GLIBS
22-09-2020
तीन गांव कंटेनमेंट जोन घोषित, जिला दण्डाधिकारी ने जारी किया आदेश

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने केंद्र सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन के जारी मार्गदर्शन के परिपालन में  डभरा तहसील के ग्राम बिनौधा वार्ड क्रमांक 2, 3 व 8, ग्राम केकराभाठा वार्ड नंबर 8 और मालखरौदा तहसील के ग्राम भड़ोरा वार्ड क्रमांक 1 में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित वार्ड के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कंटेंनमेंट जोन में अतिआवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे।

वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी, सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार की व्यवस्था के लिए पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को दायित्व सौंपा गया है। 

 

17-09-2020
चांपा सहित 3 गांवों को कलेक्टर ने किया कंटेनमेंट जोन घोषित, वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध 

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर यशवंत कुमार ने नगर पालिका चांपा के कुछ वार्डों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। उन्होंने केंद्र सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन के जारी मार्गदर्शन के परिपालन में चांपा नगर पालिका के वार्ड क्रमांक 15, 17, 24 व 27 चांपा तहसील के ग्राम बम्हनीडीह वार्ड क्रमांक 2 व 4, जैजैपुर तहसील के ग्राम भोथीडीह वार्ड नंबर 5 और ग्राम दतौद वार्ड क्रमांक 13 को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कंटेनमेंट जोन में अतिआवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार की व्यवस्था के लिए पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को दायित्व सौंपा गया है।

05-09-2020
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने राजधानी में देखा कोविड-19 के उपचार के लिए अपनाए जा रहे उपायों को

रायपुर। कोविड - 19 के लिये उपलब्ध कराये जा रहे सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवाओं एवं उनकी समीक्षा के लिये स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय की ओर से तीन विशेषज्ञों की टीम ने शनिवार को पं. जवाहर लाल नेहरू स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय एवं डॉ. भीमराव अम्बेडकर अस्पताल का निरीक्षण किया। टीम के सदस्यों ने कोविड - 19 मरीजों को उपलब्ध कराये जा रहे मानक उपचार, संक्रमण से बचाव और निगरानी, संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण का परीक्षण तथा चिकित्सकीय संस्थान में स्वास्थ्य सुविधाओं की मौजूदा स्थिति की जानकारी ली। केन्द्र से आये विशेषज्ञों की टीम में डॉ. गीता यादव (प्रोफेसर प्रिवेंटिव सोशल मेडिसीन, सफदरजंग अस्पताल), डॉ. अनुभव श्रीवास्तव (डिप्टी डायरेक्टर, एनसीडीसी दिल्ली), डॉ. अभिनव सिन्हा (साइंटिस्ट, एनआईएमआर दिल्ली) शामिल थे।

तीन सदस्यीय टीम ने टेली कंसल्टेंशन हब के माध्यम से राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों में स्थित विशेषीकृत कोविड - 19 अस्पताल के डॉक्टरों को ऑनलाइन वीडियो कॉल के जरिये अम्बेडकर अस्पताल के विशेषज्ञों द्वारा दी जा रही परामर्श एवं प्रशिक्षण की सराहना की। इसके साथ-साथ उन्होंने जैव चिकित्सा अपशिष्ट के उचित निपटारण के तरीकों को देखा। कोविड- 19 के गंभीर मरीजों के लिये उपलब्ध कराये जा रहे गहन चिकित्सा सुविधा एवं भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) द्वारा समय-समय पर जारी दिशानिर्देश के पालन के सम्बन्ध में विशेषज्ञों से जानकारी प्राप्त की। वायरोलॉजी लैब में सैम्पल एक्सट्रेक्शन , डॉनिंग एवं डॉफिंग एरिया, डाटा संग्रहण एवं सतत निगरानी के तरीकों के सम्बन्ध में विस्तार पूर्वक चर्चा की।इस अवसर पर अम्बेडकर अस्पताल के अधीक्षक डॉ. विनित जैन, डॉ. शिप्रा शर्मा,डॉ. एस. चंद्रवंशी, डॉ. आरके पंडा, डॉ. एनआर बेक, डॉ. ओपी  सुंदरानी, डॉ. संतोष सिंह पटेल, डॉ. संदीप चंद्राकर, डॉ. अल्ताफ युसूफ मीर एवं एनएचएम से डाटा मैनेजर आनंद साहू उपस्थित थे।

