GLIBS
06-11-2020
किशन हत्याकांड :  अदालती आदेश पर 3 आरोपी जेल व 2 बाल संप्रेक्षण गृह ‌‌‌भेजे गए

रायपुर। मंदिरहसौद थाना क्षेत्र के ग्राम पिपरहट्ठा‌ में किशन हत्याकांड में पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में से 3 व्यस्क को अदालती आदेश पर न्यायिक अभिरक्षा में केंद्रीय कारागार भेजा गया है, वहीं 2 नाबालिग अपचारी बालकों को बाल संप्रेक्षण गृह भेजा गया। आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 / 201/ 335 सहपठित धारा 34 का अपराध‌ पंजीबद्ध किया है। ज्ञातव्य‌ हो कि बीते 3 व 4 नवंबर के दरम्यानी रात  भानसोज से छतौना जाने वाले सड़क मार्ग पर पड़ने वाले ग्राम पिपरहट्ठा के राठौड़ फार्म जाने वाले खार‌ की सूनसान कच्ची सड़क पर चटौद निवासी किशन गिलहरे (24) की चाकू से गोद कर हत्या कर दी।

आरोपियों ने पेट्रोल डाल लाश को जलाने का प्रयास किया था व उसके स्कूटी को घटनास्थल से करीब 3 किलोमीटर दूर ले जा कर पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया था। 4 नवंबर की सुबह सूचना पर पुलिस ने अधजली शव व स्कूटी बरामद किया था। मृतक को अंतिम बार पिपरहट्ठा में देखे जाने की‌ बात कही जा रही थी। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने पिपरहट्ठा के पूनम ठाकुर व राहुल वर्मा के साथ एक नाबालिग को व‌ ग्राम भानसोज के प्रकाश निर्मलकर व एक नाबालिग को इस‌ घटना में लिप्त पाए जाने पर गिरफ्तार कर लिया है। तीनों व्यस्क‌ आरोपियों को न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम वर्ग रायपुर पंकज अग्रवाल के न्यायालय में व दोनों नाबालिगों को किशोर न्यायालय के न्यायाधीश सुमित कुमार हर्षीयाना के न्यायालय में ‌‌‌पेश किया गया। यहां से अग्रवाल के आदेश पर आगामी 18 नवंबर तक के लिए तीनों आरोपियों को न्यायिक अभिरक्षा में केंद्रीय कारागार भेजा व हर्षीयाना के आदेश पर दोनों नाबालिगों को बाल संप्रेक्षण गृह में दाखिल कराया।

16-10-2020
कलेक्टर ने कहा, बिना मास्क के नहीं मिलेगा डीजल-पेट्रोल

धमतरी। कोविड-19 के संक्रमण को दृष्टिगत करते हुए कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने बिना मास्क के पेट्रोल-डीजल नहीं दिए जाने के निर्देश जिले के सभी पेट्रोल पम्प संचालकों को दिया है। पम्प संचालकों के नाम से जारी ज्ञापन में कहा गया है कि यदि कोई उपभोक्ता बिना मास्क के पेट्रोल अथवा डीजल के लिए आता है तो किसी भी हालत में ईंधन प्रदाय नहीं किया जाए। यदि बिना मास्क के किसी उपभोक्ता को पेट्रोल/डीजल दिया जाता है तो ऐसे फर्म संचालक के विरूद्ध नियमानुसार कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

21-09-2020
राजधानी में लॉक डाउन को लेकर संशोधित आदेश जारी, पढ़े पूरी खबर...

रायपुर। जिले में सोमवार रात 9 बजे से 28 सितंबर तक लाॅक डाउन का आदेश कलेक्टर ने जारी किया है। पूर्व में जारी किए आदेश को संशोधित करते हुए आज एक नया आदेश जारी किया गया है। पूर्व आदेश के मुताबिक केवल अति आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को पेट्रोल अथवा डीजल देने की अनुमति प्रदान की गई थी। अन्य के लिए प्रतिबंधित रखा गया था। इस आदेश में संशोधन किया गया है। अब नए आदेश के मुताबिक अति आवश्यक सेवाओं से संबंधित लोगों के अलावा प्रेस मीडिया, परीक्षार्थियों, दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों, जिन्हें लौटना हो या आगे जाना हो के अलावा ई-पास धारकों और अनुमति प्राप्त लोगों को पेट्रोल-डीजल प्रदान किया जा सकता है।

वहीं आम नागरिकों के लिए प्रतिबंध यथावत रहेगा। साथ ही दूध वितरण के लिए भी संशोधित आदेश जारी किया गया है। आदेश के मुताबिक दुकान अथवा पार्लर खोलने की अनुमति नहीं होगी, बल्कि निर्धारित समय तक नियमों का पालन करते हुए दूध वितरण किया जा सकता है। यही आदेश समाचार पत्रों के हाॅकरों के लिए भी लागू किया गया है। बता दें ​कि इस बार का लॉक डाउन काफी सख्त होगा। इसके कारण पहले से ही लोगों ने सप्ताहभर का सामान खरीदकर स्टोर कर लिया है।

 

