GLIBS
04-06-2020
स्पाइजेट के पायलट को बदमाशों ने लूटा, कार में की तोड़फोड़

नई दिल्ली। एयरपोर्ट जा रहे स्पाइस जेट के पायलट को दिल्ली में गनप्वाइंट पर लूट लिया गया। ये घटना कल आधी रात की है। जानकारी के मुताबिक, एयरलाइन के पायलट पर उस वक्त हमला हुआ जब वो अपनी कार से एयरपोर्ट जा रहे थे। हमलावर बाइक पर सवार थे। उन्होंने बाइक को गाड़ी के आगे लगाकर सड़क को ब्लॉक किया। फिर कार की खिड़की तोड़ दी। बदमाशों ने बंदूक के दम पर पायलट से पैसे छीने। पायलट की पहचान कैप्टन युवराज तेवतिया के तौर पर हुई है। वे फ्लाईओवर के पास से लहूलुहान हालत में मिले। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की खोज में लगी है।

24-05-2020
सौरभ कुमार ने गाइड लाइन का पालन कराने अधिकारियों को सौंपी जिम्मेदारी, आदेश जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन, सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से रेलवे या हवाई जहाज से यात्रा कर रायपुर आने वाले यात्रियों के संबंध में जारी गाइड लाइन के अनुसार कार्यवाही की जाएगी। इसके लिए प्रभारी कलेक्टर सौरभ कुमार ने नोडल और सहायक नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की है। स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट परिसर रायपुर में फिजिकल डिस्टेंसिंग तय करने, एयरपोर्ट से क्वारेंटाइन केंद्र ले जाते समय और क्वारेंटाइन केन्द्रों में समुचित सुरक्षा व्यवस्था के लिए नोडल अधिकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायपुर और सहायक नोडल अधिकारी तारकेश्वर पटेल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायपुर ग्रामीण को जिम्मेदारी सौंपी गई है। स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट परिसर में सुविधा केंद्र, हेल्थ डेस्क और आइसोलेशन किओस्क स्थापित करने, सभी यात्रियों के हैंड-बैगेज और चेक-इन बैगेज पर कीटाणुनाशक घोल का छिड़काव करने के लिए नोडल अधिकारी आयुक्त नगर पालिक निगम रायपुर और सहायक नोडल अधिकारी पुलक भट्टाचार्य अपर आयुक्त, नगर पालिक निगम रायपुर रहेंगे।
स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट परिसर में हेल्थ डेस्क और आइसोलेशन किओस्क स्थापित करने,जांच के लिए सैंपल कलेक्ट करने, होम क्वारेंटाइन की दशा में स्टीकर चस्पा कराने और क्वारेंटाइन केन्द्रों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की निगरानी के लिए नोडल अधिकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर और सहायक नोडल अधिकारी, मनीष मजरवार जिला कार्यक्रम प्रबंधक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन रायपुर रहेंगे। शासकीय क्वारेंटाइन केन्द्रों की स्थापना, सतत निगरानी एवं अन्य समस्त आवश्यक व्यवस्था के लिए नोडल अधिकारी डॉ.गौरव कुमार सिंह मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत रायपुर और सहायक नोडल अधिकारी संदीप अग्रवाल, संयुक्त कलेक्टर एवं अनुविभागीय दण्डाधिकारी रायपुर रहेंगे। इसी तरह स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट परिसर से आइसोलेशन या क्वारेंटाइन केंद्रो तक यात्रियों को पहुंचाने के लिए श्री शैलाभ साहू क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी रायपुर और सहायक नोडल अधिकारी योगेश्वरी वर्मा सहायक क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी रायपुर रहेंगे। उपरोक्त सभी व्यवस्थाओं के समंवय के लिए विनीत नंदनवार, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी रायपुर रहेंगे। आदेश की कापी देखने के लिए यहां क्लिक करें.. 

