GLIBS
21-10-2019
  मुख्यमंत्री ने किया पुलिस स्मृति दिवस पर शहीदों को नमन  

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पुलिस स्मृति दिवस पर शहीदों का नमन करते पुलिस सेवा के अधिकारियों-कर्मचारियों तथा उनके परिवारजनों का अभिनंदन किया है। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि देश की एकता और अखण्डता, प्रदेश एवं देशवासियों की सुरक्षा के कर्तव्य पालन में अपने जीवन का बलिदान करने की मिसालें दुर्लभ ही होती है। पुलिस की नौकरी सिर्फ आजीविका का साधन नहीं, बल्कि एक जज्बा है। पुलिस बल में शामिल लोग असाधारण तथा असामान्य जीवन जीते हुए 24 घण्टे जनता की सुरक्षा में डटे रहते हैं। पुलिस सेवा के लोग जब अपनी जान-जोखिम में डालकर अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हैं, तभी हम अपने घरों में सुरक्षित रह पाते हैं। छत्तीसगढ़ जैसे नक्सल प्रभावित राज्य में यह जोखिम और भी बढ़ जाता है। सशक्त बलों के कंधे से कंधा मिलाकर छत्तीसगढ़ पुलिस के अधिकारियों और जवानों ने नक्सली गतिविधियों का मुकाबला किया है और शहादत दी है। उनकी शहादत खाली न जाये, यह सुनिश्चित करना हम प्रदेशवासियों की जिम्मेदारी है।   इस अवसर पर मैं शहीदों को नमन करता हूं तथा पुलिस सेवा के अधिकारियों-कर्मचारियों तथा उनके परिवारजनों का भी सादर अभिनंदन करता हूं, जो अपना जीवन दांव पर लगाकर कर्तव्य निर्वहन कर रहे हैं।

20-10-2019
जन-जन तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने सरकार समर्पित : कांग्रेस  

रायपुर। तत्कालीन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल द्वारा 18 जून 2018 को सुपेबेड़ा का दौरा कर तैयार की गयी रिपोर्ट को जारी करते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि स्वास्थ्य सेवाओं में विश्वास की बहाली के लिए भूपेश बघेल सरकार ने प्रभावी कदम उठाए हैं जिनमें सुपेबेड़ा उपस्वास्थ्य केन्द्र को उन्नयनकर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाना और विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती शामिल है। सुपेबेड़ावासियों को राहत पहुंचाने के लिए वृहद पेयजल योजना तैयार कर इसकी निविदा जारी की जा रही है ताकि सुपेबेड़ावासियों को समस्या का मूल कारण हैवी मेटल युक्त पानी से छुटकारा मिल सके। 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर विधानसभा के विशेष सत्र के ही दिन स्वयं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव दोबारा सुपेबेड़ा गए थे। कांग्रेस सरकार के द्वारा काम सम्हालने के बाद सुपेबेड़ा में किये गये कार्यों और कार्ययोजना स्पष्ट रूप से भूपेश बघेल सरकार का संकल्प है। सुगम आवागमन के लिए सुपेबेड़ा निवासियों द्वारा की गई मांग की अनुरूप तेलनदी पर पुलिया हेतु सुपेबेड़ा निवासियों ने मांग की थी जिसकी स्वीकृति की प्रक्रिया भी पूर्ण हो गयी। पूर्ववर्ती रमन सरकार के कार्यकाल में ही सुपेबेड़ा में पीने के पानी से यह बीमारी फैली और रमन सरकार में जो लापरवाही बरती गयी उसके परिणामस्वरूप लोग स्वास्थ्य सेवा में विश्वास खो बैठे। सुपेबेड़ा में 70 से अधिक मौतों के लिए भाजपा सरकार में बरती गयी लापरवाही को जिम्मेदार ठहराते हुये स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि स्वास्थ्य क्षेत्र में कांग्रेस सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है। सुपेबेड़ा के साथ-साथ नसबंदी कांड और आंखफोड़वा कांड जैसी दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद घटनाओं के लिये जिम्मेदार सरकार के मुखिया रहे रमन सिंह द्वारा इस मामले में की जा रही राजनीति पर सवाल उठाते हुये कांग्रेस नेताद्वय ने कहा है कि आज सबसे बड़ा काम भाजपा सरकार के समय स्वास्थ्य सेवा तंत्र में और सरकार में भरोसा खो बैठे लोगों के विश्वास की बहाली है जिसके लिये लगातार काम हो रहा है। 

