GLIBS
02-08-2020
लोन वरार्टू योजना से प्रभावित होकर इनामी नक्सली ने किया दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक के समक्ष आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों के आत्मसमर्पण और उन्हें समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए लोन वर्राटू योजना चलाई जा रही है जिससे प्रभावित होकर माओवादी आत्मसमर्पण कर रहे हैं। 1 अगस्त 2020 को लोन वरार्टू योजना से प्रभावित होकर और नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर समाज के मुख्यधारा में जुड़ने माओवादी ने आत्मसमर्पण किया। 8 लाख के ईनामी माओवादी भैरमगढ़ एरिया के पश्चिम बस्तर डिवीजन कमेटी में सक्रिय नक्सली प्लाटून नंबर 13 का डिप्टी कमांडर मल्ला तामो पिता सुक्को तामो उम्र 28 वर्ष निवासी पालनार थाना कुआकोण्डा जिला दंतेवाड़ा ने अपनी बहन के कहने पर आत्मसमर्पण किया है। आत्मसर्पित माओवादी को दंतेवाड़ा एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने छत्तीसगढ़ शासन की आत्मसर्पण और पुनर्वास नीति के तहत 10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि दी।

14-07-2020
Video: तीन इनामी माओवादी सहित पांच नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। जिले में नक्सलियों के आत्मसमर्पण एवं उन्हें समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए लोन वर्राटू योजना चलाई जा रही है,जिससे प्रभावित होकर माओवादी आत्मसपर्ण कर रहे हैं।मंगलवार को बोदली सीएएफ कैम्प थाना बारसूर में लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर एवं नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर समाज के मुख्यधारा में जुड़ने के उद्देश्य से माओवादियों के इंद्रावती एरिया कमेटी के अंतर्गत सक्रिय पांच माओवादी,जिसमें बोधघाट एओएस डिप्टी कमांडर जगदीश उर्फ रतन कवासी, बोधघाट एलओएस सदस्य कमलेश उर्फ मोटू राम, क्रांतिकारी जनताना सरकार अध्यक्ष दिनेश उर्फ मनी राम, जनमिलिशिया सदस्य बालकु कश्यप, जनमिलिशिया सदस्य शिवनाथ उर्फ मनकू राम ने दंतेवाड़ा एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव एवं उप पुलिस महानिरीक्षक केरिपु बल दंतेवाड़ा डीएन लाल समक्ष बारसूर थाना में बोदली कैम्प में आत्मसमर्पण किया।

इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा राजेन्द्र जायसवाल, संजय राउत, द्वितीय कमान अधिकारी 195वीं वाहिनी सीआरपीएफ बारसूर, चंद्रकांत गर्वना पुलिस अनुविभागीय अधिकारी दंतेवाड़ा, अभिषेक पैकरा उप पुलिस अधीक्षक, सुशान्त साहू सहायक कमाण्डेन्ट 195वी वाहिनी कैम्प मलेवाही, सोन सिंह सोड़ी थाना प्रभारी बारसूर, इंद्र कुमार सिवानी प्लाटून कमांडर एसटीएफ कैम्प बोदली,संतोष पांडेय प्लाटून कमांडर बोदली एवं अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे। आत्मसर्पित माओवादियों को दंतेवाड़ा एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव के द्वारा छत्तीसगढ़ शासन  की आत्मसर्पण एवं पुनर्वास नीति के तहत 10-10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

 

08-07-2020
Video: माओवादी दंपत्ति ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत बुधवार को मलांगिर एरिया कमेटी में सक्रिय माओवादी दम्पति ने आत्मसमर्पण किया है। नक्सली प्रकाश करटामी उर्फ पांडु पर 2 लाख रुपए इनाम था। उसके साथ ही सीएनएम सदस्य हड़मे कटरामी ने भी समर्पण किया। दंपति ने लोन वर्राटू अभियान तथा माओवादी संगठन की खोखली विचारधारा से तंग आकर एवं छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर समाज के मुख्यधारा में जुड़ने की इच्छा व्यक्त कर उप पुलिस महानिरीक्षक केरिपू बल दंतेवाड़ा डीएन लाल एवं दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव के समक्ष आत्मसमर्पण किया। छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पित माओवादियों को 10-10 हजार रुपए दंतेवाड़ा एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव के द्वारा प्रोत्साहन राशि दी गई।

07-07-2020
जमानत पर घर पहुंचे आरोपी की हत्या, हत्यारे ने लालपुर थाने में किया आत्मसमर्पण

