GLIBS
04-08-2020
स्वास्थ्य मंत्री ने किया अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में वायरोलॉजी लैब का उद्घाटन

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में वायरोलॉजी लैब का शुभारंभ किया। उन्होंने संस्थान के सभी स्टॉफ और क्षेत्रवासियों को बधाई देते हुए कहा कि इस उच्च स्तरीय लैब की स्थापना से कोरोना वायरस के साथ ही अन्य बीमारियों की जांच की जा सकेगी। कोरोना संकट के बाद भी अनेक रोगों की पहचान में यह लैब उपयोगी होगा। उल्लेखनीय है कि अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में दो करोड़ रूपए की लागत से बीएसएल-2 लैब स्थापित किया गया है। इस लैब में कोरोना वायरस की पहचान के लिए आरटीपीसीआर जांच 3 अगस्त की शाम से शुरू की गई है। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने शुभारंभ कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंस से संबोधित करते हुए कहा कि अंबिकापुर में इस सुविधा से अब कोरोना संक्रमण की जल्द पहचान कर पीड़ितों का तत्काल इलाज शुरू किया जा सकेगा। कोविड-19 के संदिग्धों की जांच रिपोर्ट अब एक ही दिन में मिल जाएगी। कोविड-19 के नियंत्रण के लिए सरकार लगातार जांच की क्षमता बढ़ा रही है। प्रदेश में रोजाना दस हजार सैंपलों की जांच का लक्ष्य है। हाल ही में आईसीएमआर से तीन और मेडिकल कॉलेजों बिलासपुर, अंबिकापुर एवं राजनांदगांव में आरटीपीसीआर जांच की अनुमति मिलने के बाद बिलासपुर और अंबिकापुर में जांच शुरू की जा चुकी है। राजनांदगांव में भी जल्द ही सैंपल जांच शुरू हो जाएगी।

सिंहदेव ने कहा कि कोविड-19 की रोकथाम के लिए विकासखण्ड मुख्यालयों में भवन चिन्हांकित कर कोविड केयर सेंटर की स्थापना के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने इन सेंटर्स में मरीजों के भोजन की गुणवत्ता और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने कहा। उन्होंने कोरोना संक्रमण रोकने अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से लोगों को मास्क पहनने एवं शारीरिक दूरी के पालन के लिए प्रोत्साहित करने कहा। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि कांकेर, कोरबा और महासमुंद में नए मेडिकल कॉलेज का काम जल्द शुरू किया जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार से 50-50 करोड़ रूपए की स्वीकृति प्राप्त हो गई है। राज्य शासन द्वारा भवन एवं अन्य संसाधन जुटाने जल्द कदम उठाए जाएंगे।

 

