GLIBS
30-07-2020
दो गायों से गौ पालन शुरू करने वाले कांकेर के रामनाथ यादव के पास है 22 पशुधन, भूपेश सरकार की योजना का असर

रायपुर/कांकेर। छत्तीसगढ़ शासन के प्रयास से गांव के लोग आत्मनिर्भर बन रहे हैं। चारामा विकासखण्ड के ग्राम आंवरी निवासी रामनाथ यादव अब आत्मनिर्भर बन चुका है, वह प्रतिदिन 45 लीटर दूध बेचकर अच्छी आमदनी प्राप्त कर रहा है। दूसरे के घरों में नौकर लगकर गाय-बैल चराने वाला रामनाथ स्वावलंबी बन चुका है। दो देशी गाय से गौ-पालन का कार्य शुरू करने वाला रामनाथ यादव आज 22 पशुधन का मालिक बन गया है, उनकी यह सफलता मंत्रमुग्ध करने वाला है और लोगों के लिए प्रेरणादायी भी है। रामनाथ ने बताया कि उनकी सफलता के पीछे शासन की ओर से संचालित योजना का बहुत बड़ा योगदान है। कांकेर जिले के प्रभारी सचिव धनंजय देवांगन और कलेक्टर केएल चौहान ने उन्हें उनकी सफलता के लिए बधाई देते हुए उसके पुत्र साजन कुमार को 22 गायों से बढ़ाकर 100 गायों का डेयरी बनाने के लिए प्रोत्साहित किया।रामनाथ यादव ने बताया कि वह कक्षा दूसरी में पढ़ रहा था, तभी पिता ने गरीबी के कारण पेट पालने के लिए दूसरे के घर में गाय चराने के लिए नौकर लगा दिया, उसके बाद वह अन्य घर में कम मजदूरी में गाय चराने लगा और लगभग 15 वर्ष चरवाहा का काम करने के बाद दूसरे के द्वारा दिये गये दो देशी गाय से गौ-पालन प्रारंभ किया। देशी गाय में कृत्रिम गर्भाधान से उन्नत नस्ल के मादा वत्स पैदा हुई, बड़ी होने के बाद उन्हें भी कृत्रिम गर्भाधान कराया गया, धीरे-धीरे उन्नत नस्ल के बछिया-बछड़ों की संख्या बढ़ती गई, जो बड़े होकर गाय एवं बैल बने।

बैल को विक्रय किया गया तथा गाय के 2 लीटर दूध को बेचने के साथ ही दुग्ध व्यवसाय का कार्य प्रारंभ किया गया। वर्तमान में 45 लीटर दूध का विक्रय किया जा रहा है। रामनाथ यादव ने कहा कि आज मेरे पास लगभग 5 लाख रूपये की 22 पशुधन हैं, जिसमें 2 गाय एचएफ नस्ल, 2 गाय गिर नस्ल, 4 गाय शाहीवाल नस्ल और 4 गाय जर्सी नस्ल के हैं, इसके अलावा 6 उन्नत नस्ल के बछिया और 4 बछड़ा हैं, जिसे जोड़ी बनाकर बेचने से अतिरिक्त आमदनी होगी। उन्होंने कहा कि गौपालन के कार्य में पशुधन विकास विभाग द्वारा समय-समय मार्गदर्शन एवं सहयोग दिया जाता है।  रामनाथ यादव ने बताया कि छत्तीसगढ़ शासन द्वारा शुरू की गई ‘गोधन न्याय योजनांतर्गत गांव के गौठान में प्रतिदिन लगभग 150 किलोग्राम गोबर का विक्रय कर रहा हूं,जिससे 300 रुपए की प्रतिदिन की आमदनी हो रही है। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व गोबर को गांव के किसानों को बेच देता था, लेकिन अब इसे गौठान में बेच रहा हॅू। दुग्ध व्यवसाय के संबंध में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि वर्तमान में चारामा के होटल और घर-घर पहुंच कर प्रतिदिन 45 लीटर दूध 40 रुपए की दर से विक्रय कर रहा हूॅ। इस व्यवसाय से मैं और मेरा परिवार खुशहाल हैं।

20-07-2020
गोधन न्याय योजना: दलेश्वर साहू और देवेन्द्र यादव ने गायों को लोई खिलाकर लिया आशीर्वाद

