GLIBS
29-11-2020
वाटर टूरिज्म को बढ़ावा देने झुमका बांध में हो रही बोटिंग, दूर-दूर से पहुंच रहे पर्यटक

कोरिया। झुमका बांध की खूबसूरती को बढ़ाने और इसे पर्यटन का प्रमुख केंद्र बनाने कलेक्टर एसएन राठौर के मार्गदर्शन में यहां सौंदर्यीकरण का काम किया जा रहा है। इसका जायजा लेने  कलेक्टर राठौर झुमका बांध पहुंचे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को शीघ्र काम पूरा करने के निर्देश दिए जिससे बोटिंग के अतिरिक्त पर्यटन व मनोरंजन की गतिविधियों शुरू की जा सके।  प्रदेश का पहला मछलीनुमा फिश एक्वेरियम कोरिया के झुमका बांध में सौंदर्यीकरण के साथ ही मत्स्य विभाग ने फिश एक्वेरियम भी बनाया गया है, जो अपने आप में अद्भुत है। यह मछली के आकार का एक्वेरियम तैयार किया गया है। जल्द ही इसके लोकार्पण के बाद यहां लोग अनोखी मछलियों के संसार को देख सकेंगे।

झुमका के नाम से प्रसिद्ध रामानुज प्रताप सागर के किनारे हो रहे सौंदर्यीकरण के कार्य के अंतर्गत यहां पार्क तैयार किया जा रहा है। इससे आमजन आकर सुंदर नजारों के बीच परिजनों, मित्रों के साथ समय बिता सकें। यहां बच्चों के मनोरंजन और खेल के लिए भी सुविधाएं उपलब्ध हैं। साथ ही यहां चैपाटी भी बनाई जा रही है, जहां छत्तीसगढ़ी व्यंजन का भी स्वाद ले सकेंगे। यहीं नहीं झुमका बांध में वाटर टूरिज्म को बढ़ावा देने बोटिंग शुरू की गई है। जहां स्थानीय लोगों के अलावा अम्बिकापुर और अनूपपुर आदि जिलों से भी लोग आकर बांध की सुंदरता और बोटिंग का लुत्फ उठा रहे हैं। पर्यटकों को आकर्षित करने  फ्लोटिंग रेस्टोरेंट और स्टे की सुविधा की भी योजना बनाई जा रही है। झुमका किनारे योग करने को प्रोत्साहित करने खुला योग रूम भी बनाया है, जो स्वस्थ जीवनशैली को बढ़ावा देने जिला प्रशासन का अभिनव प्रयास है। जल्द ही झुमका बांध सौंदर्यीकरण का काम पूरा हो जाएगा, जिससे यहां पर्यटन गतिविधियों में तेजी आएगी।

29-11-2020
पुरुष नसबंदी पखवाड़े का दूसरा चरण 4 दिसंबर तक   

रायपुर/बैकुंठपुर। स्वास्थ्य विभाग की ओर से परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से पुरुष नसबंदी पखवाड़े का आयोजन 21 नवंबर से 4 दिसंबर तक किया जा रहा है। प्रथम चरण में पुरूष नसबंदी के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया अब द्वितीय चरण जो कि 28 नवंबर से 4 दिसंबर तक चलेगा इसको सेवा वितरण सप्ताह के रूप में मनाया जाएगा। इस दौरान लक्षित पुरुषों की नसबंदी करके परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी बढाने का प्रयास किया जाएगा। यह अभियान परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी, जीवन में लाए स्वास्थ्य और खुशहाली के नारे के साथ चलाया जा रहा है।

