GLIBS
24-01-2021
बाघ की खाल को बेचने की फिराक में निकला युवक आया पुलिस के हाथ, खाल की कीमत लगभग 40 लाख

धमतरी। जिले के नगरी क्षेत्र में बाघ की खाल बेचते हुए नारायणपुर के एक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एसपी बीपी राजभानू एवं एएसपी मनीषा ठाकुर के मार्गदर्शन और नगरी एसडीओपी नीतीश ठाकुर के नेतृत्व में तस्कर को पकड़ गया है। मिली जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह तकरीबन 9.30 बजे सूचना मिली कि सिहावा थाना क्षेत्र के अंतर्गत मुकुंद पारा सड़क पारा नहर पुल के पास एक युवक को बाघ खाल बेचने की फिराक में ग्राहक की तलाश कर रहा है। सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने अपना नाम जयराम कावड़े उम्र 28 वर्ष बताया। वही उसके पास सामान की तलाशी करने पर जयराम के पास रखे एक सफेद प्लास्टिक बोरी में बाघ का खाल कीमती लगभग 40 लाख रुपए और बाइक बिना नंबर का जब्त की। वन्य प्राणी अधिनियम एवं अन्य धाराओं के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है। कार्रवाई में एसडीओपी के साथ सिहावा के एएसआई राधेश्याम बंजारे, प्रधान आरक्षक अजीत तारम योगेश सोम, जितेंद्र चंद्राकर, मोहित साहू, अमित रावटे, यीश कुमार टंडन  मनोज ध्रुव शामिल रहे।

 

20-01-2021
प्रदेश में 19 जनवरी तक 80.37 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी,18.93 लाख किसानों ने बेचा धान

रायपुर। खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में 19 जनवरी तक 80 लाख 37 हजार 473 मीट्रिक धान की खरीदी की गई है। अब तक राज्य के 18 लाख 93 हजार 436 किसानों ने समर्थन मूल्य पर धान बेचा है। राज्य के मिलरों को 27 लाख 34 हजार 188 मीट्रिक टन धान का डीओ जारी किया गया है। मिलरों ने अब तक 24 लाख 40 हजार 154 मीट्रिक टन धान का उठाव कर लिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि 19 जनवरी तक राज्य के बस्तर जिले में एक लाख 11 हजार 764 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। इसी प्रकार बीजापुर जिले में 53 हजार 327, दंतेवाड़ा जिले में 12 हजार 553, कांकेर जिले में 2 लाख 50 हजार 864, कोण्डागांव जिले में एक लाख 18 हजार 692 , नारायणपुर जिले में 16 हजार 419, सुकमा जिले में 31 हजार 797 , बिलासपुर जिले में 4 लाख 14 हजार 879 , गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही 61 हजार 124, जांजगीर-चांपा जिले में 7 लाख 49 हजार 610, कोरबा जिले में 1 लाख 8 हजार 18 , मुंगेली जिले में 3 लाख 31 हजार 827 मीट्रिक टन खरीदी की गई है। इसी तरह रायगढ़ जिले में 4 लाख 73 हजार 174 मीट्रिक टन, बालोद जिले में 4 लाख 77 हजार 531, बेमेतरा जिले में 5 लाख 53 हजार 288, दुर्ग जिले में 3 लाख 65 हजार 557 , कवर्धा जिले में 3 लाख 75 हजार 702, राजनांदगांव जिले में 6 लाख 69 हजार 636, बलौदाबाजार जिले में 5 लाख 67 हजार 285 , धमतरी जिले में 3 लाख 88 हजार 966 , गरियाबंद जिले में 2 लाख 81 हजार 436, महासमुंद जिले में 5 लाख 87 हजार 749, रायपुर जिले में 4 लाख 46 हजार 75 , बलरामपुर जिले में 1 लाख 26 हजार 229 , जशपुर जिले में 93 हजार 926 , कोरिया जिले में 98 हजार 102, सरगुजा जिले में 1 लाख 25 हजार 115 और सूरजपुर जिले में 1 लाख 46 हजार 425 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है।

 

 

10-01-2021
मुख्यमंत्री ने जिले के वरिष्ठ अधिकारियों से की चर्चा, कहा- नारायणपुर अब पिछड़ा न रहे

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को विश्राम गृह में जिले के वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा की। मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों को नववर्ष की शुभकामनाएं दी और सभी का परिचय लिया। उन्होंने कहा कि नारायणपुर अपने पिछड़ेपन के लिए नहीं बल्कि तेजी से विकास के लिए जाना जाए, यह हम सबका संयुक्त प्रयास होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने जिले के अधिकारियों को शासकीय योजनाओं और कार्यक्रमों का लाभ जनसामान्य तक पहुंचाने की बात कही। कार्यक्रम मे नारायणपुर जिले के प्रभारी मंत्री गुरू रूद्रकुमार, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, बस्तर सांसद दीपक बैज, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष व स्थानीय विधायक चंदन कश्यप, अंतागढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक अनूप नाग सहित जिला व पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे।