 

 

20-10-2019
प्रदेश के हजारों अनियमित कर्मचारी निकालेंगे गांधी पदयात्रा, 5 हजार कर्मियों के छटनी का विरोध

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य के विभिन्न विभागों, मंत्रालय, संचालनालय में कार्यरत अनियमित कर्मचारी रविवार 20 अक्टूबर को बूढ़ापारा धरना स्थल पर एकत्र होकर गांधी पद यात्रा निकालेंगे। प्रदेश सरकार की ओर से 9 माह में 5 हजार से अधिक अनियमित कर्मचारियों की छंटनी की जा चुकी है। इसके विरोध में कर्मचारियों की ओर से अहिंसात्मक आंदोलन किया जाएगा। 

छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संध के प्रांतीय प्रवक्ता व छत्तीसगढ़ संयुक्त प्रगतिशील अनियमित संयुक्त कर्मचारी महासंध संरक्षक विजय कुमार झा ने कहा कि आंदोलनरियों की प्रमुख मांग प्रदेश के लाखों अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण करने, नवगठित भूपेश बघेल सरकार द्वारा 9 माह 5 हजार से अधिक अनियमित कर्मचारियों की छटनी को तत्काल समाप्त कर पुन: सेवा में बहाल करने, नियमित कर्मचारियों की भांति 62 वर्ष की आयु तक सेवा गारंटी देने, प्रदेश के माथे पर लगे कलंक के टीके के रूप में पूर्ववर्ती सरकार की भांति जारी ठेकाप्रथा, निजीकरण को तत्काल बंद कराना शामिल है।

