GLIBS
23-09-2020
विधायक पंहुचे प्रभा मांझी के निवास, ग्रन्थपाल पद पर चयन होने पर दी शुभकामनाएं

बीजापुर। छग लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजिय ग्रंथपाल के पदों के परीक्षा अंतिम परिणाम घोषित कर दिए हैं। इसमें बीजापुर निवासी प्रभा मांझी के चयन होने से जिले के लोगों में हर्ष है।बुधवार को बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी ने प्रभा मांझी और उनके परिवार वालों से मिलकर ग्रंथपाल पद पर चयन होने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने प्रभा मांझी के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। विधायक विक्रम के साथ कांग्रेस जिला अध्यक्ष लालू राठौर,जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियाम,जिला पंचायत सदस्य नीना रावतिया,वीरेंद्र ठाकुर मौजूद थे।

 

22-09-2020
विधायक और नगर पंचायत अध्यक्ष ने किया नगर का पदैल भ्रमण,नगरवासियों से कहा- अनावश्यक बाहर न निकले

गुंडरदेही। नगर पंचायत अर्जुंदा के थाना प्रभारी कुमार गौरव साहू, विधायक गुंडरदेही कुंवर सिंह निषाद तथा नगर पंचायत अध्यक्ष अर्जुंदा चंद्रहास देवांगन ने अर्जुंदा का भ्रमण किया। इस दौरान नगर के लोगों को लॉक डाउन का सख्ती से पालन करने तथा मास्क के उपयोग की अपील की। गौरतलब है कि क्षेत्र के विधायक तथा संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद ने पैदल भ्रमण कर लोगों से कहा कि कोरोना महामारी में अनावश्यक रूप से घर से बाहर ना निकले। थाना प्रभारी कुमार गौरव साहू अपने स्टाफ के साथ मार्च पास्ट किया। उन्होंने नगर की जनता से कहा कि कोरोना काल में अनावश्यक रूप से घर से बाहर ना निकले तथा मास्क, सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहे।

 

शब्बीर रिजवी की रिपोर्ट

 

20-09-2020
Breaking : विकास निकले खुली गाड़ी में जनता से अपील करने, कहा-मिलकर कोरोना को देंगे मात

रायपुर। संसदीय सचिव व विधायक विकास उपाध्याय रविवार को खुली गाड़ी में सवार होकर निकले हैं। वे रायपुर में लागू होने जा रहे लॉक डाउन को सफल बनाने जनता से अपील कर रहे हैं। खुली गाड़ी में सवार होकर लाउडस्पीकर में एलाउंस कर वे जनता से कोरोना की चेन को तोड़ने में सहभगिता निभाने की अपील कर रहे हैं। विकास उपाध्याय 21 सितंबर रात 9.00 बजे से लेकर 28 सितंबर तक लागू होने वाले सम्पूर्ण लॉक डाउन का पालन कराने रविवार सुबह से सोमवार तक शहर भर में घूमेंगे। उन्होंने कहा है कि, बढ़ते संक्रमण की गति को कम करने जनता का साथ जरूरी है। इसलिए जनता के समक्ष आकर अपील कर रहे हैं।

19-09-2020
Video: कोविड केयर सेंटर का विधायक ने किया निरीक्षण, मरीजों से पूछा हालचाल

जांजगीर चांपा। चंद्रपुर विधानसभा के अंतर्गत ग्राम धौराभाठा के आश्रम को कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। इसका निरीक्षण करने शनिवार को विधायक रामकुमार यादव पहुंचे। सेंटर में कोरोना संक्रमितों से का हालचाल जाना। संक्रमितों के लिए उनके दैनिक जरूरत की सामग्री भी उपलब्ध कराई। विधायक ने कोविड केयर सेंटर के अधिकारी,कर्मचारियों को मरीजों की बेहतर देखभाल के निर्देश दिए। 

 

16-09-2020
इंद्रावती के जल का सदुपयोग कर बस्तर को स्वर्ग बनाने के लिए बोधघाट परियोजना जरूरी : भूपेश बघेल