एनएफएचएस-4 के आंकड़ों की बात करें तो कोरिया जिले में परिवार नियोजन के स्थायी साधनों में पुरूषों की भागीदारी महिलाओं की अपेक्षा लगभग शून्य है एनएफएचएस-4 के अनुसार जहाँ एक ओर 34.4% महिलाएं महिला नसबंदी अपनातीं हैं वहीँ पुरूषों द्वारा पुरूष नसबंदी अपनाने की दर 0.1%  है। इस बड़े अंतर को कम करने के प्रयास में ही तमाम जागरूकता कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं इसी क्रम में पुरुष नसबंदी पखवाड़े का भी आयोजन किया जा रहा है। सीएमएचओ डां रामेश्वर शर्मा ने बताया ,”पखवाड़े के अंतर्गत समस्त गतिविधियों का संचालन कोविड-19 से संबंधित सावधानियां एवं सलाह का पालन करते हुए किया जा रहा है। इस दौरान मुख्यत शारीरिक दूरी, मास्क पहनने, संक्रमण की रोकथाम का पूर्णता पालन के निर्देष स्वास्थ कर्मचारियो को दे दिए गये है। नसबंदी के तीन माह उपरांत जांच में शुक्राणु संख्या शून्य पाए जाने पर हितग्राही को प्रमाण पत्र भी प्रदान किया जाएगा। “ पुरुष नसबंदी पखवाड़े की जानकारी देते हुए जिला सलाहकार डां प्रिंस जायसवाल ने बताया, “इस पखवाड़े का उद्देश्य पुरुष नसबंदी के बारे में समाज में जागरूकता लाना और पुरुषों में नसबंदी को स्वीकार करने के लिए प्रेरित करना है। द्वितीय चरण में सेवा वितरण सप्ताह शुरु किया जा रहा है। इसमें संभावित लाभार्थियों की पुरुष नसबंदी की जाएगी। “

मोबिलाइजेशन गतिविधियां है जारी
इस पखबाड़े के दौरान अधिक से अधिक प्रचार प्रसार किया जा रहा जिसमें व्यक्तिगत चर्चा और पुरुष नसबंदी के फायदे संभावित हितग्राहियों को बताये जा रहे है। साथ ही पुरुष नसबंदी से संबंधित मिथकों को दूर करने के लिए परामर्श भी दिया जा रहा है। कोविड 19 के कारण प्रचार प्रसार के लिए डिजिटल माध्यम के प्रयोग को बल दिया जा रहा है। प्रचार प्रसार के दौरान कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरी सावधानी रखी जाएगी कहीं भी अधिक भीड़ एकत्रित ना हो इसका भी ध्यान रखा जा रहा है।

27-11-2020
विकासखण्ड भरतपुर में शासन की फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन का किया निरीक्षण

कोरिया। सरगुजा संभाग की आयुक्त जेनेविवा किण्डो अपने दो दिवसीय कोरिया भ्रमण के दौरान पहले दिन विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम नरकेली में बने गौठान के निरीक्षण पर पहुंची। गौठान में उन्होंने वर्मी कम्पोस्ट, वर्क शेड, चारागाह एवं गौठान में मवेशियों के स्वास्थ्य परीक्षण की जानकारी ली। कोरिया भ्रमण के पहले दिन संभाग आयुक्त किंडो ने जिला कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सभी जिला अधिकारियों से मुलाकात की तथा धान खरीदी की तैयारी के संबंध में अपर मुख्य सचिव द्वारा ली गयी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में भी शामिल हुई। जिला भ्रमण के दूसरे दिन संभाग आयुक्त ने जिले के विकासखण्ड भरतपुर का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने ग्राम लरकोड़ा में बने गौठान का निरीक्षण कर महिला समूह व गोठान समिति के अध्यक्ष व सदस्यों से चर्चा कर गोबर खरीदी व वर्मी कम्पोस्ट खाद निर्माण की जानकारी प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने ग्राम देवगढ और जनुवा में स्टाॅप डेम, फसल कटाई, वन अधिकारी पट्टा वितरण एवं कृषि विभाग द्वारा संचालित शांकभरी योजना से लाभान्वित हितग्राहियों से चर्चा कर आवश्यक मार्गदर्शन प्रदान किया। उल्लेखनीय है कि सरगुजा संभाग आयुक्त अपने दो दिवसीय कोरिया प्रवास पर शासन की फ्लैगशिप योजनाओं का निरीक्षण कर जिले में क्रियान्वयन की जानकारी प्राप्त कर रही हैं।