भिलाई। संसदीय सचिव दलेश्वर साहू एवं महापौर व भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव ने भिलाई नगर रेलवे स्टेशन के समीप शहरी गौठान में गायों की पूजा अर्चना कर गोधन न्याय योजना का शुभारंभ किया। आठ पशुपालकों को हितग्राही पंजीयन प्रमाण-पत्र अतिथियों के द्वारा प्रदान किया गया। वहीं गौठान में पंजीकृत पशुपालकों से गोबर क्रय किया गया। छत्तीसगढ़ की परंपरा के अनुसार अतिथियों ने गायों को आटे से बनी लोई खिलाकर आशीर्वाद लिया और छत्तीसगढ़ के पहली तिहार हरेली की शुभकामनाएं दी। निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने अतिथियों को योजना के क्रियान्वयन की जानकारी दी। अतिथियों ने आयुक्त के साथ शहरी गौठान के हरा-चारा उत्पादन क्षे़त्र, वर्मी कमोस्ट सेंटर, जैविक खाद द्वारा तैयार हरी सब्जियों और फूलों की खेती का निरीक्षण किया। इस बीच अतिथियों ने गौठान में गायों की देखभाल करने वाली बम्लेश्वरी महिला स्व सहायता समूह की सदस्यों से चर्चा की तथा उन्हें सरकार की योजनाओं के बारे में बताया। महिलाओं ने जैविक खाद का उपयोग कर सब्जी का उत्पादन करने की जानकारी दी। इससे उन्हें अच्छी आमदनी होना बताया।

 

17-07-2020
गाय को मारने मामले में भाजपा ने किया थाने का घेराव,आरोपी पर सख्त कार्रवाई करने की मांग,पुलिस ने एक संदेही को पकड़ा

अम्बिकापुर। सरगुजा जिला के बतौली में चर्च के पीछे एक गाय को मारने व उसे फांसी पर लटकाने का मामला काफी गर्मा गया है। शुक्रवार सुबह गाय का फांसी पर लटका हुआ शव मिलने के बाद बतौली भाजपा मंडल के अध्यक्ष रज्जूराम भगत के नेतृत्व में सैकड़ों लोग घटनास्थल पहुंचे और विरोध प्रदर्शन किया। भाजपाइयों ने बतौली थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद पुलिस द्वारा एक संदिग्ध को पकड़ने व सख्त कार्रवाई के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ। भाजपाइयों ने आरोपी के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर उसके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई किए जाने की मांग की है। बतौली मंडल अध्यक्ष रज्जू राम ने बताया कि पुलिस तत्काल आरोपी को पकड़े और हत्या के तहत कार्रवाई करें नहीं तो आगे और भी उग्र आंदोलन किया जाएगा। पुलिस का कहना है कि अभी पतासाजी जारी है,एक-दो दिनों में मामले का पटाक्षेप हो जाएगा। भाजपा प्रदेश मंत्री अनुराग सिंहदेव ने प्रकरण की उच्च अधिकारियों द्वारा निष्पक्ष जाँच की मांग की है। थाना घेराव  में रज्जूराम भगत,देवनाथ सिंह,निशांत गुप्ता,ईश्वर यादव,दीपक गुप्ता,हरी गुप्ता,आरडी चौहान, नितिन गुप्ता, सूर्यकांत सिंह,जगदेवन राम,पारस यादव,नवीन गुप्ता,अनुज गुप्ता,हिंडलाल पैंकरा सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 

 

01-07-2020
गीदम जावंगा के सामने बड़ा हादसा : वाहन की चपेट में आई 7 गाय, 3 की मौत

गीदम। एजुकेशन हब गीदम जावंगा के सामने हाईवे पर अज्ञात वाहन ने 7 गायों को कुचलते हुए फरार हो गई। वाहन की चपेट में आने के कारण 3 गायों की मौत हो गई। वहीं चार गाय बुरी तरह घायल हो गई।

