GLIBS
10-06-2021
चेरली से स्थाई वारंटी एक नक्सली गिरफ्तार

बीजापुर/रायपुर। जिले में चालाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत जिला बल और सीआरपीएफ के संयुक्त अभियान के दौरान कोकोड़ीपारा चेरली के पास से एक नक्सली जणु कड़ती को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली जणु कड़ती उम्र 28 वर्ष कोकोड़ीपारा चेरली थाना मिरतुर बालक आश्रम के पास एसटीएफ आरक्षक की हत्या करने की नीयत से चाकू से पीठ और पेट में वारकर गंभीर चोट पहुंचाने की घटना में शामिल था। गिरफ्तार नक्सली के विरुद्ध थाना मिरतुर में एक स्थाई वारंट लंबित है। इसे न्यायालय बीजापुर में आज पेशकर जेल दाखिल कर दिया गया।

22-04-2021
नक्सलियों ने लगाए सड़क किनारे बैनर-पोस्टर, सीआरपीएफ जवानों ने निकाला 

दंतेवाड़ा। नक्सलियों के लगाए बैनर को सीआरपीएफ के जवानों ने निकाल दिया है। मिली जानकारी के अनुसार मालेवाही कैम्प और सातधार पुल के बीच सड़क के किनारे नक्सलियों ने बैनर लगाए गए थे। इसे सीआरपीएफ के जवानों ने निकाला दिया है। बैनर में लिखा है कि पल्ली बारसूर रोड में कोई भी व्यापारी या दुकानदार गाड़ी चलाना बंद करें एवं पुलिस प्रशासन की गाड़ियों में आम जनता ना बैठे।

26-03-2021
जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा में लगाए धमकी भरे पोस्टर, लिखा- ‘ये बदला लेने का समय, सुरक्षाबलों से दूर रहें लोग

जम्मू/रायपुर। सुरक्षाबलों की कार्रवाई से साजिश नाकाम होने पर आतंकियों की बौखलाहट अब साफ दिखाई देने लगी है। इस बार आतंकी किस कदर सुरक्षाबलों की कार्रवाई से तिलमिलाए हुए हैं, उसका उदाहरण नए पोस्टर्स में देखने को मिला। जम्मू कश्मीर में पुलवामा के मुरन गांव में आतंकियों ने धमकी भरे पोस्टर लगाए हैं। पोस्टर्स में चेतावनी दी गई है कि लोगों को सुरक्षाबलों से दूर रहना चाहिए। इसके साथ ही पोस्टर में आगे लिखा है कि जहां भी सुरक्षाबल होंगे हम उन पर हमला करेंगे। जो लोग सुरक्षाबलों के साथ जुड़े हैं उन पर भी हम हमला करेंगे।

पोस्टर में लिखा है कि ये बदला लेने का समय है। गांव में पोस्टर जैश-ए-मोहम्मद ने लगाए हैं। पुलिस ने मामले को संज्ञान में ले लिया है और जांच कर रही है। जम्मू कश्मीर में गुरुवार को ही सुरक्षाबलों को आतंकियों ने निशाना बनाया था। गुरुवार को आतंकवादियों ने श्रीनगर शहर के बाहरी इलाके लवेपोरा में सीआरपीएफ पार्टी पर हमला किया और सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की। आईजी कश्मीर विजय कुमार ने कहा कि इस हमले में सीआरपीएफ के दो जवान शहीद हो गए और दो जवान घायल हुए। इस हमले में लश्कर-ए-तैयबा शामिल है। घायल जवानों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं आतंकवादियों को पकड़ने के लिए पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई। शहीद हुए जवान का नाम एएसआई मंगाराम बरमन बताया गया, वह त्रिपुरा के रहने वाले थे।

23-03-2021
चलती ट्रेन में चढ़ते वक्त फिसला पांव, सीआरपीएफ जवान ने दौड़कर बचाई जान

रायपुर। जल्दबाजी में चलती ट्रेन में चढ़ते हुए शख्स को तो आपने कई देखें होंगे। लेकिन इस दौरान होने वाले हादसों के वीडियो आपने कम देखें होंगे। रायपुर के रेलवे स्टेशन पर बेहद चौंकाने वाला वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में जब एक शख्स चलती हुई ट्रेन में चढ़ने की कोशिश कर रहा था। इसी दौरान उसका पैर फिसल गया। हालांकि सीआरपीएफ के जवान ने दौड़कर युवक की जान बचा ली। हादसे का वीडियो सीसीटीवी में कैद हो गया है।

22-03-2021
Breaking : लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकी मारे गए

शोपियां/रायपुर। सेना, सीआरपीएफ और पुलिस ने ज्वाइंट कार्रवाई करते हुए चार आतंकियों को मार गिराया है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के शोपियां में 4 आतंकी मारे गए, चारों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के बताए जा रहे हैं। आतंकियों के पास से एके-47 राइफल भी बरामद की है।

