GLIBS
04-07-2020
इंग्लिश मीडियम में पढ़ाई के लिए 3 हिंदी माध्यम स्कूलों का उन्नयन किया गया, संचालन के लिए कलेक्टर ने ली बैठक

रायपुर/बिलासपुर। बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए अंग्रेजी माध्यम से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए बिलासपुर के 3 हिन्दी माध्यम के स्कूलों को अंग्रेजी माध्यम में उन्नयन किया गया है। कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर ने इन स्कूलों के संचालन के लिये बैठक ली।कलेक्टर ने इन स्कूलों को बेहतर संचालन के लिये प्राचार्यों और शिक्षकों को महत्वपूर्ण जवाबदारी निभाने कहा । कलेक्टर ने कहा कि अंग्रेजी माध्यम में पढ़ने के इच्छुक बच्चों और उनके पालकों को प्राईवेट स्कूलों के ऊपर निर्भर रहना पड़ता है। इसको ध्यान में रखते हुए शासन की ओर से अंग्रेजी मीडियम स्कूल संचालित करने की योजना लायी गयी है। शिक्षकों के लिये यह गर्व की बात है कि उन्हें छत्तीसगढ़ शासन की इस योजना में भागीदारी करने का मौका मिल रहा है। अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, साफ-सफाई और स्कूल भवन के बेहतर रख-रखाव, व्यवस्था और अनुशासन से परिणाम भी बेहतर आएगा, इसका ध्यान रखना होगा।

लॉटरी पद्धति से मिलेगा प्रवेश

अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में क्लास-1 से लेकर क्लास-12 तक के कक्षाओं में लॉटरी पद्धति से विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा। प्रत्येक क्लास में 40-40 विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। क्लास-1 से 5 तक हिन्दी या अंग्रेजी मीडियम से पढ़े बच्चों को प्रवेश दिया जाएगा। किंतु क्लास-6 एवं ऊपर के सभी कक्षाओं में केवल अंग्रेजी मीडियम से पढ़े बच्चों को ही प्रवेश दिया जाएगा। इन स्कूलों में सभी कक्षाओं में प्रवेश के लिये 2939 आवेदन प्राप्त हुए हैं। जिनका परीक्षण किया जा रहा है। इसके बाद 8 जुलाई को शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला तारबाहर, 9 जुलाई को लाला लाजपतराय शाला और 10 जुलाई को मंगला उच्चतर माध्यमिक शाला में लॉटरी पद्धति से विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा। इन स्कूलों में शिक्षकों का चयन प्रतिनियुक्ति किया जाना प्रस्तावित है। इसके साथ अतिरिक्त स्वीकृत पदों के अनुसार अतिरिक्त कक्षाएं भी प्रस्तावित की गयी हैं। इन सभी प्रस्तावों का साधारण सभा में अनुमोदन किया गया।

03-07-2020
नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल की उप​लब्धि जन जन तक पहुंचाने भाजपा मंडल की हुई बैठक

कोरबा। दर्री मंगल भवन स्थित दुर्गा पंडाल में भाजपा दर्री मंडल के पदाधिकारी, संयोजक एवं सहसंयोजक की आवश्यक बैठक शुक्रवार को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए आहूत की गई। बैठक में नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के 1 वर्ष पूरा होने व किये गए कार्यो को जन जन तक पहुंचाने के लिए बूथ स्तर पर घर घर जाकर बताने के लिए सभी कार्यकर्ता को जिम्मेदारी दी गई। इसके लिए दर्री मंडल के सभी 12 वार्डो के लिए प्रभारी का चयन किया गया।  बैठक में मंडल अध्यक्ष नारायण सिंह ठाकुर, तुलसी ठाकुर,महामंत्री मनोज लहरे व मनोज यादव, उपाध्यक्ष राधा महंत व हसीम खान, मंत्री राजेश प्रजापति, रमला देवी वर्मा, पुराइन बाई कंवर,शुभाष पांडे,कोषाध्यक्ष संजय अग्रवाल,अशोक अग्रवाल,पार्षद फिरत साहू, जनक सिंह राजपूत,अवध गभेल,विद्या शुक्ला,महेंद्र पाल,विजेंद्र शर्मा के अलावा अन्य मंडल पदाधिकारी व संयोजक उपस्थित थे।