रायपुर/जगदलपुर। अब बोधघाट परियोजना के निर्माण से क्षेत्र में सिंचाई क्षमता 366580 हेक्टेयर क्षेत्र का विकास होगा। इस परियोजना के विकास के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर क्षेत्र के सांसद, विधायक और गणमान्य जन प्रतिनिधियों की बैठक लेकर कहा कि इंद्रावती नदी के जल का सदुपयोग कर बस्तर को खुशहाल और समृद्ध बनाने के लिए बोधघाट परियोजना जरूरी है। प्रदेश और बस्तर संभाग की महत्वपूर्ण बहु उद्देशीय परियोजना इंद्रावती नदी पर प्रस्तावित बोधघाट परियोजना है। लगभग 22 हजार 653 करोड़ रुपए की लागत से बोधघाट परियोजना का विकास दंतेवाडा जिले के गीदम विकासखण्ड के पर्यटन स्थल बारसुर के समीप किया जाना है। परियोजना का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है कि वर्तमान में लगभग 13 प्रतिशत सिंचाई क्षमता है। इस परियोजना के निर्माण से क्षेत्र में सिंचाई क्षमता 366580 हेक्टेयर क्षेत्र का विकास होगा।

इससे दंतेवाड़ा जिले से 51 गाँव, 218 बीजापुर और सुकमा के 90 गाँव कुल 359 गाँव लाभान्वित होंगे। इसके अलावा परियोजना से 300 मेगावाट विद्युत उत्पादन होगा। ओद्यागिक उपयोग हेतु 500 मि.घ.मी. जल, पेयजल के लिए 30 मि.घ.मी. पानी का उपयोग किया जा सकेगा। मत्स्य पालन में 4824 टन वार्षिक लक्ष्य के साथ पर्यटन के लिए भी एक स्थल का विकास किया जाएगा। इस परियोजना के निर्माण से 42 गाँव और 13783.147 हेक्टेयर जमीन डुबान क्षेत्र में आ रहे है। इसमें वन भूमि 5704 हेक्टेयर, निजी भूमि 5010 हेक्टेयर और शासकीय भूमि 3069 हेक्टेयर  के करीब आ रही है।मुख्यमंत्री ने कहा प्रभावितों के लिए पुनर्वास व व्यवस्थापन की बेहतर व्यवस्था किया जाएगा। विस्थापितों को उनकी जमीन के बदले बेहतर जमीन, मकान के बदले बेहतर मकान दिए जाएँगे। प्रभावितों के पुनर्वास एवं व्यवस्थापन के बाद ही उनकी भूमि ली जाएगी। कोशिश होगी, इस प्रोजेक्ट की नहरों के किनारे की सरकारी जमीन प्रभावितों को मिले ताकि वह खेती किसानी बेहतर तरीके से कर सके।

13-09-2020
 दुर्ग शहर की दुर्दशा के लिए प्रशासनिक नहीं विधायक की राजनीतिक असफलता जिम्मेदार : अजय वर्मा

दुर्ग। विधायक  दुर्ग निगम के लिए कोई धनराशि सरकार से नहीं ला पाए ऊपर से विधायक के लगातार राजनीतिक हस्तक्षेप से दुर्ग निगम का हाल बेहाल है। दुर्ग निगम नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने कहा कि विधायक अरुण वोरा 5 दिन लगातार पानी नहीं मिलने को प्रशासनिक असफलता बताते हैं। जबकि वास्तविकता यह है कि अपने चहेतों को काम दिलाने के लिए विधायक लगातार निगम काम में हस्तक्षेप करते रहते हैं व राजनीतिक विद्वेष वश अधिकारियों को उल्टे सीधे निर्देश देते रहते हैं। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि विधायक का मूल कार्य है कि नगर निगम दुर्ग में विकास कार्य के लिये प्रदेश सरकार से धनराशि लाएं किंतु अभी तक सड़क निर्माण नाली निर्माण इत्यादि विकास कार्यों के लिए फूटी कौड़ी से प्रदेश सरकार से नहीं ला पाए हैं, उल्टे पूर्ववर्ती निगम सरकार के द्वारा जो राशि  शहर विकास के लिए लाई गई थी, उसे प्रदेश सरकार ने वापस मंगा लिया जबकि पड़ोस में भिलाई निगम से वह राशि वापस नहीं मंगाई गई।

नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने कहा कि विगत 6 माह से पेयजल व्यवस्था दुर्ग शहर में चरमरा गई है,जिसका मूल कारण अमृत मिशन के सुचारू रूप से चल रहे कार्यों को विधायक के राजनीतिक दबाव के चलते आनन-फानन में पूरे शहर को खोदना पड़ा जिसका परिणाम यह रहा कि विगत एक माह में दो बार पेयजल आपूर्ति पांच, पांच दिनों तक बाधित रहा उनके अनावश्यक हस्तक्षेप के चलते दुर्ग शहर के नागरिकों को न गरमी में पानी मिला और ना ही बरसात में गड्ढा युक्त सड़कों में चलते फिरते बना,बरसात में मध्य शहर खुदवाने से शहर के नागरिक गड्ढों में गिरकर  दुर्घटनाग्रस्त होते रहे। भाजपा पार्षद दल के नेता अजय वर्मा सहित गायत्री साहू,काशीराम कोसरे,चंद्रशेखर चंद्राकर, नरेंद्र बंजारे,देवनारायण चंद्राकर,चमेली साहू,लीना देवांगन, मनीष साहू ,नरेश तेजवानी, अजय वैद्य, ओमप्रकाश राकेश सेन, पुष्पा वर्मा, शशि साहू, कुमारी साहू एवं हेमा शर्मा ने संयुक्त रूप से विधायक से मांग करते हुए कहा कि आप मूलभूत सुविधाओं के लिए प्रदेश सरकार से  राशि लेकर आए ताकि शहर का बुनियादी विकास हो सके भाजपा पार्षद दल ने यह कहा कि दुर्ग निगम के इतिहास में कभी 1500 खंभों में लाइट बंद नहीं रही विधायक के लगातार हस्तक्षेप से महापौर और उनकी परिषद के निगम कार्य से रुचि समाप्त हो गई है । अतः आप महापौर उनकी परिषद को स्वतंत्र रूप से काम करने दे,जिससे शहरवासी राहत महसूस कर सकें।

12-09-2020
बाजारों सहित सभी 60 वार्डो को किया जाएगा सैनिटाइज, विधायक, महापौर के सामने इंदिरा मार्केट में किया गया छिड़काव

 दुर्ग। कोरोना संक्रमण को देखते हुए शनिवार को नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा इंदिरा मार्केट क्षेत्र में 300-300 लीटर वाले सैनिटाइजर मशीन से बाजार क्षेत्र को सैनिटाइज किया गया। इस मौके पर महापौर धीरज बाकलीवाल, स्वास्थ्य प्रभारी हमीद खोखर, संदीप वोरा, सहा.अभियंता जितेन्द्र समैया, कर्मशाला अधीक्षक बीरेन्द्र ठाकुर एवं अन्य उपस्थित थे। इस संबंध में महापौर ने बताया शहर में लगातार कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। इसे देखते हुए नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा शहर के समस्त बाजारों जहां अधिक संख्या में भीड़ हो रही है। उसे सैनिटाइज करने का कार्य प्रारंभ किया गया। उन्होंने कहा प्रत्येक दिन शहर के समस्त बाजार जहाॅ-जहाॅ भीड़ होती हैं। जैसे महिला समृद्धि, महाराजा चौक, पद्मनाभपुर, सिकोला बाजार, बोरसी हाट बाजार आदि जगहों पर रोज सैनिटाइज किया जावेगा। इसके अलावा समस्त 60 वार्डो के प्रमुख मार्गो और गलियों में भी जाकर मशीन से क्षेत्र को सैनिटाइज की जाएगी। उन्होंने बताया जिन वार्डो के मोहल्ले में कोरोना पाॅजिटिव मिल रहे हैं। निगम का कर्मचारी वहाॅ जाकर उनके घरों और आस-पास क्षेत्रों में सीकर के माध्यम से दवाई का छिड़काव कर रहे हैं। शहर की आम जनता को संक्रमण से बचाने नगर पालिक निगम दुर्ग हर संभव प्रयास कर रही है। आम जनता को भी इसमें सहयोग देना होगा। उन्होनें कहा संक्रमण से बचाव के लिए स्वयं को आगे आना होगा, इसके लिए वे सैनिटाइज का उपयोग बार-बार करें, बाहर से आने के बाद हाथ अवश्य धोएं, अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने काढ़ा अवश्य पीएं, सोशल डिस्टेंस का पालन करे, सामाजिक दूरियाॅ बनाकर रखें, और मास्क अवश्य लगाएं।