20-03-2021
सीआरपीएफ जवान के खाते से 6 लाख पार, जानिए कैसे ऑनलाइन धोखाधड़ी का हुआ शिकार

रायपुर। सीआरपीएफ जवान से ऑनलाइन धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। ओटीपी मांग कर ठग ने खाते से 6 लाख 15 हजार रुपए पार कर दिए। मामला मंदिर हसौद थाना इलाके का है। मिली जानकारी के अनुसार तुलसी बाराडेरा स्थित सीआरपीएफ के 65 वीं बटालियन में प्रधान आरक्षक के पद पर पदस्थ रामचंद्र यादव के पास 16 मार्च को एक मोबाइल नंबर से फोन आया। इसमें कहा गया कि आपका मोबाइल नंबर ब्लॉक हो गया है। इसके लिए एक एप्लिकेशन लोड करना पड़ेगा। फिर ठग ने इसके माध्यम से 10 रुपए का रिचार्ज करने को भी कहा। जवान ने मोबाइल में नेट बैंकिंग ओपन कर 10 रुपए के रिचार्ज के लिए ओटीपी का एक बार प्रयोग किया। इसके बाद पीड़ित के खाते से आरोपी ठग ने क्विक स्पोर्ट के माध्यम से 4 बार में 6 लाख 15 हजार 153 रुपए निकाल लिया। घटना की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर ली है और जांच में जुट गई है।

06-03-2021
Video: सीआरपीएफ की 82वीं वर्षगांठ पर लालबाग मैदान में हुए विभिन्न कार्यक्रम,शहीद के परिजनों का किया गया सम्मान

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिला बस्तर में जगदलपुर रेंज, केन्द्रीय पुलिस बल  कार्यालय द्वारा ’केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल’ की 82वीं वर्षगांठ पर शनिवार को लालबाग मैदान जगदलपुर में विभिन्न कार्यक्रम हुए। इसमें हथियार ड्रिल, हथियारों एवं विशेष उपकरणों का प्रदर्शन तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं समूह पीटी का प्रदर्शन किया गया। मुख्यअतिथि आईजी बस्तर सुंदरराज पी., पुलिस अधीक्षक दीपक झा  थे। कार्यक्रम का आयोजन पुलिस उप-महानिरीक्षक जगदलपुर रेंज  राजीव राय, द्वारा पुलिस महानिरीक्षक, छत्तीसगढ़ सेक्टर, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस प्रकाश डी. के मार्गदर्शन में किया गया। इस अवसर पर फरसगाँव के शहीद  शिवलाल नेताम के परिजनों का सम्मान किया गया। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के द्वारा राष्ट्रसेवा के लिए दिए गये बलिदान एवं कार्यों के संबंध में वृत्तचित्र का प्रदर्शन किया गया। इसमें सरदार पोस्ट 8 एवं 9 अप्रैल 1965 की रण आफ कच्छ की टाक पोस्ट और सरदार पोस्ट पर हमला, 21 अक्टूबर 1959 को हाट स्प्रींग (लद्दाख) में चीनी सैनिको द्वारा केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की एक छोटी पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों द्वारा अदम्य साहस के परिणाम स्वरूप सन 1939 से अब तक प्राप्त 2 हजार 109 मेडलों पर आधारित वृत्तचित्र का प्रदर्शन किया गया। जिला बस्तर में पदस्थ प्रशासनिक, पुलिस अधिकारी, जिले के नागरिक कार्यक्रम में शामिल हुए। 

 

21-02-2021
सीआरपीएफ में चयनित होने पर कलेक्टर ने युवाओं का किया सम्मान

बालोद/रायपुर। डौण्डी विकासखण्ड के ग्राम खल्लारी के छह युवाओं को केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल में चयनित होने पर कलेक्टर जनमेजय महोबे ने संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में उन्हें प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया। उन्होंने युवाओं के देश सेवा के प्रति जज्बे की तारीफ की और उनके उज्जवल भविष्य के लिए बधाई व शुभकामनाएं दी। सम्मानित होने वाले युवाओं में भुनेश्वर पिता राधेलाल, जितेन्द्र पिता राधेलाल, भुनेश्वर पिता बालाराम, ढालेश्वर पिता नंदलाल, अजय पिता बृहमोहन और केदारनाथ पिता खोरबाहरा राम शामिल हैं। जिला शिक्षा अधिकारी आरएल ठाकुर ने बताया कि उक्त छह युवा शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल खल्लारी में अध्ययन किए हैं, जो भर्ती परीक्षा उत्तीर्ण कर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल में चयनित हुए हैं। इस अवसर पर अपर कलेक्टर डॉ.एके बाजपेयी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश कुमार चन्द्राकर, शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल खल्लारी के प्राचार्य आदि उपस्थित थे।

 

13-02-2021
14 फरवरी विशेष : पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की दूसरी बरसी 14 फरवरी को

