GLIBS
21-06-2020
एकता कपूर की वेब सीरीज ट्रिपल एक्स सीजन-2 पर रोक लगाने की मांग...इलाहाबाद हाइकोर्ट पहुंचा मामला, याचिका दायर

नई दिल्ली। बाला जी फिल्म की निदेशक एकता कपूर अपनी हालिया रिलीज वेब सीरीज 'ट्रिपल एक्स सीजन टू' की वजह से मुश्किलों में घिर गई हैं। इलाहाबाद हाईकोर्ट में एकता कपूर की निर्देशित इस वेब सीरीज पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर याचिका दाखिल की गई। भारतीय सेना के एक जवान के रिश्तेदार अनिरुद्ध सिंह की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि वेब सीरीज भारतीय सेना के अफसरों और जवानों की पत्नियों की अशोभनीय छवि प्रस्तुत कर रही है इसलिए इस पर रोक लगाई जाए। याची के अधिवक्ता अंकुर वर्मा, अभिनव गौर और धनंजय राय के अनुसार याचिका में कहा गया है कि सब्सक्रिप्शन पर आधारित एएलटी बालाजी द्वारा प्रदर्शित यह वेब सीरीज भारतीय सेना के अधिकारियों की पत्नियों की सामाजिक छवि को धूमिल और सेना की वर्दी को अपमानित कर रही है। यह भी कहा गया है कि वेब सीरीज में सैन्य अधिकारियों के पत्नियों की आपत्तिजनक छवि प्रस्तुत की जा रही है। इससे सेना के जवानों और अधिकारियों की भावनाओं को ठेस पहुंचेगी, जो देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दे रहे हैं। इसके अलावा यह सीरीज सेवानिवृत्त सेना अधिकारियों की भावनाओं को भी ठेस पहुंचाने वाली है। सीरीज में सेना की वर्दी का उपयोग भी अशिष्ट तरीके से किया गया है। याचिका में वेब सीरीज पर प्रतिबंध लगाने और इसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई का आदेश देने की मांग की गई है।

02-06-2020
अस्थि विसर्जन के लिए बस रवाना, फेसबुक लाइव के माध्यम से परिवार को दिखाई जाएगी विसर्जन की प्रक्रिया 

राजनांदगांव। लॉक-डाउन के कारण पिछले कुछ महीनों से इलाहाबाद स्थित गंगा जी में अपने परिजनों की अस्थि विसर्जन की आस लिए बैठे परिवारों के लिए मंगलवार को अस्थियां विसर्जन के लिए शहर के स्टेट स्कूल मैदान से त्रिवेणी अस्थि विसर्जन व श्रद्धांजलि बस रवाना की गई। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष अरुण ताम्रकार और महापौर हेमा देशमुख ने मौके से बस को रवाना किया। इलाहाबाद में पूरे विधि-विधान के साथ अस्थि विसर्जन की प्रक्रिया फेसबुक के माध्यम से लाइव परिजनों को दिखाई जाएगी। महापौर हेमा देशमुख ने कहा कि सरकार का यह निर्णय आम लोगों की भावनाओं का सम्मान है। कांग्रेस हमेशा आम जनता की पार्टी रही है।

30-04-2020
इलाहाबाद इंडियन बैंक सुपेला ब्रांच ने निगम को दिया 4 थर्मल स्क्रीनिंग मीटर

भिलाई। इलाहाबाद इंडियन ब्रांच सुपेला द्वारा चार थर्मल स्क्रीनिंग मीटर नगर निगम भिलाई को प्रदान किया गया है! गुरुवार को इलाहाबाद इंडियन बैंक के मैनेजर ने अपने कार्यालय में स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेंद्र मिश्रा एवं सहायक स्वास्थ्य अधिकारी जावेद अली को थर्मल स्क्रीन मीटर प्रदाय किया! गौरतलब है कि मुख्य कार्यालय में अत्यावश्यक सेवा के कार्यों में लगे हुए अधिकारी/कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग के उपरांत ही प्रवेश दिया जा रहा है! निगम मुख्यालय में स्वच्छता से संबंधित, पेयजल से संबंधित, खाद्य सामग्री से संबंधित एवं कुछ जरूरी कार्यों में लगे अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा पाली-पाली में काम किया जा रहा है। प्रवेश द्वार पर सुरक्षाकर्मी तैनात है,जो निगम मुख्य कार्यालय में आने वाले नागरिक एवं अधिकारी/कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग कर रहे है। निगम के सुरक्षाकर्मी अति आवश्यक कार्य से आने वाले लोगों को ही प्रवेश दे रहे हैं और उनकी भी थर्मल स्क्रीनिंग कर रहे हैं। अब चार और थर्मल स्क्रीनिंग मीटर मिलने से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग करने में आसानी होगी। निगम के सुरक्षाकर्मियों को थर्मल स्क्रीनिंग करने के संबंध में जानकारी दी गई है।

