GLIBS
10-02-2020
बेटे ने की मां के प्रेमी की हत्या, पुलिस को गुमराह करने लाश के पास रख दी थी जहर की डिबिया

महासमुन्द। माँ के प्रेमी का गला घोंट कर हत्या करने वाले हत्यारे बेटे को तुमगांव पुलिस ने 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस कंट्रोल रूम में अनुविभागीय अधिकारी नारद सूर्यवंशी ने बताया है कि 8-9 फरवरी की रात में प्रेमी रोहित ध्रुव दरवाजा खोलकर प्रेमिका के घर घुसने का प्रयास कर रहा था। दरवाजा खोलने की आवाज सुनकर बेटा ईश्वर साहू जाग गया और दोनो के बीच हाथापाई हुई। इस दौरान आरोपी ईश्वर साहू ने रोहित ध्रुव का गमछे से गला घोंटकर हत्या कर दी। मृतक रोहित ध्रुव का आरोपी के मां के साथ सम्बंध था। आरोपी ईश्वर साहू को इसकी जानकारी पहले से हो गई थी और रोहित ध्रुव को अपने घर आने से मना भी किया था। आरोपी ने हत्या करने के बाद मृतक को अपने पीठ में बांध कर बाइक से अमावश बेलटुकरी खार मछली तालाब के पास छोड़ कर घर आ गया। पुलिस को 9 फरवरी को लाश मिली थी। इसके बाद पुलिस ने डॉग स्क्वायड को मौके पर बुलाया, जो सीधे आरोपी के घर घुस गया था। पुलिस ने ईश्वर साहू से पूछताछ की तो उसने हत्या करना स्वीकार कर लिया। आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के लिए  लाश के पास जहर की एक डिबिया रख दी थी। तुमगांव पुलिस ने मामले को 24 घंटे में सुलझाते हुए आरोपी पर आईपीसी की धारा 302, 201 के तहत जेल भेज दिया है। 

 

26-10-2019
अछोला शराब दुकान में ढाई करोड़ की धोखाधड़ी, सुपरवाइजर फरार

महासमुन्द। महासमुन्द जिले के तुमगांव थाना क्षेत्र की सरकारी शराब दुकान के सुुपरवाइजर और सेल्समेन ने फिर करोड़ों रुपए का चूना आबकारी विभाग को लगा दिया है। आबकारी विभाग ने अछोला तुमगांव शराब दुकान के 6 लोगों पर करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज करा दिया है। पुलिस ने मामले में 6 लोगों पर  406, 468 का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है। पुलिस में मामला दर्ज होने के बाद से शराब दुकान का सुपरवाइजर पिलू राम फरार बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार तुमगांव सरकारी शराब दुकान के सुपरवाइजर और सेल्समेन विगत 8 माह से शराब दुकान में बेची जा रही स्टाक की जानकारी विभाग को सही उपलब्ध नहीं करा रहे थे। विभाग को रोज होने वाली बिक्री की गलत जानकारी दे रहे थे। महासमुन्द जिला आबकारी अधिकारी मंजुश्री कसेरे को अछोला तुमगांव शराब दुकान के सुपरवाइजर पर शक हुआ कि वह गलत जानकारी दे रहा है। जिला आबकारी अधिकारी ने अपनी  शंका को दूर कराने के लिए शराब दुकान का ओडिट कराया तो  सामने आया कि 1068 नग देशी मसाला, 12506 नग पाव, देशी मसाला बाटल 16838 नग और देशी प्लेन अद्धी 37087 नग की करोड़ों रुपए की शराब बेच दी और आबकारी विभाग को ब्रिकी की जानकारी गलत देते रहे। तुमगांव शराब दुकान में पिछले 8 माह में प्लेन और मसाला शराब की 2 लाख 68 हजार 642 नगर पौवा, अध्दी और बाटल कीमत 2 करोड़ 54 लाख, 64 हजार 480 रुपए की शराब बेच खाई और इसकी जानकारी आबकारी विभाग को नहीं दी गई। जिला आबकारी अधिकारी ने मामले की तुमगांव पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी है। पुलिस मामले में संदेहियों से पूछताछ कर रही है। 

 

30-08-2019
तुमगांव पुलिस ने नकली नोटों के साथ 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार

महासमुन्द।  तुमगांव पुलिस ने नकली नोट छापकर लोगों से धोखाधड़ी करने वाले 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे 3 लाख 25 हजार रुपए के नकली नोट जब्त किए हैं। गिरफ्तार सभी आरोपी मुंगेली निवासी है। पुलिस ने आरोपियों के पास से कम्प्यूटर प्रिंटर, मोबाइल और एक कार भी बरामद की है। महासमुन्द पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ला ने प्रेस को बताया कि तुमगांव निवासी कुलवंत कौर ऊर्फ रानी से आरोपियों में से दिनेश बंजारा और हनुमान धृतलहरे सोनपुर कवर्धा निवासी की मुलाकात हुई। उन्होंने प्रार्थी को रुपए डबल कर देने की बात कही। कुलवंत कौर लालच में उनकी बातों में आ गई और आरोपियों को 19 अगस्त को एक लाख रुपए दे दिये।  दोनों आरोपियों ने प्रार्थिया से कुछ दिनों के बाद रकम दोगुना कर देने की बात कह कर चले गए।  29 अगस्त को दोपहर बाहरह बजे आरोपी तुमगांव कार क्रमांक सीजी 28 एच 6710 में पहुंचे लेकिन इस बार आरोपियों की संख्या चार थी। आरोपी कुलवंत कौर के घर पहुंचकर उसे उसके एक लाख रुपए के बदले दो लाख रुपए दे दिए। प्रार्थिया रकम लेकर अपने पति जगदीश के साथ नोट गिनने लगी। नोटों को छूने से पति-पत्नी को नकली होने का अहसास हो गया। फिर नोट गिनते समय कुलवंत कौर की नजर नोट के सीरियल नम्बर पर गई तो सभी नोट एक ही सीरियल के थे। कुलवंत कौर ने बड़ी चालाकी से अपने पति जगदीश को पुलिस स्टेशन भेज दिया और आरोपियों को अपने घर में ही बातों में बहला फुसला कर रखा। पुलिस ने तत्काल कुलवंत कौर के घर पहुंचकर चारों आरोपी दिनेश बंजारा, हनुमान धृतलहरे, जयकुमार अनंत व तिहारू कोसरे को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को आरोपियों ने पूछताछ में अपने एक अन्य साथी नरेन्द्र मंगेश्कर का नाम लिया जिसे भी पुलिस ने मुंगेली से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों से 2000 और 500 सौ के 3 लाख 25 हजार के नोट बरामद किए हैं और 5 मोबाइल, एक कार सहित 4250 रुपए नगद भी आरोपियों से बरामद कर लिया है। तुमगांव पुलिस ने आरोपियों को   420, 489, क, ख, ग 34 के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804