 

24-11-2020
पढ़ई तुंहर दुआर: बच्चों के लाउडस्पीकर वाले चचा दे रहे शिक्षा के साथ कोविड से बचने का ज्ञान

कोरिया। कोरोना महामारी के बीच शिक्षा की लौ जलाए रखने के उद्देश्य से विकासखण्ड मनेन्द्रगढ़ के दूरस्थ ग्रामीण अंचल के संकुल कछौड़ के एक कर्तव्यनिष्ठ और होनहार सीएसी पंचम रोहिणी के द्वारा 9 ग्राम पंचायतों के कुल 22 केन्द्रों में पढ़ाई हमर पारा के अंतर्गत मोहल्ला क्लास का संचालन किया जा रहा है। यहां पंचम के द्वारा बच्चों को लाउडस्पीकर के माध्यम से पढ़ाया जा रहा है। कोविड महामारी के समय विद्यालय से दूर रहने के कारण अध्यापन कार्य में होने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए एक सार्थक और अभिनव पहल करते हुए बच्चों को अध्यापन कार्य से जोड़ा गया है। इसके लिए अपने पंचायतों में घूम-घूम कर एसएमसी और पीएलसी के सक्रिय सदस्यों की बैठक आयोजित कर पंचम विद्यार्थियों से सहमति प्राप्त कर मोहल्ला क्लास संचालन के लिए प्रेरित करते हैं।
लाउड स्पीकर के जरिये क्लास लेने में यहां उन्हें गांव के पालक, जनप्रतिनिधि और पढ़े-लिखे नवयुवकों का भी सहयोग बढ़-चढकर प्राप्त हुआ। कोरोना महामारी से बचाव के लिए बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर का उपयोग, बार-बार हाथ धोने के साथ-साथ एक नए तरीके से अध्यापन कार्य से जोड़ा गया। इससे लोग अपने बच्चों को भी सोशल डिस्टेंसिग का महत्व बताते हुए नियमित रूप से मोहल्ला क्लास में अध्यापन कार्य के लिए भेजने लगे हैं। बच्चे भावनात्मक लगाव के कारण अब पंचम को चच्चा कहकर बुलाते हैं। पंचम रोहणी के द्वारा गांव में पंच, सरपंच,सचिव और शिक्षा सारथी के सहयोग से सफलतापूर्वक कक्षा का संचालन किया जा रहा है।

 

23-11-2020
अब तक कोरिया जिले के 3190 लोगों ने दी कोरोना को मात

कोरिया। कोविड-19 के संक्रमण से रोकथाम एवं बचाव के लिए जिला प्रशासन सतत रूप से प्रयासरत है। कलेक्टर एसएन राठौर के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा अथक मेहनत करते हुए मरीजों का उपचार किया जा रहा है। इसी का परिणाम है कि कोरिया जिले के 3190 लोगों ने कोरोना को मात दे दी है। वहीं कलेक्टर के निर्देश पर जिले के स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रतिदिन मेडिकल बुलेटिन जारी किया जा रहा है। इसके अनुसार कुल 20 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये गये हैं। इसमें से 2 मरीज कोविड हास्पिटल तथा 18 मरीज होम आइसोलेशन में थे। जिले में अब तक कुल 3642 कोरोना पाजीटिव मरीजों की पहचान की गई है। वहीं आज की स्थिति में कुल 1073 सैंपल कलेक्शन किया गया,जिसमें कुल 23 एक्टिव केस की पहचान की गई है, तथा जिले में 201 एक्टिव केस का इलाज जारी है। साथ ही 188 मरीजों का होम आइसोलेशन में उपचार किया जा रहा है। कोविड अस्पताल, बैकुण्ठपुर में 100 बेड एवं 7 आईसीयू, एचडीयू 10 आईसीयू, 6 वेंटीलेटर उपलब्ध हैं।

