GLIBS
05-12-2019
टिकट को लेकर कोई विवाद की स्थिति नहीं,सभी को बात रखने का अधिकार: शिव डहरिया

रायपुर। कांग्रेस में उठ रहे विरोध के स्वर को लेकर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ.शिवकुमार डहरिया का कहना है कि कहीं कोई विवाद की स्थिति नहीं है। हमारे कार्यकर्ता अपनी अपनी बातें रखते हैं। प्रजातंत्र में सबको अपनी बातें रखने का अधिकार है। कांग्रेस पार्टी पारदर्शिता पूर्ण टिकटों का वितरण कर रही है। वार्ड कमेटी से ब्लॉक कमेटी, ब्लॉक कमेटी से जिला कमेटी, जिला कमेटी से प्रदेश कांग्रेस कमेटी और उसके बाद पार्टी के वरिष्ठ लोगों से चर्चा करके सहमति बन रही है। जो निर्णय हो रहा है वह पारदर्शिता पूर्ण हो रहा है। जिस तरह से विधानसभा में टिकट का वितरण हुआ था, उसी तरीके से नगरीय निकायों में भी टिकट वितरण किया जा रहा है।

नगरीय प्रशासन मंत्री ने आरोप लगाया है कि भाजपा की सरकार में भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी होती थी, इसके अलावा कोई काम नहीं होता था। नगरीय निकाय की हालत अत्यंत खराब थी, जो मूलभूत सुविधाएं मिलनी चाहिए थी वह ठीक से नहीं मिल रही थी। जब से कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार बनी है तब से नगरीय निकाय की तरफ विशेष ध्यान दिया जा रहा है। मूलभूत सुविधाएं जो नगरीय निकाय में मिलना चाहिए, वह गुणवत्तापूर्ण मिले यह प्रयास किया जा रहा है। पिछले 10 माह में जो काम हमने किया है उसे लेकर नगरीय निकाय चुनाव में हम जनता के पास जाएंगे। जिस तरह से जनादेश विधानसभा के चुनाव में जनता ने कांग्रेस को दिया है, नगरीय निकाय में भी छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस को पूर्ण बहुमत देगी।

 

 

05-12-2019
किसानों को शबरी नदी से मिलेगी सिंचाई सुविधा : कवासी लखमा

रायपुर।  उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि राज्य सरकार किसानों की आय बढ़ाने की दिशा में काम कर रही है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए सुराजी गांव योजना के तहत गौठान का निर्माण किया जा रहा है। इन गौठानों में ग्रामीण युवाओं और महिलाओं को आयमूलक गतिविधियों से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने शबरी नदी के किनारे विद्युत लाईन बिछाई जाएगी। लखमा आज सुकमा जिले बुड़दी में निर्मित गौठान का लोकार्पण करने के बाद पंच-सरपंच सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। 

 कवासी लखमा ने इस अवसर पर कहा कि भूपेश बघेल की सरकार आम जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जलवायु में हो रहे परिवर्तन का असर खेती-किसानी पर भी पड़ रहा है। आने वाले समय में पानी की भीषण समस्या होगी और इस समस्या के निराकरण के लिए अभी नालों के बंधान का कार्य नरवा कार्यक्रम के तहत प्रारंभ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि शबरी नदी के किनारे बसे किसानों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने के लिए विद्युत लाईन बिछाई जाएगी। इससे शबरी नदी का पानी बेकार नहीं बहेगा और किसानों को मिलने वाली सिंचाई सुविधा से फसल उत्पादन बढ़ेगा, जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी। उन्होंने बताया कि तेंदूपत्ता संग्राहकों को भी अब प्रति मानक बोरा ढाई हजार रुपए से बढ़ाकर चार हजार रुपए किया गया है।

04-12-2019
भूपेश बघेल ने योगी अरविंद घोष को उनकी पुण्यतिथि पर किया नमन

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महान योगी, दार्शनिक और क्रांतिकारी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी योगी अरविंद घोष को उनकी पुण्यतिथि 5 दिसम्बर पर नमन किया है। भूपेश बघेल ने योगी अरविंद घोष के स्वाधीनता आंदोलन में दिए गए योगदान को याद करते हुए कहा कि युवा कांत्रिकारी के रूप में उन्होंने ब्रिटिश सरकार के अन्याय की जमकर आलोचना की। अपने भाषणों और लेखनी के माध्यम से उन्होंने विदेशी समानों के बहिष्कार और स्वदेशी को अपनाने का संदेश लोगों तक पहुुंचाया, बाद में श्री अरविंद योगी हो गए। उनके दर्शन का पूरे विश्व में गहरा प्रभाव रहा।

04-12-2019
Video : आईटीबीपी कैम्प में फायरिंग को भूपेश बघेल ने बताया दुर्भाग्यजनक

