GLIBS
17-02-2020
महाकाल एक्सप्रेस के सभी कोच में बजता है ओम नम: शिवाय मंत्र, साथ ही गूंजता है अन्य भजनों की धुन

नई दिल्ली। वाराणसी से इंदौर के बीच चलने वाली आईआरसीटीसी की कॉरपोरेट ट्रेन काशी महाकाल एक्सप्रेस रविवार को पहली बार कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर आई। ट्रेन में ओम नम: शिवाय मंत्र की धुन बज रही थी। ट्रेन के एक कोच में भगवान शिव का छोटा सा मंदिर भी बनाया गया यहां पर पूजा-अर्चना के बाद नारियल फोड़कर इसका स्वागत किया गया। उल्लेखनीय है कि रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो ज्योतिर्लिंग को जोड़ने के लिए ट्रेन काशी-महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर शुरुआत की थी। भगवान शिव के तीन ज्योतिर्लिंगों ओंकारेश्वर, महाकालेश्वर और काशी विश्वनाथ को जोड़ने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस सप्ताह में दो दिन वाराणसी से इंदौर के बीच चलेगी। महाकाल एक्सप्रेस में 12 कोच हैं। सभी एसी थ्री टियर कोच हैं। आईआरसीटीसी की ओर से कैटरिंग सेवाएं दी यात्रियों को जाएंगी। ट्रेन में सर्विस देने वाले कर्मियों का ड्रेस केसरिया है। इसका टिकट ऑनलाइन मिलेगा। इस ट्रेन की विषेशता है कि इसमें ऊं नम: शिवाय मंत्र बजता रहता है।

15-02-2020
तीन दिन की मासूम के साथ हैवानियत, धारदार हथियार से आरोपी ने किया वार, मौत

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक अस्पताल में तीन दिन की बच्ची के उपर अज्ञात आरोपी ने धारदार हथियार से कई बार वार किया, जिसके बाद बच्ची ने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। मामला इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय का है। बता दें कि चिकित्सा विभाग के प्रमुख ब्रजेश लाहोटी ने बताया कि नवजात बच्ची की गर्दन, सीने और पेट पर किसी धारदार चीज से कई वार किए गए थे। हमने अस्पताल में उसकी सर्जरी भी की थी, लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद हम उसकी जान नहीं बचा सके। लाहोटी ने बताया कि बुरी तरह घायल बच्ची ने एमवाईएच की गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। अस्पताल लाए जाने से पहले ही उसका बहुत खून बह चुका था और उसका नाजुक शरीर गहरे जख्मों का दर्द नहीं झेल सका। उन्होंने बताया कि नवजात बच्ची को शाजापुर के जिला अस्पताल से बेहद गंभीर हालत में बुधवार रात इंदौर के एमवायएच भेजा गया था, जहां पोस्टमॉर्टम के बाद बच्ची के शव को उसके परिजनों को सौंप दिया गया। शाजापुर जिले के मोहन बड़ोदिया थाने के प्रभारी उदय सिंह ने बताया कि बच्ची का जन्म जिले के एक अस्पताल में मंगलवार को हुआ था। उसके माता-पिता मजदूरी करते हैं। किसी अज्ञात आरोपी ने बुधवार को उस पर किसी धारदार हथियार से वार किए, वह केवल एक दिन की थी और अस्पताल में अपनी मां के पास ही थी। उन्होंने बताया कि हमें बच्ची पर हमले की सूचना तब मिली जब उसे शाजापुर जिला अस्पताल से ले जाकर इंदौर के एमवायएच में भर्ती कराया गया। बच्ची के माता-पिता ने हमें उस पर हमले की सूचना नहीं दी थी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 

02-02-2020
इंदौर से वाराणसी के बीच चलेगी देश की तीसरी निजी ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया एलान