03-07-2020
अमरजीत भगत आज करेंगे खाद्य अधिकारियों से चर्चा

रायपुर। खाद्य व नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत शुक्रवार शाम खाद्य अधिकारियों की बैठक लेंगे। इस बैठक में खाद्य विभाग से संबंधित कार्यों की समीक्षा करेंगे। आगामी दिवसों के कार्यों पर चर्चा करेंगे। उल्लेखनीय है कि कोविड-19 महामारी के दौरान खाद्य विभाग ने छत्तीसगढ़ में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इस दौरान हर नागरिक तक राशन पहुँचाने के लिए मंत्री अमरजीत भगत के निर्देशन में खाद्य विभाग का अमला मुस्तैदी से लगा रहा।

लॉक डाउन के बाद अनलॉक के चरण में भी खाद्य आपूर्ति को लेकर विभाग मुस्तैद है। विभिन्न योजनाओं के जरिए खाद्य विभाग गरीब व जरुरतमंदों तक राशन की आपूर्ति कर रहा है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ राज्य का पीडीएस सिस्टम पूरे देश में सबसे सशक्त माना जाता है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के क्रियान्वयन में छत्तीसगढ़ अग्रणी राज्यों में से है।

02-07-2020
कलेक्टर ने जिले में संचालित विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं की ली जानकारी

कोरिया। कलेक्टर सत्यनारायण राठौर की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट सभाकक्ष में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत गठित एवं संचालित जिला स्वास्थ्य एवं कार्यकारिणी समिति, जिला गुणवत्ता निर्धारण समिति एवं अन्य जिला स्तरीय समितियों की बैठक हुई। जहां उन्होंने कहा कि जिला से राज्य और राज्य से देश की प्रगति होगी,जब हर व्यक्ति स्वस्थ और तंदरूस्त होगा। कोरिया जिले में बेहतर चिकित्सा एवं समय पर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना हमारी प्राथमिकता है।  बैठक में कलेक्टर ने जिले में संचालित विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाएं हर व्यक्ति के लिए आवश्यक हैं। इसमें किसी तरह की कमी ना रखें। कलेक्टर ने बैठक में मुख्य स्वास्थ्य सूचकांक में जिले की स्थिति एवं वर्ष 2019-20 की योजना एवं जिले की उपलब्धियों पर चर्चा की। संस्थागत में प्रसव प्रगति लाने निर्देश दिए एवं पूर्ण टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने उपस्थित चिकित्सकों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने जिले में स्थित चिकित्सीय सुविधा संबंधी स्वास्थ्य संस्थानों, निर्माणाधीन भवनों एवं मरम्मत पर विशेष चर्चा करते हुए जर्जर भवनों की शीघ्र मरम्मत कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि निर्माण एजेंसी स्वास्थ्य संबंधित भवनों का यदि कार्य पूरा हो गया हो तो, शीघ्र हैंड ओवर करें। बैठक में कलेक्टर ने जिले में कोविड-19 से बचाव एवं उपचार तथा कोविड हॉस्पिटल की जानकारी के साथ क्वारेंटाइन सेंटरों पर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने गर्भवती महिलाओं की जानकारी प्राप्त की तथा स्वास्थ्य व महिला एवं बाल विकास विभाग को आपस मे समन्वय कर उनकी जानकारी संधारित रखने के निर्देश दिए। इसी तरह उन्होंने सौर ऊर्जा का उपयोग बढ़ाने के निर्देश दिए एवं जिले में उपलब्ध विभिन्न एम्बुलेंस वाहनों की जानकारी प्राप्त की। इसके साथ ही मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना एवं मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना की जानकारी एवं जिले में स्वास्थ्य विभाग में रिक्त पदों की जानकारी लेकर शीघ्र नियुक्ति करने के निर्देश सीएमएचओ को दिए। बैठक में सीएमएचओ, सभी बीएमओ एवं जिला स्तरीय समितियों के नोडल अधिकारी एवं संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