आज की स्थिति में यहां भर्ती मरीजों की संख्या 13 तथा 87 बेड उपलब्ध हैं। इसी तरह एसईसीएल हास्पिटल, चरचा में बेड की संख्या 50 है। यहां भर्ती मरीजों की संख्या 0 तथा 50 बेड उपलब्ध हैं। होम आइसोलेट किए गए कोरोना संक्रमित मरीजों को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा निशुल्क होम केयर आइसोलेशन किट का वितरण किया जा रहा है। साथ ही मरीजों से वीडियो कॉल के जरिए बातचीत कर उनकी देख-रेख की जा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले में लगातार कोरोना सर्वे भी संचालित जारी रखा गया है। जिले में अब तक जिले में आरटीपीसीआर के द्वारा 11138, ट्रूनाट के द्वारा 6781 तथा रैपिड एंटिजन के द्वारा 39223 टेस्ट किये जा चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना मरीजो को लाने के लिए एंबुलेंस की सुविधा भी दी जा रही है।

 

23-11-2020
प्रदेश की कांग्रेस सरकार हर मोर्चे पर विफल हो रही है :विष्णुदेव साय

कोरिया बैकुण्ठपुर। भाजपा जिला कोरिया की प्रथम जिला कार्यसमिति की बैठक भाजपा जिला कार्यालय में आयोजित की गई। बैठक में प्रमुख रूप से प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय, संगठन महामंत्री पवन साय,प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंहदेव,बैठक प्रभारी पूर्व सांसद कमलभान सिंह, प्रदेश प्रशिक्षण प्रमुख दीपक पटेल, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्यामबिहारी जायसवाल, पूर्व केबिनेट मंत्री भैयालाल राजवाडे,जिला अध्यक्ष कृष्णबिहारी जायसवाल, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अनिल केशरवानी, पूर्व विधायक द्वारिका गुप्ता, पूर्व संसदीय सचिव चंपादेवी पावले, जिला पंचातय अध्यक्ष रेणुका सिंह, जिला उपाध्यक्ष शैलेष शिवहरे, देवेन्द्र तिवारी, विरेन्द्र सिंह राणा, लक्ष्मण राजवाडे, सुनीता सिंह, जिला महामंत्री डमरू बेहरा, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष फलेन्द्र सिंह, कोषाध्यक्ष राहुल सिंह, जिला मंत्री पंकज गुप्ता, मुकेश जायसवाल, दृगपाल सिंह, अनुपमा निशी, पिंकी सिंह, जिला संवाद प्रमुख बसंत राय, जिला कार्यालय मंत्री तीरथ राजवाड़े, नगर पंचायत अध्यक्ष धीरेन्द्र विश्वकर्मा, सरोज यादव, जनपद अध्यक्ष सौभाग्यवती सिंह, सोनमती उर्रे उपस्थित रहीं। बैठक में प्रदेशाध्यक्ष साय ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार हर मोर्चे पर विफल हो रही है, साथ ही प्रदेश के प्रत्येक व्यक्ति के उपर कर्जे का बोझ डालने का काम निरंतर कर रही है।