10-01-2021
मुख्यमंत्री ने बच्चों के हैरतअंगेज मलखंभ प्रदर्शन को सराहा, अब डीएमएफ मद से होगी डाइट की व्यवस्था

रायपुर। मलखंभ के खिलाड़ियों ने रविवार को नारायणपुर में रोमांचक प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इसके साक्षी बने और उन्होंने मलखंभ के बेहतरीन प्रदर्शन के लिए खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते हुए शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता दिवस पर रायपुर में हुए कार्यक्रम में मलखंभ का अनोखा प्रदर्शन किया गया था। इसे देखने का अवसर मिला था। अबूझमाड़ के छोटे-छोटे बच्चों के मलखंभ का हैरत अंगेज प्रदर्शन देखकर लोगों ने दांतों तले उंगली दबा ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज नारायणपुर में एक बार फिर से मलखंभ का प्रदर्शन देखने को मिला। यहां के खिलाड़ी केवल नारायणपुर का ही नहीं, बल्कि पूरे देश में छत्तीसगढ़ राज्य का नाम रौशन कर रहे हैं। बता दें कि मलखंभ  प्रशिक्षक मनोज प्रसाद द्वारा वर्ष 2017 से क्षेत्र के बच्चों को मलखंभ का विशेष अभ्यास कराया जा रहा है, जिससे यहां के बच्चे अन्य राज्यों में जाकर मलखंभ का बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं और अपने जिले एवं राज्य का नाम रौशन कर रहे हैं। मलखंभ का करतब देखने आने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति आभार व्यक्त करते हुए मोक्षिका साहू ने छत्तीसगढ़ी में अपनी बात रखी। मोक्षिका ने मलखंभ खिलाड़ियों के लिए आवश्यक सामग्री सहित अन्य सुविधाओं की मांग की। मुख्यमंत्री बघेल ने बताया कि मलखंभ अकादमी की स्थापना का प्रस्ताव केन्द्र सरकार के पास विचाराधीन है। छत्तीसगढ़ शासन की ओर से मलखंभ खिलाड़ियों के लिए डीएमएफ से बेहतर डाइट की व्यवस्था की जाएगी। कार्यक्रम में नारायणपुर जिले के प्रभारी मंत्री गुरू रूद्रकुमार, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, बस्तर सांसद दीपक बैज, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष व स्थानीय विधायक चंदन कश्यप, अंतागढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक अनूप नाग सहित जिला एवं पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे।

09-01-2021
कवासी लखमा का बयान, चापड़ा चटनी का सेवन करने से बस्तर के ग्रामीणों का कोरोना से हुआ बचाव

रायपुर/जगदलपुर। आबकारी मंत्री कवासी लखमा अपने तीन दिवसीय जगदलपुर प्रवास के आखिरी दिन एम्स मेडिकल द्वारा आयोजित नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। इस दौरान अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि बस्तर के लोगों द्वारा चापड़ा चटनी का सेवन करने से कोरोना महामारी से बस्तर के ग्रामीण बच पाए। उन्होंने कहा कि एक अखबार में उन्होंने पढ़ा था कि उड़ीसा हाईकोर्ट ने कोरोना के महामारी से बचने के लिए चापड़ा चटनी को रामबाण बताया और इसको लेकर शोध करने को भी कहा है। लखमा ने कहा कि यह किसी जनप्रतिनिधी या नेता का कहना नहीं है । बल्कि ओडिसा हाईकोर्ट ने ऐसा कहा है, मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि बस्तर के ग्रामीण चापड़ा चटनी बड़े चाव से खाते हैं, यही वजह है कि वे कोरोना महामारी से बच गए और नारायणपुर, सुकमा में एक भी कोरोना से मृत्यु के मामले सामने नहीं आए हैं। मंत्री कवासी लखमा ने आयोजित नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर को बस्तर की जनता के लिए लाभकारी बताते हुए कोरोना महामारी से बचाव के लिए राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाई। इस दौरान कवासी लखमा ने कहा कि कोरोना महामारी में बस्तर संभाग सुरक्षित जोन रहा और यहां ग्रामीण अंचलों में रहने वाले बेहद ही कम ग्रामीण इस महामारी के चपेट में आए, उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां इस महामारी की चपेट में आने से अमेरिका और अन्य देश विदेश रायपुर और दिल्ली के लोग बड़ी संख्या में इसकी चपेट में आए, लेकिन वहीं दूसरी ओर बस्तर के ग्रामीणों के चापड़ा चटनी खाने से कोरोना महामारी भी कुछ नहीं बिगाड़ पाया।

