स्वास्थ्य संयोजक एवं मितानिन के साथ नेत्रदान संगोष्ठी आयोजित किया गया एवं दिनांक 11 सितंबर से 18 सितंबर तक विकासखंड केशकाल में संपूर्ण नेत्र सुरक्षा कार्यक्रम मनाया जाना है। इस हेतु बैठक का आयोजन किया गया जिसमे सभी मितानिनो को नेत्रदान करने हेतु प्रेरित करने कहा गया।

संपूर्ण नेत्र सुरक्षा कार्यक्रम अंतर्गत विकासखंड केशकाल के समस्त ग्रामों का सर्वेक्षण कर सभी प्रकार के नेत्र विकारों का परीक्षण कर उनका पंजीयन निदान एवं त्वरित उपचार किया जाना है। इसमें दोनों आंख में मोतियाबिंद से ग्रसित मरीजों का पंजीयन, परीक्षण एवं ऑपरेशन करवाया जाना है साथ ही ग्लूकोमा का परीक्षण एवं उपचार किया जाना है। कार्नियल ओपेसिटी के मरीजों का परीक्षण एवं प्रत्यारोपण हेतु पंजीयन, नेत्रदान घोषणा पत्रक भरना, स्थाई दृष्टि बाधित को प्रमाण पत्र प्रदान करना, दृष्टि बाधित बच्चों को पुनर्वास की व्यवस्था करना आदि कार्य किया जाना है। इस बैठक में राजस्व एवं अनुविभागीय दंडाधिकारी केशकाल, खंड चिकित्सा अधिकारी केशकाल, नोडल अधिकारी अंधत्व जिला कोंडागांव,  समस्त नेत्र सहायक अधिकारी जिला कोंडागांव, बीपीएम केशकाल, बी ई टीओ ए एम ओ, समस्त सेक्टर सुपरवाइजर, समस्त स्वास्थ्य संयोजक पुरुष एवं महिला तथा विकासखंड केशकाल के समस्त मितानिन उपस्थित थे।

 

07-09-2019
स्वास्थ्य संयोजक कर्मचारी संघ ने की बीजापुर घटना की निंदा

कोंडागांव। शुक्रवार को स्वास्थ्य संयोजक संघ जिला कोंडागांव के द्वारा बैठक आयोजित कर बीजापुर में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी, कर्मचारियों और पत्रकारों के साथ हुई हिंसक घटना की कड़ी शब्दो मे निंदा की गई। बता दें कि बीते दिनों बीजापुर सीएमएचओ, भोपालपटनम और भैरमगढ़ बीएमओ, सिविल सर्जन और पत्रकारों के साथ वहां के सुरक्षाबल के जवानों ने दुर्व्यवहार के साथ ही गोली मारकर जान से मारने की धमकी दी थी। घटना के बाद आक्रोशित सीएमएचओ और पत्रकार पुलिस कैम्प के सामने ही धरने पर बैठ गए।

सीएमएचओ और पत्रकारों के साथ हुए इस दुर्व्यवहार से स्वास्थ्य महकमे और ज़िले भर के पत्रकारों में भारी आक्रोश देखा जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के ऐसे अधिकारी-कर्मचारी जो प्रदेश के सभी दुर्गम गांवों इलाकों में जाकर शिविर या स्वास्थ्य सेवा देकर आम जनता कि जीवन  रक्षा करते हैं उनके साथ ऐसा व्यवहार दुर्भाग्य जनक एवं निंदनीय है। इस घटना से क्षुब्ध होकर स्वास्थ्य संयोजक कर्मचारी संघ द्वारा इस घटना की  कड़ी निंदा की गई  है। इस मौके पर जिला अध्यक्ष भूपेश नायक, सचिव नकुल भोयर, लालेश्वर पात्र, मनोज नेताम, द्रुपत सेठिया, प्रेमकांत पांडे सहित काफी संख्या में संघ के पुरुष एवं महिला सदस्य उपस्थित थे ।

06-09-2019
इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी ने की भारत नेट परियोजना फेस-2 की समीक्षा

रायपुर। इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी ने शुक्रवार को सिविल लाइन स्थित चिप्स कार्यालय में भारत नेट परियोजना फेस-2 के तहत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा बैठक में प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में लोक सेवा गांरटी केन्द्र शुरू करने का निर्णय लिया गया जिससे लोगों को निर्धारित समय-सीमा में नागरिक सेवाएं उपलब्ध हो सके। उन्होंने उम्मीद जताई कि इससे स्वास्थ्य संकेतकों में भी सुधार होगा।उल्लेखनीय है कि राज्य की 85 तहसीलों और 5 हजार 987 ग्राम पंचायतों में भारत नेट परियोजना फेस-2 के अंतर्गत इंटरनेट कनेक्टीविटी पहुंचाने का काम किया जा रहा है। द्विवेदी ने लक्षित ग्राम पंचायतों तक इंटरनेट की सुविधा पहुंचाने सभी कलेक्टरों, वन विभाग तथा राष्ट्रीय राजमार्ग अभिकरण के अधिकारियों को समन्वय से काम करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसमें आने वाली समस्याओं का निराकरण समय-सीमा में कर कार्यों में तेजी लाएं। उन्होंने वन विभाग एवं राष्ट्रीय राजमार्ग से संबंधित राईट-ऑफवे की अनुमति प्राथमिकता के साथ उपलब्ध कराना सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए।