21-04-2020
तेंदुएं के हमले से गाय की मौत, ग्रामीणों में दहशत

कांकेर। अन्तागढ़ ताडोकी के बर्रेबेडा गाँव में एक तेंदुएं ने गाय पर हमला किया, जिससे गाय की मौत हो गई है। ग्रामीणों ने तेंदुएं  इसकी जानकारी वन विभाग को दी, जिसके बाद वन अमला मौके पर पहुँचा। इस घटना के बाद से ग्रामीणों मे दहशत का माहौल बना हुआ है। वन परिक्षेत्र अधिकारी अंतागढ चरण सिंह ठाकुर ने बताया की बरेॅबेडा में तेंदुएं की जानकारी मिली है। एक गाय को उसने अपना शिकार बना लिया है। इसकी सूचना पर विभाग की टीम ने मौके का जायजा लिया है। घटनास्थल पर गाय मृत अवस्था में पाई गयी है साथ ही जमीन पर तेंदुऐ के पंजो के निशान भी साफ तौर पर नजर आ रहे हैं। ग्रामीणों को सर्तक रहने की समझाईश दी गई है। बता दें की तेंदुऐ की सक्रियता के बाद से क्षेत्र दहशत है।

 

22-12-2019
Breaking : गाय चराने जंगल गए बुजुर्ग को हाथियों ने कुचला, ग्रामीणों में दहशत

गरियाबंद। जिले में हाथियों के उत्पात की खबर सामने आ रही है। जानकारी के अनुसार गरियाबंद में गाय चराने जंगल गए एक बुजुर्ग को हाथियों ने कुचल कर मार डाला। घटना पण्डरीपानी सिकासेर की बताई जा रही है। बताया जा रहा है उक्त घटना को हाथियों के दल ने अंजाम दिया। घटना की जानकारी वन विभाग को दी गई है। सूचना के बाद वन विभाग मौके पर रवाना हुआ। बुजुर्ग की मौत से ग्रामीणों में दहशत है। बता दें कि 28 नवंबर को हाथियों के दल ने पण्डरीपानी में इसी बुजुर्ग के घर, खेत एवं साइकिल को भी क्षतिग्रस्त कर दिया था।

 

11-11-2019
बिला नागा पिछले छह महीने से यहां बैठती है गाय, दुकानदार ने कहा-शुभ है !

कडपा। आंध्र प्रदेश के कडपा जिले के मैदुकुर कस्बे में पिछले छह महीनों से एक गाय की अनोखी आदत चर्चा की वजह  बनी हुई है। यह गाय हर रोज कुछ घंटों के लिए स्थानीय बाजार में स्थित कपड़ों की एक दुकान में आराम करने आती है। श्री साईंराम क्लॉथ शोरूम नाम की इस दुकान के मालिक भी इस गाय को अपने बिजनेस के लिए शुभ मानने लगे हैं। दुकान के मालिक पी ओबइया का कहना है कि इस बार गर्मियों के मौसम में एक दिन अचानक यह गाय दुकान में घुस आई और पंखे के नीचे बैठ गई। इसके बाद वह दो-तीन घंटे आराम करने के बाद ही यहां से निकली। शुरू में तो गाय को इस तरह दुकान में घुसते देखकर हम हैरान हो गए। हमने उसे भगाने की कोशिश की लेकिन उस पर कोई असर नहीं हुआ। फिर कुछ घंटे आराम करने के बाद गाय अपने-आप चली गई। तब से हर रोज दुकान में आराम करने के लिए आना इस गाय की आदत में शामिल हो गया है। दुकान के मालिक कहते हैं कि हमारी दुकान में आना अब इसकी आदत बन गई है। शुरू में तो हमें लगा कि इससे हमारे धंधे पर असर पड़ेगा लेकिन असल में हमारा बिजनेस पहले से बेहतर हो गया है। दिलचस्प बात यह है कि इस गाय ने दुकान के अंदर कभी गंदगी नहीं की है। ओबइया की पत्नी हर रोज गाय के आगमन को दुकान के लिए शुभ संकेत मानती हैं, उन्होंने तो गाय की पूजा भी करनी शुरू कर दी है।

02-11-2019
गौठानों के सुचारू संचालन में माहेश्वरी समाज दे योगदान: भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने माहेश्वरी समाज से अपने प्रबंधन कौशल का योगदान गौठानों के सुचारू संचालन में देने का आव्हान किया है। मुख्यमंत्री शनिवार को साइंस कॉलेज ऑडिटोरियम में छत्तीसगढ़ प्रादेशिक माहेश्वरी युवा संगठन द्वारा आयोजित दीपावली मिलन और अभिनंदन समारोह में शामिल होने पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने माहेश्वरी समाज को दीपावली और राज्य स्थापना दिवस की बधाई देते हुए कहा कि महेश्वरी समाज ने प्रबंधन के क्षेत्र में विशेष दक्षता हासिल की है, यदि यह समाज अपने इस कौशल का योगदान गौठानों के प्रबंधन में देता है, तो यह छत्तीसगढ़ के लिए एक बड़ी सेवा होगी। उन्होंने कहा कि महेश्वरी समाज जशपुर से लेकर सुकमा तक के गांव में रहता है और वहां स्थानीय समाज से घनिष्ठ रूप से घुल- मिल गया है। 

 मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी नरवा, गरवा, घुरवा और बारी योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि इस योजना के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने और प्रदेश में जैविक खेती को बढ़ावा देने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज हम गौ माता की सेवा करना चाहते हैं, लेकिन गाय सड़कों पर आवारा घूमती हैं और प्लास्टिक खा रही हैं। आवारा पशुओं से आज फसलों को बचाना एक बड़ी चुनौती हो गया है, इसलिए गांव में गौठान बनाए जा रहे हैं, जहां पशुओं के लिए डे केयर की सुविधा दी जा रही है। उन्होंने कहा कि ट्रॉली में बिकने वाला पशुओं का गोबर अब प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है। गोबर से बनी वर्मी कंपोस्ट 8 से 10 रूपए प्रति किलो की दर पर बिक रही है। मुख्यमंत्री ने महेश्वरी समाज के लोगों को राज्योत्सव में शामिल होने का आमंत्रण भी दिया। इस अवसर पर महेश्वरी समाज की युवा विंग के अध्यक्ष राजेश मंत्री सहित स्वराज्य लड्डा, अनूप चांडक और जय चांडक, साध्वी अलका सिंह सहित समाज के सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित थे।  

21-10-2019
फसलों की सुरक्षा, रोजगार और मवेशियों का संवर्धन करना गौठान का उद्देश्य

जांजगीर-चाम्पा। कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक की उपस्थिति में गौठान प्रबंधन एवं संचालन विषय पर आज जिला पंचायत कार्यालय सभाकक्ष में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कलेक्टर पाठक ने कहा कि फसलों की सुरक्षा, स्थानीय रोजगार उपलब्ध कराने एवं मवेशियों के संवर्धन के लिए गांवों में गौठान का संचालन प्रारंभ किया गया है। गौठान से जैविक खाद, गौ मूत्र से बने औषधि, गोबर गैस प्लाण्ट आदि गौठान समिति की आय का स्रोत बनेगा। गाय व गोबर से हमारी धार्मिक आस्था जुड़ी हुई है। छत्तीसगढ़ की परंपरा के अनुसार दीपावली के दूसरे दिन गोवर्धन पूजा का आयोजन बड़े धूमधाम से होता है। इस वर्ष सभी गौठानों में गोवर्धन पूजा का आयोजन 28 अक्टूबर को किया जाएगा। कलेक्टर ने कार्यशाला में उपस्थित जनपद पंचायत के सीईओ और ग्राम पंचायत सचिवों से कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार गौठानों के संचालन के लिए ग्राम गौठान स्थायी समिति का गठन किया जाएगा। समिति के सदस्य चयन, गौठान में स्व सहायता समूह एवं कर्मचारियों की नियुक्ति एवं मानदेय भुगतान के संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों की सहभागिता से ही गौठान का संचालन संभव है। फसल कटाई के बाद गौठानों में चारा व्यवस्था के लिए किसानों को पैरा दान के लिए प्रेरित किया जाएगा।
 जिला  पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने राज्य सरकार के दिशा निर्देश के क्रियान्वयन के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। राज्य स्तरीय मास्टर ट्रेनर मंजित कौर ने पीपीटी के माध्यम से बताया कि पुराने संमृद्ध गांवों की कल्पना साकार करने के लिए नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी का संवर्धन राज्य सरकार द्वारा जनभागीदारी से किया जा रहा है। कार्यशाला में ग्राम गौठान समिति के अध्यक्ष सहित अन्य पदाधिकारियों के मनोनयन के संबंध में जानकारी दी गई। समिति में 33 प्रतिशत महिला सदस्यों को शामिल किया जाएगा। समिति के अध्यक्ष का प्रस्ताव ग्रामसभा द्वारा किया जाएगा। जिसका अनुमोदन प्रभारी मंत्री द्वारा किया जाएगा। समिति के अध्यक्ष द्वारा अनुशंसित एवं प्रभारी मंत्री द्वारा अनुमोदित सम्मानित नागरिक को कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी जाएगी। समिति के आय-व्यय के लिए संयुक्त खाता का संचालन किया जाएगा। समिति में 5 सक्रिय युवा सदस्य सहित कुल 13 सदस्य होगें। समिति का कार्यकाल एक वर्ष का होगा।  कार्यशाला में बताया गया कि  गौठानों में पानी, बिजली, शैड, महिलाओं के लिए प्रसाधन व्यवस्था, पैराकुट्टी मशीन, चरवाहा कक्ष, पशु चिकित्सा आदि की व्यवस्था भी की जाएगी।  एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन दो पालियों में किया गया। प्रथम पाली में जनपद सीईओ और ग्राम पंचायत सचिव शामिल हुए। दूसरी पाली में वन, कृषि, उद्यान, पशुधन विकास विभाग, गौठान प्रभारी अधिकारी, कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक शामिल हुए।


