GLIBS
12-09-2020
सोशल मीडिया में अच्छी फॉलोविंग वाले युवाओं से मिले कलेक्टर, कहा-जागरूकता फैलाने में करें सहयोग

दुर्ग। सामाजिक संगठनों की बैठक के बाद कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने उन युवाओं के साथ चर्चा की और खासे टैकसेवी हैं और जिनके फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम में हजारों फालोवर हैं। कोविड जागरूकता फैलाने में इनसे अब प्रशासन को मदद मिलेगी। कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों के मैसेज युवा बड़ी गंभीरता और रुचि से देखते हैं, आप कोविड की लड़ाई में बड़ी मदद कर सकते हैं। युवाओं ने कहा कि हमें बहुत खुशी होगी कि हम इस अभियान का हिस्सा बनेंगे। बैठक में डिप्टी कलेक्टर दिव्या वैष्णव एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 इस तरह से सहयोग करेंगे- व्हाटसएप ग्रुप के माध्यम से कोविड संबंधित जानकारी देने के लिए युवाओं को जोड़ा जाएगा। यहां पर क्रिएटिव्ज आदि शेयर किये जाएंगे। इन क्रिएटिव्ज का उपयोग युवा अपने सोशल मीडिया एकाउंट में करेंगे। साथ ही वे प्रशासन द्वारा दिये जा रहे कोविड से जुड़े हुए उपयोगी डिटेल्स भी देंगे। युवाओं ने बताया कि हम लोग अपने साइट में फीवर क्लिनिक के लोकेशन, टेस्ट वैन आदि के अपडेट्स आदि की जानकारी देते रहेंगे। साथ ही जो वालंटियर्स इस ओर काम करना चाहेंगे, उन्हें भी प्रेरित करेंगे। इन लोगों ने बताया कि सोशल मीडिया में कई बार फेक न्यूज भी वायरल होते हैं। प्रशासनिक अधिकारियों से संपर्क कर वे इस तरह के फेक न्यूज की सच्चाई से भी लोगों को अवगत कराएंगे ताकि अफवाहों की वजह से किसी को किसी तरह का नुकसान न हो।

किस तरह से करेंगे मदद

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना का संक्रमण थामने के लिए टेस्टिंग बेहद जरूरी है। इसमें कुछ समय जरूर लग सकता है लेकिन इसके लिए दिया गया थोड़ा सा समय पूरी जिंदगी बचा सकता है क्योंकि जितनी जल्दी उपचार शुरू हो जाएगा, उतना ही लक्षण घटने लगेंगे। कलेक्टर ने यह भी कहा कि जिन लोग होम बेस केयर में रह रहे हैं उनके पूरे परिवार को घर में ही रहना है। आप लोग अपने सोशल मीडिया से लोगों को इस बारे में प्रेरित कीजिए कि वे इस तरह के पड़ोसियों को ग्रासरी आदि जुटाने में मदद करें। उन्होंने कहा कि लोगों की मदद के लिए काल सेंटर बनाए गए हैं, जिसमें व्यस्तता न हो, इसे ध्यान में रखते हुए पांच नंबर दिये गए हैं। निजी अस्पतालों में इलाज की दरें शासन द्वारा निर्धारित की गई हैं। शासकीय कोविड केयर सेंटर में इलाज निःशुल्क है। अस्पतालों में बेड की स्थिति के लिए भी लिंक दिया गया है इसे भी शेयर कीजिए। कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों की ओर से जिस तरह से भी फीडबैक आएगा, आप लोगों की परेशानियों को साझा करेंगे तो इस पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

कोई ट्रैवल पर शेयर करता है कोई छत्तीसगढ़ी मीम्स

सोशल मीडिया पर सक्रिय इन युवाओं के हजारों फालोवर हैं। इन लोगों ने बताया कि कोई फूड पर पोस्ट शेयर करता है और कोई ट्रैवल पर। किसी ने छत्तीसगढ़ी संस्कृति को ध्यान में रखकर अपना एकाउंट तैयार किया है। सभी ने कहा कि हम अपने फालोवर्स तक इस संदेश को जरूर लेकर जाएंगे।

 