 

09-02-2020
अब एक और जिले का नाम बदलेगी योगी सरकार, बस्ती होगा वशिष्ठ नगर

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अब एक और जिले का नाम बदलने की तैयारी कर रही है। जिला बस्ती का नाम बदलकर वशिष्ठ नगर किया जा रहा है। कहा जा रहा है कि गुरु वशिष्ठ के नाम से ही बस्ती का नाम वशिष्ठ नगर किया जाएगा। डीएम बस्ती ने इस संबंध में राजस्व विभाग को प्रस्ताव भेज दिया है। जल्द ही उत्तर प्रदेश कैबिनेट में नाम बदलने का प्रस्ताव आ सकता है। ज्ञात हो कि इसके पूर्व योगी आदित्यनाथ की सरकार ने इलाहाबाद का नाम प्रयागराज, फैजाबाद का नाम अयोध्या और मुगलसराय का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर किया जा चुका है।

14-01-2020
Breaking : आईईडी की चपेट में आया सीआरपीएफ का जवान, आई गंभीर चोट

बीजापुर। जिले में नक्सलियों के बिछाए हुए प्रेशर बम की चपेट में आने से एक जवान घायल हो गया। घटना चिन्नाकोडेपाल के पास की है, जहां आईईडी की चपेट में जवान आ गया। इस घटना में जवान के दोनों पैर में गम्भीर चोट आई है। जवान का नाम रामानुज यादव है और सीआरपीएफ बटालियन का है। जवान इलाहाबाद का रहने वाला है। 

29-12-2019
देश में चलेगी 150 निजी ट्रेन, रेलवे ने किया 100 रेलमार्गो का चयन

नई दिल्ली। रेलवे की मंजूरी के बाद से देश में प्राइवेट ट्रेनों के परिचालन का रास्ता साफ हो गया है। रेलवे ने 150 प्राइवेट ट्रेनों के परिचालन के लिए 100 रेलमार्गों का चयन किया है। जनवरी में इन रूट के लिए बोलियां लगने की उम्मीद है। उल्लेखनीय है कि 19 दिसंबर को वित्त मंत्रालय के अधीन पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप अप्रेजल कमेटी (पीपीपीएसी) द्वारा प्रस्ताव को सैद्धांतिक मंजूरी देने के साथ ही निजी ऑपरेटर्स द्वारा ट्रेनों के संचालन का रास्ता साफ हो गया। इस पहल के साथ ही यात्री रेलगाडिय़ों के परिचालन में रेलवे की मोनोपॉली भी खत्म होने जा रही है। इन रेल मार्गो का किया गया चयन प्रमुख मार्गों में मुंबई-वाराणसी व्हाया जबलपुर-इटारसी, मुंबई-पुणे व्हाया जबलपुर-इटारसी, सूरत-वाराणसी (व्हाया जबलपुर-इटारसी), मुंबई-लखनऊ, मुंबई-नागपुर, नागपुर-पुणे, सिकंदराबाद-विशाखापट्टनम, पटना-बेंगलुरु, पुणे-पटना, चेन्नै-कोयंबटूर, चेन्नै-सिकंदराबाद, सूरत-वाराणसी तथा भुवनेश्वर-कोलकाता शामिल हैं। कुछ अन्य मार्गों में नई दिल्ली से पटना, इलाहाबाद, अमृतसर, चंडीगढ़, कटरा, गोरखपुर, छपरा तथा भागलपुर का भी चयन किया गया है। इन मार्गों के चयन में वाणिज्यिक व्यवहार्यता पर अधिक ध्यान दिया गया है। 100 मार्गों में से 35 नई दिल्ली से कनेक्ट होंगे, जबकि 26 मुंबई से, 12 कोलकाता से, 11 चेन्नै से तथा आठ बेंगलुरु से कनेक्ट होंगे। इन मार्गों में गोरखपुर-लखनऊ, कोटा-जयपुर, चंडीगढ़-लखनऊ, विशाखापट्टनम-तिरुपति तथा नागपुर-पुणे शामिल हैं।