नई दिल्ली। रेलवे ने इंदौर से वाराणसी के बीच देश की तीसरी निजी ट्रेन चलाने की घोषणा की है। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने शनिवार को कहा, आईआरसीटीसी रात में चलने वाली इस ट्रेन के डिब्बे हमसफर एक्सप्रेस की तरह होंगे। पिछले कुछ महीनों में दो मार्गों नई दिल्ली-लखनऊ और मुंबई-अहमदाबाद पर तेजस एक्सप्रेस का संचालन किया जा रहा है।

नई दिल्ली और मुंबई स्टेशन होंगे वर्ल्ड क्लास

रेलवे ने पीपीपी मॉडल पर अमृतसर, ग्वालियर, साबरमती, नागपुर स्टेशन निर्माण की योजना तैयार कर ली है। सोमवार को निजी भागीदारी के तहत चारों स्टेशन के निर्माण की जिम्मेदारी सौंप दी जाएगी। इसके साथ ही रेलवे ने 10 और स्टेशन को निजीभागीदारी के तहत निर्माण करने का निर्णय लिया है। इसमें मुंबई के साथ नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को भी शामिल किया गया है। अगले तीन महीने में इन स्टेशनों का प्रोजेक्ट फाइनल कर निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इस योजना के लिए रेलवे ने नीति में बदलाव कर फास्ट ट्रैक मोड के तहत काम करने का निर्णय लिया है।

550 स्टेशनों पर वाई-फाई सुविधा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, सरकार के 100 दिन पूरे होने के अंदर ही 550 स्टेशनों पर वाई-फाई सुविधा दी गई है। इस साल 27 हजार किलोमीटर रेलवे लाइन के विद्युतीकरण के लक्ष्य की घोषणा की गई है।

रेलवे लाइन के विद्युतीकरण से बचेगा डीजल इंजन का खर्च

वित्त मंत्री ने बजट पेश करने के दौरान रेलवे का खर्च कम करने का एक खाका पेश करते हुए 2700 किलोमीटर रेलवे लाइन का विद्युतीकरण करने की बात कही। इससे डीजल इंजन के जरिये होने वाले खर्च पर लगाम लगाई जा सकेगी। इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों की रफ्तार को भी बढ़ाया जा सकेगा। मौजूदा समय की बात करें तो रेलवे में करीब 6 हजार डीजल इंजन हैं, जबकि विद्युतीकरण वाले रेल इंजन 5500 हैं। रेलवे में बिजली उत्पादन अपने स्तर पर होने के कारण खर्च कम हो रहा है, जबकि एक डीजल इंजन एक किमी में 5 लीटर डीजल की खपत करता है। इसे ध्यान में रखते हुए अब रेलवे का जोर विद्युतीकरण पर है।

 

13-01-2020
अरपाचल की जन्मभूमि में रणजी और राष्ट्रीय खिलाड़ियों से सजेगी पेंड्रा नगरी

पेंड्रा। 14 जनवरी से युवा कालोनी स्पोर्टिंग पेंड्रा के तत्वाधान में अखिल भारतीय टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट के तीसरे संस्करण के आयोजन का भव्य शुभारंभ 14 जनवरी को होगा जिसमे देश भर की 16 टीमें हिस्सा लेंगी। जिसमें प्रमुख रूप से जम्मूकश्मीर, श्रीनगर, पॉन्डिचेरी, कटक, बालको, महाराष्ट्र,इंदौर, नागौद, गोरखपुर, इलाहाबाद, भिलाई-दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर, सरगुजा, कोरबा की टीम हिस्सा ले रही है। इस प्रतियोगिता में इस बार प्रथम पुरुस्कार की राशि 1 लाख 18 हजार 118 रुपये व ट्राफी जबकि द्वितीय पुरूस्कार में 58 हजार 58 रुपये की राशि दी जाएगी। वहीं मैन ऑफ द सीरीज के विजेता को 13 हजार 13 रुपये व ट्रॉफी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा भी सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, गेंदबाज, फिल्डर, कीपर और अनुशासित टीम के अलावा सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ी को भी पुरुस्कार दिया जाएगा। पेंड्रा नगर के इस गौरवशाली आयोजन का ये लगातार तीसरा वर्ष है और इसमे सभी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे है। इस बार आयोजन को और बेहतर बनाने के लिए लाइव टेलीकास्ट की भी व्यवस्था की जा रही है जिससे हर मोबाइल तक मैच का लाइव आनंद लिया जा सकेगा। उद्घाटन 14 को होगा जिसकी तैयारियां में आयोजन समिति युवा कॉलोनी स्पोर्टिंग पेंड्रा पूरी तरह से लगी हुई है।

