GLIBS
10-06-2021
Breaking: सीएम योगी और केंद्रीय गृहमंत्री शाह के बीच हुई डेढ़ घंटे तक बातचीत, अनुप्रिया पटेल ने शाह से की ये मांग 

रायपुर/नई दिल्ली। सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय गृहमंत्री ​अमित शाह के बीच मुलाकात के दौरान चर्चा तकरीबन डेढ़ घंटे चली। इस बीच अपना दल (एस) की अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल भी अमित शाह से मिलने पहुंचीं। गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल से भेंट की।  अनुप्रिया पटेल ने अमित शाह से मांग की कि राज्य में उनकी पार्टी के दो मंत्री और बनाए जाएं। इसके अलावा केंद्र में भी एक राज्य मंत्री हो। उनकी इस मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने को कहा गया है।

26-04-2021
सीएम योगी की अपील, बेवजह घर से न निकले, मास्क और ग्लव्स का इस्तेमाल जरूर करें

लखनऊ/रायपुर। उत्तरप्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता को कोरोना से बचाव करने की अपील की है। हाई रिस्क श्रेणी से जुड़े हुए लोग जैसे 10 साल से कम उम्र के बच्चे, 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं, एक से अधिक बीमारियों से ग्रस्त व्यक्ति तथा कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों से अपील की है कि वह घर से बाहर ना निकलें। सीएम योगी ने कहा है कि जब तक आवश्यक न हो घर से न निकलें। बाहर निकलें तो मास्क जरूर लगाएं। अनावश्यक भीड़-भाड़ वाली जगहों पर न जाएं। व्यापारी मास्क तथा ग्लव्स का इस्तेमाल जरूर करें। कार्यालयों में कर्मचारियों को शिफ्टों में बुलाया जाए। एक बार में आधे से अधिक कर्मचारियों को ना बुलाएं। मुख्यमंत्री ने अपील की है कि फील्ड में तैनात अधिकारी व कर्मचारी मास्क तथा ग्लव्स जरूर पहनें। स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फागिंग नियमित रूप से कराई जाए और कंटेनमेंट जोन को सख्ती से लागू किया जाए। जनता रात्रि कर्फ्यू का पालन करें। कोरोना की लड़ाई में शामिल योद्धाओं का सहयोग तथा सम्मान करें। कोरोना की लड़ाई के लिए आवश्यक जीवनरक्षक दवाओं तथा ऑक्सीजन आदि की होल्डिंग ना करें। उन्होंने लोगों से अफवाहों से बचने की अपील की है।

02-01-2021
साहिबजादों का बलिदान अब पाठयक्रम में होगा शामिल : सीएम योगी

रायपुर/उत्तरप्रदेश। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गुरु पुत्रों का बलिदान दिवस पाठयक्रम में शामिल होना चाहिए ताकि आने वाली पीढ़ी को उनके बलिदान की जानकारी हो सके। इसलिए हर साल साहिबजादा दिवस स्कूलों में उत्सव और उल्लास के साथ मनाया जाए। इस बारे में बच्चों में जागरूकता के लिए स्कूलों में वाद विवाद प्रतियोगिता भी कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि पहले दिसंबर क्रिसमस त्योहार के रूप में जाना जाता था लेकिन अब साहिबजादा दिवस के रूप में पहचाना जाएगा। यह बातें उन्होंने आज अपने सरकारी आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहीं। सिख समुदाय के 10वें गुरु साहिब श्रीगुरु गोबिंद सिंह महाराज के चार साहिबजादों और माता गुजरीजी की शहादत को श्रद्धांजलि देने के लिए पहली बार मुख्यमंत्री आवास पर साहिबजादा दिवस का आयोजन किया गया था। साहिबजादा दिवस पर मुख्यमंत्री आवास गुरुवाणी कीर्तन से गुंजायमान रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धार्मिक समरसता और सद्भावना की अनूठी मिसाल पेश करते हुए सीएम आवास पर साहिबजादा दिवस का आयोजन किया। जबकि पंजाब के मुख्यमंत्री आवास पर भी गुरु गोविंद सिंह के पुत्रों का बलिदान दिवस नहीं मनाया गया है। बाल दिवस की तरह मनाया जाए साहिबजादा दिवस, मुख्यमंत्री ने कहा कि जब देश के इतिहास की बात होती है तो सिखों का इतिहास उससे अलग नहीं हो सकता। स्कूलों में बच्चों को गुरु पुत्रों बाबा अजीत सिंह, बाबा जुझार सिंह, बाबा जोरावर सिंह और बाबा फतेह सिंह के बलिदान के बारे में बताया जाना चाहिए।