21-08-2020
प्रदेश अध्यक्ष साय और नेता प्रतिपक्ष कौशिक अपने विधायक के कृत्य पर माफी मांगे : विकास तिवारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं सचिव विकास तिवारी ने पूर्ववर्ती रमन सरकार के पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर के द्वारा ट्विटर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को तंज कसते हुए छत्तीसगढ़ की बहु बेटियों द्वारा मनाया जाने वाला तीजा के त्यौहार के पहले दिन करूं-भात खाने की परंपरा को तंज कसने के लिये उपयोग किया गया। इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता ने पूछा कि क्या पूर्वमंत्री अजय चंद्राकर ने सनातन धर्म और रीति-रिवाजों का माखौल उड़ाना भाजपा कार्यालय में सीखा या राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शाखा में सीखा इसका जवाब देना चाहिये और अपने वरिष्ठ विधायक के इस ट्वीट में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक का सहमति है और अगर पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर के इस बयान पर भारतीय जनता पार्टी की सहमति नहीं है तो तत्काल प्रदेश की लाखों तिजहारीन बहनों से भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई को हाथ जोड़कर माफी मांगना चाहिये और अगर भाजपा अपने वरिष्ठ विधायक के इस कृत्य पर प्रदेश की लाखों तिहार इन बहनों से माफी नहीं मांगेंगे तो इससे स्पष्ट हो जाएगा कि भारतीय जनता पार्टी के नेता सनातन धर्म और रीति-रिवाजों का मखौल उड़ाना भाजपा कार्यालय और संघ की शाखा में ही सीखते हैं। इससे यह भी स्पष्ट होता है कि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को संघ की शाखाओं में महिला विरोधी होने का प्रशिक्षण दिया जाता है।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि भाद्रपद शुक्लपक्ष की तृतीया तिथि बुधवार को है, जिसे हरितालिका व्रत कहा जाता है। इस तिथि पर सुहागवती महिलाएं और युवतीयां निर्जला व्रत रखकर भगवान शिव-पार्वती का पूजन करेंगी। सुहागिनें पति की लम्बी उम्र की कामना करेंगी तो युवतीयां अच्छे पति के लिए व्रत करेंगी। इस व्रत के महत्व को देखते हुए लोग इसकी तैयारियों मेें जुट जाते हैं। इसमें महिलाएं तीजा मनाने अपने मायके पहुंच रही हैं। हरितालिका व्रत के लिए  करू भात खाएंगी। इसके दूसरे दिन चौबीस घंटे के निर्जला व्रत करेंगी। सोलह श्रृंगार में भगवान शिव का पूजन कर कथा सुनेंगी। देर शाम तक महिलाएं एक-दूसरे के घर जाकर करू भात की रस्म निभाएंगी। तीज त्यौहार की परंपरा सैकड़ों सालों से निभाई जा रही है लेकिन मुद्दा विहीन और गुटबाजी से संक्रमित भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ विधायक द्वारा तीजा त्यौहार की परंपरा करु-भात पर राजनीतिक रूप से तंज कसने की यह नयी परंपरा का शुरुआत किया गया जिससे प्रदेश की लाखों तिजहारिन बहनों ने अपने आप को अपमानित महसूस किया है और कांग्रेस पार्टी पूर्वर्ती रमन सरकार के पूर्व मंत्री और विधायक अजय चंद्राकर के ट्विटर में दिये गये बयान की घोर निंदा करती है और अजय चंद्राकर के इस ट्वीट पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक से स्पष्टीकरण की मांग करती है साथ ही कांग्रेस पार्टी का भी मांग करती है कि भाजपा विधायक के इस बयान पर भारतीय जनता पार्टी को प्रदेश की तिजहारिन बहनों से हाथ जोड़कर माफी मांगना चाहिए। राजनीति में इतना गिर कर और सनातन धर्म रीति-रिवाजों का अपमान कर कटाक्ष और तंज कसना भाजपा नेता बंद करे। पूर्वर्ती रमन सरकार के पूर्व मंत्री का यह ट्वीट महिला विरोधी मानसिकता का परिचायक भी है।

 

20-08-2020
नरेंद्र मोदी ने महेंद्र सिंह धोनी को भेजा पत्र, कहा-आप नए भारत की भावना की सबसे अहम तस्वीर हैं

