GLIBS
26-04-2020
महापौर के बुलावे पर पार्षदों ने राहत पैकेट वितरण में किया सहयोग

राजनांदगांव। महापौर हेमा देशमुख और निगम आयक्त चंद्रकांत कौशिक लगातार प्रयासरत हैं कि निगम क्षेत्र में कोई भी भूखा न रहे। इसी प्रयास के महापौर और आयुक्त अपने अधीनस्थ कर्मचारियों के साथ लगातार पैकेट बनाने में लगे हुए हैं। रविवार को वितरण की गति धीमी देख कर महापौर ने सभी पार्षदों को सहयोग के लिए बुलाया। इस पर सभी पार्षद पहुंचे तथा कार्य में मदद की। इस पर महापौर और आयुक्त ने सभी का आभार माना।

 

14-04-2020
निर्दलीय पार्षदों ने महापौर को दिया पूरा सहयोग का आश्वासन

दुर्ग। दुर्ग महापौर धीरज बाकलीवाल द्वारा सर्वदलीय पार्षदों की बैठक के तहत मंगलवार को निगम के सभी निर्दलीय पार्षदों की बैठक लेकर उनसे कहा लाकडाउन के समय हमारा मकसद सभी को भोजन और अनाज मिल सके यह होना चाहिए। इसके लिए हम सभी को मिलजुल कर काम करना है। निर्दलीय पार्षदों ने महापौर को  स संकट की घड़ी में पूरा-पूरा सहयोग का आश्वासन दिया। बैठक में निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन,सभापति राजेश यादव,एमआईसी सदस्य एवं सभी निर्दलीय पार्षद और निगम के अधिकारी उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि महापौर धीरज बाकलीवाल द्वारा कल भाजपा पार्षद दल की बैठक लेकर कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान लॉक डाउन से निपटने अपने शहर के अपने वार्डों के गरीबों और जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री पहुंचाने के लिए चर्चा की थी। आज उन्होंने सभी निर्दलीय पार्षदों की बैठक बुलाकर उन्हें लाकडाउन की स्थिति से अवगत कराते हुए कहा केंद्र सरकार द्वारा लाकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है इसे देखते हुए हम सभी को मिलकर कार्य करना है।

अपने-अपने वार्डों के ऐसे परिवार जिन्हें पका हुआ भोजन और सूखा अनाज राशन दिया जाना है। वह आपके माध्यम से ही निगम के कर्मचारी अधिकारी वितरण करेंगे। इसमें आप सभी का सहयोग आवश्यक है। बैठक में निर्दलीय पार्षदों ने ऐसे गरीब परिवार जिन्हें अनाज और राशन तो दिया जा रहा है। परंतु उनके पास आने वाले समय में ईंधन की भी समस्या होगी। इस संबंध में भी विचार किया जाना चाहिए। इस समस्या से जिला कलेक्टर को भी अवगत कराए जाने पर विचार विमर्श किया गया।  इसके अलावा वितरण किए जाने वाले भोजन और अनाज की क्वालिटी भी अच्छी हो इसका भी ध्यान रखा जाए साथ ही पके भोजन का वितरण का समय निर्धारित रहे।  बैठक में एमआईसी सदस्य दीपक साहू,अब्दुल गनी,ऋषभ जैन,संजय कोहले,भोला महोबिया,शंकर सिंह ठाकुर तथा निर्दलीय पार्षद शिवेंद्र सिंह परिहार,अरुण सिंग,उषा ठाकुर मीना सिंह संगीता यादव,कमल देवांगन खिलावन मटियारा (छजोका) से प्रकाश जोशी कार्यपालन अभियंता मोहन पुरी गोस्वामी शाह के अभियंता जितेन्द्र समैया व अन्य उपस्थित थे।

 