01-07-2020
जिले में सघन पौधरोपण होगा 6 जुलाई को, कलेक्टर ने ली संबंधित विभागों की बैठक

रायपुर/जांजगीर-चापा। कलेक्टर यशवंत कुमार ने पौधरोपण के लिए विभागों की संयुक्त बैठक ली। कलेक्टर ने कहा कि 6 जुलाई को जिले के विभिन्न स्थानों में एक साथ वृहद पौधरोपण का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। कलेक्टर ने पंचायत, उद्यानिकी, रेशम, कृषि सहित संबंधित विभागों को इसकी पूर्व तैयारी करने के पूरने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित विभाग नर्सरी से पौधे प्राप्त कर चयनित स्थानों पर गड्ढे, सिंचाई व्यवस्था, पानी व सुरक्षा की व्यवस्था आदि सुनिश्चित कर लें। इस मानसून सत्र में जिले के विभिन्न स्थानों में नौ लाख से अधिक पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

50 लाख पौधों की नर्सरी तैयारी सितंबर माह से :

कलेक्टर ने कहा कि इस आगामी वर्ष के लिए  नर्सरी वन, रेशम, उद्यान विभाग द्वारा 50 लाख पौधे तैयार किए जाएंगे। उद्यान विभाग द्वारा वर्तमान में संचालित नर्सरी के अलावा प्रत्येक विकासखंड में 1-1 अतिरिक्त नर्सरी तैयार किया जाएगा। इसके लिए अतिक्रमण से मुक्त करवायी गयी शासकीय भूमि उपलब्ध करवायी जाएगी। तैयार किए जा रहे 50 लाख नर्सरी में से प्रथम वर्ष में छोटे पौधे रोपे जाएंगे। शेष पौधे को बड़े पौधे के रूप में तैयार कर आने वाले वर्षों के लिए तैयार किया जाएगा। बड़े पौधे की जीवित रहने की संभावना अधिक होती है। नर्सरी तैयार करने के लिए मनरेगा, डीएमएफ आदि विभिन मदों से स्वीकृति दी जाएगी। सभी संबंधित विभागों को नर्सरी के प्रस्ताव शीघ्र भेजने के निर्देश दिए। सितंबर-अक्टूबर माह में नर्सरी की तैयारी के लिए अनुकूल होता है। विभागों को लक्ष्य देते हुए कहा कि वन विभाग और रेशम विभाग की ओर से 15-15 लाख नर्सरी तैयार करेंगे।

वृहद पौधरोपण 6 जुलाई को :

वनमंडल अधिकारी प्रेमलता यादव ने कहा कि इस मौसम में वृक्षारोपण की तैयारी प्रारंभ हो गयी है। नर्सरी में पौधे उपलब्ध हैं। विभागों के मांगपत्र के अनुसार पौधे उपलब्ध करवाया जा रहा है। आगामी 6 जुलाई के वृहद वृक्षारोपण के लिए तैयारी की जा रही है। वन मण्डल अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रीय बांस मिशन के तहत कृषि विभाग के लिए नर्सरी तैयार की जाएगी। अन्य विभाग भी नर्सरी तैयार करने के लिए प्रस्ताव दे सकते हैं।  
जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने कहा कि कुपोषण मुक्ति मे लाभदायक मुनगा, आम, पपीता अमरूद आदि के पौधे फेंसिंग वाले आंगनवाड़ी केंद्रों में लगाए जाएंगे। इसके अलावा हितग्राहियो को भी घर पर लगाने के लिए पौधे उपलब्ध करवाया जाएगा। आहता वाले स्कूलों में मुनगा, पपीता, सीताफल, गुलमोहर, कदम आदि के पौधे लगाए जाएंगे। इसके अलावा लक्ष्य के अनुसार वन गमन पथ, सड़क, नहर, तालाब पार, गौठान, सड़क किनारे भी पौधरोपण किया जाएगा। 