01-08-2020
नई शिक्षा नीति में जॉब मांगने वाले की बजाए नौकरी सृजन करने वाले पर दिया गया जोर: नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए स्मार्ट इंडिया हैकाथन के ग्रैंड फिनाले को संबोधित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि बीती सदियों में हमने दुनिया को एक से बढ़कर एक साइंटिस्ट, टेकनीशियन्स, तकनीकी उद्यमी दिए हैं। लेकिन आज तेजी से बदलती हुई दुनिया में भारत को अपनी वही प्रभावी भूमिका निभाने के लिए उतनी ही तेजी से बदलना होगा। उन्होंने कहा कि इसी सोच के साथ अब देश में इनोवेशन के लिए, रिसर्च के लिए, डिजाइन के लिए और विकास के लिए जरूरी इको सिस्टम तेजी से तैयार किया जा रहा है। अब क्वालिटी ऑफ इजुकेशन पर भारी जोर दिया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि ऑनलाइन एजुकेशन के लिए नए संसाधनों का निर्माण हो या फिर स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन जैसे ये अभियान, प्रयास यही है कि भारत की शिक्षा और आधुनिक बने, मॉडर्न बने, यहां के टैलेंट को पूरा अवसर मिले। उन्होंने कहा कि भारत की शिक्षा प्रणाली में अब व्यवस्थित सुधार हो रहा है, शिक्षा के प्रयोजन और विषय-वस्तु में सुधार का प्रयास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आप भी अपने आसपास देखते होंगे कि आज भी अनेक बच्चों को लगता है कि उनको एक ऐसे विषय के आधार पर जज किया जाता है, जिसमें उसका इंटरेस्ट ही नहीं रहा। मां-बाप का, रिश्तेदारों का प्रेशर होता है तो वो दूसरों द्वारा चुने गए सबजेक्ट्स पढ़ने लगते हैं। नई शिक्षा नीति के माध्यम से इसी अप्रोच को बदलने का प्रयास किया जा रहा है, पहले की कमियों को दूर किया जा रहा है। भारत की शिक्षा व्यवस्था में अब एक सिस्टेमैटिक रिफॉर्म, शिक्षा का इंटेंट और कंटेंट, दोनों को ट्रांसफ्राम करने का प्रयास है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे संविधान के मुख्य शिल्पी, हमारे देश के महान शिक्षाविद डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर कहते थे कि शिक्षा ऐसी होनी चाहिए जो सभी की पहुंच में हो, सभी के लिए सुलभ हो। ये शिक्षा नीति, उनके इस विचार को भी समर्पित है। उन्होंने आगे कहा कि ये शिक्षा नीति ‘नौकरी मांगने वाले’ के बजाए ‘नौकरी सृजन करने वाला’ बनाने पर जोर दिया गया है। यानि एक प्रकार से ये हमारे माइंडसेट में, हमारी अप्रोच में ही रिफॉर्म लाने का प्रयास है। उन्होंने कहा कि गरीबों को बेहतर जीवन देने के लिए जीवन की सुगमता का लक्ष्य हासिल करने में युवा वर्ग की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। गौरतलब है कि स्मार्ट इंडिया हैकाथन के 2017 में हुए पहले संस्करण में 42,000 विद्यार्थियों ने भाग लिया था। यह संख्या 2018 में बढ़कर एक लाख और 2019 में बढ़कर दो लाख हो गई थी। स्मार्ट इंडिया हैकाथन 2020 के पहले दौर में साढ़े चार लाख से अधिक विद्यार्थियों ने भाग लिया। 

30-07-2020
पर्यटन को बढ़ावा देने केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर करना होगा काम : ताम्रध्वज साहू

रायपुर। प्रदेश के पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू गुरुवार को भारती वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) की ओर से आयोजित दो दिवसीय टूरिज्म ई-कॉन्क्लेव के दूसरे दिन वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से शामिल हुए। कॉन्क्लेव का उद्देश्य कोविड-19 के बाद पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए किए जाने वाले नवाचारों एवं सुझावों पर चर्चा करना था। पर्यटन मंत्री साहू ने कहा कि कोविड-19 के बाद पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर कार्य करना चाहिए। उन्होंने सीमावर्ती राज्यों के पर्यटन विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर एक विशेष पैकेज लाने का सुझाव दिया, ताकि पर्यटक दोनों राज्यों के पर्यटन स्थलों का एक साथ भ्रमण करने की योजना बना सकें।
कॉन्क्लेव का शुभारंभ बुधवार को केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल ने किया था। ई-कॉन्क्लेव में उषा ठाकुर पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री मध्यप्रदेश,ज्योति प्रकाश पाणिग्रही पर्यटन मंत्री उड़ीसा, सीटी रवि पर्यटन मंत्री कर्नाटक, कड़ा कंपल्ली सुरेंद्रन पर्यटन मंत्री केरला, रोशन भाई अहिर पर्यटन मंत्री गुजरात,उपेंद्र बरार अतिरिक्त महानिदेशक पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार, छत्तीसगढ़ के पर्यटन सचिव अन्बलगन पी., फिक्की के पूर्व अध्यक्ष डॉ. ज्योत्सना सुरी, सौभाग्य महापात्र कार्यकारी निदेशक मेफेयर होटल्स एन्ड रिसॉर्ट्स सहित अध्यक्ष फिक्की पूर्वी क्षेत्र पर्यटन कमेटी शामिल थे।

30-07-2020
सोनिया गांधी को दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल में कराया गया भर्ती

