GLIBS
01-08-2020
घर से मोबाइल पार करने वाले को पुलिस ने धरदबोचा, खरीददार को भी किया गिरफ्तार

गुंडरदेही। मोबाइल चोरी करने के आरोप में चोर और खरीददार को पुलिस ने धरदबोचा है। मोबाइल चोरी की रिपोर्ट 20 मार्च को प्रार्थी कुलेश पटेल ने दर्ज कराई थी। शिकायतकर्ता ने बताया कि जब वो अपनी पत्नी के साथ खेत पर काम पर गया था तब उसके घर से दो मोबाइल चोरी कर लिए गए और साथ ही नगदी पार हुई है। पुलिस ने रिपोर्ट पर विभिन्न धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। साइबर सेल बालोद से तकनीकी सहायता प्राप्त कर चोरी के आरोपी पुरुषोत्तम विश्वकर्मा को पकड़ा। साथ ही खरीददार घग्गर यादव व गुमान विश्वकर्मा के कब्जे से मोबाइल जब्त किए। सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर जेल भेजा।

शब्बीर रिजवी की रिपोर्ट

 

27-07-2020
Video: महिलाओं से नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाला आरोपी पकड़ाया, दो फरार

रायगढ़। नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाले को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इसकी रिपोर्ट कुसुम मनहर व अन्य 2 महिलाओं ने थाना कोतवाली में की थी। शिकायतकर्ताओं ने बताया कि 25 फरवरी को शासकीय स्कूलों में रसोईया पद के लिए विज्ञापन दिया गया था। इस पर संतोष महंत बोला कि मैं आप लोगों को उक्त हास्टल में नौकरी लगा दूंगा आप लोग मुझे रूपये देना। आप लोगों की नौकरी शासकीय हास्टल में रसोईया के पद लगा दूंगा। इस प्रकार उन्हें धोखे में रखकर संतोष महंत एवं उसकी पत्नी ने रकम लेकर ठगी की। नौकरी नहीं लगने पर जब पीड़ित महिलाओं ने रकम की मांग की तो टालमटोल करने के बाद संतोष महंत ने इकरारनामा लिखकर दिया। आरोपी के विरूद्ध थाना कोतवाली धारा 420, 34 IPC का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। अपराध पंजीबद्ध होने के पश्चात कोतवाली पुलिस लगातार आरोपियों की धरपकड़ के लिए जाल बिछाया था। सोमवार को मुखबिर की सूचना पर कोतवाली पुलिस ने मुख्य आरोपी संतोष महंत को उसके घर से गिरफ्तार किया। उसकी पत्नी शशिकला महंत और उसका एक अन्य साथी अभी भी फरार चल रहे हैं,जिनकी पतासाजी की जा रही है।

 

17-07-2020
थाने में लूट की कहानी झूठी, शिकायतकर्ता ड्राइवर और नौकर के खिलाफ अब होगी कार्रवाई

रायपुर/बिलासपुर। शहर के व्यवसायी के ड्राइवर और नौकर ने अंडे बेचने के बाद मिले पैसे डकारने के लिए रतनपुर थाने में लूट की झूठी शिकायत कर दी। मामले की सच्चाई सामने आने के बाद पुलिस ने शिकायतकर्ता के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है। रतनपुर थाना प्रभारी ललिता मेहर से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार की रात पिकअप वाहन के चालक और उसके साथी ने 40 हजार रुपये लूट की शिकायत की थी। पिकअप के चालक बलदाउ यादव ने बताया कि वे कोरबा निवासी अंडा व्यवसायी रमेश वाधवानी के यहां काम करते हैं। गुरुवार को वे अंडे लेकर बेचने निकले थे। कई जगहों पर सप्लाई करने के बाद वे रतनपुर सांधीपारा के पास पहुंचे थे। वहां स्विफ्ट कार ने उनका रास्ता रोक लिया। इसके बाद कार सवारों ने मारपीट करते हुए 40 हजार रुपये लूट लिए। लूट की इस शिकायत पर पुलिस ने चालक और उसके साथी बांगो निवासी राय सिंह से अलग-अलग जानकारी ली। दोनों के बयान में अंतर आने पर पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की। इस पर दोनों ने झूठी शिकायत की बात स्वीकार कर लिया। दोनों ने स्वीकार कर लिया कि पैसे गबन करने के चक्कर में सारी कहानी बनाई थी।

13-01-2020
देर रात पब में विवाद, थाने पहुंचकर हुआ समझौता

रायपुर। रविवार की देर रात तेलीबांधा स्थित पब में विवाद होने के कारण मामला थाने तक पहुंच गया। इसके बाद तेलीबांधा थाने में रात में ही दोनों पक्षों के बीच समझौता भी हो गया और मामला सुलझ गया। पब के बाउंसर व अन्य लोगों द्वारा शिकायतकर्ता के मोबाइल और पर्स रख लेने की बात कही जा रही थी। जिसके आरोप में पब संचालकों ने थाने पहुंचकर वस्तु स्थिति से अवगत कराया। फिलहाल मामला सुलझ जाने के कारण मामले में एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। रविवार को छुट्टी का दिन होने के कारण पब में बहुत भीड़ थी। वहीं संचालकों ने युवक पर छींटाकशी और शराब के नशे में धुत होकर बदतमीजी करने का आरोप लगाया है।