 

01-07-2020
लोकल टूरिज्म को बढ़ावा देने वाटर स्पोर्टस सहित अन्य सुविधाओं के लिए बनेगी कार्ययोजना : ताम्रध्वज साहू

रायपुर। छत्तीसगढ़ में लोकल टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश के प्रमुख बांधों और वाटर बॉडी में वाटर स्पोर्ट, कैफेटेरिया सहित विभिन्न सुविधाएं विकसित की जाएगी। स्थानीय युवाओं को पर्यटन से जोड़ने के लिए भी इस सत्र से नवा रायपुर स्थित होटल मेनेजमेंट संस्थान में पाठ्यक्रम शुरू करने का निर्णय लिया गया। पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू छत्तीसगढ़ पर्यटन मण्डल के संचालक मंडल की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने बैठक में कहा कि कोरोना संकट काल में राज्य के पर्यटन स्थलों में स्थानीय पर्यटकों को आकर्षित करने की रणनित बनायी जाए। पर्यटन स्थलों में बेहतर सुविधाएं विकसित की जाए। उन्होंने कहा कि पहले चरण में धमतरी जिले के माडम सिल्ली बांध में वाटर टूरिज्म के लिए शीघ्र कार्ययोजना तैयार की जाए।ताम्रध्वज साहू ने रायपुर स्थित जोहार छत्तीसगढ़ होटल में साज सज्जा कर इसे नया रूपरूप देने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इस होटल के परिसर में कामर्शियल दृष्टिकोण से पर्यटन भवन का निर्माण किया जाए ताकि इसका बहुउद्देशीय उपयोग हो सके। उन्होंने अधिकारियों को इस सबंध में जल्द प्रस्तार तैयार करने भी कहा। उन्होंने राजधानी के निकट स्थित माना-तूता में पर्यटक सुविधाओं के विकास के लिए योजना बनाने के निर्देश दिए।छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल के संचालक मंडल की बैठक में पर्यटन विकास से संबंधित कार्यों को त्वरित गति से करने के लिए प्रदेश के सभी पर्यटन क्षेत्रों को दो या तीन जोन में विभाजित करने के संबंध में भी विचार-विमर्श किया गया। इस दौरान पर्यटन से संबंधित विभिन्न होटल, मोटल, रिसॉर्ट के संचालन, पर्यटन की पोस्ट कोविड तैयारियों, पर्यटन के प्रचार प्रसार, वॉटर टूरिज्म, एडवेंचर टूरिज्म, राम वन पाथ गमन के विकास कार्य सहित विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा की गई।बैठक में पर्यटन विभाग सचिव अन्बलगन पी, प्रबंध संचालक इफ्फत आरा, महाप्रबंधक सुनील अवस्थी सहित वाणिज्य, वित्त, परिवहन, वन, संस्कृति, रेलवे, एयरपोर्ट अथॉरिटी, इंडियन एयरलाइंस कॉरपोरेशन लिमिटेड के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

 

01-07-2020
 जिले में शिशुओं की सुरक्षा और कुपोषण दूर करने के लिए सघन टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा