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को गुरुवार को सर गंगाराम अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि सोनिया गांधी को रुटीन जांच के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सर गंगा राम अस्पताल के डॉ. डीएस राणा ने बताया वह यहां रुटीन चेकअप और स्वास्थ्य से जुड़ी जांच के सिलसिले में भर्ती हुईं हैं। उनकी स्थिति स्थिर है। सोनिया गांधी को अस्पताल में डिपार्टमेंट ऑफ चेस्ट एंड रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग के अध्यक्षा डॉ.अरुप कुमार बसु और उनकी टीम की देखरेख में भर्ती कराया गया है। कांग्रेस का कहना है कि वह रुटीन चेकअप के लिए अस्पताल में भर्ती हुई हैं। अस्पताल में भर्ती होने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के राज्यसभा सदस्यों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बैठक की थी।

 

30-07-2020
सीएस ने ली बैठक,सभी कोविड केयर सेंटर्स में बढ़ेंगे बेड, सात संस्थानों में आरटीपीसीआर जांच की सुविधा जल्द

रायपुर। मुख्य सचिव आरपी मंडल ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस से सभी संभागायुक्तों, कलेक्टरों और जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति, जांच और इलाज की व्यवस्था की समीक्षा की। कोविड-19 के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए सभी जिलों के कोविड केयर सेंटर्स में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कोरोना वायरस संक्रमण की पहचान के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच करने को कहा। साथ ही राजनांदगांव, बिलासपुर और अंबिकापुर मेडिकल कॉलेजों में भी जल्द जांच शुरू करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने ज्यादा जोखिम वालों की जांच प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए। उन्होंने विभिन्न तरह के को-मोरबिडिटी से पीड़ित लोगों की भी तत्परता से जांच कर सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराने को कहा है। कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए लोगों की तेजी से कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करने को कहा है। उन्होंने प्रभावित क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा टीम लगाकर एक्टिव सर्विलांस के भी निर्देश दिए। लॉक-डाउन वाले शहरों में नियमों का कड़ाई से पालन करवाने कहा। मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू ने कलेक्टरों को कोविड-19 के बिना लक्षण वाले मरीजों के लिए होम-आइसोलेशन की अनुमति के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में प्रयोग के तौर पर इसकी अनुमति दी जा सकती है। होम-आइसोलेशन की इच्छा जाहिर करने वाले ऐसे व्यक्तियों जिनके घर में पर्याप्त संख्या में कमरें और कम से कम दो शौचालय हों, उन्हें ही इसकी अनुमति दें। होम-आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को इसके दिशा-निर्देशों के बारे में विस्तार से जानकारी देने कहा। साथ ही उनसे नियमों का उल्लंघन न करने संबंधी घोषणा-पत्र भरवाकर होम-आइसोलेशन वाले घरों में इसकी जानकारी के लिए स्टीकर चस्पा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कलेक्टरों को ईद, रक्षाबंधन और गणेश पूजा में भीड़ रोकने और शारीरिक-सामाजिक दूरी बनाए रखने स्थानीय स्तर पर व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने को कहा।


स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह ने बताया कि कोविड-19 पर नियंत्रण और इसके पीड़ितों की पहचान के लिए जांच की क्षमता लगातार बढ़ाई जा रही है। इलाज और आइसोलेशन सुविधाओं का भी विस्तार किया जा रहा है। प्रदेश के तीन मेडिकल कॉलेजों राजनांदगांव, बिलासपुर और अंबिकापुर में स्थापित उच्च स्तरीय बीएसएल-2 लैब में आरटीपीसीआर जांच की अनुमति मिल गई है। इन संस्थानों में जल्दी ही सैंपल जांच शुरू हो जाएगी। इनके शुरू होने से प्रदेश में सात संस्थानों में आरटीपीसीआर जांच की सुविधा हो जाएगी। प्रदेश भर में ट्र-नाट मशीनों और रैपिड एंटीजन किट से भी जांच कर अधिक से अधिक लोगों को जांच के दायरे में लाया जा रहा है। स्वास्थ्य सचिव ने सभी जिलों में लक्षण वाले मरीजों के इलाज के लिए अस्पतालों में और बिना लक्षण वाले लोगों के उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर्स में पर्याप्त संख्या में बिस्तरों अन्य सुविधाओं का इंतजाम रखने को कहा है। उन्होंने कलेक्टरों को डॉक्टरों और नर्सिंग स्टॉफ के रहने की समुचित व्यवस्था करने को कहा। उन्होंने कोविड अस्पतालों में लगातार ड्यूटी कर रहे मेडिकल स्टॉफ को क्वारेंटाइन करने की व्यवस्था भी करने के निर्देश दिए। वीडियो कॉन्फ्रेंस में वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन, वन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी और संचालक, स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़ भी मौजूद थे।