रायपुर। नारायणपुर जिले के कड़ेनार आईटीबीपी कैम्प में हुई फायरिंग की वारदात को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुर्भाग्यजनक बताया है। आईटीबीपी के जवान ने अपने ही साथियों पर गोलियां क्यों चलाई इसका अभी पता नहीं लग पाया है। वारदात के कारण के संबंध में आईजी सीआरपीएफ देवनाथ ने इसे विवेचना का विषय बताया है। बुधवार सुबह कड़ेनार आईटीबीपी कैम्प में हुई वारदात में 6 जवानों की मौत हुई है जिसमें मसुदुल रहमान पश्चिम बंगाल, महेन्द्र सिंह हिमाचल प्रदेश, सुरजीत सरकार पश्चिम बंगाल, दलजीत सिंह पंजाब, बिश्वरूप महतो पं. बंगाल और बीजीश सिंह केरला शामिल हैं। वहीं दो जवान एसबी उल्लास केरला और सीताराम दून राजस्थान गंभीर रूप से घायल हैं। बताया गया है कि जवान मसुदुल रहमान ने गोलियां चलाई है।

आईजी सीआरपीएफ देवनाथ ने कहा कि जिला नारायणपुर के थाना अंतर्गत आईटीबीपी कैंप कड़ेनार की वारदात है। सुबह 9 बजे के करीब आईटीबीपी के जवान ने सर्विस रायफल से अपने साथियों पर गोली चलाई। इसमें 6 जवानों की मौत हो गई, और दो जवान घायल हैं। घटना की वजह अभी सामने नहीं आई है। पुलिस अधीक्षक और आईटीबीपी के अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। दो घायलों को रायपुर लाया गया है। अभी जानकारी नहीं आई है कि जवान के दिमाग में क्या रहा होगा या किन परिस्थितियों में उन्होंने जवानों पर गोली चलाई। यह अभी विवेचना का विषय है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बेहद दुखद घटना है। आईटीबीपी के जवान ने अपने ही साथियों पर गोलियां चलाई। यह बेहद ही दुर्भाग्यजनक है। इस प्रकार की घटना कैसे घटी इसकी जांच होनी चाहिए। आगे ऐसी घटना ना हो इसे रोकने के उपाय किए जाने चाहिए। जवानों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हुं। यह जांच होनी चाहिए कि छुट्टी नहीं मिल रही थी, पारिवारिक कारण तो नहीं या आपसी रंजिश का तो मामला नहीं है। इसकी जांच होनी चाहिए और इन सबसे बचना चाहिए। 

03-12-2019
नान घोटाले की जांच रोकने चार्टर्ड प्लेन से लाये गए थे नामी-गिरामी वकील : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज कोरबा दौरे पर हैं। उन्होंने कोरबा रवाना होने से पहले पुलिस लाइन स्थित हेलीपैड में मीडिया से चर्चा की। चर्चा के दौरान अंतागढ़ टेप कांड मामले में वाइस सैंपल को लेकर सीएम ने कहा कि देखो ये लोग कितना भी रोके, कल ही विधानसभा में प्रश्न लगाए थे कि वकील बाहर से क्यों लाए ? जबकि भाजपा के कार्यकाल में सारे वकील लगाए गए थे और नान घोटाला की जांच मत हो इसलिए देश के नामी गिरामी वकीलों को चार्टर्ड प्लेन से लाया गया था। इसके लिए पैसा कहां से आया था ? इसका जवाब उनको देना चाहिए। सीएम बघेल ने कहा कि इसलिये वकीलों को लगाया गया था कि इस मामले का जांच नहीं होना चाहिए।  उन्होंने कहा कि मैंने तो आज तक नहीं देखा कि पीआईएल जांच नहीं होने के लिए लगाया गया हो, अभी तक पीआईएल इसलिए लगता है कि जांच हो। ये शायद  प्रदेश ही नहीं देश में भी पहली बार हुआ होगा। राष्ट्रीय पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और विधायक विधायक दल के नेता चाहते थे कि जांच नहीं होनी चाहिए, और कहते हैं कि वकील क्यो लगाया गया।

सीएम बघेल ने कहा कि रमन सिंह को बताना चाहिए कि सीएम सर कौन है और सीएम मैडम कौन है कि पैसा कहां गया। इनके वकील कौन है जो गिरीश शर्मा, जिनके पास सबसे ज्यादा पैसा पकड़ा गया उनको वकील बना कर लाया गया।सीएम बघेल ने कहा कि कांग्रेस चुनाव समिति की दो दिन तक लगातार बैठक है। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया आ रहे हैं।  बहुत सारे जगह से सिंगल नाम आए हैं, बहुत जल्दी लिस्ट फाइनल कर दी जाएगी। जहां से दो से तीन नाम आए हैं उसमें वरिष्ठ लोगों से रायशुमारी करके बहुत जल्दी आपके सामने लिस्ट होगी।  प्रदेश में हो रहे गैंगरेप हत्या मामले में सीएम ने कहा कि पुलिस तत्परता से काम कर रही है, ये सभी मामले बहत दु:खद है।  पूरा विश्वास है कि पुलिस गुनाहगारों को जल्द ही ढंूढ निकालेगी।  सीएम बघेल ने कहा कि तमिलनाडु के किसान मिलने पहुंचे थे।  छत्तीसगढ़ में किसानों से 25 सौ रुपए क्विंटल में धान खरीदी सुन कर कलेक्ट्रेट में मिठाई बांटी थी।  निश्चित रूप से पूरे देश के किसान खुश हैं कि छत्तीसगढ़ में किसानों को उनके उत्पाद का उचित मूल्य मिल रहा है। वे लोग धान खरीदी केन्द्र भी गए थे और गोठान भी देखने जा रहे हैं। 