कांग्रेस सरकार के बनने के बाद पूरे प्रदेश में भ्रष्टाचार, कमिश्नखोरी का दौर तेजी से शुरू हो चुकी है। जिससे प्रदेश की जनता पूरी तरह से अपने आप को असहाय, ठगा सा महसूस कर रही है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को 2023 के लिए संकल्प दिलाया। संगठन महामंत्री पवन साय ने संगठनात्मक गतिविधियों पर चर्चा करते हुए जिला एवं मंडल पर हुए कार्यक्रमों की समीक्षा की। साथ ही आगामी संगठनात्मक कार्यक्रमों पर प्रकाश डाला। मंच संचालन जिला महामंत्री डमरू बेहरा एवं आभार प्रदर्शन जिला उपाध्यक्ष देवेन्द्र तिवारी ने किया। बैठक में प्रमुख रूप से जिला पंचायत सदस्य दृगपाल सिंह, सुनिता कुर्रे, महेन्द्र वैद्य, सुभाष साहू, अरशद खान, पवन शुक्ला, मणि प्रसाद, राजाराम, हनुमान प्रसाद, प्रितम सिंह, परमानंद यादव, लखसाय, धनेश यादव, ईश्वर राजवाड़े, संदीप साहू, विनोद गुप्ता, मनीष सिंह, सौरभ गुप्ता, धर्मेन्द्र पटवा, रामचरित द्विवेदी, रघुनंदन यादव, नरेन्द्र साहू, जनार्दन साहू, अभिमन्यु मृदुली, अरूण जायसवाल, आशीष वैद्य, गोपाल राजवाड़े, दिनेश चेरवा, संदीप गुप्ता, धीरेन्द्र साहू, विमलचंद चेरवा, कपिल जायसवाल, राजेन्द्र चक्रधारी, रिता आईच, अंजली जायसवाल, ओमेश्वरी राजवाड़े, कामतानाथ तिवारी सहित भारी संख्या में कार्यकर्तागण उपस्थित थे।

 

 

22-11-2020
गौ अष्टमी पर गौ रक्षा वाहिनी और देवराहा बाबा समिति ने की गौ माताओं की पूजा 

कोरिया। बैकुंठपुर में गौ रक्षा वाहिनी और देवराहा बाबा समिति के सदस्यों ने गौ अष्टमी पर प्रेमा बाग, बाल मंदिर और विभिन्न जगहों पर विचरण कर रही गौ माताओं की पूजा की गई। इसके साथ ही मिष्ठान, गुड़, चना और रोटी खिलाकर गौ अष्टमी मनाई गई। इसमें देवराहा बाबा समिति  के संरक्षक शैलेश शिवहरे, देवराहा बाबा समिति के अध्यक्ष आशीष शुक्ला, राजेश साहू, रवि सिंह, धीरेंद्र मिश्रा, वीरेंद्र सिंह, संतोष यादव, महेंद्र पांडे, मजय तिवारी, विजय नाथ तिवारी,  सुरेंद्र सिंह, अनुराग दुबे, प्रसंग जयसवाल, पीयूष राजवाड़े, जगत, पिंकू सिंह, संतोष यादव, डब्लू, पिंकू राजवाड़े, सुशील राजवाड़े, संतोष यादव, रूपम राजवाड़े, जगत प्रसाद, नंद कुमार यादव, पुजारी मिश्रा, अभिषेक दुबे, चंद्रप्रकाश राजवाड़े और गुलशन राजवाड़े उपस्थित थे।

17-11-2020
प्रेमिका की चाहत में की 8 वर्षीय बालक की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

कोरिया। पुलिस ने 8 वर्षीय बालक के अपहरण व हत्या की गुत्थी को 24 घंटे में सुलझा लिया। पुलिस ने बालक के शव को बरामद कर लिया।  एक 23 वर्षीय आरोपी सहित दो नाबालिग सहयोगी को भी किया गिरफ्तार कर लिया। कोरिया पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह ने बताया कि प्रार्थी राकेश चौधरी खोगापानी थाना का रिपोर्ट दर्ज कराई कि मेरे नाबालिग लड़का ऋषि चौधरी उर्फ चरका उम्र 8 वर्ष 13 नवंबर की शाम 6 बजे से लापता है। आशंका है कि किसी व्यक्ति ने उनके पुत्र को अपहरण कर लिया है। प्रार्थी के शिकायत पर थाना झगड़ा खार में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह के द्वारा मामला की गंभीरता से देखते हुए एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोरिया डॉ.पंकज शुक्ला के दिशा निर्देश पर टीम गठित कर पतासाजी में पुलिस लगी।
शक के आधार पर आरोपी बबलू यादव से पूछताछ में बताया कि मृतक की मां लीलावती से उसका प्रेम संबंध था। लीलावती को अपने साथ 7 से 8 माह पूर्व भगा कर ले गया था लेकिन बाद में लीलावती इसके साथ रहने से मना कर दी तथा अपने पति युवक बच्चे के पास वापस लौटना चाहती थी। इसीलिए उससे छोड़ कर वापस अपने मायके में रह रही थी।