सही मायनों में साहिबजादा दिवस बच्चों के लिए बाल दिवस के रूप में होना चाहिए। इससे बच्चों को प्रेरणा मिलेगी। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जब हम सिख इतिहास को पढ़ते हैं तो जिस कालखंड में विदेशी आक्रमणकारियों ने देश पर हमला किया तब खालसा पंत देश की रक्षा के लिए खड़े हुआ था। खालसा पंत की स्थापना ने यह स्पष्ट संदेश दिया था कि वह धर्म और भारत को बचाने के लिए ही है। गुरु तेग बहादुर ने भी कश्मीर और दिल्ली में हिंदुओं को बचाने के लिए अपना बलिदान दिया था। गुरु पुत्रों की शहादत आने वाली पीढ़ियों के लिए एक मिसाल है। उन्होंने कहा कि भारतए भारतीयताए हिंदू धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए गुरु गोविंद सिंह महाराज के चार.चार पुत्रों ने अपने आपको बलिदान कर दिया। सीएम योगी ने कहा कि गुरबाणी के इस कीर्तन के साथ हम सबका जुड़ना देश और धर्म के प्रति अपने कर्तव्य का बोध कराने का एक अनुपम अवसर है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गुरुनानक देव के सभी स्थानों का चिन्हीकरण करके सौन्दर्यीकरण के कार्य को तेजी के साथ करवाने का काम किया जा रहा है। हम सबको एक बात का स्मरण हमेशा रखना चाहिए कि इतिहास को विस्मृत करके कोई व्यक्ति कोई जाति या कौम कभी आगे नहीं बढ़ सकती।

 

13-11-2020
492 सालों बाद 5 लाख 51 हजार दीयों से जगमगाएगा अयोध्‍या

अयोध्या। रामजन्म भूमि में 492 सालों बाद शुक्रवार को यानी आज भव्य दीपोत्सव मनाया जाएगा। 5 लाख 51 हजार दीयों से अयोध्‍या को जगमगाया जाएगा। अयोध्या अपने ही विश्व रिकॉर्ड को फिर से तोड़ेने वाला है। इस अवसर पर भव्य सरयू आरती किया जाएगा। अयोध्या की जनता इस आयोजन को लेकर काफी उत्साहित है। कोरोना संकट काल को देखते हुए सरकार ने इस आयोजन में शामिल होने के लिए लोगों से सीमित संख्या में पहुंचने की अपील की। दोपहर 3 बजे सीएम योगी अयोध्या पहुंचेंगे। 3 बजकर 10 मिनट पर वह राम जन्मभूमि स्थल पर पहुंचेंगे और राम लला के दर्शन कर दीप प्रज्वलित करेंगे। उसके बाद सीएम व राज्यपाल राम कथा पार्क जाएंगे। राम कथा पार्क से 6 बजे सीएम योगी सरयू घाट पहुंचेंगे जहां सरयू आरती में शामिल होंगे और फिर दीपोत्सव का शुभारंभ होगा।

09-06-2020
सीएम योगी ने ऐसा क्या कर दिया कि पाकिस्तान में उनकी तारीफ हो रही है!