नई दिल्ली। 15 अगस्त को पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धोनी को एक खत लिखा है।पूर्व भारतीय दिग्गज ने प्रधानमंत्री का भेजे इस खत की तस्वीर अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट तक उनका शुक्रिया अदा किया। माही ने लिखा, “एक कलाकार, सैनिक और खिलाड़ी केवल अपनी कड़ी मेहनत और योगदान की प्रशंसा का भूखा होता है। आपकी प्रशंसा और शुभकामनाओं के लिए शुक्रिया प्रधानमंत्री मोदी।”प्रधानमंत्री मोदी ने अपने खत में लिखा, “महेंद्र सिंह धोनी नाम केवल आंकड़ों और मैच विनिंग भूमिकाओं के लिए नहीं याद किया जाएगा।

आपको केवल एक खिलाड़ी की तरह देखना गलत होगा। आपके प्रभाव को एक बड़ी घटना की तरह देखा जाना चाहिए।”उन्होंने कहा, “एक छोटे से शहर से आप राष्ट्रीय मंच पर आए, अपने लिए एक नाम बनाया और भारत को गर्व महसूस करवाया। आपके सफर ने करोड़ों युवाओं जो बड़े स्कूलों या कॉलेजों में नहीं जा सके ना ही किसी बड़े परिवार से ताल्लुक रखते लेकिन उनके पास बड़े मंच पर खुद को साबित करने की प्रतिभा हैं, उन्हें ताकत और प्रेरणा दी।”पीएम ने लिखा, “आप नए भारत की भावना की सबसे अहम तस्वीर हैं, जहां परिवार का नाम युवाओं की किस्मत नहीं लिखता बल्कि वो अपना नाम खुद बनाते हैं और अपनी किस्मत खुद चुनते हैं।”

23-07-2020
अमिताभ बच्चन की कोरोना रिपोर्ट आई न‍िगेट‍िव, जल्द होंगे डिस्चार्ज

मुंबई। अमिताभ बच्‍चन के चाहने वालों के लिए खुशखबरी है। 11 जुलाई से कोरोना का इलाज करा रहे अमिताभ बच्‍चन की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जल्‍द ही अमिताभ बच्‍चन अस्‍पताल से डिस्‍चार्ज होकर घर को लौटेंगे। अमिताभ बच्चन की कोरोना रिपोर्ट जहां निगेटिव आई है, वहीं उनके ब्‍लड टेस्‍ट, सीटी स्‍कैन की रिपोर्ट भी सामान्‍य आई है। अभिषेक बच्‍चन की हालत भी पहले से बेहतर बताई जा रही है।  इस बीच अमिताभ बच्‍चन ने इंस्‍टाग्राम और ट्विटर पर एक पोस्‍ट शेयर की है,जिसमें उन्‍होंने देश के गंगा जमुनी तहजीब की बात लिखी है।

उन्‍होंने अपनी चार तस्‍वीरों का एक कोलाज शेयर किया है जिसमें दो तस्‍वीरों में वह हाथ जोड़ रहे हैं, वहीं अन्‍य में हाथ फैला रहे हैं। इस पोस्‍ट के कैप्‍शन में उन्‍होंने ल‍िखा- मज़हब तो ये दो हथेलियांं बताती हैं, जुड़ें तो "पूजा" खुलें तो “दुआ” कहलाती हैं!महानायक का यह पोस्‍ट एक घंटे के भीतर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इंस्‍टाग्राम पर जहां इसे ढाई लाख यूजर्स ने लाइक किया, वहीं बाकी प्‍लेटफॉर्म पर भी लाखों फैंस ने इसे पसंद किया। अमिताभ बच्‍चन ने कोरोना की जंग के दौरान एक एक दिन कई बार पोस्‍ट शेयर कीं और भगवान का जिक्र किया। यह सभी पोस्‍ट फैंस को बेहद पसंद आईं। 

19-07-2020
लगातार बढ़ रही है नरेंद्र मोदी की सोशल साइट पर लोकप्रियता, छह करोड़ हुए ट्विटर पर फाॅलोअर्स