06-07-2020
धान खरीदी केंद्रों में चबूतरा निर्माण का काम 15 जुलाई तक पूर्ण करने के निर्देश

रायपुर। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सभी जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने मनरेगा, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन और स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत प्रदेश भर में हो रहे कार्यों की विस्तृत जानकारी लेकर उनकी प्रगति की समीक्षा की। वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रमुख सचिव द्विवेदी के साथ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सचिव और मनरेगा आयुक्त टीसी महावर, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के संचालक नीलेश क्षीरसागर और स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के संचालक धर्मेश साहू भी मौजूद थे। प्रमुख सचिव द्विवेदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में मनरेगा अभिसरण से धान खरीदी केंद्रों में बन रहे पक्के चबूतरों के निर्माण में तेजी लाते हुए इन्हें 15 जुलाई तक पूर्ण करने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को दिए। उन्होंने प्रदेश की सभी 704 नवगठित ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन के निर्माण में भी तेजी लाने कहा। उन्होंने कहा कि पंचायत भवनों का जल्द निर्माण कर पूरे प्रदेश में गांधी जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर को लोकार्पण करना है। नई पंचायतों के गठन के एक साल के भीतर ही पंचायत भवन बन जाने से वे व्यवस्थित ढंग से काम कर सकेंगे। उन्होंने दूसरे चरण के तहत स्वीकृत गौठानों और चारागाहों के काम भी शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। साथ ही तीसरे चरण में बनने वाले गौठानों व चारागाहों के लिए जगह का चिन्हांकन भी करने कहा।

 

20-06-2020
चीन के खिलाफ जल्दबाजी में कोई फैसला नहीं लिया जाना चाहिए : चंद्रशेखर राव

नई दिल्ली। तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पड़ोसी देश चीन से निपटने के लिए अल्पकालिक और दीर्घकालिक रणनीति अपनाने का सुझाव दिया। राव ने कहा कि भारत की ओर से इस बारे में जल्दबाजी में कोई फैसला नहीं लिया जाना चाहिए और देश के हितों से समझौता नहीं किया जाना चाहिए। तेलंगाना राष्ट्र समिति के अध्यक्ष राव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए आयोजित सर्वदलीय बैठक के दौरान प्रधानमंत्री से ये बातें कहीं। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री की ओर से दिए गए बयान के हवाले से एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि चीन के आक्रामक रवैये का सामना करने के लिए हमें दीर्घकालिक और अल्पकालिक रणनीति तैयार करनी चाहिए।

किसी भी परिस्थिति में हमारी तरफ से कोई भी कदम जल्दबाजी में नहीं उठाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा जहां तक राष्ट्र की सुरक्षा और इसके हितों का सवाल है, इससे कोई समझौता नहीं करना चाहिए। हमारे मित्रवत देशों के साथ रणनीतिक साझेदारी करें। राव ने आगे कहा कि भारत के स्थिर और मजबूत शासन के कारण चीन इर्ष्या करता है, जो कि एक मजबूत अर्थव्यवस्था बनकर उभर रहा है।

17-06-2020
नए ग्राम पंचायतों में भवन निर्माण का हुआ भूमि पूजन

उदयपुर। पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से सरगुजा जिले के उदयपुर के समस्त नए ग्राम पंचायत का ऑनलाइन भूमि पूजन किया। इस अवसर पर उदयपुर जनपद अध्यक्ष भोजवंती सिंह, सिद्धार्थ सिंहदेव,जिला पंचायत सदस्य राजनाथ सिंह आदिवासी कांग्रेस जिलाध्यक्ष  ओमप्रकाश सिंह की उपस्थिति में ग्राम महेशपुर में विधिवत पूजा अर्चना कर नवीन पंचायत भवन का भूमि पूजन किया गया। सिद्धार्थ सिंहदेव ने मंत्री टीएस सिंहदेव बात की और बताया कि उदयपुर के नवीन ग्राम पंचायत भवन भूमि पूजन में घुचापुर में डीपी सिंह,भदवाही में जिला पंचायत सदस्य राधा रवि, बड़े गांव में कमलाकान्त, बुले में गुलाब सिंह और तेंदू टिकरा में हम स्वयं जाकर भमि पूजन कर रहे हैं। 