08-01-2020
रेरा ने शिकायत करने वाले पर ठोका 5 हजार का जुर्माना

रायपुर। मकान का कब्जा लेने में लेटलतीफी करने और फिर संबंधित रियल एस्टेट फर्म के खिलाफ रेरा में शिकायत करने का खामियाजा शिकायतकर्ता को ही भुगतना पड़ गया। रेरा ने याचिकाकर्ता पर 5 हजार रुपए का परिव्यय आरोपित किया है। प्रकरण के अनुसार शहर के दिनेश चंद्र तिवारी ने हाउसिंग बोर्ड आयुक्त और संपदा प्रक्षेत्र 3:00 के संपदा अधिकारी के खिलाफ शिकायत प्रस्तुत की जिसमें उन्होंने कहा कि सेक्टर 27 नवा रायपुर में हाउसिंग बोर्ड से फ्लैट लिया था। लेकिन फ्लैट का आधिपत्य प्राप्त करने के दौरान निरीक्षण करने पर अनेक खामियां पाई गई जिसमें सीढ़ियों का पैनल ठीक से फिट नहीं किया गया। भवन की बाहरी दीवारों की पुताई ठीक से नहीं किए जाने की वजह से उखड़ ती जा रही है। इस मामले में हाउसिंग बोर्ड ने कहा कि प्रकोष्ठ भवनों के बाहरी दीवारों की पुताई करवाना संभव नहीं है। कृष्णा भीम कांपलेक्स वर्ष 2014 से ही पूर्ण हो चुका है। अधिकांश द्वारा प्राप्त कर लिया गया है। आवेदक ने खिड़कियों के नहीं होने की शिकायत की है जबकि इस संबंध में कोई पुख्ता प्रमाण आदि प्राप्त करने में विलंब की वजह से यह स्थिति पैदा हुई है। पूरे मामले में रेरा ने कहा कि मकान में कब्जा और आधी पत्र प्राप्त करने में देरी के लिए आवेदक खुद जिम्मेदार हैं। विवेचना के आधार पर आवेदक का आवेदन अस्वीकृत करते हुए 5000 का परिव्यय अभी रोपित किया जाता है।

 

06-09-2019
पूर्व क्रिकेटर मुनाफ पटेल के खिलाफ थाने में हुई शिकायत

नई दिल्ली। गुजरात के वडोदरा में एक शख्स ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी मुनाफ पटेल पर उन्हें जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। उस शख्स ने थाने जाकर मुनाफ के खिलाफ शिकायत दी है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि वह वडोदरा क्रिकेट एसोसिएशन में फैले भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चला रहा है। उसी की वजह से मुनाफ ने उन्हें धमकी दी है। शिकायतकर्ता देवेंद्र सुरती हैं, जो क्रिकेट हित रक्षक समिति के अध्यक्ष हैं। देवेंद्र ने शहर के नवापुरा पुलिस थाने में जाकर टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी मुनाफ पटेल के खिलाफ एक शिकायत दी है। उनका आरोप है कि वडोदरा क्रिकेट एसोसिएशन में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी समिति एक अभियान चला रही है। इस अभियान के दौरान उन्हें मुनाफ पटेल के बारे में कुछ जानकारी मिली। इस संबंध में उन्होंने स्थानीय मीडिया को जानकारी दी और अखबारों में भी कुछ युवा क्रिकेटरों के हवाले से उनके खिलाफ खबर प्रकाशित हो गई थी। देवेंद्र का आरोप है कि इसी बात से नाराज होकर मुनाफ पटेल ने उन्हें फोन किया और जान से मारने की धमकी दे डाली।

शिकायत में देवेंद्र ने कहा कि मुनाफ की धमकी के बाद उनकी जान खतरे में है। अगर उन्हें कुछ हुआ तो उसके लिए मुनाफ पटेल ही जिम्मेदार होंगे। पूर्व छात्र नेता देवेंद्र सुरती का कहना है कि वह काबिल खिलाड़ियों को सामने लाते हैं और खेल में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चलाते हैं, इसी कारण उन्हें धमकियां मिलती रहती हैं। पुलिस ने देवेंद्र की शिकायत ले ली है। अब पुलिस उनके बयान दर्ज करने की तैयारी में है। इसी के बाद एफआईआर दर्ज करने को लेकर पुलिस कोई फैसला लेगी। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। अब देवेंद्र को बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया जाएगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804