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता माइक्रो-ब्लागिंग साइट ट्विटर पर लगातार बढ़ती जा रही है और उनके फाॅलोअर्स की संख्या बढ़कर छह करोड़ पर पहुंच गई है। नरेंद्र मोदी जनवरी 2009 में ट्विटर से जुड़े हैं। प्रधानमंत्री के ट्विटर हैंडल के अनुसार, उनके फाॅलोअर्स की संख्या छह करोड़ पर पहुंच गई है। सितंबर-19 में ट्विटर पर मोदी के फाॅलोअर्स की संख्या पांच करोड़ थी। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के ट्विटर पर दो करोड 16 लाख फाॅलोअर हैं। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व अध्यक्ष शाह मई 2013 में ट्विटर से जुड़े हैं। अप्रैल 2013 से ट्विटर पर सक्रिय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के एक करोड 78 लाख फाॅलोअर्स हैं। राहुल गांधी के ट्विटर फाॅलोअर्स एक करोड़ 52 लाख हैं। ट्विटर फाॅलोअर्स के लिहाज से अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के 12.9 करोड़ फाॅलोअर हैं। सितंबर-19 में यह संख्या 10.8 करोड़ थी। ट्विटर पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फाॅलोअर्स की संख्या में पिछले साल सितंबर के छह करोड़ 41 लाख की तुलना में यह बढ़कर 8.37 करोड पर पहुंच गई है। अमिताभ बच्चन के ट्विटर पर फाॅलोअर्स सितंबर-19 के तीन करोड़ 84 लाख से बढ़कर चार करोड 34 लाख हो गए हैं। 

 

 

10-07-2020
अमर अग्रवाल ने साधा कांग्रेस सरकार पर निशाना, कहा - तीन तिगाड़ा अऊ चार चिन्हारी दिनरात दाऊसाहेब के लबारी...

रायपुर। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने प्रदेश कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए ट्विटर पर कुछ पंक्तियां लिखीं हैं। उन्होंने बार बार केन्द्र को पत्र लिखने, 15 हजार करोड़ के कर्ज, कोरोना की रोकथाम, घोषणा पत्र के मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोेशिश की है। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने लिखा कि,

तीन तिगाड़ा अऊ चार चिन्हारी, दिनरात दाऊसाहेब के लबारी।
काबर जाथे एमन मोदी करा, लेके चिट्ठी अऊ कटोरा बारी बारी। 
15 हजार करोड़ कर्जा हवे, 30 हजार करोड़ भी ले लवय उधारी,
मिटा दे कोरोना के महामारी, निपटा दे घोषणापत्र के बीमारी ।
ले आ सुराज अइसने फिर का कहना, उनहत्तर झिन के तुंहर दिवा अंजोर के गहना।
फेर जाहा तुमन माँगेय दुआर दुआर, कर्जा ल देहा जम्मो,एकच बेरा म उतार।
ये होथे तरीका अऊ सेवा के सरोकार, येला भी प्यार,ओला भी प्यार,
मोला भी प्यार,तोला भी प्यार।
सब ला चढ़ा दे कर्जा म सब ल दिस उतार, कौन कही डर गई कांगेस सब्बो बोलही केवल
वाह रे वाह भूपेश सरकार।

 

06-07-2020
वन होम वन ट्री कैंपेन, पौधा लगाकर प्रकृति को सहेजने भागीदारी की अपील

दुर्ग। जिले में वन होम वन ट्री अभियान के अंतर्गत आज हर घर में नागरिक पौधे रोपेंगे। रविवार को सभी निगमों में एवं ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पौधों का वितरण नागरिकों को किया गया। इसके साथ ही स्कूलों में, आंगनबाड़ी केंद्रों में, प्रमुख सड़कों में, उद्यानों में, गौठान में भी पौधों का रोपण किया जाएगा। सभी शासकीय स्कूलों के साथ ही प्राइवेट स्कूलों में भी पौधों का रोपण किया जाएगा। स्कूलों में 22,000 से अधिक पौधे रोपे जाएंगे। आंगनबाड़ी केंद्रों में 12,000 से अधिक मुनगा के पौधे रोपे जाएंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में दो लाख से अधिक पौधे रोपे जाने की संभावना है। सभी शासकीय कार्यालयों में पौधे रोपे जाने की पूरी तैयारी कर ली गई है।

नगर निगम रिसाली में कल्याणी मंदिर के पास के तालाब के निकट सामूहिक पौधारोपण का कार्यक्रम किया जाएगा। दुर्ग विधायक अरुण वोरा ने सभी से अपील की है कि कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने सभी संगठनों से पुन: अपील की है कि 6 जुलाई को सभी सामूहिक रूप से पौधरोपण करें। साथ ही अपने घरों में भी पौधे लगाएं। इसके साथ ही संगठन के सभी सदस्यों को भी पौधे लगाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने सभी नागरिकों से भी  पौधे लगाने की अपील की है। वन होम वन ट्री में शामिल होकर लें अपनी सेल्फी और शेयर करें हमारे साथ दुर्ग जिले के आधिकारिक फेसबुक और ट्विटर अकाउंट पर इसे टैग कर दें।