23-05-2020
हवाई यात्रा शुरू होने से पहले सांसद सुनील सोनी पहुंचे एयरपोर्ट

रायपुर। लॉक डाउन में अब थोड़ी रियायत दी जा रही है। आवागमन के साधनों को शुरू किया जा रहा है। इसी कड़ी में केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने 25 मई से हवाई यात्रा प्रारंभ करने की बात कही है। छत्तीसगढ़ में भी 25 मई से डोमेस्टिक फ्लाइट्स की आवाजाही शुरू हो जाएगी। शनिवार को रायपुर एयरपोर्ट पर सलाहकार समिति के चेयरमैन एवं रायपुर सांसद सुनील सोनी और सलाहकार समिति सदस्य प्रीतेश गांधी, ललित जैसिंघ एयर कीर्ति व्यास ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान एयरपोर्ट के डायरेक्टर राकेश सहाय व वरिष्ठ अधिकारियों और सीआईएसएफ के पीडी गैसुंग व अधिकारी मौजूद थे। सुरक्षा से संबंधित सभी व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली गई। एयरपोर्ट परिसर का सघन निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

इस दौरान उन्होंने एयरपोर्ट के अधिकारियों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए मास्क व सैनिटाइजर वितरित किया। ललित जैसिंघ ने बताया कि कोरोना संक्रमण के कारण रायपुर एयरपोर्ट में सुरक्षा के चाक-चौबंध इंतजाम किए गए हैं। यात्रियों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा गया है। एंट्री व एग्जिट डोर में थर्मल स्क्रीनिंग, ऑटोमेटिक सैनिटाइजर मशीन, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए स्टेप मार्किंग, यात्रियों के लगेज के लिए स्क्रीनिंग व सैनिटाइजिंग की व्यवस्था औऱ सोशल डिस्टेंसिंग के पालन व कोरोना महामारी से बचाव के लिए जगह-जगह पर जागरूकता संदेश और बैठक के लिए कुर्सियों पर स्टिकर लगाए गए हैं। अन्य मूलभूत सुविधाओं का भी विशेष ध्यान रखा गया है। लगभग दो महीने के लॉक डाउन के बाद 25 मई से हवाई यात्रा शुरू होने जा रही है।

20-05-2020
एयरपोर्ट में नौकरी लगाने के नाम पर लाखों की ठगी, मामला दर्ज

रायपुर। एयरपोर्ट में ग्राउंड होल्डिंग के पद पर नौकरी लगाने के ​नाम पर लाखों रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थी नोहर कुमार सिन्हा निवासी कोटे कोहरा छुरिया राजनांदगांव को एयरपोर्ट में ग्राउंड हेल्डिंग के पद पर नौकरी लगाने के नाम पर आरोपी उमेश बारले ने दो लाख रुपये की ठगी की है। प्रार्थी द्वारा बार—बार संपर्क करने पर आरोपी ने मोबाइल बंद कर दिया। इसके बाद नोहर ने राखी थाना पहुंचकर मामले की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

10-05-2020
एयरपोर्ट में की जाएं यात्रियों की पूरी जांच : कीर्ति व्यास

रायपुर। हवाई यात्रा करके लौटने वालों के लिए ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया 'टाई' ने कहा है कि यात्रियों की जांच एयरपोर्ट पर ही की जाएं। थर्मल स्क्रीनिंग समेत कोरोना के अन्य जांच से संतुष्ट होने के बाद ही यात्री को फ्लाइट में बैठने की अनुमति दी जाएं। एसोसिएशन के मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ के पूर्व अध्यक्ष कीर्ति व्यास ने नागर विमानन महानिदेशालय 'डीजीसीए' को सुझाव दिया है।

यदि एयरलाइंस कंपनियां इस तरह से सीटें कम करेंगी इसका सीधा नुकसान उपभोक्ताओं को होगा। एयरलाइंस कंपनियों द्वारा हवाई फेयर बढ़ा दिए जाएंगे। 1 जून से विमानन कंपनियों की बुकिंग शुरू होने जा रही है। इंडिगो, विस्तारा एयरलाइंस सहित दूसरी कंपनियों ने एक जून से फ्लाइट की बुकिंग शुरू कर दी है। कंपनी रायपुर से दिल्ली, मुंबई सहित कई क्षेत्रों के लिए बुकिंग कर रही है। इस स्थिति में सभी यात्रियों की कोरोना समेत अन्य जांच के बाद उन्हें यात्रा की अनु​मति दे।

14-04-2020
प्रधानमंत्री ने किया ऐलान लॉक डाउन 3 मई तक बढ़ाया गया, यह भी कहा...