नई दिल्ली। भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना संकट का सामना कर रही है। देश के तकरीबन सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इस जानलेवा महामारी ने हजारों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। महाराष्ट्र में कोविड-19 संक्रमण का विस्फोट हो गया है। सबसे ज्यादा आबादी वाला राज्य होने के बावजूद उत्तर प्रदेश में यह वायरस ज्यादा असर नहीं कर पाया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शानदार कार्यप्रणाली को इसकी वजह माना जा रहा है। सीएम योगी की सराहना अब देश ही नहीं बल्कि पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में भी हो रही है।

जिस तरह से योगी आदित्यनाथ ने यूपी में कोरोना महामारी की तबाही को रोकने में सफलता हासिल की है उसके लिए पाकिस्तानी मीडिया में उनकी चर्चा हो रही है। पाकिस्तान के अखबार द डॉन के संपादक फहद हुसैन ने कोरोना से निपटने के लिए योगी की रणनीति की तारीफ की है। उन्होंने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ और पाकिस्तान की इमरान खान सरकार के कार्यों की तुलना की है और योगी नेतृत्व को इमरान से बेहतर बताया है।

फहद हुसैन ने योगी के बारे में क्या लिखा? 

फहद हुसैन ने ट्विटर पर योगी सरकार और इमरान सरकार के कार्यों की तुलना की। उन्होंने लिखा है कि उत्तर प्रदेश की जनसंख्या पाकिस्तान से कहीं ज्यादा है, लेकिन कोरोना के दौरान हो रही मौतों का सिलसिला यूपी में पाकिस्तान से कम है। फहद ने लिखा कि पाकिस्तान की जनसंख्या 208 मिलियन है जबकि यूपी में 225 मिलियन लोग रहते हैं। इसके बावजूद यूपी में पाकिस्तान से बेहतर सुविधाएं हैं। अपने तर्क को समझाने के लिए फहद ने एक ग्राफ शेयर किया। उन्होंने लिखा, “इस ग्राफ को ध्यान से देखिए, इसमें कोरोना से पाकिस्तान और भारत के राज्य यूपी में होने वाली। मौतों की तुलना की गई है। दोनों की जनसंख्या, साक्षरता और प्रोफाइल एक ही है। पाकिस्तान उत्तर प्रदेश के मुकाबले कम जनसंख्या घनत्व लेकिन ज्यादा जीडीपी वाला देश है। यूपी ने कोरोना से निपटने के लिए कड़ाई से लॉक डाउन का पालन कराया लेकिन पाकिस्तान में ये नहीं हो सका। इसी का नतीजा है कि पाकिस्तान में संक्रमण और मौतों की दर ज्यादा है जबकि उत्तर प्रदेश में कम है।

22-05-2020
सीएम योगी पर अभद्र टिपण्णी करने वाले कांग्रेसी नेता के खिलाफ एफआइआर की मांग

रायपुर। हिन्दू युवा वाहिनी संगठन के प्रतिनिधि मंडल ने आज खम्हारडीह थाना पहुँचकर युवा कांग्रेस के जिला महासचिव के खिलाफ एफआईआर की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। हिन्दू युवा वाहिनी का आरोप है कि युवा कांग्रेस के जिला महासचिव ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री के खिलाफ सोशल मीडिया में अपमानजनक पोस्ट किया है। इसके बाद प्रतिनिधिमंडल द्वारा थाने पहुँच एफआईआर की मांग करते हुए सिविल लाइन सीएसपी नसर सिद्दीकी को ज्ञापन दिया गया।
प्रवक्ता राजकुमार राठी ने बताया कि युवा कांग्रेस के निर्वाचित जिला महासचिव अभिषेक कसार द्वारा उत्तरप्रदेश के सीएम के विरुद्ध सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी की गई है, जिसके बाद हम उनके खिलाफ एफआईआर की मांग को लेकर आवेदन दिए है। साथ ही मानहानि का मुकदमा भी करने की मांग कर रहे हैं। हमने सिविल लाइन जाकर नगर पुलिस अधीक्षक से आग्रह किया कि जिस प्रकार से कसार ने टिप्पणी की है, आने वाले समय में अगर उक्त कांग्रेसी नेता पर अगर कोई कार्यवाही नही की जाती है तो इसका पुरजोर विरोध कर आंदोलन किया जाएगा।