 

09-01-2021
भूपेश बघेल 10 जनवरी को नारायणपुर और बीजापुर में कई कार्यक्रमों में होंगे शामिल, 11 जनवरी रायपुर लौटेंगे

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 10 जनवरी को नारायणपुर और बीजापुर जिले में विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री बघेल निर्धारित दौरा कार्यक्रम के अनुसार 10 जनवरी को नारायणपुर में पूर्वान्ह 11:30 बजे फूलझाडू प्रोसेसिंग केन्द्र का अवलोकन करेंगे। 11:45 बजे मलखम्ब प्रदर्शन व मलखम्ब अकादमी के खिलाड़ियों से मुलाकात करेंगे। दोपहर 12 बजे हेलीकाप्टर से रवाना होकर 12:30 बजे बीजापुर जिले के पुलिस लाइन हेलीपैड पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री दोपहर 12.40 बजे बीजापुर के आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल का लोकार्पण व स्कूल परिसर का भ्रमण करेंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री दोपहर 1:10 मिनी स्टेडियम बीजापुर में आमसभा को संबोधित करेंगे। विभिन्न विभागों की विकास प्रदर्शनी का अवलोकन करेंगे और हितग्राहियों को सामग्री वितरण करने के साथ ही मनवाबीजापुर लोगो का विमोचन भी करेंगे।

मुख्यमंत्री अपरान्ह 3:35 बजे महादेव तालाब बीजापुर का अवलोकन करेंगे।  4 बजे नगर पालिका बीजापुर गौठान पहुंचकर वहां विभिन्न गतिविधियों की जानकारी लेंगे। शाम 4:35 बजे मुख्यमंत्री लोहा डोंगरी पार्क का अवलोकन करेंगे। इसके बाद शाम 5:30 से 6:30 बजे के दौरान मुख्यमंत्री बघेल सर्किट हाउस बीजापुर में विभिन्न संगठन प्रमुख, समाज प्रमुखों, जनप्रतिनिधि, युवा प्रतिनिधिमंडल और अधिकारियों से भेंट व चर्चा करेंगे। इसके बाद वे सर्किट हाउस बीजापुर में ही रात्रि विश्राम करेंगे। मुख्यमंत्री बघेल अगले दिन 11 जनवरी को दोपहर 12 बजे पुलिस लाइन हेलीपैड बीजापुर से रवाना होकर दोपहर 1:20 बजे पुलिस ग्राउंड हेलीपैड रायपुर पहुंचेंगे।

 

09-01-2021
मुख्यमंत्री ने नारायणपुर में गौठान का किया निरीक्षण, उत्पादों की लिए जानकारी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को नारायणपुर के केरलापाल गौठान का निरीक्षण किया। इस दौरान लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री गुरू रूद्र कुमार, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, लोकसभा सांसद दीपक बैज, छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष और विधायक चंदन कश्यप सहित अनेक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री के गौठान पहुंचने पर ग्रामीणों ने खुमरी पहनाकर उनका स्वागत किया। मुख्यमंत्री बघेल ने गौठान में महिला समूहों की ओर से वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन और समूहों की ओर से किए जा रहे आयमूलक कार्यों की जानकारी ली। महिलाओं से तैयार किए गए उत्पादों की जानकारी ली।

 

08-01-2021
 कलेक्टर ने जिले के लिए तीन स्थानीय अवकाश घोषित किए,आदेश जारी

रायपुर/नारायणपुर। कलेक्टर धर्मेश कुमार साहू ने नारायणपुर जिले के लिए कैलेण्डर वर्ष 2021 के लिए स्थानीय अवकाश की घोषणा की है। कलेक्टर की ओर से जारी आदेश में मावली मेला नारायणपुर के लिए 10 मार्च दिन बुधवार, नवाखानी 15 सितंबर दिन बुधवार और गोर्वधन पूजा (दीपावली का दूसरा दिन) 5 नवंबर दिन शुक्रवार को स्थानीय अवकाश की घोषणा की गई है। ये तीनों स्थानीय अवकाश सम्पूर्ण नारायणपुर जिले के लिए घोषित किए गए हैं।

 

08-01-2021
सीएम भूपेश बघेल 9-10 जनवरी को बस्तर दौरे पर, विकास कार्यों की देंगे सौगात

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 9-10 जनवरी को बस्तर के दौरे पर रहेंगे। सीएम बघेल कार्यकर्ताओं से मुलाकात के साथ-साथ कई विकास कार्यों की सौगात देंगे। साथ ही अधिकारियों के साथ बैठक कर विकास कार्यों और योजनाओं की जानकारी भी लेंगे। गौरतलब है कि सीएम बघेल नारायणपुर के केरलापाल में आदर्श गौठान का निरीक्षण करेंगे। केंद्रीय विद्यालय नारायणपुर अवलोकन करेंगे। इस दौरान सीएम भूमिपूजन और लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री नारायणपुर में आमसभा को संबोधित करेंगे। रात्रि विश्राम के बाद 10 जनवरी को नारायणपुर में फुलझाड़ू केंद्र का अवलोकन करेंगे। मलखंब प्रदर्शन में शामिल होकर खिलाड़ियों से मुलाकात करेंगे।