04-07-2020
नरेंद्र मोदी ने युवाओं से की अपील, कहा-ट्विटर,फेसबुक और टिक टॉक जैसे भारतीय ऐप बनाएं

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश के युवा आगे आएं और ट्विटर, फेसबुक और टिकटोक जैसे भारतीय ऐप बनाएं। मैं उन्हें ज्वॉइन करूंगा। उन्होंने आत्मनिर्भर भारत ऐप इन्नोवेशन चैलेंज में ये बातें कही। प्रधानमंत्री मोदी का बयान ऐसे वक्त में आया है जब सरहद पर चीन के साथ तनातनी के हालात हैं और भारत सरकार ने चीन के 59 ऐप्स पर बैन लगा दिया है। इनमें से कई ऐप्स भारत में काफी लोकप्रिय थे। पीएम मोदी ने चीन पर शिकंजा कसने की इसी कड़ी में भारतीय युवाओं से अपील की है वे खुद ट्विटर, फेसबुक और टिकटोक जैसे लोकप्रिय ऐप्स बनाएं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारे युवा आगे आएँ और ट्विटर फ़ेसबुक और टिकटोक जैसे भारतीय ऐप बनायें, मैं भी इन्हें ज्वाइन करूँगा ।

 

22-06-2020
जानें सोनम कपूर को सोशल मीडिया पर क्यों कहां जा रहा है भला-बुरा

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड में फैले नेपोटिज्म को लेकर करण जौहर की काफी आलोचना हो रही है। वही सुशांत सिंह की मौत के मद्देनजर ‘बाहरी बनाम भीतरी’ की बहस के बीच सोशल मीडिया पर अपशब्द कहे जाने की प्रतिक्रिया में सोनम कपूर ने रविवार को कहा कि फिल्म स्टार की बेटी होना उनके लिए सम्मान की बात है और उन्हें अपनी पहचान पर फक्र है। सोनम ऐसे परिवार से आती हैं, जिनमें फिल्म निर्माता और अभिनेता हैं। उन्होंने अपशब्दों से भरे संदेशों के स्क्रीनशॉट साझा किए। इनमें उनके बारे में, उनके पिता अनिल कपूर और निर्मात बहन रिया कपूर के बारे में अपशब्द कहे गए हैं। उन्होंने ट्विटर पर कहा मुझ पर की गई यह कुछ कमेंट्स हैं। सारा मीडिया और जिन सब लोगों ने इस प्रकार के व्यवहार को बढ़ावा दिया और उकसाया वे इस सब के लिए जिम्मेदार हैं। जो लोग यह बात कर रहे हैं कि व्यक्ति को लोगों के साथ अच्छा व्यवहार कैसे करना चाहिए, वे अन्य से ज्यादा बदतर सुलूक कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा मैं आपसे कहती हूं कि जाइए मेरा कमेंट सेक्शन देखिए। मुझे यकीन है कि आप नहीं चाहेंगे ऐसा ही आपके साथ हो। मैं चाहूंगी कि आपके माता-पिता इस तरह की चीजें नहीं देखें। सोनम ने कहा कि उनकी टीम इस तरह की टिप्पणियों को अधिकारियों को रिपोर्ट कर रही हैं। “नीरजा” की अभिनेत्री ने कहा कि उन्हें गर्व है कि वह एक फिल्म स्टार की बेटी हैं। उनके पिता ने फिल्म जगत में बने रहने के लिए कड़ी मेहनत की है। उन्होंने लिखा है आज पिता दिवस के मौके पर मैं एक और बात कहना चाहूंगी कि जी हां मैं अपने पिता की बेटी हूं और हां मैं उनकी वजह से यहां हूं और हां यह मेरे लिए गौरव की बात है। एक्ट्रेस ने कहा यह अपमान की बात नहीं है। मेरे पिता ने मुझे यह सब देने के लिए बहुत मेहनत की है। यह मेरे कर्म है कि मैं कहां पैदा हुई और किस के यहां पैदा हुई। मुझे गर्व है इस पर और उनकी बेटी होने पर।