19-07-2020
डीजल महंगा और पेट्रोल सस्ता, घट सकती है डीजल गाड़ियों की मांग

रायपुर। प्रदेश में पेट्रोल की तुलना में डीजल की कीमत बढ़ गई है। रायपुर में पेट्रोल 79.19 रुपये प्रति लीटर और डीजल 79.26 रुपये प्रति लीटर रहा। जानकारों की माने तो पेट्रोल-डीजल की कीमतों में अभी उछाल आ सकती है। साथ ही डीजल का भाव अगर पेट्रोल से अधिक रहा। इस स्थिति में डीजल वाहनों की मांग कम हो जाएगी। वैसे भी इन दिनों पेट्रोल वाहनों की तुलना में डीजल वाहनों की मांग में कमी देखी जा रही है।

02-07-2020
पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ 4 जुलाई तक चलेगा कांग्रेस का आंदोलन 

रायपुर। देशभर में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते मूल्य के विरोध में कांग्रेस का राज्य स्तरीय धरना-प्रदर्शन जारी है। पीसीसी के निर्देश के बाद 30 जून से 4 जुलाई तक प्रदेशभर में यह आंदोलन जारी रहेगा। पीसीसी सूत्रों की माने तो पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के बीच कांग्रेस ने केन्द्र सरकार पर हमला तेज कर दिया है। इसी क्रम में कांग्रेस की सभी इकाईयों द्वारा पेट्रोलियम मूल्यवृद्धि के खिलाफ चरणबद्ध ढंग से आंदोलन किया जा रहा है। पीसीसी के निर्देश के बाद प्रदेश के सभी संगठन जिला के अंतर्गत लगभग 307 नगर, ब्लॉक मुख्यालयों में धरना-प्रदर्शन, आंदोलन करते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों, पदाधिकारियों, सांसद, पूर्व सांसद, सांसद प्रत्याशी, विधायक, पूर्व विधायक, विधायक प्रत्याशी, नगरीय निकाय, नगर पंचायत, ग्राम पंचायत स्तर के कांग्रेस कार्यकर्ता भी लगातार आंदोलन व धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं।

यह विरोध-प्रदर्शन 4 जुलाई तक चलेगा। इसके अलावा सोशल मीडिया पर भी केन्द्र सरकार के खिलाफ व देश में बढ़ती महंगाई और पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस द्वारा विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है। धरना-प्रदर्शन के माध्यम से केन्द्र की मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों को आम जनता तक पहुंचाया जाएगा। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों में हो रही बेतहाशा मूल्यवृद्धि के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान चलाकर केन्द्र सरकार के समक्ष विरोध दर्ज कराया जाएगा, जिसमें प्रमुख रूप से प्रभावित ओला उबर चालक, ड्राइवर, ट्रक और टैक्सी चालक सहित आमजनों से राय ली जाएगी और इसका वीडियो बनाकर प्रसारित किया जाएगा।

24-06-2020
राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा- पेट्रोल,डीजल की कीमत हो गई अनलॉक

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेट्रोल और डीजल की कीमत में लगातार बढ़ोतरी को लेकर बुधवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार ने कोरोना महामारी एवं पेट्रोलियम उत्पादों के दाम को 'अनलॉक' कर दिया है। उन्होंने कोरोना वायरस के मामले बढ़ने और पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से जुड़ा एक ग्राफ शेयर करते हुए ट्वीट किया कि मोदी सरकार ने कोरोना महामारी और पेट्रोल-डीजल की कीमतें 'अनलॉक' कर दी हैं।
सरकारी पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य के संबंध में अधिसूचना के अनुसार 17 दिन तक लगातार वृद्धि के बाद बुधवार को पेट्रोल के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं, वहीं डीजल कीमतों में देशभर में 48 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई है। दिल्ली में अब डीजल का दाम 79.88 रुपए प्रति लीटर हो गया है, वहीं पेट्रोल की कीमत 79.76 रुपए प्रति लीटर है।

23-06-2020
पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम पर भाजपा चुप क्यों : सुरेन्द्र शर्मा

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुरेन्द्र शर्मा ने पूछा है कि पेट्रोल डीजल के दाम एक रुपए बढ़ जाने पर छाती पीटने वाली भाजपा आज कोरोना काल में रोज पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम पर चुप क्यों है? विगत 15 दिनों में पेट्रोल-डीजल के दामों में 10 रुपए से अधिक हो चुकी है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने केंद्र की सरकार चला रहे भाजपा से पूछा कि जब दुनियां में कच्चे तेल के दाम गिर रहे हैं, तो भारत मे लगातार वृद्धि क्यों की जा रही है? देश की जनता आर्थिक समस्याओं से पीड़ित है ऐसे समय मे राहत देने की जगह समर्थन देने का दंड क्यों दिया जा रहा है? डीजल का व्यापक उपयोग कृषि कार्यों में होता है। किसानों की उत्पादन लागत भी बढ़ रही है। डीजल मंहगा होने से मालभाड़ा भी बढ़ रहा है। आवश्यक वस्तुओं किराना, सब्जी, अनाज सबके दाम बढ़ रहे हैं। चौतरफा मंहगाई की मार आम उपभोक्ता पर पड़ रही है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने इसके लिए मोदी सरकार जिम्मेदार ठहराया है।