16-10-2019
षडय़ंत्र कर नगरीय निकाय चुनाव जीतना चाहती है कांग्रेस : गिरीश शुक्ला

मुंगेली। भाजपा व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रवादी नीतियों व जनहितकारी कार्यों से घबराई भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार चंद्रयान 2 के जमाने में भी बैलगाड़ी युग में लौटने और बैकडोर से नगरीय सत्ता हथियाने का षडय़ंत्र कर रही है। ये बातें प्रदेश कार्यसमिति सदस्य व पूर्व जिला भाजपा अध्यक्ष गिरीश शुक्ला ने भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ आयोजित एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में कहीं। महाराणा प्रताप चौक पड़ाव में नगरीय निकाय चुनाव  के संदर्भ में प्रदेश की कांग्रेस सरकार की अलोकतांत्रिक पहल के खिलाफ  आयोजित एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि निकाय चुनाव इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के बदले बैलेट पेपर से कराने की पूर्व नियोजित षडय़ंत्र से यह खुलासा हो गया है कि कांग्रेस सरकार इस चुनाव को गलत तरीके से प्रभावित करना चाहती है। पूर्व विधायक चोवादास खांडेकर ने कहा कि प्रदेश निर्माण से अब तक अध्यक्ष व महापौरों के चुनाव सीधे जनता के वोट से होते रहे हैं। अत: फिर 20 साल पहले की स्थिति में लौटकर मतपत्र से चुनाव अव्यावहारिक ही होगा। नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष शैलेश पाठक ने कहा कि भूपेश बघेल सरकार को बैलेट पेपर से चुनाव कराने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है क्योंकि कांग्रेस की यह सरकार खुद वोटिंग मशीन से चुनी गई सरकार है। वास्तव में इस सरकार को ईवीएम पर भरोसा नहीं है तो पहले इस्तीफा देकर प्रदेश का विधानसभा चुनाव कराए। इस तरह दोहरा मापदंड उचित नहीं। जनपद उपाध्यक्ष शिवप्रताप सिंह ने कहा कि भारत की चुनाव प्रणाली की साख पूरी दुनियाभर में है। ईवीएम आ जाने के बाद विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र ने निष्पक्षता और कुशलता के साथ चुनावों को सम्पन्न कराकर साख बनाई है। जिला महामंत्री मोहन भोजवानी ने कहा कि निकायों में दलबदल विरोधी कानून लागू नहीं है अत: पूरे प्रदेश में खरीद-फरोख्त आदि की आशंका बनी रहेगी। मतदाताओं से अपने अध्यक्ष चुनने का अधिकार छीना जा रहा है। जिला कोषाध्यक्ष प्रेम आर्य ने कहा कि कांग्रेस सरकार लोकतांत्रिक व नवीन पद्धति को बदलकर गुंडों के भरोसे नगरीय निकाय चुनाव जीतना चाहती है। भाजपा कांग्रेस के हर हथकंडों का जवाब देकर पूर्ण बहुमत से अधिक से अधिक नगरीय निकाय में काबिज होगी। इस अवसर पर विक्रम मोहले, शैलेश पाठक, जिला महामंत्री मोहन भोजवानी, कोषाध्यक्ष प्रेम आर्य, जिला मंत्री राजेन्द्र वैष्णव, जनपद उपाध्यक्ष शिवप्रताप सिंह, मानिकलाल सोनवानी, नगर भाजपा अध्यक्ष सुनील पाठक, संजय वर्मा, आशीष मिश्रा, मोहन मल्लाह, जयप्रकाश मिश्रा, किशोरी केशरवानी, प्रद्युम्न तिवारी, मुकेश रोहरा, नंदकुमार सिंह, शंकर सिंह, सोम वैष्णव, दानी साहू, कोटूमल दादवानी, दिनेश सोनी, यशवंत सिंह, राजू सोनी, सौरभ बाजपेयी, दीनानाथ केशरवानी, लेखु साहू, आनंद देवांगन, संतुलाल सोनकर, जीवन पटेल, ढेलूराम अनन्त, केएम बर्मन, राजेन्द्र देवांगन, रमेश बुनकर, राघवेंद्र सिंह, रामशरण यादव सहित नगर व ग्रामीण क्षेत्र के कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

 

16-10-2019
मरकाम के बयान पर रमन का पलटवार, कहा- बघेल जाएंगे जेल

धमतरी। छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष मोहन मरकाम के बड़े बयान कि छत्तीसगढ़ के दो पूर्व मुख्यमंत्री जल्दी जाएंगे जेल के जवाब में धमतरी पहुंचे छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने कहा है कि हां भूपेश बघेल  के जेल जाने की गुंजाइश पूरी है। बता दें कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह लोकतंत्र बचाव आंदोलन में शामिल होने धमतरी पहुंचे थे। उन्होंने कहा था कि छत्तीसगढ़ राज्य सरकार लोकतंत्र के अनिवार्य तत्व-जनता का, जनता के लिए, जनता के द्वारा को दरकिनार कर नगरीय निकाय  चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से करने जा रही है जो लोकतंत्र का हनन  है। इसका भारतीय जनता पार्टी विरोध करती है।