02-01-2021
जिले के उपार्जन केंद्रो में 1 लाख 1 हजार 724 क्विंटल धान की हुई खरीदी

नारायणपुर।  वर्तमान में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में नारायणपुर जिले के  उपार्जन केन्द्रों एड़का, छोटेडोंगर, नारायणपुर, बिजली, झारा, धौड़ाई, बाकुलवाही और बेनुर में बीते 1 जनवरी 2021 तक कुल 1 लाख 1 हजार 724 क्विंटल खरीदी गई है। ख़बर लिखे जाने तक सबसे अधिक धान उपार्जन केन्द्र एड़का में 20 हजार 72 क्विंटल धान की ख़रीदी की गई। इसके साथ ही छोटेडोगर में 6 हजार 97 क्विंटल, धौड़ाई में 8 हजार 79 क्विंटल, झारा में 6 हजार 472 क्विंटल, बेनुर में 18 हजार 456 क्विंटल, बाकुलवाही में 18 हजार 153 क्विंटल, नारायणपुर में 13 हजार 326 क्विंटल और बिंजली में 9 हजार 502 क्विंटल धान की खरीदी की गयी है।उल्लेखनीय है कि राज्य शासन की मंशा के अनुरूप समर्थन मूल्य पर जिले के किसानो से धान खरीदी 01 दिसम्बर से शुरू की गई है।

इसके लिए जिले में 9 सोसायटियों के माध्यम से धान का उपार्जन किया जा रहा है। जिले के कुल 5214 पंजीकृत  किसानों से 31 जनवरी 2021 तक धान की खरीदी की जायेगी।कलेक्टर धर्मेश साहू ने खरीदी के लिए सभी जरूरी इंतजाम करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा है कि किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए। खरीदी केन्द्रों में पर्याप्त मात्रा में बारदाना उपलब्ध रहना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने उपार्जन केन्द्रों के लिए नियुक्त किये गये नोडल अधिकारियों को सतत मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिये हैं।
 

पीयूष मंडल की रिपोर्ट

01-01-2021
कलेक्टर धर्मेश साहू ने ली अधिकारियों की बैठक

नारायणपुर। नवपस्थ कलेक्टर धर्मेश साहू ने पदभार ग्रहण करने के पश्चात शुक्रवार को कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में जिला अधिकारियों की परिचयात्मक बैठक ली। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि राज्य शासन की मंशानुरूप शासन की योजनाओं-कार्यक्रमों का बेहतर क्रियान्वयन हम सबको मिलकर करना है ताकि वनांचल में रहने वाले लोगों को इसका लाभ मिल सके। जिले में सीमित संसाधन होने के बावजूद यहां के अधिकारी कर्मचारी बेहतर काम कर रहे है। जिले को नई ऊंचाईयों तक ले जाने में आप सभी का सहयोग अपेक्षित है। बैठक में जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी राहुल देव, वनमण्डाधिकारी खुंटे, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज चंद्राकर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दिनेश नाग सहित डिप्टी कलेक्टर जीएस नाग, धनराज मरकाम, वैभव क्षेत्रज्ञ, फागेश सिन्हा, निधि साहू के अलावा अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

पीयूष मंडल की रिपोर्ट

01-01-2021
कलेक्टर धर्मेश साहू ने किया पदभार ग्रहण

नारायणपुर। कलेक्टर धर्मेश साहू ने गुरूवार 31 दिसम्बर को पदभार ग्रहण किया। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा जारी आदेश के तहत ज़िला नारायणपुर का कलेक्टर पदस्थ किया गया है। भारतीय प्रशासनिक सेवा 2010 बैच के अधिकारी साहू इसके पूर्व महानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक पद पर थे। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राहुल देव, वनमंडलाधिकारी  खुंटे, एसडीएम दिनेश कुमार नाग, डिप्टी कलेक्टर गौरीशंकर नाग, निधि साहू, जिला कोषालय अधिकारी प्रशांत खापर्डे सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। निवर्तमान कलेक्टर अभिजीत सिंह को इसी आदेश के तहत् प्रबंध संचालक पाठ्यपुस्तक निगम रायपुर में पदस्थ किया गया है। इसके साथ ही उन्हें स्कूल शिक्षा विभाग के उप सचिव की भी जिम्मेदारी दी गई है।

 

पीयूष मंडल की रिपोर्ट

Advertise, Call Now - +91 76111 07804