06-05-2020
केंद्र सरकार पेट्रोल, डीजल पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाने का फैसला वापस ले : राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को मोदी सरकार पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों को बढ़ाने का आरोप लगाते हुए हमला बोला है। दरअसल केंद्र सरकार ने एक दिन पहले ही पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले उत्पाद कर (Excise Duty) में भारी बढ़ोतरी की। हालांकि आज इसका असर दोनों इधनों के दामों पर नहीं पड़ा है।कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट किया “कोरोना वायरस से जारी लड़ाई हमारे करोड़ों भाइयों और बहनों के लिए गंभीर आर्थिक कठिनाई का कारण बन रही है। इस समय, कीमतें कम करने के बजाय, पेट्रोल और डीजल पर 10-13 रुपये प्रति लीटर कर बढ़ाने का सरकार का निर्णय अनुचित है और इसे वापस लिया जाना चाहिए।”


उल्लेखनीय है कि कोविड-19 संकट और लॉकडाउन के कारण राजस्व नुकसान की भरपाई करने के मकसद से केंद्र सरकार ने एक दिन पहले ही पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 10 रुपए प्रति लीटर जबकि डीजल पर 13 रुपए प्रति लीटर बढ़ाने का फैसला लिया। माना जा रहा तह कि उत्पाद कर में इतनी बड़ी वृद्धि से पेट्रोल और डीजल के दाम में तकरीबन दस रुपए का इजाफा हो सकता है। फिलहाल वाहन ईंधन के दाम में आज कोई वृद्धि नहीं होने से लोगों पर इसका भार नहीं पड़ा है।दुनियाभर में मांग में भारी कमी होने के चलते अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें दो दशक के निचले स्तर पर चली गई हैं।. जिसका फायदा उठाने के लिए मोदी सरकार ने लाभ उठाने के लिए सरकार ने उत्पाद कर बढ़ाने का फैसला लिया। इससे नकदी संकट से जूझ रही केंद्र सरकार को 1.6 लाख करोड़ अतिरिक्त राजस्व मिलने की उम्मीद है।

 

28-04-2020
आज से 12 घंटे खुलेंगे पेट्रोल पंप, पढ़े पूरी खबर...

रायपुर। शहर में अब पेट्रोल पंप 12 घंटे तक खुले रहेंगे। रायपुर पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अनुसार प्रशासन ने पेट्रोल पंपों में खरीदी बिक्री के लिए सुबह 8 से रात्रि 8 बजे तक का समय निर्धारित किया है। इससे पहले शहर के पेट्रोल पंपों को दोपहर 3 बजे तक ही खोले जाने तक की अनुमति थी। रायपुर पेट्रोलियम डीलरशिप अंसारी ने बताया कि इससे पहले अधिकारियों ने लोगों की मांगों को ध्यान में रखते हुए पंपों को सुबह 8 से रात्रि 8 बजे तक खोले जाने की मांग प्रशासन के सामने रखी थी। जिस पर गंभीरता से विचार करते हुए प्रशासन ने यह निर्णय लिया है।

21-04-2020
राहुल गांधी ने कहा, कच्चे तेल में गिरावट के बाद भी देश में पेट्रोल और डीज़ल महंगा क्यों बेचा जा रहा है?

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कच्चे तेल की कीमत में ऐतिहासिक गिरावट के बाद मंगलवार को सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इस स्थिति में भी पेट्रोल 69 रुपये और डीजल 62 रुपये प्रति लीटर बेचा जा रहा है।
उन्होंने सवाल किया कि पेट्रोल-डीजल की कीमत कम करने की मांग पर सरकार क्यों ध्यान नहीं दे रही है? राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘दुनिया में कच्चे तेल की क़ीमतें अप्रत्याशित आँकड़ों पर आ गिरी हैं, फिर भी हमारे देश में पेट्रोल 69 रुपये, डीज़ल 62 रुपये प्रति लीटर क्यों है? इस विपदा में जो दाम घटे, सो अच्छा। कब सुनेगी ये सरकार?’इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि सरकार को आम उपभोक्ताओं को राहत प्रदान करनी चाहिए। खेड़ा ने संवाददाताओं से कहा,‘तेल के दामों में अचानक अप्रत्याशित कमी का आना एक ऐतिहासिक मौका है। इतनी कमी कि वह शून्य से भी नीचे जा पहुंचा। एक बार तो ऐसा क्षण आया कि दाम शून्य से 37 डॉलर नीचे चला गया। इसका कारण है कि अमेरिका में इस कच्चे तेल का कोई खरीददार नहीं हैं।’उन्होंने कहा,‘सरकार ने पिछले छह वर्षों में पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क लगाकर 20 लाख करोड़ रुपये अर्जित किये। सवाल यह है कि आप इस लाभ को उपभोक्ता के साथ क्यों बांट नहीं सकते? वह राहत आम उपभोक्ता को क्यों नहीं दे सकते?’ खेड़ा ने सरकार से आग्रह किया कि इस मुश्किल दौर में आम लोगों को राहत देनी चाहिए।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804