मुंगेली। जिले के लोरमी ब्लॉक अन्तर्गत लालपुर थाना क्षेत्र ग्राम हरनाचाका में आपसी रंजिश को लेकर बीती रात हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी खोरबहारा सिंह और मृतक कैलाश के बीच बहुत समय से रंजिश चली आ रही थी। इसके चलते दोनों के बीच आये दिन विवाद की स्थिति उत्पन्न होती थी। मृतक कैलाश सिंह पिछले महीने जमानत पर जेल से घर पहुँचा था। वह हत्या के आरोप में जेल में था। आरोपी खोरबहरा सिंह ने हत्याकाण्ड को अंजाम देने के बाद पुलिस थाने लालपुर में आत्म सर्मपण कर दिया। वहीं परिजन सागर सिंह ने बताया की हत्याकांड में अन्य आरोपी भी शामिल हैं जो फरार हैं। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस जांच में जुट गई है। पुलिस के मुताबिक हत्याकांड में और भी लोगों के शामिल होने की आशंका है।

04-07-2020
2 इनामी माओवादी सहित 7 माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

 दंतेवाड़ा। जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दंतेवाड़ा के विभिन्न ग्रामों के व्यक्ति,जो प्रतिबंधित नक्सली संगठन में सक्रिय हैं उन्हें आत्मसमर्पण कर सम्मानपूर्वक जीवनयापन करने के लिए लोन वर्राटू योजना(घर वापस आइए) चलाई जा रही है। पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ.अभिषेक पल्लव द्वारा लगातार नक्सली संगठनों में सक्रिय माओवादियों से अपील की जा रही है कि वह वापस आए और आत्मसमर्पण कर सम्मानपूर्वक जीवन यापन करें। शनिवार को माओवादियों के कटेकल्याण एरिया कमेटी के अंतर्गत सक्रिय 7 माओवादियों ने लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर एवं नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव एवं उप पुलिस महानिरीक्षक केरिपु बल डीएन लाल के समक्ष आत्मसपर्ण किया। छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पित माओवादियों को पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ.अभिषेक पल्लव के द्वारा प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

 

04-07-2020
पत्रकार साई रेड्डी की हत्या में शामिल पांच लाख के इनामी नक्सली सहित दो ने किया समर्पण

बीजापुर। बीजापुर बस्तर रेंज में पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सली उन्मूलन अभियान व शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर बस्तर आईजी पी.सुंदर राज,डीआईजी सीआरपीएफ कोमल सिंह,बीजापुर कलेक्टर रितेश अग्रवाल व बीजापुर एसपी कमलोचन कश्यप के समक्ष पांच लाख के इनामी सहित दो नक्सलियों ने नक्सली विचार धारा से तंग आकर व शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर समर्पण कर दिया। समर्पण पश्चात दोनों नक्सलियों को दस दस हजार रुपये प्रोत्साहन राशि प्रदाय किया गया। जिले में लगातार पुलिस द्वारा जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान से अब पुलिस को सफलता भी मिलने लगी है। स्थानीय नक्सलियों का धीरे धीरे बाहर के नक्सलियों से मोह भंग होने लगा है। इसी का परिणाम है कि जगरगुंडा-बासागुड़ा एरिया कमेटी सदस्य एवं जनताना सरकार अध्यक्ष पांच लाख के इनामी नक्सली मड़कम देवा उर्फ माडा ने पुलिस के समक्ष समर्पण करते हुए नक्सल गतिविधियों से तौबा कर लिया है। मड़कम देवा 1995 से नक्सली संगठन में शामिल होकर कार्य कर रहा था। इसके ऊपर विस्फोट, आगजनी,पत्रकार साई रेड्डी की हत्या, अपहरण, पुलिस पार्टी पर हमला जैसे कई गम्भीर अपराध थाने में दर्ज है। जिले में मड़कम देवा के खिलाफ अलग अलग थानों में 32 स्थाई वारंट लम्बित है।

