GLIBS
02-06-2020
सात मीटर की डामरीकृत सड़क अब 10 मीटर चौड़ी सीसी सड़क में होगी तब्दील

कांकेर। शहर की सबसे बड़ी समस्या से अब शहरवासियों व राहगीरों को राहत मिलने की खबर है। शहर के बीच से गुजरने वाली नेशनल हाईवे सड़क चौड़कीकरण का कार्य आरंभ हो गया है। राज्य सरकार द्वारा शहर के बीच से गुजरने वाली डामरीकृत सड़क जो बरसात में सड़क के दोनों किनारों में पानी जाम होने के कारण जर्जर हो जाती थी को अब 1 किमी सीसी सड़क की मंजूरी मिलने व टेंडर प्रक्रिया पूर्ण होने के साथ ही विभाग ने नापजोख शुरू कर दिया है। मंगलवार को सीसी सड़क के लिए विभाग द्वारा नापजोख किया गया,जिसमें 10 मीटर चौड़ी होने वाली सड़क का निर्माण ऊपर नीचे रोड़ से लेकर दूध नदी पुल तक 1 किमी किया जायेगा। लगभग 3 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाली इस सड़क का कार्य एक सप्ताह के भीतर आरंभ किये जाने की बात विभाग कही जा रही है।
विदित हो कि बारिश के वजह से शहर के बीच से गुजरने वाली सड़क की स्थिति काफी दयनीय बनी रहती थी जिसे लेकर काफी विवाद एवं प्रदर्शन भी हुई। जिस पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने शासन से सड़क के बीच सीसी सड़क के लिए अनुमति मांगी थी। इसे शासन ने मंजूरी दे दी है।जिस पर विभाग द्वारा टेंडर प्रक्रिया पूर्ण करते हुए रायपुर की एक कंपनी को ठेका दिया गया है। निर्माण कार्य 3 करोड़ रूपये की लागत से किया जायेगा। इस दौरान कुछ स्थानों पर आने वाले छोटे मोटे कब्जो को हटाया भी जायेगा।

 

02-06-2020
भाजपा नेता मजदूरों के नाम से बहा रहे हैं घड़ियाली आंसू: कांग्रेस

कांकेर। छग प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर केन्द्र सरकार के गरीब मजदूर एवं किसान विरोधी नीतियों के संबंध मेें मंगलवार को जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा विधायक निवास कांकेर मेें पत्रकारवार्ता आयोजित की गई। इसमें कांकेर विधायक शिशुपाल शोरी, अंतागढ़ विधायक अनूप नाग, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष बिरेश ठाकुर, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुभद्रा सलाम सहित सभी नेताओं ने अपनी बात रखी। इसमें उन्होंने कहा कि कांग्रेस सदैव किसान, गरीब मजदूर की पार्टी रही है और इस वैश्विक महामारी में भी उनके समस्याओं के समुचित निराकरण के लिए कांग्रेस पार्टी तथा कांग्रेस समर्थित राज्य सरकारोें के द्वारा महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए कार्य किये गये है। प्रेसवार्ता के दौरान संयुक्त रूप से कांग्रेस नेताओं ने कहा कि लॉक डाऊन के पूर्व से ही मजदूरों की घर वापसी होती तो आज मजदूर कोरोना सक्रंमित नही होते, कालकल्वित नहीं होते। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मजदूरों के घर वापसी के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग की तब भाजपा के नेताओं ने ट्रेन चलाने का विरोध किया और बस से लाने की बात कही। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि छत्तीसगढ में भाजपा के नेता मजदूरों के नाम से घड़ियाली आंसू बहा रहे है। घर पहुँच चुके मजदूरों से झूठी हमदर्दी जता रहे हैं। इस दौरान प्रमुख रूप से जिला पंचायत अध्यक्ष हेमंत धु्रव, नगर पालिका अध्यक्ष सरोज जितेन्द्र सिंह ठाकुर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, तरेन्द्र भण्डारी, आरती रवि श्रीवास्तव, कमला गुप्ता,मनोज जैन, सुनील गोस्वामी, गफ्फार मेमन, पंकज वाधवानी, नवली मीना मण्डावी, इन्द्रवती भुआर्य, चमन साहू, सोमेश सोनी, महेन्द्र यादव, लतेल यादव, सुखलाल शोरी, सुरेश नाग सहित कांग्रेस के प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