30-03-2020
पालिका अध्यक्ष व पार्षदों ने असहाय लोगों को बांटा निःशुल्क राशन

गरियाबंद। इन दिनों कोरोना वायरस के चलते अनेक गरीब निर्धन परिवार अपने घरों मे सिमट गए हैं। इन्हें रोजी-रोटी के लाले पड़ गए हैं। गरियाबंद नगर पालिका के अध्यक्ष गफ्फू मेमन के साथ समस्त पार्षदों ने निर्णय लिया कि वे गरियाबंद के विभिन्न वार्डों में रह रहे निर्धन परिवारों को राशन वितरण किया जाए। गफ्फू मेमन व विभिन्न पार्षदों सहित अधिकारी कर्मचारी ने विभिन्न वार्डों में भ्रमण कर 100 से अधिक निर्धनजनों को राशन का पैकेट दिया। इसमें दाल,चावल,साबुन, तेल, मिर्ची मसाला, आलू, प्याज वि​तरित किया गया। दरअसल लाकडाउन की स्थिति में मजदूर वर्ग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहा है। इसके चलते उन्हें आर्थिक रूप से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इन स्थितियों को देखते हुए नगर पालिका ने राइस मिल एसोसिएशन से सहयोग की अपील की। इस पर राइस मिल एसोसिएशन ने यथासंभव आर्थिक मदद देने का आश्वासनं दिया। इसके बाद नगर पालिका के पार्षद व विभिन्न अधिकारी लगातार विभिन्न मोहल्लों में पहुंचकर राशन वितरण कर रहे हैं। हालांकि 1 अप्रैल से राज्य सरकार के द्वारा निशुल्क राशन वितरण करने की योजना भी प्रारंभ हो रही है
वही इस संबंध में नगर पालिका अध्यक्ष गफ्फू मेमन का कहना है कि गरियाबंद में अधिकतर पशु लावारिस स्थिति मे घुमते रहते हैं। जिनका लाक डाउन की स्थिति में खाना-पीना दूभर हो गया है। ऐसे पशुओं के लिए रात को विभिन्न स्थानों पर पका हुआ भोजन रखने का भी इंतजाम करने की बात उन्होंने कही है।

25-03-2020
पेन्ड्रा नगर पंचायत के पार्षदों ने दिया एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में

 पेन्ड्रा। सभी नव निर्वाचित पार्षदों ने मिलकर अपना मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की घोषणा कही है। इसपर सरदार इकबाल सिंह पार्षद एवं उपाध्यक्ष पंकज तिवारी वरिष्ठ पार्षद, रामेश साहू वरिष्ठ पार्षद,जयदत्त तिवारी वरिष्ठ पार्षद,शाहिद राइन पार्षद, मैकू भरिया पार्षद और कपिल करेलिया पार्षद ने कोरोना से लड़ने और लोगों को राहत देने अपने एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की घोषणा की है। पार्षदों ने लोगों से अपील की है कि यथासंभव सभी लोग मुख्यमंत्री सहायता कोष में पैसे जमा कर इस विपदा में लड़ने शासन की मदद करें।

04-03-2020
आंगनबाड़ी का छज्जा गिरा, महापौर ने सुपरवाइजर को लगाई फटकार

रायगढ़। शहर के वार्ड क्रमांक 8 आंगनबाड़ी केन्द्र में छज्जा गिरने की खबर सामने आ रही है। आगनबाड़ी सहायक ने बताया कि जब आंगनबाड़ी केन्द्र की साफ सफाई हो रहा थी उसी समय अचानक सिलिग टूटकर गिर गई। उस समय बच्चे बाहर में मौजूद थे। इसी वजह से किसी भी अप्रिय घटना नहीं हुई। जब वहा के पार्षद को पता चला तो महापौर की सूचना दी। मौके पर महापौर ने पहुँच कर आंगनबाड़ी के सुपरवाइजर को बुलाकर मामले की जानकारी ली और आंगनबाड़ी मरम्मत कार्य होने तक दूसरे स्थान पर व्यवस्था करने का आदेश दिया। इस विषय में महापौर और पार्षदों ने बताया कि जब उन्हें आंगनबाड़ी के छज्जा गिरने की सूचना मिली। तत्काल में मौके पर पहुंचकर आंगनबाड़ी केंद्र के सुपरवाइजर को बुलाकर फटकार लगाई और तत्काल दूसरे स्थान पर आंगनबाड़ी को संचालित करने की हिदायत दी।

07-02-2020
मुंगेली नगर पालिका में कर्मचारियों में भी राजनीतिक खुमारी, सीएमओ के खिलाफ शिकायत

मुंगेली। नगरपालिका में पार्षद से लेकर अध्यक्ष तक मिली हार कांग्रेस को अब तक पच नहीं पाई है। आपसी फूट और एक दूसरे की टांग खींचने के कारण जहां पार्षदों की संख्या में कमी आई है। वहीं अध्यक्ष पद भी गवाना पड़ा है। 24 दिसम्बर को चुनाव परिणाम आने के बाद जहां लगभग ये तय माना जा रहा था कि अध्यक्ष कांग्रेस का ही बनेगा किन्तु हकीकत ने कुछ अलग बयां किया और भाजपा ने बाजी मार ली। अब जब लगभग 1 महीने से ज्यादा का समय हो गया है तब भी पार्टियां पालिका में एक जुट हो विकास और सफाई कार्यों में ध्यान देना छोड़ आरोप प्रत्यारोप का खेल खेलने में लग गई है।