आरोपी को पता चला कि ललिता अपने पति से बातचीत कर रही है इसी से बदला लेने के लिए लेने के लिए मृतक के चचेरा भाई को पैसा का प्रलोभन देकर बुलवाया और अपने मोटरसाइकिल में बैठा कर अपने ईटा भट्ठा के पास लाया और नाबालिग बालक के साथ मिलकर पानी में डालकर उसे डूबा का हत्या कर दी। वहीं पर बने नाली में लाश को डालकर घास एवं मीठी से ढक दिया परंतु आरोपी को यह भय था कि नाबालिग बालक किसी को बता देगा इस डर से दूसरे दिन 14 नवंबर को दो नाबालिग दोस्त को बुलाया और इसी के लाश को प्लास्टिक में सीमेंट के बोरे में भरकर शहवानी टोला मशकूर के तालाब के पास नीम के पेड़ के नीचे तीनों मिलकर गड्ढा खोदकर बोरा सहित ऋषि का शव दफन कर दिया। आरोपी निशानदेही पर करवाई दंडाधिकारी की उपस्थिति में शव को बरामद कर लिया गया। प्रकरण में धारा 366 ,302, 120 बी, 101,34 ताहिर जोड़कर उपरोक्त धारा में आरोपी एवं नाबालिग बालकों को गिरफ्तार कर लिया गया

 

16-11-2020
सीएमएचओ पहुंचे कोविड-19 हॉस्पिटल, कोरोना वारियर्स के साथ मनाई दिवाली

कोरिया। सीएमएचओ डॉ रामेश्वर शर्मा ने कोविड-19 हॉस्पिटल पहुंचकर कर ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों के साथ दीपावली का त्यौहार मनाए। ड्यूटी पर तैनात कोरोना वारियर्स से मिलकर उन्हें दीपावली की शुभकामनाएं दी और मिठाइयां उपहार भेंट की। उन्होंने दीप प्रज्वलित कर लेकर दीपावली का त्यौहार मनाए। इस अवसर पर डॉ चिकन्जुरी, डॉ शालिनी शर्मा, डॉ योगेंद्र चोहान, डॉ. भास्कर एवं स्टाफ शामिल रहे।

09-11-2020
कोरिया जिले का मौसम हल्दी जैसी फायदेमंद फसलों के अनुकूल है, कहा सीईओ तूलिका प्रजापति ने

रायपुर/बैकुण्ठपुर। कोरिया जिले का मौसम हल्दी जैसी मूल्यवान फसलों के लिए अच्छा है, इसके व्यवसायिक उत्पादन से आने वाले समय में गौठान समितियों के लिए आर्थिक उन्नति के नए अवसर बनेंगे। उक्ताषय के विचार जिला पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी तूलिका प्रजापति ने पोड़ी ग्राम पंचायत में गौठान के समीप हल्दी की फसल का अवलोकन करने के बाद व्यक्त किए। जिला पंचायत सीइओ तूलिका प्रजापति ने सोनहत जनपद पंचायत अंतर्गत कई ग्राम पंचायतों का भ्रमण कर गौठानों का निरीक्षण किया। यहां उन्होने कृषि विज्ञान केंद्र के अधिकारियों के साथ हल्दी की फसल का बारीक मुआयना किया और स्थानीय कृषकों से बातचीत की। विदित हो कि सुराजी गांव योजना के तहत ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कृषि आधारित कार्यों को गौठान ग्रामों में विशेष महत्व के साथ आगे बढ़ाया जा रहा है।