15-10-2019
रविन्द्र चौबे की अगुवाई में निकली गांधी विचार पदयात्रा

रायपुर। राजधानी के ब्लॉकों में सप्ताहभर निकलने वाली पदयात्रा के आज 5वें दिन सदर बजार ब्लॉक के हरदेव लाला मंदिर साहू भवन के सामने से कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे की अगुवाई में गांधी विचार पदयात्रा निकाली गयी। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गिरीश दुबे ने बताया कि पदयात्रा में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे। पदयात्रा सुबह 10 बजे शुरू हुई। पदयात्रा टिकरा पारा शहीद ब्रिगेडियर उस्मान टिकरापारा होते हुए दुर्गा चौक पहुंची। पदयात्रा के ब्रिगेडियर उस्मान वार्ड पहुंचने पर वार्ड पार्षद सतनाम सिंह पनाग, समीर अख्तर, देवेन्द्र यादव, अमित दास उनके साथियों ने जोरदार स्वागत किया। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता मोहम्मद फहीम ने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार की योजना व जनहित में लिए गए निर्णय की जानकारी पाम्प्लेट व बुक के माध्यम से जनता को दी गई। पदयात्रा के समाप्ति के उपरांत एक सभा हुई। सभा को संबोधित करते हुए  रविन्द्र चौबे ने कहा कि महात्मा गांधी आजादी की लड़ाई में किसानों के सत्याग्रह आंदोलन में ग्राम कण्डेल में शामिल हुए थे। बापू का सपना था कि अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचे, उनके इस सपनों को भूपेश बघेल सरकार द्वारा पूरा किया जा रहां हैं। सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की देश को अंग्रेजों से आजाद कराने में अहम भूमिका थी। महापौर प्रमोद दुबे ने भूपेश बघेल सरकार द्वारा वार्ड कार्यालय खोले जाने के निर्णय की जानकारी दी। अन्य ब्लॉकों में महंत लक्ष्मी नारायण दास ब्लॉक में महापौर प्रमोद दुबे, कन्हैया अग्रवाल, विकास तिवारी, कन्हैया लाल बजारी ब्लॉक में बबलू गुप्ता,  कुमार मेनन, डॉ. खूबचंद बघेल ब्लॉक में प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन, सुभाष शर्मा, संदीप, ले. अरविंद दीक्षित ब्लॉक में कन्हैया अग्रवाल, सतीश जैन, सरदार वल्लभ भाई पटेल ब्लॉक में गिरीश दुबे, संतकबीर दास ब्लॉक में पंकज शर्मा की उपस्थिति में पदयात्रा निकाली गयी। इस कार्यक्रम में मुख्यरूप से इंदरचंद धाड़ीवाल, रमेश वल्र्याणी,   संजय पाठक, सूर्यमणी मिश्रा, कल्पना पटेल, विकास तिवारी, ज्ञानेश शर्मा, आकाश शर्मा, जगदीश आहुजा, आशा चौहान, सारिक रईस खान, सुमित दास, सुनीता शर्मा, अरुण जंघेल,  प्रशांत ठेंगड़ी, नवीन चंद्राकर,  कमरान अंसारी, सतीश जैन, उषा रज्जन श्रीवास्तव, सायरा खान, शब्बीर खान, मनोहर देवांगन, भुपत महोबिया, महेश सोनी, मल्लिका प्रजापति, उमेश गुप्ता, अजय हंषा, विक्की साहू,  योगेश साहू सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे।
 

15-10-2019
बघेल ने दी रमन को जन्मदिन की बधाई, किया ट्वीट....  

रायपुर। 15 अक्टूबर को पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह का जन्मदिन है। डॉ. रमन सिंह के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बधाई और शुभकामनाएं दी है। भूपेश बघेल ने ट्वीटर पर डॉ. रमन सिंह के स्वास्थ्य और लंबी आयु की कामना की है।
ट्वीटर में भूपेश बघेल ने लिखा है कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, छत्तीसगढ़ राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एवं विधानसभा में मेरे साथी राजनांदगांव विधायक डॉ. रमन सिंह को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। ईश्वर आपको स्वस्थ रखे एवं दीर्घायु प्रदान करें।