21-04-2020
पंचतत्व में विलीन हुए सीएम योगी के पिता, अंतिम संस्कार में शामिल हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह और बाबा रामदेव

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का आज यानि मंगलवार को ऋषिकेश के पास फूल चट्टी घाट में अंतिम संस्कार हुआ। उनका पार्थिव शरीर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पंचतत्व में विलीन हो गया। योगी आदित्यनाथ के बड़े भाई मानेंद्र सिंह बिष्ट ने अपने पिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान उनके पुत्र शैलेन्द्र सिंह व कनिष्ठ पुत्र महेंद्र सिंह सहित परिवार व गांव के लोग भी मौजूद रहे। फूलचट्टी स्थित गंगा घाट पर आज सुबह नौ बजकर 10 मिनट पर स्व. आनंद सिंह बिष्ट का पार्थिव शरीर लाया गया। यहां मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अलावा बाबा रामदेव भी वहां मौजूद थे।

वहीं विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, मदन कौशिक, धन सिंह रावत, संगठन मंत्री अजेय, उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से एडिशनल कमिश्नर सौम्या श्रीवास्तव, ओएसडी सीएम उत्तर प्रदेश राज भूषण सहित कई लोगों ने स्वर्गीय आनंद सिंह बिष्ट को श्रद्धांजलि अर्पित की। आनंद सिंह बिष्ट के निधन की सूचना के बाद से पंचूर सहित आसपास के गांव शोक में डूब गए। देर रात को उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत भी पंचूर पहुंच गए। बता दें कि एम्स दिल्ली में पिछले एक माह से भर्ती योगी आदित्यनाथ के पिता 89 वर्षीय आनंद सिंह बिष्ट का सोमवार सुबह निधन हो गया था।

अपने पिता के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे सीएम योगी

बता दें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो सके। प्रदेश की स्थिति और कोरोना के प्रकोप के कारण योगी आदित्यनाथ ने देश को पहले स्थान पर रखते हुए पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने का फैसला लिया। पिता के देहांत के बाद सीएम योगी ने अपने बयान में कहा था कि, ‘ईमानदारी, कठोर परिश्रम और निस्वार्थ भाव से लोक मंगल के लिए समर्पित भाव से काम करने का संस्कार मुझे मेरे पिता से ही हासिल हुआ है। उत्तर प्रदेश की 23 करोड़ जनता के हित में काम करना अभी ज्यादा जरूरी है। लॉक डाउन समाप्त होने के बाद पिता को श्रद्धांजलि देने उत्तराखंड जाऊंगा।

17-08-2019
8 फीट 1 इंच लंबे इस शख्स ने सीएम योगी से मांगी यह मदद 

लखनऊ। देश के सबसे लंबे शख्स धर्मेंद्र सिंह ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आर्थिक मदद मांगी हैं। शनिवार को धर्मेंद्र लखनऊ में सीएम योगी के सरकारी आवास पर पहुंचे थे और अपने इलाज के लिए मदद की गुहार लगाई। धर्मेंद्र को उम्मीद है कि सरकार से उन्हें मदद मिलेगी, जिससे वो अपना इलाज करा सकेंगे। धर्मेंद्र अपने इलाज के लिए आर्थिक मदद मांगने सीएम आवास पहुंचे थे। हालांकि उनकी मुख्यमंत्री से मुलाकात नहीं हो सकी। भारत के संबसे लंबे आदमी धर्मेंद्र ने इलाज के लिए 8 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मांगी है। सीएम आवास पर मौजूद अधिकारियों ने उन्हें इलाज के अनुमानित खर्च का विवरण लेकर आने कहा है। जानकारी के मुताबिक धर्मेंद्र हिप रिप्लेसमेंट सर्जरी के लिए सरकार से मदद मांग रहे हैं। उन्होंने बताया कि मैं मुख्यमंत्री से मिलने आया था लेकिन वो यहां मौजूद नहीं थे। मैंने उन्हें मदद के लिए पत्र लिखा था। सर्जरी पर कुल 8 लाख रुपए का खर्च आएगा। मुझे मदद का भरोसा दिया गया है और अनुमानित खर्च का विवरण मांगा गया है। धर्मेंद्र सिंह यूपी के प्रतापगढ़ के रहने वाले हैं। वो असाधारण रूप से लंबे हैं। उनकी लंबाई 8 फीट और 1 इंच है। उनकी लंबाई विश्व रिकॉर्ड से सिर्फ 2 इंच कम है।

