GLIBS
14-10-2019
गृहमंत्री ने ग्राम किरीतपुर में किया विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन

रायपुर। गृह, जेल एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज गांधी विचार यात्रा के तहत बेरला ब्लाक के ग्राम किरीतपुर में आयाजित कार्यक्रमों मेें शामिल होकर विकास कार्याें का लोकर्पण एवं भूमिपूजन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा ने की। गृह मंत्री ने साहू समाज के लिए सामुदायिक भवन, मंगल भवन, शीतला मंदिर अहाता निर्माण का लोकार्पण किया। उन्होंने ग्राम हतपान पहुंच मार्ग तथा ग्राम भरचट्टी पहुंच मार्ग का भूमिपूजन किया। गृहमंत्री ने ग्राम किरीतपुर में राजीव गांधी सेवा केन्द्र भवन का लोकार्पण एवं कबीर सामुदायिक भवन का भूमिपूजन भी किया। गृह मंत्री साहू ने कहा कि महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रदेश में गांधी विचार पदयात्रा निकाली जा रही है। राष्ट्रपिता बापू ने देश की जनता में चेतना जगाने एवं जनता को एकसूत्र में पिरोने के लिए अनेक पद यात्रायें की थीं। गृह मंत्री  साहू ने लोगों से गांधी जी के विचारों को अपने जीवन में उतारने का आह्वान किया। विधायक छाबड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने लगभग 9 माह के कार्यकाल के दौरान आम जनता की बेहतरी एवं लोगों के सर्वांगीण विकास के लिए अनेक क्रांतिकारी फैसले लेकर उसका क्रियान्वयन किया है।
 

27-08-2019
दिवंगत अरुण जेटली के घर पहुंचे पीएम मोदी, परिवार के सदस्यों को दी सांत्वना 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत अरुण जेटली को श्रद्धांजलि देने कैलाश कालोनी के आवास पर पहुंचे। यहां उन्होंने अरुण जेटली के परिवार से मुलाकात की और सांत्वना दी। प्रधानमंत्री के पहुंचने से पहले गृहमंत्री अमित शाह पूर्व वित्त मंत्री जेटली के घर पहुंचे। भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का 24 अगस्‍त को लंबी बीमारी के बाद एम्‍स में निधन हो गया था। वह 66 वर्ष के थे। पीएम मोदी उस दिन संयुक्‍त अरब अमीरात (यूएई) के दौरे पर थे। उन्‍होंने जेटली के परिवार के सदस्‍यों से बात कर संवेदना जताई थी। पीएम मोदी ने तब जेटली की पत्‍नी संगीता जेटली और बेटे रोहण जेटली से बात की थी। उन्‍होंने तब पीएम से विदेश दौरा रद्द नहीं करने के लिए कहा था। बहरीन में उन्होंने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को याद किया था। उन्होंने कहा था, “यह मानना मुश्किल है कि मैं यहां बहरीन में हूं और मेरे प्रिय मित्र अरुण जेटली नहीं रहे।”

 

26-08-2019
विभूतियों को स्मरण करने का क्रम अनवरत् जारी रहना चाहिए : गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू

दुर्ग। राज्य स्तरीय सुरता देवदास बंजारे एवं लोक कलाकार सामाजिक समरसता सम्मेलन का आयोजन सतनामी समाज द्वारा स्थानीय मानस भवन दुर्ग में किया गया। सम्मेलन में प्रदेश भर से आए पंथी लोक कलाकारों ने गीत एवं नृत्य के माध्यम से बाबा गुरू घासीदास के संदेश एवं विश्व प्रसिद्ध पंथी के पुरोधा स्व. देवदास बंजारे को स्मरण किया। इस अवसर पर प्रदेश के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कार्यक्रम में शिरकत की। उन्होंने उपस्थित लोक कलाकारों एवं समाज के लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सचमुच में आज का दिन स्व. देवदास बंजारे को सुरता करने का दिन है। उन्होंने कहा कि स्व. बंजारे का पंथी नृत्य देखने का अवसर कई बार मिला है। जब उनके नृत्य को देखता था और उनके ह्रुष्ट-पुष्ट शरीर को देखता था तो मुझे बड़ा आश्चर्य होता था कि वे कितने लगन से पूरी चुस्ती के साथ पंथी नृत्य कैसे कर लेते हैं। वास्तव में वे पंथी के पुरोधा हैं, जिन्होंने न केवल छत्तीसगढ़ में अपितु भारत सहित पूरे विश्व में पंथी का संचार करने का कार्य किया है। वे पंथी गीत और नृत्य के माध्यम से बाबाजी के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य करते थे। आज हम सब उनके पंथी के क्षेत्र में किए गए कार्यों को याद कर रहे हैं। यह क्रम अनवरत् जारी रहना चाहिए। जिससे आने वाली पीढ़ी तक पंथी और बाबा जी का संदेश पहुंच सके। 