14-11-2019
भूपेश बघेल ने केन्द्रीय कृषि और खाद्य मंत्री से की मुलाकात 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को नई दिल्ली में केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और केन्द्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान से मुलाकात की। इस दौरान भूपेश बघेल ने राज्य के किसानों के हित में सेन्ट्रल पूल में चावल उपार्जन की अनुमति दिए जाने का आग्रह किया। वहीं छत्तीसगढ़ में बायो एथेनॉल के विक्रय को बढ़ावा देने के लिए केंद्र से सहयोग की बात कही है। मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री के साथ राज्य के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत भी मौजूद थे। केन्द्रीय मंत्रियों ने आग्रह पर सकारात्मक पहल करने का आश्वासन दिया है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के किसानों के हित में सेंट्रल पूल में 32 लाख मीट्रिक टन चावल की खरीदी की मांग की है। उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार द्वारा वर्ष 2014 में निर्णय लिया गया है, जिसके अनुसार जो राज्य सरकार किसानों को समर्थन मूल्य पर धान खरीदी पर बोनस देगी उनसे सेन्ट्रल पूल में चावल नहीं लिया जाएगा। लेकिन इसके बावजूद छत्तीसगढ़ में पूर्व में दो वर्षों में इस प्रावधान को शिथिल कर सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से चावल लिया गया। इसे देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा वर्ष 2019-20 में सेन्ट्रल पूल में प्रधानमंत्री से प्रावधान को शिथिल कर सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से 32 लाख मीट्रिक टन चावल लेने का आग्रह किया गया है। वहीं, भूपेश बघेल ने वर्ष 2019-20 में उपार्जित अतिरिक्त धान का वैकल्पिक उपयोग कर बायो एथेनॉल उत्पादन के लिए केंद्र से सहमति का आग्रह किया है, जिससे बायो फ्यूल के क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा मिल सके। केंद्रीय मंत्रियों ने छत्तीसगढ़ की मांगों को गंभीरता से लेते हुए राज्य शासन की बायो फ्यूल के क्षेत्र में निवेश के प्रोत्साहन नीति को आगे बढ़ाने के लिए उचित पहल किए जाने का भरोसा दिया है।

14-11-2019
भाजपा का किसान हित में आंदोलन अच्छी बात, हमारे साथ दिल्ली भी चले : कांग्रेस

रायपुर। भाजपा द्वारा किसान हित में आंदोलन की घोषणा पर कांग्रेस ने कहा है कि राज्य सरकार तो 2500 रुपए में धान खरीदी कर ही रही है। भाजपा को आंदोलन करना है तो केन्द्र सरकार से मांग करें कि छत्तीसगढ़ के किसानों के धान से बना चावल सेन्ट्रल पूल में खरीदा जाये। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने भाजपा नेताओं से आह्वान किया है कि किसानों की समस्याओं के लिए आंदोलन राज्य में भी करें और हमारे साथ दिल्ली भी चलें। समस्या तो दिल्ली सरकार ने पैदा की है।त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा किसान हित में आंदोलन करे यह अच्छी बात है। छत्तीसगढ़ के किसानों के धान से बना 32 लाख टन चावल सेन्ट्रल पूल में खरीदने की मांग भाजपा केन्द्र सरकार से भी करे। छत्तीसगढ़ की धरती पर बने एफसीआई के गोदामों में छत्तीसगढ़ की माटी से उपजे धान से बना चावल नहीं रखा जाएगा तो और क्या रखा जाएगा? पूरे देश में चावल केंद्र सरकार 32.50 रुपए प्रति किलो की दर पर लेती है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 1815 रुपए की जगह 2500 रुपए देने के कारण न तो किसी भी प्रकार की अतिरिक्त राशि की मांग केंद्र सरकार से की गई है और न ही की जाएगी। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस वर्ष 32 लाख टन चावल की खरीदी हेतु केंद्र सरकार से आग्रह किया गया। त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के किसान प्रधानमंत्री मोदी के 1815 रुपए और भूपेश बघेल के 2500 रुपए का अंतर समझते हंै। भाजपा नेताओं को याद दिलाते है कि भूपेश बघेल की सरकार में इन पंजीकृत किसानों की संख्या 16.5 लाख से बढ़कर 19 लाख होने के बावजूद किसानों के पंजीकरण की तिथि को मंत्रिमंडल की बैठक में फैसला लेकर 7 दिनों के लिए और बढ़ाया गया है। यह भूपेश बघेल सरकार के किसानों के प्रति समर्पण का जीता-जागता सबूत है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804