31-05-2020
कांकेर जिले में मिला कोरोना पॉजिटिव लौटा था मुम्बई से, तीन मरीज हुए ठीक

कांकेर। जिले के दुर्गुकोंदल ब्लॉक के ग्राम पंचायत झिटकाटोला में एक और कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया है। यह भी बाकी मजदूरों के साथ मुंबई से अपने गृहग्राम लौटा था,जिसे 23 मई से क्वारेंटाइन में रखा गया था। इस प्रकार जिले में अब 20 कोरोना पॉजिटिव हो गए थे किंतु जिले के लिये राहत की बात यह रही कि जिले के 3 कोरोना पॉजिटिव मरीज अब ठीक होकर रायपुर एम्स से कांकेर वापस आ रहे हैं। इस प्रकार अब कांकेर में 17 कोरोना के एक्टिव मरीज का इलाज जारी है। आज मिले कोरोना पॉजिटिव को जगदलपुर भेजने की तैयारी की जा रही है।
बता दें कि दुर्गुकोंदल विकासखंड में कुल 44 क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। इसमें 147 मजदूर आ चुके हैं, जिन्हें इन सेंटरो में रखा गया है। इसमें 8 लोग, जो कोरोना पॉजिटिव आए थे उन्हें रायपुर व जगदलपुर में शिफ्ट किया गया है। वहीं कुछ लोगों का निगेटिव रिपोर्ट आई है साथ ही अधिकांश रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। राहत की बात यह रही कि कांकेर जिले के ही 3 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर वापस लौटने की तैयारी में है। बता देें कि जो तीन कोरोना की जंग जीतकर वापस लौट रहे हैं उनमें से एक उदयनगर, दूसरा दशपुर, सुरेली के है।

30-05-2020
महाराष्ट्र से आए थे कांकेर जिले में मिले कोरोना पॉजिटिव

कांकेर। जिले के पखांजूर क्षेत्र में शनिवार को 3 नए एवं दुर्गुकोंदल से एक कोरोना पॉजिटिव  मिला है। ये सभी मजदूर महाराष्ट्र से लौटे थे और क्वारेंटाइन में रखे गए थे। इस प्रकार जिले में अब तक कुल 19 पॉजिटिव केस है।

28-05-2020
कोरोना पॉजिटिव मिलने से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट

कांकेर। जिले के भानुप्रतापपुर में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। सीएमएचओ डॉ.जेएल उईके ने इनकी पुष्टि की है। भानुप्रतापपुर में स्थानीय प्रशासन की टीम पहुंचकर क्षेत्र को चारों तरफ से सील कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है। विदित हो कि अभी तक कांकेर एवं दुर्गुकोंदल ब्लाक के क्षेत्र में ही कोरोना के मरीज मिल रहे थे। गुरुवार को जिला का स्वास्थ्य कर्मचारी, जिसकी रिपोर्ट कोरोना पाजेटीव आई,जिससे भानुप्रतापपुर क्षेत्र की समस्त दुकानें आगामी आदेश तक बंद रखने के आदेश नगर पंचायत सीएमओ ललित साहू ने दिए हैं। इसमें फल,दूध,दवाई एवं पेट्रोल पंप  सहित सभी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

28-05-2020
बिना जांच पड़ताल पत्रकार की गिरफ्तारी का पत्रकारों ने किया विरोध, सीएम के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