वही कुछ दिनों पूर्व पेद्दाकवाली में सन्दिग्ध अवस्था मे मिली महिला सुमित्रा चेपा,जो नक्सली संगठन में कम्पनी नम्बर 1 की प्लाटून नम्बर 3 की सक्रिय सदस्य थी। सुमित्रा बुखार व खांसी के चलते कोरोना के शक व बटालियन में कोरोना ना फैले इसीलिए बड़े लीडरों द्वारा बटालियन से बाहर कर घर भेज दिया गया था। सुमित्रा चेपा के उपचार और कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट के बाद पुलिस ने पूछताछ की। तब सुमित्रा ने खुद को नक्सली होना और प्लाटून 3 की सदस्य बताया। सुमित्रा ने भी पुलिस के सामने समर्पण कर दिया है। सुमित्रा पर भी दन्तेवाड़ा और सुकमा जिले में गम्भीर अपराध दर्ज है। इस दौरान आईजी बस्तर पी.सुंदराजन, डीआईजी सीआरपीएफ कोमल सिंह,कलेक्टर रितेश अग्रवाल, एसपी कमलोचन कश्यप,सीआरपीएफ 170 बन के कमांडेंट आलोक भटाचार्य,कमांडेंट 168बन विनय चौधरी,कमांडेंट 85बन यादव सहित जिला बल और सीआरपीएफ के अधिकारी उपस्थित रहे।

 

01-07-2020
Video: 18 माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर और जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत वर्राटू योजना(घर वापस आइए) से प्रभावित होकर बुधवार को भांसी कामालूर क्षेत्र के 18 सक्रिय माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है। पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ. अभिषेक पल्लव द्वारा लगातार नक्सली संगठनों में सक्रिय माओवादियों से अपील की जा रही है कि वह वापस आए और आत्मसमर्पण कर सम्मानपूर्वक जीवन यापन करें।
कलेक्टर दीपक सोनी, उप पुलिस महानिरीक्षक केरिपु बल डीएन लाल एवं पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव के समक्ष माओवादियों ने आत्मसपर्ण किया। छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पित माओवादियों को पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा के द्वारा प्रोत्साहन राशि प्रदान किया गया।

25-06-2020
2 लाख के इनामी माओवादी दम्पत्ति ने किया आत्मसमर्पण

बीजापुर। बस्तर रेंज मे चलाए जा रहे माओवादी उन्मूलन अभियान के तहत  महाराष्ट्र-मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ जोन अन्तर्गत विस्तार प्लाटून नम्बर 3 के माओवादी राजे हेमला उम्र 23 वर्ष ग्राम पेद्दागेलुर हेमलापारा थाना बासागुड़ा और मंगलू वेका उम्र 26 वर्ष साकिन केशकुतुल नयापारा थाना भैरमगढ ने गुरुवार को उप महानिरीक्षक केरिपु ऑप्स कोमल सिंह, पुलिस अधीक्षक बीजापुर, कमलोचन कश्यप के समक्ष माओवादियों की खोखली विचारधारा, जीवन शैली, भेदभाव पूर्ण व्यवहार एवं प्रताड़ना से तंग आकर तथा छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पित दोनों माओवादियों के धारित पद पर छत्तीसगढ़ शासन की इनाम नीति के तहत् दो-दो लाख रुपए का इनाम घोषित था। उपरोक्त माओवादियों द्वारा आत्मसमर्पण करने पर इन्हें उत्साहवर्धन के लिए शासन की आत्मसमर्पण एवं पुनर्वास नीति के तहत् 10000-10000 हजार रूपये (दस हजार रूपये) नगद प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

 

09-06-2020
बुर्कापाल हमले में शामिल 7 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

सुकमा। कोन्टा एरिया कमेटी इंचार्ज सोड़ी केशा के अंगरक्षक समेत कुल 7 सदस्यों ने मंगलवार को आत्मसमर्पण किया। इन नक्सलियों ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन को छोड़कर मुख्यधारा में शामिल होने के लिये अनिल कुमार, कमाण्डेन्ट 219 वी वाहिनी केरिपुबल, अचला राम, द्वितीय कमान अधिकारी (प्रशासन), वाहिनी के अन्य अधिकारीयों एवं कृष्ण कुमार पटेल पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कोंटा, तथा कोंटा थाना प्रभारी आशीष राजपूत के समक्ष आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पित जनमिलिशिया/सीएनएम सदस्यों का विवरण इस प्रकार है :-

1)मुचाकी एंका(उर्फ व्यकटेश) जो कि सोड़ी केशा कोन्टा एरिया कमेटी इंचार्ज का अंगरक्षक था।