12-09-2020
श्रीराम पर्यटन परिपथ वाहन को विधायक ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

कोरिया। श्रीराम पर्यटन परिपथ वाहन को ग्राम कठौतिया से विधायक गुलाब कमरो ने शनिवार को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। शासन स्तर पर राम वन गमन मार्ग के लिए निकले प्रचार प्रसार के लिए श्रीराम वन गमन परिपथ वाहन का विधायक गुलाब कमरो ने नागपुर में स्वागत कर ग्रामीणों को शासन की महती योजना से अवगत कराया। वहीं प्रोजेक्टर से ग्रामीणों को राम वन गमन पर आधारित फिल्म भी दिखाई गई। छत्तीसगढ़ शासन के पर्यटन मंडल द्वारा संचालित श्रीराम वन गमन परिपथ वाहन के माध्यम से विधानसभा क्षेत्र भरतपुर-सोनहत के समस्त श्रीराम गमन मार्ग क्षेत्र में यह वाहन रायपुर से शुभारंभ होकर जनकपुर तक भ्रमण कर राम वनगमन पर्यटन परिपथ से आमजनों को अवगत करेगा। छत्तीसगढ़ शासन के पर्यटन मंडल द्वारा संचालित श्रीराम पर्यटन परिपथ वाहन विधानसभा क्षेत्र भरतपुर-सोनहत के समस्त श्रीराम गमन मार्ग क्षेत्र में विचरण कर जन-जागरूकता एवं शासन की योजनाओं की जानकारी आम जनता को प्रदान करने के लिए संचालित किया जा रहा है, जिसका शुभारंभ भरतपुर-सोनहत क्षेत्र के ग्राम कठौतिया से क्षेत्रीय विधायक गुलाब कमरो ने हरी झंडी दिखाकर वाहन को रवाना कर किया गया। इस दौरान जनपद अध्यक्ष डॉ. विनय शंकर सिंह,जनपद उपाध्यक्ष राजेश साहू,  मनेन्द्रगढ़ नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी एके निगम, जनपद सदस्य रोशन सिंह, सरपंच परमेश्वर सिंह, बाबूराम, ऋषि कुमार,संतोष सिंह, उप सरपंच कृष्णा राय सहित कांग्रेस पदाधिकारी,कार्यकर्ता व ग्रामीणजन उपस्थित थे।

11-09-2020
लोगों की जान से बड़ा पैसा नहीं, सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी रही और कोरोना कैपिटल बन गया रायपुर : बृजमोहन

रायपुर। विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोविड-19 के प्रकरण व अस्पतालों की दुर्दशा, कोविड मरीजों के इलाज के संबंध में राज्य सरकार पर तीखे आरोप लगाए हैं। बृजमोहन ने कहा है कि, सरकार कोरोना के लिए व्यवस्था करने के बजाए हिसाब किताब में लगी हुई है। यह समय हिसाब किताब का नहीं बल्कि लोगों की जान बचाने का है। छत्तीसगढ़ के लोगों की जान से बड़ा पैसा नहीं है। उन्होंने कहा है कि,शासन को कोरोना की व्यवस्था करने के लिए सभी प्रकार की लिमिट हटाकर हॉस्पिटल को जो जरूरत हो, जितना पैसा चाहिए वहन करना चाहिए। युद्धस्तर पर इलाज, बेड व व्यवस्थित क्वारेंटाइन सेंटर की व्यवस्था करनी चाहिए। प्रदेश के सभी निजी हॉस्पिटलों के 50 प्रतिशत बेड सरकार को कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के लिए निर्धारित कर लेना चाहिए। इन हॉस्पिटलों में गरीब मरीजों का इलाज का भार शासन को वहन करना चाहिए।