कांकेर। शहर के वरिष्ठ पत्रकार सुशील शर्मा की अचानक एवं एक तरफा गिरफ्तारी का विरोध करते हुए आज प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार कांकेर कलेक्टर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन सौंपा है। इसमें पत्रकार सुशील शर्मा को रायपुर पुलिस ने बिना किसी आचार संहिता का पालन करते हुए एक महिला अधिकारी की फर्जी आरोपों वाली शिकायत पर आनन-फानन में एफआईआर दर्ज कर सीधे कांकेर स्थित उनके निवास पर थाना खमारडीह रायपुर से कोरोना काल के बावजूद पुलिस पार्टी भेजकर गिरफ्तारी कर 5000 रूपए के मुचलके पर रिहा किया गया है। बस्तर बन्धुु का कार्य तथा न्याय क्षेत्र कांकेर होने के बावजूद रायपुर में रिपोर्ट लिखी गई और कांकेर के किसी भी पुलिस अधिकारी अथवा पत्रकार अथवा जनप्रतिनिधि को सूचित किए बिना, शासन के दिशा-निर्देशों/आचार संहिता को ताक में रखकर सीधे घर आकर गिरफ्तारी की गई है,जो किसी भी दृष्टिकोण से सही नहीं है और इसे प्रजातंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला ही माना जाएगा। जिस तथ्य व सबूतों के आधार पर महिला अधिकारी के संबंध में समाचार प्रकाशित किया गया है उस पर पत्रकार सुशील शर्मा से किसी भी प्रकार की जांच-पड़ताल या पूछताछ नहीं की गई है,जिससे यह प्रतीत होता है कि इस गिरफ्तारी के पीछे कहीं न कहीं पत्रकारों के अधिकारों व आजादी पर पाबंदी लगाने की कोशिश की जा रही है साथ ही पत्रकारों पर ऐसे झूठे व बेबुनियाद आरोप लगाकर फंसाया जा रहा है। अत: सभी पत्रकारगण इस एकतरफा तथा तानाशाही गिरफ्तारी का विरोध करते है साथ ही अफसर की भी जांच की जाये और गलत ढंग से एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी किए जाने के दोषी पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए सुशील शर्मा पर दर्ज धारा 504 व 509 के प्रकरण को समाप्त करने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने वालों में राजेश शर्मा, टिनकेश्वर तिवारी,कमल शुक्ला, अमित चौबे,  खालिद अख्तर, नरेश भीमगज, रूपेश नागे, नीरज तिवारी, गौरव श्रीवास्तव, आंशु शुक्ला, सुशील सलाम, एसके खान, टोकेश्वर साहू, चंद्रजीत यादव, विनोद साहू, हबीब राज, हेमन्त बेश्रा, हाफिज रिजवी, हिरेश्वर साहू, निपेन्द्र सिंह ठाकुर, तामेश्वर सिन्हा, राजेश सिन्हा, डाकेश्वर सोनी, सुनील ठाकुर, दीपक पुड़ो, मोहनीश सोनी, प्रांजल झा सहित बड़ी संख्या में प्रिंट व इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकार मौजूद थे।

28-05-2020
कार्य में लापरवाही तीन व्याख्याता निलंबित

कांकेर। नोवल कोरोना वायरस कान्टेक्ट ट्रेसिंग कार्य में लापरवाही बरतने के कारण कलेक्टर केएल चौहान ने दुर्गूकोंदल विकासखण्ड के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय आमकड़ा मे पदस्थ व्याख्याता(एलबी) ललित नरेटी और संजय वस्त्रकार तथा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोडेकुर्से में पदस्थ व्याख्याता(एलबी) डिलेश्वर सॉव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।व्याख्याता(एलबी) ललित नरेटी और संजय वस्त्रकार तथा डिलेश्वर सॉव की ड्यूटी कान्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए आईसोलेशन सेंटर बालक आश्रम हाटकोंदल में लगाई गई थी, लेकिन उनके द्वारा सौंपे गये दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही एवं घोर उदासिनता बरती गई, जिससे कोविड-19 के चरणबद्ध कार्यक्रम में विलंब हुआ बल्कि अनुपस्थिति से कार्य प्रभावित हुआ। उनके द्वारा छत्तीसगढ़ एपीडेसिजेस कोवडि-19 विनियम 2020 का उल्लंघन किया जाना पाया गया। उक्त कृत्य छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 3 के उप नियम 1,2,3 के विपरीत होने के कारण कलेक्टर चौहान ने उक्त तीनों व्याख्याता को निलंबित कर दिया है तथा उनका मुख्यालय खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय कोयलीबेड़ा नियत किया गया है। निलंबन अवधि में उन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

 