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सारे सुझावों को देखते हुए लॉक डाउन 3 मई तक बढ़ाया गया है। हमें इस समय अनुशासन का पालन करना है। देशवासियों से प्रार्थना है कोरोना को नए क्षेत्रों में फैलने नहीं देना है। कोरोना से एक भी मरीज की दुखद मृत्यु होती है तो चिंता बढ़नी है। हमें कठोर कदम उठाने होंगे। 20 अप्रैल तक हर कस्बे थाने राज्य को बड़ी बारीकी से परखा जाएगा। कोरोना से कैसे बचाया गया है इसका मूल्यांकन किया जाएगा। जिन इलाकों में हॉटस्पॉट बढ़ने की गुंजाइश नहीं होगी वहाँ 20 अप्रैल से कुछ रियायत होगी। ना खुद को लापरवाही करनी है ना करने देना है। कल एक गाइडलाइन जारी की जाएगी। सभी देशवासियों की तपस्या से नुकसान को काफी हद तक टालने में सफलता मिली है। जनता ने कष्ट सहकर देश को बचाया है। जनता को काफी परेशानी हो रही है, किसी को खाने की परेशानी है तो कोई घर से दूर है। आप सब को आदरपूर्वक नमन करता हूं।

संविधान में जो वी द पीपल की बात कही गई वह यही है। सामुहिक शक्ति का संकल्प बाबा साहेब को सच्ची श्रद्धांजलि है। देश की खातिर लोगों ने अनुशासन दिखाया है। भारत मजबूती से कोरोना से लड़ रहा है। लोग सादगी से त्योहार मना रहे हैं। मोदी ने कहा विश्व में कोरोना की स्थिति से सभी भलीभांति परिचित है। जब भारत में कोरोना प्रभावित एक भी केस नहीं था तब भारत ने एयरपोर्ट पर विदेश से आने वालों की स्क्रीनिंग शुरू कर दी थी। भारत ने 21 दिन के लॉक डाउन का बड़ा कदम उठाया। अगर दुनिया के बड़े-बड़े सामर्थ्यवान देशों में कोरोना की स्थिति के मुकाबले भारत संभला हुआ है। आज उन देशों में भारत की तुलना में कोरोना के केस 25 से 30 गुना बढ़ चुके हैं। समय पर हमने फैसले नहीं लिए होते तो आज भारत की स्थिति क्या होती सोचने पर रूह खड़ी हो जाती है। सोशल डिस्टेंसिंग का बड़ा लाभ देश को मिला है। सीमित संसाधनों के बीच भारत जिस मार्ग पर चला है उसकी चर्चा होना स्वाभाविक है। राज्य सरकारों ने भी साथ दिया है।

24-03-2020
मुख्यमंत्री की विशेष पहल से दिल्ली एयरपोर्ट में फंसे छत्तीसगढ़ के 50 यात्री लौट रायपुर

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विशेष पहल से छत्तीसगढ़ के 50 यात्री, जो आज मंगलवार सुबह दिल्ली एयरपोर्ट में फंस गए थे। उन्हें इंडिगो की फ्लाईट से रायपुर लाया जा रहा है। कोरोना वायरस के लॉकडाउन के चलते छत्तीसगढ़ के ये 50 यात्री दिल्ली एयरपोर्ट में फंसे गए थे। ये सभी यात्री कनेक्टिंग फ्लाइट से दिल्ली एयरपोर्ट पहुचे थे। जहां दिल्ली एयरपोर्ट अथॉरिटी ने यात्रियों को रायपुर लाने से इंकार कर दिया था। दिल्ली एयरपोर्ट पर फंसे इन यात्रियों ने मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल से मदद मांगी। जिस पर त्वरित आवश्यक पहल करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों से बात की जिससे इन यात्रियों की सकुशल रायपुर वापसी हो सकी है।

21-03-2020
क्वारंटीन सेंटर में भर्ती युवक ने कहा फाइव स्टार से अच्छी सुविधाएं मिल रही

रायपुर। नवा रायपुर में राज्य सरकार ने क्वारंटीन सेंटर बनाया है। एयरपोर्ट के करीब इसे तैयार किया गया है। इससे विदेश से आने वाले स्थानीय जरुरत पड़ने पर यहां रखे जा सके। हाल ही में विदेश से लौटे एक युवक को जांच के बाद यहां रखा गया है। युवक ने सोशल मीडिया में अपना वीडियो बनाकर व्यवस्था की तारीफ भी की है। युवक ने वीडियो में कहा है कि फाइव स्टार होटल से अच्छी सुविधा क्वारंटीन सेंटर में मिल रही है। उसने अपने वीडियो में बताया  है कि घर जाने से अच्छा यहां सुविधा का उपयोग करें ताकि अन्य लोग बीमार न पड़े।

 

21-03-2020
बाहर से लौटने वालों पर नजर रखने हर गांव में कराई जाएगी मुनादी, मितानिनें करेंगी सावधान