 

11-06-2020
कैबिनेट सचिव ने मुख्य सचिवों से कोरोना वायरस को लेकर जन स्वास्थ्य पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए की समीक्षा

रायपुर। केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने गुरुवार को दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए देश के सभी राज्यों के मुख्य सचिवोें और स्वास्थ्य सचिवों की बैठक लेकर कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से जन स्वास्थ्य पर प्रभाव को लेकर विस्तार से राज्यवार समीक्षा की। कैबिनेट सचिव ने राज्यों के ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने और स्वास्थ्य सेवाओं के अपग्रेडेशन पर विशेष बल दिया है। उन्होंने मुख्य सचिवों से आगामी माहों में कोविड-19 के रोकथाम, बचाव और इलाज के लिए चुनौतिपूर्ण काम करने को कहा है। उन्होंने कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए समुदाय में जागरूकता लाने के लिए विशेष प्रयास करने कहा है। कैबिनेट सचिव ने सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाकर जाने सोशल और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा है। संक्रमण के लक्षण दिखने पर तत्काल स्वास्थ्य परीक्षण और इलाज करने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। कैबिनेट सचिव ने राज्यों में प्राइवेट लेबोट्ररीस में कोरोना जांच सुविधाएं बढ़ाने पर जोर दिया है। उन्होंने सभी अस्पतालों में कोरोना के इलाज के लिए आने वाले लोगों को सही जानकारी देने की व्यवस्था सुनिश्चित करने तथा अस्पताल में पहुंचने वाले मरीजों का शीघ्र एवं सही इलाज की समुचित व्यवस्था करने को कहा है।


केबिनेट सचिव ने अधिकारियों से अस्पतालों में जन स्वास्थ्य को लेकर सर्तकता एवं संवेदनशीलता से सभी बीमारियों का तुरंत इलाज हो, ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। केबिनेट सचिव ने क्वारेंटीन सेंटरों में समुचित व्यवस्था, जिलों में कोविड अस्पताल, प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना के इलाज, प्रवासी श्रमिकों को रोजगार देने की व्यवस्था सार्वजनिक यातायात में सावधानी सहित अन्य मुद्दों पर मुख्य सचिवों से व्यापक विचार-विमर्श किया। उन्होंने अस्पतालों में आक्सीजन सप्लाई, पीपीई किट, डॉक्टर, स्टॉफ एवं नर्सिंग सेवाओं की क्षमता बढ़ाने पर भी जोर दिया है। गौवा ने अधिकारियों से कहा है कि संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी के सहयोग से प्रभावी नियंत्रण जरूरी है। उन्होंने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रालयों के अधिकारियों में बेहतर समन्वय रखने की भी बात कही। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में छत्तीसगढ़ से स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारिक सिंह और नगरीय विकास विभाग के सचिव अलरमेल मंगई डी भी शामिल हुईं। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी भाग लिया।

21-05-2020
एनएसयूआई ने वीडियो कॉन्फ्रेंस कर की भूपेश के संग जीतबो महामारी के जंग की समीक्षा