द्विवेदी ने बैठक में कहा कि लक्षित गांवों तक इंटरनेट पहुंचने से ई-सेवाएं ग्राम पंचायत स्तर तक प्रदान की जा सकेंगी। लोगों तक सूचना, शिक्षा, बाजार और  बैंकिंग सेवाओं की पहुंच आसान होगी। भारत नेट परियोजना फेस-2 के नेटवर्क से ग्रामीण अर्थव्यवस्था में डिजिटल भुगतान को प्रोत्साहन मिलेगा और लोगों को शासन की कई नागरिक सेवाएं प्रदान की जा सकेगी। परियोजना से राज्य के युवाओं को राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा के लिए बेहतर मौके मिलेंगे। समीक्षा बैठक में चिप्स द्वारा संचालित ई-गवर्नेंस सेवाओं से आम नागरिकों को विभिन्न विभागों से मिल रही सुविधाओं का लाभ तेजी से दिलाने के लिए ई-गवर्नेंस सेवाओं के विस्तार का भी निर्णय लिया गया। उन्होंने इस काम में तेजी लाने के लिए सभी कलेक्टरों को अपर कलेक्टर या डिप्टी कलेक्टर स्तर के अधिकारी को नोडल अधिकारी तैनात करने कहा। उल्लेखनीय है कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत राज्य में अलग-अलग विभागों द्वारा 125 से अधिक नागरिक सेवाएं निर्धारित समय-सीमा में उपलब्ध कराई जा रही है। नागरिकों को जरूरी सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रदेश में 8 हजार से अधिक लोक सेवा केन्द्र स्थापित किए गए हैं। इनमें से 175 लोक सेवा केन्द्र कलेक्टोरेट और तहसील कार्यालयों में तथा शेष लोक सेवा केन्द्र ग्राम पंचायतों में संचालित हैं। बैठक में चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के.सी. देवसेनापति, प्रभारी अपर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक सुनील मिश्रा तथा चिप्स के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी रवि सिंह भी उपस्थित थे।

06-09-2019
बकायेदारों पर सख्त हुआ निगम, नल कनेक्शन काटने का चलाया अभियान 

दुर्ग। नगर पालिक निगम दुर्ग ने क्षेत्र के बड़े करदाताओं से बकाया की वसूली करने के लिए सख्त कार्रवाई करना प्रारंभ कर दिया हैं। निगम प्रशासन द्वारा अभियान चलाकर बकायादारों के नल कनेक्शन को काटा जा रहा है। सोमवार को 8 वार्डों के 17 बकायादारों के नल कनेक्शन काटे जाने की जानकारी निगम प्रशासन द्वारा दी गई हैं। बताया गया है कि बकायादारों को सूचीबद्ध किया गया है, जिनमें से 87 बड़े बकायादारों को कर अदायगी समझाइश देकर पानी की सप्लाई अवरुद्ध किए जाने की चेतावनी दी गई है। निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन ने राजस्व विभाग की बैठक लेकर इस संबंध में अधिकौरियों को दिशा निर्देश दिए थे। 

इनके काटें गए नल कनेक्शन
निगम प्रशासन द्वारा की गई कार्रवाई में जिन बकायादारों के नल कनेक्शन काटे गए है, उनमें वार्ड 8 तकियापारा के अब्दुल गफ्फार, प्रेमाबाई, मोहन नगर वार्ड के आदित्य नारायण तिवारी, रोमलाल, हरिशंकर दुबे, वार्ड 23 दीपक नगर के मूलचंद जैन, कृपाल कौर, आपापुरा वार्ड के रमेश कुमार राठी, साधिया बाई, गंजपारा वार्ड की मानकी बाई, तहसील कार्यालय केंटींन, फत्ते मोहम्मद, जगन्नाथ मेहता, पुलिया बाई, वार्ड 41 केलाबाड़ी की सुषमा बाई, वार्ड 42 कसारीडीह के रघुनाथ सिंह, और वार्ड 44 के मुन्शी रजा सहित 17 करदाता शामिल है। इन पर निगम का 22 लाख 52 हजार 296 रु.का बकाया हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804