सरकार व्यवस्था करने में पूरी तरह लचर और अक्षम साबित हुई है। पूरे प्रदेश में कोरोना मरीजों के लिए बेड की कमी हो गई है। अस्पतालो में जगह नहीं है। मुख्यमंत्री की होम क्वारेंटाइन सुविधा व निशुल्क दवा की घोाषणा सिर्फ बयानो में  ही है। बी और सी सीमट्मेटिक मरीज के लिए कही बेड नहीं है। प्रदेश की जनता ऑक्सीजन व वेंटीलेटर के आभाव में दम तोड़ रही है। शासन बताने की स्थिति में नहीं है कि, उन्होंने जनता के लिए कहां-कहां ऑक्सीजन व वेंटिलेटर की व्यवस्था की है, कितनी-कितनी की है। अब सरकार मरीज व मौत का आंकड़ा भी छिपा रही है। अनेक जिलों से जो मरीजों व मृतकों का आंकड़ा जारी होता है, प्रदेश से जारी आंकड़ों में उससे कम व भिन्न रहता है। प्रदेश में जनता के मन में भय व दहशत व्याप्त हो गया है। लोग अव्यवस्था को देख भय में टेस्ट कराने से भाग रहे हैं और यही मौत की वजह बनते जा रही है। 5 माह सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी रही।  शासन और प्रशासन ने इस दिशा में कोई ठोस कार्यवाही नहीं की। इस कारण राजधानी कोरोना कैपिटल में तब्दील हो गई है। प्रदेश के नागरिक इलाज के लिए दर-दर भटक रहे हैं, हॉस्पिटलों में बेड नहीं है और सरकार बयानबाजी में उलझी हुई है।

 

10-09-2020
विधायक और कलेक्टर ने कोविड हास्पिटल में किया भोजन

बीजापुर। विधायक विक्रम मंडावी और कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने गुरुवार को बीजापुर स्थित कोविड-19 हास्पिटल का निरीक्षण किया। वीडियो कॉल के माध्यम से कोविड मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल जाना। विधायक एवं कलेक्टर ने कोविड हास्पिटल में मरीजों के लिए तैयार होने वाले भोजन का भी जायजा लिया और स्वयं भी भोजन किया। साथ ही भोजन व्यवस्था में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाएगी ऐसा निर्देश भी संबंधित कर्मचारियों को दिया गया। गौरतलब है की बुधवार को जगदलपुर विधायक भी कोविड सेन्टर का खाना खाकर संपूर्ण व्यवस्था का जायजा लिया था।

 

10-09-2020
कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से विधायक कुलदीप जुनेजा हुए क्वारेंटाइन,फेसबुक पर की अपील

रायपुर। राजधानी में बढ़ते कोविड-19 संक्रमण के बीच प्रदेश कांग्रेस से लगातार मंत्रियों, विधायकों और नेताओं के कोरोना की जद में आने की खबर सामने आ रही है। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने से वे अस्पताल में या होम आइसोलेशन में रहकर उपचार करा रहे हैं। साथ ही पॉजिटिव के संपर्क में आने पर एहतियातन होम क्वारेंटाइन हो रहे हैं। गुरुवार को रायपुर उत्तर विधायक कुलदीप जुनेजा के होम क्वारेंटाइन होने की जानकारी मिली है। उन्होंने अपने फेसबुक एकाउंट पर पोस्ट कर यह जानकारी देने के साथ ही लोगों से अपील भी की है। उन्होंने बीते दिनों कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने की वजह से अगले 10 दिनों तक क्वारेंटाइन में रहने का फैसला किया है। विधायक जुनेजा ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि, पूरी सतर्कता बनाए रखें और छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन करें। चर्चा के दौरान विधायक जुनेजा ने कहा कि, उन्होंने जो जानकारी साझा की है वह सही है और वे अगले 10 दिनों तक सावधानी बरतेंगे।


बता दें कि, विगत दिनों सुरक्षा अमले, स्टॉफ और विधानसभा सत्र में शामिल कुछ विधायकों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर विधानसभा अध्यक्ष सहित प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और मंत्रियों ने एहतियातन होम क्वारेंटाइन पर रहने का फैसला लिया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तो एहतियातन जांच भी कराई थी, उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम की मंगलवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर वे बालाजी हॉस्पिटल में भर्ती हुए। इससे पहले एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। उन्होंने एम्स में अपना इलाज कराया। बुधवार को एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष भावेश शुक्ला कोरोना पॉजिटिव मिले। भावेश ने होम आइसोलेशन पर रहकर उपचार कराने की बात कही थी। बुधवार देर रात प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने भी जानकारी दी थी कि, उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोई गंभीर लक्षण नहीं है, इसलिए वे भी होम आइसोलेशन पर रहकर उपचार करा रहे हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804