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने आगे कहा कि सरकार बनने के बाद छत्तीसगढ़ की धरोहर, राज्य की विरासत और संस्कृति को संजोए रखने का कार्य किया जा रहा है, जिससे छत्तीसगढ़ की संस्कृति और विभूतियों को जानने-समझने का मौका प्रदेश के साथ ही राज्य के बाहर के लोगों को मिल रहा है। उन्होंने आयोजन समिति को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह का प्रयास छत्तीसगढ़ के विभूतियों की योगदान को आने वाली पीढ़ी तक पहुंचाने की दिशा में एक सार्थक प्रयास साबित होगा। इस अवसर पर कार्यक्रम में उपस्थित दुर्ग शहर विधायक अरूण वोरा ने कहा कि स्व.देवदास बंजारे को सतलोक सिधारे 11 साल बीत गए हैं, लेकिन उनके पंथी के क्षेत्र में दिए गए योगदान से ऐसा लगता है कि आज भी वे हमारे बीच हैं। उन्होंने कहा कि स्व. देवदास बंजारे ने जीवन की सार्थकता को साबित किया है। वे अपने गीत में ‘सत्य ही ईश्वर है, ईश्वर ही सत्य है, सत्य ही मानव का आभूषण है’ कहते थे, जो वास्तविक जीवन मूल्यों को चरितार्थ करती है। 

प्रदेश भर के आए पंथी कलाकारों ने दिखाई अनूठी प्रस्तुति
सुरता महोत्सव में शामिल प्रदेश के अनेक क्षेत्रों से आए पंथी कलाकारों ने गीत एवं नृत्य की अनूठी प्रस्तुति दी। उन्होंने गीत एवं नृत्य के माध्यम से बाबा गुरू घासीदास के संदेश को चरितार्थ किया। महोत्सव में 25 पंथी दल के 500 कलाकारों ने शानदार प्रस्तुति दी।

छत्तीसगढ़ को गौरवान्वित करने वाले पुरोधाओं का किया गया सम्मान
राज्य स्तरीय सुरता देवदास बंजारे एवं लोक कलाकार सामाजिक समरसता सम्मेलन में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले राज्य के विभूतियों को सम्मानित किया गया। इनमें गुरू घासीदास सम्मान से भरतलाल कुर्रे, मिनी माता सम्मान से भगवती ताण्डेश्वरी, गुरू बालकदास सम्मान से सुदेश बंजारे, भक्त माता कर्मा सम्मान से अश्वनी साहू एवं शितमणी साहू को सम्मानित किया गया। इसी तरह शहीद वीर नारायण सिंह सम्मान से रामजी ठाकुर, स्व. देवदास बंजारे स्मृति सम्मान से शपदास बंजारे, गहिरा गुरू सम्मान से पण्डित राम, स्व. पद्मभूषण हबीब तनवीर स्मृति सम्मान से भूपेश प्रकाश, स्व. दाउ दुलार सिंह साव मंदरा स्मृति सम्मान से थानसिंह पटेल, स्व.झाड़ूराम देवांगन स्मृति सम्मान से चेतन देवांगन, मंत्री नकूलदेव ढीढी स्मृति सम्मान से शंकरलाल टोडर, स्व.खुमान साव स्मृति सम्मान दुर्वासा टण्डन, स्व. प्रेम साईमन सम्मान से डाॅ.जेआर सोनी, स्व.सुरूजबाई खाण्डे स्मृति सम्मान से रेखा देवार, स्व.लक्ष्मण मस्तुरिया स्मृति सम्मान से अमित कमल कोसले, स्व.मानदास टण्डन स्मृति सम्मान से हेमलाल निर्मोही, स्व. लक्ष्मी बाई बंजारे स्मृति सम्मान से कन्हैया पण्डित को सम्मानित किया गया। इसके साथ ही सामाजिक समरसता सम्मान से अनेक विभूतियों को सम्मानित किया गया। साथ ही साहित्य, शिक्षा, खेल, पत्रकारिता के क्षेत्र में सार्थक प्रयास करने वाले लोगों को सम्मानित किया गया। साथ ही छत्तीसगढ़ कलारत्न सम्मान से अनेक विभूतियों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में पद्म विभूषण पंडवानी कलाकार तीजन बाई, पूर्व विधायक अहिवारा डोमनलाल कोर्सेवाड़ा, प्रसिद्ध साहित्यकार परदेसीराम वर्मा, कार्यक्रम की संयोजक अमृता बारले, प्रसिद्ध पंथी कलाकार शांतिबाई चेलक, प्रतिमा बारले,भगवती ताण्डेश्वरी,आरएस बारले सहित आयोजक समिति के पदाधिकारीगण, समाज के अनेक जिलों से आये प्रतिनिधि, सामाजिक बंधु उपस्थित थे।

 