 

 

02-08-2019
उन्नाव दुष्कर्म पीडि़ता को न्याय नहीं मिलने के लिए सीएम योगी और भाजपा जिम्मेदार : कांग्रेस

रायपुर। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश से उन्नाव रेप पीडि़ता को मुआवजा और परिवार को सीआरपीएफ की सुरक्षा का कांग्रेस ने स्वागत किया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस उन्नाव में हुई रेप कांड की पीडि़ता के साथ खड़ी है। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के बाद अब पीडि़ता को न्याय मिलेगा। उन्नाव रेप पीडि़ता को अब तक न्याय नहीं मिलने के लिये योगी-भाजपा जिम्मेदार है। इसके पहले जम्मू के कठुवा में भी भाजपा नेताओं ने ऐसे ही कार्यों को अंजाम दिया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा के समर्थन के कारण ही दुष्कर्म के आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की दबंगई कायम है। भाजपा के नेता जेल में बंद दुष्कर्मी को धन्यवाद ज्ञापित करने जाते है। भाजपा दुष्कर्म के अपराधियों का जमवाड़ा बन चुकी है। कुलदीप सेंगर, प्रदीप जोशी और राघव जी जैसे भाजपा नेता नौजवान पीढ़ी के लिये खतरा बन चुके हैं।  धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी सरकार का बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं नारा मात्र नारा बन कर रह गया है। उन्नाव रेप कांड के दोषी भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर को भाजपा से बाहर निकालने में दो साल लग गये। क्या भाजपा कुलदीप सेंगर को रेप के आरोप से बचाने में जुटी थी? उत्तर प्रदेश में जंगलराज कायम है, अपराधियों के हौसले बुलंद हंै। आमजनता अपराधियों के आगे पस्त है। भाजपा के संरक्षण में गुंडा मवाली अपराधी खुलेआम गुंडागर्दी लूटपाट हत्या के घटना को अंजाम दे रहे हैं और मुख्यमंत्री योगी की सरकार मौन रहकर अपराधियों का समर्थन कर रही है। उन्नाव रेप कांड की पीडि़ता की आवाज को दबाने के लिए भयभीत करने के लिए निरंतर पीडि़ता के परिवार पर हमला किया गया। उनकी पिता की मौत भी मारपीट की बाद हुई। घटना के बाद हुई पीडि़ता के चाचा को झूठे मुकदमे में फंसाया गया और उन्नाव रेप कांड के दोषी को बचाने के लिए पीडि़ता की हत्या करने का षडयंत्र किया गया है। उन्नाव पीडि़ता की कार दुर्घटना पीडि़ता की हत्या की साजिश है। 

 