16-06-2020
रवीना ने कहा, फिल्म इंडस्ट्री गंदी राजनीति मन खट्टा कर देती है

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत के निधन से एक और पूरा देश सदमे में है वहीं दूसरी ओर बॉलीवुड के कई सितारे फिल्म इंडस्ट्री के अंदर की गड़बड़ी की ओर इशारा कर रहे हैं। रवीना टंडन ने ट्विटर पर भड़ास निकाली है। रवीना ने ट्वीट किया, “आपको बने रहने के लिए संघर्ष करना पड़ता है, फाइट बैक करना पड़ता है, कुछ सर्वाइव करते हैं कुछ नहीं। जब आप सच बोलते हैं तो आपको झूठा, पागल, सायकॉटिक प्रचारित कर दिया जाता है। रवीना ने कहा, “वह आभारी हैं इंडस्ट्री ने काफी कुछ दिया है लेकिन कुछ लोगों की गंदी राजनीति मन खट्टा कर देती है। गंदी राजनीति हर जगह होती है। मुझे अपनी इंडस्ट्री से प्यार है लेकिन हां, प्रेशर काफी ज्यादा है। यहां अच्छे लोग हैं और ऐसे लोग भी हैं,जो गंदा काम करते हैं। हर तरह के लोग हैं लेकिन दुनिया ऐसी ही है।”

06-06-2020
जानें ट्विटर पर क्यों ट्रेंड कर रहा विराट-अनुष्का का डिवोर्स

मुंबई। सोशल मीडिया पर कभी कुछ भी ट्रेंड हो सकता है। शनिवार को सभी तब चौंक गए जब ट्विटर पर #VirushkaDivorce ट्रेंड करने लगा। ये मामला साल 2016 में आई एक न्यूज के दोबारा वायरल होने से शुरू हुआ था, जिसमें बताया गया था कि विराट और अनुष्का अलग हो रहे हैं। कभी-कभी ट्विटर भी अपना अजीब खेल दिखा देता है। आपने कई बार लोगों को कहते सुना होगा कि ट्विटर पर ट्वीट नहीं हो रहा, किसी को फॉलो करना चाहते हैं वह फॉलो नहीं हो रहा, वगैरा-वगैरा लेकिन जरा सोचिए किसी बॉलीवुड स्टार की डिवोर्स की खबर अगर रातों-रात ट्रेंड होने लगे और वह भी तब जब वो अपनी जिंदगी खुशहाल तरीके से जी रहे हो।

ऐसे में सोशल मीडिया के इस प्लेटफार्म से भरोसा उठना लाजमी हो जाता है। हैरानी की बात तो यह है कि ऐसा सच में हुआ है। दरअसल शुक्रवार की रात देखते ही देखते विराट-अनुष्का के तलाक की खबरें ट्रेंड करने लगी। #Virushkadivorce ट्विटर पर लगातार ट्रेंड कर रहा है। दरअसल शुक्रवार की रात देखते ही देखते विराट अनुष्का के तलाक की खबरें ट्रेंड करने लगी। #Virushkadivorce ट्विटर पर लगातार ट्रेंड कर रहा है। ये ट्रेंड करते ही हर कोई हैरान हो गया। विराट अनुष्का के परेशान हो गए तो वहीं कुछ यूजर्स ने इसको लेकर मीम्स बनाना शुरू कर दिया। लिहाजा ये ट्रेंड और बढ़ता चला गया था।

हालांकि अब तक सबकी समझ से परे है कि आखिर ट्विटर पर बिना बात के विराट अनुष्का के डिवोर्स की खबरें ट्रेंड कैसे कर सकती हैं। इस ट्रेंड को हाल ही में पाताल लोक को लेकर हुई कॉन्ट्रोवर्सी से जोड़कर भी देखा जा रहा है। दरअसल अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन हाउस के बैनर में बनी वेब सीरीज पाताल लोक के एक सीन को लेकर काफी विवाद हुआ। बहरहाल अभी विराट अनुष्का दोनों में से किसी ने भी इस खबर को लेकर कोई बयान नहीं दिया है। बता दें दोनों की शादी 2017 में हुई थी और तभी से दोनों अपनी खुशहाल जिंदगी बिता रहे हैं। लॉक डाउन के दौरान दोनों पति-पत्नी क्वालिटी टाइम स्पेंड कर रहे हैं। अक्सर दोनों की वीडियोस सोशल मीडिया पर वायरल भी होती है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804