GLIBS
01-07-2020
पूर्व महापौर से शासकीय आवास को खाली करने के लिए पार्षदों ने जिलाधीश से लगाई गुहार 

राजनांदगांव। पूर्व महापौर शोभा सोनी के शासकीय आवास को खाली कराने के लिए पार्षदों ने जिलाधीश से गुहार लगाई है। बता दें कि पूर्व महापौर शोभा सोनी जिस शासकीय आवास में रह रही है। उन्हें वहां रहने की पात्रता नहीं है। इस संबंध में आवेदन कुछ पार्षदों ने विगत दिनों ज़िलाधीश को दिया। साथ ही यह भी लिखा है कि शोभा सोनी के पति प्रहलाद सोनी जो विधानसभा में कार्यरत हैं उन्हें भी इस मकान में रहने की पात्रता नहीं है। शोभा सोनी ने बातचीत में बताया कि अभी उन्हें इस मामले में किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं है। जब कलेक्टर के यहां से कोई पत्र आएगा। उसका उचित जवाब दे दिया जायेगा।

27-03-2020
सिक्योरिटी गार्ड सामने पहरा देता रहा और चोर पीछे दरवाजे से सौ बोरी सीमेंट ले उड़े

बिलासपुर। डिप्टी रेंजर के शासकीय आवास में विभागीय कार्य के रखे गए सीमेंट की बोरियों में से 100 बोरी सीमेंट चोरी होने की रिपोर्ट पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है। बता दें कि कोटा क्षेत्र के बेलगहना चौकी के दारसागर निवासी संदीप कुमार जगत जो कि वन विभाग में फारेस्ट गार्ड है। वह खैरझिटी परिसर में कार्यरत है। रतनपुर, वन परिक्षेत्र के डिप्टी रेंजर ने बानाबेल, खैरझिटी, दारसागर व पंडरापथरा वन परिक्षेत्र में विभागीय कार्य कराने के लिए 350 बोरी सीमेंट की खरीदी की थी। इसके बाद डिप्टी रेंजर ने अपने शासकीय क्वार्टर में सीमेंट को रखवाए थे। उसमें से 100 बोरी सीमेंट एकाएक चोरी हो गई है। फारेस्ट गार्ड ने पुलिस को बताया कि सीमेंट की बोरियों को रोशनदान और पीछे के दरवाजे को तोड़कर चोरी किया गया है। लेकिन वहां चौकीदार स्वयं देख—रेख करता है। इस मामले की शिकायत पर पुलिस ने धारा 457,380 के तहत चोरी का अपराध दर्ज कर लिया है।

03-07-2019
जन चौपाल में मिले आवेदनों के निराकरण की जानकारी आवेदक को दी जाएगी मोबाइल पर

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपने शासकीय आवास पर जन चौपाल की शुरूआत कर दी। जन चौपाल में मुख्यमंत्री सीधे जनता की समस्याओं से अवगत हुए और सम्बंधित विभाग के अधिकारी को निराकरण के निर्देश दिए। जनचौपाल की शुरुआत करने के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक सॉफ्टवेयर का भी शुरुआत की। इसके माध्यम से प्रदेशवासी अपना आवेदन मुख्यमंत्री को ऑनलाइन भेज सकते हैं। आज के जनचौपाल में आर्थिक सहायता, नामांतरण, मुआवजा, मुख्यमंत्री पेंशन योजना के तहत हितग्राहियों को पेंशन प्रदान करने जैसे आवेदन मुख्यमंत्री को मिले। मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि जनता ने विश्वास जताया है। जनचौपाल के माध्यम से जनता की समस्याओं का निराकरण किया जाएगा। जनचौपाल में पूरे प्रदेश भर के जनता की जो समस्याए है उनका निराकरण किया जाएगा।

15 दिनों के भीतर आवेंदनो का होगा निराकरण

जनचौपाल में मिले आवेदनो का 15 दिनों के अंदर निराकरण किया जाएगा। जिन आवेदनो का निराकरण 15 दिनों के अंदर नहीं होगा उनका परीक्षण कराया जाएगा। निराकरण होने वाले आवेदनो कि सूचना आवेदक को उनके मोबाइल में मैसेज भेजकर एवं लिखित में आवेदन भेजकर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री को पहला आवेदन आर्थिक सहायता के लिए मिला

जन चौपाल में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को हीरापुर निवासी 60 वर्षीय कमला बाई ने किडनी की बीमारी के उपचार के लिए आर्थिक सहायता के लिए आवेदन दिया। मुख्यमंत्री ने तत्काल कमला बाई के उपचार के लिए 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृति की। कमला बाई का पुत्र हीरापुर में चाट ठेला का व्यवसाय करता है।

प्राप्त आवेंदनो के लिए बनाए गए 9 काउंटर

काउंटर क्रमांक 1 आर्थिक सहायता, मुख्यमंत्री सचिवालय, काउंटर क्रमांक 2 प्राधिकरण, काउंटर 3 विकास, काउंटर 4 नगर निगम, काउंटर 5 कलेक्टर, काउंटर 6, काउंटर क्रमांक 7 मुख्यमंत्री निवास, काउंटर 8 संजीवनी एवं बाल हृदय योजना, काउंटर 9 शुगर सिकलिंग जांच के साथ साथ मेकाहारा के वरिष्ठ चिकित्सको की एक काउंटर बनाई गई है।

आर्थिक सहायता, नामांतरण, जमीन विवाद के मामले अधिक

जनचौपाल में आज आर्थिक सहायता, नामांतरण, ज़मीन विवाद के मामले और मुआवजा से सम्बंधित आवेदन अधिक आये।

पाटन क्षेत्र से आये अधिक आवेदन

जनचौपाल में मुख्यमंत्री के गृह जिले पाटन क्षेत्र से बहुतायत में लोग आज अपनी समस्या लेकर जनचौपाल में पहुँचे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804