रायपुर। लॉक डाउन में एनएसयूआई के कार्यों की जानकारी लेने प्रदेश प्रभारी विशाल चौधरी और अध्यक्ष आकाश शर्मा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर पदाधिकारियों से चर्चा की। आकाश शर्मा ने बताया कि प्रदेश में एनएसयूआई के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने भूपेश के संग जीतबो महामारी के जंग के नाम से मुहिम चलाई है। इसमें जरूरतमंद लोगों को छात्र रसोई के माध्यम से पका हुआ खाना और सुखा राशन आम लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। लोगों को जागरुक करने के साथ साथ प्रदेश की हर गलियों में सैनिटाइज करने का काम एनएसयूआई की ओर से किया जा रहा है। मजदूरों को जो छत्तीसगढ़ पलायन करके आ रहे हैं उनको भी एनएसयूआई की ओर से मदद पहुंचाई जा रही है।
प्रदेश प्रवक्ता तुषार गुहा ने बताया कि इस मीटिंग में वीडियो कान्फ्रेंस से प्रदेश उपाध्यक्ष भावेश शुक्ला, राकेश पांडे, प्रदेश महासचिव अंकित तिवारी, प्रदेश सचिव हनी बग्गा, अरुणेश मिश्रा आदि मौजूद थे।

 

17-05-2020
ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस कर बैंक सखियों से की चर्चा 

रायपुर/सरगुजा। लॉक-डाउन के बावजूद मौजूदा कठिन परिस्थितियों में बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सरगुजा जिले के बैंक सखियों से चर्चा की। सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में बैंक सखियों से सीधे चर्चा कर उनके ओर से किए जा रहे कार्यों की विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि बैंक सखियां बैंकों की कमी वाले क्षेत्रों और दूरस्थ गांवों में लोगों तक पेंशन और अन्य रकम पहुंचाकर बैंकों की कमी पूरी कर रही हैं। उन्होंने कहा बुजुर्गों और दिव्यांगों को उनके घर पहुंचकर राशि वितरित करने से वे काफी राहत महसूस कर रहे हैं। बैंक सखियों की मौजूदगी से ग्रामीणों को छोटे-मोटे रकम के लेन-देन के लिए बार-बार बैंक जाने की जरूरत नहीं पड़ रही है। इससे उनके कीमती समय, धन और श्रम की भी बचत हो रही है। उन्होंने बैंक सखियों की हौसला अफजाई करते हुए कोविड-19 से बचाव के लिए पूरी सावधानी और सतर्कता बरतते हुए काम करने को कहा।

13-05-2020
परिवहन संघ और चैम्बर ऑफ कॉमर्स ने की प्रभारी मंत्री से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से चर्चा

राजनांदगांव। कोरोना आपदा के कारण शहर में हो रही समस्या एवं उनके निराकरण के लिए महापौर हेमा सुदेश देशमुख की पहल पर ट्रक यूनियन के अध्यक्ष हरमैल सिंग, चैम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष ज्ञान चंद बाफना, मिनी बस यूनियन के अध्यक्ष रईस अहमद शकील एवं यूनियन के अन्य सदस्यों ने प्रभारी मंत्री महोम्मद अकबर से नगर निगम में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से चर्चा की। महापौर से चर्चा के के बाद विडियो कॉन्फ्रेंसिंग में विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई जिसमें मुख्यत चैम्बर ऑफ काॅमर्स ने सामग्रियोें के लोडिंग, अनलोडिंग के समय में परिवर्तन की बात रखी। लोडिंग अनलोडिंग के समय को बदल के सुबह 6 से दोपहर 12 बजे तक करने की बात रखी गई।

जिस पर प्रभारी मंत्री ने उक्त विषय पर विचार कर समय बदलने का आश्वाशन दिया। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग एवं अन्य मुद्दे पर प्रशासन द्वारा शिथिलता बरतने की भी बात की गई। इसी प्रकार परिवहन संघ द्वारा रोड टैक्स में छुट के संबंध में बात कर के छूट को 3 महीने और बढ़ाने की बात रखी गई एवं बस चालकों को राहत प्रदान करते हुए बसों को पुनः शुरू करने की बात कही, जिस पर प्रभारी मंत्री द्वारा टैक्स, रोड टैक्स के मुद्दे को आगामी कैबिनेट में रखने की बात कही गई। लगभग 40 मिनट चली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की गई, प्रभारी मंत्री ने शहर की व्यवस्था की भी जानकारी ली एवं राजनांदगांव की जनता, व्यापारियों, दानदाताओं, समाजसेवी संस्थाओं एवं जनप्रतिनिधियों के सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। महापौर हेमा देशमुख के कार्यों की सराहना की एवं अन्य समस्याओं के भी जल्द निराकरण की बात कही।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804