GLIBS
12-08-2020
बड़ा हादसा टला, फोर्स ने किया आईईडी को किया डिफ्यूज

राजनांदगांव। छग सीमा से लगे दर्रेकसा से मुरकुटोह रास्ते में नक्सलियों के द्वारा लगाए गए आईईडी को फोर्स ने सुरक्षित निकाला लिया। इस क्षेत्र में तीनों राज्यों की टीम सर्चिंग करती है। सुरक्षाबलों के आईईडी डिफ्यूज करने से एक बड़ा हादसा टल गया। मामला सालेकसा थाने का है।

11-08-2020
पुलिस नक्सली मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, नक्सली कैम्प ध्वस्त

कांकेर। जिला कांकेर एवं कोण्डागांव बाॅर्डर कांकेर सीमा के समीप क्षेत्र में पुलिस माओवादी मुठभेड़, नक्सली कैम्प ध्वस्त, 1 वर्दीधारी नक्सली का शव, 1 नग 303 रायफल, 1 नग 315 बोर रायफल, आईईडी, दवाईयां, नक्सली साहित्य एवं भारी मात्रा में अन्य दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद भी की गई है। जिला कांकेर/कोण्डागांव की बीएसएफ डीआरजी एसटीएफ की संयुक्त टीम थाना कांकेर, आमाबेड़ा क्षेत्रांतर्गत ग्राम मलांजकुडुम, पुसाघाटी, मातेंगा, उसेली, तुमसनार, डुवाल, एटेगांव व जिला कांकेर/कोण्डागांव के सीमावर्ती क्षेत्र में नक्सली गस्त सर्चिग पर रवाना हुई थी।

गस्त सर्चिंग के दौरान सोमवार कांकेर/कोण्डागांव के बाॅर्डर जिला कांकेर सीमा के समीप क्षेत्र में कांकेर पुलिस की डीआरजी और एसटीएफ टीम को देखकर पहले से घात लगाये नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से अंधाधुंध फायरिंग की। पुलिस पार्टी द्वारा भी आत्मरक्षार्थ जवाबी फायर किया गया। नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को भारी पड़ता देख जंगल/पहाड़ी का आड़ लेकर भाग गये।आईईडी, नक्सली साहित्य, दवाईयां एवं भारी मात्रा में अन्य दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद की।

 

 

12-07-2020
बम की चपेट में आने से गाय की मौत, न​क्सलियों ने पुलिस के लिए लगाई थी आईईडी

नारायणपुर। पुलिस को निशाना बनाने के लिए लगाए हुए आईईडी बम के फटने से गाय की मौत हो गई। गौरतलब है कि पुलिस पार्टी को निशाना बनाने नक्सलियों ने कोहकामेटा कुंदला मार्ग पर आईडी बम लगाया था। आईडी बम की चपेट में गाय के आने से उसकी मौत हो गई। अबूझमाड़ के कुंदला से कच्चापाल सड़क निर्माण कार्य के लिए पुलिस पार्टी सुरक्षा देने के लिए तैनात रहती है। एसपी मोहित गर्ग ने मामले की पुष्टि की है।

04-06-2020
पुलिस पार्टी को नुकसान पहुंचाने आईईडी लगाते एक मिलिशिया सदस्य गिरफ्तार

बीजापुर। बीजापुर जिले में इन दिनों पुलिस के द्वारा नक्सलियों के विरुद्ध चलाये जाने वाली ऑपरेशन मे आज बीजपुर पुलिस ने मिलिशिया सदस्य लक्ष्मण पूनम उम्र 20 वर्ष को आईडी लगाते हुए गिरफ्तार किया। बीजापुर एसपी कमलोचन कश्यप ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि यह पूरा ऑपरेशन पुलिस महानिरीक्षक बस्तर सुन्दरराज पी के कुशल मार्गदर्शन में चलाया जा रहा है। इसमें नक्सली विरोधी अभियान के तहत बुधवार को जिलाबल एवं छसबल की संयुक्त पार्टी एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों एवं स्थाई वारंट की तलाश में नीलावाया कोण्डापाल की ओर रवाना हुई थी।