रायपुर /बिलासपुर।  जिले में शिशुओं की सुरक्षा और कुपोषण दूर करने के लिए सघन टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर ने शिशु संरक्षण माह के संबंध में आयोजित जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति की बैठक में यह निर्देश दिया। शिशु संरक्षण माह का आयोजन 14 जुलाई से 14 अगस्त तक किया जाएगा।कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी से शिशु संरक्षण माह के संबंध में आवश्यक जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कुपोषण तभी जा सकता है जब टीकाकरण कार्यक्रम सही तरीके से किया जाए। कार्यक्रम के दौरान वैक्सीन की उपलब्धता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और एएनएम की अनिवार्य उपस्थिति सुनिश्ति करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पूरे टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान कोविड-19 की गाइड लाइन का भी पालन किया जाए। बच्चों में कुपोषण की जांच कर आवश्यकतानुसार पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती कर पोषणयुक्त आहार दिया जाए। कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास अधिकारी को अब नियमित रूप से आंगनबाड़ी केन्द्र खोलने एवं सामान्य रूप से आयोजित किए जाने वाले टीकाकरण को शुरू करने के भी निर्देश दिए।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के टीकाकरण केन्द्रों में मंगलवार एवं शुक्रवार को सवेरे 9 बजे से शाम 4 बजे तक शिशु स्वास्थ्य संवर्धन से संबंधित राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों का संचालन किया जाएगा। शिशु संरक्षण माह में 9 माह आयु से लेकर 5 वर्ष आयु के सभी बच्चों को विटामिन ए की खुराक दी जाएगी और टीकाकरण किया जाएगा। गर्भवती महिलाओं और नवजात बच्चों की माताओं को आयरन फोलिक एसिड की दवाओं का वितरण किया जाएगा। इसके साथ ही 6 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को भी आयरन फोलिक एसिड टेबलेट या सिरप दिया जाएगा। गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधी जानकारी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले के सभी स्वास्थ्य केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र और आंगनबाड़ी केन्द्रों को टीकाकरण केन्द्र बनाया जाएगा।बैठक में मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी, सिविल सर्जन, महिला बाल विकास अधिकारी के अलावा अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

 

29-06-2020
 महापौर परिषद की बैठक में लिए गए अहम फैसले

भिलाई। भिलाई नगर निगम में आज आहूत की गई महापौर परिषद की बैठक में विभिन्न विषयों पर महापौर परिषद के सदस्यों ने चर्चा करते हुए बहुत अहम फैसले जनता के हित को ध्यान में रखते हुए लिए। महापौर परिषद की बैठक महापौर देवेंद्र यादव की अध्यक्षता एवं उपायुक्त अशोक द्विवेदी की उपस्थिति में संपन्न हुआ। इससे पूर्व आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी की उपस्थिति में हुई समीक्षा बैठक में स्पैरो सॉ. प्रा. लि. के द्वारा यह संज्ञान में लाने पर की 17183 भवन/भूमियों के स्वामी जो वर्ष 2020-21 के पूर्व शास्ती अधिरोपित होने के वजह से तथा कोविड-19 के कारण आर्थिक स्थिति दयनीय होने का हवाला देकर जमा करने में असमर्थता व्यक्त कर रहे हैं तथा शास्ती राशि अधिरोपित न की जाए तो शेष राशि भुगतान कर सकते हैं। इसलिए ऐसे 17183 भवन/भूमियों के स्वामी की वित्तीय वर्ष 2020-21 के पूर्व शास्ती राशि माफ कर दी जाए। संपत्तिकर विभाग द्वारा लाए गए इस प्रकरण में निगम क्षेत्र अंतर्गत स्थित भवन/भूमि स्वामियों से उनके स्वामित्व के भवनों/भूमियों पर वित्तीय वर्ष 2020-21 के पूर्व के समस्त बकाया राशि जैसे संपत्तिकर, शिक्षा उपकर, समेकित कर, यूजर चार्ज एवं अधिभार की राशि का एकमुश्त भुगतान 30 नवंबर 2020 तक किया जाता है तो ऐसी दशा में ऐसे भवन/भूमि स्वामियों की शास्ती की राशि नियमों को शिथिल कर माफ की जा सकती है। इस प्रकरण पर महापौर परिषद के द्वारा चर्चा की गई और सर्वसम्मति से पास करते हुए शासन को प्रेषित करने का निर्णय लिया गया, इस निर्णय के उपरांत निगम क्षेत्र के 17183 लोगों को लाभ मिलेगा! शास्ती अधिरोपित करने का प्रावधान उल्लेखनीय है कि नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 138 की उप धारा के अंतर्गत यदि ऐसा व्यक्ति जिसका दायित्व था कि वह 31 मार्च के पूर्व स्वनिर्धारण पत्रक प्रस्तुत करें, यदि यह पत्रक प्रस्तुत नहीं किया जाता है तो उस पर चूक के लिए 1000 रुपए शास्ती अधिरोपित किए जाने का प्रावधान है। महापौर परिषद की बैठक में महापौर परिषद के सदस्य नीरज पाल, लक्ष्मीपति राजू, सुभद्रा सिंह, दिवाकर भारती, जोहन सिन्हा, दुर्गा प्रसाद साहू, सदरीन बानो, सुशीला देवांगन, जी. राजू, सत्येंद्र बंजारे, सूर्यकांत सिन्हा एवं सोशल लोगन सहित निगम के जोन आयुक्त एवं विभाग प्रमुख उपस्थित रहे।