01-09-2020
जिले में 3 नए कंटेनमेंट जोन घोषित, आवागमन प्रतिबंधित, जिला दंडाधिकारी ने जारी किया आदेश

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने केंद्र सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन के जारी मार्गदर्शन के परिपालन में नगर पालिका चांपा के वार्ड क्रमांक 6, तहसील पामगढ़ के ग्राम चंडीपारा के वार्ड क्रमांक 2 और नगर पंचायत राहौद के वार्ड क्रमांक 2 में कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित नगर व गांव के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कंटेंनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी, सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

 

29-08-2020
कोविड-19 संक्रमित पाए जाने पर 5 नए कंटेनमेंट जोन घोषित, आवागमन प्रतिबंधित

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने भारत सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन  के जारी मार्गदर्शन के  परिपालन में नगर पालिका परिषद चांपा के वार्ड क्रमांक 13 व 21 जांजगीर-नैला के वार्ड क्रमांक 8, बलौदा तहसील के ग्राम कुरमा के वार्ड क्रमांक 12 व 13 और नगर पंचायत बलौदा के वार्ड क्रमांक 12 में कोविड-19 संक्रमित  व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित नगर व गांव के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।

कंटेंनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। 

27-08-2020
संस्थागत प्रसवों में हो रही है बढ़ोत्तरी प्रसूताओं को कोविड नियमों की पालन करने की भी दिलायी गई शपथ

रायपुर/बैकुंठपुर। कोरोना के बढ़ते प्रसार के मद्देनजर कोरोना संक्रमण से बचाव के बारे में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार माह जुलाई के दौरान कुल 1,305 संस्थागत प्रसव कराए गए हैं । संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शासन द्वारा कई योजनाएं चलायीं जा रही हैं, जिसमें निःशुल्क प्रसव पूर्व जाँच, जननी सुरक्षा योजना, जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम, मातृत्व सुरक्षा योजना सहित किलकारी आदि प्रमुख हैं, जिसके  परिणामस्वरूप जिले में सुरक्षित संस्थागत प्रसव को बढ़ावा मिल रहा है। जिले में माह जुलाई के दौरान विकासखण्ड बैकुंठपुर में 193, भरतपुर में 208, खडगवां में 312, मनेन्द्रगढ में 331, और सोनहत में 93, अर्बन क्षेत्र में 9, जिला मुख्यालय में 159 को मिलाकर कुल 1305 महिलाओं का संस्थागत प्रसव कराया गया है।

इसकी जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामेश्वर शर्मा ने बताया,” संस्थागत प्रसव में हो रही वृद्धि का मुख्य कारण जनसमुदाय में बढ़ी जागरूकता है। कोरोना काल के दौरान में सभी गर्भवती महिलाओं को मिलने वाली समस्त सुविधाओं का ध्यान रखा गया है, जिसमें मुफ्त दवाएं एवं खाद्य, इलाज, जरूरत पड़ने पर खून और सामान्य प्रसव के मामले में तीन दिन एवं सी-सेक्शएन(सीजेरीयन प्रसव) के मामले में सात दिनों तक मुफ्त पोषाहार, घर से केंद्र जाने एवं आने के लिए मुफ्त यातायात सुविधा दी जा रही हैं। इसी प्रकार की सुविधा सभी बीमार नवजात शिशुओं को भी दी जा रही हैं। “ उन्होंने बताया, कोरोना से बचाव के संबंध में प्रसूता एवं उसके परिजनों को विस्तार से जानकारी देते हुए प्रतिज्ञा लेकर कोविड अनुरूप व्यवहारों का पालन करने के लिए कहा गया है। इसमें बिना गले लगे एक दूसरे का अभिवादन करने, शारीरिक दूरी रखने, मास्क लगाने व आंख, नाक और मुंह को गंदे हाथों से नहीं छूने के वचनों के पालन के लिए कहा गया है। इसके अलावा श्वसन संबंधी सफाई व सुरक्षा का पालन करने, नियमित हाथों को धोने, तंबाकू का इस्तेमाल नहीं करने एवं अलग-अलग सतहों को नियमित कीटाणुरहित करना शामिल है।