27-11-2019
पिता की खींची फोटो शेयर कर बेटी ने किया भावनात्मक ट्वीट

नई दिल्ली। कांग्रेस की महासचिव और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की बेटी प्रियंका गांधी ने हिंदी भाषा के श्रेष्ठ कवि हरिवंश राय बच्चन को याद कर एक ट्वीट किया है। प्रियंका ने अपने ट्वीट में लिखा कि- हरिवंशराय बच्चन जी जिन्हें हम अंकल बच्चन के नाम से जानते थे, इलाहाबाद के एक महान पुत्र थे। एक वक्त था जब मेरे पिता की मृत्यु के बाद बच्चन जी की रचनाओं को मैं देर-देर तक पढ़ती थी। उनके शब्दों से मेरे मन को शांति मिलती थी, इसके लिए मैं उनके प्रति आजीवन आभारी रहूंगी। प्रियंका के अपने इस ट्वीट के साथ हरिवंशराय बच्चन की एक तस्वीर ट्वीट की है। इसके साथ उन्होंने लिखा है कि मेरे पिताजी द्वारा खींची गयी बच्चन जी की फोटो। बता दें कि गांधी परिवार के बच्चन परिवार के साथ बहुत ही करीबी संबंध थे। दोनों परिवारों की ये दोस्ती पहले जवाहर लाल नेहरू और हरिवंशराय बच्चन के दौर में रही। बाद में यह राजीव गांधी और अमिताभ बच्चन ने लंबे दौर तक ये दोस्ती निभाई। हरिवंशराय बच्चन जवाहर लाल नेहरू के प्रधानमत्रित्व काल में विदेश मंत्रालय में हिंदी अधिकारी थे। धीरे-धीरे दफ्तर की ये दोस्ती परिवारों के बीच पहुंची और नेहरू की बेटी इंदिरा गांधी और हरिवंशराय बच्चन की पत्नी तेजी बच्चन के बीच दोस्ती हो गई। राजीव और अमिताभ ने बचपन से ही दोनों परिवारों के बीच घनिष्ठ संबंध देखे। वो राजीव गांधी ही थे जिनके कहने पर अमिताभ बच्चन राजनीति के मैदान में उतरे थे। जब राजीव गांधी इंग्लैंड में पढऩे के लिए गए तो वह वहां से अमिताभ को चिट्टियां लिखा करते थे। राजीव गांधी की होने वाली पत्नी सोनिया गांधी जब 1968 में पहली बार भारत आईं तो अमिताभ उन्हें एयरपोर्ट पर रिसीव करने के लिए गए थे। तेजी बच्चन ने सोनिया को भारत के रीति-रिवाज और संस्कृतियों के बारे में बताया। यही नहीं हरिवंश राय बच्चन और तेजी बच्चन ने ही सोनिया गांधी का कन्यादान किया था। 80 के दशक तक दोनों परिवारों के बीच दोस्ती रही।

26-11-2019
देश-विदेश में चर्चित कार्टूनिस्ट सुधीर दर का हार्ट अटैक से निधन

नई दिल्ली। चर्चित कार्टूनिस्ट सुधीर दर का मंगलवार की सुबह 87 साल की उम्र में निधन हो गया है। उनका निधन हार्ट अटैक के चलते हुई। उन्होंने कई अखबारों के लिए कार्टून बनाने का काम किया था। इलाहाबाद  में जन्मे सुधीर दर ने अपना करियर ऑल इंडिया रेडियो के साथ शुरू किया था। जहां वे एक अनाउंसर के तौर पर काम करते थे। ऑल इंडिया रेडियो के लिए काम करते हुए सुधीर दर ने एक दिन 'द स्टेट्समैन' अखबार के संपादक के साथ एक शो रिकॉर्ड किया। शो के दौरान ही उन्होंने द स्टेट्समैन के संपादक का कार्टून बना दिया। इस कार्टून को देखकर एडिटर ने तुरंत उन्हें अपने अखबार में नौकरी ऑफर कर दी। बस 1961 से उन्होंने द स्टेट्समैन के लिए कार्टून बनाना शुरू कर दिया। इसके कुछ सालों बाद वे हिंदुस्तान टाइम्स चले गए जहां उन्होंने राजनीतिक कार्टूनिस्ट के तौर पर काम करना शुरू किया। उन्होंने इसके बाद द पायनियर, द इंडिपेंडेंट और देल्ही टाइम्स अखबारों के साथ भी काम किया और साल 2000 में उन्होंने अंतत: एक फ्रीलांसर  के तौर पर काम करना शुरू कर दिया। उनकी प्रसिद्धि में चार चांद तब लग गए जब उनके कार्टून न्यूयॉर्क टाइम्स, वॉशिंगटन पोस्ट और सैटरडे रिव्यू या मैड मैग्जीन जैसे विश्वविख्यात अखबारों और पत्रिकाओं में छपने लगे। हालांकि दर एक राजनीतिक कार्टूनिस्ट थे, उन्होंने खुद को किसी विशेष पॉलिटिशियन पर व्यंग्य नहीं किया। इसके बजाए उन्होंने ज्यादा साधारण विषयों जैसे भ्रष्टाचार और नौकरशाही को अपने कार्टून का केंद्र बनाया।