अब तक हुये क्रियाकलापों में सिर्फ कर्मचारी ही अपने अधिकारी के खिलाफ आवाज उठाते थे किंतु अब कांग्रेस के पार्षदों ने मुख्य नगर पालिका के अधिकारी के खिलाफ मनमानी का आरोप लगाया है। पालिका में कांग्रेस के नवनिर्वाचित पार्षदों के लिए बैठक व्यवस्था सुनिश्चित नहीं होने से कांग्रेस के पार्षद परेशान हैं। इसकी शिकायत पार्षदों ने हाई कमान को भी की है। पार्षदों का आरोप है कि मुख्य नगर पालिका के अधिकारी कांग्रेस के पार्षदों के लिए पालिका के अंदर बैठक व्यवस्था नहीं है। इसी कारण आज कांग्रेस के नवनिर्वाचित पार्षद नगर पालिका के बाहर रोड में ही बैठकर जनता की परेशानी सुन रहे हैं। वही इस संबंध में सीएमओ राजेन्द्र पात्रे ने बताया कि नगर पालिका में सभा हॉल है जहां कुर्सियां लगी हुई हैं। जैसे पूर्व में होते आ रहा है वैसे ही व्यवस्था की गई है। अलग से पार्षदों के लिए नामजद कुर्सियां नहीं हैं।

02-02-2020
जनता ने दी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी, उनकी समस्या अवश्य सुनें और करें निराकरण : राज्यपाल

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके से  रविवार को राजभवन में रायपुर नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर के नेतृत्व में पार्षदों के प्रतिनिधिमण्डल ने सौजन्य मुलाकात की। राज्यपाल ने उन्हें शुभकामनाएं दी और कहा कि जनता ने आपको महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी है। आप उनका ध्यान रखें। यदि आपके पास वे अपनी समस्या लेकर आते हैं, उनकी बातों को ध्यान से सुने और उनकी समस्याओं का प्राथमिकता से निराकरण करें। राज्यपाल ने कहा कि जनप्रतिनिधि होने के नाते अपना मोबाईल बंद न रखें। लोगों की छोटी-छोटी समस्याएं होती है, वे आपसे ही संपर्क करेंगे, उनका फोन जरूर उठाएं, हो सके तो त्वरित समाधान करने की कोशिश करें। राज्यपाल ने कहा कि शहर को साफ-सुथरा रखें। रायपुर शहर को स्वच्छता के लिए पहले भी पुरस्कार मिला है, यह प्रयास करें कि रायपुर को देश में स्वच्छता की श्रेणी में अव्वल स्थान मिले। इस अवसर पर सभी पार्षदों ने अपना परिचय दिया। पार्षदों ने राजभवन का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर सभी पार्षदगण उपस्थित थे।

30-01-2020
भूमिस्वामी हक प्राप्त करने का अच्छा अवसर, नागरिकों को प्रेरित करें पार्षद : कलेक्टर