संस्थागत प्रसव मातृएवं नवजात मृत्यु दर को घटाने में है सहायक  
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार बीते वर्ष 2018-19 में जिले में 94% संस्थागत प्रसव हुए, वहीं नेशनल फॅमिली हेल्थ सर्वे (NFHS-4) – 2015-16 के अनुसार जिले में केवल 70.6% संस्थागत प्रसव हुए थे। इन आंकड़ों से यह पता चलता है कि वर्ष 2015-16 की तुलना में वर्ष 2018-19 में जिले में संस्थागत प्रसवों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है।

24-08-2020
कोविड-19 संक्रमित पाए जाने पर 7 नए कंटेनमेंट जोन घोषित,जिला दंडाधिकारी का आदेश जारी

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने भारत सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन के जारी मार्गदर्शन के परिपालन में बलौदा तहसील के ग्राम खरमोरा, मालखरौदा तहसील के ग्राम कुरदी वार्ड नंबर 12, पामगढ़ तहसील के ग्राम सेमरिया (डिघोरा) वार्ड क्रमांक 6 व 7, नगर पंचायत चन्द्रपुर के वार्ड क्रमांक 7, डभरा तहसील के ग्राम गाड़ापाली व रामभांठा, अकलतरा तहसील ग्राम लिलवाडीह में कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित नगर व गांव के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कंटेंनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है।

अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी,सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक और अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार की व्यवस्था के लिए पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को दायित्व सौंपा गया है। स्वास्थ्य विभाग के एसओपी अनुसार पीपीई कीट, मास्क उपलब्ध करवाने, घरों का एक्टिव सर्विलांस, मेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जिम्मेदारी सीएमएचओ को दी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में सैनिटाइज के लिए नगर पालिका परिषद अकलतरा, नगर पंचायत बलौदा, अड़भार, राहौद, डभरा व चन्द्रपुंर के  सीएमओ को जिम्मेदारी दी गई है।

22-08-2020
कोविड-19 संक्रमित पाए जाने पर 8 नए कंटेनमेंट जोन घोषित,आने-जाने पर प्रतिबंध

 जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री यशवंत कुमार ने भारत सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन  के जारी मार्गदर्शन के  परिपालन में नगर पालिका परिषद सक्ती के वार्ड क्रमांक 4, 5 और 7 चांपा के वार्ड क्रमांक 2 व 9, जांजगीर-नैला के 18, 19 व 22, नगर पंचायत खरौद के वार्ड नंबर 3, चन्द्रपुर के वार्ड नंबर 1, 2, 8,10, 14 व 15, पामगढ़ तहसील के ग्राम खोरसी के वार्ड क्रमांक 13 और बलौदा तहसील के ग्राम बक्सरा में कोविड-19 संक्रमित  व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित नगर व गांव के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।कंटेनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे।

वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी, सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक और अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार की व्यवस्था के लिए पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को दायित्व सौंपा गया है। स्वास्थ्य विभाग के एसओपी अनुसार पीपीई कीट, मास्क उपलब्ध करवाने, घरों का एक्टिव सर्विलांस, मेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जिम्मेदारी सीएमएचओ को दी गई है।

 

17-08-2020
कोविड-19 संक्रमित पाए जाने पर जैजैपुर के वार्ड क्रमांक 1, ग्राम गलगलाडीह, बरहागुड़ा और खरकेना कंटेनमेंट जोन घोषित

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने भारत सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन  के जारी मार्गदर्शन के परिपालन में नगर पंचायत जैजैपुर के वार्ड क्रमांक 1, जैजैपुर तहसील के ग्राम गलगलाडीह के वार्ड नंबर 3, डभरा तहसील के ग्राम बरहागुड़ा और खरकेना में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित नगर व गांव के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।
अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा।

कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी, सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार की व्यवस्था के लिए पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को दायित्व सौंपा गया है।स्वास्थ्य विभाग के एसओपी अनुसार पीपीई कीट, मास्क उपलब्ध करवाने, घरों का एक्टिव सर्विलांस, मेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जिम्मेदारी सीएमएचओ को दी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में सेनेटाइज के लिए नगर पंचायत जैजैपुर और डभरा के सीएमओ को जिम्मेदारी दी गई है।