14-10-2019
दंतेवाड़ा की तरह चित्रकोट भी प्रचंड मतों से जीतेंगे : कांग्रेस

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बताया कि चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस का चुनाव प्रचार पूरी आक्रमकता से चल रहा है। कांग्रेस के चुनाव प्रचार के सामने विपक्षी भाजपा बुरी तरह पिछड़ गयी है। मंत्री कवासी लखमा और बस्तर के लोकसभा सदस्य दीपक बैज शुरू से ही धुआंधार चुनाव प्रचार कर रहे हैं। गांधी विचार यात्रा के समापन के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम उसी दिन बस्तर रवाना हो गये हैं और पूरे जोर-शोर से प्रचार की कमान सम्हाल ली है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर के विकास के लिए अनेक योजनाएं बनाकर उनका क्रियान्वयन कराया। पहली बार बस्तर विकास प्राधिकरण का अध्यक्ष बस्तर के विधायक को बनाया। बस्तर संभाग में मक्का प्रोसेसिंग प्लांट की आधारशिला रखी गई। बस्तर के युवाओं को सरकारी नौकरी में प्राथमिकता देने के लिये कनिष्ठ चयन बोर्ड के गठन की घोषणा की गई। एनएमडीसी की भर्ती परीक्षा बस्तर में होगी। तेंदूपत्ता संग्राहकों को अब 2500 के बदले 4000 रुपए मानक बोरा मानदेय दिया जा रहा है। 2500 में धान खरीदी किसान कर्ज माफी, लोहान्डी गुड़ा में रमन सरकार द्वारा ली गई किसानों की जमीनें किसानों को वापस दी गईं। त्रिवेदी ने कहा है कि चित्रकूट उपचुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी पूरी गंभीर है। बस्तर में इस सीट को लेकर पूरे बस्तर में कांग्रेस अपना गढ़ मजबूत करने की योजना बनाकर चल रही है। पूरा विश्वास है कांग्रेस बस्तर की सभी 12 सीटों पर अपना कब्जा कायम करने में कामयाब होगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल यहां पर एक दौर का प्रचार कर चुके हैं मतदान के पहले फिर से बड़ी सभा लेंगे। शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि दंतेवाड़ा की जनता के समान चित्रकोट के मतदाता भी कांग्रेस के पक्ष में मतदान कर बस्तर के विकास के लिये भूपेश बघेल की सरकार के द्वारा किये जा रहे कामों को अपना समर्थन देंगे। चित्रकोट विधानसभा जीत कर कांग्रेस बस्तर से भाजपा का पूरी तरह सफाया करेगी।
 

 

11-10-2019
ग्रामीणों ने किया श्रमदान, बन गया प्रदेश का आदर्श गोकुलधाम गौठान

रायपुर। साथी हाथ बढ़ाना, एक अकेला थक जाए तो मिलकर बोझ उठाना। कुछ इन्ही अल्फाजों के साथ इस गाँव के सैकड़ों लोगों ने कुछ ऐसा काम कर दिखाया है कि गाँव की पहचान प्रदेश भर में होने लगी है। गांववासियों की मेहनत, लगन, दूरदृष्टि सोच और दानशीलता ने आपसी भाईचारे की एक मिसाल पेश की है। यहाँ सभी ग्रामीणों ने आपस में तन, मन और धन लगाकर ऐसा गोकुलधाम गोठान  बनाया है जो इस गाँव के लगभग एक हजार पशुओं  का आश्रय स्थल बन गया है। प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा गाँव-गाँव गोठान बनाने की मुहिम से प्रेरित होकर गाँव वालों ने आपस में ही सलाह-मशविरा कर तय किया कि गांव में गोकुलधाम गोठान बनाना है, जिसकों जो राशि और सामग्री देनी है अपनी हैसियत के अनुसार अपनी मर्जी से दे सकते है लेकिन इस गोकुलधाम गौठान के निर्माण में गाँव के सभी समाज के लोगों का श्रम दान करना होगा। सबने हा में हा मिलाई, फिर क्या था, गाँव के प्रत्येक नौजवान, महिला, पुरुष, बुजुर्ग मिलकर गैती, फावड़ा, कुदाल, टोकरियाँ लेकर उबड़-खाबड़ और अस्त व्यस्त जगह पर पहुँचे। यहां लगातार 21 दिन तक सबने अपना पसीना बहाया और देखते ही देखते जनसहयोग से प्रदेश का एक ऐसा आदर्श गोकुलधाम गोठान का निर्माण पूरा कर लिया जो अपने आप में एक मिसाल हैं। अब गोठान निर्माण कर गाँववासी चर्चा में आ गए है, प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल जब यहाँ पहुंचे और उन्हें मालूम हुआ कि यह गोठान गाँव वालों ने आपस में पांच लाख जुटाकर अपने परिश्रम से तैयार किया है तो उन्होंने गांववासियों की खूब प्रशंसा की। यहाँ पहुँचे मंत्रियों और जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों ने भी गांववासियों की इस पहल की सराहना की। गांववासियों का सपना है कि वे इस गोकुलधाम गोठान में गायों को रखने के साथ गाँव के बेरोजगार लोगों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कार्य करेंगे।