2) कवासी कन्ना,जो कि कृषि कमेटी अध्यक्ष/जनमिलिशिया कमांडर था।

3)कुंजाम बामुन,जो कि मिलिशिया सदस्य था।

4)कट्टम लिंगा,जो कि मिलिशिया सदस्य था।

5)मुचाकी हुंगा,जो कि मिलिशिया सदस्य था।

6)कट्टम श्रीनु, जो कि भूमकाल अध्यक्ष था।

7) कवासी हड़मे, जो कि सीएनएम सदस्य थीं।

सभी आत्मसमर्पित सदस्यों के नक्सलियों को छोड़कर सरकार के साथ आने पर सभी ग्रामवासियों के आभार व्यक्त किया और साथ ही सभी की और से ग्रामवासियों ने विश्वास दिलाया कि अब कोई भी गलत कार्य में सदस्य साथ नहीं देंगे। उक्त सदस्यों के आत्मसमर्पण करने से यह स्पष्ट होता है कि सुकमा में अमन चैन की लहर लौट रही है और आने वाला समय बहुत सुखद होगा।

09-06-2020
इनामी नक्सली ने किया आत्मसमर्पण, माड़ एरिया में था सक्रिय

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में इनामी नक्सली ने आत्मसमर्पण किया है। राजू आयाम नामक इस नक्सली पर दो लाख का इनाम था। वह मिलिट्री प्लाटून नंबर 16 का सदस्य था। नक्सली ने एसपी कमलोचन कश्यप और सीआरपीएफ डीआईजी कोमल सिंह के समक्ष सरेंडर किया हैं। पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप ने बताया छत्तीसगढ़ सरकार की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर आज नक्सली ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। उन्होंने बताया कि मिलिट्री प्लाटून नंबर 16 व माड़ डिवीज़न का सक्रिय सदस्य राजू ओयाम ने समर्पण किया है। राजू पर 2 लाख का इनाम घोषित है। एसपी कश्यप ने बताया नक्सली मिलिट्री प्लाटून नंबर 16 का सदस्य राजू 2008 से संगठन से जुड़ा है। राजू ओयाम को सरकार की आत्मसमर्पण पुनर्वास नीति के तहत दस हज़ार प्रोत्साहन राशि दी है।

06-06-2020
सात लाख के इनामी नक्सल दम्पति ने किया समर्पण, कई बड़ी घटना को दे चुके है अंजाम

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में इनामी नक्सली दंपति ने आत्मसमर्पण किया है। नक्सल दंपति पर सात लाख का इनाम था। पति गोपी पर 5 लाख का इनाम और पत्नी भारती पर 2 लाख का इनाम था। नक्सली दंपति ने एसपी कमलोचन कश्यप और सीआरपीएफ डीआईजी कोमल सिंह के समक्ष सरेंडर किया हैं।

पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप ने पत्रकारवार्ता में बताया छत्तीसगढ़ सरकार की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर आज नक्सल दम्पति ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। गंगालूर एरिया कमेटी के सदस्य गोपी मोडियाम और उसकी पत्नी प्लाटून नंबर 2 की सदस्या भारती कट्टम ने समर्पण किया है। गोपी पर 5 लाख व पत्नी भारती पर 2 लाख का इनाम घोषित है।गोपी के विरुद्ध जिले के अलग अलग थाना में 73 आपराधिक मामले पंजीबद्ध है। वही इसके विरुद्ध जिले में 50 स्थाई वारेंट लंबित है, पत्नी भारती पर 6 स्थाई वारेंट लंबित है।

कश्यप ने बताया नक्सली गोपी सन 2002 से नक्सल संगठन में शामिल हुआ और लगभग 17 छोटी बड़ी घटनाओं ने शामिल रहा। इसमें गीदम थाना में लूटपाट,ओडिसा के कोरापुट पुलिस लाइन में हमला,बीजापुर जिले के मुरकीनार,पमालवाया व बीजापुर घाट में सीआरपीएफ की गाड़ी को विस्फोट से उड़ाने जैसे बड़ी घटनाओं में शामिल रहा। वही पत्नी भारती भी कुछ घटनाओं में पति के साथ शामिल थी। दोनों समर्पण किये पति-पत्नी नक्सली को शासन की आत्मसमर्पण व पुनर्वास नीति के तहत दस-दस हज़ार प्रोत्साहन राशि प्रदान किया गया।

सपत्नी समर्पण करने के सवाल पर गोपी ने बताया पति पत्नी एक साथ एक एरिया कमेटी में काम करने की इच्छा संगठन के समक्ष रखी लेकिन संगठन द्वारा खारिज़ करते हुए इन्हें अलग अलग कर गोपी को गंगालूर एरिया और पत्नी भारती को भैरमगढ़ एरिया कमेटी में कार्य सौंपे जाने पर दोनों नाराज़ नक्सल दंपति ने नक्सल संगठन छोड़ने का फैसला लिया और आज बिजापुर पुलिस के समक्ष समर्पण कर दिया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804