 

21-08-2019
पन्ना में बीच सड़क पर टाइगर ने किया गाय का शिकार

पन्ना। पन्ना में आज फिर एक टाइगर बीच सड़क में शिकार करते हुए दिखाई दिया। पन्ना जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर एनएमडीसी मझगवां मार्ग पर दरेरा मोड़ के पास एक टाइगर ने सड़क पर गाय का शिकार किया। गाय को घसीटते हुए टाइगर जंगल की ओर ले गया और फिर काफी देर तक उसे नोच नोच कर खाता रहा। इतना ही नहीं जब टाइगर अपने शिकार को खाकर जंगल की ओर चला गया तब वहां पर एक दूसरा टाइगर भी दिखाई दिया। फिर उसने बचे हुए शिकार को खाया। इस घटना की सूचना मिलने के बाद पन्ना टाइगर रिजर्व  की टीम व रेस्क्यू दल हाथियों पर सवार होकर घटनास्थल पर पहुंचे।  रेस्क्यू दल ने टाइगर को मझगवां पन्ना मुख्य मार्ग से जंगल की ओर खदेडऩे का प्रयास किया। बाघों के इस तरह से सड़क पर आने से इंसानों के लिए खतरा उत्पन्न हो गया है। बता दें कि पन्ना में टाइगर करीब-करीब खत्म हो गए थे। लेकिन अब पूरे देश के मुकाबले एमपी में टाइगरों की संख्या बढ़ गई है। इस बढ़ी हुई संख्या के बाद टाइगर जंगलों से सड़कों पर घूमने लगे हैं। बाघों के घूमने के दृश्य को देखकर स्थानीय टूरिस्ट भी खुश हो रहे हैं। यहां से गुजरने वाले कई राहगीरों ने इस रोमांचित कर देने वाले दृश्य को अपने मोबाइल में कैद कर लिया और अब वीडियो को लगातार शेयर कर वायरल कर रहे हैं।

19-08-2019
गौरक्षकों और रेस्क्यू टीम की मदद से निकाला गया गाय को

रायपुर। पश्चिम विधानसभा स्थित भैंसथान के समीप नाले में अचानक एक गाय गिर गई। नाले में गिरते ही गाय छटपटा रही थी तब वार्ड की जनता ने पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय को स्थिति से अवगत कराया। विधायक विकास उपाध्याय ने गोरक्षक अमरदीप शर्मा, शुभांकर द्विवेदी एवं रेसक्यू टीम के साथ तत्काल जगह पर पहुंचकर गाय को बाहर निकालने में मदद की और उसका प्राथमिक उपचार भी कराया।  इस तरह पशुप्रेम देख वहां की जनता ने विधायक की प्रशंसा की।  विधायक विकास उपाध्याय ने बताया कि गाय हम सबकी पूजनीय है और इन्हें विशेष स्थान प्राप्त है। गाय की रक्षा करना हम सबका कर्तव्य है। विधायक विकास उपाध्याय ने कहा कि गौरक्षक शुभांकर द्विवेदी एवं अमरदीप शर्मा लगातार गौसेवा में लगे रहते हैं। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास पाठक ने बताया कि विधायक स्वयं गौभक्त एवं गौसेवक हैं। इस अवसर पर मुख्यरूप से पार्षद विमल गुप्ता, बसंत तिवारी, हरीश साहू, भावेश शुक्ला, सूरज साहू, रोशन श्रीवास, राजेश बघेल, हेमंत कामड़े, साहिल खान, ममता साहू एवं वार्ड की महिलाएं उपस्थित थीं। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804