19-08-2019
कश्मीर की स्थिति पर गृहमंत्री अमित शाह ने ली उच्च स्तरीय बैठक

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर की ताजा स्थिति का जायजा लेने के लिए गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को एक उच्च स्तरीय बैठक की। इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, गृह सचिव राजीव गाबा और खुफिया एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। जम्मू-कश्मीर में स्थितियों में सुधार के साथ वहां प्रतिबंधों में धीरे-धीरे ढील दी जा रही है। सोमवार को जम्मू-कश्मीर के सभी स्कूल खुले लेकिन कश्मीर में छात्रों की उपस्थिति काफी कम दिखी। एनएसए डोभाल हाल ही में श्रीनगर से लौटे हैं। सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म करने का फैसला किया। इसके एक दिन पहले घाटी में संचार व्यवस्था पर प्रतिबंध एवं निषेधाज्ञा लागू कर दी गई। कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था पर नजर रखने के लिए एनएसए डोभाल कश्मीर में ही मौजूद रहे। अपने 10 दिनों के प्रवास के दौरान उन्होंने शोपियां और श्रीनगर के डाउन टाउन इलाकों का दौरा किया और लोगों से बातें कीं। लोगों से मुलाकात के दौरान डोभाल ने बताया कि अनुच्छेद 370 राज्य के विकास में बाधा थी। उन्होंने लोगों की आशंकाए दूर करने के साथ उनसे मुख्य धारा में शामिल होने की अपील की। जम्मू-कश्मीर के हालात पर केंद्र सरकार नजर बनाए हुए है। जम्मू-कश्मीर प्रशासन प्रतिदिन वहां के हालात की समीक्षा कर रहा है और सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर सुरक्षा एवं खुफिया एजेंसियां मुस्तैद और सतर्क हैं। 

 

04-08-2019
गृहमंत्री अमित शाह ने बुलाई अहम बैठक, अजित डोभाल और राजीब गॉबा मौजूद

नई दिल्ली। कश्मीर को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने संसद के भीतर एक अहम बैठक बुलाई है।इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और गृह सचिव राजीब गॉबा भी मौजूद हैं। सूत्रों के मुताबिक जम्मू कश्मीर को लेकर किसी बड़े फैसले पर ये बैठक बुलाई गई है। इस बीच पीएम ने भी सोमवार को कैबिनेट की बैठक बुला ली है। उसमें भी कश्मीर पर विचार होने की जानकारी है। ये दोनों ही बैठकें कश्मीर में बड़े एक्शन के पहले का निर्णायक विचार विमर्श मानी जा रही हैं। इस बीच कश्मीर के किश्तवाड़ में 43 दिन की मचैल मठ यात्रा को भी रोक दी गई है। 

01-08-2019
गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने सीआरपीएफ कैंप में किया पौधारोपण

रायपुर। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और विधायक धनेंद्र साहू अभनपुर ने गुरुवार को 211 बटालियन के पुलिस बल कैम्प का दौरा किया। यहां पुलिस उपमहानिरीक्षक रेंज रायपुर सुब्रतो कुमार मिश्रा ने सीआरपीएफ स्मृति चिन्ह भेंट कर उनका स्वागत किया। कैम्प परिसर में पौधारोपण किया,जिसमें 580 पेड़ लगाए गए। सभी ने पौधे लगाए और उनकी सुरक्षा का जिम्मा लिया। गृहमंत्री ने सभी लोगों को बताया कि पेड़ पौधे हमारे लिए कितने महत्वपूर्ण है इस अवसर पर कलेक्टर डॉ. भारती दासन सहित बड़ी संख्या में जवान मौजूद थे। सभी ने पेड़ों को बचाने का संकल्प लिया।

 

31-07-2019
गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू कलर्स मॉल पहुंचे  फिल्म 'मंदराजी ' देखने 

रायपुर। प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू आज पूरे परिवार के साथ फिल्म  'मंदराजी ' देखने कलर्स मॉल पहुंचे। उनके पहुंचने पर फिल्म देखने के पहले फिल्म के अभिनेता और तमाम टीम ने गृहमंत्री का स्वागत किया।

 

30-07-2019
गृहमंत्री ने किया ऐलान, दोपाहिया वाहनों का कटेगा चालान, नहीं ली जाएगी राशि

रायपुर। प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने मंगलवार को बड़ा ऐलान किया है। इससे दोपहिया वाहन चालकों को यातायात पुलिस की चेकिंग दौरान राशि नहीं देंगी पड़ेगी। अब चौक–चौराहों पर दोपहिया वाहनों की जांच डीएसपी स्तर के अफसर ही कर सकेंगे। गलती पाए जाने पर सिर्फ चालान काटा जाएगा, नकद राशि नहीं ली जाएगी। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि अवैध वसूली रोकने के लिए यह निर्णय लिया गया है। इसको लेकर एसपी कार्यलाय में विशेष कक्ष भी बनेगा।

30-07-2019
राजीव भवन में लोगों की समस्या कम, छः माह में बेहतर परिणाम : गृहमंत्री ताम्रध्व साहू

रायपुर। प्रदेश में लगातार कार्यकर्ता व आमजन लोगों की भीड़ कम होती जा रही है। इस पर प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि सब लोगों की सुनवाई हो रही है साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तत्काल निराकरण कर रहे हैं। प्रदेश के गृहमंत्री ने मानसून ऑपरेशन के तहत नक्सल उन्मूलन को लेकर सुरक्षाबलों के जवानों को बधाई दी है। साथ ही प्रदेशवासियों को हरेली त्यौहार की बधाई भी दी है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804