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह की अध्यक्षता में शनिवार को हुई स्टेट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर की बैठक में एयरपोर्ट पर यात्रियों की स्क्रीनिंग, अस्पतालों में जांच व उपचार तथा क्वारेंटाइन सेंटर्स में तमाम व्यवस्थाओं की समीक्षा की गई। बैठक में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने भारत सरकार और राज्य शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों और एडवाइजरी का प्रभावी पालन सुनिश्चित करने के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए। उल्लेखनीय है कि राज्य स्तर पर गठित कमांड एंड कंट्रोल सेंटर द्वारा प्रतिदिन सभी व्यवस्थाओं की समीक्षा की जा रही है। बैठक में केन्द्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की संयुक्त सचिव ऋचा शर्मा भी मौजूद थीं।

बैठक में बताया गया कि क्वारेंटाइन सेंटर्स में चिकित्सा सुविधा, लॉजिस्टिक्स और सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। व्यवस्थाओं के सुचारू संचालन के लिए यहां कार्यपालिक दंडाधिकारी, स्वास्थ्य अधिकारी एवं पुलिस बल की तैनाती की गई है। सभी क्वारेंटाइन सेंटर्स मंय बायो-वेस्ट्स (Bio-wastes) के समुचित निपटारे की व्यवस्था सुनिश्चित करने कहा गया। बैठक में सभी जिलों के नोडल अधिकारियों को हाल ही में विदेश प्रवास से लौटे लोगों की जांच कराकर आवश्यकतानुसार होम आइसोलेशन या क्वारेंटाइन सेंटर में रखने के निर्देश दिए गए। बाहर से लौटने वालों पर नजर रखने और इस बारे में लोगों को जागरूक करने कोटवारों के माध्यम से सभी गांवों में मुनादी करवाई जाएगी। बाहर से लौटने वालों को मितानिनों के जरिए जरूरी सतर्कता एवं सावधानियों के बारे में बताया जाएगा।

स्वास्थ्य सचिव ने बैठक में भारत सरकार द्वारा निर्धारित दरों पर मास्क और हैंड-सैनिटाइजर की उपलब्धता सुनिश्चित कराने नियंत्रक, खाद्य एवं औषधि प्रसाधन को निर्देशित किया। सभी अस्पतालों में भी पर्याप्त संख्या में इसकी आपूर्ति सुनिश्चित करने कहा। बैठक में अस्पतालों एवं क्वारेंटाइन सेंटर्स में संदिग्धों की देखभाल और इलाज में लगे डॉक्टरों व अन्य मेडिकल स्टॉफ के लिए पृथक आवासीय व्यवस्था तथा लॉजिस्टिक्स के संबंध में भी निर्देश दिए गए। समीक्षा  बैठक में संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला, संचालक चिकित्सा शिक्षा डॉ. एसएस आदिले, नियंत्रक खाद्य एवं औषधि प्रसाधन  एसएन राठौर, रायपुर के कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, नगर निगम के आयुक्त सौरभ कुमार, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मीरा बघेल, सिविल सर्जन डॉ. रवि तिवारी, डॉ. भीमराव अंबेडकर स्मृति चिकित्सालय के अधीक्षक डॉ. विनीत जैन और डॉ. आरके पंडा भी मौजूद थे।

 

19-03-2020
विदेश से लौटे 8 लोगों को रखा गया देखरेख में, एयरपोर्ट में हो चुकी हैं स्क्रीनिंग

धमतरी। कोरोना की दहशत के बीच एक खबर आई है जिसमे 8 लोगों को देखरेख मे रखा गया है। हालांकि उनकी स्क्रीनिंग एयरपोर्ट में भी हो चुकी है, एहतियातन उन्हें 14 दिनों तक अलग रखा जायेगा। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि 13 और 15 मार्च को अलग अलग समय मे 8 व्यक्ति विदेश से जिले में आये है, जिन्हें यहीं का निवासी बताया जा रहा है। विभाग को जानकारी होने पर उन्हें देखरेख में रखा गया है उनका नाम व पता भी गुप्त रखा गया है। हालांकि उनका कहना है कि एयरपोर्ट में उनकी स्क्रीनिंग हो चुकी हैं, लेकिन उन्हें 14 दिन तक अलग रखना जरूरी है। इस सम्बंध में मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ तुर्रे ने बताया कि विदेश से आने वालों के बारे में पास्पोर्ट विभाग से जानकारी मिली थी। उन्हें एहतियात के तौर पर स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रखा गया है। उनमें संक्रमण के लक्षण भी नही है फिर भी वह संदिग्ध न निकले इस वजह से उन्हें कवारन्टाईन सेंटर में रखा गया है।

 

18-03-2020
विदेश प्रवास की जानकारी छुपाने वाले 32 लोग मिले है, उन पर कार्रवाई क्यों नहीं? नए लोगों का इंतज़ार क्यों?