कोंडापाल के जंगल से मिलिशिया सदस्य लक्ष्मण पूनम पुलिस पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए आईडी लगा रहा था। आईईडी लगाने की बात लक्ष्मण पूनम ने काबुल कर ली है। उसके पास से 1 नग आईईडी टिफिन बम, इलेक्ट्रिक स्विच, इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, वायर, इलेक्ट्रिक स्विच, नीला कलर का पिट्ठू जिसमें दैनिक उपयोगी की सामग्री थी जिसे पुलिस ने अपने कब्जे मे ली। आरोपी ने 5 वर्षों से जनमिलिशिया सदस्य के रूप में कार्य करने की बात कबूली, जिसे विधिवत गिरफ्तार कर उपरांत रिमांड पर न्यायालय बीजापुर पेश कीया गया।

07-04-2020
नक्सलियों के मंसूबों को जवानों ने किया नाकामयाब, आईईडी को किया निष्क्रिय

दंतेवाड़ा। एक बार फिर से नक्सलियों के नापाक इरादों को सुरक्षा बलों के जवानों ने नाकामयाब कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार कुआकोंडा एवं पालनार के बीच गोंगपाल में नक्सलियों द्वारा रोड में फ़ॉक्सहोल खोदा गया था। जहां नक्सली एक बड़ा आईईडी ब्लास्ट करना चाहते थे। लेकिन मुखबिर की सूचना के आधार पर नक्सलियों के मंसूबों पर जवानों ने पानी फेरा दिया और आईईडी को निष्क्रिय कर दिया।

07-03-2020
पुलवामा आतंकी हमले में बड़ा खुलासा, बम बनाने के लिए ऑनलाइन मंगाया था केमिकल 

नई दिल्ली। 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले में 40 जवान शहीद हुए थे। पुलवामा आतंकी हमले में एनआईए ने एक बड़ा खुलासा किया है। दरअसल पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने दो और व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक ने आईईडी बनाने के लिए रसायनों की ऑनलाइन खरीद की थी। बता दें कि पुलवामा आत्मघाती बम हमलावर ने विस्फोटकों से भरी एक कार सीआरपीएफ के काफिले में घुसाकर विस्फोट करा दिया था। 
एनआईए ने श्रीनगर के बाग-ए-मेहताब इलाके के वजीर-उल-इस्लाम (19) और पुलवामा के हकरीपुरा गांव के मोहम्मद अब्बास राठेर (32) को गिरफ्तार किया। इसके साथ ही इस मामले में गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों की संख्या अब पांच हो गई है।

इससे पहले एक पिता-पुत्री और आत्मघाती बम हमलावर के करीबी को दो अन्य अभियानों में गिरफ्तार किया गया था। एक अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक पूछताछ में इस्लाम ने खुलासा किया कि जैश-ए-मोहम्मद के पाकिस्तानी आतंकवादियों के निर्देश पर उसने आईईडी बनाने के लिए रसायन, बैटरियां और अन्य सामग्री खरीदने के लिए ऑनलाइन शॉपिंग एकाउंट का इस्तेमाल किया। उन्होंने बताया कि पुलवामा हमले की साजिश के तहत इस्लाम ने ये चीजें ऑनलाइन मंगाकर उन्हें स्वयं जैश आतंकवादियों तक पहुंचाया। अधिकारी ने कहा कि राठेर भी जैश के लिए काम करता है। उसने खुलासा किया है कि जब जैश आतंकवादी एवं आईईडी विशेषज्ञ मोहम्मद उमर अप्रैल-मई, 2018 में कश्मीर पहुंचा तब उसने ही उसे अपने घर में ठहराया था। उन्होंने बताया कि राठेर ने पुलवामा हमले से पहले कई बार जैश के आतंकवादियों आत्मघाती बम हमलावर आदिल अहमद डार, समीर अहमद डार और पाकिस्तानी कामरान को भी अपने घर में ठहराया था। 
 

12-02-2020
आईईडी की चपेट में आने से मवेशी की मौत

बीजापुर। माओवादियों के नापाक मंसूबे का शिकार एक बेजुबां हुआ है। माओवादियों के लगाए प्रेशर आईईडी की चपेट में आने से मवेशी की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि चारे के लिए भटकते हुए मवेशी पहुंचे थे। इस दौरान हैंडपंप के नज़दीक विस्फोट हुआ। घटना के संबंध में सीआरपीएफ के सीओ वीके चौधरी ने कहा कि हैंडपंप का इस्तेमाल जवान नहीं करते हैं। ग्रामीणों को नुकसान पहुंचाने के लिए माओवादियों ने आईईडी लगाया था। घटना बासागुड़ा थानाक्षेत्र के तर्रेम गांव की है।