हालांकि यह गाँव किसी पहचान का मोहताज नही है। धमतरी जिला के अंतर्गत आने वाला यह ग्राम कंडेल है। महात्मा गांधी जी और कंडेल सत्याग्रह की वजह से गाँव की पहचान है। अब एक बार फिर गाँव वालों ने अपनी सोच, अपनी मेहनत और एकजुटता से यहाँ गोकुलधाम गोठान बनाकर गांव की एक नई पहचान स्थापित कर दी है। दअरसल 100 साल पहले हुए कंडेल सत्याग्रह की स्मृति ने गाँववालों को सदैव ही गांधीजी के बताए रास्तों में चलने प्रेरित किया है। गाँव वाले उनकों याद तो हमेशा करते है लेकिन यात्रा के 100 साल पूरे होने और गांधीजी की 150 वी जयंती के उपलक्ष्य में वे कुछ ऐसा कर दिखाना चाहते थे जो गांधीजी को सच्ची श्रद्धांजलि हो। जब गांव में बैठक हुई और गाँववालों ने कुछ करने की ठानी तो उन्हें अपने प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा गाँव गाँव बनाये जा रहे गोठान ही सबसे बड़ा सेवा का कार्य नजर आया। गाँव के पशुओं को सुरक्षित रखने के साथ, आने वाले समय में यहाँ के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में यह गोठान वरदान साबित हो सकता है यह बात सबके दिमाग में आई। गाँव में रहने वाले गुरुजी जनक राम साहू ने 21 हजार रूपये अपनी ओर से गोठान के लिए देने की घोषणा की तो गाँव के ही तुलाराम ने 20 हजार, नारायण साहू ने 10 हजार,जगदीश राम ने 10 हजार, नारायण सिंह ने 10 हजार, विसाहू राम ने 7 हजार, साहू समाज ने 17 हजार, निषाद समाज ने 10 हजार, केदार राम ने 30 बोरी सीमेंट, चमेली बाई उईके ने दो किवंटल छड़, संतुराम ने दो ट्रैक्टर बालू, कली राम ने एक ट्रैक्टर गिट्टी  देने की बात कही। इस तरह दान देने के लिए गाँववालों की होड़ लग गई, सभी कुछ न कुछ देकर इस पुण्य कार्य में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करना चाहते थे। आखिरकार गोठान बनाने का अभियान प्रारंभ हुआ और सबकी भागीदारी से इस गाँव में सुरक्षित गोठान बनकर तैयार हो गया है। 

ईट जोड़ाई से लेकर साफ सफाई तक सभी मे गाँववालों का रहा योगदान
इस गाँव के लोगों ने आपसी सहभागिता से ऐसी मिसाल कायम की है जो गांधी जी और हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री के सपनों के गांव, स्वावलंबन की राह में एक बड़ा कदम है। आपसी सहभागिता से ग्राम कंडेल के ग्रामीणों ने पांच लाख रुपए जोड़कर लगभग 5 एकड़ गोठान बनाया। यहाँ सुरक्षा के लिए बाउंड्रीवाल, जैविक खाद के लिए स्ट्रक्चर, कोटना, टंकी,गोबर गैस प्लांट,छायादार मचान, कुटिया, विश्राम कक्ष आदि का निर्माण भी आपस में मिलकर किया  है। गाँव के जानकारों ने कृषि,क्रेडा विभाग के अधिकारियों से कुछ तकनीकी मार्गदर्शन लेकर  भू-नाड़ेप, कोटना,टंकी,बाउंड्रीवाल सहित अन्य निर्माण किया। जैविक खाद बनाने का काम कृषि विभाग के अधिकारियों के मार्गदर्शन में किया जा रहा है।