13-08-2020
कोविड-19 संक्रमित पाए जाने पर ग्राम सरखों के वार्ड क्रमांक 6, 7 व 8 कंटेनमेंट जोन घोषित,

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने भारत सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन  के जारी मार्गदर्शन के परिपालन मेंं जांजगीर तहसील के ग्राम सरखों के वार्ड क्रमांक6,7 व 8 में कोविड-19 संक्रमित 6 व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित वार्ड के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।कंटेंनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे।

क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के एसओपी अनुसार पीपीई कीट, मास्क उपलब्ध करवाने, घरों का एक्टिव सर्विलांस, मेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जिम्मेदारी सीएमएचओ को दी गयी है। 

 

11-08-2020
ग्राम बसंतपुर के वार्ड क्रमांक-3 और जांजगीर-नैला के वार्ड क्रमांक-14 के चिन्हांकित क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने भारत सरकार के गृह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन के जारी मार्गदर्शन के  परिपालन में जांजगीर तहसील के ग्राम बसंतपुर के वार्ड क्रमांक-3 में एक और नगर पालिका जांजगीर-नैला के ठाकुर बैरिस्टर छेदीलाल वार्ड क्रमांक-14 में एक व्यक्ति कोविड-19 संक्रमित पाए जाने के कारण इस वार्ड के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।कंटेंनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेंनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे।

वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा।कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी, सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कंटेनमेंट क्षेत्र में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार की व्यवस्था हेतु पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को दायित्व सौंपा गया है।स्वास्थ्य विभाग के एसओपी अनुसार पीपीई कीट, मास्क उपलब्ध करवाने, घरों का एक्टिव सर्विलांस, मेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जिम्मेदारी सीएमएचओ को दी गई है। 

 

11-08-2020
स्वतंत्रता दिवस की तैयारियां 13 तारीख तक पूरा करने कहा कलेक्टर गरियाबं छतर सिंह डेहरे ने,समीक्षा बैठक भी ली

रायपुर/गरियाबंद। पुलिस परेड ग्राउंड में स्वतंत्रता दिवस समारोह तैयारी की समीक्षा बैठक ली कलेक्टर छतर सिंह डेहरे ने। जिला अधिकारियों को सौंपे गए समस्त कार्य 13 अगस्त तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आजादी का पर्व गरीमामय ढंग से मनाया जायेगा। वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए समारोह में आगुतंकों का थर्मल स्क्रिनिंग किया जायेगा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान रखते हुए सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि संसदीय सचिव विनोद चन्द्राकर होंगे।
 कलेक्टर डेहरे ने बताया कि कोरोना के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए इस बार समारोह आयेाजन के दौरान विशेष सावधानी बरती जाएगी और भारत सरकार गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के सभी दिशा निर्देशों का पालन किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि पुलिस परेड ग्राउंड में जिला स्तर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यअतिथि ध्वजारोहण करेगें और पुलिस एवं नगर सैनिकों की टुकड़ियों द्वारा सलामी दी जायेगी। मुख्यअतिथि द्वारा मुख्यमंत्री के जनता के नाम संदेश का वाचन किया जायेगा। कार्यक्रम में कोरोना वारियर्स, डॉक्टरों, पुलिस कर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों, स्वच्छता कर्मियों को विशेष रूप से आमंत्रित कर उन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा। जिला मुख्यालय में आयोजित मुख्य समारोह प्रात 9 बजे आरंभ होगा। कलेक्टर छतर सिंह डेहरे ने विगत दिवस भी अधिकारियों की बैठक में जिला मुख्यालय में स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजन के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये थे। इस दौरान गत वर्ष की भांति आयोजन के लिए विभिन्न विभागों को दायित्व सौपें गये। कलेक्टर ने कहा कि समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम, परेड का निरीक्षण एवं अन्य कार्यक्रम नहीं होगें। कोरोना संक्रमण को देखते हुए समारोह के आमंत्रण पत्र सीमित संख्या में वितरित किये जायेगें। कलेक्टर ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर रात्रि में सभी शासकीय और सार्वजनिक भवनों में रोशनी करने के भी निर्देश दिये।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804