14-01-2020
Breaking : आईईडी की चपेट में आया सीआरपीएफ का जवान, आई गंभीर चोट

बीजापुर। जिले में नक्सलियों के बिछाए हुए प्रेशर बम की चपेट में आने से एक जवान घायल हो गया। घटना चिन्नाकोडेपाल के पास की है, जहां आईईडी की चपेट में जवान आ गया। इस घटना में जवान के दोनों पैर में गम्भीर चोट आई है। जवान का नाम रामानुज यादव है और सीआरपीएफ बटालियन का है। जवान इलाहाबाद का रहने वाला है। 

13-01-2020
 बीएसएफ टीम ने बरामद किए दो आइईडी बम, किया निष्क्रिय

कांकेर। जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र छोटेबेठिया के मेटागांव जंगल से बीएसएफ की टीम ने तीन-तीन किलो के दो आइईडी बम बरामद की है। इसे मौके पर ही टीम ने डिफ्यूज कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार बीएसएफ की टीम सर्चिंग पर रवाना हुई थी। इस दौरान जवानों को सूचना मिली कि नक्सलियों ने दो जगहों पर जवानों को निशाना बनाने के लिए आईईडी प्लांट कर रखी है। सूचना पर पुलिस ने इलाके की सर्चिंग कर तीन-तीन किलो के दो आईईडी बम बरामद की। इसे मौके पर निष्क्रिय करते हुए इलाके में सर्च आपरेशन तेज कर दिया गया। 

 

02-01-2020
सुरक्षा बलों ने किया दो आईईडी बरामद, मौके पर किया डिफ्यूज

कांकेर। जिला पुलिस बल और बीएसएफ की संयुक्त टीम को एक बड़ी सफलता मिली है। नक्सलियों द्वारा जवानों को नुकसान पहुंचाने लगाए गए दो आईईडी को टीम ने बरामद कर निष्क्रिय कर दिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कोयलीबेड़ा थानांतर्गत बीएसएफ और जिला पुलिस बल की संयुक्त टीम नक्सल गस्त सर्चिंग के लिए रवाना हुई थी। इस दौरान ग्राम डूटागांव और गुड़ेबेडा के बीच टीम पहुंची थी। उसी वक्त सड़क मार्ग के किनारे पर टीम को वायर दिखाई पड़ा। सर्च करने पर नक्सलियों द्वारा जवानों को नुकसान पहुंचाने छुपा कर रखे दो आईईडी बम मिला। इसे पुलिस ने बरामद कर निष्क्रिय कर दिया है और इलाके में सर्च अभियान तेज कर दिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सड़क मार्ग में मिले वायर के बाद टीम लगातार सर्च कर रही थी। इसके लिए टीम ने डॉग स्क्वायर्ड की भी मदद ली और टीम ने दो बम बरामद किये।
 

वर्जन
जिला पुलिस बल और बीएसएफ की संयुक्त टीम रवाना हुई थी। इसी दौरान दो आईईडी को टीम ने बरामद किए, जिसे मौके पर डिफ्यूज कर दिया गया है।
उमेश पाटिल, थाना प्रभारी कोयलीबेड़ा

 

22-12-2019
उग्रवादियों की साजिश नाकाम, हाईवे पर आईईडी बरामद, बम स्क्वायड ने किया निष्क्रिय

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर आतंकियों की नापाक हरकत का पर्दाफाश हुआ है। सुरक्षाबलों ने रविवार को बारामुला-उड़ी हाईवे पर सैन्य वाहन उड़ाने की साजिश को नाकाम किया। दरअसल, जम्मू-कश्मीर में बारामुला-उड़ी हाईवे पर रोड ओपनिंग पार्टी को संदिग्ध वस्तु मिली। इसके बाद पार्टी ने तत्काल प्रभाव से बम स्क्वायड को मौके पर बुलाया। जांच करने पर पता चला कि वह संदिग्ध वस्तु आईईडी थी। इसे बम स्क्वायड ने निष्क्रिय कर दिया। बताया जा रहा है कि बारामुला के बाहरी इलाके में यह आईईडी लगाया गया था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आईईडी 13 किलो की थी। आईईडी इतनी शक्तिशाली थी कि विस्फोट होने पर पुलवामा दोहराया जा सकता था। काफी जान माल का नुकसान होता। घटना के बाद पूरे इलाके में सतर्कता बढ़ा दी गई। सैन्य प्रतिष्ठानों तथा अन्य महत्वपूर्ण स्थलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई। हाईवे पर भी जगह-जगह नाके लगाकर चेकिंग की गई। विशेष तौर से उत्तरी और दक्षिणी कश्मीर से गुजरने वाले रास्ते पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804