इसी अनुक्रम में कोरिया जिले के विभिन्न गौठानों का संचालन करने वाली समितियों की आय बढ़ाने के लिए नगद फसल हल्दी की वृहद स्तर पर बोआई की गई है। इसके साथ ही गौठान ग्रामों में कृषक समूहों को भी इस महती परियोजना से जोड़ा गया है। इसलिए कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों के देखरेख में लगभग 50 एकड़ क्षेत्र में इस बार हल्दी की फसल लगाने की पहल की गई है। फलोद्यानों क बीच भी हल्दी की फसल लगाई गई है और टपक सिंचाई योजना के तहत इसे बढ़ाया गया है। फसल का अवलोकन करने के लिए सोनहत जनपद के ग्राम पंचायतों में जाकर सीइओ ने स्थानीय जनों से इस फसल के उत्पादन के बारे मेे बातचीत की।

ग्राम पंचायत पोड़ी और कुषहा मे सीइओ जिला पंचायत के भ्रमण के दौरान हल्दी फसल की देखरेख कर रहे। किसानों ने बताया कि इस बार फसलों की स्थिति काफी अच्छी है। गौठान समितियों के साथ इसे लगाने वाले आदिवासी कृषकों का अच्छा आर्थिक लाभ मिलने की उम्मीद है। ग्रामीणों से चर्चा करने के बाद जिला पंचायत सीइओ ने बताया कि गौठान ग्राम क्रमशः सोरगा, जामपानी, कोडिमार छरछा, रोझी, कुशाह व अमहर में गौठान समितियों दवारा चयनित शासकीय भूमि के साथ साथ ग्राम उमझर, दुधनिया, बरबसपुर इत्यादि में कृषकों की सामूहिक बाड़ियों में भी हल्दी की फसल लगाई गई है। जिला पंचायत सीइओ के साथ भ्रमण में उपस्थित कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक  राजपूत के अनुसार 50 एकड़ क्षेत्रफल में अच्छी फसल होने से लगभग 360 से 400 टन तक हल्दी बीज और प्रकंद प्राप्त होने का अनुमान है। इससे प्राप्त उपज का दो तिहाई हिस्सा बीज के रूप में विक्रय कर 60 से 70 लाख रुपए की आमदनी हो सकेगी। साथ ही अगले वर्ष 140 से 150 हेक्टेयर क्षेत्रफल में अन्य गौठान समितियों में भी इसे रोपित कर व्यापक स्तर पर हल्दी उत्पादन किया जा सकेगा। इसके अलावा पत्तियों से भी तेल निकाल कर अतिरिक्त लाभ की ओर समितियां बढ़ रही हैं। बाजार में हल्दी के तेल की कीमत 500 से 600 रुपए प्रतिकलोग्राम होती है। एक हेक्टेयर से 130 से 150 किलो पत्तियां प्राप्त होंगी और जब इसकी पत्तियां पीली पड़ जाती है, तभी इसका तेल निकाला जाएगा। भ्रमण के दौरान जनपद पंचायत के कार्यक्रम अधिकारी, एनआरएलएम की ब्लाक कोआर्डिनेटर सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी व स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

08-11-2020
विधायक ने 11 बैगा किसानों को बांटे निशुल्क स्प्रिंकलर पाइप सेट और सिंचाई किट

कोरिया। भरतपुर सोनहत विधायक ने भरतपुर विकासखंड में विभिन्न विकास कार्यों के लिए भूमि पूजन कर 31 लाख रुपए की सौगात दी है। विधायक ने ग्राम पंचायत जनकपुर में बाजार शेड निर्माण कार्य के लिए भूमिपूजन किया। तहसील कार्यालय में साइकिल स्टैंड निर्माण कार्य के लिए भूमिपूजन किया। विधायक गुलाब कमरो ने विभिन्न ग्राम पंचायतों के 11 बैगा किसान परिवारों को निशुल्क स्प्रिंकलर पाइप सेट एवं सिंचाई किट का वितरण किया। विधायक ने 40 अन्य आदिवासी किसान परिवारों को भी 90 प्रतिशत सब्सिडी के साथ पाइप व किट का वितरण किया।