24-11-2019
68 हजार से ज्यादा सहायक अध्यापकों की भर्ती में हुई धांधली, हाईकोर्ट ने दिए एफआईआर के आदेश

प्रयगारज। प्रदेश में 68 हजार 500 सहायक अध्यापक भर्ती के तहत नियुक्तियों में बड़े पैमाने पर धांधली उजागर होने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एफआईआर दर्ज कराने का आदेश दिया है। कोर्ट ने सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी को आदेश दिया कि गलत तरीके से अभ्यर्थियों के अंक बढ़ा कर नियुक्तियां देने के दोषियों पर कार्रवाई की जाए। कोर्ट के सामने अब तक 49 अभ्यर्थियों के मामले आए हैं। इन सभी को बेसिक शिक्षा विभाग पहले ही बर्खास्त कर चुका है। बर्खास्तगी के खिलाफ आई याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति नीरज तिवारी ने यह आदेश दिया है। याचिकाकर्ताओं ने कहा कि याचीगण 68 हजार 500 सहायक अध्यापक भर्ती में सफल रहे और उनको नियुक्ति दी गई। वे काम भी कर रहे थे। 16 अगस्त 2019 को उनको सेवा से बर्खास्त कर दिया गया। याचीगण की नियुक्ति को लेकर कुछ शिकायतें प्राप्त होने के बाद उनके सहित 49 अभ्यर्थियों की उत्तर पुस्तिकाओं की फिर से जांच कराई गई, जिसमें वे फेल पाए गए। बेसिक शिक्षा परिषद के अधिवक्ता भूपेंद्र कुमार यादव ने कोर्ट को बताया कि याचीगण की उत्तर पुस्तिकाओं और टेबुलेशन चार्ट में मिले अंकों में अंतर पाया गया।

टेबुलेशन चार्ट में उत्तर पुस्तिकाओें की तुलना में काफी अधिक अंक देकर उनको पास दिखाया गया है। टेबुलेशन चार्ट के आधार पर ही नियुक्तियां दी गईं हैं। कोर्ट के आदेश पर याचीगण की उत्तर पुस्तिकाएं अदालत में प्रस्तुत की गईं। कोर्ट ने जांच में पाया कि इन सभी उत्तर पुस्तिकाओं के टेबुलेशन चार्ट में अंक बढ़ाए गए हैं। परीक्षा नियंत्रक प्राधिकारी को इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश देते हुए 11 दिसंबर को सभी पक्षों को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने अगली सुनवाई पर एफआईआर की प्रति भी प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है।

18 अंक वाले को दे दिए 81 अंक

एक अभ्यर्थी दिव्या अग्रहरि को 18 अंक मिले थे। पुनर्मूल्यांकन में उसे 19 अंक मिले, लेकिन टेबुलेशन चार्ट में उसे 81 अंक दे दिए गए। इसी प्रकार से बसंत कुमार यादव को आठ अंक मिले थे। पुनर्मूल्यांकन में नौ अंक मिले जबकि टेबुलेशन में उसे 75 अंक दे दिए गए। अन्य सभी उत्तर पुस्तिकाओं और टेबुलेशन चार्ट में इसी प्रकार का अंतर देखने को मिला। कोर्ट ने कहा कि इन उत्तर पुस्तिकाओं को देखने से स्पष्ट है कि नियुक्ति में बड़े पैमाने पर धांधली की गई है।