आपसी सहमति से हुआ गोकुलधाम का निर्माण कराया
गाँव के विसंभर साहू 70 वर्ष ने बताया कि आज जो गोकुलधाम गोठान के रूप में नजर आ रहा है वहाँ कुछ दिन पहले बहुत गंदगी का आलम था। गाँववालों की आपसी सहमति के बाद श्रमदान से इसे सँवारा गया है। गाँव के बच्चे, नौजवान, बुजुर्ग, महिला, पुरुषों ने  इसमें तन, मन, धन से सहयोग दिए। इसी गांव की मितानिन ललिता साहू के योगदान को गाँववाले तारीफ करते नही थकते। ललिता बाई ने बताया कि भू-नाडेप, जैविक खाद,कोटना, गोबर गैस प्लांट का निर्माण कर आत्मनिर्भर की राह में आगे बढ़ने का प्रयास किया जा रहा। गाँव की पांच जानकी साहू ने बताया कि इस पुण्य कार्य में गाँव के लोगों का पूरा योगदान रहा। गौ सेवा के साथ आत्मनिर्भर की राह आसान होगी। आज गांधीजी भले ही इस दुनियां में नही है। लेकिन उनकी आदर्श और विचार को अपनाने वाले इस गाँव में मौजूद है। इसी का परिणाम है कि कंडेल के लोगों ने 100 साल पहले कंडैल सत्याग्रह के समय गांधी जी के छत्तीसगढ़ आगमन को याद करते हुए उनके आदर्शों पर चलते हुए सभी जाति धर्म के लोगों को साथ लेकर जो काम किया है वह उनके आदर्शों और दिए जाने वाले संदेश पर सटीक बैठती है।  गांधीजी का भी सपना था कि पंचायतों का विकेंद्रीकरण हो, कुटीर और ग्रामोद्योग के माध्यम से गाँव के लोग और सशक्त बने। स्वावलंबन की राह में आगे बढ़ते हुए गाँव आत्मनिर्भर बने। कंडेल के ग्रामीण भी इसी राह पर चल पड़े है। गोठान से जहाँ गाँव के गायों को सुरक्षित रखने का बीड़ा उठाया है वही गोबर से खाद एवं अन्य उत्पाद का निर्माण कर भविष्य में आत्मनिर्भर बनने का सपना संजोए हुए है। 

 

06-10-2019
सीएम बघेल ने भखारा में किया गांधी जी की मूर्ति का अनावरण

धमतरी। गांधी विचार पदयात्रा के तीसरे दिन प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल आज भखारा पहुंचे। रामलीला मैदान में आमसभा को संबोधित करने से पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महात्मा गांधी की मूर्ति का अनावरण किया।

 

05-10-2019
न आइटम/फिल्मी सॉन्ग, न जीन्स/वेस्टर्न ड्रेस, कही ऐसा गरबा भी होता है भला

रायपुर। भक्ति, आस्था व परम्परा का प्रतीक गरबा अब इवेंट मैनेजरो के फैशन शो में तब्दील होने लगा है। ऐसे में घोर व्यवसायिकता के दौर में सिर्फ और सिर्फ परंपरा का पालन और आस्था व भक्ति में डूबा गरबा पंडाल देखना है तो चले आइए इंडोर स्टेडियम। यहां प्रवेश भी परिवार के साथ ही मिलता है। अकेले युवक या युवती को प्रवेश नहीं दिया जाता। प्रवेश के लिए जरूरी होता है पारंपरिक भारतीय वेशभूषा वेस्टर्न जींस टीशर्ट यहां अलाउ ही नहीं है। गरबा भी होता है तो सिर्फ और सिर्फ पारंपरिक गीतों पर भजन पर। कोई आइटम सॉन्ग नहीं और ना ही कोई फिल्मी सॉन्ग बजता है। लोगो की डिमांड के बावजूद आइटम और फिल्मी सॉन्ग ना बजाकर इंडोर स्टेडियम में सत्यमेव जयते फाउंडेशन व नवभारत अखबार का गरबा आधुनिकता की अंधी दौड़ में परंपरा भक्ति व आस्था की शानदार विजय पताका फहरा रहा है।