 

07-11-2020
बेहतर कार्ययोजना और क्रियान्वयन का प्रमाण है कोरिया जिले में बने 73 नए ग्राम पंचायत व पीडीएस भवन

रायपुर/कोरिया। कोरिया जिले में 73 नवीन ग्राम पंचायत भवन सह पीडीएस भवन का निर्माण किया गया है, जो एक बेहतर कार्ययोजना और क्रियान्वयन का प्रमाण बना है। बता दें कि कलेक्टर एसएन राठौर की कुशल रणनीति से कोरिया जिले में नवीन ग्राम पंचायत भवन के साथ ही पीडीएस भवन का निर्माण किए जाने से शासन की गाइलाइन के अनुसार नवीन ग्राम पंचायत भवन और पीडीएस भवन के निर्माण के लिए जो राशि प्रस्तावित थी, उसमें 3 करोड़ से भी अधिक राशि की बचत की गई है। कलेक्टर एसएन राठौर ने इस अभिनव उपलब्धि पर पंचायत और राजस्व विभाग की पूरी टीम को बधाई व शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि यह बेहतर टीम वर्क का नतीजा है। गुणवत्ता का ध्यान का रखते हुए ग्राम पंचायत सह पीडीएस भवन के निर्माण में 3 करोड़ 14 लाख 72 हजार रुपए तक राशि बचत की गई है, जिसका उपयोग जिले के विकास के लिए किया जाएगा। शासन की गाइलाइन के अनुसार नवीन ग्राम पंचायत भवन और पीडीएस भवन के निर्माण के लिए प्रस्तावित राशि कुल 17 करोड़ 57 लाख 98 हजार रुपए थी, सुनियोजित कार्ययोजना के आधार पर कार्य करते हुए इस लक्ष्य को 14 करोड़ 43 लाख 26 हजार रुपए में पूरा कर लिया गया है। सुव्यवस्थित ग्राम पंचायत कार्यालय एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानें एक साथ बनने से ग्रामीणों को एक ही जगह पर अपना राशन मिलने लगेगा, जिससे समय की बचत तो होगी ही साथ ही ग्राम पंचायत सार्वजनिक वितरण प्रणाली पर पूरी नजर रख सकेगी।

जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तूलिका प्रजापति ने इस संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि शासन की गाइलाइन के अनुसार नवीन ग्राम पंचायत भवन और पीडीएस भवन के निर्माण के लिए प्रस्तावित राशि कुल 17 करोड़ 57 लाख 98 हजार रुपए की राशि 73 निर्माण कार्यों के लिए दी गई। इसमें पंचायत भवन और पीडीएस भवन के अलग-अलग निर्माण करने पर उक्त राशि व्यय होती। कलेक्टर एसएन राठौर से इस कार्य के शीघ्र व गुणवत्तापूर्ण निर्माण के लिए अधिकारियों से चर्चा कर कार्ययोजना तैयार की गई। इसमें तय किया गया कि पंचायत भवन और पीडीएस भवन का एक साथ निर्माण किया जाए। राजस्व विभाग के अधिकारियों के द्वारा स्थल का चिन्हांकन किया गया। स्थल चिन्हांकन करते हुए इस बात का पूरा ध्यान रखा गया कि पंचायत भवन एवं पीडीएस दुकान तक पहुंच ग्रामीणों के लिए सुविधाजनक हो। इसके बाद भवन के निर्माण के दौरान भी सभी एसडीएम एवं सीईओ जनपद पंचायत के द्वारा लगातार मॉनिटरिंग की गई ताकि गुणवत्तापूर्ण निर्माण हो। स्वयं कलेक्टर राठौर ने भी निरंतर भ्रमण कर निर्माण के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस योजना के अनुरूप काम करते हुए 14 करोड़ 43 लाख 26 हजार रुपए की लागत से पंचायत भवन एवं पीडीएस दुकान बनाने का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804