28-05-2020
Breaking : छत्तीसगढ़ में 12 नए कोरोना पॉजिटिव की पहचान

रायपुर। छत्तीसगढ़ में गुरुवार को 12 नए कोरोना पॉजिटिव की पहचान हुई है। इनमें मुंगेली के 9, बिलासपुर के 2 और कांकेर जिले से 1 मरीज हैं।

27-05-2020
 दसपुर में 16 लोगों की रिपोर्ट आई निगेटिव, गांव में हर्ष

कांकेर। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी की पत्नी सहित दसपुर के 16 लोगों के रिपोर्ट निगेटिव आये हैं। रायपुर के एम्स प्रबंधन ने मंगलवार रात प्रदेश सहित जिले के सैंपलों की सूची जारी की। इसमें जिले सहित शहर में चार नये मरीजों की सूची जारी की गई है। वहीं दसपुर के जिन 16 लोगों के सैंपल लिये गये थे वे सभी निगेटिव आये है। सभी सैम्पल निगेटिव आने के बाद शहर से सटे गांव दसपुर में खुशी का माहौल है।

 

27-05-2020
कांकेर में डॉक्टर की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, 4 मरीज की पहचान

कांकेर। जिले में एक कोरोना वॉरियर्स (डॉक्टर) पॉजिटिव मिला है। देर रात शहर के मध्य एमजी वार्ड, गांधी उद्यान के आस-पास इलाका सील कर दिया गया है। आयुष विभाग के एक डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव मिलने से पूरा अस्पताल प्रबंधन सख्ते में है। नेशनल हाइवे स्थित शासकीय क्वार्टर, सहित आस-पास के कई शासकीय कार्यालय को सील किया गया है। लोगों का कहना है कि डॉक्टर शाम तक मरीजों को देखते रहे। इस कारण   सम्पर्क में आने वालों का पता लगाना भी जरूरी माना जा रहा है। फिलहाल नेशनल हाईवे के जिला जेल से लेकर पोस्ट ऑफिस व एमजी वॉर्ड सील कर दिया गया है। कांकेर में मंगलवार को कुल 4 पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें 1 कोयलीबेड़ा से 1, दुर्गुकोंदल से 2 और कांकेर एमजी वॉर्ड से 1 शामिल है। जिले में अब तक कुल 12 पॉजिटिव केस मिले है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जेएल उइके ने इसकी पुष्टि की है।

26-05-2020
छत्तीसगढ़ में एक्टिव केस अब 282, संशोधित मेडिकल बुलेटिन जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ में मंगलवार को एक दिन में मिले नए मरीजों के आंकड़े ने अब तक के एक दिन में पॉजिटिव मिल रहे सभी आंकड़ों को पीछे छोड़ दिया है। मंगलवार को एक ही दिन में 68 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पहचान हुई है। ये आंकड़े चौंकाने वाले जरूर हैं लेकिन राहत की बात भी है कि मंगलवार को 7 मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। बहरहाल छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है। मंगलवार को शाम 5 बजे की स्थिति में जारी मेडिकल बुलेटिन में 68 नए मरीजों के साथ एक्टिव मरीजों की संख्या 281 बताई गई थी।  स्वास्थ्य विभाग ने संशोधित बुलेटिन जारी कर प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 282 बताई है। पूर्व में जारी बुलेटिन में रायगढ़ के एक्टिव मरीजों की संख्या 10 बताई गई थी। इसे संशोधित कर 11 किया गया है। इस तरह प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या अब 282 है। मंगलवार को मुंगेली से 27, बेमेतरा से 13, राजनांदगांव से 12, बालोद से 6, कांकेर से 4, बिलासपुर और जशपुर से 2-2, बलरामपुर और सूरजपुर से 1-1 मरीज मिले हैं। इसी तरह मंगलवार को एम्स रायपुर से बालोद के 5 और बलौदाबाजार का 1 मरीज, कोविड अस्पताल बिलासपुर से कोरबा जिले का 1 मरीज स्वस्थ्य होने पर डिस्चार्ज किया गया है। संशोधित मेडिकल बुलेटिन देखने के लिए यहां क्लिक करें....  

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804