 

07-01-2020
दूसरा टी-20 आज, सीरीज जितने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया 

नई दिल्ली । पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ने के बाद भारत और श्रीलंका के बीच दूसरा टी-20 मुकाबला इंदौर के होल्कर स्टेडियम  में आज होगी । इस साल होने वाले ट्वेंटी-ट्वेंटी  विश्व कप के चलते ओपनिंग में हिटमैन रोहित शर्मा के जोड़ीदार के रूप में शिखर धवन और लोकेश राहुल के बीच एक अलग मुकाबला देखने को मिलेगा। धवन चोट के बाद वापसी कर रहे हैं जबकि राहुल ने इस दौरान शानदार प्रदर्शन करके अपना दावा मजबूत कर लिया है। बाएं हाथ के बल्लेबाज धवन का स्ट्राइक रेट पिछले कुछ समय में सीमित ओवरों के क्रिकेट में चिंता का विषय रहा है और श्रीलंका के खिलाफ बाकी बचे दोनों मैचों में उन्हें इसमें सुधार करना होगा। धवन के लिए पिछले साल  चोटों से काफी परेशान रहे और एक बार फिर वापसी करते हुए उनकी राह चुनौतीपूर्ण होगी। 2019 में  धवन ने 12 मैचों में 110 की स्ट्राइक रेट से 272 रन बनाए। दूसरी तरफ राहुल ने मौकों का पूरा फायदा उठाया और वेस्टइंडीज के खिलाफ सीमित ओवरों की पिछली सीरीज वनडे  व  t -20  की छह पारियों में एक शतक और तीन अर्द्धशतक की मदद से 349 रन बनाए हैं। कप्तान विराट कोहली भी कह चुके हैं कि श्रीलंका के खिलाफ सीरीज से आराम मिलने के बाद रोहित शर्मा जब पारी का आगाज करने के लिए वापसी करेंगे तो धवन और राहुल के बीच से किसी एक का चयन करना आसान नहीं होगा। भारतीय टीम नए साल की शुरवात जीत के साथ करना चाहेगी। पहला मैच बारिश के कारण धुलने के बाद बाकी बचे मुकाबले जितना चाहेगी । भारत के खिलाफ 10 साल से अधिक समय से किसी भी प्रारूप में द्विपक्षीय सीरीज जीतने में नाकाम रहे श्रीलंका को  टीम इंडिया  को हारने के लिए चमत्कारिक प्रदर्शन करना होगा।

06-01-2020
कैलाश विजयवर्गीय तय करे नेता भाजपा के है या माफिया के : कमलनाथ

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पर उनके विवादित बयान के लिए निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि विजयवर्गीय को यह फैसला करना होगा कि वह भाजपा के नेता हैं या फिर माफिया के। रविवार को मीडिया से बात करते हुए कमलनाथ ने कहा, 'कैलाश विजयवर्गीय को यह निर्णय करना होगा कि वह भाजपा के नेता हैं या फिर माफिया के।' हाल ही में भाजपा नेता का एक वीडियो काफी वायरल हुआ था। जिसमें वह सरकारी अधिकारियों को धमकाते हुए नजर आ रहे थे। उन्होंने कथित तौर पर कहा था कि संघ के पदाधिकारी शहर में हैं, नहीं तो आज इंदौर में आग लगा देता। इससे पहले शनिवार को भाजपा के वरिष्ठ नेताओं सहित विजयवर्गीय के खिलाफ इंदौर पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने और प्रदर्शन करने के आरोप में मामला दर्ज किया है।