दुर्ग। पट्टेदारों को भूमिस्वामी हक दिलाने राज्य शासन ने विशेष पहल की है। इसमें मामूली राशि जमाकर पट्टेदार भूमिस्वामी हक प्राप्त कर सकते हैं। शासन की मंशा है कि अधिकाधिक नागरिकों को इसका लाभ मिले, इस संबंध में निर्वाचित जनप्रतिनिधि जनता से सीधे जुड़े होते हैं वे इसके लाभों के संबंध में उन्हें जागरूक कर सकते हैं ताकि नागरिक भूमिस्वामी हक प्राप्त कर निश्चिंत हो जाए। यह बातें कलेक्टर अंकित आनंद ने बैठक में कहीं। बैठक में महापौर धीरज बाकलीवाल ने भी कहा कि भूमिस्वामी हक के संबंध में शासन की यह अनूठी पहल है और अधिकाधिक पट्टाधारी नागरिकों को इसका लाभ लेना चाहिए। कलेक्टर अंकित आनंद ने कहा कि नागरिकों को बार-बार पट्टा नवीनीकरण न कराना पड़े। उन्हें भूमिस्वामी हक प्राप्त हो सके ताकि उन्हें भूमि के क्रय-विक्रय में आसानी हो सके। वे आसानी से बैंक लोन ले सके। महापौर बाकलीवाल ने कहा कि शासन ने यह बहुत अच्छी योजना बनाई है जिसमें थोड़ी सी राशि में भूस्वामी हक मिल रहा है। नागरिक नगर तथा ग्राम निवेश के भूमि प्रयोजन के अनुसार व्यासायिक प्रयोजन पर परिवर्तित कर बैंक लोन भी ले सकते हैं। भूमिस्वामी हक मिलने से नागरिकों में निश्चिंतता तो आती ही है वे इसके बेहतर प्रयोग के संबंध में दीर्घकालीन निर्णय भी ले सकते हैं जो इस योजना का सबसे अच्छा पक्ष है। कलेक्टर अंकित आनंद ने कहा कि राज्य शासन के आदेशानुसार गैर रियायती दर पर आबंटित भूमि को गाइडलाइन की दर की कीमत की 2 प्रतिशत राशि, रियायती दर पर आवंटित भूमि को गाइडलाइन की दर की कीमत की 102 प्रतिशत राशि एवं अतिक्रमित भूमि को गाइडलाइन की दर कीमत की 152 प्रतिशत राशि जमा करने पर भूमिस्वामी हक में परिवर्तन किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भूमि स्वामी हक प्राप्त करने हेतु आवेदन पत्र कलेक्ट्रेट की नजूल शाखा दुर्ग में प्रस्तुत कर सकते हैं। आवेदन के साथ शपथपत्र एवं पट्टे की प्रति संलग्न करना अनिवार्य होगा। कलेक्टर ने कहा कि आवेदनों पर तेजी से कार्रवाई की जाएगी और पात्रता रखने वाले सभी आवेदकों को शीघ्रताशीघ्र भूमिस्वामी हक दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पट्टाधारकों के साथ सबसे बड़ी दिक्कत यह होती है कि मुश्किल वक्त में पट्टाधारी होने के नाते भूमि विक्रय करने में उन्हें दिक्कत होती है। भूमिस्वामी हक मिल जाने से वे आसानी से इसका विक्रय कर सकते हैं। कहीं पर ऐसा भी है कि पट्टा मिला है वहां व्यावसायिक संभावनाएं हैं लेकिन भूमिस्वामी हक नहीं मिलने की वजह से व्यवसाय आरंभ करने में दिक्कत आ रही है। भूस्वामी हक मिल जाने से इसमें आसानी होगी। पार्षदों ने भी इस संबंध में अपने फीडबैक दिये और कहा कि नागरिकों के बीच इसके लाभों को रखेंगे ताकि अधिकाधिक नागरिकगण इसका लाभ उठा सके। नजूल अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर अरुण वर्मा ने बताया कि इस संबंध में नागरिकगण आवेदन कर रहे हैं और उनके आवेदनों पर तेजी से कार्रवाई की जा रही है तथा जल्द ही पात्रता परीक्षण पश्चात उन्हें भूमिस्वामी हक दे दिया जाएगा। इसी प्रकार 1984 के पट्टाधारी अधिनियम के संबंध में भी उन्होंने बताया कि इस संबंध में पट्टाधारियों द्वारा भूमि स्वामी हक के लिए एस.डी.एम. कार्यालय में आवेदन दिया जा सकता है। बैठक में सभी पार्षदगणों के अतिरिक्त एसडीएम खेमलाल वर्मा एवं नगर निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

10-01-2020
जिला निर्वाचन अधिकारी को भाजपा के 10 पार्षदों ने सौंपा इस्तीफा

बेमेतरा। बेमेतरा नगर पालिका में घमासान शुरू हो गया है। भाजपा के 12 पार्षदों में से 10 पार्षदों ने इस्तीफा दे दिया। 6 जनवरी को हुए बेमेतरा नगर पालिका चुनाव में क्रास वोटिंग से नाराज भाजपा के पार्षदों ने आज पार्टी के बड़े पदाधिकारियों की उपस्थिति में बेमेतरा कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को सामूहिक रूप से इस्तीफा सौंपा। वहीं भाजपा के 2 पार्षद वार्ड ने पार्टी के प्रति निष्ठा और ईमानदारी का हवाला देते हुए अपने पद से इस्तीफा देने साफ इनकार कर दिया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804