कश्मीर/रायपुर। पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की कल यानी रविवार को दूसरी बरसी है। आतंकियों की ओर से किए गए इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। ऐ मेरे वतन के लोगों को जरा आंख में भर लो पानी, जो शहीद हुए उनकी जरा याद करो कुर्बानी ये मात्र लता मंगेशकर के गीत नहीं बल्कि देश के लिए बलिदान देने वालों को श्रद्धांजलि है। बता दें कि पुलवामा आतंकी हमला 14 फरवरी 2019 को हुआ था। जब 78 वाहनों का काफिला 2500 जवानों को लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहा था। ये काफिला अवंतीपोरा के पास लेथीपोरा में नेशनल हाइवे 44 से गुजर रहा था। करीब दोपहर साढ़े 3 बजे 350 किलो विस्फोट से भरी एक एसयूवी काफिले में घुसी और भयंकर धमाका हुआ। इस बस से एसयूवी टकराई उसके परखच्चे उड़ गए थे।

31-01-2021
सीआरपीएफ के जवानों ने बरामद किए 300 से अधिक स्पाइक

रायपुर/सुकमा। सीआरपीएफ के जवानों ने नक्सलियों की बड़ी साजिश को नाकाम कर दी है। जवानों ने 27 गड्ढों में से 398 स्पाइक बरामद किए हैं। बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने जवानों को निशाना बनाने के लिए यह साजिश रची थी। मिली जानकारी के अनुसार सीआरपीएफ कमांडेंट डीएन यादव के निर्देश पर जवानों की टीम इलाके की सर्चिंग पर निकली थी। इसी दौरान पोलमपल्ली पालामड़गु के बीच 27 स्पाइक होल में से 398  स्पाइक बरामद की है।

26-12-2020
नक्सलियों से निपटने बस्तर में सीआरपीएफ के 5 नए बटालियन की होगी तैनाती

रायपुर/जगदलपुर। प्रदेश के सर्वाधिक नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग में तैनाती के लिए सीआरपीएफ की 5 नई बटालियन जल्द ही यहां पहुंच जाएंगी। पुलिस मुख्यालय ने इसे लेकर आवश्यक तैयारी शुरू कर दी है। 5 नई बटालियन के तैनाती के साथ नक्सलवाद पर नकेल कसने के लिए नक्सल इलाकों में सुरक्षा बलों के नए कैंप खोले जाएंगे। इसके लिए अधोसंरचना तैयार करने का काम शुरू कर दिया गया है। इस काम के लिए शासन से 5 करोड़ रुपए मंजूर किए गए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक नक्सलवाद के खात्मे के लिए चल रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत राज्य सरकार ने केन्द्र से सीआरपीएफ के 9 नए बटालियन की मांग की थी, जिसके तहत कुछ दिन पहले ही 5 बटालियन के लिए हरी झंडी मिल गई है। 5 बटालियन के लिए जगह तय कर दी गई है, सीआरपीएफ की नई बटालियन आने के बाद नए कैंप खोले जाएंगे। जहां नक्सलियों की अच्छी खासी पैठ है। इन स्थानों में कैंप खोलने के बाद नक्सलियों को पीछे खदेडने और नक्सलियों के रेड-कॉरिडोर को खत्म कर छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से निपटने आरपार की लड़ाई लड़ने की तैयारी शुरू हो गई है।

उल्लेखनिय है कि केंद्र सरकार के वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार के. विजय कुमार हाल ही में दो बार बस्तर का दौरा कर चुके हैं। वहीं नक्सल मामले को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से उनकी मुलाकात भी हुई थी। विजय कुमार ने डीजीपी डीएम अवस्थी व एंटी नक्सल ऑपरेशन के स्पेशल डीजी अशोक जुनेजा के साथ बैठक कर हालात का जायजा लिया था। केंद्र सरकार से चर्चा के बाद मुख्यमंत्री बघेल ने अनुपूरक बजट में इसके लिए 5 करोड़ रुपए रखे हैं। वंहीं दूसरी ओर नए कैंप खुलने की सुगबुगाहट के बाद नक्सलियों ने इसके विरोध के लिए ग्रामीणों को आगे कर आंदोलन की रणनीति शुरू कर दी है। नक्सली दबाव में अब कैंपों के विरोध के लिए एक कदम आगे बढ़ाते हुए पंचायत स्तर के जनप्रतिनिधियों के इस्तीफे देने की बात भी सामने आ रही है। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने बताया कि सीआरपीएफ की 5 नई बटालियन जल्द ही पंहुचने की संभावना है। कई इलाकों में ग्रामीण कैंप खोलने की भी मांग कर रहे हैं, जिससे नक्सलियों का भय कम हो और क्षेत्र में विकास कार्य शुरू किए जा सके। ऐसे में पुलिस कैंपों की स्थापना उन क्षेत्रों में की जा रही है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804