संयोगितागंज के पुलिस स्टेशन में शनिवार रात को विजयवर्गीय सहित 350 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। जिसमें सांसद शंकर ललवानी, विधायक महेंद्र हरदिया, शहरी अध्यक्ष गोपीकृष्णा नेमा और विधायक रमेश मेंदोला शामिल हैं। इन सभी पर निषेधात्मक आदेश का उल्लंघन करने का आरोप है। संभाग कमिश्नर आकाश त्रिपाठी के घर के बाहर धरने पर बैठे विजयवर्गीय ने एडीएम से कहा, ‘हमसे मिलने के लिए अधिकारियों के पास समय नहीं है, इतने बड़े हो गए क्या? क्या उनकी इतनी औकात हो गई? हमने लिखित में मिलने का वक्त मांगा और कमिश्नर मिलने नहीं आए। उन्हें समझना चाहिए कि वे जनता के नौकर हैं, कमलनाथ के नहीं। ये बर्दाश्त नहीं करेंगे अब। वो तो संघ के पदाधिकारी शहर में हैं, नहीं तो आज इंदौर में आग लगा देता।’

05-01-2020
मैथिली झा समाज की बैठक हुई

गुना। मैथिली झा समाज धर्मशाला ट्रस्ट के समाज बंधुओं की बैठक रविवार को हुई। बैठक में इंदौर से पधारे शैलेंद्र विश्वकर्मा ने बताया कि विश्वकर्मा भगवान के मंदिर का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। इसमें विश्वकर्मा भगवान की मूर्ति स्थापना कर गणेश पूजन, शोभा यात्रा, यज्ञ, प्राण प्रतिष्ठा एवं महाप्रसादी का आयोजन किया जाएगा। 

राकेश किरार की रिपोर्ट 

05-01-2020
विवादास्पद बयान: कैलाश विजयवर्गीय सहित भाजपा कार्यकर्ताओं पर मामला दर्ज

इंदौर। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विवादास्पद बयान का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने विजयवर्गीय समेत करीब 350 भाजपा कार्यकर्ताओं पर गंभीर आरोपों वाली धाराओं में आपराधिक प्रकरण दर्ज किया है। संयोगितागंज पुलिस थाने के प्रभारी नरेंद्र सिंह रघुवंशी ने रविवार को बताया कि शुक्रवार को दोपहर रेसीडेंसी क्षेत्र में बिना अनुमति किये गये धरना-प्रदर्शन को लेकर एक तहसीलदार की शिकायत पर लगभग 350 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। इनमें विजयवर्गीय, इंदौर लोकसभा क्षेत्र के सांसद शंकर लालवानी और भाजपा के अन्य स्थानीय नेता शामिल हैं। रघुवंशी ने बताया कि इन प्रदर्शनकारियों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 143 (विधिविरुद्ध जमाव में शामिल होना), धारा 149 (विधिविरुद्ध जमाव के किसी भी सदस्य द्वारा साझा मकसद को लेकर कोई अपराध किये जाने की सूरत में इस समूह का हर सदस्य उस जुर्म का दोषी होगा), धारा 153 (बलवा कराने की नीयत से भीड़ को अनियंत्रित तौर पर उकसाना), धारा 188 (किसी सरकारी अधिकारी के आदेश की अवज्ञा) और धारा 506 (आपराधिक धमकी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

 

03-01-2020
कैलाश विजयवर्गीय ने अधिकारियों को धमकाया, कही यह बात.....