रायपुर। दुबई से लौटे 32 लोगों ने एयरपोर्ट पर अपने दुबई से लौटने की बात छुपाई और जांच से बचकर निकल आए। अब इस बात का पता चला है तो उन्हें घर में ही आइसोलेशन में रखा जा रहा है। दुबई से लौटे हैं इसलिए जाहिर है कि वह बड़े और संपन्न परिवार के ही होंगे। तो क्या सिर्फ इस बात के लिए उन्हें कार्रवाई से बचने का अधिकार दिया जा सकता है? जिन लोगों ने प्रदेश में कोरोना की दस्तक की आशंका पैदा कर दी क्या उन्हें इस तरह छूट दी जा सकती है? फिर अगर उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है तो आने वाले दिनों में जानकारी छुपाते पकड़े जाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की बात क्यों? क्या छत्तीसगढ़ में दो तरह के नियम है? यदि यही गलती कोई छोटा-मोटा आदमी करता तो क्या उसे इस तरह वीआईपी ट्रीटमेंट मिलता? नियम तो नियम होते हैं और कानून सबके लिए बराबर होना चाहिए। पूरे प्रदेश को एक अनजान भय से रूबरू कराने वाले लोग चैन से अपने घर के कमरों में आइसोलेशन में हैं।

लेकिन आइसोलेशन में जाने से पहले जिन लोगों से वे मिले हैं उनकी स्थिति क्या होगी? क्या वे भय और आतंक में नहीं जी रहे होंगे? और यदि मान लीजिए उनमें कोई पॉजिटिव पाया जाता है तो प्रदेश को कोरोना की चपेट में लाने वाले शख्स के खिलाफ क्या कोई कार्रवाई होगी? इस तरह की जानकारी जानबूझकर छुपाना तो सरासर गलत है। यदि यही गलती अनजाने में हुई रहती तो इसे मानवीय भूल माना जा सकता था। लेकिन कोरोना के आतंक की खबरें लगातार प्रकाशित और प्रसारित की जा रही है। ऐसे में इस तरह की गलती अक्षम्य मानी जा सकती है। यदि यही गलती अनजाने में या जानकारी के अभाव में होती तो उसे माफ किया जा सकता था। लेकिन सब कुछ जानते हुए भी अपने परिवार वालों को अपने परिचितों को अपने मिलने-जुलने वालों को और आम लोगों को जो उनसे संपर्क में आते हैं उन को खतरे में डालने वालों को किस तरह माफ किया जा सकता है? यह सवाल बहुत बड़ा है?

15-03-2020
मध्‍यप्रदेश सियासी हलचल : जयपुर से भोपाल पहुंचे कांग्रेस विधायक, एयरपोर्ट के आसपास धारा 144 लागू

भोपाल। मध्यप्रदेश में चल रहे राजनीतिक हलचल के बीच रविवार को कांग्रेस के विधायक भोपाल पहुंच गए हैं। यह सभी विधायक राजस्थान के जयपुर के रिजॉर्ट में थे। कांग्रेसी विधायक  भोपाल पहुंच गए है और एयरपोर्ट पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक एयरपोर्ट के आसपास धारा 144 लागू कर दिया गया है। रविवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। इसमें सभी विधायकों को शामिल होने के निर्देश दिए गए हैं। इस बैठक में सरकार बचाने की रणनीति पर चर्चा होगी। बता दें कि इससे पहले विधानसभा स्पीकर ने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक छह विधायकों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। हालांकि फ्लोर टेस्ट का आदेश देते हुए राज्यपाल ने कहा है कि अब इस कार्रवाई को स्थगित नहीं किया जा सकता है। वहीं कांग्रेस के छह विधायकों के इस्तीफे स्वीकार करने के बाद 230 सीटों वाली विधानसभा में 222 सदस्य रह गए हैं। दो सीटों दो विधायकों की मौत के बाद से खाली चल रही हैं। ऐसे में बहुमत के लिए 112 विधायकों की जरूरत है। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804