28-05-2019
 जहरीली शराब पीने से 8 की मौत, सीएम योगी ने दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में मंगलवार को जहरीली शराब पीने से एक ही परिवार के चार लोगों समेत 8 व्यक्तियों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आबकारी विभाग के प्रमुख सचिव को जांच के आदेश दिए हैं। मामला रामनगर थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांवों के हैं। बताया जा रहा है कि इन लोगों ने सोमवार की रात रानीगंज कस्बा स्थित देशी शराब की दुकान से शराब खरीद कर पी थी। 
सभी को पेट दर्द व उल्टी-दस्त की शिकायत पर सीएचसी पर ले जाया गया। जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। इनमें से चार लोगों की जिला अस्पताल में ही मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक, मरने वालों में एक ही परिवार के चार लोग है। 
घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी उदयभानु त्रिपाठी, एसपी अजय साहनी अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच कर मामले की जांच शुरू कर दी है। एसपी ने प्रभारी निरीक्षक रामनगर, हल्का दारोगा और पांच सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। सीओ और आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबित करते के लिए संस्तुति की है। देशी शराब के ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पूरे रानीगंज में कोहराम मचा हुआ है।

07-05-2019
पीएम मोदी चौकीदार हैं तो सीएम योगी ठोकीदार : अखिलेश यादव

जौनपुर। जौनपुर में एसपी-बीएसपी गठबंधन की रैली में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मायावती ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। अखिलेश यादव ने पीएम मोदी को चौकीदार और सीएम योगी आदित्यनाथ को ठोकीदार की संज्ञा देते हुए कहा कि भाजपा ने झूठ और नफरत की नींव पर अपनी सरकार बनाई है। इस बार महागठबंधन के तूफान में पता नहीं चलेगा कि ये कहां गए?  अखिलेश यादव ने कहा कि यह महागठबंधन परिवर्तन लाने का काम करेगा। जो कहते हैं कि मिलावटी गठबंधन है वो जान लें कि देश की राजनीति में परिवर्तन लाने का काम यह गठबंधन करेगा। अखिलेश ने मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि यूपी में ठोकीदार को भी हटाना है। उन्होंने कहा कि अपराधी को हटाने के नाम पर जिसको मौका मिला ठोक दिया। पूरे यूपी के विकास को रोक दिया है। वाराणसी में एक फौजी चुनाव लड़ रहा था, जो उससे डर गया वो क्या करेगा। चौकीदार हटाइए, ठोकीदार हटाइए यही चुनाव है। हाथी की बटन दबाकर इन लोगों को रोकने का काम कीजिए। वहीं बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि इस भीड़ को देखकर ऐसा लगने लगा है कि नमो-नमो वालों की छुट्टी हो जाएगी। कांग्रेस का भी सफाया होगा। जौनपुर के लोगों को बड़े-बड़े महानगरों में रोजी-रोटी के लिए जाना होता है। अगर मोदी जौनपुर आते हैं तो उनसे 7 साल का हिसाब मांगना। अगर हमारी सरकार आती है तो हम 6 हजार नहीं, बल्कि स्थायी रोजगार देने का काम करेंगे। अब हमारे साथ समाजवादी पार्टी के लोग भी हैं और एसपी-बीएसपी गठबंधन की अधिकांश सीटें हम जीत जाएंगे। जौनपुर और मछलीशहर लोकसभा की सीट भी हम जीत जाएंगे। 

 

 

04-05-2019
अचानक अखिलेश की रैली में पहुंचे ‘योगी’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की रैली में लोग उस समय हैरान रह गए जब सीएम योगी की शक्ल वाले एक शख्स को अखिलेश के साथ मंच साझा करते हुए देखा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हमशक्ल भगवाधारी वेष में था। वह शख्स सीएम योगी की तरह ही दिखाई दे रहा था, जिसे अखिलेश के साथ देखकर लोग हैरान और परेशान होने लगे लेकिन कुछ देर बाद अखिलेश यादव ने ही उसकी असलियत से पर्दा उठा दिया. अखिलेश यादव ने चुटकी लेते हुए जनता से कहा कि अब तो इनका भी समर्थन मिल गया कुछ चाहिए आपको। अखिलेश ने कहा कि यह जा रहे थे गोरखपुर लेकिन हम इन्हें बाराबंकी ले आए।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804