इंदौर। सोशल मीडिया पर शुक्रवार को सामने आए भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के वीडियो पर विवाद खड़ा हो गया है। इस वीडियो में विजयवर्गीय अपने इस गृहनगर में सरकारी अधिकारियों को कथित तौर पर धमकाते हुए यह कहते सुनाई पड़ रहे हैं कि हमारे संघ के पदाधिकारी (यहां) हैं, नहीं तो आज आग लगा देता इंदौर में। भाजपा महासचिव का यह वीडियो तब सामने आया है, जब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की आंतरिक बैठकों के लिये संगठन के प्रमुख मोहन भागवत और इसके अन्य शीर्ष पदाधिकारी शहर में ही हैं। चश्मदीद लोगों ने बताया कि यह वीडियो विजयवर्गीय की अगुवाई में भाजपा के स्थानीय जन प्रतिनिधियों के रेसीडेंसी क्षेत्र में शुक्रवार दोपहर किये गये धरना-प्रदर्शन का है। इस दौरान विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि प्रशासन शहर में विकास के नाम पर पक्षपातपूर्ण और राजनीतिक दुर्भावनापूर्ण कार्रवाई कर रहा है।

इस मुद्दे पर भाजपा नेताओं ने पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों को सीधी चर्चा के लिये बुलाया था। लेकिन वे नहीं आये। बाद में जब कुछ कनिष्ठ सरकारी अधिकारी प्रदर्शनकारियों के पास पहुंचे, तो विजयवर्गीय ने आला अफसरों के रवैये पर तीखी नाराजगी जाहिर की। वायरल वीडियो में विजयवर्गीय कहते सुनायी पड़ रहे हैं,  क्या वे (आला अधिकारी) इतने बड़े हो गये? क्या उनकी इतनी औकात हो गई? अधिकारियों को समझना चाहिये कि वे जनता के नौकर हैं। क्रोधित विजयवर्गीय को शांत करने की कोशिश करते हुए एक प्रशासनिक अधिकारी भाजपा महासचिव से कहते सुनाई पड़ रहे हैं कि आला अफसरों से भाजपा नेताओं के पत्र व्यवहार के बारे में उसे न तो कोई जानकारी है, न ही उससे किसी तरह की चर्चा की गई है।विजयवर्गीय वीडियो में आगे कहते सुनाई पड़ रहे हैं,  आखिर कोई प्रोटोकॉल होता है या नहीं? हम सरकारी अधिकारियों से लिखित निवेदन कर रहे हैं कि हम उनसे मिलना चाहते हैं। क्या वे हमें यह सूचना भी नहीं देंगे कि वे शहर से बाहर हैं? यह अब हम बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। हमारे संघ के पदाधिकारी (यहां) हैं, नहीं तो आज आग लगा देता इंदौर में। 

01-01-2020
पाथ इंडिया कंपनी के मालिक समेत 6 लोगों की लिफ्ट दुर्घटना में हुई मौत

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर से 25 किलोमीटर दूर महू के पास एक निजी फार्म हाउस में एक लिफ्ट दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से छह लोगों की मौत हो गई। पुलिस उप-विभागीय अधिकारी विनोद शर्मा ने बताया कि मृतकों में से एक की पहचान पुनीत अग्रवाल के रूप में हुई है। उन्होंने कहा कि घटना शाम करीब छह बजे हुई। हादसे की जांच की जा रही है। बताया जा रहा है कि पुनीत अग्रवाल पाथ इंडिया कंपनी के मालिक हैं। उन्य मरने वालों में पुनीत अग्रवाल की बेटी, दामाद, पोता और अन्य रिश्तेदार बताए जा रहे हैं। बताया जाता है कि फार्म हादस में लगी लिफ्ट टूटकर करीब सत्तर फुट नीचे सीमेंटेड जमीन पर आ गिरी। वहीं, कुछ लोगों के अनुसार लिफ्ट के पलट जाने से यह हादसा हुआ है। फार्म हाउस निजी होने से अभी कोई भी जानकारी सामने नहीं आई है। परिवार के लोगों से भी अभी इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