28-06-2020
Video: कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रशासन ने ली होटल,मैरिज हाउस संचालकों की बैठक

रायगढ़। कलेक्टर भीम सिंह के निर्देश पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव के संबंध में किए जाने वाले उपायों के बारे में रायगढ़ एसडीएम युगल किशोर उर्वशा और नगर पुलिस अधीक्षक अविनाश ठाकुर के साथ स्थानीय होटल तथा विवाह स्थल (मैरिज हाउस)के संचालकों की बैठक कलेक्टोरेट के सभागृह में हुई। एसडीएम उर्वशा ने कोरोना महामारी के संक्रमण में हो रही लगातार वृद्धि को ध्यान में रखते हुये होटल और मैरिज हाऊस संचालकों से प्रशासन को सहयोग की अपेक्षा व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में विवाह समारोह में सम्मिलित व्यक्तियों की कुल संख्या प्रशासन द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार 50 से अधिक नहीं हो होनी चाहिये तथा प्रत्येक होटल और मैरिज हाउस संचालक उनके यहां आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में सम्मिलित व्यक्तियों की सूची, उनकी टे्रवल हिस्ट्री और इन कार्यक्रमों की विडियोग्राफी कराकर तथा सीसीटीवी के फुटेज प्रतिदिन प्रशासन को उपलब्ध करायेंगे। साथ ही भोजन व्यवस्था अथवा कार्यक्रम संचालन के दौरान अनिवार्य रूप से मॉस्क पहनने तथा सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिये प्रेरित करें। बैठक के दौरान नगर पुलिस अधीक्षक अविनाश ठाकुर ने होटल और मैरिज हाऊस संचालकों को सचेत करते हुये कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमण को देखते हुये विशेष सावधानी बरतते हुये शासन द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करते हुये सहयोग करने की अपील की साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि लापरवाही बरतने या उल्लंघन करने पर संबंधितों के लिये प्राथमिकी दर्ज कर वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

 

28-06-2020
बस मालिक, टूर्स एण्ड ट्रेव्हल्स ऑपरेटर्स की बैठक, वाहन परिचालन एवं कोविड-19 संक्रमण के बचाव के लिए दिए निर्देश