19-11-2019
इंदिरा गांधी की जयंती पर नरेंद्र मोदी, सोनिया गांधी सहित कई नेताओं ने किया नमन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई नेताओं ने देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को उनकी जयंती पर मंगलवार को नमन किया एवं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।
मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को स्मरण करते हुए कहा,'हमारी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को उनकी वर्षगांठ पर नमन।' पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पुष्प चढ़ाकर पूर्व पीएम इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की। गौरतलब है कि स्व. इंदिरा गांधी की मंगलवार को 102वीं वर्षगांठ है। इंदिरा गांधी का जन्म उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद (अब प्रयागराज) में 19 नवंबर 1917 को हुआ था। उन्हें देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न और अंतरराष्ट्रीय सम्मान लेनिन नीस अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है।

16-09-2019
मुंगेली के साहित्यकार नंदराम यादव को दिया गया दिनकर सम्मान

मुंगेली। राष्ट्रीय कवि संगम छत्तीसगढ़ प्रांत इकाई द्वारा आयोजित 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस एवं दिनकर जयंती समारोह के वार्षिक अधिवेशन रायपुर में पूर्व न्यायाधीश एवं कुलपति हिदायतुल्ला राष्ट्रीय विधि विवि चंद्रभूषण बाजपेयी व राजभाषा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. विनय कुमार पाठक के मुख्य आतिथ्य,  विधायक बृजमोहन अग्रवाल की अध्यक्षता तथा वरिष्ठ साहित्यकार इलाहाबाद  प्रद्युम्ननाथ तिवारी करुणेश, भोपाल की  ममता बाजपेयी, राष्ट्रीय कवि संगम के अध्यक्ष जगदीश मित्तल, बांकेलाल गौण, अशोक बत्रा एवं महेश शर्मा के विशिष्ट आतिथ्य में मुंगेली जिले के साहित्यकार नंदराम यादव को वरिष्ठ साहित्यकार दिनकर सम्मान से सम्मानित किया गया। इसी तरह जिले के साहित्यकार महेंद्र कुमार यादव को कनिष्ठ साहित्यकार सम्मान दिया गया। सम्मान मिलने पर जिले के सभी साहित्य समितियों तथा साहित्यकार डॉ. प्रेमकुमार वर्मा, कृष्ण कुमार भ_, डॉ. अजीज रफीक, प्रोफेसर अशोक गुप्ता, कवि देवेंद्र सिंह परिहार, जगदीश देवांगन,  कल्पना कौशिक,  देव गोस्वामी,  ज्वाला कश्यप,  राकेश गुप्त निर्मल, रमेश चौहान, मनोज श्रीवास्तव आदि ने बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

 

17-04-2019
इलाहाबाद विवि के छात्र बना रहे थे बम, हॉस्टल के 58 कमरे सील

इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश की इलाहाबाद पुलिस उस वक्त हैरान रह गई जब उसने  इलाहाबाद केन्द्रीय विश्वविद्यालय में छापा मारा और वहां के एक हॉस्टल से  बम और हथियार बनाने के उपकरण बरामद किए। पुलिस ने यहां के 58 कमरों को सील कर दिया है और कई गाडिय़ां भी जब्त की है। पुलिस ने हॉस्टल    के कई कमरों की गहन तलाशी ली और अवैध रूप से कब्जा जमाए छात्रों को  बेदखल किया। जानकारी के अनुसार पुलिस ने आज इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद्र हॉस्टल में छापा मारा। इस हॉस्टल के 58 कमरों में अवैध छात्रों का कब्जा था। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सबको भगाया। उन कमरों से पुलिस ने नकली पिस्टल, देशी बम बनाने के लिए सुतली व बारुद बरामद किए। पुलिस ने अनुमान लगाया है कि छात्र यहां बम बना रहे थे। इसके साथ ही सैकड़ों अवैध कूलर व अन्य सामान भी पुलिस ने जब्त किए हंै। पुलिस ने हॉस्टल को खाली कराने के लिए अर्धसैनिक बलों की मदद ली। इधर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने हॉस्टल में बढ़ रहे अपराध पर नाराजगी जताई है। हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेकर मामले की सुनवाई शुरू की। हाईकोर्ट ने 22 अप्रैल को प्रमुख सचिव गृह, कमिश्नर, डीएम व एसएसपी प्रयागराज से कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है। ज्ञात हो कि पिछले रविवार को रोहित शुक्ला नाम के एक छात्र की गोली मारकर हत्या हुई थी। पुलिस अधीक्षक (नगर) बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि घटना पीसीबी छात्रावास की है। यहां रविवार रात करीब ढाई बजे 21 वर्षीय रोहित शुक्ला को एक युवक ने गोली मार दी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804