31-12-2019
स्वच्छ शहरों में इंदौर ने फिर मारी बाजी, पांचवे स्थान पर अंबिकापुर

नई दिल्ली। स्वच्छता के मामले में इंदौर ने एक बार फिर बाजी मार ली है। मंगलवार को यहां केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने इंदौर को लगातार चौथी बार देश का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया। इंदौर के बाद दूसरे स्थान पर गुजरात का राजकोट और तीसरा सबसे स्वच्छ शहर नवी मुंबई है। शहरी विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप पुरी ने हर तीन महीने पर जारी होने वाली स्वच्छ सर्वेक्षण रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल पिछली तिमाही में दूसरा सबसे स्वच्छ शहर था, लेकिन इस बार तीन पायदान नीचे खिसक कर पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। पिछली तिमाही में पांचवें स्थान पर रहा गुजरात का राजकोट इस बार दूसरा सबसे स्वच्छ शहर बन गया है। गुजरात का ही वड़ोदरा शहर भी साफ-सफाई के मामले में भोपाल से एक पायदान ऊपर चौथे स्थान पर है। ये सभी ऐसे शहर हैं, जहां की जनसंख्या 10 लाख से अधिक है। पुरी के मुताबिक, 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में स्वच्छता के मामले में छठे स्थान पर अहमदाबाद, सातवें पर नासिक, आठवें पर बृहन्मुंबई, 9वें स्थान पर इलाहाबाद और 10वें पर लखनऊ है। पुरी ने कहा कि एक लाख से 10 लाख तक की आबादी वाले शहरों में झारखंड के जमशेदपुर को सबसे स्वच्छ शहर चुना गया है। महाराष्ट्र का चंद्रपुर इस श्रेणी में दूसरा सबसे स्वच्छ शहर है। मध्यप्रदेश के खरगौन को तीसरा व उत्तर प्रदेश के लोनी को चौथा स्थान मिला है। पांचवे स्थान पर छत्तीसगढ़ का अंबिकापुर है। वहीं 10 लाख से कम आबादी वाले शहरों की श्रेणी में दिल्ली का एनडीएमसी क्षेत्र छठां सबसे स्वच्छ इलाका है।

 

15-12-2019
एमपी के ऑपरेशन क्लीन की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में कब चलेगा भूमाफिया के खिलाफ अभियान

रायपुर। मध्यप्रदेश के इंदौर में भूमाफियाओं के खिलाफ ऑपरेशन चलाया जा रहा है। बड़े-बड़े भूमाफिया अब वहां से भागते फिर रहे हैं। पुलिस धड़ाधड़ एफआईआर दर्ज कर रही है। इंदौर पुलिस ने एक ही दिन में 13 एफआई आरदर्ज की है। और तीन भूमाफिया को गिरफ्तार भी कर लिया है। पुलिस आरोपियों के पॉलिटिकल कनेक्शन को भी तलाश रही है। अवैध होटल रेस्टोरेंट बार इनके खिलाफ भी अभियान चला रही है इंदौर पुलिस। पड़ोसी और छत्तीसगढ़ के मूल राज्य मध्यप्रदेश में हो रही कार्यवाही पर यहां की जनता की भी नजर है। उन्हें आस है कि इस तरह की कार्रवाई छत्तीसगढ़ में भी जल्द होगी। छत्तीसगढ़ में भू माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात भाजपा सरकार में लगातार होती रही लेकिन कार्रवाई कभी नहीं हुई। सरकार बदलने के बाद भूमाफिया से पीड़ित लोगों में उम्मीद जागी है कि भूमाफिया अब बच नहीं पाएंगे। आज भी धड़ल्ले से अवैध प्लाटिंग और अवैध कॉलोनाइजिंग का काम शुरू है। बड़े-बड़े भूमाफिया जिनके खिलाफ एक नहीं कई प्रकरण दर्ज है मजे से घूम रहे हैं। और एक इंदौर पुलिस है, जिसने एक ही दिन में तीन भूमाफिया शिवनारायण बब्बू और हेमन्त को दमदारी से गिरफ्तार कर लिया। ऐसी ही कार्रवाई यहां भूमाफिया से पीड़ित लोग चाह रहे हैं। देखना होगा यहां की पुलिस और प्रशासन कब जागता है। और भूमाफिया के मकड़जाल में फंसे आम उपभोक्ताओं को कब बचाता है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804