सबसे महत्वपूर्ण है के सत्यमेव फाउंडेशन दिन में गरबा स्थल पर छत्तीसगढ़ी लोक खेलों का आयोजन भी कर रहा है। फुगड़ी लंगडी जैसे अन्य पारंपरिक खेल जो गुम होते नजर आ रहे हैं उन्हें जिंदा रखने की कोशिश कर रहे हैं सत्यमेव जयते फाउंडेशन के जरिए नहीं कन्हैया अग्रवाल और नवभारत अखबार इस शानदार आयोजन का सहभागी है। गौरतलब है के इस पारंपरिक भक्ति व आस्था से ओतप्रोत गरबा का शुभारंभ प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने किया है। आज जब गरबा के आयोजनों की फूहड़ता अश्लीलता व व्यावसायिकता के कारण हर ओर आलोचना हो रही है तब परंपरा को जीवित रखने का कन्हैया अग्रवाल का यह प्रयास प्रशंसनीय है अनुकरणीय है।


 

 

 

 

 

 

 

02-10-2019
 विधायक डॉ. विनय की पहल पर पंचायत मंत्री ने 1 करोड़ से भी अधिक विकास कार्यो को दी मंजूरी

चिरमिरी । विधायक डॉ. विनय जायसवाल की मांग पर पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव ने मनेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न पंचायतों में मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना के तहत 1 करोड़ 17 लाख रुपए के निर्माण कार्यों की स्वीकृति प्रदान की है । डॉ. विनय की पहल पर जिन निर्माण कार्यों को पंचायत मंत्री द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई है उनमें विकासखण्ड खडग़वां के ग्राम खडग़वां में मानसिंह घर से गंगा घर तक गजमरवा पारा में सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, ग्राम बोड़ेमुड़ा संपत घर से भोला घर तक सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, गिद्धमूड़ी में पंचायत भवन के पास सामुदायिक भवन के लिए 6 लाख 50 हजार, बरदर बैगा तालाब से अशोक घर तक सीसी रोड निर्माण 5 लाख 20 हजार, बोड़ेमुड़ा में हाईस्कूल से भोला घर तक सीसी रोड निर्माण 7 लाख 80 हजार, बोड़ेमुड़ा धनपुर से कोटेया पहुंच मार्ग में सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार, बेलबहरा पारसनाथ के घर से रामविशाल के घर तक सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, बरदर में आंगनबाड़ी दर्रीपारा से बलदेव घर तक सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, पैनारी में बाबूलाल घर से हरदियाल घर तक औराडांड में सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार, पेंड्री में मुख्य मार्ग से आंगनबाड़ी पहुंचमार्ग तक सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार,पेंड्री में मुख्य मार्ग से रमेश घर तक सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार, ग्राम सैंदा में जरहापारा से जेठू के घर तक सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार, दुबछोला में सुमेर सिंह के घर के आगे से भुकभुकी मेन रोड तक सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार, दुबछोला उप स्वास्थ्य केंद्र बैगा मोहल्ला तक सीसी रोड निर्माण के लिए 7 लाख 80 हजार, अखराडांड मेहीलाल के घर से पप्पू के खेत तक सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, पोंडीडीह योगेंद्र के घर से नाला तक सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, पोंडीडीह उरांवपारा से नाला तक सीसी रोड निर्माण के लिए 5 लाख 20 हजार, जड़हरी बहडोलापारा के पास सामुदायिक भवन निर्माण के लिए 6 लाख 50 हजार, की मंजूरी प्रदान की गई। इस स्वीकृति से पूरे मनेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र में हर्ष की लहर है। क्षेत्रवासियों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव व मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल का आभार व्यक्त किया है। इस मंजूरी को लेकर विधायक डॉ. विनय ने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए इन कार्यों से नया आयाम गढ़ेंगे। उन्होंने प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल व पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव का हृदय से आभार प्रकट किया है।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804