भिलाई। शासन द्वारा बसों के परिचालन की अनुमति दिये जाने पर बस परिचालन संबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिये जाने के लिए  एवं कोविड-19 महामारी से बचाव संबंधी सुझाव देने  27 जून को पुलिस कंट्रोल रूम सेक्टर 6 में बस मालिक संघ तथा टूर एण्ड ट्रेव्हल्स एजेंसी संचालकों की मीटिंग आहूत की गई। मीटिंग में डॉ.आर.के.खण्डेलवाल मुख्य चिकित्सक एवं स्वास्थ अधिकारी, जिला चिकित्सालय दुर्ग द्वारा कहा गया कि, आपके वाहनों के माध्यम से जो भी यात्री एक राज्य से दूसरे राज्य या एक जिले से दूसरे जिले परिवहन करते है इसकी जानकारी आपके द्वारा हमारे दुर्ग चिकित्सालय कार्यालय में बनाये गये कंट्रोल रूम में (प्रोफार्मानुसार) आवश्यक रूप से यात्री की जानकारी देना होगा। जिससे स्वास्थ्य विभाग उनके निवास स्थान तक पहुंचकर जांँच के लिए सेम्पल ले सके और उन यात्रियों को 14 दिन क्वारेंइन किया जा सकें ताकि वे यदि संक्रमित पाये जाते है तो संक्रमण को फैलने से रोका जा सकें। आपके द्वारा स्वास्थ्य विभाग को किसी भी प्रकार की जानकारी देने के लिए हेल्प लाईन नंबर-104 या कार्यालय नंबर 0788-2210663 पर कॉल करके जानकारी दिया जा सकता है एवं स्वास्थ्य विभाग की डॉ.अर्चना चौहान के मोबाईल नंबर 98271 61626 नंबर पर एसएमएस या व्हाट्सअप से जानकारी दे सकते है।
मीटिंग के दौरान रोहित झा,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, शहर के द्वारा कहा गया कि किसी के भी द्वारा कोई भी जानकारी छुपाये जाने पर उस पर सख्त कार्यवाही की जावेगी। वाहन मालिकों को बस ड्राइवर एवं कंडेक्टर के बचाव के लिए आवश्यक केबिन का निर्माण कराने क लिए सुझाव दिए गए। मीटिंग में बस मालिक संघ तथा टूर एण्ड ट्रेव्हल्स एजेंसी संचालक अनुप यादव,लोकेश्वर सिंह,गुरमीत सिंह,ललित लोधी,जीएस देशमुख,जावेद खान, गिरीश, ललन, सुमीत ताम्रकार,रूपेश कुमार राठौर, उपस्थित हुए।

 

 

27-06-2020
 शासकीय हाईस्कूल में अंग्रेजी माध्यम की कक्षाएं शुरू करने को लेकर हुई बैठक

कोरबा। शासकीय हाई स्कूल दीपका में बैठक हुई,जिसमें अंग्रेजी माध्यम में स्कूल संचालित करने को लेकर विचार विमर्श किया गया। इस अवसर पर कटघोरा क्षेत्र के विधायक पुरूषोत्तम कंवर , जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पांडे एवं हायर सेकेंडरी विद्यालय दीपका के प्राचार्य उषा कुटार के उपस्थिति थीं। मुख्यमंत्री के आदेश अनुसार शासकीय स्कूल दीपका में अंग्रेजी माध्यम में कक्षाएं संचालित करने का आदेश प्राप्त हुआ है। इस विषय में चर्चा की गई,जिसमें मुख्य रुप से अनिरुद्ध सिंह ने हिंदी माध्यमों से संचालित स्कूल को यथावत यही रखने के साथ अंग्रेजी माध्यम को भी संचालित करने के लिए अपना पक्ष रखा। तनवीर अहमद ने अपना सुझाव दिया। इन सबके सुझाव को देखते हुए इस वर्ष अंग्रेजी माध्यम स्कूल को नहीं संचालित करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद नई स्कूल की व्यवस्था और सर्व सुविधा युक्त व्यवस्था करने के पश्चात से अगले सत्र में स्कूल खोले जाने पर सहमति बनी। सारी व्यवस्था हो जाने के उपरांत अंग्रेजी माध्यम से कक्षाएं चालू कर दी जाएगी। इस अवसर पर मुख्य रूप से शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष वीर सिंह कंवर, विजय भूषण कंवर ,शेख ईस्तियाक, विधायक प्रतिनिधि तनवीर अहमद,विशाल शुक्ला,अनिरुद्ध सिंह, तारकेश्वर मिश्रा,वार्ड पार्षद गया प्रसाद चंद्रा, पार्षद राम कुमार कंवर,आकाश शर्मा, मार्शल एंथोनी रामशरण तथा विद्यालय के शिक्षक, शिक्षिकाएं उपस्थित थीं।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804